बीएफ हिंदी चुदाई मूवी

छवि स्रोत,इंडिया सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सी बीएफ एक्स एक्स एक्स: बीएफ हिंदी चुदाई मूवी, उसने अपने खड़े लंड को हाथ में लिया और मुझे उठकर लंड पर बैठने को कहा.

इंडियन हॉट भाभी सेक्स वीडियो

Xxx जिगोलो सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अपनी गरीबी कैसे अपने कड़ियल जिस्म और लोहे जैसे लंड का इस्तेमाल करके खत्म की. सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी आवाज मेंमुझको पता नहीं क्या सूझा, मैंने अपना मोबाइल नम्बर लिख कर उस लड़की की तरफ फेंक दिया.

बस यही मौका देखकर मैंने पूरा जोर लगाकर दो तीन और धक्के कसकर मार दिए और लौड़े को जड़ तक बैठा दिया. चूत में लंड वालीमुझे उस समय इस बात का गुमान ही नहीं था कि वहां मेरा चुदाई का सपना पूरा होने वाला है.

मेरे घर में नेहा दीदी ही बची थीं जिनकी जवानी का रस मैंने नहीं पिया था.बीएफ हिंदी चुदाई मूवी: दीदी कुछ भरे गले से बोलीं- तुम मेरे अलावा किसी और को नहीं देखोगे, भले शादी के बाद अपनी बीवी से कर लेना, पर अभी मुझे ही अपनी बीवी समझो.

लेकिन वो मेरी कोई भी बात नहीं सुन रहे थे, बस लगातार धक्के लगाने में लगे थे.स्त्री या बॉटम पुरुष को उत्तेजना, सेक्स का उत्साह आता है, जब उसकी सुंदरता की तारीफ होती है, तब उसके कपाल, गाल, होंठ, आंख, गर्दन, चुचे, निप्पल, कान के पीछे, चूतड़, कांख, गांड, जांघें, चूत या लंड को चूमा जाता है.

क्सक्सक्स दासी - बीएफ हिंदी चुदाई मूवी

एक दिन दोपहर को मैं क्रिकेट खेल कर घर आया तो देखा भाभी अपने कमरे में सो रही थीं.मैंने उसे आदेश दिया- गुलाम, मेरे लंड को अपनी जन्नत ए जहां का रास्ता दिखाओ.

मेरी बीवी नाश्ता करने के बाद बिस्तर पर लेट गई और अपनी आंखें बंद करके आराम करने लगी. बीएफ हिंदी चुदाई मूवी इससे आंटी एकदम से सिहर उठीं और उसने जोर से मॉम का सिर अपनी चूत में दबा लिया.

उन्होंने बस इतना कहा कि आज शाम को वापस आ जाना … और एक दिन मत रुक जाना.

बीएफ हिंदी चुदाई मूवी?

जिसे देख भाभी एकदम घबरा गई और उनके मुंह से एक वासना भरी आह आह निकल गई. मेरे सामने एक सेक्सी सी कुड़ी 5 फुट 1 इंच की … उसकी 36सी-30-38 की फिगर क़यामत ढा रही थी. मैंने देखा कि राजेश के तीनों दोस्त कार्यक्रम की समाप्ति पर खुश होते हुए जोरदार तालियां बजा रहे थे.

भईया एक प्रावेट कंपनी में काम करते हैं तो उनके पास काम की कोई कमी नहीं रहती है. वो बेडरूम का गेट खोल कर अन्दर घुस गए और मैं भी पीछे पीछे अन्दर आ गया. जवानी के दिनों में मेरे पड़ोस में शर्मा अंकल और आंटी रहते थे, जिनकी उम्र लगभग उस समय 35-36 वर्ष होगी.

मॉम झुक गईं तो उसने मॉम का निप्पल दांतों में दबा लिया और उसे काटने लगा. गांव के बाहर रास्ते में किशोर अपनी साईकल लेकर खड़ा हुआ था, उसने मुझे अपनी साईकल पर बैठाया और अपने खेत की तरफ चल दिया. वो बोला- यार, तेरा लंड तो मस्त खड़ा होता है, फिर भी तुझे गांड मारने की इच्छा नहीं होती, कमाल है?मैं बोला- मेरा लंड गांड मराते समय झड़ता भी है.

गांड मारने के बाद उसने एक बार फिर से अपने लंड का सारा पानी मेरी गांड में छोड़ दिया. कुछ देर रुकने के बाद उसने फिर धक्के मारने शुरू कर दिए और अयाना ने मेरी परवाह ना करते हुए अपना पूरा डिल्डो मेरी गान्ड में घुसा दिया.

इससे भाभी मदहोश होने लगीं और कामुक सिसकारियां लेने लगीं- आह आह … मजा आ रहा है प्रियांश … करता रह!भाभी की ये आवाज सुन कर मैं पागल हो रहा था.

मैंने ऐसा इसलिए किए क्योंकि मैं ज़्यादा से ज़्यादा टाइम वरूण की मम्मी के साथ गुजारना चाहता था.

उसकी तेज होती आवाजें बता रही थीं कि मेरी बहन अब झड़ने के कगार पर थी. सौंदर्य प्रतियोगिता जीतने के पुरस्कार के रूप में सविता को एक हिल स्टेशन पर दो रात का प्रवास मिला।उसके पति अशोक का कहना है कि वह काम में व्यस्त होने के कारण नहीं आ सकता. चाची की गांड अब थोड़ी ऊंची हुई तो मैंने अपने दोनों हाथ चाची की पीठ के पीछे बांध दिए और मैं अपनी गांड उठा उठा कर फिर से धक्के लगाने लगा.

फिर विक्रम ने अपने दोनों हाथों में तेल लिया और मॉम के चूतड़ों पर लगा कर उन्हें जोर जोर से दबाने लगा. अब अंकल ने फिर से पीछे से मुझे बहुत टाइट पकड़ लिया और मेरी काले रंग की कच्छी के ऊपर से मेरी चूत पर हल्का हल्का हाथ फिराने लगे जिससे मुझे एक अलग ही तरह का मजा सा आ रहा था. मैंने उसे आदेश दिया- गुलाम, मेरे लंड को अपनी जन्नत ए जहां का रास्ता दिखाओ.

ये महसूस करके मैं और भी ज्यादा झुक कर झाड़ू लगाती हुई उसे अपने चूचे साफ-साफ दिखाने की कोशिश कर रही थी.

पेलने दो न!”मैंने कहा- ठीक है, मैं लेटी हूँ, तुझे अपने हाथ से जो करना है करो. उसने नीतू को भी लंड दिखाया और मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. इस वक्त मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था और जब नीलिमा मेरी गोद में बैठी, तो उसकी गांड में चुभने लगा.

मैं उसके निप्पल को अपने होंठों में दबा कर खींचता और उसकी आंखों में देखता, वो भी वासना से मुझे अपना दूध पिला रही थी. तो बातों बातों में चाची ने बोल दिया- विकास तुम शादी कब करोगे?मैंने भी मजाक में हंस कर बोल दिया- आप जैसी बीवी मिल जाए तब!इस पर चाची हंसने लगीं. कुछ जरूरत हो तो आ जाना, यहां फोन के सिग्नल थोड़े खराब हैं तो सबके साथ रहना.

जबकि उन तीनों के मुँह से मस्ती भरी आवाजें आ रही थीं- आह्ह … आह्ह … सेक्सी ललिता … आह्ह तेरी चूत … आह्ह … चुदो ललिता … ओह्ह … क्या माल है … आह्ह … फाड़ देंगे आज!कुछ देर के बाद फिर राजेंद्र ने मेरी गांड से अपना लंड निकाल लिया.

उसकी मुलायम छोटी सी चूत में मेरा मूसल जैसा लंड बहुत ज्यादा ही टाइट जा रहा था. दीदी हंस कर बोलीं- क्या तू पूरे कपड़ों में ही सोता है?मैंने कहा- नहीं.

बीएफ हिंदी चुदाई मूवी कुछ देर लंड चूसते के बाद अंकल ने मुझसे कहा- मेरी रानी अब तू तैयार हो जा … कली से फूल बनने के लिए मन बना ले. बाद में हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहने और मैं अपने कमरे में चला गया.

बीएफ हिंदी चुदाई मूवी भाभी ने प्यार से मुझे माथे में चूमा और कहा- बड़े दिनों बाद ऐसा लंड औरयौन संतुष्टिमिली है. दीदी की शादी की उम्र हो चुकी थी पर उनका रिश्ता कहीं नहीं हो पा रहा था क्योंकि उनके पैर में मामूली नुक्स था, उनकी चाल थोड़ी अलग थी.

उस दिन भैया, मम्मी पापा और बहन के साथ मौसी के लड़के की शादी में चले गए थे.

बीएफ वीडियो देखने वाला हिंदी

फिर मैं सोनल के पास चला गया और हितेश भी नैना के पास जाने के लिए तैयार था. लेकिन उनका हाथ वहां नहीं पहुंच रहा था तो मैंने कहा- मैं आपकी मदद कर देता हूं. दूसरे दिन की गिफ़्ट में मुझे क्या मिला और उसे दिन की पूरी कहानी फ्री होकर आप लोगो को बताऊंगा.

वो मेरे बदन से खेलती हुई कब मेरे लंड से खेलने लगी, मुझे पता ही नहीं चला. किसी नौसिखए के साथ सेक्स करने से ज्यादा अच्छा है कि तुम मेरे साथ सेक्स करो. ऐसा कहकर उसने एक ही झटके में अपना पूरा लंड मॉम की गांड में घुसा दिया.

पर मैं ऊपर सरक कर उसके पेट को किस करते हुए नाभि में जीभ घुसाने लगा.

जीभ से चूत चूसने के बाद मैंने उसकी चूत में पहले एक उंगली डाली, फिर दो डाल दीं और उंगली से ही उसकी चूत की चुदाई करने लगा. वो एक काटन का हाउस कोट जैसा गाउन था जिसे आप घुटनों तक आने वाली नाइटी कह सकते हैं. इतने में भाभी दोबारा आ गईं और बोलीं- मेरे पति घर पर नहीं हैं और सास ससुर जी भी नहीं हैं.

शमशुद्दीन नंगे होकर अरुणिमा के मम्मों को मसल रहे थे, अरुणिमा खिलखिला रही थी और शमशुद्दीन जी का लंड अरुणिमा की चूत में फंसा था. तो मैंने कहा- भाभी, माना कि मैंने गलती की आपके बाथरूम में आकर … पर आपने भी बिना बताए मेरे बाथरूम में आकर गलती की है. वीरान जंगल में बस हमारी मदभरी कराहें सुनायी दे रही थीं ‘आह … आह … आउच … अब सब्र नहीं हो रहा जोगी.

अन्तर्वासना या फ्री सेक्स कहानी की साईट पर पाठिकाएं भी बड़ी तादाद में सेक्स कहानी पढ़ने का मजा लेती हैं. उसकी न मना करने वाली मना पर मैं भी समझ गया कि ये भी मूड में आ गई है.

इस बीच वो भी अपना पानी छोड़ चुकी थी।उस ठण्ड में भी हम दोनों पसीने से भीगे हुए थे।दिव्या बोली- सेक्स में इतना मज़ा आता है, मुझे नहीं पता था। अगर पता होता तो मैं खुद हरिद्वार आ जाती तुमसे चुदने! लेकिन दर्द भी बहुत हुआ, देखो कितना खून भी निकला हैं।वो बेडशीट दिखाते हुए बोली. मुझे हटा कर खुद अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत में घुसाने की कोशिश करने लगी. थोड़ी देर बाद भाबी झड़ गईं, फिर भी गांड उठा उठा कर मेरा साथ दे रही थीं.

करीब 20 मिनट के बाद मेरा शरीर अकड़ने लगा और अचानक से मेरे लंड से धीरे धीरे करके सफेद रंग का कुछ तरल पदार्थ निकलने लगा.

उन तीन दिनों में मैंने सेक्सी मामी को दसियों बार पेला और उसके बाद अब जब भी मौका मिलता, मैं मामी को पेल देता. कुछ देर तक बुआ के मम्मों को दबाने के बाद नीलिमा उठी और आकर मेरी गोद में बैठ गयी. आज रात चोदने दो, बदले में हम सब तुम्हें चार पांच और अच्छे काम दिलवा देंगे.

अचानक मेरे हाथ ने भाभी की टांगों के बीच छोटी-छोटी झांटों के बीच कुछ गीला गीला सा महसूस किया. मैडम हंस पड़ी और बोली- साले इतनी छोटी उम्र में इतनी बड़ी बात कर रहा है?मैं बोला- मैडम आप मौका तो दो.

मेरे परिवार में ना पैसे की कमी है और ना ही पारिवारिक खुशियों की!मेरी चार बेटियां हैं जिसमें से दो कॉलेज में और दो अभी स्कूल में हैं. आंटी की ब्रा की पट्टी झलक रही थी।मेरा लन्ड इतना कड़क हो गया था कि मैंने इलास्टिक से निकाल दिया, मैंने सोचा जो होगा देखा जायेगा।आंटी लन्ड को देख के गर्म हो रही थी. दोस्तो, आपको मेरी ये सिस्टर ऐस फक कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करके जरूर बताइएगा.

हिंदी सेक्सी बीएफ जबरदस्ती वाली

मेरा प्यार का नाम प्रिंस है, मैं दिल्ली के पास फरीदाबाद का रहने वाला हूँ.

फिर भी मैं सामने की साईड में एक कुर्सी पर बैठ गई और उन वेटरों की ओर देखने लगी. भाभी ने कहा- सच बताओ क्या देख रहे हो?मैंने कहा- बताऊंगा तो आप बुरा मान जाएंगी!भाभी ने कहा- बोलो तो सही … मैं कुछ नहीं कहूँगी. वो आई और हम दोनों ने पहले एक बार फटाफट वाली चूत चुदाई का मजा लिया और नंगे ही बिस्तर पर पड़े रह कर बातें करने लगे.

मैंने कहा- क्या हुआ मेरी छम्मक छल्लो!वो बोलीं- साले चूतिए … थोड़े धीरे से चोद … मेरी जान निकाल देगा क्या?मैं चाची की बातों को नजरअंदाज करते हुए लगा रहा. स्वाति भाभी बड़ी ही सेक्सी और बहुत ही खूबसूरत माल हैं, तो मुझसे रहा नहीं जा रहा था. देहाती सेक्सी वीडियो xxxमैं उसके हाउस कोट में हाथ डालकर मम्मों को मसलने लगा और एक निप्पल मुँह में लेकर चूसने लगा.

सेक्सी मामी को भी गांड मराने में मजा आने लगा और वो मुझसे चूत मसलने की कहने लगीं. चाची बोलीं- यह सचमुच तुम्हारा लंड है या किसी और का लगा लिया! मुझे तो यकीन ही नहीं होता.

अब मैंने अब भाभी के वक्षस्थल को दबाना शुरू किया ही था कि उन्होंने मना कर दिया. हां, वो होटल का आदमी अभी तो चोद के गया है इसे, उसी का माल अंदर गिरा होगा, इसीलिए गीली है!”क्या तुझे चूसनी हैं इसकी मोटी चूचियां, या मैं चूस चूस के लाल कर दूं?” दीपक ने धीरज को न्योता दिया जैसे मैं दीपक का माल हूं।सर, मेरे निरोध तो रोशनी के साथ ख़त्म हो गए, रुको, मैं इंतजाम करके आता हूं. उन्होंने मुझसे कहा- मुझे वह तौलिया दे दो जिससे मैं अपने आपको ढक लूं.

मेरे बार-बार वंदना के घर जाने से वंदना के मोहल्ले के लड़कों को हम दोनों के ऊपर शक होने लगा था क्योंकि मैं जब भी वंदना के घर जाता था, तो उसके मोहल्ले के लड़के मुझे बेहद शक की नजरों से देखने लगे थे कि वंदना और मेरे बीच में क्या रिश्ता है. अचानक भाभी ने मेरे सुपारे को दांत से हल्का हल्का सा काटना शुरू कर दिया. मैं कमरे में अकेला लेटा था, तभी मेरी बहन पाखी आई और आकर मेरे बाजू में लेट गई.

इमरान- राजेश मेरे यार अब देर मत कर … फाड़ दे इसकी चूत और बना दे भोसड़ा.

तब भी भाभी को वो सन्तुष्टि नहीं मिल पा रही थी जो वो मुझमें खोज रही थीं. उसने बताया- मैंने अपने बेटे को उसकी मौसी के घर पर दो दिन के लिए भेज दिया है क्योंकि मुझे तुमको बुलाना था.

मेरी मोटी मोटी चिकनी जांघों को सहलाते और चूमते हुए मेरी चड्डी के ऊपर से ही उसने मेरी चूत को चूमा और फिर मेरे पेट के पास आकर मेरी गहरी नाभि में अपना जीभ डालकर चूमने लगा. मैं उसको अपना मोटा बड़ा लन्ड दिखाना चाहता था ताकि मेरी मेड सेक्स के लिए राजी हो जाए. लंड पर ज्यादा तेल था, इसकी वजह से सरलता से आधा लंड गांड के अन्दर उतर गया.

मैं ऐसे ही चूत में लंड डाले ही चाची के मम्मों के ऊपर धम से गिर पड़ा. मैं इसी अभिलाषा से दीदी के घर जाया करता था कि किसी तरह से दीदी को देख सकूँ और मौक़ा खोज सकूँ कि दीदी को चोद लूं. गांड मारने के बाद उसने एक बार फिर से अपने लंड का सारा पानी मेरी गांड में छोड़ दिया.

बीएफ हिंदी चुदाई मूवी कहीं कोई छोड़ कर चला जाता है या जिसे मैं चाहती हूँ, उसकी शादी हो जाती है. मैंने भी उससे पूछा- कामिनी तुम्हारा मन नहीं करता क्या?कामिनी बोली- हां करता तो है, लेकिन मैं भी क्या करूं?इस बात पर हम दोनों हंस पड़े और अब इसी तरह से कामिनी मुझसे खुलने लगी थी.

बीएफ मूवी भोजपुरी में

मैं अपना आधा लंड ही आगे पीछे करने लगा पर वो कराहती हुए मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी. गगन मेरे पास आया और बोला- मैडम, तुम तो यार मस्त माल हो, हमारे लंड तो हमेशा ही तुम्हारे जैसे मस्त माल के लिए तैयार रहते हैं. लेकिन उनका हाथ वहां नहीं पहुंच रहा था तो मैंने कहा- मैं आपकी मदद कर देता हूं.

एक ने फिर से मुझे खड़ा करके दुबारा से मेरी गांड में अपना लंड डाल दिया और जोर जोर से मेरी गांड मारने लगा. पायल बोली- तुम्हें मेरी नाभि क्यों पसंद आई है?मैंने कहा- क्योंकि तुम्हारी नाभि बहुत गहरी है और मुझे ऐसी ही नाभि बहुत पसंद है. सेक्स कन्नडअब मेरा लंड चूत की जड़ में जाकर चोट मार रहा था और चूत की मलाई के कारण फच फच की आवाज़ से सारा माहौल गर्मा गया था.

ये न्यूड बूब्ज़ का वाकया पहले मेरे और मेरी बहन की ननद के साथ हुआ था, बाद में बहन ने भी मुझे नहीं छोड़ा था.

प्रिया के मुँह से निकला- आह आह!मैं अपने लंड को एक हाथ में लेकर उसकी चूत में ऊपर नीचे रगड़ने लगा और अपने दोनों पैरों से उसके दोनों पैरों को फैलाकर दबा लिया. नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम सौरव है और यह सेक्स कहानी मेरे जीवन में बीते कुछ हसीन पलों को लेकर है.

मैं भाभी की बड़ी सी चौड़ी गांड पर साबुन लगा रहा था कि मुझे उनकी चौड़ी गांड पर दिल आ गया. एक बार बस में मैंने एक आदमी का लंड पकड़ लिया और उसे मेरी गांड मारने के लिए तैयार कर लिया. इतने में मामी के फोन पर मामा का फोन आया, उन्होंने कहा- आज खेत पर नहीं रुकूँगा.

उसने गर्मी के कारण अपनी सेक्सी नाइटी को घुटने के ऊपर तक उठा दी थी, साथ ही अपनी नाइटी के दो हुक भी खोल दिए थे.

वर्जिन सिस्टर सेक्स कहानी मेरे मामा की जवान बेटी की बुर चुदाई की है. मैं आंटी की चूचियां ऐसे पी रहा था जैसे छोटा बच्चा भूख लगने पर मां का दूध पीता है. मित्रो, मेरी निम्फ़ो यंग वाइफ हार्डकोर सेक्स कहानी पर आप किसी भी प्रकार की राय देने के लिए स्वतंत्र हैं और मेल पर मुझसे संपर्क कर सकते हैं.

રાજસ્થાની સેક્સआपको गरम लड़की की गांड मारने की कहानी कैसी लगी? मुझे कमेंट्स और मेल में बताएं. सामने से रोहित के लंड को कभी चूसती और कभी हाथ से पकड़ कर सहलाती और साथ ही रोहित भी कभी उसकी गर्दन को सहलाता और कभी वहां चुम्बन लेता।इस तरह हम तीनों की चुदाई मस्ती से चल रही थी।आज का दिन हम तीनों के लिए और ख़ास कर ज्योति के लिए यादगार होने वाला था क्योंकि ज्योति आज पहली बार 3सम चुदाई का मज़ा ले रही थी।मैंने रोहित को इशारा किया और उसे पीछे आने को बोला.

स्कूल की लौंडिया की बीएफ

कोमल बोली- लगता है नीतू की शादी तब तक नहीं होगी, जब तक नीतू का जिस्म नहीं भरेगा. आंटी 12 बजे फ्लाइट के लिए रवाना होने के लिए जाने लगीं तो मैंने कहा- आंटी, हम आपको छोड़ देते हैं. पायल की आंखों से आंसू निकलने लगे, पर मैंने उसकी जरा भी परवाह नहीं की.

मैंने उस टाइम सोचा कि इससे सही बात करनी होगी और अपने ऑफिस की सैटिंग भी मिलानी पड़ेगी. मां बोलीं- साले, तुम्हारे लंड के लिए मेरी चूत है ना, जितना मन करे, उतना मेरी चूत को चोद लो … मैं मना करूं तो कहना. खाना खाते खाते आंटी ने अपनी नाइटी का ऊपर का बटन खोल दिया और वो मुझे ललचाने लगीं.

आप लोगों को कैसी लगी मेरी ऑफिसर सेक्स कहानी … कमेंट में जरूर बताएं और अपने अनुभव मुझे मेल पर भेजें. उसके आगे का दृश्य देख कर तो मेरे से भी रहा नहीं गया और मैं भी बाथरूम में जाकर लंड हिलाने लगा. आंटी चुदते चुदते मुझे सिखा भी रहीं थीं, खूब सिसकारियां, कराहटें थी।10 मिनट हो गए, मेरा झड़ नहीं रहा था।पर मैं थक रहा था, मैंने बोला- आंटी मैं थक रहा हूं.

बेडरूम में आते ही बुआ ने नीलिमा को बेड पर धक्का दे दिया, जिससे वो बेड पर जा गिरी. मैं उस वक्त वो सब नहीं करना चाहती थी और उसने भी इस बात को समझते हुए कुछ नहीं किया.

मैंने उससे खुलकर कहा- देखो आज यहां जो भी होगा, उसका पता कभी किसी को नहीं चलने वाला.

मैं उनके सिर को दबाने लगा और जैसे ही हाथ फेरने लगा, वैसे ही मेरा लंड एकदम से खड़ा होने लगा. बाथरूम में नहाती हुईवो भी ब्लू-फिल्म में चार पांच लंड से चुदने वाले वीडियो देख कर एकदम से गर्मा जाती थी और मस्त मजा देती थी. बहन भाई की चुदाई का वीडियोवो मुँह चोद रहे थे, ये इसलिए कह रहा क्योंकि वो लंड चूस नहीं रही थी बल्कि गुरबचन जी अपना लंड अन्दर धकेल रहे थे, जितना उनका मन हो रहा था. फिर उन्होंने उसके दोनों हाथों को पकड़ा और मुझसे बोले- स्वप्निल! इस रंडी के दोनों हाथ तो पकड़ ज़रा.

उसने अपनी सारी जानकारी मुझे दे दी और मुझसे पूछने लगी कि आप गुंजन के क्या लगते हो?मैंने बताया कि गुंजन मेरे पड़ोस की बहन है, मैं आपको गुंजन के पिता जी से पूछ कर फोन करता हूं.

कुछ देर लंड चूसने के बाद भाभी ने कहा- तुम्हारा लंड तो तुम्हारे भाई से काफी बड़ा और मोटा है. या कॉल बॉय अथवा कॉल गर्ल को गुलाम बनाकर उसे तकलीफ़ देकर, पीटकर (बी डी एस एम) के बाद दर्द देकर चोदना चाहता है. थोड़ी देर बाद मुझे ध्यान आया कि आंटी की चूत में दोनों लंड एक साथ डालते हैं.

मैंने एक एक करके सबको समझाया और जिनको आबंटन हुआ था, उनको कॉल करके निर्देश देने शुरू किया. मेरा कहने का आशय यह है कि स्वाति भाभी किसी पोर्न स्टार अश्लील अभिनेत्री की तरह दिखाई देती हैं. उनकी चूची साफ दिखाई दे रही थीं और मैक्सी में से पैंटी के किनारे भी साफ़ दिख रहे थे.

लंदन की बीएफ

सब लोग नशे में मस्त हो गए थे और कुछ देर में मेरा कोल्ड ड्रिंक से भरा दूसरा गिलास भी अब खत्म हो गया थाअब इमरान मेरा हाथ पकड़ कर मुझे डांस फ्लोर पर ले आया. फिर वो थोड़ा पीछे हुआ और मेरी कच्छी में हाथ डालकर मेरी बुर को मसलने लगा. उनके दोनों पांव ऊपर की ओर कर दिए और मैं चाची के दोनों पैरों के बीच में आ गया.

इसका मतलब था कि वो भी पूरी तैयारी से आई थी, तभी उसने बाल साफ किए थे.

वो भी झट से राजी हो गयी और बोली- मैं नहीं, तुम दोपहर के बाद मेरे कमरे में आ जाना.

फिर वो मेरे ऊपर चढ़ कर बैठ गई और बोली- चल आज मुझे चूमने की तेरी बारी है. ये कहकर धीरज चले गए।मुझे लगा था कि अभी कुछ एक्शन होगा, कुछ चूमा चाटी, पर धीरज फुद्दू निकले!मैं थकी थी, सुबह से बस में बैठे बैठे, उंगली करके फ्रेश होना चाहती थी, मेरा मन बिल्कुल नहीं था कॉन्फ्रेंस हॉल जाने का!फिर भी मैं अनमने मन से तैयार हो रही थी. एचडी सेक्सी बीपी वीडियोमुझे बातों ही बातों में सुकेश इतना अच्छा लगा जैसे मैं उसे वर्षों से जानती हूँ.

अब तरबूज चाकू पे था।मैंने देखा कि आंटी की चूचियां डगमग डोल रहीं थीं।10 मिनट बाद मैंने बोला- मैं झड़ने वाला हूं. मैंने मैडम की पजामी के ऊपर से ही उनकी चूत पर हाथ फिराना चालू कर दिया, एक उंगली से उनकी चूत के दाने को रगड़ना शुरू कर दिया. हालांकि एक्स एक्स एक्स भाभी ने चूचे और गांड शब्द का प्रयोग किया तो मेरे अन्दर सनसनी दौड़ गई थी.

फिर धीरे से लंड को चूत के अन्दर ऐसे सरका दिया … जैसे कोई सांप अपने बिल में प्रवेश कर रहा हो. मगर उन्होंने मुझसे ज्यादा कुछ नहीं कहा था तो मैं अब रोज रोज भाभी से बार बार चुम्मी के लिए जिद करने लगा.

मेरा लंड भाभी की चूत को चीरता हुआ गहराई में चला गया और भाभी जोर से चिल्ला उठीं.

चाची अभी भी नींद में थीं और मेरा लंड अभी भी चाची की चुत में ही था लेकिन मुरझा गया था, जिसकी वजह से मैं धक्के नहीं लगा पा रहा था. उनके आने की खबर सुनकर मामी मुझसे अलग हो गईं और हम दोनों बात करने लगे. आज भी मेरे घर और पड़ोस के लोग मुझे इतना शर्मीला समझते थे कि मैं तो किसी लड़की की तरफ आंख उठा कर भी नहीं देखता.

ವಿಡಿಯೋ ಸೆಕ್ಸ್ ಬಿಎಫ್ ऐसे ही एक दिन मैं उनका सामान देख रहा था, उसमे उनकी दो ब्रा और पैंटी मिली।उसपर मैंने देखा साइज़ 38 लिखा था. मैंने लंड बाहर निकाला और गांड के अन्दर तेल की एक पिचकारी मारी और फिर से अपने लंड को एक जोरदार झटका लगा दिया.

दोस्तो, डॉक्टर स्वाति की चूत चुदाई का पूरा मजा मैं इस डॉक्टर सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगा. कुछ देर बाद मुझे होश आया कि मेरी बहन भी इस तरह की ब्लू-फिल्म देखने का मजा लेती है. जिसको पाने के मैं सपने देखता था, वो आज स्वेच्छा से मेरी गोद में बैठी हुई थी.

सागर मधु का बीएफ

भाभी- लेकिन मैंने कभी भी मोटा और लंबा लंड नहीं लिया, मेरे पति का लंड तुमसे बहुत छोटा था, इसलिए डर लग रहा है. अगर सेक्स के लिए राजी हो तो बताओ … वरना जाने दो।उसने कहा कि वो कमरे में मिलेगी, मगर कुछ फालतू नहीं करने देगी. विक्रम ने अपने हाथ से सारा वीर्य मॉम के मुँह पर और चूची पर मसल दिया और अपना हाथ मॉम को दिखाकर बोला- चल कुतिया इसे चाट चाट कर साफ़ कर!मॉम ने साफ़ कर दिया.

वो मेमने जैसी मिमियाई- शमशुद्दीन जी प्लीज और गांड मत मारिये, पहले ही बहुत दुःख रहा है. ये एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता है, जिसके फीचर साधारण व्हाट्सैप से कुछ अलग होता है.

मेरा लंड इतनी स्पीड में चूत के अन्दर बाहर हो रहा था, जैसे एंजिन का पिस्टन अन्दर बाहर हो रहा हो.

उन्होंने मेरी मम्मी को सपरिवार आने का न्यौता दिया और कहा कि आपके भाई साहब (शर्मा अंकल) शादी में एक-दो दिन पहले ही आएंगे. फिर मैं बाथरूम गई और उंगली करके चूत का पानी निकाल कर वापस आकर सो गई. उस फ्रॉक में किनारे की बांहें नहीं थीं जिससे उसकी गोरी और भरी हुई बांहें मेरा लंड अभी से हिला रही थीं.

दूसरे दिन जब मैं घर से बाजार जा रहा था, उसी बीच पायल मुझे उसके घर के बाहर दिखी. मैं भी नीचे वाले रूम में कंप्यूटर पर गेम खेल रहा था।आंटी ने मुझे कहा टांड से सामान उतारने को!अब वो दुपट्टा उतारकर मेरे साथ काम में लग गईं।उनकी क्लीवेज साफ दिख रही थी जब वे झुक कर कुछ उठाती तो दोनों चूचियां एकदम चिपकी हुई नजर आती थी।आंटी की चूचियां इतनी बड़ी थीं कि ब्रा में नहीं समाती थी. एक मिनट बाद आंटी बोलीं- आज तुझे तेरे अंकल का काम करना है, करेगा ना!मैंने सर हां में हिला दिया.

अब आंटी की ब्रा का हुक खोलते ही मैं पागल हो गया क्योंकि आंटी के गोरे गोरे बड़े टाइट चूचे और उनके बीच में गोल-गोल गुलाबी गहराई बड़ी कामुक थी.

बीएफ हिंदी चुदाई मूवी: मैं उसकी आवाज सुनकर हैरान हो गया कि इसको कैसे पता चल गया कि मैं दरवाजे पर खड़ा होकर उसे देख रहा हूँ. और वह उसकी चूत में और तेज धक्के लगाने लगा और झंडने लगा। उसने भी वीर्य की एक-एक बूंद मेरी वाइफ की चूत में निकाल दी।इस बार उनके चुदाई का कार्यक्रम लगभग एक घंटा चला होगा।मेरी वाइफ बहुत थक गई थी तो वह मुझसे सोने के लिए कहने लगी.

अब तुम्हारी पैंट में हाथ डाल कर अंडरवियर के ऊपर से ही तुम्हारे लंड को पकडकर हिलाने की कोशिश कर रही हूं. लेकिन मेरे पास जीबी व्हाट्सएप था तो मेरे पास से मैसेज डिलीट नहीं हुआ. कुछ देर के बाद भाई ने मुझे धक्का देकर नीचे कर दिया और मेरे ऊपर चढ़ गया.

मेरी चाची लव स्टोरी में पढ़ें कि होटल रूम में चाची को खुल कर चोदने में हम दोनों को बहुत मजा आया.

उन्होंने मुझे इशारे से बुलाया और कहा- स्वप्निल, तुम अभी अन्दर मत ही जाओ, अन्दर प्रोग्राम चालू है, बाकी तेरी मर्जी. सब लोग नशे में मस्त हो गए थे और कुछ देर में मेरा कोल्ड ड्रिंक से भरा दूसरा गिलास भी अब खत्म हो गया थाअब इमरान मेरा हाथ पकड़ कर मुझे डांस फ्लोर पर ले आया. मगर वो आगे बोले- अरे यार, ऐसा बोलना पड़ा कि तुम अपना रसूख बनाए रखने के लिए ये कर रहे हो और तुम्हें भी इसलिए हिदायत देकर गए हो.