बीपी बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,ज्यादा बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगी बीपी सेक्सी वीडियो: बीपी बीएफ सेक्स, मैंने जोर जोर से उसके होंठों को चूसना दिया, उसको भी कुछ कुछ होने लगा था.

सेक्सी वीडियो बीएफ एचडी चाहिए

दो मिनट के बाद उसने जब लंड को बाहर निकाला तो उसकी लार से पूरा लौड़ा चमक उठा था. कैटरीना सेक्सी बीएफ वीडियोआज मेरे साथ मजे करते हुए शायद मेरी साली को भी इस बात का अहसास हो रहा होगा.

तभी दीपा के आने की आहट हुई तो उसने टिश्यू छिपा लिया और अपनी प्लेट में नाश्ता परोसने लगा. हिंदी बीएफ खेत कीकुछ ही पलों के बाद भाभी की साड़ी उतर गई थी और वो लाल पेटीकोट में थी.

बेबी रानी चिल्लाई- कुतिया, तू चुद क्यों नहीं लेती आज … राजे यह बहनचोद अभी तक कुमारी है … मेरे साथ हुई चार बेवफाइयों से डर के साली बॉयफ्रेंड ही नहीं बनाती … बता साली पच्चीस साल की हो गयी और अभी तक बिनचुदी पड़ी है … राजे आज चोद दे इस माँ की लौड़ी को.बीपी बीएफ सेक्स: मेरा नाम रजनी है और में मुंबई में रहती हूं, मेरी उम्र 27 साल है और मेरी लम्बाई 5’7″ है.

इधर मैंने भी मौके का फायदा उठाते हुए उसकी बीवी को अपनी गोद में उठा लिया और उसको आलिंगन करने लगा.पर कॉलेज का माहौल देख कर मेरी कभी हिम्मत ही नहीं हुई कि किसी लड़की को पटा सकूँ.

काला बीएफ वीडियो - बीपी बीएफ सेक्स

वॉयलेट खुश होते हुए बोली- पक्का?मैं- अरे हां … इसमें कौन सी बड़ी बात है.अब आप अनुमान लगा सकते हो कि 6 फिट की ऊंचाई वाली औरत और उसका इतना भरा हुआ बदन होगा, तो वो औरत कैसी लगती होगी.

कई बार माल में ट्रायलरूम में कभी ब्रा में या कभी बिना ब्रा के देखा तो था पर हरकत कभी नहीं हुई. बीपी बीएफ सेक्स कोई 10-15 धक्कों के बाद मैंने अपना सारे पानी की एक एक बूंद उसके अन्दर निकाल दी.

प्रिन्स के धक्के तेज हो गये, नीता जल्दी जल्दी 3-4 बार झड़ती चली गई पर प्रिन्स का नहीं हो रहा था.

बीपी बीएफ सेक्स?

क्योंकि हम पार्क में काफी अन्दर घुस कर बैठे हुए थे … इस बात से सबा भी निश्चिंत होकर मेरे साथ लगी हुई थी. महेश ने अपना लंड हाथ में पकड़ा और उसका मोटा सुपारा ज्योति की चूत के मुँह पर टिका दिया. पहले तो उसने मना किया, लेकिन दुबारा कहने पर थोड़ी देर लौड़ा भी चूसकर गीला कर दिया.

उसको समझाते हुए मैं बोली- देखो, तुमने ही मुझसे सब कुछ सच बताने को कहा था. आपका प्यार मिलता है तो मैं फिर से अपना एक्सपीरियंस लिखने के लिए मजबूर हो जाता हूं. मां बोली- तू उसी की बात कर रही है ना वो जिसके साथ तुमने सोनम चाची पकड़ी थी, उसी का भान्जा है न वो?मैंने हां में मुंडी हिली दी.

उसकी बड़ी बहन की शादी तो जैसे तैसे कर दी है उसकी मां ने लेकिन अब वो तुम पर हाथ साफ करने की कोशिश कर रही है. फिर ऐसे ही मैंने लंड फंसाए फंसाए ही उसे अपने ऊपर गिरा लिया और उसकी बगलों को चूमने चाटने लगा. मैंने चाची को भाभी के लंड देखने वाली बात बताई और कहा- वो जाते जाते मुस्कुरा कर गई थीं.

मेरे पति ने अपने मोटे लंड से मेरी चूत को ऐसे ठोका कि मैं पांच मिनट में ही झड़ गई. एक बार तो मुझे ऐसा लगा कि कहीं पड़ोस वाली भाभी ही तो नहीं है! मगर फिर सोचा कि ऐसा संयोग मेरी किस्मत में कहां कि मेरी पड़ोसन सेक्सी भाभी ही मुझे मेल करे.

क्या गजब की पीस थी यार!उसने दो ग्लास निकाले और टेबल पर रखे दारू के ख़ज़ाने में से भर दिए.

हालांकि एक दूसरे की हालत किसी से छिपी नहीं थी, फिर भी खुल के सामने आना हर किसी के वश की बात नहीं होती.

वो दाने को छेड़ने से ही चिहुंक उठी थी, जब मैंने दाने को दो उंगलियों की मदद से मींजा, तो उसकी वासना चरम पर पहुंच गई. फिर उन्होंने कहा- ये किताबें लाता कहां से है तू?मैंने कहा- मेरे एक दोस्त से. अब तो उससे वीडियो चैट करके लंड हिलाने का भी मौका नहीं मिल पा रहा था.

इस दौरान जिस लड़की को जिस लड़के के साथ रात गुजारनी है वो उसके कान में ‘आई लव यू’ बोल देगी और अपना कोटेज नंबर बता देगी. फिर उन्होंने आकर टिश्यू से मेरा चेहरा और बूब्ज़ साफ किये और साथ लेट गए मेरे!थोड़ी देर बाद मैंने अपने कपड़े पहने और उन्होंने मुझे मेरे घर छोड़ दिया. मैंने हामी भरते हुए लंड को चूत में पेलने के लिए मोना के मुँह से निकाल कर हिलाया.

उसके बाद के दो तीन दिनों तक व्यवस्था को ठीक करने और समीक्षा चर्चा, हंसी मजाक और खर्च का हिसाब करने में निकल गया.

दोस्तो … आप विश्वास नहीं करोगे मुझे इतना मजा आ रहा था कि चाची जी मुझे मुट्ठी मारते हुए देख रही थीं और साथ के साथ अपने चूचों को भी रगड़ रही थीं. क्या ग़ज़ब कोठी थी, दोनों अंदर गये। वहां पर एक नौकरानी पहले से ही मौजूद थी. मैंने अपनी बहन को मेरे ऊपर लेटा दिया और अपने हाथ उनकी दोनों तरफ से पीछे ले जाकर उनकी चुत को थोड़ा चौड़ा कर दिया.

ये एक 8 सीट वाली कार थी, जिसमें पीछे 4 लोगों के बैठने के लिए सीट होती है. मैं अभी लंड पेलने की कोशिश ही कर रहा था कि तभी लंड अपना रास्ता ढूँढते हुए गुफा के अन्दर चला गया. फिर पापा ने एकदम से मेरी चूत पर लंड को लगा दिया और मेरी चूत में लंड को घुसेड़ दिया.

ओह माय गॉड … उसकी बड़ी बड़ी और मोटी-मोटी चूचियों को छूने का एहसास इतना हसीन और मस्त कर देने वाला था, जिसे लफ़्ज़ों में बयान करना मुश्किल है.

अब परमीत थोड़ा उठकर लंड को अलग-अलग तरीके से चूमने चाटने और चूसने लगी. आशीष बोला- अगर तुम सच कह रही हो तो मैं वादा करता हूं कि अगर तुम कोठे पर भी बैठी होगी तो मैं तु्म्हें अपना लूंगा.

बीपी बीएफ सेक्स वो तो जैसे झटका देने लगीं और मेरे बालों को पकड़ कर अपनी चूत को मेरे मुँह पर लगा कर गांड से धक्का देने लगीं. मैं इस वक्त उस किरायेदार के लड़के के बारे में सोच रही थी क्योंकि मैं उसको पसंद करती थी.

बीपी बीएफ सेक्स मैंने मनु के घर से अपनी साइकिल उठाई और सीधे घर जाकर अपने कमरे में घुस गई. मैंने भाभी के होंठों का रसपान करते हुए, उनकी कठोर हो चली चुचियों को जी भर कर चूमा.

आदी- ये क्या है?उसने मेरे हाथ से सजा लिया हुआ गिफ्ट ले लिया और खोलने लगा.

बीपी सेक्सी व्हिडिओ पिक्चर

उसको गुदगुदी हो रही थीवो बोली- दीदी इनको रुकवा दो, बड़ी गुदगुदी हो रही है. फिर मोसी दर्द से तड़फने लगीं, तो मैंने लंड को वैसे ही रोके रखा और उन्हें किस करने लगा. आपसे निवेदन है कि कहानी में जिस महिला पात्र का जिक्र किया गया है उनकी सभी जानकारी गोपनीय रहेगी.

फिर मैंने उसे रोकते हुए शराराती अंदाज में कहा- अब जो भी होगा, वो शादी के बाद होगा मयूर जी. चूंकि बेटे का पहला जन्मदिन था तो श्वेता ने जाते ही मुझे गले से लगा लिया. मैंने उससे कहा- अब मुझसे नहीं रहा जा रहा है … प्लीज़ तुम मुझे कुछ करो.

इधर अपनी बहू की कामुकता भरी हरकतों को देखकर मेरा लंड हिलौरें मारते हुए टनटना चुका था.

रोहन- वैसे जान तुम्हारी चुचियों का साइज क्या है?सोनिया- अंदाज करो … तुमने तो आज बहुत अच्छे से फील किया था?रोहन- हम्म्म्म … 38??सोनिया- ओह्ह्ह जानू तुम तो आसपास भी नहीं पहुंचे … किसी दिन खुद माप लेना. मैंने अपने हाथ से उसका मुँह बंद कर दिया और एक और झटका दे मारा, तो मेरा आधा लंड चुत में चला गया. पूजा- राज हटो, मेरे दर्द हो रहा है सश्सस आह …मैं एक जिंदा लाश सा उसके जिस्म के ऊपर से तस से मस न हुआ.

मैं उसको किस करने सामने आ गया और उसके होंठों के करीब अपने होंठों को कर दिया. मुझे विश्वास हो गया था कि अब चाची मेरे लम्बे लंड को लेने के लिए मचल गई हैं. पहले तो वो सामने से आती थी तो हंसी मजाक हो जाता था लेकिन अब ऐसा कुछ नहीं था.

वो कुछ बोलेंगी तो?मैंने कहा- वो सब तुम मेरे ऊपर छोड़ दो … मैं सब मैनेज कर लूंगा. मैंने भाभी के मम्मों की घाटी को निहारते हुए पूछा- भैया कहां हैं?उन्होंने बोला- बस वो कुछ सामान लेने गए हैं … आते ही होंगे.

कल सुबह 5-6 बजे निकल चलते हैं और सोमवार को शाम तक वापिस आ जायेंगे क्योंकि रात की सुनील की फ्लाइट है. हराम की ज़नी रांड बड़े मज़े से मेरे लण्ड से प्यार भरी अठखेलियां कर रही थी … बहन चोद चुदक्कड़ !!! उसके नाज़ुक हाथों के खिलवाड़ से लौड़ा दुबारा अकड़ गया था. ”हाँ वो कहती तो जलूल हैं पल क्या यह सब संभव हो पायेगा?”गौरी तुम अगर चाहो तो यह सब हो सकता है?”तैसे?”देखो तुम्हारे यहाँ रहने से ना तो मधुर को कोई ऐतराज़ नहीं है और ना ही मुझे। तुम तो जानती हो ट्रेनिंग के बाद मेरा ट्रान्सफर दूसरी जगह होने वाला है। हम तीनो ही यहाँ से किसी दूसरी जगह चले जायेंगे वहाँ हमें ज्यादा जानने वाले लोग नहीं होंगे और फिर आराम से सारी जिन्दगी हंसते खेलते हुए बिता देंगे.

ऐसा लग रहा था कि सारा रस उसके होंठों में भरा हुआ हो और मैं उसको चूसता ही जाऊं … बस चूसता ही जाऊं.

साकेत भैया दीदी की पैंटी उतारने की कोशिश करने लगे और पैंटी को नीचे की तरफ खींच दिया. इस तरह से मैं बार बार झड़ने के करीब पहुंच कर धक्के लगाना बंद कर देता था. उसने मेरा लंड अपने हाथों में लिया और बोली- मेरे पति का लंड तो छोटा सा और पतला है.

मैं जब बाथरूम से बाहर आई, तब तक शायद कोमल और उसकी सहेली ने अपना स्खलन कर लिया था. मैं अपने दोस्तों को बता देना चाहती हूं कि मेरी मां पैसे को बहुत बड़ा मानती थी.

मैं इससे हमारे रिश्ते पर कोई आंच नहीं आने दूंगी बल्कि हम तीनों को साथ में रहने में और भी ज्यादा मजा आएगा. मैंने सोचा ट्रेन में टीसी से कन्फ़र्म करवा लूँगा, लेकिन ऊपर वाले को कुछ और ही मंजूर था. अन्तर्वासना की फ्री सेक्स कहानी साईटनयी हिंदी सेक्स स्टोरीज़ साईटआशा करता हूँ कि आपको मेरी रियल सेक्स स्टोरी आपको पसंद आई होगी.

सेक्सी पिक्चर फिल्म नंगी

संयुक्त परिवार में होते हुए भी राहुल सभी का लाडला है और जब वो ऑफिस से घर आकर अपने कमरे में घुसता है तो कोई भी नायरा को भी नीचे आवाज नहीं देता.

कान में बहुत आकर्षक लटकन, हाथों में ब्रांडेड लेडीज घड़ी, सुंदर सी सैंडल. तब भी ऑफिस में इस बात की पाबंदी थी कि प्यार मुहब्बत की बातें करने के लिए आप ऑफिस के समय का इस्तेमाल नहीं कर सकते थे. मैं तेजी से उसकी चूत में उसकी उंगली करने लगा तो वो मस्ती में पागल होने लगी.

डिनर लेते समय अचानक सुनील बोला- ये सतपुड़ा हिल्स कितनी दूर हैं?मनोज ने बताया कि 5-6 घंटे का रास्ता है. वो चीखते हुए दस बारह बार जोर जोर से उछली और लंड पर धक्के मारते मारते ही उसकी चूत का फव्वारा छूट गया. बीएफ ऐश्वर्यारात में बिजली कड़कने लगी थी और थोड़ी ही देर के बाद बारिश भी शुरू हो गई थी.

मैंने कहा- आशीष जब तुमने पहली बार मुझे सोनम दीदी की शादी में देखा था तब तक मैंने किसी के साथ सेक्स नहीं किया था. मेरे साथी ने टैक्सी वाले से चुन-चुन कर कुछ ऐसी जगह पूछी जहां पर आंखों को गर्म नजारे देखने के लिये मिल जायें.

बाहर जब पिंकी और सीमा को होश आया कि ये दोनों क्या कर रही हैं तो उन्होंने शोर मचाया कि हमें भी नहाना है. मैं रुक गया और थोड़ी देर मैंने उसकी दूध दबाए … उसकी गांड के छेद को सहलाया और उसे चाटा भी. जब चाची ने मेरा अंडरवियर निकाला और मेरा लंड इतने पास से देखा, तो उनकी आंखों में एक अलग ही चमक आ गई थी.

दीदी श्वेता दीदी का हाथ पकड़ते हुए बोली- श्वेता … पता नहीं क्यों मुझे बहुत डर लग रहा है. इधर मेरे होंठों पर किस करते करते हनी का हाथ मेरे मम्मों पे आ गया था और वो मेरे कपड़ों के ऊपर से ही मेरे मम्मों को सहलाने और दबाने लगा. मैं मस्ती में थी और अभय ने मेरी आंखों में देख कर मेरी मस्ती को जान लिया था.

अब मुझसे रहा नहीं गया, तो मैंने ठीक जेठजी के कमरे के सामने जाकर जेठजी को आवाज लगाई.

इन सबको सोचते सोचते कब मेरा हाथ मेरे स्तनों पर चला गया, मुझे पता भी नहीं चला. तो जाहिर है कि परमीत के लो कट काले टॉप से उसके चमकते गोल कटीले नोकदार उरोज के स्पष्ट दीदार संजय को होने लगे थे.

महेश के धक्के अब तेज़ होते जा रहे थे और शायद महेश भी झड़ने वाला था. उसको देखने के बाद तो कोई भी नहीं कह सकता था कि वो इतनी उम्र की हो चुकी है. जल्दी-जल्दी लन्ड को चूत में अंदर बाहर करने लगा, मैं बहुत घबरा गई थी कि यह क्या हो गया.

इसी के चलते मैंने इसे तुम्हारे बारे में बताया, तो इसके भी मन में फीलिंग उठने लगी. उसने सुनील और मनोज को कहा- आप सुनील के रूम में जाकर गप्पें मारो, तब तक में तैयारी कर लूं. दीदी ने जैसे ही अपने टांगों को थोड़ा फैलाया, तभी उनकी गुलाबी बुर दिखी.

बीपी बीएफ सेक्स जब मैं सो रहा होता था तो वो सुबह मुझे उठाने के बहाने मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर देखा करती थी. मेरे हाथ पकड़ के उन्होंने मुझे अपने पास खींचा और अपनी बांहों में लेकर डांस करने लगे.

हिंदी भाभी सेक्सी फ सेक्सी हद

सामने की तरफ भी प्रिन्स ने नीता के पैरों से मसाज शुरू की और घुटने से होते हुए जांघों पर पहुच गया. उसके बाद मैंने भाभी की चूचियों को हाथों में दबोच लिया और तेजी से उसकी पीठ पर झुक कर उसकी चूत को चोदने लगा. उसका चेहरा पूरा लाल हो गया था लेकिन उसके चेहरे पर अब एक संतुष्टि अलग से दिखाई दे रही थी.

मैं जानबूझ कर बाथरूम में गिर गया और मैंने चाची को आवाज देकर मुझे उठाने को बोला. इससे भी आगे बढ़ कर हम अब हालत ऐसी होती जा रही थी कि पहले जहां बाकी कपल्स की नजरों से काफी दूर होकर भी हमारी बीवियों को कपड़े उतारने में संकोच हो रहा था, अब वही बीवियां हम दोनों मर्दों के आधे नंगे जिस्मों से नागिन की तरह लिपटने लगी थीं. सेक्सी बीएफ व्हिडीओ सॉंगमैं बिल्कुल अपने आप पर कंट्रोल नहीं कर पा रहा था और अपने एक हाथ से लंड को जोर जोर से हिलाने लगा.

उनके बॉस मुझे नीचे से मेरी चूचियों को पीते और मुझे चोदते और पीछे से मेरे हस्बैंड मेरी कमर पर किस करते और मुझे चोदते!मैं एक साथ बहुत नोची जा रही थी.

इसके बाद मैंने सबा के हैंड बैग में से चॉकलेट निकाल कर एक बाइट खाया और बाकी की चॉकलेट को उसकी चुत पर रगड़ने लगा. तभी प्रीति ने कहा- दीदी आई है क्या?मैंने कहा- हाँ!तो प्रीति ने कहा- दीदी की चप्पल बाहर देखी तो मैंने सोचा कि मैं दीदी से मिल लेती हूं.

उन्होंने अपनी कामवाली से फोन पर जब ये कहा कि मुझे आने में देर हो जाएगी. मुझे थोड़ा सा दर्द हुआ उम्म्ह… अहह… हय… याह… क्योंकि मैं काफी दिन बाद चुद रही थी. उनकी आवाज़ भी तेज हो गयी थी और वो भी तेज स्वर में चिल्लाने लगी थीं- अअह … उहहह और जोर से … हां लगे रहो.

कोमल की वजह से हमें भी पार्टी में शामिल होने का ऑफ़र मिला और हमने झिझकते हुए हां कह दिया.

जैसा मैंने अभी तक सीखा था, उस हिसाब से दूध दबाना बेहद मस्ती देने वाला होता है. उसका हाथ मेरे लंड को सहला रहा था और उसके होंठ मेरे होंठों को चूस रहे थे. उसने मेरी चुत में 2-3 झटकों में ही अपना पूरा लंड पेल दिया और धक्के लगाने लगा.

चूत की चुदाई बीएफ दिखाओदोस्तो, आपकी अपनी प्यारी सी मुस्कान सिंह मेरी सैक्सी स्टोरीगैर मर्द के लंड का सुख-1का अगला भाग लेकर हाज़िर है।अभी तक आपने पढ़ा कि मैं शादी के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए एक गाँव में आई और कैसे मेरी सेटिंग किशोर से हो गई. वॉयलेट एकदम से तड़फ गई … उसने मेरे होंठ काट लिए … मुझे दर्द होने लगा.

ब्लू फिल्म बताइए नंगी

फिर मूवी खत्म हुई और हम पार्किंग में आते हुए एक कोल्ड ड्रिंक लेकर गाड़ी में बैठ गये. इस वक्त साधना भाभी नीचे को हुईं और एक धक्का देते हुए मेरे खड़े लंड को पूरा अन्दर ले लिया. जब आशीष को यह बात पता लगी तो उसने भी अपने गांव में इस शादी के बारे में पता किया.

मैं अपने पति के बॉस के सामने घोड़ी बन गई और फिर उन्होंने कंडोम से लगा लंड मेरी चूत में डाल दिया. अब आगे:मैंने दरवाजा खोला तो नीरू अंदर आयी और सामान टेबल पर रखती हुई बोली- उफ्फ … बाहर तो बहुत गर्मी है. ”अच्छा जी … मेरे लड्डू को इतने दिनों बाद इन होंठों की याद आई? मुझे तो लगा वह तो मेरे होंठों को भूल ही गया है.

अपने फौलादी हाथों से मेरे चूचों को मसलते हुए मेरे होंठों को काटने लगे. वो 1-2 घंटे रहेंगे … फिर चले भी जाएंगे, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा. बॉस ने आंखों को बन्द कर लिया था और मेरे मुँह में अपना लंड घुसा कर मजे से चुसवा रहे थे.

उसने अपने शरीर पर एक ब्रांडेड परफ्युम स्प्रे किया, जिससे पूरा कमरा महकने लगा. इनके व्यापार अच्छे हैं और पैसे की इफरात है तो मस्ती में कभी भी पैसा अड़चन नहीं बना.

इस पर मौसी मान गईं और उन्होंने मुझे एक वीडियो भेजी, जो कि बहुत अत्यधिक उकसाने वाली थी.

मेरी तो जोर जोर से सिसकारी निकल रही थी पर मेरा पूरा ध्यान उन दोनों पे था. हिंदी वाला बीएफ बीएफसंजू को इसमें काफी आराम लगा, वो उसी पोज में सर पीछे घुमा कर रोहित को देखने लगी और उसने रोहित के होंठों पर एक किस किया. बीएफ सेक्सी कुत्ते वालापर सच कहूं, तो मैंने ऐसा कुछ सोचा नहीं था और ना ही मेरे मन में तुम्हारे लिए ऐसी कोई सोच थी. उधर मेरी माँ ने एक मिनट से कम समय में अपनी साड़ी ब्लाउज पेटीकोट सब उतार दिए थे.

वहां जाकर चूत में उंगली की, अपने उरोजों को दबाया, सहलाया और जब चूत ने पानी बहा दिया, तब जाकर मन को थोड़ी शांति मिली.

मैंने धीरे से पूजा के लोअर में हाथ डाल दिया और उसकी चूत को पेंटी के ऊपर से मसलने लगा. एक ने बोला- आप बहुत खूबसूरत हो और अकेली सफर कर रही हो, वो भी रात का?मैंने कहा- अकेली कहां हूँ … आप दो गबरू जवान भी तो मेरे साथ में हो. मेरे हस्बैंड यह सब देख रहे थे क्योंकि उन्होंने हमें वो दे दिया था जो हमने सोचा भी नहीं था.

मेरे पति के फौजी लंड ने भी पच-पच की आवाज के साथ मेरी चूत को बजाना शुरू कर दिया. उसकी इंग्लिश बोलने का तरीका इतना मस्त था … और इतना फ़ास्ट था कि पहले तो मुझे ठीक से समझ नहीं आया. वहां उन्होंने कमरा लिया हुआ था क्योंकि वे वहीं से लोड उठाते और आगरा की तरफ या उसी साईड ही ज्यादा जाते.

देसी भाभी सेक्सी फिल्म

और जब से मैं और जेठजी अकेले थे, तब से लेकर आज तक भी हम दोनों एक साथ ही खाना खाते थे. वो हर बार मुझसे यही वादा करता था कि वो मुझे आशीष से जरूर मिलवा देगा. फिर मैं नीचे बैठ कर उनकी चूत पर हाथ फेरने लगा, तो वो एक तड़पती मछली की तरह तड़पने लगीं और कहने लगीं कि अब ज्यादा भी मत तड़पाओ ना … बस अपना लंड पेल दो.

मैंने ऐसे ही उनसे कहा कि मेरा नाम पुनीत है और चुपके से उन्हें 200 दिए.

तभी जीजा बोले- साली नाराज हो गई क्या, एक बार उठ कर देख तो कौन आया है तेरे पास! ये यहां के सबसे बड़े ठेकेदार हैं.

उनके साथ मेरे अच्छे संबंध हैं और हम हर तरह की बातें शेयर कर लिया करते हैं. अभी मैं सोच ही रहा था कि सायरा ने मुझे झकझोरा और फ्रेश होने के लिये बोली. हिंदी में बीएफ फिल्म बीएफ फिल्म बीएफमुझे तो मानो उड़ने के लिए सारा आसमान मिल गया था और मैं लंड चुसाई का मजा ले रहा था.

दीदी कुछ नहीं बोली और उसने अपना मुँह खोल साकेत भैया का लंड थोड़ा अन्दर ले लिया. दोस्तो, अपनी अगली सेक्स कहानी में आप सभी ले लिए लिखूँगी कि कैसे हम सभी ने मिल कर ग्रुप सेक्स में गैंग बैंग किया और कैसे राहुल और सीमान्त ने मेरी गांड की सील तोड़ी. मैं पूछने लगा- घर पर कोई नहीं है क्या?वॉयलेट- मॉम फ्रेंड्स के साथ बाहर गई हैं.

इतनी दूर वैसे मैं कभी जाता नहीं था लेकिन वो मजबूर थी और मैं उसकी आस को तोड़ना नहीं चाह रहा था. मैं तेरे भाई को सारी बात अभी सच-सच बता दूंगा कि तू किस-किस से अपनी चूत चुदवाने वाली है.

उसने मेरे लंड को अपने हाथ से पकड़ कर चुत के मुँह पर सैट किया और धक्का लगाने को बोला.

आशीष ने कहा- लेकिन तुम्हारे पिता तो मुंबई में काम करते हैं और तुम्हारा भाई भी घर पर नहीं रहता है. इधर मेरा दोस्त बहुत ही ज्यादा उत्तेजक हो चला था और बोला- नहीं भाभी, मुझे तो आपको आज पूरी तरह नंगी देखना ही है. वो जब भी इसके बारे में सोचती, उसकी टांगों के बीच में एक बाढ़ सी आ जाती, और हर बार पिछली बार से ज्यादा.

एटीएम बीएफ हम तीनों भीग रहे थे, देख रहे थे मेरी माँ का नंगा जिस्म बारिश में भीग रहा था।मी मम्मी बोली- आ जाओ उपिन्दर, अब रहा नहीं जा रहा। मैं आज तक बरसात में लण्ड नहीं लिया। आओ मेरा भोग लगाओ. अगर मैं उसको इस तरह से कहती तो उसको पता चल जाता कि मैं चुदक्कड़ हूं.

उसको दर्द हो रहा था मगर मैंने उसका मुंह अपनी तरफ कर लिया और उसके होंठों को चूसने लगा. सोनिया- ओ गॉड कितना मजा आया जानू मैं क्या बताऊं … अभी तक काँप रही हूँ मैं. मैंने भाभी से पूछा- कहां निकालूं?भाभी ने कहा- पहली चुदाई में अन्दर ही डाल दो.

sunny लियोनी x

उसने मुझे डॉगी स्टाइल में चोदने के बाद सामने से मेरी टाँगें उठा कर भी चोदा. जब मेरे साथ बुआ की चुदाई की घटना हुई थी तब मेरे लंड का साइज इससे थोड़ा कम था. मैं उसके पास बैठ गया और मैंने उसकी आंखों में आंखें डालते हुए कहा- मतलब तुम्हें भी सेक्स पसंद है.

इसके बाद भैया ने हम दोनों के ऊपर अपने मूत की बारिश कर दी और हम दोनों को अपने गर्म गर्म मूत से नहला दिया. फिर उन्होंने मेरी चूत पे किस किया और मेरे बूब्स को ब्रा पर से चूसने लगे.

रात को 2 बजे करीब मनोज ने आकर उसे दबोच लिया, वो सेक्स के मूड में था पर दीपा ने उस से कहा कि कल सतपुड़ा में जम कर सेक्स करेंगे, अभी सो जाओ, तुम्हें ड्राइव भी करना है.

इस तरह से बहुत दिनों तक मैंने उसके साथ हॉट और सेक्सी बातें की।मैंने उसके बारे में सब पता कर लिया था. मैं कभी उसके होंठों को अपने मुंह में भर कर चूस कर रहा था तो कभी अपनी जीभ को उसके मुंह के अंदर डाल रहा था. झड़ने के बाद ने उसने मुझे मेरे होंठों पर एक जोरदार किस किया और बोली- मज़ा आ गया, आपने आज मुझे जो खुशी दी है, उसके बाद मेरा आपके लिए मेरा प्यार और बढ़ गया है.

मैं सामने के शीशे में देख रहा था कि वो अपने ही हाथों से अपने दोनों मम्मों को मसलने और अपने निप्पलों को काटने लगी थी. मुझे ऐसा लगा कि मैं दर्द से मर जाऊंगी।अभय बोला- यार भले इसका जीजा कुछ बोला हो कि यह बहुत चुदक्कड़ लड़की है मगर अभी इसकी चूत बहुत टाइट है. मित्रो, मैं इस साईट का सबसे पुराने पाठकों में से एक हूँ, प्रथम कहानी से सभी कहानियों का नियमित स्वाद लेता हूँ.

सारिका ने यशिमा से कान में धीरे से कहा- जा यशिमा सुहागरात की तैयारी कर … अपने रूम में जा … मैं थोड़ी देर में इसे भेजती हूँ.

बीपी बीएफ सेक्स: प्रिन्स का नहीं हुआ था पर उसको लंड बाहर निकलना पड़ा और नीता ने अपने हाथ से मुठ मार के उसका माल निकाल दिया. उसने शरमाते हुए जवाब दिया- तुम्हें मजा आया मेरी चूचियों से खेलने में.

बॉस ने एक बार में सोनम की ब्रा निकाल फेंकी और उसके दोनों गोरे गोरे दूध तन के उनके सामने आ गए. उठ के कुहनियों के बल हो गयी और शिकवे के अंदाज़ में बोली- राजे मैं अब तेरे से नाराज़ हूँ … तूने मेरे साथ भेद भाव किया मादरचोद!मैंने मुस्कुराते हुए पूछा- क्या हुआ मेरी जान? क्या गुस्ताखी हुई इस ग़ुलाम से रानी जी की शान में?साले … सब रानियों को चुदाई के बाद चूत चाट के सफाई करता है … लंड चटवा के साफ़ करवाता है … बहन के लंड मेरी चूत को तौलिये से क्यों साफ किया? न ही हरामज़ादे ने लंड साफ़ करने का मौका दिया. विवेक बोले- अगर तुम्हें हमारे यहां होने से कुछ दिक्कत है तो हम यहां से चले जाते हैं.

बस वहां से 7 बजे चली और 7:45 पर मैं वापिस कॉलेज वाले बस स्टॉप पर उतर गया.

मेरी पिछली कहानीमेरे भैया मेरी चूत के सैय्यां-6में मैंने बताया था कि गंगरेल डैम पर नदी के किनारे बोट ड्राइवर ने अपने दो और साथियों के साथ मिल कर दिव्या और मेरी चूत को चोद दिया. शबनम तो केवल एक लम्बी सी शर्ट डाले थी, नायरा ने एक टी शर्ट डाल ली और एक शॉर्ट्स भी पहना क्योंकि टी शर्ट तो उसके पेट पर ही रुक गयी थी. फिर मेरे दो तीन बार पूछने पर उसने कहा- पर जगह कहां है?मैंने कहा- यहीं.