बीएफ किन्नर का

छवि स्रोत,इंग्लिश सेक्सी बीपी दिखाओ

तस्वीर का शीर्षक ,

दूसरे का सेक्सी वीडियो: बीएफ किन्नर का, अब मैंने उस कटोरी में से थोड़ा सा शहद सलोनी की बुर पर टपकाया और अपनी जीभ से चाट लिया.

आलिया भट्ट hot

मैंने काउन्टर पर खुद को पति पत्नी लिखा था और उदयपुर से आया हुआ बताया था. फुल वीडियो डाउनलोडसेक्सी भाभी की चुदास भरी बातें सुनने के बाद अब मुझसे भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था.

मैं पीछे बैठ गया और धीरे धीरे साबुन से पीठ को सहलाने लगा।वो बोली- अच्छे से कर. భోజ్పురి సెక్స్ వీడియోमुझे थोड़ी घबराहट हो रही थी क्योंकि अब किसी भी पल वो धक्का लगा सकता था.

भाभी के घर के बगल में एक उन्हीं का एक टूटा हुआ टपरा टाइप का कमरा था, जिसमें फ़ालतू सामान रखा रहता था.बीएफ किन्नर का: मैंने दिल में ही सोचा कि आज तो शायरा की गुलाबी गुलाबी पिंकी को मैं अपने लंड से लाल लाल कर दूँगा … और उसको‌ फिर से अपनी बांहों में कस लिया.

मेरी बड़ी बुआ और मेरी मस्ती जितनी बढ़ गयी थी, वो उतनी ही कमीनी हो गई थीं.यह बात वे बताना नहीं चाहते थे, पर मेरे साथ बातों में खुद ही बता गए.

देवर और भाभी का प्यार - बीएफ किन्नर का

अनिल बहुत स्मार्ट, अंग्रेजी फर्राटेदार बोलने वाला और सलीकेदार नवयुवक था.मैं अपनी चूत वाले हिस्से को उसके मुंह पर रगड़ने लगी ताकि उसकी नाक मेरी चूत से रिस रहे पानी की महक ले सके.

विमला की भावना को समझते हुए मैं उसके ऊपर आकर चुत की फांकों पर लंड के सुपारे को रगड़ने लगा. बीएफ किन्नर का निशि के मुँह में रोनी ने लंड दे रखा था और साथ ही साथ वो उसके दूध को भी दबा रहा था.

मगर दस बीस धक्कों के बाद मेरे वीर्य की धार निकली और उसकी चूत को मैंने अपनी सफेद रबड़ी से भर दिया.

बीएफ किन्नर का?

अपनी गर्लफ्रेंड की गांड चुदाई की कहानी भी मैं कभी आपको जरूर बताऊंगा. फिर रेखा और पूजा बुआ कहने लगीं- तभी तो हम दोनों कहती थीं कि दीदी इतनी फूल कैसे रही हैं और खुश क्यों हैं. पूरा कमरा हमारी ‘आहहह उह्ह स्स्सस्स, जोर से चोदो, फाड़ दो मेरी गांड …’ और थप धप की आवाजों से गूंज रहा था.

आते जाते भी उनकी नजर इसी तरफ होती।फिर तो मैंने भी सोच लिया कि जो होगा देखा जाएगा आज कुछ नया करूंगा. फिर मैं सीधा होकर उसकी टांगों के बीच में आ गया और उसके पैरों को अपनी जांघ पर रखकर मालिश करने लगा. करीब सुबह साढ़े पांच बजे मैं उठी और अपनी नाइटी पहन कर अपने कमरे में आ गयी.

अब मेरा लन्ड फिर से अपने असली रूप में आ गया और वह हिम्मत करके उसको मुंह में लेकर चूसने लगी. मेरे दोनों हाथ मामी की पीठ को सहला रहे थे और मामी मेरे सिर मेरे पीठ को सहला रही थीं. मैंने जैसे ही कमरे में एंट्री ली और दरवाजे से एंटर हुआ, किसी ने मुझे पीछे से दबोच लिया.

बहुत ही खूबसूरत माल बनाया था बनाने वाले ने।मेरी उत्तेजना बहुत बढ़ गयी. दोस्तो, मैं अरमान अपनी गैंग बैंग चुदाई की कहानी का अगला भाग लेकर आ गया हूं.

उसने सूट में मुझे एक फोटो भेजी व्हाट्स एप पर।ये पहली बार था जब मैंने उसको देखा था.

मैंने उसे आगोश में लेते हुए उसके गले, कान, होंठ आदि को चूमते हुए चाटने लगा और उसकी नाईट ड्रेस के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा.

अब मैं तेज तेज ठोकने लगा और लंड झड़ने को हो गया तो मैं चाची की कमर चूमते हुए कहने लगा- मीना मेरी जान आहहह!और मैंने कसकर कमर पकड़ ली और चाची ने भी टांगों को कसकर पकड़ लिया. प्रियंका ने अनामिका के एक चूचे को अपने मुँह में भर लिया … और वो बड़बड़ाते हुए आम चूसने में लग गई. ट्यूब लाईट की दूधिया सफेद रोशनी में उसकी झांटें अलग ही चमक रही थीं.

उसके बाद उसने लंड को बाहर निकाला और एक हाथ से मुठ मारते हुए पंकज के आंडों को उसने मुंह में भर लिया. एक बेटा यानि छोटे मामा दिल्ली में पढ़ते थे और बड़े मामा गांव में ही रहते थे. और लंड बार बार अंगड़ाई तोड़ रहा था तो मैं चाची की चूचियों को पीने लगा.

जैसे ही उसको आभास हुआ कि ये मर्द के हाथ हैं तो वो बोली- कौन है?इतना कहते ही मैंने उसके मुंह में लंड दे दिया और धक्के देने लगा.

मेरे होंठ जब उसके अंडरवियर के पास पहुंचे तो मैं उसके अंडरवियर के उठाव को देखकर हैरान हो गयी. मैं- अरे मेरी जान मैं मदहोशी में था … क्या करूं अन्दर छोड़ने का बड़ा मन था … तो कर दिया. शायरा के हज़्बेंड ने उसके साथ कभी सेक्स किया भी था या नहीं … मुझे अब इस बात पर ही डाउट हो रहा था.

न्यासा ने दरवाजा खोला, तो मेरी और सन्नी का मुँह न्यासा की जवानी देख कर खुला का खुला रह गया. वो- प्लीज़ अब ये दोस्त और प्रेमी का टॉपिक फिर से शुरू मत करो … और जैसे दूसरे लड़के रहते हैं, वैसे रहो, दूसरे लड़के जैसे सोचते हैं, वैसा करो. मैं- सोच रहा था कि ये तुम्हारे कपड़ों में घुस जाएगा, तब बताऊँगा ताकि इसे तुम मुझे निकालने को कहो.

मैंने अपने पर्स से पैसा निकाल कर उसको दिया और बोली- एक दारू का खंबा ले आओ.

मैंने कहा- सिर्फ अच्छा!वो बोली- तो मैं क्या बोलूं अपने पति के सामने … किसी दूसरे मर्द की बढ़ाई करूं क्या … आप भी ना!मैंने बोला- हां मेरी पतिव्रता बीवी. इसलिए मैं उनके साथ बैठ गई।हम लोगों के बीच वाइन पीने का दौर शुरू हुआ और एक एक करते हुए हमने तीन तीन पेग लगा लिया।वाइन खत्म होने के बाद उन्होंने मुझसे और वाइन लाने के लिए कहा.

बीएफ किन्नर का जैक ने अपने लंड का टोपा निशि के गुलाबी गांड के छेद पर रखा और धीरे धीरे अपने लंड को उसकी गांड में डालने लगा. मैं रात होने का इंतजार करने लगा।रात को 11 बजे मैं उठा और घर की दीवार कूदकर निकल गया.

बीएफ किन्नर का अनिल ने पिंकी को कसम दी कि तुम रवि से सेक्स मत करो, तुम पर मेरा अधिकार है. पर सोचने वाली बात ये है कि किसी ने ये नहीं कहा कि किसके घर में रहो.

अगले दिन जब मैं उससे स्कूटी सिखाने ले गया तो मैं अपने साथ कुछ कंडोम के पैकेट भी ले गया.

सेक्सी बीएफ कैटरीना कैफ

अब आगे की होटल रूम सेक्स कहानी:भाभी ने तुरंत उसे फोन लगाया और स्पीकर ऑन करके बात की. हॉट लड़की की वासना की कहानी में पढ़ें कि एक फुद्दू लड़का अपनी गर्म लवर की वासना जगा कर मेरे पास छोड़ गया. उसने मेरी टांगें खुलवा दी थी और वो उनके बीच में था जिससे उसका लंड मेरी चूत पर नीचे ही नीचे टकरा रहा था.

कई बार हम जिस लड़की, भाभी या आंटी के लिए आकर्षण महसूस करते हैं तो उसके साथ असल जिन्दगी में सेक्स करना संभव नहीं हो पाता है. मैंने उसको बालकनी की रेलिंग पर झुका लिया और पीछे से उसकी चूत चोदने लगा. मैं उसकी कसी हुई ब्रा में तने उसके बमपिलाट मम्मों को घूरते हुए उससे बातें कर रहा था.

होटल रूम सेक्स कहानी में पढ़ें कि भाभी ने अपनी सहेली को होटल के कमरे में बुला लिया.

मैं सोच रहा था कि अगर इसका यहां ये हाल है … तो नीचे क्या हो गया होगा. फिर उसके हाथ मेरे सिर पर आ गये और वो लंड को पूरा मेरे गले तक फंसाने लगा. साथ में ये भी सोच रही थी कि मेरे बॉयफ्रेंड के साथ मेरी लाइफ कितनी अलग होती.

[emailprotected]फ्री गे पोर्न स्टोरी का अगला भाग:गे वैडिंग प्लानर की लंड की ख्वाहिश- 3. उसके साथ प्यार करके जो सुकून मुझे आज मिला था, उसकी मैं कभी कल्पना भी नहीं कर सकता था. मेरे घर में आई जवान सेक्सी नौकरानी को देख मेरा मन उसकी चुदाई का हुआ.

फ्री ग्रुप सेक्स कहानी मेरी गर्लफ्रेंड और उसकी होने वाली भाभी की है. इधर मैं उसके पैर की मालिश करता, तो कभी वो उंगली चूत के अन्दर करती … तो कभी अपनी पुत्तियों को मसलती.

फुदकते फुदकते गिनती पंचानबे, छियानबे पर पहुंची तो मैं चौकन्ना हो गया. ये देख कर पहले तो भाभी मुझे चुप करा रही थीं मगर वो जितना मुझे चुप होने के लिए बोल रही थीं, मुझे उतना ज्यादा रोना आ रहा था, जो एकदम नेचुरल था. कुकोल्ड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक जवान कपल ने मुझसे सम्पर्क किया अपने सेक्स जीवन में कुछ नया करने के लिए! हम एक होटल में मिले और …हैलो अन्तर्वासना रीडर्स, कैसे हैं आप सब!अपनी कुकोल्ड सेक्स स्टोरी के साथ मैं आप सबका दोस्त राज एक बार फिर से हाजिर हूँ.

उसकी दुकान जिधर थी, वो जगह कोई घर में काम करने वाली बाईयों की बस्ती लग रही थी.

दूसरों के‌ जैसे मेरे दिल में भी तुम्हारे लिए हवस होती प्यार की जगह … और दूसरों जैसा होता तो तुम भी तो मुझसे प्यार नहीं‌ करती. ये सब आपको दूसरी सेक्स कहानी में लिखूंगा कि कैसे मैंने मामी को लंड चुसाया और उनकी गांड मारी. वहीं पर फोटोग्राफर और क्रिएटिव डायरेक्टर भी उसका इंतजार करते करते परेशान हो चुके थे कि कब वो आए और शूटिंग शुरू हो.

वो अपनी गांड उठाते हुए कहने लगी- आह मजा आ रहा है … तेज तेज चोदो … आह थोड़ी और तेज आ … आ. घर आकर मैं अपने साले की बेटी अनु के ऊपर चढ़ गया और उसे एक बार हचक कर चोदने के बाद सो गया.

फिर चाचा जी ने अपने लंड का सुपारा मेरी गांड पर रख कर दबा दिया, जिससे गुप्प की आवाज आयी और थोड़ा सा लंड अन्दर चला गया. मैं खुद के हाथ पर चुटकी काटने वाला था कि …वो- क्या हुआ … ऐसे क्या देख रहे हो?मैं- ये सपना है या हकीकत?वो- तुम्हें क्या लग रहा है?मैं- लग तो हकीकत ही रहा है, पर ऐसे सपने मैं बहुत देर से देख रहा हूँ … इसलिए यकीन नहीं हो रहा. वो मेरे से खुशी खुशी गले लगी और मैंने उसको थोड़ा कसकर अपनी छाती से सटा लिया और उसकी चूचियां मेरी छाती पर दब गयीं.

आदिवासी सेक्सी बीएफ फिल्म

घर से इतनी दूर तो हम अब आए हैं, जब आपने मेरे साथ यहां आने की हां की, तो मैंने तभी सोच लिया था कि अब मैं आपके साथ अपनी सभी ख्वाहिशें पूरी करूंगी.

राजू चाचा- संगीता मेरी प्यारी भाभी, आज अपने इस देवर से एक बार चुदवा कर तो देखो … मैं आपको खुश कर दूंगा. चाची कती ढीली हो गयी।फिर थोड़ा धक्का देकर अलग हुई और बोली- तु त कती बावलीगांड समझ रहा ह … सांस तो लैन दे।मैं बोला- के करु रुका ना गया।चाची हंसने लगी. कुछ देर बाद मैं हो गया और उसकी टांगों को चौड़ी करके उसकी क्लिट को अपने मुँह में भर कर खींचने लगा.

मामी हंस कर बोलीं- अच्छा पहले ये बताओ कि तुम इतनी जल्दी कैसे आ गए?मैं बोला- मामा बोले कि आज उनका खाना वहीं खेत में ले आओ. उसने अपने घुटने मोड़े और घुटनों के बल बैठ कर मेरे पेट को और नाभि को अच्छे से चाट कर गीला कर दिया. हिंदी में सेक्स कैसे करते हैंतब मुझे लगा कि कहीं ऐसा तो नहीं है कि शायद उसकी मम्मी को भी मेरा लंड पसंद आ गया हो … क्योंकि वो चुदाई देखते समय अपनी चुत सहला रही थीं.

आपने पढ़ा था कि मेरे साले के दामाद कमल ने नई चुत चुदवाने का वायदा किया था. इस सफलता के बाद मैंने फ्रेंडशिप ऐप से कुछ और औरतों को पटा लिया था उनका वर्णन मैं अपनी अगली सेक्स कहानी में लिखूंगा.

वो बोली- अरे फाड़ेगा क्या?मैंने कहा- जब इन दोनों की नहीं फटी तो तुम्हारी कैसे फट जायेगी?वो हेतल से बोली- भाभी, इसने आपकी गांड कैसे मारी?हेतल बोली- बहुत मस्त चोदता है. कमरे में जाते ही मैंने अपने कपड़े उतारे और उसकी साड़ी को एक ही झटके में हटा दी. और मैं एक और बोतल ले आई।उसमें से मैंने पीने से मना कर दिया मगर जॉन्सन बस एक और पैग के लिए जोर देने लगा।चौथा पैग पीने के लिए मैं राजी हो गई और यही मेरी गलती हुई।मेरे चौथे पैग पीने के बाद उन्होंने पांचवा पैग भी बना दिया।अब मैंने मना कर दिया.

दस मिनट तक लंड चूसने के बाद मासी बोलीं- अभय, अब मुझसे रहा नहीं जाता, जल्दी सेचोद दे मुझे. मासूम सी दिखने वाली सलोनी कली से फूल चुकी थी और चूतड़ उठा उठाकर चुदवा रही थी. यह न्यू स्टोरी ऑफ़ सेक्स तब की है जब मैं 18 साल से कुछ महीने ऊपर का हो गया था.

फिर लंड को छेद पर लगाकर ऊपर से तेल गिराने लगा और लंड के धक्के अंदर की ओर लगाने लगा.

मैंने बिना एक पल गंवाए उस प्रीकम को चाट लिया और लौड़े को पूरा गीला कर दिया. मैंने मन में सोचा कि जब डॉक्टर अपने घर का है, तब ये चारों कल भी चोदने को मिल जाएंगी.

जब तक वो आता, मैंने जानबूझ कर अपना दरवाज़ा हल्का सा खोल दिया … इससे उसको मेरे कमरे के अन्दर का सब नज़र बाहर साफ दिख जाता. उसने मेरे लौड़े को देखा और मुझसे नजरें मिलाते हुए मेरे लौड़े को पकड़ कर मेरे लौड़े पर एक जीभ फिरा दी. मैंने भी घर वालों को कहा कि मैं अभी अपनी पढ़ाई करूंगी और कुछ समय बाद शादी करूंगी.

चूत और लण्ड दोनों ही अपने अपने प्रिकम से लेसदार हो कर आराम से एकदूसरे से मिल रहे थे. और मैं … मुझे और कुछ तो आता नहीं था … इसलिए दाल में तड़के के लिए मैं प्याज टमाटर काटने लगा. ये सब हम दोनों ही पहली बार कर रहे थे … लेकिन इसके बारे में हमने इतनी बार बातें कर ली थीं कि जैसे हम दोनों चुदाई में एक्सपर्ट हों.

बीएफ किन्नर का अपनी गर्लफ्रेंड की गांड चुदाई की कहानी भी मैं कभी आपको जरूर बताऊंगा. फिर कुछ टाइम बाद उसने मना किया, तो मैं मान गया और उसने स्कूटी घर की तरफ मोड़ने के लिए कहा.

सेक्सी बीएफ व्हिडीओ देहाती

डेजी चिल्लाने लगी तो मोना ने उसके मुंह में अपनी चूचियां डाल दीं और बोली- राज को इंजॉय करने दे कुतिया. पर क्या करें … लोगों को सच से ज्यादा झूठ पसंद होता है … क्योंकि झूठ से उम्मीद जिंदा रहती है … और सच से सारी उम्मीद ख़त्म हो जाती है. मैंने अपने दूसरे हाथ से भाभी के मम्मों को नाइटी के ऊपर से ही दबा दिए.

मां की इस बात पर मुझे शक हुआ और मैंने उनसे पूछा- इसका क्या मतलब हुआ मां … क्या आप पहले भी किसी और से चुद चुकी हैं. वहां हम दोनों ने अपना पहला सेक्स कैसे किया?हैलो फ्रेंड्स, मैं निलेश इंदौर से फिर से एक बार अपनी गर्लफ्रेंड की कुंवारी चुत की चुदाई कहानी का मजा देने आ गया हूँ. अन्तर्बासनामेरी चूत फच्च्ह फच्च्ह करते हुए झड़नी शुरू हो गयी और मैं हांफते हुए शांत हो गयी.

चटाक करके मेरे बाएं चूतड़ पर एक चांटा मारते हुए उसने उसे लाल ही कर दिया था.

इसी तरह की बातें करते हुए मैंने एक ऑटो रोका और उसी होटल में पहुंच गया. मैं- अब तुम तो ये मानोगी नहीं कि तुम्हें भी मुझसे प्यार है … और न ही ये कि तुम खुद मुझसे बात करने वाली थी, तो मैंने ही सोचा कि चलो मैं ही तुमसे मिलकर बात कर लेता हूँ.

उसने भी चूत को सिकोड़-सिकोड़ कर सारा जूस अपनी चूत में चूस लिया फिर उठकर उसने मेरा लंड पौंछा, अपनी चूत और गांड धोयीं और मेरे पास लेट गयी. गांड में लंड का सुपारा जाते ही मेरी गांड ने हिम्मत कर ली और धीरे धीरे एक एक दो झटकों को फील करते हुए मानवेन्द्र ने कुछ नब्बे सेकंड में पूरा लौड़ा अन्दर कर दिया. मैंने पूछा- तुम इतना अलग क्यों बर्ताव कर रहे हो … जैसे काफी वाइल्ड हो रहे हो … या गुस्से में हो!ऐसा कुछ नहीं है मेरी जान, मैंने बस जो कल रात को शुरू किया है, आज मैं उसी को खत्म करना चाहता हूँ.

मैं भाभी से बोला- भाभी चुप रहो, कोई आवाज सुन लेगा … तो दिक्कत हम दोनों को होगी.

अब वो डर तो रहा था लेकिन लंड एक सेक्सी लेडी के हाथ में जाने पर उसके मुंह से एक उन्माद भरी आह्ह भी निकल गयी थी जो बता रही थी कि उसे कितना आनंद मिल रहा है. मेरा लंड उसके मुँह के हिसाब से काफी बड़ा है, तो वो पिछली बार की तरह पूरे लंड को मुँह में लेने की नाकाम कोशिश करने लगी. प्रियंका मेरे कान में गर्म हवा छोड़ते हुए बोली- जीजू … आह बहुत मजा आ रहा है.

बुलु पिक्चर सेक्सीतब मैंने उसे बताया कि मुझे सब पता है कि वो कैसे सुमन को हमेशा ही चोदने की फिराक में रहता था और मेरी नज़र बचाकर सुमन से इशारे में ही बात करता रहता था. कई बार हम जिस लड़की, भाभी या आंटी के लिए आकर्षण महसूस करते हैं तो उसके साथ असल जिन्दगी में सेक्स करना संभव नहीं हो पाता है.

देसी लड़कियों की हिंदी बीएफ

तो हमने क्या किया?दोस्तो, मेरी कहानी के पिछले भागचूत चुदाई के लिए लंड की तलाश पूरी हुईमें मैंने आपको बताया था कि कैसे मेरे पड़ोसी रोहित के साथ मेरी सेटिंग हो गई और हम लोग लंड चूत का खेल खेलने लगे।अब आगे की पब्लिक सेक्स स्टोरी:चुदाई के अगले दिन रोहित ने मुझे आई पिल ला कर दी. संध्या- उईईई मजा आ गया देवर जी … बस इसी तरह अपनी भाभी की सेवा करते रहा करो … तुम्हें जल्दी ही मेरे भोसड़े से मेवा मिलेगा. अनु गीले कपड़े से लंड को दो बार साफ करके अपनी चूत में लेकर मेरी चुदाई करने लगी.

मैं- क्या आपसे कभी उनका साबका पड़ा!असलम- हां वे मेरे से दो तीन साल बड़े थे, क्या मस्त हथियार था उनका … ऊपर से गांड मारने के एक्सपर्ट उन जैसा कोई शायद ही होगा. वैसे जो कमरा मुझे किराये पर मिला था, उसमें‌ एक छोटा बेड, अलमारी और छोटा-मोटा सामान पहले से ही था. उसकी चूचियों के निप्पल मटर के दाने जैसे कठोर हो गये थे जिनको दो उंगलियों के बीच में लेकर मसलने में मुझे बहुत मजा आ रहा था.

अचानक मेरे पूरे बदन‌ में ज्वार की एक‌ लहर सी‌ उठी और वो‌ लहर पूरे बदन में दौड़ते हुए मेरे लंड पर आ थमी. तो मनीषा बोली- चलो ब्रा पेंटी नहीं उतरेंगी और अजय का बरमूडा भी नहीं उतरेगा. मैंने सूरज का हाथ पकड़ कर उसको खड़ा किया और अपने लाल होंठ उसके होंठों पर रख कर हल्के हल्के किस करने लगी.

कभी कभी गांड पर चटाक पड़ने की आवाज भी आती … और कभी कभी होंठों से होंठों मिलने पर केवल मम मम ममम की आवाज ही दबी रह जाती. इस मौसम में ट्रेन का टिकट तो मिलने से तो रहा, तो मैंने लखनऊ से सीधे शिमला वाली बस का टिकट बुक कर लिया.

पर मैं तब नहीं जानता था।मैंने चाचा जी से पूछा- चाचा जी, यह कैसी अंडरवियर है आपकी?चाचा जी हंस दिए, बोले- यह रियल इंडियन अंडरवियर है.

तभी मैंने क्या देखा कि चाची चारों तरफ देख कर वहीं पेशाब करने बैठ गई. पुसी इनफार्मेशनकभी पीछे हाथ ले जाकर मेरी पीठ और नितम्बों को भी सहलाने लगता।बीच बीच में वो मेरे चूतड़ों को कसकर दबा भी देता था. क्सक्सक्स क्सनक्सक्सचूँकि मैं शीशे में से सब कुछ देख चुका था अतः मैंने कहा- बिन्नी, इस उम्र के लड़के केवल अपना पानी निकालते हैं और भाग जाते हैं; और लड़की को बीच में ही छोड़ देते हैं. साथ में उसने ये भी बताया कि उसके दूध मेरे जैसे खरबूजे जैसे नहीं हैं … या सुरभि जैसे तरबूज नहीं हैं … उसके तो तोतापरी आम जैसे मम्मे हैं.

वहीं रोनित ने उसकी पैंटी को साइड में करके एक उंगली उसकी गांड में डाल दी.

आदमी- क्या अब तक मिला नहीं!मैं- मिले तो बहुत, लेकिन सब बहुत महंगे हैं. मैंने अपने अनुभव और पटाने की कला का प्रयोग करके उस देसी सेक्सी लड़की धीरे धीरे करके पटा ही लिया. फिर मैंने संजू का एक बेहद खूबसूरत फोटो अपने दोस्त के व्हाट्सअप पर सैंड कर दिया.

ट्विंकल ने कहा- ओके … ताश में क्या खेलेंगे?प्रिया ने कहा- स्ट्रिप पोकर खेलेंगे. मेरा जिस्म फड़क रहा था और मेरे चूतड़ अब खुद ही उसके लंड पर रगड़ने के लिए बेताब हो उठे थे. फिर संध्या चाची उठ कर कर राजू चाचा की बगल में अधलेटी होकर उनके बैठे हुए लंड को सहलाने लगीं.

लड़की और कुत्ते की चुदाई बीएफ

क्या बताऊं यार … उन दोनों ने ऐसे गले लगा लिया था कि हमारे बीच में हवा भी पास न हो सके. मैंने लौड़े पर ढेर सारा थूक लगाया और बिन्नी की चिकनी चूत में अपना लण्ड डाल दिया. बड़े दुखी मन से हम दोनों ने एक दूसरे को बाय कहा और वह जाते हुए बोलने लगी- यह मेरी जिन्दगी कासबसे अच्छा सेक्सथा और मुझे गले लगा लिया.

जीभ को गोल गोल घुमा कर जब वो लगभग मेरी गांड में भीतर तक पहुंच गया, तब उसने अपने होंठों से मेरी गांड पकड़ा.

मैं क्रॉस कट वाली छोटी ड्रेस ज्यादा पहनती हूं ताकि मेरे बूब्स मेरी ड्रेस से हल्के बाहर दिखाई देते रहें.

काले रंग की ब्रा उसके गोरे बदन पर कहर बरपा रही थी।उसकी चूचियों का तनाव देखकर मेरे लंड का तनाव बढ़ता जाता था।फिर मैंने उसकी चूचियों को कस कर पकड़ लिया और उसके होंठों को चूसने लगा. मैं उसके साथ ही दोनों टांगें खोल कर बेड के सिरहाने से पीठ लगाकर बैठा था. सेक्सी चोदा चोदी दिखाइएलगभग 15 मिनट ऐसे ही चोदने के बाद मैं बोला- आह कप्पो रानी … मेरा निकलने वाला है.

जब भी मौका मिलता तो मेरी प्यारी बहू मुझे अपनी चूत देकर मेरी प्यास बुझा देती. मुझे लड़कियों के शरीर में सबसे ज्यादा उनके चूचे पसंद हैं और उस पर यदि उनके निप्पल्स बड़े हों, तो सोने पर सुहागा है. मैंने कविता को उठाया नहीं … और जब तक मैं नहा धोकर तैयार हुई, कविता भी उठ गयी.

अनिल ने जल्दी जल्दी धकापेल की और अनिल ने अपना माल पिंकी की चूत में ही निकाल दिया. अब आगे की कहानी:प्रमिला और एकता की चुदाई होने के बाद हम तीनों शांत हो गये थे.

खैर, सबके ऊपर जाने के बाद पिंकी ने चिंटू को जबरदस्ती सुला दिया और अनिल को फोन करके पहले तो आने को मना किया.

मैंने भी बुआ की जांघों पर हाथ रख दिया क्योंकि हम सब इतने सटे हुए बैठे थे कि हाथ रखने की जगह ही नहीं थी. इस तरह सब सैट करने के बाद कमल से मुझे कान में कहा- आप तो चालू हो जाओ … तब तक मैं बाहर सब सैट कर देता हूँ. बिन्नी ने शर्ट के नीचे बहुत ही सुन्दर प्रिंटेड बहुत टाइट ब्रा पहन रखी थी.

नौकर मालकिन मासी ने लंड को सहलाया ओर उसको अपने चूत में सैट करके उस पर सवार हो गईं. कुछ देर तक मेरी चुचियों से खेलने के बाद उसने भी शायद अपना सारे कपड़े उतार दिए थे क्यों उसका खड़ा लंड मेरे होंठों पर लगा दिया.

तुम्हारी जगह कोई और होता, तो एक बार करने के बाद बार बार करने की धमकी‌ भी देता. मैं चाची के घर के बाहर गया और दीवार कूदकर अन्दर गया तो उनके कमरे का दरवाजा बंद नहीं था, हाथ लगाते ही खुल गया।चाची सो रही थी एक ओर करवट लेकर!मैं चुपके से उसके पीछे लेट गया और गांड पर लंड लगाकर गालों पर किस करने लगा. मैंने सामने पड़ी सिगरेट की डिब्बी से एक सिगरेट अभी निकाली ही थी कि एक ने लाइटर आगे कर दिया.

सैमसंग बीएफ

आज से करीब दो साल पहले जब मैं डॉक्टर की परीक्षा के लिए जयपुर में रह कर तैयारी कर रहा था, तो मेरी एक लड़की से बात होने लगी. मैंने अपनी टी शर्ट निकाल दी और उसकी टी शर्ट को ऊपर किया तो उसकी गुलाबी कलर की ब्रा दिख गयी. फिर मैम कुछ नहीं बोलीं और हम दोनों को बगल बगल बिठा कर एक ही कंप्यूटर पर प्रोजेक्ट बनाने को दे दिया.

उसके बाद उसने लंड को बाहर निकाला और एक हाथ से मुठ मारते हुए पंकज के आंडों को उसने मुंह में भर लिया. उसकी चूत ने खूब सारा पानी छोड़ा और मैं उसकी चूत का पूरा पानी पी गया.

पिंकी बोली- मौज क्या हुई होगी … चूत का भोसड़ा बन गया होगा, अगले दो-तीन दिन तो वो सीधे चल भी नहीं पायी होगी.

मैं वासना भरे स्वर में बोला- हाय चाची … एक बार अपनी सेवा करने का मौका तो दो, ऐसी खातिरदारी करूंगा कि मेरी कायल हो जाओगी. मुझे उसके घर के नजदीक जाने में डर भी बहुत लग रहा था, पर हिम्मत करके उधर आ ही गया. मैंने अपने सपने के राजकुमार के साथ बिताए पलों को याद करते हुए धीरे धीरे उंगलियां अपने बदन पर घुमाईं और बदन को मसलने लगा.

कुछ देर बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया, तो मैंने उसके मुँह में लंड डाल दिया. कुकोल्ड हस्बैंड की फंतासी अपनी पत्नी को गैर मर्द की बांहों में देखने की ही होती है. आप समझ सकते हैं कि 23 साल की उम्र की उफनती जवानी में सेक्स को लेकर कैसे विचार आते हैं.

हम पति-पत्नी की चुदाई में जब भी ऐसा वक़्त आता तो मेरे लाख चालाकी करने के बाद भी मेरे स्खलन के समय को वो भाँप जाती थी और मेरे लंड का पानी हाथ से चलाकर ही बाहर निकाल देती थी.

बीएफ किन्नर का: रवि पिंकी को गर्म करने के नए नए प्रयास करता, कई बार रात के अन्धेरे में उसने अनिल को भी बेड पर बुलाया, पर चूमाचाटी और इधर उधर हाथ लगाने के बाद वो किसी न किसी बहाने से पिंकी और अनिल को अलग कर देता. वो मेरी क्लास में आया और बोला- तुम कब आयी?तो मैंने बताया कि मैं तो 07 बजे के करीब आ गयी थी.

मगर जब उसने देखा कि पीछे बूढ़ी औरत थी और मैं उसको जगह देने के लिए आगे बढ़ा हूं तो उसने कुछ नहीं कहा और फिर चुपचाप मुंह आगे करके खड़ी हो गयी. न चाहते हुए भी पता नहीं मुझे क्या हुआ कि मैंने डॉक्टर का हाथ पकड़ा और अपनी चूत के ऊपर फिराने लगी. मैंने सायरा के कंधे पर हाथ रखते हुए कहा- सायरा, मैं हगने जा रहा हूं … अगर तू चाहे तो मुझे शौच करा सकती है.

”बुधवार को सलोनी आई तो मैंने उससे कहा- बाथरूम जाओ, पेशाब करके योनि को पानी से साफ करके आओ.

की पढा़ई के लिए मैंने दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रवेश लिया था।दिल्ली आने से पहले मैं शरीफ सा लड़का था. अब वो थोड़ा डरने लगी, मगर मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और अविना के पैरों से चुंबन लेते लेते ऊपर तक पहुंच गया. अभी लगभग दो ही मिनट हुए होंगे कि उसने अपना मुँह पीछे खींच लिया और मुझे उठा कर खुद अलग खिड़की के पास जाकर खड़ा हो गया.