बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी दिल्ली की

तस्वीर का शीर्षक ,

आज रात की: बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो, मैंने और वेरोनिका ने आज एक इंटरकनेटिंग रूम लिया था, जिसमें 2 कमरे थे.

सीआईडी बताओ

मैंने रूम में म्यूजिक बजाकर, आलिया को अपने साथ डांस करने के लिए कहा. वर्जिन गर्ल्सदूसरा कारण ये था कि मेरे लंड का टोपा भी बहुत मोटा था इसलिए लंड जरा भी नहीं सरक पा रहा था.

उम्म!! मुझे ऐसा लग रहा है जैसे ज़िन्दगी में पहली बार किसी असली मर्द के साथ हूँ मैं बेटा. ब्लू blue themeतो उन्होंने वादे के मुताबिक मुझे 10000 हजार रुपये दिए और रोज मेरे साथ ऐसे ही सेक्स करने लगे, पर उन्हें आज तक पता नहीं है कि मैंने उन्हें धोखे में रखा है.

मैंने कुसुम की चूचियों को खूब मसला, दबाया और तो और उसके निप्पल भी दांत से काटे.बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो: उसने मेरा फोन चार्ज में लगाने के लिए ले लिया और रोज की तरह आज भी वो मेरा फोन देखने लगी.

लेकिन गदगद बिस्तर पर चोदने में ज्यादा मजा आता है, ऐसा सोचकर मैं कमरे में पहुँचकर उसे गदगद बिस्तर पर पटक दिया और उत्तेजना में अपना शर्ट खोलने लगा.इसकी आगे की कहानी मैं बाद में लिखूंगा … तब तक आप लोगों के विचारों का इंतज़ार रहेगा.

अंतर्वासना में - बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो

मैं बेड के बिल्कुल किनारे लेटा हुआ था, फिर मामी लेटी हुई, मम्मी और बुआ बैठे हुए थे मेरी तरफ पीठ करके! और आंटी उनके बगल में चेयर लगा के बैठ गयी।मैं भी आँखें खोल के टीवी की तरफ पलट गया, सबने मुझे उठे देखा.मेरी पैंट का हुक खुला हुआ था लेकिन खड़ा होने की वजह से लंड ने अंडवियर को तान दिया था और उसके कारण पैंट भी ऊपर ही फंसी हुई थी.

फिर कुछ दिनों बाद कंपनी ने मुझे मेरे गांव के पास ही एक गांव में एक नया प्रॉजेक्ट दिया. बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो बॉस ने विनय को अपने सामने बिठा लिया जिससे विनय मेरी तरफ ना देख पाये.

मैंने कहा- मैं तो नहीं चाहती कि तुम कुछ भी कहो, मगर मैं इस बारे में कुछ नहीं बोलूँगी.

बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो?

भाभी मस्ती से चूचों की रगड़ाई का मजा लेते हुए मस्ती में आवाजें निकाल रही थीं. मैंने अपनी चूत को ठंडे पानी से धोया ताकि अगर खून बह रहा हो तो बहना रुक जाए. तो वो बोली- जीजू, आशा (उनकी नौकरानी जिसकी उम्र 35 से 40 साल के बीच होगी रंग सांवला आंखें काली और बड़ी बड़ी उसके चुचे 36 कमर 30 और गांड का साइज38 था) के आने में डेढ़ घण्टा रह गया है.

मैंने उसे बताया- मैं उसकी बगलें क्या … सभी औरतों की इसी स्मेल का दीवाना हूँ … और ये स्मेल ही मुझे उत्तेजित करती है. मैंने उसे अपने घर का एड्रेस दे दिया और अभी के लिए मैं उससे लिपट गया. आखिर कुछ भी हो … वो है तो एक स्त्री, उसे भी अपनी बसी बसायी दुनिया उजड़ जाने का डर था.

अब वो मेरी कमर पर अपने दोनों हाथ रखकर खुद भी आगे पीछे होने लगी और आहह औहह ओफ ओ ऊह्हह ऐसी आवाज़ निकाल रही थी. मैंने भाभी का ब्लाउज खोला, भाभी के मम्मों को पहले से थोड़े बड़े हो गए थे. वो उस समय रसोई में काम कर रही थी और उसने एक गहरे नीले रंग का लोअर और बिना बाजू वाली पीली टी-शर्ट डाली हुई थी.

मेरी चूत को चोदो ना जानू!कबीर ने मेरी चूत पर लंड को रखा और एक धक्का दे दिया. नीचे से मेरी बीवी मेरा लंड अपने हाथों से पकड़ कर मसल रही थी, सहला रही थी.

जीजा जी मेरी चूची मसकते हुए बोले- तू तो बहुत बड़ा माल है … किसी दिन फुरसत में तुझे और मज़ा दूंगा.

पूरे कॉलेज में उसकी सबसे अच्छी बॉडी थी और लड़कियां तो उसके पीछे पागल थीं.

और तुम्हें बस मेरी चूत की पड़ी है? तो मेरी गांड और मेरे बोबे और मेरे मुंह का ख्याल कौन रखेगा?वो आगे बोली- मेरे जिस्म में पूरी तरह से तुम्हारे लिए आग लगी हुई है. हमारी शादी को अब चार साल हो गए थे, तब अचानक मेरे पति ने मेरे सामने डिवोर्स के पेपर रख दिए. उसके ऊपर से आप मुझे सरप्राइज़ और देना चाहते हैं! आखिर कौन है वहा जोड़ा… प्लीज बताइए न!मैं- श्लोक इस याराना में मैंने सभी चरित्रों के लिए सरप्राइज़ रखा है और उनमें तुम भी शामिल हो.

करीब 10 बज कर 30 मिनट हुए होंगे, मैंने साड़ी पहनी, लेसवाला ब्लाउज भी पहना. फिर हम दोनों सो गए और अगले तीन दिनों तक हम लोग घर से बाहर ही नहीं निकले, बस चुदाई और चुदाई ही की. सोनिया- पता है, मैंने उस साल सिर्फ बारहवीं ही पास की थी और बीएससी में एडमिशन लिया था.

फिर सीमान्त बियर की बोतल के मुँह को मेरी चुत में लगा कर चुत में बियर भरने लगा.

मैंने उसके निप्पलों को बारी बारी से मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. मैं बस उसकी आंखों में देखकर मुस्कुराने लगी।फिर वह धीरे धीरे मेरे पास आकर बैठ गया. हम दोनों पीछे बैठ कर अपनी मस्ती में डूबे हुए थे।थोड़ी देर में हम लोग थिएटर पहुँच गए और सौरभ ने कॉर्नर की सीटें ले ली।हम चारों सीट पे जा कर बैठ गए.

तू उस अंकल को ही पटा ले क्योंकि वो यहाँ के रहने वाले भी नहीं हैं और वो ये सब बात गुप्त भी रखेंगे, तेरे को मजा भी बहुत देंगे क्योंकि वो काफी अनुभव वाले भी होंगे!उसकी बात में तो दम था, मेरे मन में अब तो उनके प्रति वासना जाग गई थी. उस दिन सुलेखा भाभी अपनी पड़ोसन के साथ बाजार गयी हुई थीं और घर में बस नेहा और प्रिया ही थीं. कुछ दिन हमारे दिन नॉर्मल ही गए, लेकिन उस दौरान मेरे में और कुंवर साहब में काफी बातें होने लगी थीं.

फिर मुझे याद आया कि ये तो वही लड़की है, जिसकी फोटो मुझे शादी के लिए आई थी.

साथ ही कमरे में अब सलमा और रशीद की तेज तेज सांसों की आवाज आ रही थीं. कभी वो मूली गाजर की तरह लंड को काटते हुए उसे प्यार से चूसने लगती थीं.

बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो उन्होंने कहा- तुम तो बिल्कुल भी नहीं बदले हो, वैसे के वैसे दुबले पतले ही हो … हां थोड़े गाल ऊपर आ गए जनाब के. रोनित ने रचना को अपना 9 इंच का लंड पकड़ा दिया और बोला- इसको मुँह में लो.

बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो मुझे तो 1 साल फुल मस्ती का मिल गया था जहाँ टीचर और स्टूडेंट सब से इज़्ज़त भी मिलती रहेगी।सभी बहुत खुश थे और इसीलिए रात में एक पार्टी का आयोजन किया हुआ था, घर में खाने की खुशबू उड़ रही थी. अभी तक आपने पढ़ा कि हम चारों ही फार्म हाउस पर ग्रुप सेक्स के लिए आ गए थे.

आप लोगों का प्रेम स्नेह मिलता रहा तो आगे मैं और कहानियों को लिखने का प्रयास करता रहूंगा.

खरगोश की सेक्सी

देवेन्द्र का लंड तो अभी मिलने वाला नहीं था इसलिए विकी के लंड को लेने का बहाना भी मेरे मन ने अपने आप ही बना लिया था. फिर हम दोनों एक दूसरे से लिपट कर सो गए!सुबह मैं ऑफिस के लिए निकल गया और शाम को घर आया. फिर हम लोगों ने एक दिन योजना बना कर उसे जगह बताई कि उसे कहां आना है और कब आना है.

मैंने उसके पैरों से ऊपर होकर उसके मुँह पर किस किया और बोला- देखा कैसा टेस्ट है तेरी चूत का … तूने अपनी चूत को कभी टेस्ट किया है?उसने हंस कर मुँह फेर लिया. धीमे-धीमे समय बीत रहा था, करीबन दस बजे मुझे भूख लगने लगी थी, लेकिन मैं अपने प्लान में कोई समझौता नहीं करने वाला था. यह कहानी तब की है जब मैं बारहवीं कक्षा में पढ़ता था। यह सेक्सी कहानी मेरी मम्मी की है.

मैं अपने हाथों से उनके दूध दबाते हुए अपने होंठों को उनके होंठों पर रख दिए और अपनी जीभ अन्दर डाल कर उनकी जीभ चूसने लगा.

वैसे भी तुमने ही बोला था कि मेरे पास ग्रीन सिग्नल है, यानि मैं कुछ भी कर सकता हूं. मेरी चूत के पानी की वजह से भाई का लंड मेरी चूत में फच-फच की आवाज करते हुए मेरी चूत की चुदाई करने लगा. सीमान्त ने पीछे से मेरी गांड में शैम्पू डाल दिया था, मेरी गांड मी चिकनाई हो जाने के कारण उसका लंड बड़ी तेजी से अन्दर बाहर होने लगा था.

दो दिन बाद मैंने भाभी जी को बोला- अगर आप बुरा न माने और आपको गलत न लगे, तो मेरे घर में खाना बनाने का काम करोगी?भाभी जी झट से मान गईं. मैं अब अपनी उंगलियों को उनके निप्पलों के बाजू में फिराता हुआ उनके ऐरोला को सहलाने लगा था. उन्होंने मुझे खुश करने के लिए मुझे बाइक को एक रेस्तरां कम बार में रुकने बोल दिया.

आपको कुमारी लड़की की चुदाई की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करके जरूर बताना. वो इतना ज्यादा पानी छोड़ रही थीं कि अब तो बेडशीट भी गीली होने लगी थी.

जैसे जैसे मुकुल राय झटके मारता, बेड हिलता हुआ हल्की हल्की चू चू की आवाज़ कर रहा था।परीशा बेड के हिलने की आवाज़ सुन कर शरमा गई और अपने मुँह को साइड में घुमा कर मुस्कराने लगी. इसके स्वाद को महसूस करने के बाद उसके दिमाग में यही ख्याल आ रहे थे कि ये उसके मुंह और चूत में कैसा लगेगा. मेरे हर धक्के पर उसके मुँह की आवाज मैं अपने मुँह में महसूस करने लगा था.

नेट की साड़ी और ऊपर से लेसवाला ब्लाउज, इसमें से मेरे मम्मे तो आधे से ज्यादा बाहर ही दिख रहे थे.

उन्हें देखकर हमें भी जोश आ गया और वेरोनिका ने मुझे अपनी चुत चाटने को कहा. ऊहम ऊऊँ स्स्सया!मैं पूरा जोर लगाकर धक्के मार रहा था आआआ …और हम दोनों एक साथ झड़े. यह कहते हुए उसने फिर से अपने पैरो की पकड़ ढीली की और मुकुल राय ने घुटनों के बल बैठते हुए धीरे-2 अपने लंड को बाहर निकालना शुरू किया.

वैसे, मुझे लगता है कि हमें मिलना चाहिए ताकि आप यह पता लगा सकें कि मैं चंपू हूं या नहीं. बस आप खड़ी हो जाओ।मेरे कहने के मुताबिक वो बिस्तर पर खड़ी हो गयी और जैसा मैं कह रहा था वैसा ही वो घूम-घूम कर अपना हर अंग मुझे दिखाने लगी.

मैंने एक दो बार मना किया लेकिन नीचे से कबीर की जीभ मेरी चूत में घुस चुकी थी. पूरा कमरा ‘उम्म्म्म … उम्म्ह… अहह… हय… याह… ज़ोर से … और ज़ोर से उम्म्म्म … आआहह. फिर मैं पीछे से उनके दूध पकड़ कर उनके निप्पलों को मसलते हुए उसकी गांड में अपना लंड पेल रहा था.

बिहार के सेक्सी वीडियो फिल्म

शबनम की सांसें काबू से बाहर थी- अब इसको बाहर निकालो और फिर अन्दर डालो.

तो मैंने कहा- नाइट लगेगी?उसने कहा- नहीं, थोड़ी देर के लिए!मैंने कहा- ठीक है, मैं 1 घंटे में आता हूं. उस अंधेरी चाँद की रोशनी में भी उनकी चिकनी योनि बहुत गोरी लग रही थी. खुद से करती थी। आजाद जिंदगी इसीलिये चुनी थी कि घर में नहीं कर सकती थी। साथ रहने वाली लड़की के पास डिल्डो था और हम दोनों रोज रात आपस में कर लेती थीं।”गुड.

आलिया के गाल पर किस करके मैंने उसे सॉरी बोला … फिर लाइट ऑफ करके मई आलिया से चिपक गया. वो रोने लगी और बोली- आप नहीं चाहते कि मैं खुश रहूँ? जब से आपके सम्पर्क में आई हूँ, तब से खुल कर जीने लगी हूँ, खुल कर खाने पीने लगी हूँ, मेरे दिमाग में आत्महत्या जैसे ख्याल नहीं आते. मस्टरबेशनथोड़ी देर फ़ोन डिस्चार्ज हो गया, तो मैंने अमायरा से मेरा फोन चार्ज पर लगाने को बोला.

उसने मुझे कुछ बोलने का मौका तक नहीं दिया और बस मेरे लण्ड को पैंट के ऊपर से ही चलाए जा रही थी और मुझे ताबड़तोड़ किस किए जा रही थी. सोनिया ने जो क्लीवेज शो मुझे दिखाया था, उसके बाद मैं बहुत एक्साइटेड था.

मेरी माँ ने भी उसे कसकर पकड़ लिया और उसके शरीर का पूरा भार अपने ऊपर ले लिया. यह औरत कोई और नहीं बल्कि शीना ही है, जो परसों हम दोनों का खेल बिगड़ चुकी है. क्यूँकि उन सब पे काफी निजी जानकारी होती है जैसे मेरे बारे में, परिवार, दोस्तो के बारे में इत्यादि इत्यादि।अगर ये सारी जानकारी किसी गलत आदमी के हाथ लग जाए तो वो मुझे ब्लैकमेल भी कर सकता है.

मेरा बीए हो गया है और मैं घर से ही सरकारी नौकरी के लिए एग्जाम की तैयारी कर रही हूं. मैंने जैसे ही भाबी को गले से लगाया, तो उन्होंने भी मुझे कसके पकड़ लिया. ओय्य्य … उह्ह्ह …” नेहा ने कराहते हुए कहा और जल्दी से उठकर बैठ गयी.

उसने घुटनों के बल बैठकर मेरे लंड को प्यार से सहलाया, फिर मेरी तरफ देखा.

उनकी कामुक निगाहों को देख कर मुझे समझ तो आ गया था कि आंटी मुझसे चुदना चाहती हैं. वो चिल्ला नहीं पायी लेकिन उसकी आँखों से आंसू आ गये और मुझे धक्का देने लगी.

अगर मुझे पहले से पता होता तो मैं तुम दोनों को एक साथ रगड़ कर चोद देता. जिसमें कुछ का नाम लिख रहा हूँ … आप इन सेक्स पोजीशनों के बारे में मेल करके डिटेल ले सकते हैं. मैं बॉस को चाय देकर उनके बगल में बैठ गयी, तो बॉस ने मुझे उठा कर अपनी गोद में बिठा लिया.

” पेंटी के हटते ही अपनी बहू की गुलाबी चूत को देखकर महेश के मुँह से निकल गया।नीलम की हालत खराब हो चुकी थी। वह खुद हैरान थी कि आज वह इतनी गर्म कैसे हो गई है और उसकी चूत से इतना पानी कैसे निकल रहा है।बेटी समीर आने वाला ही होगा हमें जल्दी से सोना होगा. मैं बोली- देखो, ये सब गलत है … प्लीज ऐसा मत करो … तुम तो मजे लेते ही हो और लड़कियों के साथ … मुझे कोई मजे नहीं चाहिए. ’वो मस्त लौंडा मेरे शरीर को पूरी तरह चाट कर और स्वाद चखने के बाद बेड से सटकर खड़ा हो गया.

बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो एक दिन भाभी ने शादी के लिए मुझ पर ज्यादा दबाव डाला, तो मैंने शादी के लिए हां कर दी. पांच मिनट के किस के बाद जब हम दोनों अलग हुए, तो आंटी बोली- कल के जैसे फिर कोई आ गया तो क्या होगा?मैंने कहा- आंटी जी आज कोई नहीं आएगा.

यामी गौतम सेक्सी वीडियो

अंकित ने शबनम के कूल्हों को पकड़ा और एक जोर का धक्का दिया- आह आंटी!उसके मुँह से एक अजीब सी आवाज़ आई और इसके साथ ही उसने अपने वीर्य की धार शबनम की चूत के अन्दर छोड़नी शुरू कर दी. हमारे घर के पास ही भाई का एक बेस्ट फ्रेंड रहता था, जिसका नाम तो कुछ और है … मगर मैं प्यार से उसे भोसड़ी के बुलाती थी. मुझे घुमा कर उसने अपना लन्ड मेरे होंठों से लगा दिया और वीर्य की नदी बहा दी। उस दिन मुझे जो परमसुख मिला उसे शब्दों में बयाँ करना मुश्किल है.

तब मेरे घर की आर्थिक स्थिति और भी खराब हो चुकी थी … क्योंकि सबकी पढ़ाई लिखाई में भी खर्चा आता था और फिर कुछ मंहगाई की मार भी पड़ रही थी. बस इतना याद रखना कि आज की रात के बाद तुम्हारी सैलरी 40000 हज़ार से डेढ़ लाख हो जाएगी. सेक्सी वीडियो दिखाइए आपमैंने पास आते ही उनके पैर छुए तो उन्होंने मेरे पसीने से भरे हुए शरीर को एक नजर देखा और मुझे हल्के से गले लगाया। उनके स्तनों को अपने छाती पे महसूस करते ही मेरे नीचे तेजी से सुगबुगाहट हो गयी जिसका अहसास उनको भी अपने पेट पे हो गया होगा।हमारा यह सीन उपयुक्तता से 3-4 सेकंड ही ज्यादा चला क्योंकि मेरा डर कभी इससे आगे नहीं बढ़ने देता कि कही उन्हें मेरे इन ‘नेक’ इरादों का पता न चल पाए.

उसने उसे प्यार से देखा और फिर उसका चेहरा अपनी हथेलियों के बीच ले लिया.

अब जब घर में इतना मस्त माल हो, तो मैं भला और कहीं क्यों मुँह मारता. यूं ही चुदास भरी आवाजों में चिल्लाते चिल्लाते एकदम से हम तीनों के बदन कड़क हो गए और हम तीनों ने अपनी अपनी रस धार छोड़ दी.

” मैंने वैसे ही मुंह बनाते हुए कहा।बिगाड़ा था तो तुम‌ अब फिर से बना‌ लो, आ रही है पिंकी अगले‌ महीने। वैसे मैंने तो तुम्हारे अच्छे‌ के लिये ही किया था। वो उम्र थी तुम्हारी ये सब करने की?” उसने सारे कपड़े उतारकर अब हमारी छत के पास आते हुए कहा।पिंकी की भाभी की बात सुनकर मुझे अब झटका सा‌ लगा और मेरा सारा गुस्सा एक पल में ही गायब हो गया. स्मृति कहने लगी- ह्ह्ह मेरे राना, फाड़ दो आज अपनी स्मृति की कुंवारी चूत … मसल दो मुझे अपने लंड से … आज पूरा निचोड़ दो मुझे … जी भर कर चोदो मुझे … मेरी फुद्दी के चीथड़े उड़ा दो. इन दिनों मोहन भैया अकेले थे, तो वे हंसी मजाक करते हुए मुझे अपने साथ घूमने जाने के लिए बोलते थे.

साथ ही मैं अपने लंड को उसमे मुँह में अन्दर तक घुसेड़ने की कोशिश कर रहा था.

उसने मुझसे अपना लंड मेरी चूत में सैट करवाया और मेरे बालों को पकड़ कर लंड पेल दिया. दोस्तो, मेरी सेक्स स्टोरी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मेरी बीवी की गैरमौजूदगी में मैंने अपनी सलहज की चूत चुदाई कर डाली. जब वह स्टूल पर खड़ी हो रही थी, उसकी स्कर्ट थोड़ी ऊपर उठ गयी, जिसकी वजह से उसकी दूधिया टांगों की छोटी सी झलक दिखाई पड़ी.

सेक्सी ब्लू पिक्चर पंजाबीकुछ ही देर के बाद उसको पेशाब लग गया तो मैंने उसको कहा कि साइड पर जाकर कर ले. मैंने आज उसके मम्मों का कई बार दर्शन किया और उसी के घर बाथरूम में जाकर उसी के नाम की मुठ मार ली.

ब्लू सेक्सी वीडियो बढ़िया वाला

अपने घर जाकर मुझे ऐसी नींद आई कि मुझे पता ही नहीं चला कि मैं कहां हूं. जब वह चलती है तो बुड्ढों का लण्ड भी खड़ा हो जाता है।मेरे परिवार में हम 4 सदस्य है मम्मी, पापा मेरा छोटा भाई और मैं!और मेरे चाचा के परिवार में चाचा, चाची, मेरी चचेरी बहन पुण्या और एक चचेरा भाई है। मेरा लण्ड 7 इंच लम्बा और 2 इंच मोटा है. कबीर ने मेरी चूत में लंड को लगभग पूरा फंसा कर अब मेरी चूत को चोदना शुरू कर दिया.

मैं उठ कर हाथ लगाने ही जा रहा था कि भाभीजी ने इशारे से उठने से मना कर दिया. मेरे दिमाग में बीयर का हल्का सा सुरूर भी था इसलिए बहुत मजा आ रहा था. आलिया- पहली शर्त … हमारे इस रिलेशनशिप के बारे में तुम किसी को नहीं कहोगे.

रशीद ने कहा- अम्मी मैं रशीद … अन्दर चलो, सब बताता हूँ तुम्हें कि मैं कौन हूँ? तुम चुप रहना … वर्ना ठीक नहीं होगा. फिर मैंने धीरे से उसकी चूत का चीरा दोनों ओर उंगलियां रख के खोल दिया; भीतर जैसे रसीले तरबूज का गहरा लाल गूदा भरा हुआ था; उसकी चूत का दाना मटर के आकर का फूला हुआ सा था और भीतरी होंठ मुश्किल से तीन अंगुल लम्बे रहे होंगे. मैं पढ़ाई लिखाई में बहुत तेज थी, इसलिए मैंने कुछ ट्यूशन करने शुरू कर दिए.

मैंने बिना देर किए पूछा- क्या दिखा तुझे उस बुड्डे में … या उसने तुझको ब्लैकमेल किया … बता!उसने बताया- मैं घर में रहते रहते बोर हो गई थी. मेरी उससे सारे स्टाफ के सामने बहस हुई, तो मुझे बड़ी ज्यादा बेइज्जती सी महसूस हुई.

रोहन- मैंने अपने पूरे जीवन में आपके जैसी सुन्दर स्त्री आज तक नहीं देखी.

मेरी इस सेक्सी कहानी में आपने पिछले भाग में पढ़ा कि मैंने अपनी सेक्सी ममेरी बहन आलिया की चुदाई की इच्छा से उसको प्रपोज कर दिया था, लेकिन उसने मना कर दिया था. श्रुति सेक्स फोटोमैं सकपका गया कि एक अजनबी लड़की इतने खुले रूप में कैसे बोल सकती है। मेरे तो हाथ पैर फूल गये, यह क्या माजरा है, मैं उसकी तरफ प्रश्नसूचक दृष्टि से देखने लगा. साली की चुदाई कहानीफिर उसकी टांगें उठा कर घुटने मोड़ दिए और लंड को उसकी चूत में चार पांच बार स्वाइप किया और उसके दाने पर लंड घिसा जिससे कम्मो झनझना गयी और आनन्द भरी किलकारी उसके मुंह से निकल पड़ी. और हमारे आपके पारिवारिक सम्बन्ध भी अच्छे हैं तो मैं नहीं चाहता कि हमारी दोस्ती टूटे या पारिवारिक सम्बन्धों में कोई दरार पड़े.

वो बोलीं- अच्छा मैं क्या कोई डायन हूँ? या इतनी बुरी औरत हूँ?इसी तरह की बातें करते हुए हम दोनों घर आ पहुंचे.

जैसे जैसे मैं ऊपर उसकी चूचियों की तरफ बढ़ता गया, वैसे वैसे ही नेहा के हाथों की पकड़ मेरे सिर पर कसती गयी. फिर वह सीट से उठ गया और उसी सीट पर मुझे बिल्कुल किनारे पर घुटनों के बल झुका दिया। इस तरह मेरा सिर सीट पर और गांड सीट से थोड़ा बाहर निकली हुई थी. मैंने प्रीति की ढलकी हुई ओढ़नी को पूरी तरह से हटा दिया और चोली की डोरियों की खींच कर तोड़ ही डाला.

खड़े खड़े चोदने में तो वो सपोर्ट करेगी नहीं, तो मैंने सोचा और उसे वहीं फर्श पर लिटा दिया. मैं उसके ऊपर ही लेटा रहा और उससे कहा- तुम मेरा लंड अपनी चूत के मुँह पर लगाओ. जिसमें कुछ का नाम लिख रहा हूँ … आप इन सेक्स पोजीशनों के बारे में मेल करके डिटेल ले सकते हैं.

सेक्सी वीडियो साड़ी में सेक्सी वीडियो

मुकुल राय- फिर मेरी तरफ देखो ना!परीशा- नहीं पापा … मुझे शर्म आती है. लेकिन उसने खुद को सँभालते हुए अंकित के होंठों पर एक गहरा चुम्बन देते हुए कहा- मैं बिलकुल ठीक हूँ बेटा. मुकुल राय- पर बेटी …परीशा- मैंने कहा ना मेरी परवाह मत करो … आप अपना लंड पूरा मेरी चूत में पूरा डाल दो.

कुछ देर लंड टटोलने के बाद उसने मेरे लंड को लोवर के ऊपर से ही अपने मुँह में भर कर किस करना शुरू कर दिया.

फिर मैं उसके ऊपर से उतर गया और अपनी पैंट उतार डाला और अपनी चड्डी भी फुर्ती से उतार दी.

वो मेरी कमर के आस पास के भागों में बेतहाशा चूमने के बाद, वो मेरी हॉट पैंट की तरफ बढ़ी, जिसके बटन पहले से ही खुले थे. उसने फिर एक दिन सागर को जब उसके साथ मीटिंग थी, तो बाद में कुछ कहा, जो उसने मुझको बाद में बताया था. पीजी मटकाउसको जी भरकर देखने के बाद उसने उसको धीरे से चूमा और फिर लंड के अगले हिस्से को अपनी जबान निकल कर चाट लिया.

कुछ देर चूत चूसने के बाद मैंने कहा- अब तुम्हारी बारी … मेरा भी लंड खड़े रहकर अब दर्द करने लगा है. फिर मैंने अपनी नाक उनकी बगल में घुसा दी और वहां से जो उनके पसीने की महक आ रही थी, वो मुझे दीवाना करने के लिए काफ़ी थी. मैं मैडम की बातें सन्न होकर सब सन रहा था, क्या रिएक्ट करूं, कुछ समझ ही नहीं आ रहा था.

थोड़ी देर भाभी को चोदने बाद मैंने भाभी की चूत में लंड डाल दिया और चुत चोदने लगा. मालविका ने सोनाली को गले लग कर वेलकम किस किया।शायद मालविका सो कर उठी थी.

मैं- फिर भी सर उसके सामने ये सब कैसे हो सकता है?अब बॉस ने मुझे छोड़ दिया और वापिस कमरे में आ गए.

हमने चुदाई के अलावा सब कुछ कर लिया था, जबकि मैं अपनी कामुकता के कारण चुदाई के लिए भी पूरी तरह से तैयार थी. मेरा लंड जैसे मचल उठा उसके मुंह में जाने के लिए लेकिन वो मुझे और ज्यादा तड़पाना चाहती थी. मैंने उसकी गर्म गुलाबी चूत को करीब 15 मिनट तक अलग अलग तरीकों से चोदा.

मारवाड़ी भाई बहन का सेक्स वीडियो शायद उसको भी हमारा प्यार सच्चा लगा था और आखिर में उसकी भी आंखों से आंसू टपक पड़े क्योंकि मैं और संजना दोनों जानते थे कि शीना चाहे जैसी भी औरत हो … पर दिल की वो इतनी भी बुरी नहीं है, उसका दिल बहुत नर्म है. फिर उसने भी मेरे कपड़े उतार दिए और मेरे लंड को अंडरवियर के ऊपर से सहलाने लगी.

मतलब साफ शब्दों में वो मेरी नर्म गांड के अंदर अपना रस निकालना चाहता था।मैं आज अलग ही उत्साह में था, जल्दी से नहा धोकर तैयार हो गया। बॉथरूम में ही अपने बालों की बलि चढ़ा दी और गांड पर क्रीम लगाई जिससे वो सॉफ्ट बनी रहे। फिर हम दोनों सिटी के पयागीपुर चौराहे पर मिले, उसने मुझे पिक किया।मैंने उससे जगह के बारे में पूछा तो उसने कहा- अभी तय नहीं किया।मैं थोड़ा आश्चर्यचकित हुआ. मैंने अपना लंड पूजा की तरफ कर दिया तो उसने भी देर न करके मेरे लन्ड को पकड़ लिया और आगे पीछे करने लगी. बस इतना याद रखना कि आज की रात के बाद तुम्हारी सैलरी 40000 हज़ार से डेढ़ लाख हो जाएगी.

अल्लो सेक्सी ब्लू

अब मैं जब रसोई में होती, तो कुंवर साहब अन्दर रसोई में किसी ना किसी बहाने से आ जाते. बेडरूम के अन्दर घुसते ही मैं फिर से हैरान हो गया, पूरा बिस्तर सुहागरात की तरह सजा हुआ था. वो बोले- गीता, तुम तो बुखार है!मम्मी- पर विक्की … मुझे तो ठंड लग रही है, कुछ करो विक्की!मम्मी ने विक्की भैया का एक हाथ पकड़ा और रजाई के अंदर डाल लिया और चुत के पास ले गई.

कैसा लग रहा है मेरी गुड़िया रानी को?” मैंने उसकी चूत पर चिकोटी काट कर पूछा. लेकिन मेरा अभी हुआ नहीं था, सो मैंने भाबी को नीचे लिटा लिया और उनकी चूत में लंड डाल कर ज़ोर ज़ोर से धक्के देने लगा.

थोड़ी देर बाद मौसी सिस्कारियां भरती हुई बोलीं- समीर और मत तड़फाओ, जल्दी से घुसा दो अपना लंड मेरी चूत में … और मेरी प्यास बुझा दो.

मैंने कहा, ये पेशाब नहीं है … जोश में आने के बाद चुत से पानी निकलता है. करीब 15-20 मिनट धक्के देने के बाद मैं रुक गया और उसके पैर नीचे लेकर एक पैर नीचे रखकर एक पैर उठाकर अन्दर डाल दिया. काले रंग की ब्रा में से उसके गोरे गोरे मुम्मे ऐसे लग रहे थे, जैसे कोयले की खान से हीरे निकल रहे हों.

मेम जैसे ही अन्दर आने लगीं, उनके सैंडल की एड़ी मुड़ गयी, उनका पल्लू गिर गया और वह गिरने लगीं. मैं और भी ज़्यादा गर्म हो गया और मैंने अपना मुँह मौसी की चूत पे लगा दिया. उसमें भी उषा जैसी कामवाली हो, तो चुदाई में चार चाँद तो लगना लाजमी है.

मैंने उसे पीठ के बल लेटा दिया और उसकी गांड के नीचे तकिया रख दिया जिससे उसकी चूत ऊपर की ओर हो गयी.

बिहारी हिंदी बीएफ वीडियो: रोहन- प्लीज मुझे बताओ ना … आपका एक जोड़ी से क्या मतलब है?सोनिया- अय्यो रोहन … बी एंड पी का अर्थ है ‘ब्रा और पैंटी. फिर मैंने शावर चला दिया और चलते शावर में दोनों एक दूसरे को चूमने में लग गए.

बेटी कितना कोमल जिस्म है तुम्हारा!” महेश ने अपनी बेटी को गर्म होता देखकर अपने हाथ को उसकी जांघों से ऊपर करते हुए उसकी पेंटी तक ले जाते हुए कहा. मैंने अपनी सास को अपनी ओर खींच लिया और उनकी गर्दन और कान की लौ पर किस करना शुरू कर दिया. एकदम गोल गोरे चुचे … उन पर भूरे रंग के कड़क निप्पल … मेरा लंड फिर से तुनकी मारने लगा.

बोलकर नहाने चली गई।मैं वहां चेयर में बैठा तो सुहानी भी ‘अभी आती हूं.

वो मुझे उनका लंड पकड़ कर दिखा रही थी कि कहां मेरा पांच इंच का लंड और कहां उनका सात आठ इंच का लौड़ा. वो मेरी तरफ पीठ करके मेरे दोनों पैरों के बीच में बैठ गई और हम दोनों सामने लगे टीवी को देखने लगे. फिर वो अपनी जगह से हटी और मुझे पानी देते हुए बोलीं- बड़ा प्यासा लग रहा है.