मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ

छवि स्रोत,इंडियन बीएफ सेक्सी एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

आज दिसावर: मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ, देसी आंटी की चुदाई कहानी पर आप अपने कमेंट्स और मेल करके मुझे जरूर बताएं.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ सनी लियोन की

दरअसल बात यह थी कि मेरे ससुर की मृत्यु कुछ साल पहले हो गयी थी, जब शालू पढ़ रही थी. एक्स एन एक्स सेक्सी बीएफवो मेरे लंड से हुए दर्द से आगे की तरफ होने लगीं पर मेरी पकड़ भी मजबूत थी इसलिए वो हिल भी नहीं पाईं.

शब्बो- हमने इतना कर दिया कि तुम्हारी बात करा दी … अब चोदना चुदाना तुम दोनों तय कर लो … समझे!उसका इतना बोलना था कि कुच्ची ने फोन ले लिया और उन दोनों की अपनी बातचीत शुरू हो गई. इंडियन बीएफ दिखाइए वीडियोफ़िर मैंने उसकी टांगें ऊपर कर दीं और उसकी चूत के छेद में जीभ डालकर अन्दर बाहर करने लगा, चूतरस का पान करने लगा.

इसी दरमियान मेरे मामाजी का निधन हो गया जो मुझे मेरे माता-पिता से भी ज्यादा प्यार करते थे.मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ: प्राची ने मुझे रोका और खुद ही जाकर बेडरूम से क्रीम लाकर मेरे पूरे लंड पर लगा दी.

रात की चुदाई के बाद अब आराम मिल गया था और मुझमें नयी ऊर्जा आ गयी थी और मैं दीदी को नये जोश के साथ चोद रहा था.पारुल भी जल्दी ही अपनी गांड को नीचे से हिलाने लगी थी, ऐसा लग रहा था कि दोनों एक दूसरे के पार होना चाह रहे थे.

इंडियन बीएफ चुदाई वाली - मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ

मैंने देखा कि नियाज ने अपनी अम्मी को पूरी तरह नंगी कर दिया था और खुद पूरा नंगा होकर अपनी अम्मी की चुदाई कर रहा था.हालांकि आंटी मेरी मम्मी की सहेली थीं और मम्मी उनके घर अक्सर आया जाया करती थीं.

अब मैंने मॉम की साड़ी खींच दी और साथ ही पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया. मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ उसने पता नहीं क्या सोचा कि थोड़ी देर सहला कर उसने सारा माल मेरी नंगी गांड पर गिरा दिया.

बिंदास हूँ, खूबसूरत हूँ और साथ ही साथ बोल्ड और हॉट हॉर्नी गर्ल हूँ।मुझे बुर्का वगैरह बिलकुल पसंद नहीं है मेरी अम्मी जान को भी नहीं!मैं पढ़ी लिखी हूँ और आज की लड़की हूँ। ओपन माइंडेड हूँ ब्रॉडमाइंडेड हूँ और आधुनिक विचारों वाली हूँ.

मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ?

मैंने पीछे से जाकर उसकी लोवर नीचे खींच दी और सीधे उसकी चूत को चूसने लगा. कुछ देर बाद लंड फिर से खड़ा हो गया अबकी बार मैंने आंटी को घोड़ी बनाया और पीछे से लंड अन्दर डाल दिया. फिर 5 मिनट बाद हम दोनों झड़ने लगे और ससुर जी ने अपना माल मेरी चूत में ही गिरा दिया.

ये सब मैंने ऐसे किया था, जिससे सर को लगे कि ये सब इतने दिनों से जो हो रहा था, वो अनजाने में ही हो रहा था. तो उनकी हल्की सी सरसराहट भरी आवाज निकली- आई लव यू साहिल … तुम्हें मेरा कितना ख्याल है. मैंने मन बना लिया है कि आज तुम्हारे घर आकर तुम्हारी गांड जरूर मारूंगा.

मैं दारू के नशे में अपनी चुत में लंड एन्जॉय करने लगी, मेरी टांगें हवा में उठ गई थीं और वो मर्द लौंडा मेरी चुत के चिथड़े उड़ाने लगा था. मैंने उसको सीधा लेटा दिया और उसके ऊपर आकर अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया. जब भी मैं उसे याद करता हूँ … उसके साथ वो बीते पल सोचता हूँ, तो जैसे सब सपना सा लगता है.

फिर रात के सात बजे हम सब अलग हो गए और उस जगह पर पहुंच जाने की तैयारी करने लगे … जहां आज मेरी बर्थ-डे की पार्टी थी. आप मेरे साथ इस सेक्स कहानी से जुड़े रहें …इस फ्रेंड वाइफ चीट स्टोरी के अगले भाग में बहुत मजा आने वाला है.

मेरी चुदाई से परेशान सासु जी ने अपने बेटे यानि मेरे पति से अपनी चुदाई करवाई और जैसे मैंने सासु जी को अपनी चुदाई दिखाई, उन्होंने भी मुझे अपनी दिखाई.

उसकी इस बात से मैं तो एकदम से खुश हो गया कि एक और चूत चोदने को मिलेगी.

मैंने फिर से लंड का सुपारा चुत पर लगाया तो इस बार लवी ने मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चुत की दरार में लगा दिया और पकड़ के रखा. सेक्सी लेडी Xxx कहानी मेरी चूत और गांड की चुदाई की खुले में लगे एक टेंट में. मैंने श्रुति के ऊपर चढ़ कर अपना लंड उसकी चूत पर रखा और जोर से धक्का लगाया.

शुरूआती दर्द के बाद मुझे चुदने में इतना मजा आया था कि मैं बता ही नहीं सकती हूँ. बाद में उसने मेरे लंड को आगे पीछे करके अच्छी तरह से धोकर साफ कर दिया. भाभी- कभी किसी के साथ किया है?मैं- नहीं भाभी जी … लेकिन कोशिश कर रहा हूं.

ऊपर की ओर दीदी मेरे लंड को मुंह में लेकर चूस रही थी और नीचे मैं उसकी चूत को अपने हाथ से सहला रहा था.

उसने मुझे अपने सामने घुटनों के बल बैठाया और मुझे इशारे से अपना लंड चूसने को कहने लगा. कुछ पल बाद ही मेरे दिमाग में आया कि क्यों न पेशाब के बहाने अपना लंड अपनी मम्मी को दिखा दूँ. रवि ने मुझे एक मेज पर लिटाया और ब्रा के ऊपर से ही मम्मों को मुँह में लेकर चूसने लगा.

फिर मॉम मुझे किस करने लगीं और मेरे लौड़े को सहलाने लगीं जिससे लौड़ा थोड़ी ही देर में खड़ा हो गया और चूत फाड़ने के लिए तैयार हो गया. मैं- तो दी, मेरा गिफ्ट मुझे मिलेगा?जिया दीदी- तुझे क्या बोलूं … कुछ समझ नहीं आ रहा. उन्होंने इस तरह का धक्का मारकर अपना आधा लंड मेरी गांड में घुसा दिया.

कुछ ही मिनट में मैं उसकी चैन को छू सकता था, तभी एक ब्रेक का झटका आया और मेरा हाथ उसके लंड से स्पर्श हुआ.

मैं उससे बात करने लगा लेकिन वो बहुत गुस्सा थी क्योंकि मैंने दिन भर में उससे एक बार भी बात नहीं की थी. फूफा जी ने मेरी जांघ पर अपना हाथ रख देते और इसी बहाने अपने हाथों की कोहनी से मेरे मम्मों को दबा देते.

मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ सोहल ने कहा- क्या हुआ … सेक्स नहीं करेगा क्या? ओके मेरी जान पहले इसी का डर दूर करते हैं. मैं- अच्छा और ये सब मन में कबसे चल रहा था?रवि- जब से तुम ऑफिस में आई.

मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ वो चहकती हुई बोली कि मेरे हस्बैंड तो नहीं होंगे ना … मेरे घर आ जाना. उन्होंने कहा- मैं तो तुमको अच्छा लड़का समझती थी, पर तुमने तो मेरा विश्वास ही तोड़ दिया.

मेरा भाई शिवम बोला- जब तक मां की चूत नहीं मिलती, तब तक आप भैया को रोकना होगा!हम योजना बनाने में लगे हुए थे कि कैसे अनिकेत भैया से सौदा पूरा कैसे करवाया जाए.

अंग्रेजो का सेक्स

तभी मैं थोड़ा उठी और स्कर्ट ऊपर करके अंकल की गोद में बैठने लगी, जिससे अंकल का लंड पूरी तरह मेरी चुत में समा जाए. पर इस बार मेरा कुछ और ही प्लान था, मैंने उनकी दोनों टांगों को उठाया जिससे उनकी साड़ी फिसल कर पेट पर पहुंच गयी और टांगें पूरी नंगी हो गयी. [emailprotected]पोर्न भाबी सेक्स कहानी का अगला भाग:दोस्त की कुंवारी बीवी को सेक्स का मजा दिया- 2.

अब मैं उसकी चूचियों के निप्पलों को बारी बारी से अपने मुँह में लेकर चूस रहा था. वे उछल उछल कर लौड़े को अन्दर ले रही थीं जिससे उनके दोनों बूब्स ऊपर नीचे हो रहे थे. मैंने पूछा- आप बबीता जी?तो उसने बोला- हां, क्यों पसंद नहीं आई क्या?मैंने बोला- नहीं ऐसी कोई बात नहीं … आप वही हो, बस ये ही कन्फर्म कर रहा था.

मुझे ये सीन देख कर बड़ी उत्तेजना हो रही थी और मैं अपने लंड को सहलाने लगा था.

भाभी बोलीं- अब बस भी कर यार … अपना डाल भी दे … मुझको कितना तड़फा रहे हो … अब जल्दी से डाल भी दो. कभी कभी मेरा मन कर रहा था कि सारी बातें अम्मी से बोल दूँ, लेकिन मैं ये सोच कर नहीं बोल पा रहा था कि ऐसी बाते अम्मी से नहीं बोलना चाहिए. अब तो मेरी गांड खुल गयी थी और मेरे पति का तगड़ा लंड मेरी गांड में अन्दर तक जाकर चोद रहा था.

इतने में शिवम अनिकेत भैया से बोला- आप अपने वादों पर मुकर रहे हैं, 2 महीने से ज्यादा हो गया!लूसी बोली- 2 महीने 8 दिन हो गए हैं. जब धीरे धीरे प्राची का दर्द कम हुआ तो उसने खुद ही अपनी गांड को आगे पीछे करना शुरू कर दिया. सासु जी का मुंह रोने जैसा हो रहा था और उनके मुँह से ससुर जी का गाढ़ा माल टपक रहा था.

आंटी ने उस दिन घुटनों तक आने वाली एक स्लीवलैस नाईटी पहन रखी थी और वो अभी सीधे नहा कर आई थीं. बात उस समय की है, जब मेरी जॉब लगी ही थी और मैं गुरुग्राम में आ गया था.

मैं अभी सोच ही रहा था कि उधर से कुछ गिरने की आवाज आई और साथ ही भाभी की आवाज भी आई. मैं उसकी गर्दन पर होंठों से चूसते हुए लंड को उसकी चूत में धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा. इस तरह से हम काफी देर तक एक दूसरे को चूसते रहे।फिर मैं उठकर उनकी टांगों के बीच में आ गया और उनके दूध पीने लगा.

अब जब भी मैं अपनी अम्मी देखता था तो मेरे अन्दर अजीब सी हलचल होने लगती थी.

ये मुझे बहुत प्यार करती है और मेरा ख्याल रखती है। बस कुछ चीजें इससे चूक जाती हैं वो तुम पूरा करती हो।मुग्धा को देखते हुए मैंने कहा- ठीक यही बात तुम पर भी है. मैं उठने लगा तो उन्होंने मुझे जोर से किस किया और हम दोनों उठ कर कपड़े सही करने लगे. मैं डांस करते हुए उसे किस करने की कोशिश करने लगा तो वो आंख दबा कर बोली- क्या बात है … लेने की बहुत जल्दी है.

’कोमल- यार लेकिन मेरे लिए किसी दूसरे मर्द को अपने बदन को ऐसे सौंप देना आसान नहीं होगा. मैंने उस समय अपना पूरा स्कर्ट पीछे से ऊपर कर दिया था क्योंकि मुझे मालूम था कि ड्राइवर अंकल भी तुरंत सामान निकलवाने आएंगे.

सर लेट गए थे तो उनका करीब आठ इंच लंबा और तीन इंच मोटा लंड सीमा की जान सुखाने लगा था. कुछ देर किस करने के बाद मैंने मिरर में देखा तो उसने जो लाइट पिंक कलर की लिपस्टिक लगाई थी वो उसके होंठों से मेरे होंठों पर आ गई थी. मैंने पूछा- ये क्या हो गया है भाभी?वो बोलीं- मैं बहुत देर से गर्म थी, तुम्हारा टच मिलते ही मेरी पिक्की ने पानी छोड़ दिया.

अरबी मेहंदी दाखवा

शब्बो की बात का न उसने जवाब दिया न मैंने … और चुम्बन की वजह से न ही हम कुछ जवाब देने के मूड में थे.

मैंने रुकने को बोला, तो वो सड़क के एक किनारे झाड़ियों की आड़ में खड़ी हो गई. नीचे उसके परफेक्ट गोल 34 के साइज के बूब्स लाल रंग की पैडेड ब्रा में मुझे दिख रहे थे जिन्हें देख कर जैसे मैं पागल हुए जा रहा था. अब आगे किचन सेक्स ऐस फक कहानी:मैं प्राची के पीछे बाथरूम की तरफ ही जा रहा था कि तभी मेरे फोन की घंटी बजी.

क्लास के सारे लड़के और कोई कोई टीचर भी भी मुझे चोदने की फिराक में रहने लगे थे. आह आह आह करते हुए मैं गांड में हो रही गुदगुदी के मस्त मज़े ले रहा था. ससुर बहू की चुदाई वाली बीएफजैसे ही पर्दा हटा, मैं हड़बड़ा गई और अचानक मेरा फोन मेरे हाथ से नीचे गिर गया.

ये फूफा जी ने जानबूझकर सिलेक्ट की थी, जहां पर लोग आते जाते नहीं थे. हनी अभी भी अन्दर से बहुत डर रहा था कि वो एक अजनबी अफगानी लड़के के साथ ये क्या कर रहा है.

दीदी की नाइटी उनके चेहरे पर पड़ी हुई थी और वो अपनी चूत में दो उंगलियां डालकर अंदर बाहर कर रही थी. मैं उससे कॉलेज में जब भी मिलता था, मेरे मन में लड्डू फूटने लगते थे. मैंने उनके बाल पकड़ कर थोड़ा पीछे लेकर एक झटके में पूरा लंड उनकी चूत में डाल दिया और धक्के मारता रहा.

मोटी लड़की की चुदाई की मैंने बारिश में! वो मकान मालिक की बेटी थी। एक दिन वो बारिश में नहा रही थी तो मैं भी नहाने लगा. तभी मैंने एक तरफ देखा तो पाया कि एक लड़का डिजिटल कैमरा से वीडियो रिकार्डिंग कर रहा है. मैंने उससे कहा- जब चुत और लंड का रिश्ता सिर्फ चुदाई का होता है, तो तू क्यों मुझे बहन समझ रहा है.

एक हाथ में चाय का कप पकड़े मैं दूसरे हाथ से सीमा का मुंह मेरी चूत में दबाने लगी.

उसने नायलॉन का टाइट लोअर और टी-शर्ट डाली हुई थी जिसमें से उसके 34 के बूब्स और 36 की गांड साफ दिख रही थी. कुछ गंदे लोग पूछ रहे थे कि सेक्स कहानी क्यों नहीं लिख रही हो, तो उनके लिए बता दूँ कि वो लोग मुझे गंदे मेल भेज रहे थे.

मैं नहीं झड़ा था तो उसने मेरे लंड का पानी निकाल कर मुँह में ले लिया. मैं हमेशा से अपनी बहन को गंदी नज़रों से देखता आ रहा हूँ, वो है ही इतनी कमसिन कली कि किसी का भी लंड खड़ा कर दे. कोई 30-40 धक्कों के बाद प्राची ने मुझसे पोजीशन चेंज करने के लिए बोला.

कमरे में शांति फैल गई थी, अब बस कुच्ची और शब्बो की हल्की हंसी सुनाई दे रही थी. हनी को अपनी गांड पर सोहल की उंगलियों का चलना बेहद रोमांचक लग रहा था इसलिए उसने सोहल से कुछ नहीं कहा. कॉलेज में आते ही मैंने थोड़े नए कपड़े भी ले लिए जिसमें ज़्यादातर स्कर्ट ही लिए थे.

मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ वो जोरों से मेरा लंड अपनी चूत में ले रही थी और हर झटके पर उसके लटकते चुच्चे मेरे सीने पर रगड़ रहे थे. अम्मी के मम्मों के बारे में क्या कहूँ, एकदम उभरी हुई टाइट चूचियां हैं.

ಸೆಕ್ಸ್ ವಿಡಿಯೋ ಸೆಕ್ಸ್

भाभी की टांगों को फैला कर मैं उनकी चूत को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. कुछ देर बाद भाभी को राहत मिलनी शुरू हो गई और उन्होंने लंड का मजा लेना शुरू कर दिया. एक दो पल बाद मुझे सांस आई तो मैंने अपनी भुजाओं से बल से अपना भार चाची के ऊपर से हटा लिया.

हम दोनों ने जल्दी से छत पर बिस्तर बिछाए और यश को नीचे से उठा कर ऊपर छत पर लाकर सुलाया. हालांकि ऐसा मैंने पहले भी महसूस किया था … लेकिन इतनी अच्छी तरह से नहीं किया था. बीएफ बीएफ हिंदी मे बीएफसेक्सी मौसी की चुदाई हिंदी कहानी में पढ़ें कि मैं एक महीना अपनी मौसी के घर रहा तो मैंने रात में मौसी मौसा की चुदाई देखी.

उसने जैसे ही मेरा अंडरवियर निकाला, तो मेरा 7 इंच का लौड़ा उसके सामने आ गया.

उसकी इस बात से मैं तो एकदम से खुश हो गया कि एक और चूत चोदने को मिलेगी. उन्होंने मुझसे कहा- केतन, मैं कब से तुमसे मिलना चाहती थी लेकिन कुछ बात नहीं कर पा रही थी.

करीब 5 मिनट बाद मैं भी उसकी चुत में झड़ गया और उसके ऊपर ही लेट गया. जिया दीदी की ब्रा की साईज 34B है और जिया दीदी बिकनी में एकदम गजब लगती हैं. मोनू- देखो कोमल, मैं आपको पसंद करता हूँ और फिर ये सब मेरी पत्नी भी तो आपके पति के साथ कर ही रही होगी न.

प्रकाश की भी फिर से चोदने की इच्छा थी, पर उसका लंड पूरा खड़ा नहीं हो रहा था.

मैं भी उठकर उसकी ऊपर चढ़ गया और उसकी पीठ के नीचे हाथ डालकर उसकी ब्रा निकाल दी. फिर उसने मेरे कान में सेक्स के लिए बोला तो मैंने उससे बोला- दर्द होगा … सह लोगे?क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि मेरे प्यार को किसी तरह की कोई तकलीफ़ हो. मैंने भाभी को खड़ा किया और उनकी एक टांग सोफे पर रख दी, दूसरी जमीन पर थी.

ब्लू फिल्म ब्लू फिल्म बीएफ फिल्ममुझे पता था विलियम मेरे होठों को अपने होठों में लेने की देर नहीं करेगा. मैंने उसकी दोनों आइब्रो को दबाया, कानों को सहलाया, उसके बालों में हाथ फेर कर उसकी चम्पी की.

च अक्षर से लड़कियों के नाम 2022

अब मुझसे भी रहा नहीं जा रहा था, मैं भी फूफा जी की जांघ पर अपना हाथ रख देती. मैंने भी भाभी को अपनी बांहों में भींचते हुए कहा- मैं इस पल का पांच साल से ज्यादा इंतजार किया है. रवि ने सर को फ़ोन करके पता किया तो मालूम हुआ कि बारिश रुकने पर ही सब लोग आ पाएंगे.

कुछ देर के बाद तो वो हाथ में हाथ डालकर घूमने लगा, दोनों फोटो लेने लगे. उन स्टोर्स में कुछ कुछ सामान रखा हुआ था, मगर चुदाई के लिए काफी जगह थी. चाची बोलीं- ये सब कब से देख रहा है तू!मैंने कहा- चाची मैं कभी कभी देख लेता हूं … सॉरी मैं इनको डिलीट करना भूल गया.

थोड़ी देर मुँह चोदने के बाद मेरा छूटने वाला था तो मैंने प्राची के सिर को पीछे से पकड़ कर जोर जोर से चोदना शुरू कर दिया. फच फच की आवाज के साथ लंड को चूत में आने जाने में सुगमता होने लगी थी. इस बीच भाभी मुझसे काफी खुल कर बातें करने लगी थीं और मेरे सामने ही अपने कपड़े उतार कर एक तौलिया लपेट कर बाथरूम में चली जातीं.

उनके होंठों को चूसने में बहुत मजा आ रहा था क्योंकि वो भी अपने होंठों से मेरे होंठ चूस रही थीं. मुझे यकीन नहीं हुआ तो मैंने पूछा कि तुम इतनी ब्यूटीफुल हो तो किसी ने अब तक तुम्हें प्रपोज़ क्यों नहीं किया?इस पर उसने बोला कि उसके डैड से लोग डरते हैं.

मैं उनके चूचे चूस रहा था और उनके चूतड़ों पर जोर-जोर से चमाट मार रहा था.

मैंने उससे पूछा- तुमको मेरा नम्बर किधर से मिला?उसने कहा- बस मिल गया … तुम्हें दिक्कत हुई हो, तो मैं आगे से नहीं करूंगी. बीएफ चुदाई देखनाउर्जित ने मेरा बैग कार से निकाला और बस में ड्राइवर सीट के पीछे रख दिया. सनी लियोन की एक्स एक्स वीडियो बीएफजिया दीदी हमेशा मेरे बर्थ-डे सेलिब्रेशन पर होती हैं और वो मेरे लिए गिफ्ट भी लेकर आई थीं. कॉलेज में एक से एक हॉट लड़कियां आतीं, जिन्हें देख कर अक्सर मैं मुठ मारा करता था.

मैंने एक झटके में भाभी की पैंटी फाड़ दी और उन्हें पूरी नंगी कर दिया.

हार्दिक शनाया की चूत चाट रहा था और मैंने अपना लंड शनाया के मुँह में दे रखा था. मैंने उससे पूछा- तुमको मेरा नम्बर किधर से मिला?उसने कहा- बस मिल गया … तुम्हें दिक्कत हुई हो, तो मैं आगे से नहीं करूंगी. मैं जब भी कॉल करती, वो ‘अभी थोड़ा बिजी हूँ, शाम को करता हूँ बात!’ऐसा बोल कर फ़ोन रख देता.

हसित ने मेज़ की दराज़ से कामसूत्र का एक्स्ट्रा डॉटेड कंडोम निकाला और रीना को पकड़ा दिया. तब हसित बोला- रीना, मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ मगर क्या करूँ तुम मेरे सबसे प्यारे दोस्त की पत्नी हो. एकदम से लंड घुसा तो उसकी तेज चीख निकल गई- आंह मर गई अम्मी … फट गई मेरी.

1 फिल्म सेक्सी

ये देख कर भाभी बोलीं- तेरे लिए पैग बनाऊं?मैंने हां में सर हिला- हां भाभी, गला सूख रहा है. उसका थोड़ी देर में रिप्लाई आया- बताईए, इतनी रात को मैसेज?मैं- नींद नहीं आ रही मुझे. इसके बाद क्या हुआ? वो अगले भाग में!मेरी हॉट सिस्टर की सेक्स कहानी पर कमेंट्स में अपनी राय देना न भूलें.

प्राची को भी गांड मरवाने में मजा आने लगा था, उसके मुँह से भी मादक सिसकारियां निकल रही थीं.

सोनाली ने जोर जोर से सिसकारियां लेती हुई अपने दोनों हाथों से मुझे कसने लगी.

कुछ समय बाद उसने राहत महसूस की और मुझे और अपनी बहन को देखकर मुस्कुरा उठी. मुझे और जोश आ गया और मैंने अपना लंड सुपारे तक बाहर निकाला और जोर से अन्दर पेल दिया. बीएफ हिंदी हिंदी फिल्मघर में मैं कभी भी मौका पाते ही दीदी के मम्मे दबा देता हूँ और कभी भी गांड पर हाथ भी घुमा देता हूँ.

मेरा पढ़ाई में भी मन लगने लगा था और जब कम्पटीशन दिया तो मेरा रिज़ल्ट भी अच्छा आया. मुझे हंसी आ गई और मैंने कहा- साली,मैं भैनचोदबना हूँ … मादरचोद बना रही है, तो सोच ले!वो हंसने लगी और प्यार से चुदाई करने की कहने लगी. मेरा सुपारा गीला और चिकना होते ही मैंने एक धक्के में ही चूत में लंड डाल दिया.

मुझे सेक्स करते टाइम चमाट मारना, गाली देना, नौंचना बहुत अच्छा लगता है. मैंने कहा- ठीक है, अगर तू रीना को पटा सकता है … तो मुझे कोई ऐतराज नहीं है.

मगर शारीरिक सुख से वंचित सासू माँ ने कुछ समय बाद अपने जवान होते बेटे को सहारा बना लिया।ये बातें सुनकर मैं भी सकते में था.

जिया दीदी- मैंने सोचा नहीं था कि 18 साल के होते ही तुम में इतनी हिम्मत आ जाएगी. वीरू ने फिर से अपना लौड़ा सुपारे तक बाहर निकाला और उसी ताकत से उसने और एक वार शब्बो के भोसड़े के अंदर किया।इस बार उसने बिना रुके 5-6 वार किये।शब्बो तड़प रही थी।वो अपने आप को छुड़वाने की कोशिश कर रही थी मगर उस जवान छोकरे ने उसकी माँ चोद कर रख दी. मैंने उससे पूछा- तो क्या ख्याल है किधर मिलना चाहोगी?वो बोली- मैं अपने घर में ही तुमसे मिलना चाहती हूँ.

सेक्सी बीएफ दिखाएं हिंदी में वह लेट गया और मुझे उसने अपने ऊपर चढ़ा दिया और बोला- चल लंड पर बैठ जा!मैं चढ़ गया और उसने अपना लंड मेरी गांड पर लगाकर ज़ोरदार धक्के के साथ अपना समूचा लवड़ा मेरी गांड में घुसा दिया. मैं उसके होंठों को कभी कभी अपने दांतों से दबा कर मसल देता, तो वो हल्की सी आह करके और गर्म हो जाती.

मेरी पड़ोसन भाभी मेरे पास आईं और मुझसे बोलीं- कैसा रहा मेरी जान?मैंने उनसे कहा- थैंक्यू … यह सब बस आपकी वजह से ही हो पाया है. मैंने दीदी की बात का कोई जवाब नहीं दिया और उसकी चूचियों से अपनी छाती को सटाये हुए लेटा रहा. बहुत इंतज़ार करवाया तुमने!मेरी बात सुन कर कुच्ची मेरी पीठ थपथपा कर हंसने लगा.

सेक्सी वीडियो प्ले सेक्सी वीडियो

यहां प्राची की आंखों से आंसू निकल रहे थे … और वहां मेरा वीर्य गले से होता हुआ उसके पेट में जा रहा था. दोस्तो, मेरी एक सेक्सी फेंटेसी है कि मुझे गैरसुरक्षित जगहों पर चुदाई करवाना पसंद है. दबा दे … शायद कुछ आराम मिल जाए! लेकिन पहले तू खाना खा ले, स्कूल से आया है, थक गया होगा।”मैं बोला- नहीं मां, पहले दबा दूँ, फिर खाऊंगा।मौसी मां ने कहा- खा ले बेटा … रात का कुछ भरोसा नहीं … तेरी दीदी कब बना के देंगी.

वो नीचे आ गई तो मैंने उसे अपने साथ लिटा कर अपनी बांहों में भर लिया. मुझे चूमते हुए रवि ने एक हाथ से मेरी कमर पकड़ रखी थी तो दूसरे हाथ से वो मेरे चूतड़ों को दबाने मसलने लगा.

जब मैंने चलते हुए पीछे मुड़ कर देखा, तो वो मुझे देख कर हंसने लगे और कहने लगे कि अभी से ही लड़खड़ाने लगी जानेमन … अभी तो एक और राउंड बाकी है.

तभी उसके मुँह से गर्म आवाजें निकलने लगीं और वो लंड पेलने की कहने लगी. मेरे आते ही सूरज ने पूछा- माल कैसा लगा?मैंने मुस्कुरा कर कहा- मस्त था. अगल बगल देख कर मैंने उसके कमरे में जाने की कोशिश की ताकि किसी को पता ना चले और उसकी बदनामी ना हो.

दोपहर के दो बजे ज्योति का भी फोन आया- शाम को कितने बजे आओगे?मैंने कहा- आने पर गिफ्ट क्या मिलेगा?उसने कहा- जो चाहो. उसके किसी मॉल में मैनेजर हैं, वो सुबह निकल जाते हैं और 10 बजे रात तक वापस आते हैं. उसने मेरा अंडरवियर निकाला तो मेरा लंड उसे देख कर फुंफकार मार रहा था.

अब उसने अपने दोनों हाथ मेरे सीने पर रख दिए और अपनी कमर की स्पीड बढ़ा दी थी.

मां बेटे एक्स एक्स एक्स बीएफ: पति लंड गांड में ही रखवाए हुए मैंने बेड से नीचे उतरकर जमीन पर पैर रख दिए और अपना शरीर बेड पर रख दिया. फूफाजी कार चलाने के लिए बैठ गए और मैं, बुआ और फूफा के बीच में गेयर के दोनों ओर टांगें डाल पर बैठ गई.

सरिता ने मेरे हाथ पर अपना कोमल हाथ रखकर कहा- हर्षद, तुम बहुत हैंडसम हो. मगर उसे कैसे सुंदर बना सकते हो?मैंने भाभी के एक मम्मे को दबाते हुए कहा- नारी की सुन्दरता उसकी इस भाग के फूलने से बनती है. ये सुनते ही मैंने भी हंस दिया और भाभी की छोटी बहन से वादा कर दिया कि तुमको भी मां बना दूंगा.

चूँकि मैं एक किसान परिवार से हूँ इसलिए घर चलाने के लिए खेती ही एक सहारा थी.

मैं ए टक उनकी चूचियों को ही देखे जा रहा था क्योंकि दिन में मुझे यह अवसर मिलने से रहा।अचानक मेरा ध्यान नीचे की ओर गया तो देखता ही रह गया. श्रुति वैसे तो मुझसे ज्यादा कुछ बोलती नहीं थी पर अब वो थोड़ा स्माइल के साथ मुझे देख रही थी. मेरा लंड सरिता ने अपनी जांघों में जकड़ कर रखा था और अपनी चुत पर दबाव बनाए हुई थी.