पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,मुझे रोमांस करना है

तस्वीर का शीर्षक ,

11 साल की लड़की सेक्सी: पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ, तो तुम्हारी धड़कन इतनी तेज कैसे चल रही है।निधि- बाबूजी आप ये क्या कर रहे हो.

अनुष्का शेट्टी के सेक्सी वीडियो

जिसकी उम्र 20 साल की है।दिल्ली से निकलने के बाद हम लोग तेज़ी से जा रहे थे. एक्स एन एन एनदोनों से एक साथ चुदवाने से प्रीति आंटी जोश में आ गईं और गौरव को अपनी बांहों में जकड़ लिया.

मैंने भी सोचा कि ‘चलो यार, फ्री में टाइम पास करना चाहती है करने में क्या जाता है. बिश्नोई सेक्सी वीडियोकरीब 5 मिनट के बाद हम दोनों की चुदास जाग गई … तो मैंने उसकी सलवार उतार दी और पैन्टी भी निकाल दी.

उसका बदन देख कर अब मुझे रहा नहीं जा रहा था।मैं सीधे अन्दर गया और उसे पीछे से पकड़ लिया।उसने कहा- जान.पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ: वहीं खेत था तो मैंने उनसे कहा- आप झाड़ियों में जाकर कर लो।उन्होंने कहा- नहीं.

फिर शायद वो बहुत गरम हो गई थी। उसने अपने जीन्स उतार फेंकी और मुझ पर सवार हो गई।वो लगातार अपनी चूत को मेरे लण्ड पर दबा रहती थी और पागलों की तरह मुझे चूम रही थी। उसके हाथ अपने आप मेरे लोवर और कब मेरे लण्ड तक पहुँच गए.जिसके लिए मैं आया था। उसकी कराहटों से कमरे में अनोखा संगीत गूँज रहा था.

सेक्सी वीडियो फुल स्क्रीन - पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ

अब उसने मुझे फिर से बिस्तर पर लिटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ गया।उसने मेरे पैर फैलाए और लौड़ा हाथ से पकड़ कर मेरी चूत में अन्दर पेल दिया.मैं ज्योति को बचपन से जानता था, उसका अब तक किसी के साथ कोई अफेयर नहीं रहा था.

उस क्रीम ने सलोनी को पूरी तरह से पागल बना दिया था।सबके जाने के बाद उसने विजय को फोन करके पूछा- तुम लोगों ने मेरी चूत में कौन सी क्रीम लगाई है।उसने बताया. पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ मेरे बदन में तो आग ही लग गयी क्योंकि पहली बार कोई लड़की मुझसे लिपटी थी.

मानो मेरी योनि को पूर्ण रूप से गीला और चिपचिपा कर देना चाहते हों।मेरी योनि तो शुरू से ही गीली थी.

पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ?

अब जब भी मेरा सेक्स करने का मन होता है तो मैं अपनी बहन को चोद लेता हूँ. लेकिन सभी के साथ कुछ न कुछ अलग होता है, तो कोई एक ऐसा पल जिसमें पूरे बदन में करंट सा दौड़ जाता है. शायद मेरे लंड से अब भी नेहा की चुत के रस की महक आ रही थी, जो कि प्रिया को पसंद नहीं आई.

और तुरंत राज अंकल अपने ऊपर का टी-शर्ट और नीचे का लोवर अंडरवियर उतार कर बिल्कुल नंगे हो गए, उन्होंने एक बार भी नहीं सोचा भी कि हम लोग हॉल में हैं. कुछ ही देर में वो वीडियो देखते हुए सनी लियोनि जैसे लंड चूस रही थी और मेरे पोते सहला रही थी. उसका हमारे यहां आना जाना कुछ ज्यादा ही शुरू हो चुका था लेकिन उस वक्त मैं उसकी नियत नहीं समझ पाया था.

तो वो माथा ठोक कर बोली- पहले तू ऊपर आजा मेरे बाप… फिर तेरा लंड अपने आप चूत में घुस जाएगा. ए कर रहा हूँ। मैं एक जॉइंट फैमिली में रहता हूँ। मेरी हाइट 5’9″ है और मेरा रंग एकदम गोरा है।दोस्तो, मेरी इस कहानी में मैंने कुछ गाली युक्त शब्दों का इस्तेमाल किया है जिसके लिए मैं पहले ही माफ़ मांग रहा हूँ।मेरे साथ जो घटना घटी है. जीजू मुझसे बात करते करते मुझे किस करने लगे और बोलने लगे- तुम अपनी दीदी से भी ज्यादा सेक्सी हो, तुम मुझे मजा दे सकती हो.

वहाँ एक नया ट्विस्ट आपका इन्तजार कर रहा है या यूँ कहो कि एक पुराना राज खुलने वाला है।भाभी की मस्त चुदाई करने के बाद बिहारी बहुत खुश हो गया था. मैंने उसे अपने गोद में उठाया और खड़े होकर अपने तने हुए लौड़े को उसकी चूत में पेल दिया.

जबकि उन्होंने चार शादियाँ की हैं और उनकी चारों बेगमें उनसे बड़ी खुश दिखाई देती हैं।उसका राज एक दिन उनकी एक औरत ने खोला। मैंने इन मियाँजी की औरत के पीछे मेरी रखैल सोनू को लगा रखा था।मेरी रखैल सोनू उर्फ़ सोनल.

अगर गुजरात का कोई भी पाठक या पाठिका मुझसे बात करना चाहे, तो मुझे मेल कर सकते हैं.

मटर जितना दाना थोड़ा सा बाहर निकला हुआ था।मैंने सुनयना की जांघें चाटनी शुरू कर दीं और एक हाथ से उसके निप्पलों को बड़ी बेरहमी से मसलता भी जा रहा था।उसकी जांघें चाटते हुए मैं चूत की ओर बढ़ा. अगले भाग में आपको बताऊँगा।यह भाग कैसा लगा जरूर बताना, मेल जरूर करें।आपका लोगों का प्यारा दोस्त यश हॉटशॉट[emailprotected]. तो मैंने देखा कि सितारा कानों में हैडफोन लगा कर मोबाइल में कुछ देख रही थी।मैंने चुपके-चुपके उसके पीछे जाकर देखा तो पाया कि वो ब्लू-फिल्म देख रही थी.

उन्होंने तुरंत अपने कपड़े खोल दिए और नंगे हो गए। फिर मैंने अपनी टी-शर्ट उतारी और कस कर उनके बालों को पकड़ कर मेरे मम्मों को उनके मुँह में ठूंस दिए और बोली- चूस कुत्ते. मेरा मूसल लंड चूत को चीरता हुआ अन्दर घुसता चला गया।ममता चिल्लाई- आईईई. न मैंने उनकी बात मानी क्यूँकि मैं पढ़ने के लिए दिल्ली चला गया।उनकी आखों में आज भी प्यार देखता हूँ लेकिन मैं ऐसी कोई गलती नहीं करना चाहता.

खैर… मुझे लगा कि इनके साथ कोआपरेट करने में ही भलाई है; और मैंने अपने एक हाथ से सामने वाले के हाथ को पकड़ा और दूसरे से पीछे वाले के हाथ को… और उनके हाथों को अपने बदन पर गाइड करने लगा… इससे उनको समझ आ गया कि अगर हाथ की पकड़ हल्की रही तो मुझे मजा आएगा और मैं जल्दी तैयार हो जाऊँगा.

’ बोली और बाथरूम चली गई।यह मेरे जीवन की सबसे अच्छी बर्थडे गिफ्ट थी।‘थैंक्यू सो मच समीर!’मैं मुस्कराने लगा।तभी मुझे लगा मेरे पीछे कोई खड़ा है, मैंने पलट कर देखा तो अनन्या मुस्करा रही थी, मैंने मुस्कराते हुए उसकी डायरी उसे दे दी।आपको यह घटना कैसी लगी, मुझे जरूर बताईए।मेरी ईमेल आइडी है[emailprotected]. पर फिर से फिसल गया।फिर चाची ने मेरा लण्ड पकड़ कर चूत पर लगाया और बोलीं- धीरे से मेरे राजा. उसने दरवाज़ा खुला छोड़ा हुआ था।मैं बाथरूम की दहलीज से अंदर झांका तो वो नंगे बदन और नंगे पाव नीचे फर्श पर केवल फ्रेंची पहन कर बैठा हुआ था। उसके सामने बेडशीट थी जिसपर वो पानी डाले जा रहा था और पानी डालते ही बेडशीट से लाल रंग का पानी बाहर निकल रहा था.

जैसे मैं रुई के फाहे दबा रहा होऊँ।फिर मैं उसकी टी-शर्ट के अन्दर हाथ डालने लगा, तभी उसने मेरी टी-शर्ट को भी उतार दिया। मैं उसकी शर्ट के अन्दर हाथ डालते हुए उसके गोल मम्मों को मस्ती से दबा रहा था. वह काम कर रहा है।कोमल- सर अब हल्का-हल्का सा आराम है।मैं- कुम्हारिन रानी तुझे आज इस तरह चोदूँगा कि तू कभी भी भूल नहीं पाएगीइस तरह मैंने एक कुम्हारिन को सच में चोदा है. सदा उठून उभा राहिला त्याने प्रश्न केला कि तू सटीस्फाई झालीयेस हे आम्ही कशावरून ओळखावे ? संत्याचा निर्णय फ़ाइनल राहील.

जब उसने मुझे उठाया तो मैं खुद को बिस्तर से बंधा हुआ पाया, मधु ने मेरे दोनों हाथ, दोनों पैर बिस्तर के चारों तरफ बांध दिए थे.

मैं टुकड़ों को उठाता-उठाता हाथ को उनकी फुद्दी के पास ले गया। मुझे बड़ा मजा आया. सामने एक नाटे कद का काला सा लड़का खड़ा था। मैं चुदाई के कारण कुछ हांफ सी रही थी और मेरी जाँघ से वीर्य गिर रहा था।कहानी कैसी लग रही है.

पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ अब मैंने अपने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और अपने हाथ से लंड पकड़ कर बहन की चूत के होल पर सैट करके आहिस्ता आहिस्ता दबाया. ये भी तो बॉडी का पार्ट ही है।मैंने घबराते हुए दीप्ती की ओर देखा तो वो बोली- हाँ यार दीपिका.

पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ ’फिर मैंने अपना अंडरवियर नीचे से उतारा और अपने 6 इंची लंड के दर्शन करा दिए. और उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया, साथ ही उसके दोनों चूचों को जोर-जोर से टॉप के बाहर से ही दबाना शुरू कर दिया।वो मेरा खुल कर साथ देने लगी थी।मैंने उसके टॉप को उतार दिया, उसने सफ़ेद ब्रा पहनी हुई थी और देर ना करते हुए मैंने उसकी स्कर्ट भी उतार दी और उसको बिस्तर पर उठा कर ले गया।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !मैं उसके पूरे जिस्म पर चुम्बन करने लगा और हाथ से उसकी नाभि को.

फिर मैंने अपने कपड़े निकाल दिए और सिर्फ़ अंडरवियर में उसके ऊपर आकर उसको सीधा किया और उसके मम्मों को चूसने लगा।उसके गुलाबी निप्पलों को चूस-चूस कर मैंने लाल कर दिया और उसके गोरे मम्मों को भी लाल कर दिया।उसके मुँह से लगातार ‘आहह.

टैक्सी 69 बीएफ

अर्जुन को क्यों रोक दिया वहाँ?बिहारी- इतनी भी भोली ना बनो मेरी जान. मैं यही सोचते हुए नाईटी ऊपर करके बुर सहलाने लगी। मैंने जैसे ही बुर पर हाथ रखा. जैसे हम दो शरीर न होकर एक ही हों।कुछ तो सर्दियों का मौसम था तो रात को ठण्ड तो थी ही। पर जब दो जवां मदहोशी से भरे हुए दिल आपस में मिलते हैं.

भाभी जोर जोर से सिसकारियां भर रही थीं, जो कि इस चुदाई के कार्यक्रम को और भी मधुर बना रही थीं. स्वप्नीलला ला थ्रीसम किवा फोरसम करायचे असेल तर तो मला मेजवानीचा मेसेज करायचा, जर कोणी मुलगी त्याच्याबरोबर असेल तर मिठाई तयार ठेव असा त्याचा मेसेज असायचा. मेरी शादी को 12 साल हो चुके हैं, मेरे पति का नाम रोहित है, वो 35 साल के हैं। वो एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। मेरे दो बच्चे हैं, हम दोनों पति-पत्नी एक-दूसरे से बेहद प्यार करते हैं.

और यही वजह थी कि हमने अपने सम्बन्धों में प्यार के आनन्द को चरमोत्कर्ष के उस शिखर को हमेशा प्राप्त किया था जिसकी लोग मात्र कल्पना ही कर सकते हैं लेकिन सम्बन्धों में प्यार की गहराई की कमी की और आतुरता की वजह से प्राप्त नहीं कर सकते.

मधु की चूत फिर से पनियाने लगी और वो जोर जोर से मेरा लन्ड पकड़ के मसलने लगी और बड़ी ही कामुक आवाजें निकालने लगी. तो मैं नीचे बैठ कर उसकी साड़ी के अन्दर घुस गया। मैंने उसकी पैन्टी खींच कर उतार दी और उसकी चूत चाटने लगा। वो भी मदहोश होने लगी थी. उधर से ही रवि ने फोन से एक बड़े से होटल में कमरा बुक किया और मुझे उधर ले गया.

ना तुम किसी को कुछ कहना। हम दोनों सब के सामने भाई बहन बन के ही रहेंगे। अब तुम ही बताओ ऋतु. अब तुम जिगोलो बन गए हो।मैडम ने मुझे पांच हज़ार रुपए दिए।मैं सोचने लगा कि यह कैसी नौकरी। इसके बाद मैडम ने बहुत सी भाभियों और लड़कियों के पास मुझे भेजा। मेरा काम था उन्हें संतुष्ट करना।कैसी लगी मेरी आपबीती, मेल करके जरूर बताना।[emailprotected]. मयूरी बीच में सोती थी क्योंकि पिछले कुछ महीनों से दोनों भाइयों में बातचीत बंद थी.

पर मैंने पूछा- ये क्या है?तो उन्होंने बताया- वाली का कुकांगा।नाम सुन कर मेरी हँसी छूट गई।बातों-बातों में तीनों से हमारी पूरी कहानी अपने दोस्त को बता डाली और जेरोम ने खुलेआम मेरी शार्ट में हाथ घुसा कर चूत के साथ अठखेलियाँ करने लगा। मैं खा रही थी. इसमें मेरा लंड नहीं जा पाएगा।मैंने हँसते हुए हाथ बड़ा कर लंड पकड़ा और अपनी चूत के छेद पर लगा कर कहा- चल अब धक्का दे.

मेर परिवार वालों को शक होने लगा और मेरा घर से आना जाना थोड़ा बंद हो गया. इसलिए उसने इस माँ-बेटी के बीच का अनूठा प्यार को और आगे बढ़ाने की बात सोची. उसने मोटा लंड देखा तो उठा कर बैठते हुए चौंक गई- इत्ता बड़ा होता है ये.

अगली फ्लाइट से दिल्ली आ रहा था।अदिति ने मुझे बताया तो मेरी तो फट कर हाथ में आ गई।फिर हम दोनों ने जल्दी-जल्दी कपड़े पहने और उसने मुझे मेट्रो पर छोड़ दिया और खुद अपने पति को लेने चली गई।तो दोस्तो, एक विवाहित लड़की को चोदने का ये मेरा पहला और छोटा सा अनुभव था। उसके बाद की कहानी फिर कभी।आपके मेल का इंतज़ार रहेगा।[emailprotected].

तभी चाची ने दूसरे तरफ करवट ली।मैंने डर कर हाथ हटा लिया।मेरा लण्ड खड़ा था और उस में दर्द हो रहा था. [emailprotected]देसी कहानी का अगला भाग :ट्रेन में फंसी पंजाबन कुड़ी -2. पर किसे पता था कि कब मेरी यह सीधी सी ज़िंदगी ऐसा रुख़ बदलेगी कि आज मुझे यह कहानी लिखनी पड़ी है।मैं अपनी युवावस्था की दहलीज़ पर था और मुझे जवान होने का एहसास होने लगा था, मन में किसी भी युवती को देख कर मुझे भी उसकी जवानी के आगोश में खोने का मन होता था।मैं हर वक़्त किसी ना किसी लड़की को चोदने के ख्यालों में डूबा रहता था.

वो चल भी नहीं पा रही थी। मैंने उसे उठा कर बेड पर लेटाया और मैं पानी साफ करने जा रहा था. मैंने 18 साल की उम्र से ही जिम जाना शुरू कर दिया था, इसलिए मेरी बॉडी बड़ी आकर्षक है, शक्ल भी देखने में अच्छी है.

तब तारा ने माइक की पैंट उतार दी और माइक का लिंग हाथ में हिलाते हुए कहा- देखो. वो मुझसे गुस्सा थी, इसलिए उसने तुरन्त मेरे लंड को छोड़ दिया और मेरे लंड पर ढेर सारा थूक कर मेरे ऊपर लेट गयी. मैंने ड्रिंक नहीं की थी तो मैंने अन्दर जाकर पैग लगाए और फिर डांस फ्लोर पर नाचने लगा.

बीएफ फुल सेक्सी मूवी

तेरी गांड सच में गजब की है, तेरी गांड ने राजीव का लंड खाया है और उसका पूरा रस भी भरा है.

मुझे लगा कि वो आएगी ही नहीं।फिर मायूसी की सोच लिए जैसे ही मैंने टॉयलेट का गेट खोला. फिर आराम से मारते रहना।पुनीत ने ज़्यादा ज़िद नहीं की और मान गया। उसके बाद दोनों चूमा-चाटी में लग गए। दोनों 69 के पोज़ में आ गए और एक-दूसरे के चूत और लण्ड को चूसकर मज़ा लेने लगे।कुछ देर बाद पायल ने कहा- अब बस बर्दाश्त नहीं होता. कुछ देर बाद पुनीत उसके मम्मों को चूसने लग गया तो पायल सिसकारियाँ लेने लग गई।पायल- आह्ह.

वो बड़बड़ा रही थी- सही करते हो राजा जी … तुम्हीं ने मेरी खुजली का इलाज किया … जल्दी से काम पूरा करो, नहीं तो मैं गली के कुत्ते से चुदवा लूंगी. अगर आपकी ऐसी छोटी-छोटी बात का बुरा मानने लग गयी तो कैसे चलेगा?और फिर वो धीरे से हंस दी… पंखा अभी भी बंद है और गर्मी अभी भी लग रही है. लाइव सेक्सी मूवीमैंने कल्पना करनी शुरू कर दी कि 23 साल से कैसे मुनीर एक मूसल के समान लिंग को अपनी योनि में लेती होगी.

चूत बिना पैन्टी के ही रहने दी। फिर मैं बेड पर बैठ कर कुछ देर पहले बीते हुए पलों को याद करने लगी।मैं भी क्या बेहया बन गई थी. मैंने कहा- ठीक है … पर क्या एक बार दिखाओगी?मैंने घुटनों के बल बैठ कर उसके हाथ चूत से हटाए और देख कर कहा- कुछ नहीं हुआ बाबू देखो.

कुछ मेरी गर्दन से मेरे सीने तक टपकने लगा।मैं समझ गया कि वो झड़ गई है. मैंने नीतू रानी की चूत इतनी बजाई है कि साली जब देखो लौड़ा मांगती रहती है. शीतल की आहें तेज़ हो गयी और उत्तेजना की वजह से उसकी आँखें बंद हो गयी.

आज मैं यहाँ सो रहा हूँ। चाचा को पता भी नहीं है।’मैं उसकी बात सुनकर अवाक रह गई।तभी उसने मेरी चूचियों को मुँह में भर लिया और चूसने लगा।‘आआआअह्ह ह्ह्ह… प्लीज मत करो. वरना वो आने से मना कर देती।मूवी देखते हम दोनों बहुत गर्म हो गए थे, मैंने मूवी देखते वक़्त अपना एक हाथ अंजलि की जाँघों पर रख दिया. मुन्ना अंकल मेरे दूधों को चोदने में लगे हुए थे, राज अंकल मुझे इस तरह से चुदते हुए देख कर बोले- अगर लड़की की चीख न निकली.

मैं भी इसी बिल्डिंग में 8 वें फ्लोर पर रहती हूँ।मैंने जवाब में कहा- कोई बात नहीं.

मैंने अपना हाथ उसकी चूत़ पर रख दिया … तो मुझे झटका लगा क्यूंकि साली ने अपनी चूत चिकनी करी हुई थी. थोड़ी देर बाद मयूरी ऐसे नाटक करती है जैसे उसको अभी-अभी पता चला हो कि विक्रम उसकी चूचियों को ताड़ रहा है.

तुम कहां तक जा रही हो?तो उसने बताया कि उसकी दीदी की तबीयत अचानक खराब हो जाने की वजह से उसे लखनऊ जाना पड़ रहा है और आज उसके पास टिकट भी नहीं है क्या आप मेरे लिए एक बार टी टी ई से बात करेंगे?मैंने हां कह दी और फिर से ईयरफोन लगाकर गाने सुनने लगा।रात के करीब 8:30 बजे थे, और टीटी टिकट चेक करने आ गया था. गांव में उनका मन नहीं लगता था, क्योंकि उनकी पत्नी का देहांत 2 वर्ष पूर्व हो चुका था. वहाँ एक नया ट्विस्ट आपका इन्तजार कर रहा है या यूँ कहो कि एक पुराना राज खुलने वाला है।भाभी की मस्त चुदाई करने के बाद बिहारी बहुत खुश हो गया था.

मेरा नाम कोमलप्रीत कौर है और मैं पंजाब के जालंधर शहर के पास एक गांव में रहती हूँ. क्या हसीन नजारा था।इधर सोनू की चूत में मेरा लंड खचाखच अन्दर-बाहर हो रहा था।यारों. मुझे मुंह खोलने को बोला और मेरे मुंह में लंड डाल दिया तथा ऊपर नीचे करने लगे.

पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ तो सोनी आई फिर हम दोनों ने खाना खाया और वो बर्तन साफ़ करने लगी।अब सोनी बोली- हॉटशॉट. मैंने पूरी तरह से अपने आप को दादा जी की बांहों के हवाले करते हुए आंखें बंद कर लीं और फिर अपनी बांहें ऊपर उठा कर अपने बालों में हाथ घुमाते हुए पीछे की तरफ झुक गयी, जिससे मेरी चूत का दबाव दादा जी के लंड के ऊपर और ज़्यादा बढ़ गया.

दुबई की बीएफ पिक्चर

हाँ इसमें शब्दावली को कुछ बदला गया है ताकि इसको कुछ अन्तर्वासना को जगाने के लिए मसाला आ सके. और वो मात्र दो मिनट में ही झड़ गई।फिर हम 69 की अवस्था में आ गए।क्या बताऊँ साथियों. बड़ी सती सावित्री बन रही है।इस बात को सुन कर मेरी बहन को भी गुस्सा आ गया और बोली- तू अपनी बहन को चोद कर बहनचोद बनना चाहता है.

इस बार मैंने सीधा ही तिलक वाली उस रात का जिक्र करते हुए कहा- पता नहीं उस रात मेरी रजाई में कौन घुस गया था, उसने सारी रात मुझे सोने ही नहीं दिया. मेरे पति की नौकरी की वजह से मुझे कई कई महीने बिना चुदे ही निकालने पड़ते. सेक्सी पिक्चर नंगी वीडियो दिखाएंअपने हाथ से अंदाज लगाया कि उनका लंड बहुत बड़ा और मोटा था; एकदम गर्म था उनका लंड.

’ आईस्क्रीम की तरह चूसने और चाटने लगी थी। वो फिर से गरम होती जा रही थी।अब मैं उसको पलट कर उसकी पीठ पर चढ़ गया और अपना लंड उसकी गाण्ड के पास रगड़ने लगा।मैं बैठकर उसकी गाण्ड के होल में अपना लंड फँसाकर अन्दर डालने की कोशिश करने लगा। लेकिन 2 बार की चुदाई के बाद भी लंड आसानी से अन्दर नहीं घुस पा रहा था। मैं थोड़ा थूक गाण्ड में लगाकर लंड डालने लगा.

थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि वो खुद भी मेरी गांड से अपना लंड हटने नहीं दे रहा था. पर उसका विरोध बहुत कमज़ोर था और मेरे हाथ उसकी पैंटी के ऊपर से उसकी बुर के आस-पास आ गया था।मैं जानबूझ कर वहाँ हाथ नहीं लगा रहा था। ममता अपनी कमर को उठा कर मेरी उंगलियों को अपनी बुर से टच कराने की कोशिश कर रही थी।मैं उसको तड़पा रहा था.

मैं उसे देखते ही रह गया।उसने इशारे से कहा- अन्दर आ जाओ।मैं अन्दर जाकर सोफे पर बैठ गया और वो पानी लेकर आई. फिर हम सब साथ मिलकर नहाए और खाना खाया।मैंने गीत और संजय से विदा ली और आ गया।गीत अब हमसे चुदाई करवा कर काफी खुल चुकी थी, हममें कोई भी शर्म नहीं रही थी और उसे गालियाँ देना और सुनना बहुत पसंद है, गीत को हमारी चुदाई से बहुत ज्यादा मज़ा आया, उसके बाद तो मानो वो चुदवाने के लिए तड़प उठी कि ऐसी चुदाई उसकी रोज़-रोज़ हो।एक दिन गीत का मूड बहुत सेक्सी था और उसने कॉल किया. तो भुला नहीं पाए। मैं अन्तर्वासना को 3 साल से पढ़ रहा हूँ। ऐसा कोई दिन नहीं गया.

पर मैं चुपचाप बैठा रहा और उसके आने का इंतज़ार करने लगा।कोई 5 मिनट के बाद वो आई.

तब तक मेरे हाथों ने उसकी दोनों गोलाईयों को दबोच लिया और उसकी ठोस भरी हुई गोलाईयों को जोरों से मसल दिया, जिससे वो सहम‌ सी गयी. फिर मैंने अपनी बहन की टाँगों को अपने कंधों पर रख लिए और अपने लण्ड को धीरे-धीरे अपनी बहन की चूत पर रगड़ने लगा।मैंने एक ही धक्के में अपना आधा लण्ड अपनी बहन की चूत में उतार दिया. तो उन्होंने कहा- तुम अपना मुँह उधर को करो।मैंने कहा- क्यों भाभी, शर्म आ रही है क्या?वो बोली- हाँ, तुमसे थोड़ी शर्म आ रही है।मैंने पूछा- फिर कैसे होगा?तो कहने लगी- सब्र करो.

बेटे की चुदाई कहानीदर्द की लकीर उसके चेहरे पर दिख रही थी।मैं- क्या हुआ?ममता कराहते हुए बोली- तुम्हारा लण्ड मेरे पति से बड़ा और मोटा है. मैंने कहा- छी नहीं होता, यही तो मजा देता है। मैंने भी तो किस्सी की थी ना तुम्हारी पिंकी को.

5 साल की बीएफ

पर मेरी मंजिल अभी दूर थी। मैंने चुदाई चालू रखी और कुछ मिनट बाद मैं भी झड़ गया. जब हम दोनों बड़ी-बड़ी काली-काली झाँटों वाले नेचुरलिस्ट और जंगली एक-दूसरे से संभोग करेंगे. उसने अपने बूब्स अपने हथेलियों से ढक लिए थे और दोनों पैरों को आपस में चिपटा कर सीधी लेटी थी।उसके बदन पर मात्र एक पैंटी ही शेष थी जो उसकी चूत की रखवाली कर रही थी।‘बड़े पापा.

कहीं बाद में मना न कर देना।इतना कह कर वो अपनी बड़ी से पिछवाड़ी (चूतड़) मटकाते हुए रसोई में चली गई।उसके मटकते कूल्हे देख कर और सोच कर कि वो घर पर अकेली है. बदन कांप रहा था और फटी फटी आंखों से वो मुझे घूर घूर कर देखे जा रही थी. पर आपकी चुदाई में खलल डाल दिया है।तभी उस शख्स ने आवाज दी- नेहा तुम कहाँ हो.

ताकि कुछ भी छूट ना जाए।अंत में एक दिन मैंने हर तरह से सारी तैयारी कर ली।जब मेरे पति शाम को घर आए तो मैंने बहुत बढ़िया से सज-संवर कर एक बहुत ही मॉडर्न ड्रेस पहन कर उनका स्वागत किया। फिर उनके फ्रेश होने के बाद मैंने उन्हें अपने हाथों से खाना खिलाया और उन्हें बहुत प्यार किया और कहा- जान. पर जल्दी से उठे और दोनों ने कपड़े पहन लिए और खराब चादर को बाथरूम में रख दिया।पिंकी ने टेबल पर खाना रख दिया. वो खेलते खेलते मेरे पास आई और मेरे फ़ोन में देखने की कोशिश करने लगी.

अब आया ऊंट पहाड़ के नीचे। ये मर्द समझते हैं कि ये जो चाहे कर सकते हैं तो हम भी किसी से कम नहीं है।कहानी जारी है।[emailprotected]. क्योंकि उसकी चूत पूरी कसी हुई थी और मेरा लण्ड बड़ा और मोटा भी था। मेरा लौड़ा अभी उसकी चिकनी और गुलाबी चूत देख कर कुछ ज्यादा ही फूल गया था।खैर.

उसको लिटा कर उसके ऊपर बैठ जाना और उसको मुर्गा बनाने के बहाने उसका मुँह अपनी जाँघों के बीच दबा देना मुख्य थे। ऐसे कुछ और दिन चला.

उसने कहा- अगर तुम्हें कभी ठंडा पानी या कुछ और चाहिए हुआ करे तो तुम मेरे घर से ले लिया करो. सेक्सी भाभी के सेक्सी फोटोप्लीज़ मेल मी। मुझे फ़ेसबुक में भी ज्वाइन कर सकते हैं।[emailprotected]. সেক্সি বিএফ ফটোलेकिन मेरी पैन्टी कहीं दिख ही नहीं रही थी।आखिर मेरी पैन्टी गई कहाँ. निगाहों से उसके द्वारा मेरी तरफ फेंके गए सवालों के जाल को अपनी निगाहों के जवाब से सुलझाते हुए मैंने हामी भरी.

सच में उन लोगों ने मेरा बहुत ख्याल रखा और जब मैं वहाँ से आई थी तो मेरे अकाउंट में पैसे भी काफी डाल दिए थे.

उसे महसूस हो रहा था कि जिस तरह वह अपने पति को याद कर रही है, उसी तरह मीठानंद भी अपनी पत्नी को बहुत याद करते होंगे. उसके होंठों पर जोर-जोर से चूमा-चाटी करना शुरू किया।अब मैंने सोनी की एक टांग उठा कर खड़े-खड़े ही अपने कंधे पर रखी और फिर लंड डाल कर सोनी की चुदाई करना शुरू कर दी। मेरा लंड इतनी तेजी से अन्दर-बाहर हो रहा था कि सोनी की तो पूछो ही मत. मेरी चूत में गुदगुदी हो रही है और गीला पानी भी निकाल रहा है।अब आगे.

वो मछली के जैसा तड़प उठी और मुझे उल्टा करके मेरे जीन्स की ज़िप खोल कर मेरा लंड निकालने लगी। लण्ड निकालने के बाद जब उसने मेरा खड़ा हथियार देखा. जिसे मैं पूरा चाट गया।मैं उसके ऊपर से खड़ा होकर अपना लण्ड उसकी चूत पर रगड़ने लगा।वो मुझे मना करने लगी और बोलने लगी- प्लीज़ अभी मैं लेट हो रही हूँ. मेरी कामुकता पूरे उफान पर थी तो मैं भी लंड चूसना चाह रही थी तो मैं जीजू का लंड चूसने लगी.

बच्ची बीएफ

मैं जब ट्रेन के अंदर पहुंचा तो देखा की मेरी सीट पर एक बहुत ही खूबसूरत लड़की बैठी हुई थी। उसके बदन का साइज यही कोई 32-30-36 रहा होगा, जो भी उसे देखे … बिना मुट्ठ मरे नहीं रह सकता. और कहा- भाभी आपकी ब्रा का साइज़ तो बहुत बड़ा है।वो हँसने लगीं और कहने लगीं- तुम्हें साइज़ नहीं पता क्या?मैंने कहा- मैंने देखा ही कहाँ है?वो दो कदम और आगे बढ़ कर बोलीं- तो देखकर नाप लो ना. वो अपने आप को छुड़ाने की नाकाम कोशिश करने लगी- छोड़ो मुझे … आह हा हा ही ही … प्लीज़ छोड़ो … मैं तो मज़ाक़ कर रही थी … आई एम सॉरी …हम ख़ूब हंस रहे थे.

मगर दूसरे के घर बन्धन में रहना मुझे अच्छा नहीं लग रहा था, इसलिये मैंने भैया को बताया कि दूसरे के घर रहना मुझे अच्छा नहीं लगता, इससे अच्छा तो मैं रोजाना घर से ही आना जाना कर लूंगा.

मुझसे भी ज्यादा देर ऐसे खड़े नहीं हुआ गया और अब लंड खींच कर उसे पलट जाने को कहा.

क्योंकि मैं यहां पर अकेली रहती हूँ और किसी की कोई रोक टोक भी नहीं होगी. ऐसे ही सबीना भी बिल्कुल मस्त थी, उसने भी अपनी फिगर को मेंटेन की हुई थी. শিল্পা শেঠিइससे तो जरूर इसका लण्ड खड़ा हो गया होगा।फिर मैं सोफे पर बैठ गई और मैं अपने एक पैर को दूसरे पैर पर रख कर आराम से सोफे पर बैठ गई। मैंने जब उसकी तरफ देखा.

और वो ड्रेस चेंज करने चली गई।मैंने देखा कि अनु ने बहुत ही ढीला स्कर्ट और टॉप पहन लिया और आकर मुझसे बोली- मैं सोने जा रही हूँ।तो मैंने कहा- ठीक है जाओ. चलिए।उस दिन तो मुझे ऐसा लगा कि जन्नत ही मिल गई है।उन्होंने कहा- मैं 5 मिनट में रेडी होकर आती हूँ!और जब वो आईं तो मैंने पूछा- चलें?उन्होंने कहा- ठीक है चलो. मगर उनमें जोश ही नहीं आता। कभी-कभी उनका वो थोड़ा बहुत सर उठाता भी है.

क्या तुमको इतनी सेक्सी लगती हूँ मैं?’‘क्यों पिछली बार जब मेरे नीचे सोयी थीं, तो क्या कहा था मैंने तुम्हें?’‘क्या कहा था. पर मैं अभी नहीं झड़ा था, मैंने अपने धक्कों की स्पीड और बढ़ा दी।करीब 5 मिनट बाद मैं भी झड़ गया। मैंने अपना पानी बाहर निकाला और मैं उसके ऊपर ऐसे ही लेट गया।हम दोनों बहुत थक चुके थे.

मुझे एक चुम्बन किया और कुछ देर मेरी बाँहों में पड़ी रही। शायद वो कहना चाह रही थी कि मैं जन्नत में हूँ और वही हाल मेरा भी था।फिर वो चली गई। वो मेरे ज़िदगी की पहली रात थी.

आप सबके मेल से मुझे बहुत सहायता मिलती है अपनी अगली कहानी आप लोगों को बताने में![emailprotected]. मेरे भैया!’और उसने बड़ी ही सेक्सी सी मुस्कान दी।मैंने कहा- लेकिन तुम्हें दो-दो किताबों की क्या जरूरत है? एक रख लो और दूसरी लौटा दो. मेरी चूत पर एक भी बाल नहीं था और जीजू का लंड आसानी से मेरी चूत में अन्दर जा रहा था.

ब्लू सेक्सी पिक्चर वीडियो ब्लू लेकिन अर्चना की चीख निकल गई।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !मैंने हाथ से उसका मुँह बंद कर दिया. तभी सपना शिखा से मिलने के लिए आई और उसने हमारे घर की कॉलबेल बजाई।कॉलबेल सुनते ही हम सब एकदम से घबरा गए और मैं शालू, शिखा और मोनिका को लेकर अन्दर के कमरे में लेकर चला गया और शांति को गाउन पहना कर मेन गेट पर देखने को भेजा, साथ ही उससे कहा- यदि कोई फालतू में परेशान करने वाला हो.

मार्केट से सब्जी ले आ।मैंने कहा- ठीक है।मैं मार्केट गया और सब्जी लाकर भाभी को दे दी।मैं वापिस आने लगा. मैं और मेरी पत्नी दोनों घर पर ही थे, हम आपस में तीनों हंसी मजाक करने लगे. मैं जिनके साथ रहता था, वो काफ़ी यंग और दो साल पहले शादी करके सिड्नी में सेट्ल हुए थे.

अनुष्का बीएफ सेक्सी

भाभी नीचे लैंगिंग्स पहने हुई थी, जिसमें उसकी जाँघें और गांड देखते ही मैं समझ गया कि यह पक्का जिम जाती होगी. मेरा देवर मेरी चूत को सूंघने लगा लगा और मेरी चूत को सूंघने के बाद वो मेरी पेंटी को भी सूंघने लगा. तो हम दोनों के जिस्म की आग हम दोनों को जला देगी।मैं लगातार उसको किस कर रहा था उसकी चूची को दबा-सहला और पिंच कर रहा था। उसके जिस्म की थरथराहट से मुझे पता चल रहा था कि वो पल दूर नहीं.

’वो बहुत जोर से चिल्लाने लगी जबकि अभी आधा लण्ड ही अन्दर गया था।मैंने देर न की और साथ ही लण्ड को हल्का बाहर निकाल कर एक और जोरदार झटका मारा।इस बार मानो पिंकी की तो गाण्ड ही फट गई हो ‘आआआह्ह्ह्ह्ह ह्ह्ह्ह्ह् ह्ह्ह्होईईईई. मैं धीरे-धीरे करूँगा।मैंने उसकी ठुड्डी को पकड़ते हुए उसके लाल-लाल होंठों पर हल्का सा चुम्बन कर दिया।फिर उसको बिस्तर से नीचे खड़ा करके देखने लगा। कोमल लाल साड़ी में मस्त लग रही थी। उसकी कमर उफ्फ्फ्फ़.

उसकी शादी के पहले तक हम दोनों में जो सम्बन्ध था वो पति पत्नी से कम नहीं था और गरलफ्रेंड बॉयफ्रेंड के रिश्तों से काफी ऊपर था.

तब तक काम-ज्वाला ठीक से नहीं जागती।मैंने फिर से उसको चुम्बन करना शुरू कर दिया और कुछ ही पलों में ममता फिर से तैयार हो गई और मेरे लण्ड को हाथ में ले कर सहलाने लगी।मेरा लण्ड पूरी तरह कड़क था. उनको आने में एक-दो दिन लगेंगे।हम लोग चल दिए।उसने मेरा मोबाइल नम्बर माँगा।मैंने पूछा- क्यों?तो उसने कहा- तुम्हारे भैया आ जाएँगे तो तुम्हें फ़ोन करूँगी।मैंने अपना मोबाइल नम्बर दे दिया और हम चले आए।दो दिन बाद रात को ग्यारह बजे एक नए नंबर से फ़ोन आया, मैंने रिसीव किया. तो मैंने देर ना करते हुए उसकी पैन्टी और अपने सारे कपड़े निकाल दिए और उसके ऊपर चढ़ गया। मैंने अपना लण्ड उसके मुँह के पास ले जाकर उसे चूसने के लिए कहने लगा.

ऐसे प्यासी पत्नी को छोड़ कर नहीं जाया जाता। मेरी चूत चुदने के लिए फड़फड़ा रही है। ऐसे में किसी ने मेरी वासना का नाजायज फायदा उठा लिया तो. यह मेरा वादा है तुमसे।तो सपना ने शिखा से मेरा लंड देखने की चाहत की. उसने कहा- ये आप क्या कर रहे हो भैया?मैंने कहा- जो तू पूछ रही है, वही बता रहा हूँ.

कपड़ों में बदमाश लग रहे हो।मतलब मैं भी कपड़े उतारूं?”तो और क्या कह रही हूँ यार.

पाकिस्तान का सेक्सी वीडियो बीएफ: मैं बिस्तर पर साइड में बैठ गया। हल्की-हल्की सर्दी होने के कारण उसने कहा- रजाई में पैर ढक लो. उसको अपनी कामुक माँ की पीठ की त्वचा बहुत ही मुलायम लगी, उसको अपनी माँ को साबुन लगाने माँ बहुत मजा आया, वो बोला- माँ…शीतल- हाँ बेटा?विक्रम- आपकी पीठ तो ढकी हुई है, नीचे साबुन कैसे लगाऊं?शीतल- अच्छा रुक… मैं पेटीकोट नीचे करती हूँ.

फिर मैं संतोष को बाहर बने सर्वेन्ट क्वार्टर को दिखा कर बोली- तुमको यहीं रहना है और जो भी जरूरत हो. अब जब भी मेरा सेक्स करने का मन होता है तो मैं अपनी बहन को चोद लेता हूँ. मैंने उसके दूध मसलते हुए बोला- आज तूने दिल खुश कर दिया जान, देख सामने कैसे तेरी टांगों के बीच में मेरा मूसल घुसा है.

अगले दिन मैंने जाकर अपनी रिपोर्ट जो श्यामा ने बनवा कर दी थी, साइन करके भेज दी और मुझे ‘वेरी नाइस गुड वर्क डन’ के रिमार्क्स मिले.

तो उसका लंड मेरी चूत फाड़ते हुए अन्दर समा गया।मुझे अब अपना होश ही नहीं रहा. तो मैंने कहा- मार्केट में मिलूं?तभी उसने मैसेज किया- यह रस अकेले में पीने का है. वहीं से मेरा फिगर डेवलप होने लगा और बहुत अच्छे शेप पर आना शुरू हो गया था.