बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए

छवि स्रोत,सेक्स वाले फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स गर्ल सेक्सी: बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए, एक दिन मैं उससे मोबाइल पर बात कर रहा था तभी मैंने उससे कहा- मैं तुमसे मिलना चाहता हूँ.

जापान गर्ल्स

उसने टॉवल ऊपर करके पहले तो उसकी जांघों से नीचे एड़ियों तक की मालिश की और रीना से सहयोग मिलता देख कर उसकी जांघों से बगल में उसकी चूत तक भी हाथ फिर आया. कॉल गर्ल फोन नंबरमैं आंटी के दूध से खेलने लगा, आंटी की नींद खुली तो उस समय मैं आंटी के दूध पी रहा था.

फिर मैंने अपनी टी-शर्ट उतार दी, वो मुझे पागलों की तरह किस किए जा रही थी. भाभी की सेक्सी फोटोपिंकी- ऐसा क्या अच्छा है मुझ में?मैं- सब कुछ है टीचर, ऊपर से नीचे तक सब कुछ मस्त है.

मैं और भाभी पास में ही खड़े थे तो मेरा शरीर उनके बदन को टच कर रहा था.बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए: वैसे तो कमरे की लाइट बंद थी मगर बाहर से हल्की रोशनी अन्दर आ रही थी और उसने सुमन की चुत एकदम चमक रही थी.

वो टीना और फ्लॉरा बहुत मजाक उड़ाती हैं न मेरा, अब उनसे आगे निकल जाऊंगी मैं.मैंने उन दोनों से बोला तो उसके 2 दिन बाद सुबह मेरे घर आये मैंने उन्हें अंदर बुलाया.

तारक मेहता का उल्टा चश्मा सेक्सी वीडियो - बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए

पर चाची शायद इसके लिए तैयार नहीं नहीं थीं, उन्हें एक झटका सा लगा और उन्होंने मुझे अलग किया और बोलीं- ये क्या कर रहे हो?पर उस वक़्त मैं उनकी किसी बात को सुनने में मूड में नहीं था.इस वक्त टीना भी अब चुदाई के चरम सुख का मज़ा लेना चाहती थी तो उसने जाने को कह दिया.

मेरी कामुकता मेरे दिलो दिमाग पर हावी होने लगी, मैंने भी अपने चूतड़ ऊपर नीचे करने शुरू कर दिए. बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए पर कुछ पलों के बाद ही बुर के रस से लंड भीग गया और… मैं सुकून से लंड पे उछलने लगी, मेरी चूचियाँ भी रिदम में उछल रही थी.

फिर भी वो डरा नहीं और उसने मेरी गांड की छेद पे किस किया और फैला कर देखने लगा.

बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए?

वैसे काफ़ी पवित्र दिन होता है इसलिये मैं भी मंदिर गया, पूजा अर्चना की और दशहरे के चल रहे समारोह में भी हिस्सा लिया. फिर 6 या 7 ज़ोर के झटकों में मेरा लंड अन्दर घुस गया मगर उनकी चुत फट गई थी, उनको दर्द हो रहा था. मैं उसके पास चला गया, उसे बेड से उठाया और कसके पकड़ कर उसे किस करने लगा.

ये बहन, बीवी, माँ, साली, चाची, बुआ आदि इत्यादि रिश्ते तो इंसानों की बनाई हुई बकवास बातें हैं, जो ना मुझे पसंद हैं और ना मैं मानता हूँ. सच बता तूने कभी अपनी चुत का पानी निकाला है क्या?नीतू- नहीं दीदी कसम से मैंने कभी नहीं निकाला. तो दोस्तो मैंने भी सोचा कि क्यों ना मैं भी अपनी सेक्स स्टोरी आपके साथ शेयर करूँ.

सुमन ने अपनी मजबूरी बता दी और वहाँ से निकल गई, उसके जाने के बाद टीना और फ्लॉरा ने एक-दूसरे को शांत किया. अदिति बेटा तुझे कच्चे केले की सब्जी बहुत अच्छी लगती है ना?” मैंने उसकी चूत को लंड से धकियाते हुए पूछा. मैं रुक गई और अनु ने मुझे वहीं नीचे लिटा कर मेरी चुत को ऐसा चूसा कि मैं तो एक बार निकल गई.

फिर मैंने अपने लंड को एक झटका मारा और रागिनी की चूत में पूरा लंड पेल दिया. अब जब वो मान गई है तो मेरे साथ करना जरूरी नहीं है ना… और वैसे भी मैंने आपके साथ जो भी किया उसकी असली वजह यही थी कि आप संतुष्ट हो जाओ बस.

मैं अपने कमरे पर जाने लगा तो आते वक्त वैशाली ने मुझे जोरदार ‘किस’ किया.

जब वो चलती हैं तो उनकी गांड ऊपर-नीचे होती है और चुचे थिरकने लगते हैं.

और हाँ तूने वो कपड़ों के साथ रात में पहनने के लिए वो नाइट ड्रेसिज ली थीं ना. हाय… साले के डोले उसे उठाने पर काफ़ी फूल गये थे और लग रहा था कि अब उसकी शर्ट फट जायेगी और मज़बूत भुजायें आज़ाद हो जाएँगी. अब वो भी अपनी गांड उठा-उठा कर मेरा लंड अपनी चुत में ले रही थीं मौसी ‘उउईईई उउह उफ्फ़.

दीदी ने कहा- डिनर कर लिया?तो मैंने कहा- हाँ दीदी, मैंने डिनर कर लिया. कुछ ही देर मैं वो मेरे पूरे लंड को मुँह में अन्दर तक ले कर चूस रही थी. गुलशन जी ने पहले तो उसकी जाँघों को चूमा-चाटा, उसके बाद वो सीधे चुत को चूसने में लग गए.

अतः मैंने अपनी फोरस्किन को कई बार आगे पीछे करके सुपाड़े को तेल से और चिकना किया और बहूरानी की गांड पर रख कर उनकी कमर कस के पकड़ ली और लंड को ताकत से धकेल दिया गांड के भीतर.

फिर उसने नाश्ता बनाया और बताया कि उसकी सहेली अपने परिवार के साथ 3 दिनों के लिए ऊटी गयी है और आज वो अपना पूरा दिन मेरे साथ बिताना चाहती है. सुमन- ये तो अपने बहुत मस्त आइडिया लगाया है मगर आपसे एक बात कहूँ, आप बुरा तो नहीं मानोगे ना!पापा- अरे तेरी किसी बात का मुझे बुरा नहीं लगता, बोल क्या बात है?सुमन- पापा वो मेरी फ्रेंड्स है ना… वो आपसे करने को रेडी हो गई है. मैंने भी पीछे देखा कि वो लोग सो रहे थे तो मैंने फिर से हाथ रखा, इस बार उसने नहीं हटाया और मैं उसकी जाँघों को सहलाने लगा.

ऐसा मज़ा तो पहले कभी भी नहीं आया मुझे!” बहूरानी बोली और अपना हाथ पीछे ला कर केले को चूत में और भीतर तक घुसा लिया और अपनी गांड पीछे की तरफ करके धक्कों का मजा लेने लगी और बहुत जल्दी झड़ने पे आ गयी. मैं बोला- लंड को किस नहीं करोगी?वो बोलीं- जब तुम कर सकते हो तो मैं क्यों नहीं कर सकती. मैंने भी गर्म लोहा देखकर सही वक़्त पर हथौड़ा मारा और मेरा पूरा का पूरा लंड एक ही झटके में चूत में उतार दिया.

अब बस मेरी इच्छा रत्नेश राजपूत के लण्ड की थी।क्या मेरी यह इच्छा पूरी हो पायी.

मैंने शहज़ाद की एक उंगली को दबाया तो वो समझ गया और उसने मेरी चूत में पहले एक, फिर दो और फिर तीन उंगलियाँ डाल दी. उसको चोद कर 3 बार ठंडा किया, तब कहीं जाकर संजय के लंड ने पानी उगला.

बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए मगर किसी भी ऐरी गैरी के लिए तुम मुझ पर ऐसे चिल्ला कैसे सकते हो?संजय- चुप करो टीना. कल बैंक से लौटते में मैं तेरे साथ जाऊँगी और जरुरी सामान ले आयेंगे, बाकी सामान अगले सन्डे को ले आयेंगे.

बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए अभी तक आपने पढ़ा कि हम दो सहेलियां थाईलैंड के न्यूड बीच पर मस्ती करने आई हैं. जैसे ही लंड अन्दर गया… वैसे ही उसकी जान बाहर आ गई, वो जोर से चिल्ला उठी- प्लीज़ सैम प्लीज़, लंड बाहर निकालो… बहुत दर्द हो रहा है.

जब उसने मुझे इन्वाल्व देखा तो वो बहुत उत्तेजित हो गया और सैफिना के मुंह में ही छूट गया.

ब्लू फिल्म सेक्सी हिंदी सेक्सी

अब वो बहुत उत्तेज़ित हो चुकी थी और उसकी चूत कोजरूरत है एक लौड़े की… उसने मॉंटी को चुत चाटने से मना कर दिया- बस मॉंटी अब रुक जा, अब तुझे असली मजा देने का टाइम आ गया है. हम रात के लगभग 11 बजे तक चैट करते रहे जब उसके मम्मी पापा सो गए, तब उसने कहा- आ जाओ. सच में बहुत टेस्टी हैं भाभी!भाभी मेरी बात सुन कर मुस्कुरा उठी और फिर पकौड़े खाने लगीं.

यह कहते हुए पप्पू ने नीता की टाँगें खोलीं और उसकी चूत सहला कर नीचे झुका और नीता की चूत चाटने लगा. एक दिन की बात है, मैं जब ऑफिस से काम पूरा करके घर जा रहा था तो बस स्टैंड पर मैंने सुमन को देखा वो शायद बस का इंतजार कर रही थी. 2 फुट है, मेरे लंड की लंबाई 6 इंच है, जो किसी चुत को चोदने के लिए एकदम परफेक्ट है.

उसने मुझसे कहा- मैं आपको बहुत मानती थी भाई, पर आप ने मेरा विश्वास तोड़ा है.

गुलशन- चल अब तू लेट जा, मैं तुझे सुला देता हूँ और वो तुझे चींटी ने किधर काटा था, वो भी देखता हूँ. तभी चिंटू सिंडी की निप्पल को दांतों से काटने लगे क्योंकि उसके मम्मे को कोई खास थे नहीं, वो भी मजे से उसके निप्पल को चूसने और काटने का मजा ले रही थी. मैं तो दिल ही दिल में खुश हो रही थी कि अब मेरा काम कुछ दिनों में पक्का हो जाएगा और फायनली मुझे भी लंड मिल जाएगा.

जैसे ही पप्पू का लंड चूत से निकला तो ‘पाप’ की आवाज़ हुई और लंड निकालने के बाद चूत में वीर्य बाहर बहने लगा. अब मैं खड़ा हुआ और उसको बेड के किनारे तक ले आया और वहीं खड़ा हो कर उसकी चूत में लंड डाल दिया. मैंने बोला- तो फिर घर से क्यों आ गई?तो उसने मुझे किस करना चालू कर दिया.

ताकि ना तुम छूकर पता कर सको, ना देख कर, समझी!सुमन- पापा इस सबकी क्या जरूरत है मैं हाथ नहीं लगाऊंगी और सच्ची में आँख भी बंद रखूँगी, प्लीज़ ऐसे ही करते है ना. विनय रीना के पीछे ही लेट गया, रीना ने पीछे हाथ कर के उसके शॉर्ट्स में से उसका लंड पकड़ लिया, विनय ने उसके मम्मे दबोच लिए.

तो मनोज बोला- अच्छा जी, सोच लो!मैंने कहा- सोचने की क्या बात है, मैं कह रहा हूँ न, चाहो तो सोनिया से पूछ लो यार. बिना ब्रा-पेंटी की वो सेक्सी नाइटी मुझे पहनाना चाहते हो ताकि मेरे मज़े खुल कर ले सको. रितु दीदी ने पूछा- गांड कैसे मारते हो?मैंने बताया कि जैसे लड़का लड़की की बुर में अपना लंड डाल कर अन्दर बाहर करता है, वैसे ही हम लड़के गांड में लंड घुसेड़ कर अन्दर बाहर करते हैं और गांड में ही झड़ जाते हैं.

यह देख कर मुझसे रहा नहीं जा रहा था, मैं झट से पैन्ट के ऊपर से मामा जी के लंड को मसलने लगी, मामा जी कुछ नहीं बोल रहे थे शायद वे भी यही चाहते थे कि अब सब कुछ मैं ही करूं और मेरी भी इच्छा पूरी हो जाए.

अतः मैं बहूरानी की चीत्कार, रोने धोने को अनसुना करके यूं ही स्थिर रहा और उसकी पीठ चूमते हुए नीचे हाथ डाल कर उसके बूब्स की घुन्डियाँ मसलता रहा और उसे प्यार से सांत्वना देता रहा. वो कमर थोड़ी ऊपर करके अब पप्पू का पूरा लंड चूत में ना लेते हुए बोली- हाँ… हाँ… तुझे मजा आ रहा है भड़वे! पर तेरे लौड़े से मेरी हवा बिगड़ने लगी है. आंटी बोलीं- बोलो क्या चाहिये तुमको?उस दिन मैंने भी बोल दिया- मुझे प्यार चाहिए.

अमन की बात करते ही सविता भाभी को अमन के लंड की याद आ गई और वो उसके साथ चुदाई की कलाबाजियों में खो सी गईं कि किस तरह अमन उनके मम्मों के बीच में लंड फंसा कर उनकी चूचियों की मसाज करता है. मैंने सोचा शायद मम्मी बाजार से आ गई हैं, लेकिन मम्मी नहीं, दीपिका आई थी.

चाची बेड की पुश्त पर अपनी पीठ टिका कर लेट गईं और थोड़ी ही देर में उन्हें नींद आ गई. मैं जानता था कि औरत जब पूरी हीट पर आ जाये तो उसे बड़े ही एहितयात से टेक्टफुल्ली संभालना होता है; इसी पॉइंट पर पुरुष की सम्भोग कला और धैर्य का इम्तिहान होता है. एक तो इतने दिनों से वो चुदी नहीं थी और फिर आज अपने पापा का हाथ सीधे चूत पर लगा तो बस उसकी चूत को बहने का मौका मिल गया.

एक्स वीडियो टू हिंदी

आराम से चूसो उफ्फ आह…काफ़ी देर तक गुलशन जी अपनी बेटी के मम्मों को चूसते रहे.

शाम को मेरी ने इंटरकॉम पे कॉल करके हमें जगाया। कुछ ही देर में वो हमें मसाज के लिए ले गयी. अभी तो आपसे विदा लेने का वक़्त आ गया है तो दोस्तो जल्दी से कमेंट्स दो ताकि आगे के पार्ट में आपको बताऊं कि इनके नहाने के बाद क्या हुआ था. मैं मोनिका को बस देखता रहा उसके लंबे काले बाल जो मुझको बहुत पसंद हैं.

मैंने उसे नहीं छोड़ा, उसने अपनी छाती और मुँह बेड पर टिका दिया और चुदते हुए तरह तरह की आह… आह… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह… मार दिया जालिम… फाड़ दी मेरी चूत… एक ही दिन में 7 साल की कसर निकाल दी. नानी ने मुझसे भी चलने को कहा, तो मैंने मना कर दिया क्योंकि मुझे बाबा-शाबा पसंद नहीं हैं. चोदा चोदी वीडियो दीजिएउसकी चूचियाँ मेरे छाती से दबी थी, मेरा लंड उसकी चूत को छू रही थी और हम एक दूसरे की पीठ को सहला रहे थे.

उसकी बात सुन कर मेरी आँखों से अश्रु निकल आये और मैंने कहा- मुझे खुद नहीं मालूम कि मैंने कहाँ जाना है. आप सबके मुझे बहुत ख़ुशी है कि आपके मेल से मुझे जानकारी मिलती है कि आपको ये कहानी पसंद आ रही है.

लेकिन मुझे बड़ी गलावट आ रही थी… शायद रतना के साथ की चुदाई का कारण था. हम दोनों के बीच में हमारे रिश्ते को लेकर काफी बातें भी हुईं जिसमें नतीजा यह निकल कर आया कि वो अपनी सेक्स की प्यास बुझाने के लिए मेरे साथ भले ही दोस्ती जैसा रिश्ता निभा रहा था लेकिन उसके दिल में मेरे लिए एक सॉफ्ट कॉर्नर भी था जिसको वो अपने मुंह से स्वीकार नहीं करना चाहता था. वो जोश में आता गया और वो नीचे से अपने लंड को तेज़-तेज़ ऐसे पेलने लगा, जैसे मेरी चुत में हंटर मार रहा हो.

शोभा ने सविता भाभी की बात मान ली और वो उनके घर की चाभी ले कर चली गई. जाँघों को सहलाता हुआ मैंने अपने धीरे-धीरे अपने होंठ उसकी बुर के ऊपर रख दिए और उसकी चिकनी चमेली और गोरी बुर पर चुम्मा कर लिया. गाँव के सरपंच ने उसके साथ बुरा काम किया था और उसको मारकर खाई में फेंक दिया था.

सुमन की चुत से भीनी भीनी खुशबू आ रही थी, जो गुलशन जी को और पागल बना रही थी.

मॉंटी- ठीक है दीदी, आप कह रही हो तो ट्राइ करता हूँ मगर मुझे अभी भी कुछ समझ नहीं आ रहा है. गोपाल की बात सुनकर साधु ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और ज़ोर ज़ोर से झटके मारने लगा.

मैं- वो चुदाई के बारे में कैसे जानती है? उसने किसी को चुदाई करते देखा है. मैं भी उसकी चुत से बाहर पानी में ही झड़ गया और मैं संगीता के ऊपर ही गिर गया. मैंने भी झटके लगाने बंद कर दिए।उसकी चूत से गरम गरम खून मेरे लंड से होता हुआ उसकी जांघों पर बहने लगा। मैं उसके ऊपर लेट गया.

जब मुझे लगा कि अब मैं झड़ने वाला हूँ, तो मैंने लंड निकाल कर उसकी गांड के ऊपर पूरा माल उड़ेल दिया. अंकित मुझे किस करने लगा अपनी बाहों में मुझे लेकर… वो मुझे किस कर रहा था, मैं भी अंकित का साथ दे रही थी. सोडे की दो बोतलें, ड्राई फ्रूट्स, टमाटर प्याज का सलाद और नीम्बू सजे थे.

बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए हेलो! सभी को पायल मेहरा का नमस्कार!दोस्तो बहुत कहानियाँ पढ़ी, बहुत मजा आता है जब किसी की बिस्तर की दास्तान सबको पढ़ने को मिलती है. मम्मी-पापा फिर गाँव गए और वहाँ पता चला कि उसके ससुराल वाले उसे अब रखने को रेडी नहीं हैं तो वो गाँव में ही अपने घर पर ही अपने बच्चे के साथ रहने लगी.

बीएफ वीडियो साड़ी में

सैफिना ने मेरी तरफ़ देखा और बोली कि उसे अच्छा नहीं लगता और उसने कभी चूसा नहीं है. मैं किचन में ऐसे ही नंगा ही लंड हिलाता हुआ चला गया और दीदी को पीछे से जाकर पकड़ लिया. वह मजे से आह… उह… मार दिया जालिम… चोदो मेरे राजा… चोदो… मिटा दो आज मेरी चूत की प्यास… आह… आज असली मजा आया है.

उन्होंने मुझे धक्का देकर दूर किया और कहा- ये क्या कर रहे हो?उस वक्त तो मुझे होश ही नहीं था. मैंने उससे मजाक किया- चोर कहीं की, चोरी-चोरी क्यों देख रही थी, क्या कभी देखा नहीं है, चल आ तुझे दिखाऊं!मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और बेडरूम की तरफ ले जाने लगी. छोटी लडकी चुदाईतभी राहुल को एक शरारत सूझी और वो उनके पीछे से उनकी गांड पर अपने अगले हिस्से से ठोकर मारने लगा और जब उसका लंड थोड़ा खड़ा हुआ तो उसने पैंट के ऊपर से निशाना लगा कर गांड के पास दे मारा, जिससे वो पलट कर खड़ी हो गईं.

तू जिस हिसाब से मेरी बात माने बिना भीड़ में ब्लाउज खोलने लगा… तभी मैंने फ़ैसला कर लिया था कि तुझे अपने साथ आने को कहूँगी.

जैसे ही पूरा लंड उनकी चुत में अन्दर गया, वो छटपटाते हुए मुझे मारने लगीं. आज बाप-बेटी में वासना का खुला और नंगा खेल हुआ जिसमें लंड चुत की खुल कर चुसाई हुई.

हमेशा मेरी नज़र उसकी माँ के ऊपर रहती थी क्योंकि उसकी माँ मालती भी ग़ज़ब की माल है. मेरी बहन ने मूतना स्टार्ट किया और सेम टाइम पर मैंने भी स्टार्ट कर दिया. आज किसी बात की जल्दी नहीं थी, ना किसी का डर था, फ़ोन स्पीकर पर डाल कर अपने पास रखा हुआ था.

इस बारे में मेरी पिछली नोन वेज स्टोरीरशियन लूडो और ग्रुप सेक्समें पढ़ें!भाई राजू संग तो हम तीनों एक ही घर में रहते ही थे, इसके साथ-साथ कभी एंड्रयू, तो कभी किसी और के साथ हम अपनी जानेमन को अक्सर चोदते रहते थे.

फिर उसने मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए उसने मेरे कपड़े उतारते ही मेरा लंड मुंह में ले लिया. नमस्कार दोस्तो, मैं अन्तर्वासना की कहानी काफी दिनों से पढ़ रही हूँ, मुझे यहाँ कहानियां पढ़ने में बहुत आनंद आता है इसलिए सोचा अब अपनी भी सच्ची कहानी लिख कर आप लोगों को मजा दूँ. वो लड़के लोग तो यह भी कहते हैं कि इस नवरात्रि में हम माँ-बेटी उनके मोहल्ले में जा कर उनके डाँडिया लेकर डाँडिया खेलें.

लङकी फोटोदो नंगी औरतें किसी आदमी के दोनों तरफ लेटी हों तो 80 साल के बूढ़े का भी मन मचल जाए और यहाँ तो हम तीनों भरपूर जवान थे. फिर 6 या 7 ज़ोर के झटकों में मेरा लंड अन्दर घुस गया मगर उनकी चुत फट गई थी, उनको दर्द हो रहा था.

एक्स एक्स नई

रितु दीदी ने पूछा- मैं नंगी कैसी लगी?मैंने कहा- जैसा मैं समझता था उससे कहीं ज्यादा खूबसूरत. मैं उसका इंतजार कर रहा था, उसके स्लीपर में जाने के बाद मैं चढ़ा और अब शराफत छोड़ कर मैं उसकी तरफ ही सर कर के लेट गया. पर क्या एसा नहीं हो सकता कि हम दोनों बगल बगल लेट जाएँ और तुम बारी बारी से हमारी मसाज कर दो.

उसका पियक्कड़ पति बिस्तर पर नशे में धुत्त पड़ा सोया रहता और हम फर्श पर या सोफे के ऊपर ही चुत चुदाई का खेल खेलते. मैं उसके चूचों को हाथ से मसलने लगा, उसके और होंठों पर किस करने लगा. तभी रोस्टन ने सिंडी की चूत से लंड को बाहर बाहर निकाला और वो मेरी चूत को चोदने के लिये आया और मेरी चूत को चोदने लगा.

लेकिन अब सहा नहीं जाता, अब गांड चाटने को मत बोल, अभी मेरी चूत चोद डाल. उसी समय मैंने अन्तर्वासना पर आरती जायसवाल की एक रियल चुदाई कहानी पढ़ी. जब मैंने चाची को देखा तो उन्होंने एक अजीब सी स्माइल पास की और मैंने भी उसका रिप्लाई उसी स्माइल के साथ किया.

मैंने तुम्हारी चुत में अपना लंड घुसाया तो तुम्हारी चुत ने मेरे लंड को अपने खून का टीका लगाया और मेरे लंड से शादी कर ली. एक दिन की बात है, मैं जब ऑफिस से काम पूरा करके घर जा रहा था तो बस स्टैंड पर मैंने सुमन को देखा वो शायद बस का इंतजार कर रही थी.

मैं चाची की तेज आवाज सुन कर एक दम से उठा और इयर फोन निकाल कर चाय के लिए हाथ बढ़ाया.

आप लोग यकीं करो या ना करो मगर सत्य यही है कि यह मेरी सच्ची कहानी है. साड़ी वाली भाभी की फोटोउसने हाथ में लिया और लंड से बोली- साले उस रात मुझको दर्द देकर खूब मजे लिए थे. बुर के फोटोजैसे ही हम एक झुग्गी में घुसे तो पाया कि रिया और उसका साथी भी वहीं मौजूद थे; रिया घुटनों के बल खड़ी होकर उसका लंड चूस रही थी. मैं उसे किस करके नंगा अपने कपड़े उठा कर ड्राइंगरूम से होता हुआ अपने कमरे में आ गया और नंगा ही बेड पर सो गया.

लगभग 20 मिनट के बाद उसने एक जोरदार धक्का मेरी चुत में मारकर अपने लंड से पिचकारी छोड़ दिया.

फिर मैंने उसे बेड पे लिटा दिया और उसके दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख कर लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा. मैंने एक जोर का शॉट मारा और मेरा लंड उनकी गांड फाड़ता हुआ पूरा अन्दर घुस गया. नीता की नाभि चूस कर पप्पू अब उसकी जाँघें सहलाते हुए धीरे धीरे नीचे होने लगा.

मैंने अपनी एक उंगली भाभी की फुद्दी में घुसा दी और उनकी चूची चूसने लगा. उसके बाद मैंने तबेले में बंधी गाय का दूध निकाला, तरुण को चाय-नाश्ता करा कर खेतों में भेजा और उसके बाद पूरी हवेली की सफाई करी, वरुण को नहलाया तथा खुद भी नहाई. हाए!साली तू तो अपनी कुँवारी ननद से भी खरा माल निकली!सुमित मस्ती में लंड चुसवा रहा था.

सेक्सी ब्लू पिक्चर दिखाएं हिंदी में

इसलिए 10 मिनट उसको उसी पोजीशन में चोदने के बाद मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया और फिर से उसकी चूत चाटने लगा. फिर 5 मिनट बाद मैंने उसे घोड़ी बनाया और पीछे से लंड उसकी चुत में डाल दिया. मम्मों को दबाती थी साथ में मेरी उंगली भी तुम्हारी चूत में डलवाती थी.

जहां हम रुके, वो कोई चिंटू का ही परिचित था और मैं पहले भी उनके साथ उस घर में रुकी हूँ तो कोई प्रॉब्लम भी नहीं थी.

सुमन- हाँ पापा, मैंने भी नहीं सोचा था कि मैं आपका लंड सह पाऊंगी मगर बाद में बहुत मज़ा आया मुझे.

कुछ ही क्षणों में जब तरुण का लिंग तन गया और उसका लिंग-मुंड भी त्वचा से बाहर निकल आया तब मैंने तरुण की ओर देखा तो पाया कि वह जाग चुका था और मुस्करा रहा था. भैया ने किसी वहशी के जैसे मेरी एक चुची को हाथों में भर लिया और मसलने लगे. डाउनलोड्स ओपन करनाफिर उस दिन के बाद से हम दोनों कॉल पर बात करने लगे और देर तक बातें करने लगे.

वो रतना का आखरी दिन था क्योंकि दूसरे दिन वो अपने नाना जी के घर जाने वाली थी. मैंने अपने राइट हैड से उसकी एक टांग को ऊपर किया और साइड से उसकी गांड पे जोर का थप्पड़ मारा- साली. अब वो चुदाई की उम्मीद से मुझे देख रही थी, वो कुछ नहीं बोल रही थी पर उसकी आँखें उसकी चूत का हाल ब्यान कर रही थी.

मैं- अगर तू जैसा मैं कहता हूँ वैसा नहीं करेगी तो मैं तुझसे कभी बात नहीं करूँगा. अपना सीना ऊपर करके पप्पू के हाथों में अपने मम्मे भर कर रूपा एक चुदक्कड़ बिल्ली की तरह झट से पप्पू का लंड पकड़ कर अपनी चूत पे सटा कर खुद ही अपनी कमर ऊपर नीचे करती हुई लंड अन्दर डालने की कोशिश करती हुई बोली- आआहहहह… उम्म्म अब मुझे चैन मिलेगा भोसड़ी के… ले मैंने चूत पे लंड रख दिया, अब तू मेरी गर्म चूत में बिंदास हो कर अपना लौड़ा डाल दे.

कुछ लोगों को तो इतना मज़ा आने लगता है कि वो तो गांडू हो जाते हैं और गांड मारने कि जगह गांड मराना ही पसंद करने लगते हैं.

वो थोड़ा शर्माते हुए उठने लगीं तो मैंने उनका हाथ पकड़ते हुए बिस्तर पर लेटा दिया और उनके पास बैठ गया. दोनों ने साथ में खाना खाया उसके बाद गुलशन जी ने एक छोटा पैकेट सुमन को दिखाते हुए कहा- ये है वो काम. फिर मैंने उसे बेड पे लिटा दिया और उसके दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख कर लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

एक्स एक्स एक्स पिक अपने होठों से लगाई हुई बोतल उसने मुझे भी पिला दी जिसे मैं अमृत समझ कर पी गया. पर रीना बोली- अव्वल तो विनय इधर आएगा नहीं और आ भी गया तो तू तो कह ही रही थी कल कि सील विनय से तुड़वाऊँगी… तो अब क्या हर्ज है… और देख लेना अगले महीने तेरी भी शादी हो जाएगी कुशाग्र के साथ.

वो तो मानो पागल हो गई थी, उसने अपने पांवों से मेरी कमर को जकड़ लिया और अपने हाथ मेरी पीठ पर कस लिए. मैंने देखा कि अनु ने अपनी आँखें बंद कर ली हैं, तो मैंने धीरे से उसके लंड पर किस की. दोस्तो, आपने मेरी इस चुदाई कीदेसी स्टोरीमें अब तक पढ़ा कि मैंने अपनी चचेरी बहन अनुराधा की टांगों में अपना लंड फंसा कर साथ बैठ कर खाना खाया, उसकी साँसें बहुत तेज चलने लगी थीं.

duur सेक्सी

हम दोनों पानी में ऐसे ही लेट गए, इसके बाद करीब 15-20 मिनट बाद संगीता को होश आया और मुझे अचानक धक्का देकर पानी के टब से बिल्कुल नंगी बाहर निकली और अपनी नंगे शरीर को तौलिया से ढक लिया. पहली बार में ही इतना माल निकल गया था जैसे अब मेरी टंकी खाली हो गई हो. कुछ देर के लिए हम दोनों ऐसे ही लेटे रहे; फिर वह मेरी छाती से उतर कर साइड में आ गई.

और गांड भर गई है, लगता है तेरा बाप रूपा की गांड में पेलता होगा ज्यादा. वह मान गई और उसने मेरा फोन नम्बर ले लिया व अपना नम्बर मुझे दे दिया.

अब मुझे चाची के जागने का कोई डर नहीं था तो मैंने टीवी चालू ही रहने दिया और अपने बनियान और लोअर उतार कर पूरा नंगा हो गया और बेड पर चढ़ गया.

उसको समझाने लगा कि होनी को यही मंजूर है, तू छोटी थी तब भी तो मेरे सामने नंगी घूमती थी तो आज नंगी होने में क्या दिक्कत है. मैंने अपना लौड़ा साली की चूत के साथ टच किया और धीरे से एक झटका लगाया और अपने लौड़े का टोपा नेहा की चूत के अन्दर ऊपरी हिस्से में फिट कर दिया. मेरे लंड ने उसकी चुत में पानी की जो बौछार करी कि वह हवस की मारी मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

मेरी गांड फट रही थी कि साली पता नहीं कहाँ ले जाएगी, क्या करेगी, पुलिस वाली तो नहीं होगी ना. मैंने नताशा का उससे परिचय कराया तो रुस्लान ने उसका हाथ चूम कर अभिवादन स्वीकार किया. लेकिन मैंने अपनी जिज्ञासा की प्यास को धीरज का पानी पिलाना जारी रखा.

लंड पूरा घुस चुका था तो मैं थोड़ी देर रुका रहा और उसके मम्मों को चूमते हुए निप्पलों को चूसने लगा.

बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए बीएफ दिखाइए: मेरे चोदू भड़वे, जी चाहता है कि आज रात की सुबह ही ना हो, तू ऐसे ही पेलता रहे मुझे रात भर. फिर बहुत हिम्मत करके अपना हाथ उसके पेट पर रखा और वो नहीं हिली, तो मैं अपना हाथ बढ़ा कर उसके चूची पर ले गया और चूची के ऊपर रख दिया.

मैंने वैसा ही किया, मामा का पूरा लंड मेरी चूत में समा गया, मेरी मुँह से चीख निकल गई- हाय!मैं गांड को धीरे धीरे ऊपर नीचे करने लगी. थोड़ी देर चुप रहने के बाद वह बोला- मुझे आशा है की कम से कम उनमें से कुछ कपड़े तो अब तुम्हारे और वरुण के पहनने के काम आ ही जाएँगें. अब आगे:मेरा चोदू देवर मुझसे कहने लगा- भाभी, तुमने भैया से भले ही बहुत बार चुदवाया है लेकिन तुम्हारी चुत मेरे लंड के लिए किसी कुंवारी चुत से कम नहीं थी.

रुस्लान बोला- अगर वो चाहे तो काफी पैसा कमा सकती है क्योंकि हमें ऐसी ही शानदार लड़की की तलाश थी.

मैंने नेहा को एक चुम्बन किया और उसके कान में बोला- आज तो तेरी चूत को चाट चाट कर साफ़ करूँगा साली, बस खोल कर तो दिखा…नेहा भी गर्म थी, क्योंकि पहले उसकी चूत में उंगली की वजह से भी वो गर्म थी. मैंने वैसा ही किया पर मुझे ये समझ नहीं आया कि शहज़ाद करना क्या चाहता था. गोपाल की बात सुनकर साधु ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और ज़ोर ज़ोर से झटके मारने लगा.