बीएफ जंगली जानवर

छवि स्रोत,लड़की का चूची का फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

बिना कपड़े सेक्सी वीडियो: बीएफ जंगली जानवर, वहां डॉक्टर ने खाना मंगवाया और दोनों ने खाया।डॉक्टर ने जानबूझकर कर नीचे अंडरवियर नहीं पहना था इसलिए मम्मी को उसके लंड का भरपूर नजारा मिल रहा था.

बुर चुड़ै पिक्चर

सौम्या को मजा आने लगा तो मैंने अपने हाथों से उसकी टाईट चूचियों को मसलना भी शुरू कर दिया. एरोप्लेन में सेक्स वीडियोआगे बढ़ने से पहले मैं उन सभी का धन्यवाद करना चाहूँगा, जिन्होंने मेरी पिछली सेक्स कहानीचचिया सास की चूत की खुजली मिटा दीको हद से ज्यादा पसंद किया और कमेंट्स के ज़रिए भी काफी प्यार दिया.

ये सेक्स कहानी मेरी और मेरी प्यारी मौसी की चूत की चुदाई की कहानी है. निकोलेट शिया sex xxxमम्मी उससे वासना में लिपट गई और डॉक्टर ने उनके हाथ खोल दिया।डाक्टर अपना लंड मेरी मम्मी की चूत में घुसेड़ कर अन्धाधुंध चोदने लगा.

मैंने उसकी टांगें फैला दीं और उसकी चिकनी चुत को अपनी जीभ से चाटने लगा.बीएफ जंगली जानवर: उसमें से चाची के बदन की खुश्बू आई, तो मैं मदहोश हो गया और उनकी ब्रा और पैंटी को अपने लंड लगा कर मुठ मारने लगा.

पर मैंने मना कर दिया क्योंकि उसके लंड पर खून और तेल लगा था जो मैं नहीं चूस सकती थी.कुछ धक्कों के बाद भाभी का दर्द कम हुआ और अब वो भी नीचे से अपनी कमर हिलाने लगीं.

पीलिया कैसे होता है - बीएफ जंगली जानवर

मैंने अपने होंठों और जीभ से उसकी चूत को चाटना और चूसना शुरू कर दिया.उधर मौत के कुंए में खेल चल रहा था, यहां मुकेश मेरी गांड पर अपना हाथ साफ कर रहा था.

अब मैंने सौम्या को घोड़ी बनाया, इससे उसके लटकते हुए मम्मे मुझे लगाम जैसे लगे. बीएफ जंगली जानवर मम्मी मेरी तरफ पीठ करके सोई थीं, पर मेरी कुछ करने की हिम्मत नहीं हो रही थी.

तभी रिंकू दूसरे कमरे से चारपाई ले आया जो कि मैंने उससे पहले ही बोल दिया था.

बीएफ जंगली जानवर?

निशा जैसे ही कम्बल पकड़ कर खींचने लगी, मैंने भी जोर से कम्बल को खींच कर रखा. तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी पहली कुवारी लड़की की सेक्सी कहानी?सिमरन के बाद मैंने एक और आंटी की भी चुदाई की थी, जो वक्त आने पर मैं आपके साथ शेयर करूंगा. अभी हम कुछ नहीं कर सकते क्योंकि ये शाम का समय है और मेरे बच्चे भी कभी भी आ सकते हैं.

फिर ऊपर देख रहा लड़का भी नीचे आ गया उसने भी दीदी की गांड और बुर दोनों छेदों को चोदा और अपना पानी दीदी के मुँह में झाड़ दिया. विशाल ने ज़मीन पर खड़े होकर अपना पूरा लंड एक ही झटके में रवि की गांड में डाल दिया. धीरू ने ब्लाउज के ऊपर से मेरे कप वाले मम्मों को दबा दबा कर मुझे बेहाल कर दिया.

मौसी हंसने लगीं और बोलीं- अच्छा ये बता, तेरी कोई गर्लफ्रेंड है?मैं- नहीं मौसी, मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. Xxx गांड हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि एक अमीर आदमी की बीवी उसे छोड़ गयी तो उसे लड़कों की गांड मारने की लत लग गयी. ये रियल फॅमिली सेक्स कहानी सन 2020 में मार्च में होली के बाद की है.

जबकि मैं तो ये सोच रहा था कि कहीं मौक़ा मिला, तो मुझे भी चाची कि जवानी पर हाथ फेरने का मौका मिल जाएगा. मतलब चाचा जी इतने दुबले पतले दिख रहे थे जैसे कि पंखा चलने पर ही उड़ जाएं और कद में भी चाची के जितने ही थे.

मुझे सुबह देखी हुई रानी की चूचियां और बालों से भरी चूत दिखाई देने लगी, जिससे मेरा लंड खड़ा होने लगा.

उसको देखकर मेरा मन भी किया कि अभी उसके कपड़े फाड़ कर चूचे मुँह में भर लूं और साली को चोद दूँ.

लेकिन जीजा जी फुल मस्ती और नशे में आ गए थे, वो इतने ज्यादा टुन्न हो गए थे कि उनसे चला भी नहीं जा रहा था. वो नहीं जानती थी कि उसे दर्द भी सहना होगा।और जैसे ही मेरा लन्ड 2 इंच अंदर गया, वो रोने लगी।पर मैं जानता था कि एक बार हो जाये तो वो खुद चिपक चिपक कर धक्के मारेगी. उसकी सांसों से रूबरू होते हुए उसके होंठ कब मेरे होंठों से मिल गए, कुछ पता ही नहीं चला.

उसने मुझे बहुत कसके पकड़ लिया और बुरे तरीके से मेरे होंठों को चूसने लगी. उसने मुझे बोला- बेबी धीरे धीरे डालना।मैंने उसकी दोनों टाँगों को खोलकर धीरे-धीरे लंड डालना शुरू किया आधा लंड डालकर मैंने झटके मारने शुरू किए।उसकी चूत गीली होने के कारण आधा लंड अंदर चला गया. मिनी के ऊपर चढ़कर प्राची ने अपनी गांड को उठा दिया जिससे प्राची डॉगी स्टाइल में हो गई.

मैंने कहा- क्या काट देगी?वो बोली- यार इस समय नाटक नहीं करो … काम चालू रखो … मुझे इस समय एक पल के लिए भी तुम्हारा रुकना पसंद नहीं आ रहा है.

चाची बोलीं- यहां नहीं, मेरे रूम में मालिश का तेल रखा है, वहीं आ जा. तभी मुझे कुछ समझ आया कि भाभी ने मेरे कमरे में चुदाई के समय ही किराने का काम करने के लिए क्यों बोला था और बच्चों को वापस क्यों भेजा था. तो मैंने बात को बदलते हुए कह दिया- कुछ नहीं चाची, थोड़ा काम में व्यस्त हूँ.

मैं अपनी टी-शर्ट उतारने ही वाला था कि उसने मुझे जोर से बेड पर धक्का दे दिया और वो मेरे ऊपर लेट गयी. वह- आह जीजू … मुझे पता होता कि इसमें कितना मजा आता है, तो मैं कब का आपके पास आ जाती. एक बात बताऊं, मुझे पता था कि तुम्हारा बॉयफ्रेंड है, पर मैंने इसलिए नहीं बोला कि तुमको कोई परेशानी ना हो.

मुझे लगा जीजा दीदी को चोद रहे हैं, पर जब वहां जाकर देखा नज़ारा कुछ और ही था.

मॉम ने घबराकर मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ लिया और बोलने लगीं- प्लीज़ धीरे से करो. मैंने भी जल्दी जल्दी अपनी पैंट शर्ट पहन लिए कि कहीं कुछ बवाल न हो जाए.

बीएफ जंगली जानवर अभी दो मिनट ही हुए होंगे कि वो ज़ोर ज़ोर से कराहने लगी- आह … आंह … रुको मत प्लीज़ और ज़ोर से … आई सीएईई … मैं आआ रहीईई हूं … उन्हह … कट गई आंह. वो बिलखने लगी और तड़पती आवाज़ में बोली- बहनचोद डाल दे … क्यों सता रहा है?मैंने पूछा- क्या डालना है?वो बोली- तुम्हारा वो!मैंने पूछा- वो क्या?वो बोली- पेनिस!मैंने कहा- हिंदी में बोलो.

बीएफ जंगली जानवर खड़े लंड की बात सुन कर अगले ही पल नव्या भाभी नीचे बैठ गईं और मेरा लोअर और चड्डी उतारकर लंड देखने लगी. कुछ देर बाद मैंने भाभी को घोड़ी बनने को बोला और उनकी गांड पर थप्पड़ों की बरसात कर दी.

नीचे मेरा लंड सरिता की चूत पर ठोकर मार रहा था तो सरिता मदहोश होने लगी थी.

बीएफ सेक्सी पिक्चर हिंदी सेक्सी

मैंने अपनी मां से सुना था कि दीदी की इसी कमी के कारण जीजा जी और उसके बीच अक्सर झगड़ा हुआ करते थेफिर जीजा जी ने भी दारू पीना शुरू कर दिया था तो उससे मामला और भी बिगड़ने लगा था. मैंने दिया से थोड़ा तेल निकाला और अपनी बहन की चूत पर थोड़ा सा लगा दिया. क्या लग रही थी, उसमें भी बाल खुले … डीप क्लीवेज इस्स उफ़्फ़ … बहुत हॉट लग रही थी.

तभी उसमें से एक लड़का बोला- क्यों हल्ला मचा रहे हैं भैया, आप भी कर लीजिए न!कुछ देर बाद वह भी मान गया और बोला- इसको किसी ने अभी चोदा है?सबने न बोला. मैं- कैसा लग रहा है मेरी जान … बोल ना अह?जिनल- अब मजा आ रहा है चोद दे जोर से चोद आह फ़क मी मेरे भड़वे चोद दे जोर से … बना ले अपनी रखैल आह … इतना मजा कभी नहीं आया … चोद साले बहनचोद!मैं- आह ये ले … मैं जोर जोर से चोद रहा हूँमुझको इतना मजा किसी को चोद कर नहीं आया. उसे लेटा कर मैंने उसका लंड हर तरह से चाटना शुरू कर दिया और वो भी शुरू हो गया.

जब मेरा भी पानी निकलने वाला हो गया तो मैंने उससे कहा- हनी, मेरा निकलने वाला है, कहां निकालूं?उसने कहा- अन्दर ही डाल दो, मैंने गोली ले ली है.

इसके बाद वो स्पेशली मुझसे मिलने के लिए दिल्ली आई और तब हम दोनों के बीच क्या क्या घमासान हुए, ये मैं अगले भाग में बताऊंगा. कभी उसके निप्पल को अपनी दो उंगलियों के बीच में दबा कर हल्के हल्के रगड़ देता था, जिससे शिल्पा को और भी मजा आने लगता. इसमें हालांकि मुझे भी हल्का हल्का दर्द हो रहा था पर मजा भी आने वाला था।दोनों ही धीरे धीरे उनके लण्ड को चूत के अंदर बाहर कर रहे थे.

उसकी हल्की आवाज़- आई उऊउ … अअअआ … अअह अअ पेल दो मौसा … मेरी गांड में लंड पेल दो!अब मैं भी जोश में था, मैं लंड के जोर जोर के झटकों से उसकी गांड मार रहा था।वो बोली- उइ माँ … मेरी गांड फाड़ दी मौसा तूने … आआआ … मज़ा आ रहा है … और पेल दे … जोर से पेलो।मेरा वीर्य निकलने वाला था, मैंने उसी की गांड में अपना वीर्य झाड़ दिया. पिछले भागवासना में डूबी लड़की मेरे साथ नंगीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने डॉक्टर रेखा की चूत चूसकर और उसके मम्मे मसल कर उसे पूरी गर्म कर कर दिया था. मुझे रात में नींद आ ही नहीं रही थी, बस उनका लंड देखते देखते सुबह होते होते मेरी आंख लगी.

वे अंगड़ाई लेते हुए बोले- आज जल्दी उठ गए?मैं बोला- हां आज आंख खुल गई. कुछ ही दिनों में हम दोनों के अन्दर एक दूसरे के लिए इतनी बेचैनी बढ़ गई कि जल्दी मिलने को जी करने लगा.

मैंने अपनी गांड को थोड़ा ऊपर कर दिया था जिससे धीरू का लंड आराम से मेरी गांड तोड़ पाए. फिर मूवी स्टार्ट हुई तो 5 मिनट बाद ही मैंने उसके कन्धे पर हाथ रख कर उसको प्रपोज किया. चाची के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं और कुछ ही पलों में चाची मेरे मुँह पर ही अपनी चुत रगड़ती हुई अपना पानी छोड़ बैठीं.

उसने जिस्म की नुमाइश की, तो अंदाजन 36-30-38 का फिगर लगा, जो बाद में सही निकला.

इतना बड़ा लंड देखकर वो डर गयी मगर समझ तो गयी ही थी कि आज पक्का चुदेगी. कुछ देर बाद पूल पर कोई फोटोशूट होना था तो मैंने भी छोटी बिकिनी पहन ली जिसमें मेरे दोनों बूब्स और चूतड़ तो लगभग पूरे ही दिख रहे थे. भाभी- अरे माफी क्यों मांग रहे हो, ऐसा होता है … और मैं वैसे भी तुम्हारी सगी भाभी तो हूँ नहीं!मैं- ओके भाभी, मैं समझ गया.

उसके बाद मैंने श्रेया को फ़ोन किया और कहा- यार, मैं कहना तो नहीं चाहता … लेकिन अब मुझे डांस क्लास की कोई जरूरत नहीं है. उसकी गर्दन को ऊपर किया और हम दोनों एक पल के लिए एक दूसरे को देखने लगे.

फिर वो पीछे अपने हाथ ले गया और मेरी दोनों आस्तीनों से मेरे ब्लाउज को निकाल कर अलग कर दिया. इतना कहते ही रोहित ने मुझे अपनी बांहों में उठाया और अन्दर कमरे में बेड पर पटक दिया. इस पर वो बोला- ठीक है, फिर मैं एक घंटे से तुमसे मिलने तुम्हारे घर आता हूँ.

एचडी क्वालिटी बीएफ सेक्सी

मुझे भी ये समझते हुए देर नहीं लगी कि अब चाची समझ चुकी हैं कि मैं राहुल नहीं, कोई और हूँ.

मैं बाकी लोगों की तरह डींगें नहीं मारूंगा कि मेरा लंड बहुत बड़ा और मोटा है … या दस इंच का है. प्रियंका को उस पर नंगी लेटा कर खूब चूमा चाटी की और उसकी चूत भी खूब चूस कर गीली कर दी. और जब मैं अकेली थी तभी केविन, लांस मेरे पास आये, बोले कि उन्हें मुझसे कुछ काम है और वो सिर्फ मैं ही कर सकती हूँ।उन्होंने कहा कि मैं जब भी फ्री रहूँ तक उनसे मिलने आ जाऊं या दोनों मुझसे मिलने के लिए आ जाएं.

फिर दीदी शांत होकर बोलीं- कोई बात नहीं राजू, इस उम्र में ऐसा हो जाता है. बाहर आकर मैंने फिर से चाची को सॉरी कहा और उनसे रिक्वेस्ट की कि वो राहुल को कुछ ना बोलें. परिणीति चोपड़ा सेक्सी वीडियोगर्म पेशाब की धार सरिता सह नहीं सकी तो चिल्ला पड़ी- ऊंई मां ऊं अहाहा हं हं ऊंई!उसकी कामवासना भड़क चुकी थी, उसने आंखें बंद कर लीं.

कुछ ही देर में मैंने होंठों को चूसते हुए उसकी और अपनी शर्ट उतार दी. और मुझे नहीं पता था कि इस बार तुम जैसे हसीन गांड मुझे मिल जाएगी इतनी जल्दी ही!उसने झट से मुझे पलट कर मेरी गांड को अपने हाथों से चौड़ी कर दी, मेरी गांड पर जीभ दे दी.

सरिता बोली- हर्षद, आज तुम जा रहे हो लेकिन मुझे बहुत सूनापन महसूस होगा. अनुषा मेरा लंड बाहर निकालने को कोशिश कर रही थी मगर मैं लंड मुँह में ही पेले रहा. वो जोर से चिल्लाई- मैं मर जाऊंगी मादरचोद!लेकिन मुझे केवल अब उसको चोदना ही दिख रहा था और मैं जोर जोर से नैना को चोदने लगा.

उनके इस जवाब को पढ़कर मैंने सोचा कि क्यों ना मैं भी चाची को कुछ इसी तरह से गर्म करूं. कभी मैं उसका ऊपर का होंठ अपने होंठों के बीच में लेकर चूसता, तो कभी नीचे का होंठ चूसने लगता. मैं भी अपने लंड को सहला रहा था, जिससे लंड अपनी मस्ती में झूम रहा था.

उसके बाद मैंने कहा- मेरे लोड़े को थोड़ा साफ कर दो अपने मुंह में लेकर!तो हॉट सिस्टर ने वैसा ही किया, मेरा लंड मुंह में लेकर चूसने लगी.

खुल कर पूछो। ये कॉलेज नहीं, मेरा घर है, मैं अकेला हूँ, तुम भी अकेली हो। कहो तो मैं दरवाजा बंद दूँ ताकि कोई और आ न सके।मैं उठा और बंद भी कर दिया दरवाजा।वह बोली- सर, देखिये मैं एक मज़हबी लड़की हूँ। मैंने अपने कुनबे के कई लण्ड देखे हैं. मैंने उससे कहा- जय, तुम ये क्या कर रहे थे? मैं स्कूल में सबको बता दूंगी!तो वो बोला- क्या बताओगी और कैसे बताओगी?उसकी इस बात से मैं चुप हो गई.

इतने से भी उनका मन नहीं भरा तो उसने उठकर मुझे नीचे पटका और खुद मेरे ऊपर आ गईं. मेरी पिछली Xxx कहानीकोचिंग क्लास की लड़की ने मुझे पटा लियाअंतर्वासना पर प्रकाशित हुई थी. हम दोनों फिर से लग गए और आधे घंटे तक मैंने विलास की गांड की पलंगतोड़ चुदाई की.

ऐसे ही महीने बीतते गए और एक दिन विलास का सुबह फोन आया कि सरिता को लड़का हुआ है और दोनों ही ठीक हैं. अब मैंने उसको घोड़ी बनने के लिए बोला तो वो हंसकर बोली- घोड़ी बनाकर गांड तो नहीं मार लोगे. फिर मेरी पिचकारी निकलने लगी- आशिमाआ आआह … मेरी जान आ गग्या मैं तो … आंह.

बीएफ जंगली जानवर उतने में ही मेरी लपलप करती हुई गांड सीधे धीरू के लंड को अपने अन्दर समा चुकी थी. उसने पूछा- खाना खाया?मैंने कहा- अभी तो आया हूँ यार, अभी कहां से … अब बनाऊंगा तब ना खाऊंगा.

डॉक्टरों की बीएफ

जैसा कि आप जानते हैं कि स्कूल बस स्टॉप पर ज्यादातर औरतें ही अपने बच्चों को छोड़ने आती हैं. थोड़ी देर बाद सरिता सामान्य हो गयी, उसने अपनी पैरों की पकड़ ढीली कर दी और पैर लंबे करके मेरे पैर पर रखे. शाम को जब भाई आया तो मैंने उससे कहा- मेरे बदन में दर्द है, तुम थोड़ी मालिश कर दो.

कोचिंग क्लास शुरू किए हुए एक महीना हो गया था, सब कुछ सही चल रहा था. मैं किसी भी हालत में तुम्हारा मूसल जैसा लंड अपनी चूत में लेकर बरसों की प्यास बुझवा लूंगी हर्षद. हॉस्पिटल की चुदाईमैं- क्या तुम मुझसे प्यार नहीं करती?रुचिता- करती हूँ, पर समझा करो न यार!मैं- पर क्या? अगर तुम मुझसे प्यार करती हो तो मना क्यों कर रही हो?वो कब तक मना करती, उसके मन में भी तो चुदने की ललक थी ही, आखिरकार थोड़ा बहुत नाटक करके वह मेरे दोस्त के कमरे पर आने को राजी हो ही गयी.

लड़के ने लड़की की चीखें निकाल कर रख दीं और अपना पूरा पानी उसके मुँह में भर दिया.

फिर जैसे ही वो डरती हुई आई, मैंने उसे गले से लगा लिया और पागलों की तरह किस करने लगा. ‘इइस्स सर अन्दर तक जीभ डाल दीजिए अह मजा आ रहा है आह बहुत अच्छा लग रहा है … अब कण्ट्रोल नहीं हो रहा है सर.

फिर जैसे ही उसकी जीभ ने मेरी चुत और भग पर हरकत की, मैं सातवें आसामान में उड़ने लगी थी. ’‘कैसी हो मेघा?’‘अच्छी हूँ सर … और आप!’‘मैं भी … आज अच्छा तो लगा न!’‘जी सर. घर के सभी लोग अन्दर थे, बाहर कोई नहीं था तो बात करने का अच्छा मौका था.

निशा ने बताया था कि वो कभी माँ नहीं बन सकती, उसे गर्भाशय में कुछ दिक्कत है.

सुबह का ये सेशन करीब आधा घंटा चला और वो मुझे तृप्त करके अलग हो गया. भाभी ने कसमसाते हुए कहा- आह मेरे राजा, तुम्हारी तो उंगली ही मेरे लिए मोटी है. उनके हाथ मेरी बांहों पर थे और फिर जांघों को सहलाते हुए हाथ ऊपर लाए और मेरे बड़े बूब्स पर हाथ रख कर सहला दिए.

कैटरीना कैफ नंगी फोटोक्या यहीं खड़े रहेंगे!मैं थोड़ा सा हिल गया और अपने आपको संभालते हुए बोला- हंहा हाह … हां भाभी जी. तुम्हारी सेक्सी फिगर, बाहर निकले हुए तुम्हारे मांसल कूल्हे और तुम्हारे गोल और कड़क स्तन की यादों ने मेरी भी नींद हराम की हुई है.

बीएफ एक्स एक्स एक्स का वीडियो

ऐसा सोच मेरी गांड में खुजली रुकने का नाम नहीं ले रही थी पर मैं बस सो गया. आह … उसकी पैंटी की वह मादक खुशबू मुझे मदहोश कर रही थी, इसलिए पैंटी को सूंघ कर मैं उसे पागलों की तरह चूमने लगा और वहीं अपने खड़े लंड को उसकी ब्रा पर रगड़ने लगा. अब मैं पहुंच तो गया था लेकिन सौम्या को चोदने का सीन कैसे करूं, ये समझ ही नहीं आ रहा था.

अभी हम कुछ नहीं कर सकते क्योंकि ये शाम का समय है और मेरे बच्चे भी कभी भी आ सकते हैं. मैंने तब टालने के लिए बोल दिया- हां हां जानू … मैं तुमसे जरूर शादी करूंगा. मैंने आंख दबाते हुए पूछा- क्या हुआ स्वीट हार्ट?वो मेरे सीने पर मुक्का मारती हुई बोली- साले तू बड़ा कमीना इंसान निकला.

उसके हाथों का स्पर्श पाते ही मैं बैचैन हो गया और अपना लंड आगे करने लगा. मैं जोर से उसके स्तन ब्लाउज के ऊपर से ही मसलने लगा तो सोनाली पीछे मुड़ गयी और मेरे होंठों को चूमती हुई बोली- मेरे प्यारे पतिदेव जरा सब्र करो … जाओ सोफे पर बैठो, मैं चाय लेकर आती हूँ. सौम्या अन्दर से ही बोली- हां, जैसे ही मेरा पेट दर्द खत्म होगा, मैं आ जाऊंगी.

तो दोस्तो, यह थी मेरी असली कहानी!कृपया मेल करके बताइए कि आपको मेरी कहानी कैसी लगी।कमेंट बॉक्स में भी कमेंट करके बतायें. मैं- साली आज से तू मेरी रांड है रांड … मैं रोज तुझे ऐसे ही चोदूंगा.

जब हमें दो जिस्म एक जान होने का मौक़ा मिला तो …कहानी के पिछले भागप्यार का इज़हार और पहला चुम्बनमें आपने पढ़ा कि मैं अपनी क्लासमेट आकांक्षा से अपने प्यार का इज़हार कर चुका था.

मैंने उसकी चूत को छोड़ कर जिस्म के हर हिस्से में जीभ फिरा डाली और उसके निप्पल को चूसते हुए उसकी चूत में केवल एक उंगली डाल दी. देवर भाभी की चुदाई दिखाइएमैं भी सोने की कोशिश कर रहा था, पर मुझे नींद नहीं आ रही थी तो मैं वहीं लेटे लेटे मुठ मारने लगा. सिलाई कटिंग हिंदीमैगी खाते समय रिया मेरी गोद में बैठी हुई थी, तो बीच बीच में मैं कभी उसके मम्मे दबा देता तो कभी उसकी चुत में उंगली कर देता. कुछ पल ऐसे ही करते हुए हो गया था शिल्पा लंड चूत में अन्दर पेलने के लिए लगभग गिड़गिड़ाने लगी थी.

कुछ देर धक्के मारने के बाद उसका स्खलन होने लगा और वो ऐसे ही आआह ऊह्ह करती हुई झड़ गयी, पर रुकी नहीं.

वो चाची से पूछने लगा- माल चूत में ही छोड़ दूँ क्या?चाची ने हामी भर दी और राहुल ने अपना सारा माल चाची के भोसड़े में छोड़ दिया. बाहर मैंने आंटी से कहा- थैंक्स आंटी, आपके चलते मेरा और मेरी मॉम का सपना पूरा हुआ. मैं उठकर खड़ा हो गया और मैं अपने बैग से गोलियों की शीशी उसे दी और कहा- इसे सम्भाल कर रखना और मैंने जैसा बताया है, वैसे विलास को दे देना.

वो मेरे पास अपनी गांड मटकाती हुई आयी और मेरे गले में हाथ डाल कर बोली- अब सही है सर!मैंने कहा- परफेक्ट मैम … एकदम मस्त लग रही हो. मैंने ड्रामा करते हुए पूछा- क्या दिखाएगा?वो आंख दबा कर बोला- परफोर्मेंस. कुछ ही क्षण में भाभी का बदन ऐंठने लगा और उनकी चुत ने रोना शुरू कर दिया.

तेरे बीएफ

उनकी बड़ी बड़ी चुचियां मेरे सामने ब्रा में कैद थीं और बड़ी ही मोहक लग रही थीं. मैंने उसका दूध दबाते हुए पूछा- मैं कितना कमीना हूँ ये तो तुम्हें अभी थोड़ी देर बाद मालूम चलेगा. मैं उसकी मूक भाषा को समझ गया और उतने ही लंड को चुत में धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा.

यह मेरी पहली सेक्स कहानी है पर यह कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित है.

फिर किसी तरह मैंने दोस्त से जुगाड़ लगा कर मैंने अपने फोन में 4 सेक्स क्लिप्स डाल लीं.

दूसरी ओर मेरी चाची मेरे लन्ड को सहलाते हुए मेरे शरीर को चूम रही थी।मैंने मुस्कान को थोड़ा सा दूर करके मेरी चाची को बांहों में उठाया और उनके बदन चूमने लगा।कुछ देर चूमने के बाद मैंने उनके बड़े बड़े बूब्स को चूसना और चूमना शुरू किया. आज मेरा लंड मुझे कुछ ज्यादा ही बड़ा लग रहा था और सुपारा भी फूला हुआ था. गेन युट्युब गाने डाउनलोडउसकी पैंटी के ऊपर से ही उसके नर्म रोंऐ से भरी चूत की दरार तक पहुंच गया था.

फिर मैंने मॉम से कहा- सुप्रिया, मैं आज ही और अभी तुमसे शादी करूंगा. दूध चूसते चूसते मैं उसके निपल्स को अपनी दांतों से कुरेदने लगा और हल्का हल्का सा काट भी देता तो रेखा सिहर उठती थी. भाभी लगभग चिल्लाती हुई बोलीं- पागल है क्या … तुम मेरे बारे में ऐसा सोच भी कैसे सकते हो!वे खड़ी हुईं और सीधा कमरे में जाकर दरवाजा बंद कर लिया.

मैंने भी जल्दी से लंड निकाल कर मेरी मौसी की बेटी के मुँह में दे दिया. मेरे जिन दोस्तों ने अपना लंड किसी औरत से चुसवाया है, उन्हें पता होगा कि मैं कैसा महसूस कर रहा होऊंगा.

तब एक बार और … क्या हुआ हुआ, समझ गए न!बहुत दिनों बाद उस तरह की चुदाई से मैं भी खुश थी।उसके बाद हम तीनों ने पूल में मस्ती की और फिर आकर मैंने कपड़े पहने.

हुआ यूं कि जब सब कार्यक्रम निपट गए तो अब महिलाओं को खाना खिलाने की बारी थी. उसने मुझको 4-5 जोरदार थप्पड़ लगाए और गालियां भी भी देना शुरू कर दीं- साले बहन के लंड गांडू भोसड़ी के भड़वे साले … सही से लेता रह भैन के लंड भोसड़ी के गंडमरे भड़वे आज तेरी गांड बहुत रगड़ कर मारूंगा. तभी सरिता बोली- क्यों ना आती? तुमने मुझे सोहम के रूप में जो इतना बड़ा तोहफा दिया है, वो मैं जिंदगी भर नहीं भूल सकती.

सनी लियोन ची माहिती अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली कहानी है, यदि कुछ गलती हो जाये तो क्षमा करें!मैं पहले अपने बारे में बता देता हूं. वह बोल रही थी- आआआ अ अ अ … मौसा … मैं आपकी हूँ … मेरा बदन आपका है … ये आपकी चूची है, आपकी चूत है … चोद डालो मुझे … जोर से चोदो! आपके लिए ही रखी थी ये चूत … आपसे चोदवानी थी मुझे!वो मुझे और तेज तेज से करने को बोली.

फिर रानी और चाची की चुदाई कैसे हुई, ये मैं आगे की सेक्स कहानी में लिखूंगा. मेरा एक हाथ उसकी एक चूची पर जम गया था जबकि दूसरा हाथ उसकी चुत को सलवार के अन्दर से सहला रहा था. शिखा का रस कसैला स्वाद लिए था और उसकी मात्रा इतनी थी कि मेरा मुँह लगभग भर गया.

एक्स एक्स एक्स बीएफ इंडिया

मैं उसके पीछे आ गया, मैंने उसको कमर से पकड़ा और आराम से अपना पूरा लंड धीरे धीरे करके उसकी चूत में पेल दिया. फिर मैंने कहा- अच्छा एक बात बताओ … अगर तुम्हारे घर में कोई दिक्कत नहीं होती, तो क्या तुम हां बोल देती?शिल्पा बोली- हां तो बोलती, पर पहले उसका व्यवहार देखती. मौसी- तुम कुछ देर आराम कर लो, इतना लंबा सफ़र तय करके आए हो, थक गए होगे.

वो मुझसे धीमे स्वर में बात करने लगीं- मैंने तुम्हारी ये चुदाई लीला देख ली है और मैंने ट्यूशन वाले बच्चों को छुट्टी दे कर वापस भेज दिया है. मैं भी होने ही वाला था, मैंने भी अपनी स्पीड तेज कर दी और हम दोनों एक साथ स्खलित हो गए.

मैंने बोला- निशा, मैं कहां पर चेंज करूं?निशा बोली- यहीं पर चेंज करो, बाथरूम तो गीला पड़ा है.

मैंने इस बार उनके मम्मे को मसलने का मजा ले ही रहा था कि उन्होंने अपने हाथ से मेरा लंड पकड़ लिया. Xxx जवानी की चुदाई कहानी मेरी मौसी की जवान बेटी की सीलतोड़ चुदाई की है. मौसी- अच्छा ये बता, तेरा ये इतना कड़क कैसे हो गया?मैं भोला बनते हुए बोला- क्या मौसी … क्या कैसे कड़क हो गया?मौसी- ज्यादा भोला मत बन, मैं इसकी बात कर रही हूँ.

मैंने तुरंत अपने कपड़े चेंज किए और मेज पर खाना रखकर अपने कमरे में चली गई।जेठ जी नहा कर बाहर आए और डाइनिंग टेबल के पास कंचन कंचन चिल्लाने लगे. फिर उसने कल के लिए थैंक्स कहा और आंखों में आंखें डाल कर बस मुस्कुरा दी. मौसी- तुम कुछ देर आराम कर लो, इतना लंबा सफ़र तय करके आए हो, थक गए होगे.

एक अजीब से डर के मारे मेरी फटी पड़ी थी क्योंकि मुठ का थोड़ा गीलापन कपड़ों पर था.

बीएफ जंगली जानवर: मैंने कहा- मुकेश, तुम यह क्या कर रहे हो, किसी ने अगर तुम्हें यहां आते देख लिया होगा, तो मैं बदनाम हो जाऊंगी. उस एक पल में मेरे लंड ने ऐसे तुनकी मारी, जैसे भोसड़ी का अभी पैंट फाड़ कर बाहर आ जाएगा और स्वीटी को कहेगा कि एक बार चोदने दो ना.

पूरा रूम हमारी मादक सिसकारियां और मादक सीत्कारों से गूंजने लगा था जिसे हम दोनों के सिवाए ना कोई सुनने वाला या न ही हमें देखने वाला था. तो मैंने कहा- देखो तुम चले जाओ, कोई तुम्हें यहां देख लेगा, तो मैं बदनाम हो जाऊंगी. वो चाची से पूछने लगा- माल चूत में ही छोड़ दूँ क्या?चाची ने हामी भर दी और राहुल ने अपना सारा माल चाची के भोसड़े में छोड़ दिया.

आप कोशिश तो कीजिए, मैं नहीं तो मेरी जैसी कोई न कोई आपको मिल ही जाएगी.

और जब मैं अकेली थी तभी केविन, लांस मेरे पास आये, बोले कि उन्हें मुझसे कुछ काम है और वो सिर्फ मैं ही कर सकती हूँ।उन्होंने कहा कि मैं जब भी फ्री रहूँ तक उनसे मिलने आ जाऊं या दोनों मुझसे मिलने के लिए आ जाएं. मेरा एक हाथ उसकी चूत पर रगड़ रहा था और अब दूसरा हाथ मैंने उसके सीने के ऊपर लिपटी हुई चादर को नीचे कर दिया. मैंने कहा- अरे ऐसा नहीं, सुन्दर हो तो लड़के लोगों को अक्सर जब कोई बहुत सुन्दर लड़की दिखती है, तो वो उसे माल कहते हैं.