हिंदी चालू बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ कॉलेज में

तस्वीर का शीर्षक ,

भोजपुरी बिहारी बीएफ: हिंदी चालू बीएफ, मेरी सेक्स कहानी में अब तक आपने पढ़ा था कि एकदम से स्कूटी के ब्रेक लगाते ही शायरा मेरी पीठ के ऊपर लग गई, जिससे उसके मम्मे मुझे मस्ती दे गए.

सेक्सी वीडियो बीएफ गाने वाली

अब आगे की स्कूल सेक्स की हिंदी कहानी:मैंने अभिषेक का हाथ की-बोर्ड पर रख दिया. मद्रासी इंग्लिश बीएफवो लड़की बेहद सुन्दर तो थी ही, मगर उसमें सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाली थी उसकी लम्बाई, जिसने कि मुझे बहुत ज्यादा प्रभावित किया था.

दोस्तों मुझे मेल करके जरूर बताना कि मेरी ये गे सेक्स कहानी कैसी लगी. बीएफ फिल्म वीडियो खोजेंतभी वो लड़का बाहर जाने लगा और बोला- मैं यहीं सामने वाले स्टोर रूम में हूँ.

इंस्टाग्राम पर मैं ब्यूटी प्रॉडक्ट्स का प्रचार प्रसार करने वाली एक प्रभावकारी महिला हूं जिसको इस काम के लिए मोटी रकम मिलती है.हिंदी चालू बीएफ: पिंकी फटाफट नहाई और एक झीना सा नाईट सूट डाला और ऊपर से गाउन डाल लिया.

ये कह कर प्रियंका अनामिका का सर पकड़ कर अपनी चूत में दबाने लगी और वासना में बड़बड़ाने लगी- आअह्ह्ह जीजू … आपका लंड याद आ रहा है … आह कैसे मेरी चूत का भोसड़ा बनाया था आपके लंड ने … उफ़ आपके वो दमदार झटके … वो दमदार रफ़्तार … धक् धक् ढिचाक … धक् धक् ढिचाक … दो धीमे धक्के … और एक तगड़ा झटका आपका लंड सीधे मेरी बच्चेदानी से टकराता है जीजू … आह आपने मुझे दो बार जन्नत की सैर कराई है.दर्द के कारण मेरे आंखों में आंसू आ गए थे, लेकिन उस मीठे अहसास के कारण मैं यह दर्द भी बर्दाश्त कर रही थी.

किचन वाला बीएफ - हिंदी चालू बीएफ

अगले दिन मैं भी अपने हॉस्टल आ गया।शाम को मीनू का फ़ोन आया, उसने फिर से सॉरी बोला।मैंने बोला- कोई बात नहीं, वो सब बिल्कुल नॉर्मल था.पहली बार मुझे ये आभास हुआ कि आखिर क्यों मर्द हमारी स्तनों से खेलना और उन्हें चूसना पसन्द करते हैं.

आज मैं आपको अपनी जिंदगी में घटी एक असली घटना को सेक्स कहानी के रूप में लिख कर बताने जा रही हूं. हिंदी चालू बीएफ जब अविना को दर्द होना कम हुआ, तो मैं फिर से धीरे धीरे लंड नई चुत में पेलने लगा.

यह सेक्स कहानी एक ऐसी लड़की की है, जिसका नाम नंदिनी है और वो एक कॉलेज में पढ़ती है.

हिंदी चालू बीएफ?

मैं- जाने दो बेचारे को, लगता है ये भी तुमसे प्यार करता है … इसलिए कब से तुम्हारे आगे पीछे घूम‌ रहा है. मैं भी किसी कुत्ते की तरह उनकी बुर का पूरा पानी चाट गया और चुत को चाट कर साफ कर दिया. उसके आने के बाद मैंने भी बाथरूम में जाकर कपड़े उतारे और लंड धोकर एक बाथरोब पहन लिया.

शायरा ने भी फिर से अपनी आंखें बन्द कर लीं और इस कभी ना भूल पाने वाले मिलन में कहीं खो सी‌ गयी. एक जोरदार धक्के के साथ अजय ने सारा माल मनीषा की चूत में डाल दिया और निढाल होकर उसके ऊपर ही पड़ गया. मैं जानता था कि चाची चुदना चाह रही है लेकिन वो खुद से पहल कभी नहीं करेगी.

अब वो तीनों मेरी मां को सनी के घर की छत पर चोदने के ले आए और तीनों एक साथ लग गए. अब रोनित निशि की गांड मार रहा था और जैक उसके मुँह को चोदने में व्यस्त था. कुकोल्ड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक जवान कपल ने मुझसे सम्पर्क किया अपने सेक्स जीवन में कुछ नया करने के लिए! हम एक होटल में मिले और …हैलो अन्तर्वासना रीडर्स, कैसे हैं आप सब!अपनी कुकोल्ड सेक्स स्टोरी के साथ मैं आप सबका दोस्त राज एक बार फिर से हाजिर हूँ.

वे एक बांह से मेरी कमर के चारों तरफ घेरा डाल कर जकड़ लेते और दूसरे हाथ से लंड पकड़ कर गांड पर टिका देते. पर रात को हम लोग खाना खाकर वापस आ गए।जबकि मम्मी और पापा वहीं शादी में रुक गए थे।घर पहुँच कर हमने कपड़ बदल लिए।चाचा जी ने लुंगी और बनियान पहनी और बाहर आँगन में चारपाई पे सोने की तैयारी करने लगे।उनके शरीर पर काफी बाल थे.

इसके बाद दिन में उसने अनिल से कहा- अगले हफ्ते मैं और तुम किसी होटल में मिलेंगे.

मैं अपनी बहन को उसके किये के लिए सामने लाने के बारे में सोच ही रहा था कि उसी दिन बहन ने यह बात बताई कि वह अब चाचा के साथ ही रहेगी.

मानवेन्द्र ने वेलकम ड्रिंक्स के बाद हमें बताया कि वो मिस्टर धीमान का मैनेजर है, जो उनकी फैमिली की ही तरह है. पर मैं तब नहीं जानता था।मैंने चाचा जी से पूछा- चाचा जी, यह कैसी अंडरवियर है आपकी?चाचा जी हंस दिए, बोले- यह रियल इंडियन अंडरवियर है. उसने अपने हाथ से ही अजय का लंड अपनी सेक्सी चूत में किया और लगी चुदाई करने.

फ्रेंड्स, मैं संजीव एक बार फिर से अपनी पड़ोसन शशिकला भाभी की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ. नीचे देखा तो प्रमिला, एकता के साथ वाला और अन्नू, डॉली के साथ वाला लड़का अपना पानी छोड़ चुके थे. इसके बदले डॉक्टर एक रात में कुछ देर के लिए तुम्हें भी पाना चाहता है.

मैंने उनके ब्लाउज के हुक खोलने शुरू कर दिए और ब्लाउज निकाल कर फेंक दिया.

अभिषेक ने मुझे ठंड से कांपते हुए देखा, तो उसने मुझे पीछे वाली सीट पर बुला लिया और मुझे अपनी गोद में बिठा कर करके जकड़ लिया. साथ ही मैं अपनी दो उंगलियां चुत में अन्दर बाहर करने लगा और जीभ भी अन्दर डाल कर चूसने लगा. अगर आप भी इसी तरह की कोई रियल लाइफ घटना मेरे साथ शेयर करना चाहते हैं या अपना बीडीएसएम एक्सपीरियंस बताना चाहते हैं तो आपका स्वागत है.

इसी तरह नाचते हुए किसी ने मेरे होंठों को चूमने की शर्त रखी, फिर किसी ने मेरे चूचों को पीने की बात कही. तुम एक बात बताओ, तुम भी इतनों के लंड से चुदी हो तुम्हें अभी तक सबसे अच्छा लंड किसका लगा!तभी मैं बोली- जिसका लगा, मैं उसके साथ ही रहती हूं. वैसे भी मैंने उसके सभी अंगों को चूस चाटकर उसे पूरी तरह से चुदासी कर दिया था.

पहले उसने दिखावे के लिए कुछ विरोध किया … लेकिन बाद में वो भी साथ देने लगी.

एक दिन साइंस की क्लास चल रही थी तो मैं अपनी एक सखी के साथ पीछे बैठी हुई लिख रही थी. कभी वो मेरे होंठों को, तो कभी मेरे मम्मों पर थूकता और उन्हें चूसकर काट भी लेता.

हिंदी चालू बीएफ मैं झुक कर उसके स्तनों को चूमते चूसते दबाते हुए हल्के हल्के से अपनी कमर आगे पीछे करती हुई सम्भोग करने लगी. हालांकि शुरुआत में मुझे वो थोड़ी सी फेक भी लगी, तो मैंने उससे उनकी फोटो मांगी.

हिंदी चालू बीएफ रोहन! हम दोनों यहां पर कल तक रहने वाले हैं, तो क्यों न तुम मेरे साथ मेरे कमरे में कुछ देर के लिए मुझे ज्वाइन कर लो? हम दोनों बातें करेंगे और टाइम पास हो जायेगा. लड़के की गांड मारने की बात सुनकर मुझे कुछ हंसी सी आई कि ये जैल इधर मिलने का क्या मतलब हो सकता है.

जब से एकता ने तुम्हारे आने का कहा था तब से सोच रही थी कि जी भरकर चुदूंगी.

एक्स व्हिडीओ न्यू

फोन पर बात कर सकती हो क्या?मैंने तुरंत अपने रूम में जाकर उसको कॉल किया और पूछा- हां, बोलो?उसने कहा- ये क्या लिखा था तुमने पर्ची में?मैं बोली- तुम्हें समझ नहीं आया क्या?वो बोला- हां, यही तो लिखा है कि रात में दरवाजा खुला रखना. भाभी के घर के बगल में एक उन्हीं का एक टूटा हुआ टपरा टाइप का कमरा था, जिसमें फ़ालतू सामान रखा रहता था. अंकल उसकी गांड में दो उंगलियों से चोद रहे थे और वो पूरे जोश में उनके लंड पर सिर ऊपर नीचे करते हुए उनके लंड को चूस रही थी.

अनिल ने पहले से ही मिस्टर एंड मिसेज अनिल के नाम से होटल में बुकिंग कर ली थी, तो दोनों को रूम मिलने में तकलीफ नहीं हुई. मुझे तो अब खुद पर गुस्सा आ रहा था कि कल रात मुझे उसी दुकान पर जाना था क्या … और गया भी, तो ऐसी वैसी बातें क्यों की. अपनी पैन्टी के अन्दर के बाल साफ करती हो या नहीं?”नहीं सर!”कभी नहीं किये हैं?”ना … कभी नहीं सर!”बहुत अच्छा.

फिर मैंने उसकी चूत में पूरी जीभ घुसा दी और घुसाये हुए ही अंदर ही अंदर घुमाने की कोशिश करने लगा.

हिंदी ग्रुप सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं चुदाई के लिए नए लंड की तलाश में शिमला गयी. वो- जैसा कमीना तू है ना, वैसे ही तेरे सारे दोस्त होंगे … और लगता तू मुझे भी वैसा ही बना कर छोड़ेगा. उसके चेहरे की शर्म से साफ़ पता चल रहा था कि वो मुझसे चुदना तो चाह रही थी लेकिन खुल नहीं पा रही थी.

जब मुझे लगा कि उसकी चूत में आग भड़क चुकी है तो मैंने अपनी उंगली चूत से हटा ली और उसकी गर्दन को चूमने लगा. मैं इन्तजार कर रहा था मीना चाची का!दोपहर को जैसे ही वो आयी, मैं झट से कमरे से बाहर निकला. उसके पूरे बदन को मैंने चाट डाला और वो वहीं नंगी खड़ी जोर जोर से सिसकारने लगी.

वो नहाने लगी है या नहीं।मौसी के रूम में गया तो वो बैग में कपड़े डाल रही थी।मुझे देखा तो बोली- अमित थोड़ी मदद कर मेरी. उसने पहले अपने लंड पर जैली लगायी और मेरी गांड में अपना लंड डालने की कोशिश करने लगा.

वो शादीशुदा थी या फिर कली से फूल बनने का इंतज़ार कर रही थी, ये तो नहीं पता था. अब मैंने उसकी पीठ पर झुककर उसकी चूचियों को दोनों हाथों में ले लिया और उसको बेड पर लेटा लिया. अगर सच कहूं कल का उसकी उंगलियों का मेरे जिस्म में उसका जो स्पर्श था, उस स्पर्श को मैं भुला नहीं पा रही थी.

दूसरे शब्दों में कहें तो वो उत्तेजना में घिरी हुई डर रही थी कि कहीं किसी भी वजह से खड़े लंड की जगह गर्म चूत पर धोखा तो नहीं हो जाएगा.

राजेश बोल कर चुप हुआ, तो मैं बोला- इस समय मैं जयपुर के एक सरकारी अस्पताल के एल-थ्री ग्रेड के कोविड वार्ड में एडमिट हूँ. तब मैंने कहा- मेरी कमर की एक बाजू एक घुटना और दूसरी तरफ दूसरा घुटना रख कर आ जाइए. फिर अपना नाम बताते हुए एक हाथ से मामी ने मेरे अंडरवियर को निकल दिया.

जब वो दोनों स्टेशन पर पहुंची, तो मैं उनके पैर छूने के लिए झुक रहा था. लेकिन फिर अगले मैसेज में उन्होंने अपने दोनों कबूतरों की एक सेल्फी भेजी, जिसमें उनके बड़े-बड़े चूचे जिनमें से एक को उन्होंने अपने एक हाथ से दबाया हुआ था.

उसने मेरी एक टांग उठा कर अपने कंधे पर रख ली और मेरी गरम भट्टी जैसी चूत में अपना सख्त लंड एकदम से डाल दिया. दोस्तो, मैं जय फिर से आप सभी के समक्ष एक नई दास्तान पेश करने जा रहा हूँ. आज फिर से अभिषेक के शर्ट के अन्दर अपनी लाल होंठों का निशान छोड़ दिया.

हॉट वीडियो देसी

गाँव का नाम मैं नहीं बता सकता यहां पर!चूंकि हमारे वहां पर रोजगार के अधिक साधन नहीं है इसलिए मैं दिल्ली जैसे बड़े शहर में रहकर कमाई करता हूं.

अब आगे हॉट लड़की की वासना की कहानी:मैंने उठकर खिड़की से रोहन को जाते हुए देखा. आईई … आह्ह … मेरी चूत।जितनी तेजी से उसकी सिसकारी निकल रही थी उतनी ही तेजी से मैं उसकी चूत को चाट रहा था. मैंने कहा- हाँ हाँ … अभी हंस लो … मगर नीचे वाले मोटे औजार ने आपको रुला न दिया तो मेरा भी नाम सैम नहीं.

उसने बताया- मेरी सेक्सी चाची जी, मैं अभी एक बेरोजगार लड़का हूँ और बहुत ज्यादा पैसे नहीं कमा पाता हूँ. जैसे ही लेटी, उसके चूचों से टॉवल थोड़ा नीचे खिसक गई और चूचियां खुल कर दिखाई देने लगी थीं. हिंदी बीएफ एचडी दिखाएंथोड़ी देर तक किरण और मैं उसी हालत में रहे और एक दूसरे की आँखों में देखते रहे।वो बोली- भावेश … आज तुमने मुझे जन्नत की सैर करा दी.

वो लंड को निकाल कर हाथ से हिलाने लगा और कुछ ही सेकेन्ड के बाद उसके लंड से सफेद पदार्थ निकला. फिर उसने मुंह खोला तो मैंने धीरे से पूरा लंड उसके मुंह में दे दिया और उसके मुंह को चोदने लगा.

तुम मुझ पर विश्वास करके तो देखो।मेरा ये कहना हुआ ही था कि उसने अपनी आँखें बंद कर ली।बस मैं जान गया कि अब ये विरोध नहीं करेगी. उस लैटर को वहीं दो बार पढ़ने‌ के बाद शायरा उस गुलाब व लैटर को‌ लेकर अब अन्दर चली गयी और अन्दर से दरवाजा बन्द कर लिया. शीतल की हल्की सी सिसकारी निकलने को हुई … मगर मेरा एक हाथ अब भी उसके मुँह पर था, तो उसकी आवाज दब कर रह गई.

मैं बस आंखें बन्द करके अपनी महिला मित्रों के साथ की गई चुदाइयों को याद कर रहा था. मैं बोला- अफसाना तुमने वीर्य अंदर क्यों लिया? कुछ हो गया तो?वो बोली- कुछ गलत नहीं होगा. एकता ने हेतल को कॉल किया तो वो बोली कि रास्ते में है और पहुंचने ही वाली है.

फिर से मैंने चाचा जी का पूरा लंड मुँह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगा.

अजय ने प्रिया को नीचे लिटाया और टेढ़ा होकर उसके ऊपर लेट कर उसके मम्मों और होंठों को चूमना शुरू किया. और बार बार जब सुमन उसकी गाँड की छेद को चाटती और जीभ से कुरेदती थी, तब अपनी गाँड को पूरा हवा में उठा कर वो चिहुंक सा जाता था।मैं ये सब देखकर बिल्कुल हैरान था कि आख़िर अब तक मेरी बीबी ने लंड और गाँड चाटने की अपनी कुशलता मुझे क्यूँ नहीं दिखाई भला?इस पल में आकर अब पहली बार मुझे पंकज से ईर्ष्या सी हुई।पंकज के लंड और गाँड को चाटती हुई सुमन अपने दोनों घुटनों और कुहनियों के बल पर स्थित थी.

[emailprotected]हार्डकोर सेक्स इंडियन स्टोरी का अगला भाग:साले के दामाद ने कोरी चुत चुदवाई. आई आई टी इंजीनीयर है और फिलहाल एक एमएनसी में दिल्ली में कार्यरत है. आपकी रूपा[emailprotected]वासना स्टोरी इन हिंदी का अगला भाग:सहेली के बॉयफ्रेंड से चुत चुदाई- 3.

फिर मैंने धीरे धीरे उसके ब्लाउज के हुक खोल दिये और ब्लाउज के दोनों पल्ले अपनी अपनी साइड में नीचे तक जा खिसके. मैंने कभी उनके बीच में ऐसा खास तालमेल नहीं देखा कि जिससे पता लगे कि इनकी सेक्स लाइफ में अभी भी कुछ बचा हुआ है. रात को हम तीनों ने रेस्टोरेंट में जाकर डिनर किया, जहां हमें शादी के बारे में कुछ भी बात करने से मानवेन्द्र ने ये कहकर टाल दिया कि शायद मिस्टर धीमान ये सब कुछ खुद ही हमारे साथ डिसकस करेंगे.

हिंदी चालू बीएफ उसके गोल-गोल और उठे हुए कूल्हे को छूते हुए और थोड़ा चिढ़ाने के अंदाज में बोला- क्या बात है सायरा, तुम्हारी गांड तो काफी उठ गयी है. मेरा लंड उसके मुँह के हिसाब से काफी बड़ा है, तो वो पिछली बार की तरह पूरे लंड को मुँह में लेने की नाकाम कोशिश करने लगी.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो

उठा तो देखा कि एक लड़का मेरे साथ मेरे बगल में लेटा हुआ टीवी देख रहा था. ’ भरी और आखिरकार मेरे बॉयफ्रेंड का लंड मेरी चूत के अन्दर तक पहुंच गया था. मैं बोला- ऐसे क्या देख रही हो?वो बोली- यार तेरा तो बहुत बड़ा है, ये मेरी चूत में जायेगा कैसे?मैंने कहा- तू उसकी चिंता न कर.

मैंने उसके रसीले गुलाबी होंठों पर एक किस जड़ दिया और उसके मम्मों को दबा दिया. मैं औरतों की पसंदीदा जगह ब्यूटीपार्लर जाने लगी, जिधर से मुझे मसाज का शौक लग गया. बीएफ सेक्सी चुदाई देखना”तो तुम क्यों इतने दिन तक दबायी रही, बोल देती … तो इस तरह तुम्हें उंगली से अपनी चूत की क्षुधा शांत नहीं करनी पड़ती … और तुम्हारी चूत में झांटों का जंगल न हो जाता.

अब मैं उसकी टांगें और चौड़ी करके चूत चाटने लगा और मीनू मेरा लौड़ा चूसने लगी।मैं बीच बीच में उसकी चूत में उंगली भी कर रहा था.

दो मिनट में ही सूरज का लंड फिर से खड़ा हो गया और मैंने मुँह से निकाल के कहा- चाचा जी, इसका खड़ा हो गया है. उसके जाने के बाद मुझे दुख हो रहा था कि अब फिर से अकेले रहूँगी … पर मुझे एक तरह की ख़ुशी भी थी.

वो लॉलीपोप के जैसे मेरे लंड को चूसने लगी।फिर मैंने उसे उठाकर बिस्तर पर झुका दिया और उसकी गान्ड में लन्ड घुसा दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा।उसकी गान्ड बहुत बड़ी और गहरी थी. अनामिका- साली तू तो खुद रात भर मेरे अन्दर आग लगाती रहती है … अपने यार से गांड और चूत दोनों चुदवा चुकी है. फिर अपना नाम बताते हुए एक हाथ से मामी ने मेरे अंडरवियर को निकल दिया.

मैंने कहा- मुझे पकड़ लेना, ज़बरदस्ती काबू में कर लेना … पर चोदते रहना.

रेशमा के ऊपर मुझे चढ़ा देख कर बोला- क्या हुआ?मैं बोला- साली, यह तो झड़ चुकी है … कोई और व्यवस्था कर … तो मेरा पानी छूटे. और संध्या और दूसरी लड़कियों की छाती पर से तो लड़कों की नजरें ही नहीं हटती होंगी. वो- तो फिर थप्पड़ खाने को भी तैयार रहना!मैं- एक किस के लिए तो हज़ारों थप्पड़ खा लूंगा मैडम.

सेक्सी बीएफ घोड़ा लड़की कीफ़ोटो देने के बाद उसको मुझ पर यकीन हो गया था कि मैं उसके लायक हूं और फिर वो हर रोज़ ही अपनी फोटो मुझे भेज दिया करती थी. वो सिसकारियां लेने लगी- आह्ह … स्स् … आह्ह … करते हुए मस्ती में चुसवाने लगी.

देवर भाभी xxxx

तुम लोग फेरे के बाद रात में उसी कमरे में जाकर सो जाना, जहां तैयार हुए थे. मेरी तो गांड ही फट गयी और वह फिर से सोने लगी।अब मैं थोड़ी देर अपने मोबाइल में देखने लगा. फिर मुझे पकड़ कर अपनी योनि को मेरी तरफ़ ऐसे चिपका लेती, मानो मुझे अपने भीतर समा लेना चाहती हो.

मैं नीरू से बोला- जानम, तुम दर्द की चिंता छोड़ दो … मैं बहुत आराम से तुम्हारी गांड को चिकनी करके मारूँगा. वो- पर क्या फ़ायदा ऐसी खूबसूरती का, जिसके लिए है, वो तो बहुत दूर जाकर बैठा है. कोई भी अच्छी भाभी या लड़की बस में नहीं थी।बस अपने नियत समय पर चल पड़ी और मैंने कानों में हेडफोन लगाया और गाने सुनने लगा.

उसके मर्दाना हाथों के मजबूत दबाव से मेरे अन्दर की कई दिन की प्यासी औरत मस्त होने लगी. मैंने अपने एक हाथ की दो उँगलियां उसकी चूत में घुसा दीं और उसकी क्लिटोरिस को छेड़ने लगा।सुमन के लगातार आक्रमण से उसका शिकार पंकज अब घायल हो चुका था और उसके प्राण- मतलब वीर्य … निकल जाने में थोड़ी ही कसर शेष थी. मेरी सेक्स कहानी में अब तक आपने पढ़ा था कि एकदम से स्कूटी के ब्रेक लगाते ही शायरा मेरी पीठ के ऊपर लग गई, जिससे उसके मम्मे मुझे मस्ती दे गए.

मैं वहीं नीचे घुटनों के बल बैठ गयी और मैंने नाक सी सिकोड़ कर उनके खड़े लंड के सुपारे को हल्के से किस किया. मन तो मेरा भी कमजोर पड़ जाता था लेकिन फिर सोचता कि कहीं वो ऐन टाइम पर पलटी न मार जाये.

हालांकि शुरुआत में मुझे वो थोड़ी सी फेक भी लगी, तो मैंने उससे उनकी फोटो मांगी.

म्यूजिक चला कर प्रिया ने पत्ते बांटे, अजय ने लड़कियों से पूछ कर सिगरेट जला ली. एक्स एक्स एक्स मुसलमानी बीएफमैं एक जवान औरत हूं … और मेरी भी कुछ जरूरतें हैं, इसलिए मैं उस लड़के से अपनी जरूरतों को पूरा करने की कोशिश कर रही थी. सेक्सी बीएफ वेस्टइंडीजएकता और प्रमिला को हेतल के फार्म हाउस के बारे में पहले से ही पता था. उसकी चूत से लगातार रिस रहे रस ने उसकी गाँड और जाँघों के चारों ओर की जगह में एक सफ़ेद परत सी बना दी थी और गाँड का छेद भी पूरी तरह से रस सिक्त हो गया था.

इस बार उसने मेरे मम्मों पर अपने हाथ चलाना शुरू किया और साथ ही मेरी सहेली (मेरी चूत) पर भी अपनी उंगलियां चला रहा था.

उसका ब्वॉयफ्रेंड उसे समझाने लगा- जानू, हम दोनों इतनी दूर हैं, आने जाने में ही काफी टाइम चला जाएगा और छुट्टी लेकर कैसे आऊं … कैसे क्या होगा!अनामिका बोली- वो सब मुझको नहीं पता … मुझको बस चुदाई चाहिए. मैं- तुम्हें बुरा नहीं लगता या डाउट नहीं होता मुझ पर?वो- ये तो पता है कि तू बहुत कमीना है, पर लगता नहीं तुम मेरे साथ भी ऐसा कुछ करोगे. पैंटी मैंने सन्नी की ओर फेंक दी, जिसे सन्नी सूंघने लगा और अपना लंड सहलाने लगा.

मेरी जीभ का जादू जिसने भी देखा है, वो मुझे कभी भूल नहीं सकती है, ये मेरा दावा है. अब तुम्हारा लंड चड्डी के अन्दर से मुझे दिख रहा है … और मैं उसे अपने हाथ से सहलाने वाली हूँ. सोचा नहीं था तुम्हारी गांड से मुझे इस तरह से भी मजा लेने का मौका मिलेगा.

शिक्षा बीएफ

मैंने उसे अन्दर खींचा और झट से गेट बंद करके उसे अपनी गोद में उठा लिया. कुकोल्ड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक जवान कपल ने मुझसे सम्पर्क किया अपने सेक्स जीवन में कुछ नया करने के लिए! हम एक होटल में मिले और …हैलो अन्तर्वासना रीडर्स, कैसे हैं आप सब!अपनी कुकोल्ड सेक्स स्टोरी के साथ मैं आप सबका दोस्त राज एक बार फिर से हाजिर हूँ. वो- मुझे धोखा मत देना, तुम पर विश्वास तो पहले ही था मगर अब सच में तुमसे प्यार करने लगी हूँ, इस प्यार को बदनाम मत होने देना.

इंडियन लंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी चूत एक लंड के लिए बेचैन हुई जा रही थी.

अब मेरे पास कोई बहाना तो था नहीं, इसलिए मैं भी अपना सामान लेकर दिल्ली पहुंच गया.

उन्होंने मुझे बिस्तर पे उल्टा लिटा दिया और मेरी दोनों टांगें चौड़ी कर दी।चाचा ने एक बार फिर अपने फनफनाये लंड पे थूक लगाया; वे मेरी गांड पे अपना लंड रगड़ने लगे और धीरे धीरे लंड गांड में घुसाने लगे।मैं इतना उत्तेजित था कि गांड उचका उचका कर चाचा जी की मदद करने लगा अपनी गांड मरवाने में!चाचा जी बहुत अनुभवी थे. मैंने उससे पूछा- तू साइकिल तो चला लेती है न?वो बोली- हां साइकिल तो चला लेती हूँ. बीएफ सेक्सी सेक्सी वीडियो वीडियोकुछ ही धक्कों के बाद मैं भी उसके अन्दर ही झड़ गया और उसके ऊपर ही लेट गया.

हालांकि उस समय हमारा तलाक नहीं हुआ था।इस समय तक मेरी देसी चूत को लंड खाने की आदत पड़ चुकी थी।वैसे मेरी चूत ने लंड का स्वाद तो मेरी शादी के पहले ही चख लिया था. बस फ़र्क इतना था कि सन्नी लियोनी के बूब्स टाइट हैं … और आफ़िया के सॉफ्ट थे. चाचा जी बोले- उम्महह … उम्म … बेटा सुहानी मैंने आज तक किसी की गांड नहीं मारी है … हम्म … प्लीज … एक बार पीछे से लंड डलवा लो.

वो भी बिना कपड़े उतारे हुए … क्योंकि न जाने मुझे ऐसा क्यों लग रहा है कि आज तुम्हारे भैया जल्दी घर वापस आ जाएंगे. अगले ही पल उसने मुझे कसके गले से लगाया और फिर मेरे मखमली होंठों पर अपने होंठ को रख कर चूसने लगा.

वो बोली- उधर की भी लेना है क्या?मैंने हां कही, तो वो ‘बाद में करते हैं.

फिर जब मेरे हाथ उसकी चूत के ऊपर होते, तो वो अपनी चूची से खेलती और अपने निप्पलों पर अपनी जीभ चलाती. दोस्तो … इस प्रकार चुदाई करने में मुझे कितना मज़ा आ रहा था मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकता. उसका चमकता हुआ काला जिस्म मेरे दमकता हुआ गोरे मुलायम बदन को निचोड़ने के लिए बिल्कुल तैयार था।मैं भी जानती थी कि ये चुदाई मेरे लिए आसान नहीं होने वाली.

सेक्सी वीडियो बीएफ ओपन सेक्सी जो हुआ वो बदला नहीं जा सकता, पर जो नसीब से मिलता है, उससे इन्कार भी नहीं करना चाहिए. कुछ देर बाद मैंने उसका टॉप उतार दिया और उसे चूचों को ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा.

वो मेरे पास आकर बोली- आज का क्या प्लान है?मैं बोला- प्लान करना औरत का काम है … मर्द तो रेडी ही रहता है. कुछ देर के बाद उसने मेरे बालों को रिहा करके मुझे गिरते हुए पानी मैं अपना लौड़ा चूसने दिया. मैंने उसकी तनी हुई चूचियों को देखा और कहा- हा, आज आग बरसने वाली है, गर्मी तो बढ़ना पक्का है.

हिंदी बीएफ वीडियो एचडी

वैसे वो थी भी इतनी खूबसूरत की कोई एक बार देखे, तो‌ बस उसे देखता ही जाए इसलिए तो मैं भी उस पर फिदा हो गया था. मैं एक बार बाथरूम में चली गयी और जब मैं वापस आयी तो अभिषेक भी सो चुका था. वो बोली- तुम भी तो मेरे फ्रेंड हो, तुम ही बता दो न?मैंने कहा- मैं तो उंगली की जगह कुछ और का इस्तेमाल करना जानता हूँ.

घर से कुछ दूर पहले ही एक मार्केट में मीना ने स्कूटी रोकी और दुकान से कुछ सामान ले आई. ऐसा लग रहा था कि जैसे लंड की जगह वो पंकज के सिर को ही अपनी भूखी रसीली और बुरी तरह पनियाई हुई चूत में घुसा लेगी।थोड़ी देर में ही जब पंकज छटपटाने लगा, तब जाकर उसने उसके सिर से अपनी जाँघे हटाईं.

कभी वो मुझे अपने बगल‌ में सोते हुए दिख रही थी, तो‌ कभी मेरे पास बैठी हुई नजर आ रही थी … और अब वो तो मुझे दरवाजे पर भी खड़ी नजर आ रही थी.

फिर मैं बोली- तो तुम्हें जॉब चाहिए है? दरअसल आज मेरा कुत्ता यहां पर नहीं है, मैं चाहती हूं कि तुम्हें मैं अपने कुत्ते की जगह रख लूं आज. जैसे कि उसकी चुत कह रही हो कि मुझे जीभ नहीं, तुम्हारा लंड चाहिये … लंड देना है तो अपना लंड पेल दो, जीभ से मेरा क्या होगा? जीभ से तो मेरी आग और भी भड़क जाएगी. जैसे जैसे मैं उसके लंड को चूस रही थी वो मेरी चूत को और जोर से चाटने लगता था.

बिन्नी ने मेरी ओर देखा तो मैंने नीचे झुककर उसके गर्म होंठों पर अपने होंठ रख दिये और नीचे से लण्ड पर दबाव बढ़ाने लगा. मैं उसकी उंगलियों में अपनी उंगलियां फंसाकर उसके ऊपर आ गया और उसके होंठों को चूसने लगा. इतने में प्रियंका ने उसके पीछे से जाकर उसकी टी-शर्ट को पूरा ऊपर उठा दिया.

ये सब देख कर मेरे भीतर वासना की ज्वाला फिर से जागृत होने लगी और मैं अब बड़े चाव से उसकी योनि चाटने लगी.

हिंदी चालू बीएफ: इसके बाद तकरीबन 15 मिनट और रुकी फिर गाड़ी भर जाने के बाद ड्राइवर ने गाड़ी आगे निकाली. चूचियों को दबाने लगा तो चाची बोली- क्यों गर्म कर रहा है, फिर तू मुझे संभाल नहीं पायेगा.

हम एक दूसरे से लिपट गए और बहुत देर तक जोर से एक दूसरे को जकड़े हुए खड़े रहे. फिर उसने मेरी चूत पर लंड को लगा दिया और मेरी कमर को अपनी तरफ खींचते हुए एक धक्का दे दिया. राजू चाचा- क्यों ऐसी कौन सी वो मिस वर्ल्ड थीं?संध्या चाची- तुम नहीं समझोगे, इतने भरे बदन वाली चिकनी औरत मैंने पहले कभी नहीं देखी थी.

कुछ देर तक हम होंठों के रसपान में डूबे रहे और फिर मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिये.

हमने अपने अपने यौनांगों से एक दूसरे को दिखा दिखाकर चिढ़ाया और फिर अपनी फेंटेसी के बारे में बातें कीं. उसकी टांगें कांप सी गयी और उसकी चूत ने काफी सारा गर्म पानी मेरे मुंह में निकाल दिया. मैंने शायरा को किस करना शुरू किया, तो शायरा भी मुझे अब प्यार करने लगी.