बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी बाबा की वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी नंगी भाभी की: बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो, मगर हम तीनों को क्या पता था कि रेखा की आवाज उनकी मां को इधर बुला देगी.

दिमापुर सेक्सी वीडियो

मैंने ये सुना तो मौका पर चौका मारते हुए कहा- इससे मुझे क्या फ़ायदा होगा?मुस्कान दीदी बोली- कहा तो है कि जो तू कहेगा, वो करूंगी भाई, लेकिन किसी को मत बताना. मारवाड़ी न्यू सेक्सीइस तरह से उस दिन सनी की हमने बहुत ली और बहुत खिंचाई भी की, जिसका हर्जाना मुझे ही भुगतना पड़ा.

दूसरी बार का सेक्स जैसे कि आप सब लोग जानते ही हैं कि ज्यादा मजेदार होता है, वैसे ही हम दोनों ने दूसरी बार में बहुत देर तक अच्छा और मजेदार सेक्स किया. चित्र सेक्सी चित्रमेरी देसी चूत का पानी फव्वारे की तरह निकला जब तीन लड़के मेरे नंगे बदन के साथ खेल रहे थे.

गीता की बात सुनकर मैंने उसका एक पैर सोफे पर रखा और अपना लंड उसकी चूत के मुँह पर रख दिया.बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो: उस समय तक मुझे अंदाज भी नहीं था मैं जीवन के प्रथम संभोग के लिए आगे बढ़ रहा हूं.

जबकि उनकी छोटी सी नौकरी में तीन बच्चे और चौथे की इच्छा होना एक पाप जैसा लगता था मुझे!मैं दिन रात उन्हें समझाती कि यदि बच्चों को अच्छा रहन सहन, अच्छा जीवन ना दे सकें, तो बच्चे पैदा क्यों करने हैं।एक और फर्क था उनमें और मुझमें, हम दोनों के जन्म अलग अलग धर्म को मानने वाले परिवार में हुआ था.उसी वक्त आगे से राकेश ने अपनी दो उंगलियां मेरी गीली चूत में घुसा दीं.

देहाती सेक्सी वीडियो घरेलू - बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो

मैं उसके होंठों को चूसते हुए उसके चूचों को प्यार से सहलाने और मसलने लगा.ये बोल कर पापा ने बाम लगाई लेकिन मेरी गांड देख कर पापा का लंड खड़ा हो गया था.

उसके बाद मैंने रीमा के कमरे में दो दिनों तक रह कर उसकी धांय धांय चुदाई कैसे की, ये गोवा सेक्स मैं बाद में लिखूँगा. बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो क्या तुम्हारा मुझसे मन भर गया है?मैं उसकी मनोदशा अच्छे से समझता था और उसे हालात के बारे में समझाता भी था, पर उसके दिमाग में तो कुछ और ही चल रहा था.

वो पहले तो कुछ नहीं बोली, फिर एक मिनट बाद बोली- जैसा सारे दिन मोबाइल में देखेगा, वही तो सपने में करेगा.

बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो?

अब मेरा लंड बुआ की चूत में अन्दर बाहर करने लगा और बुआ की सिसकारियां निकलने लगी. मैंने ध्यान दिया कि उन दोनों का ध्यान मेरी बातों पर कम और मेरी चूचियों पर ज्यादा था. एक बार उसकी इच्छा से मैंने उसकी गांड भी मारी और इस बार उसे बहुत कम दर्द हुआ.

उस समय घड़ी में शाम के चार बज रहे थे, उसने कहा- अब तो तुझे मेरा लंड भी शांत नहीं कर पायेगा. अब तक आपने पढ़ा था कि मेरे खेतों में काम करने वाली मदमस्त हफ्ज़ा मेरे घर की पुताई करने आई थी. मैंने उसके लिए एक हल्का सा पैग बनाया ताकि उसको नशा न हो और अपना थोड़ा सा हैवी बना लिया.

जब तक मेरे लंड की एक एक बूँद नहीं निकल गई तब तक मैंने अपना लंड मुँह से बाहर नहीं निकाला. फिर समीर भैया ने मुझे सीधी लिटा दिया और खुद मेरी चूचियों पर लंड लगा कर चढ़ गए. पहली चुदाई के बाद उसकी चूत गीली होने के कारण मेरा लंड उसकी चूत में समा गया.

देसी GF सेक्स कहानी का अगला भाग:प्यार और वासना की मेरी अधूरी कहानी- 4. मैंने अदिति से कहा- अदिति सोहम मेरे साथ ज्यादा घुल-मिल गया था लेकिन तुम जो सोच रही हो, ऐसी कोई बात नहीं है.

कुछ देर किस करने के बाद मैं उसे बेड पर सीधा लिटा कर सीधे उसकी चूत चाटने लगा।पिंकू की प्यारी चूत एक फूल की तरह थी जिसमें गुलाबी पंखुड़ियां दिखाई दे रही थी, अब पिंकू भी गर्म होने लगी और अपने हाथों से मेरे सर को दबाने लगी।मुझे उसकी चूत चाटने में बहुत मजा आ रहा था.

फिर कुछ दिन हमारी ऐसे ही दोस्त की तरह बातें चलती रही और हम और भी ज्यादा क्लोज हो गए.

अदिति मचलने लगी और मदहोश होकर मेरा आधा लंड अपने मुँह में लेकर जोर जोर से चूसने लगी. वो बोला- सॉरी से क्या मेरे कपड़े साफ़ हो जाएंगे?मैंने कहा- लाओ मैं धो देता हूँ. पॉल अब अपने मालूल लौड़े को हिलाते हुए अपनी बीवी रीना की चूत का रसपान कर रहा था.

मैंने उस चैट को पढ़ कर पाया कि जिस लड़की से मामा बात करते हैं, वो हमारे ही गांव की है. सिमी- तुम मानोगे नहीं ना!मैंने ‘नहीं …’ में सिर हिलाया और अपने लंड को उसको होंठों पर लगा कर पुश करने लगा. काम करते समय इधर उधर हिलने की वजह से उसकी गांड भी ऊपर नीचे हिल रही थी.

फ़ज़लू मियां ने कहा- अरे नगमा बेगम ये लड़की कौन है, कहां से है, पहले ये सब तो बताओ? और लंड लेने को राजी है या नहीं … वर्ना किसी लफड़े में न फंसा देना.

उसी बारे में सोचते रहने के कारण उस लड़के में मेरी दिलचस्पी और बढ़ने लगी. मुझे अपनी गांड का सुख देने के बाद वो अब पाटिल जी से गांड मराने लगी थी. इसका अहसास सिर्फ मुझे ही हो सकता था क्यूंकि मैं नीचे से पूरी भीग चुकी थी, तो मेरे अलावा किसी को कुछ समझ नहीं आ सकता था.

थोड़ी देर वो आज दिन के बारे में और अर्णव के साथ हुई बातचीत, उसके साथ कैफे में जाने के बारे में ही सोचती रही. मैंने सोच लिया था कि आज चाहे कुछ हो जाए मैं पिंकू को चोद के रहूंगा. तुम्हारे इस मोटे लंड का चिकना सुपारा मेरी चूत और गांड के छेद पर रगड़ खा रहा है.

उस समय नई नई जवानी चढ़ी थी तो हम दोनों लेस्बियन सेक्स करके मजे करते थे क्योंकि हमारे पास लंड तो था नहीं.

वो आगे बोला- दीदी यहां इस कमरे में लाइट नहीं है, कोई और जगह बताओ जहां बढ़िया लाइट हो!मैंने उसको छत पर चलने को बोला, जहां उसने काफी देर मेरी खूब सेक्सी सेक्सी पोज़ में फ़ोटो निकालीं. ’मैंने दुकान से उसके लिए प्रो-ईस का पैकेट लिया और कंडोम का एक छोटा पैकेट मांगा.

बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो मैंने उसकी टी-शर्ट को उसकी पीठ पर थोड़ा ऊपर किया और उसकी चुचियों के बाजू तक लाकर छोड़ दिया. दोस्तो, आपको मेरी सौतेली मां अदिति के साथ मेरी चुदाई का मजा आ रहा होगा.

बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो ऐसी घमासान चुदाई के चलते अब मेरा लौड़ा रीना के बच्चेदानी पर वार करने लगा और रीना इस घाव से बच नहीं सकी. दोस्तो, पहली बार खेत में किस तरह से मैं अपने भाई के साथ चुदी … ये सब मैं आपको अपनी चुदाई कहानी के अगले भाग में लिखूँगी.

मैं बोली- क्यों पापा आपको मम्मी नहीं चाटने देती क्या?तो पापा बोले- नहीं मेरी परी, तेरी मम्मी को तो तेरे मामा से चुदवाने की ही फुरसत नहीं मिलती.

गावठी मराठी सेक्स

धीरे धीरे उसने अपने हाथ को ऊपर उठाना शुरू कर दिया और मेरी चूत के चारों ओर घुमाने लगा. अम्मी की चूत में आज तक 4-5 इंच की लुल्ली ही गयी थी और इतने साल से वो चुदी भी नहीं थी, मेरा 8 इंच का मोटा लंबा लंड कैसे सहन कर पाती?मेरे लंड के आधा अन्दर जाते ही वो कराह उठीं- हायल्ला मर गई!अम्मी के मुँह से इतनी मादक आवाज से लंड में अकड़न और बदन की जकड़न दोनों और बढ़ गई. सोनी के साथ रिश्ते में आने के बाद के दूसरे बर्थडे पर मैंने सबको सोनी से मिलाने के लिए एक छोटे से रेस्टोरेंट में पार्टी दी.

अब आपा ने गाली देते हुए कहा- बहनचोद, अब देख क्या रहा है … डाल ना अन्दर अपना लंड भोसड़ी के!आपा की बहुत सारी फैंटेसी में से एक ये भी था कि चुदते वक्त वो गंदी गंदी गालियां देती थीं. उन लोगों ने भी जब लच्छो को देखा तो मुझसे उसकी गदराई जवानी की तारीफ की. उसने कहा कि कल रात को हम दोनों ही ज्यादा उत्साहित हो गए थे, इसीलिए चुदाई के समय हमारी आवाजें भी बाहर जा रही थीं, वही उन्होंने सुन ली थीं.

मैंने ऐसी बात अपने दिमाग में ठान ली और मैं अपने छोटी सी निक्कर और ऊपर से बस एक छोटा सा टॉप पहन कर ऊपर की फ्लोर पर जाने के लिए निकलने वाली थी.

कुछ ही पलों में रेशमा की गांड ने पाटिल जी के लौड़े को अपना घर बना लिया और फिर से सलमान हिजड़े की बीवी दो पराये मर्दों से चुदने लगी. उस रात हम दोनों ने एक बार और चुदाई की क्योंकि हमें दूसरे दिन वापस नागपुर आना था. हमारी जोरदार चुदाई का अंत उस वक्त आ गया, जब हम दोनों एक साथ स्खलित हुए.

देखते ही देखते उनके लंड से तेज सफेद माल की धार छूटी और मेरा पूरा चेहरा और बूब्स भर गए, मेरे पूरे शरीर पर उनका गाढ़ा माल गिर गया. देसी गर्ल न्यू चूत कहानी में पढ़ें कि मैं पड़ोस की कई चूतें मार चुका हूँ. शुरू में तो हम दोनों ज्यादा बातचीत नहीं कर पाए, पर फिर धीरे धीरे घुलते मिलते चले गए.

मैंने आंटी को खिड़की की तरफ सर करके लिटाया हुआ था जिस वजह से आंटी को खिड़की की तरफ का कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था. अगले दिन वो घर में काम में आई तो मैंने उससे कल की बात के लिए माफी मांगी तो उसने कहा- कोई बात नहीं अंकित धोखे से हुआ, तुमने जानबूझ कर तो नहीं किया ना!इतना कह कर वो अपना काम करने लगी.

मुझसे बातें करते हुए भी अब तक अंजलि बिल्कुल नंगी बैठी थी और उसने ऊपर कुछ भी पहने की कोशिश नहीं की. अब गर्लफ्रेंड की गांड फक़ में मजा आने लगा था, तो वो भी जोर जोर से अपनी गांड से लंड पर धक्के मारने लगी थी. मैंने उसको लिप किस किया और उसके मम्मों को जोर से मसलते हुए उसकी मम्मों की बहुत तारीफ की.

मैंने आव देखा न ताव और झट से उसके लोअर को अंडरवियर समेत नीचे खींच दिया.

रीना के बड़े बड़े चूचे मसल मसल कर मैं उनके निप्पल अपनी उंगलियों से मरोड़ रहा था; कभी उसको चूमते हुए जोर से उसके होंठों को काट दे रहा था. थोड़ी देर ऐसा करने के बाद अंकल ने मेरे पैंट के हुक को खोला और पैंट को खींच कर बाहर निकालने लगे. दस मिनट तक हम दोनों ऐसे ही पड़े रहे, एक दूसरे के होंठ और जीभ चूसते रहे.

मैंने सेक्स कहानी में ये पढ़ा था कि अगर कोई लड़की, लड़के का लंड चूसती है, तो वो लड़का खुद को संभाल नहीं पाता और खुद भी बेचैन हो जाता है. ईशा ने मुझे छेड़ते हुए कहा- मुझे लगता है कि सोफे पर सोना पड़ेगा क्योंकि यहां तो तुम बेड हिला हिला कर मुझे परेशान कर दोगे और शैली की तो आवाजें भी बहुत निकलने वाली हैं.

उन्होंने बोला कि लड़का अभी ही कम्पनी की छुट्टी मना कर बेंगलोर गया हुआ है. अब विपिन भी जोर जोर से मेरे होंठों को अन्दर बाहर करते हुए चूस रहा था और हम ऐसे ही कुछ देर तक एक दूसरे में खोये हुए किस करते रहे. ऐसे ही हम दोनों किस करते रहे और एक दूसरे की गांड में उंगली करते रहे.

13 साल की सेक्सी वीडियो

नीता ने अन्दर से ब्रा पहनी थी लेकिन उसके आधे से कम चूचियां बाहर उभर रही थीं.

कहानी के पिछले भागमेरी प्राइवेट सेक्रेटरी की आगे पीछे डबल ठुकाईमें पाटिल और मेरे साथ सैंडविच चुदाई का मजा लेने के बाद मेरी रेशमा तो एकदम पोर्न ऐक्ट्रेस बन गई थी. मैंने तुरंत मन बना लिया कि इस न्यू चूत की सील तो मैं ही तोड़ूँगा चाहे कुछ भी करना पड़े. कुछ देर बाद वो नीचे चित लेट गया और मुझे अपने लंड के ऊपर बिठा कर ऊपर नीचे होने को कहा.

मैं नहीं चाहता था कि सोनी फोरप्ले के दौरान ही झड़ जाए, इसलिए मैं रुक गया और खड़ा हो गया. उसने भी मेरी चुम्मियों का उत्तर देते हुए अपने हाथों से खुद को और मुझको नंगा कर दिया. देसी सेक्सी मूवी देहातीसुहानी एक स्कूल में प्रिंसिपल पोस्ट पर है और यहीं राजस्थान के कोटा शहर से है.

वह घोड़ी बन गई और बोली- राज, अब मुझे जमकर चोद डालो प्लीज़!मैंने उसकी कमर पकड़कर पूरा लौड़ा अन्दर तक घुसा दिया और झटके लगाने लगा।अब धीरे धीरे वो भी अपनी गांड आगे पीछे करके ट्रेन सेक्स में मस्ती से चिल्ला रही थी- हहह आआह हहह उह हहह … ऐसे ही चोदो मुझे और और चोदो आहह आहह मजा आ रहा है!मैंने कहा- नाजिया, आवाज मत करो. लेकिन लड़कियों की कुछ ऐसी जरूरतें भी होती हैं, जिसे वो किसी से बता नहीं सकती.

कुछ मिनट बाद उसने अपने पैर टाइट कर लिए और उसने एक बार फिर से अपना पानी छोड़ दिया. अदिति बोली- हर्षद हम अभी विलास के घर गए थे, तब तुमने सरिता के साथ संभोग किया था. पापा ने कहा- बेटा सन्नी, हम लोग तेरे बिना ये ट्रिप एंजाय नहीं कर पाएंगे.

लेकिन कहते हैं ना कि जब एक बार पानी निकलना चालू हो जाता है, तो वह रुकता ही नहीं … और जब तक चूत की खुजली मिटती नहीं है, तब तक वह वैसे ही लौड़े के लिए तरसती रहती है. करिश्मा मेरे कंधे पर सर रख कर सो गई और मैं उसके चूचे देखते देखरे सो गया. फ़ज़लू मियां ने कहा- नगमा बेगम इतना तो नहीं होगा, कुछ और हो सकता है तो बताओ?नगमा ने कहा- अरे फ़ज़लू मियां क्यों फिक्र करते हो.

मेरे नियमित पाठकों को मेरे बारे में जानकारी है, पर नए पाठको के लिए बता दूँ कि मैं भारत में जन्मा हूँ, पर अब इंग्लैंड का निवासी हूँ और कई किस्म की कामुक हरकतें करता रहता हूँ.

उसने उसे हैलो बोला और पूछा- आप यहां कैसे?वो बोला कि मैं तो यहां रोज़ ही आता हूँ. उस रात में भैया ने रुक रूककर मुझे 4 बार चोदा और अपनी उतने दिन मुझे ना चोद पाने की कसर को पूरा कर लिया.

सौतेली माँ ने अपनी इच्छा अपने बेटे को बताई तो …अन्तर्वासना के सभी दोस्तों को हर्षद का नमस्कार. जब भैया की जीभ बड़ी आराम से मेरी गांड में अन्दर बाहर पर लगी तो उन्होंने एक उंगली में थूक लगाया और मेरी गांड में अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. मैं भी जोश में आ गया और जोर जोर से धक्के मारकर गीता की चुदाई करने लगा.

मेरी मां के मंदिर जाने का समय हो गया था और वो तीन घंटा वापस आने वाली नहीं थीं. फिर खुद को संभालते हुए झूठा गुस्सा दिखाती हुई बोली- आज कहां से मेरी याद आ गई! छोड़ मुझे, मैं कौन हूं तेरी … जो तुझे मेरी फ्रिक होगी. वापस आते समय में एक केला उठाकर ले आया और छिलका उतार कर बुआ कीचूत में केलाडालकर अन्दर बाहर करने लगा.

बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो किस किस की बुर में पेलते हो अपना लण्ड?उसने कहा- रात में जिसकी बुर खाली होती है उसी की बुर में घुसा देता हूँ लण्ड!शेखू ऐसा कह कर शन्नो की चूत की धज्जियाँ उड़ाने लगा।सबके मुंह से मस्ती में कुछ न कुछ निकलने लगा।जैसे कि- हाय रब्बा बड़ा मज़ा आ रहा है. मेरी चीख निकलते ही सुरेश ने अपना लौड़ा मेरे मुँह के अन्दर ठूंस दिया जिससे मेरी चीख अपने मुँह के अन्दर ही गुम हो गई.

घोडा वाली सेक्सी

उस रात हम दोनों दोस्तों ने वंदना की दो दो बार चुदाई की और अंकित मेरी बहन को चोदकर अपने घर चला गया. मैंने सुहानी को अपने ऊपर लेटाया और उसकी चूत में लंड ऐसे डाला, जैसे जैम में चाकू. बैंक ने मेरा ट्रांसफर हरियाणा के पंचकूला से नाहन (हिमाचल) कर दिया था.

तभी अंकल खड़े हुए और उन्होंने अपने भी कपड़े उतार दिए और एक साइड में रख दिए. मेरा एक हाथ सरक कर उसके सुडौल मम्मों पर चला गया और मैं उन्हें दबाने लगा. श्रीदेवी सेक्सी ओपनमुझे 2019 मैं मुझे मलेरिया हो गया था, तो मैं उसे शारीरिक रूप से खुश नहीं रख पा रहा था.

तीन दिन तक सुहानी को चोदने के बाद और उसकी मसाज के बाद जब मैं जाने लगा.

वे मेरे साथ खुली हुई थी, मैं उन्हें अपनी गर्लफ्रेंड बनने को कहता था. कम समय में सबका रिप्लाई करना संभव नहीं होता है लेकिन मैं कोशिश करता हूँ कि सबको रिप्लाई करूं.

पर मैंने सुपारे को वहीं पर रोक दिया और सोनी की पीठ चूमते हुए उसका ध्यान होने वाले दर्द से हटाने की कोशिश करने लगा. तो उसने बोला- दबा दूं क्या?मैंने गुस्से और प्यार से उसे उसकी छाती पर एक मुक्का मारा. उस समय मैं समय की नजाकत को देखते हुए चुप हो गया और मैंने सॉरी बोल दिया.

वंदना ने फोन उठाया और बोली- हां बाबू क्या कर रहे हो … सॉरी बाबू कल मम्मी पास में लेटी थीं, इसलिए बात नहीं हो पाई.

उसने पहले अपनी मॉम को इस नज़र से कभी नहीं देखा था, पर आज उसकी नज़र और नज़रिया दोनों बदल चुके थे. हम दोनों ने कुछ देर आराम किया, उसके बाद उसने ही मुझे मेरे कपड़े पहनाये और फिर मैं वहां से अपने घर को चल दी. इस घटना के बाद मैंने रेखा को जब चाहा, जहां चाहा, खूब चोदा और हफ्ज़ा को भी चोदा.

चीखने चिल्लाने वाला सेक्सी वीडियोफिर एक रात खाना खाने के बाद हम दोनों सोने के लिए अपने अपने कमरे में चले गए. धीरे धीरे पूरा मूत निकालने के बाद मैंने रीना और पॉल का मुँह टॉयलेट के पॉट के अन्दर पूरा दबा दिया और दोनों पॉट में गिरे मेरे मूत को किसी कुत्ते-कुतिया की तरह चाटने लगे.

ओल्ड सेक्सी मूवी

मैं उसका सारा पानी पी गया और कुंवारी बुर को चाट चाट कर साफ कर दिया. पॉल मेरा लौड़ा चूस ही रहा था कि तभी रीना ने फिर से कमरे में एंट्री ली और अपने साथ लायी हुई एक छोटी सी थैली बिस्तर पर ख़ाली कर दी. तभी सुरेश भी अपना लौड़ा मेरी गांड में घुसाने के लिए मेरे पीछे खड़ा हो गया.

उसने अपना हाथ अन्दर डाल दिया और ज्यों ही उसकी उंगली अन्दर मेरी चूत ले दाने तक पहुंची, मेरे मुँह से एक तेज आवाज के साथ मादक सिसकार निकली. आज तू दोपहर में कमरे में क्या कर रही थी, मुझे सब पता है!इतना सुनते ही पिंकू घबरा सी गई, उसके चेहरे पर डर के हाव-भाव साफ दिखाई दे रहे थे।पिंकू बोली- कुछ भी तो नहीं कर रही थी, मैं तो सो रही थी, मुझे क्या पता क्या हुआ।तभी मैंने पिंकू को उसी की वीडियो दिखा दी जो मैंने दोपहर में बनाई थी।पिंकू बहुत डर गई और बोली- भैया, प्लीज वीडियो डिलीट कर दो. वर्जिन देसी गर्ल Xxx कहानी में पढ़ें कि मैं जवान हुई तो मेरी जवानी भी सेक्स के लिए मचलने लगी.

मैंने उसे चूमा और कहा- जान तेरे मुँह से गालियां भी मुझे मजा दे रही हैं. जब तक वो उठकर मेरा लौड़ा मुँह में लेती, तब तक रेशमा ने ही उसका सर उठाकर मेरे लौड़े पर दबा दिया. मैंने कहा- पूरे कपड़े नहीं निकालो, तुम दोनों सिर्फ ब्रा और पैंटी में ही रहो.

आप दिखाओ पहले … फिर मैं भी दिखाता हूं।मैंने पैंट की जिप खोलकर ना लण्ड बाहर निकाला. मैं भी यही चाहता था कि वो किसी बहाने से भी मुझको अपने साथ घर में लेकर जाए.

जिस तरह से तुम्हारी चूत लंड को निचोड़ती है, उससे तो लंड की माँ चुद जाती है.

किस के दौरान मेरे हाथ कभी सोनी की पीठ सहलाते तो कभी उसके नितंबों को. सेक्सी पिक्चर देहाती गांव कीमैंने खड़े-खड़े ही उसके होंठों को, गर्दन को, बूब्स को चूमना शुरू कर दिया. सेक्सी ओड़िया सेक्सीकुछ देर बाद वो बोली- सॉरी मैंने उसे दिन तुम्हें काफी बुरा भला कह दिया था. कल रात से ही मैं पोर्न वीडियो देख रहा हूँ और तुम्हें चोदने के नए नए तरीके सीख रहा था.

तब सोनी थोड़ी शांत हुई और मैं भी उसके रिलैक्स होने का इंतजार करने लगा.

थोड़ी देर बाद नीता अपनी गांड आगे पीछे हिलाने लगी तो मैं उसके स्तन पकड़ कर आहिस्ता से धक्के मारने लगा. मैंने उससे कहा- बस सहला कर ही देखोगी या पकड़ोगी भी?उसने मेरे निक्कर में हाथ डाला और लंड पकड़ लिया. अगले दिन हिम्मत करके मैंने उस वक्त मामी को पीछे से पकड़ लिया जब वे किचन में खाना बना रही थीं.

वो मेरे पास आकर मुझसे बोली- मेरे राजा अब ठीक लग रही हूँ क्या? मैं तुम्हें एक शादीशुदा औरत लग रही हूँ ना?मैं बोला- हां मस्त. जांघों तक सलवार और पैंटी के फंसे होने की वजह से सोनी अपने दोनों पैर और चौड़ी नहीं कर पा रही थी, फिर भी वो जितना संभव हो रहा था, उतना अपने पैर चौड़े करने की कोशिश कर रही थी ताकि मैं उसकी बुर को गहराई तक चाट सकूं. मैं बोला- बुआ कुछ बोलेंगी तो नहीं?वो बोली- नहीं, मैं उनसे बात कर लूंगी.

कॉलेज लडकी सेक्स

मैंने उनकी गांड मसलते हुए कहा- अभी मेरा बाकी है जान … और बस होने ही वाला है. इसके बाद वो अपने रूम में जाकर लेट गया और फिर से वही सब कुछ सोचने लगा. मेरी GF BF Xxx कहानी जारी रहेगी, कहानी रोचक लग रही है या नहीं?[emailprotected]GF BF Xxx कहानी का अगला भाग:प्यार और वासना की मेरी अधूरी कहानी- 6.

मैंने पूछा- हंस क्यों रही है रंडी?वो हंस कर बोली- हां अभी तूने जो रंडी कहा है न भैन के लौड़े … मुझे भी ऐसे ही गाली देकर चुदवाने का मजा लेना है.

मैंने अपनी चूत में उंगली करते समय अपनी पैंटी को नीचे कर दिया था और जब मैं अपनी गुलाबी चूत में उंगली कर रही थी, तो वो सीन उसे साफ साफ दिख रहा था और वो मेरी चूत को भी देख रहा था.

फिर घर पहुंच कर मैंने ड्रैस के रंग वाले कपड़े का बहुत सेक्सी सूट सिल लिया. उस इंसान का नाम सूरज था, जिसने मुझे ये मेल की कि आप स्टोरी न लिखें, मेरी यह दिली ख्वाईश है. करिश्मा कपूर सेक्सी वीडियो फिल्ममैंने पहल करते हुए रीना को पकड़ कर अन्दर खींच लिया और दरवाजा बंद करते हुए उसको बांहों में भर लिया.

मैं जल्दी से उनके पास गया और उनसे पूछा- क्या हुआ मामी … आप क्यों रो रही हैं?उन्होंने थोड़ी देर में बताया- तुम्हारे मामा चले गए. पर फिर मैंने उसको ये बात भी बताई- अब तो आपको और दिल लगा कर काम करना पड़ेगा. बाकी देखने वाले दोनों को यह लग रहा था कि राकेश मुझे नहीं, मैं राकेश को चोद रही हूं.

दो मिनट में ही मेरे केबिन के दरवाजे पर ठक-ठक हुई और मैंने बड़े गंभीर आवाज़ में कहा- प्लीज कम इन. फिर उन्होंने आगे बताया कि बॉयफ्रेंड के साथ सेक्स करने में ख़तरा भी है कि कभी वो ब्लैकमेल ना करने लगे.

कर लेना … मैं राजी हूँ पर जरा रुको तो!पर … फ़ज़लू के नीचे दबी 5 फ़ीट कद और 40 किलो वजन की कमसिन लड़की एक 6 फ़ीट 2 इंच लम्बे और 75 किलो के आदमी के सामने क्या कर सकती थी.

ये बोल कर पापा ने बाम लगाई लेकिन मेरी गांड देख कर पापा का लंड खड़ा हो गया था. आपको मेरी हॉट सेक्सी भाबी की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके बताएं, मैं अगली बार भाभी के साथ सेक्स की आगे की दास्तान सुनाऊंगा. खैर … अब हम फ्री हो गए तो मैंने सोचा कि आज किसी तरह इसे चोदना तो है ही मगर मैं जबरदस्ती कभी नहीं करता.

एक्स एक्स सेक्सी फिल्म वीडियो एचडी उसने पहले अपने मंगलसूत्र को निकाल कर रख दिया और मेरे कपड़े निकालने लगी. मेरे हां करते ही पिंकू बहुत खुश हो गई और उछल कर मेरे गले लग गई।उसके बदन की मदमस्त खुशबू ने मुझे अपना दीवाना बना लिया, मैंने अपने दोनों हाथ उसके पिछवाड़े पर रखकर हल्का सा दबा दिया।मैंने मन में बोला- चल पिंकू, चुदाई से पहले तुझे मार्केट घुमा के लाता हूं।फिर मैं और पिंकू तैयार होकर मार्केट की तरफ निकल गए.

जल्दी ही रश्मि से मेरा संपर्क टूट गया और धीरे धीरे सोनी ने भी रश्मि की बातें करना बंद कर दीं. उन्होंने दर्द भरी धीमी मदहोश आवाज में कहा- मुझे मत तड़पाओ अज्जू, अब आ भी जाओ न!उनके इतना कहने के बाद मैं उठ गया और उनकी तरफ बढ़ गया. आज तू दोपहर में कमरे में क्या कर रही थी, मुझे सब पता है!इतना सुनते ही पिंकू घबरा सी गई, उसके चेहरे पर डर के हाव-भाव साफ दिखाई दे रहे थे।पिंकू बोली- कुछ भी तो नहीं कर रही थी, मैं तो सो रही थी, मुझे क्या पता क्या हुआ।तभी मैंने पिंकू को उसी की वीडियो दिखा दी जो मैंने दोपहर में बनाई थी।पिंकू बहुत डर गई और बोली- भैया, प्लीज वीडियो डिलीट कर दो.

चलो दिवस पिक्चर

मैंने तुरंत अन्दर लंड को पेल दिया और भाभी को बांहों में भरके कुछ वक़्त के लिए उनके ऊपर लेटा रहा. अपनी सहेलियों से ही उसने अंतर्वासना के बारे में जाना और को इसमें प्रकाशित सेक्स कहानी पढ़ना अब उसका शगल हो गया है. कहानी के पिछले भागजवान लड़की की बढ़ती अन्तर्वासनामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपने बाजू में रहने वाले समीर भैया की मम्मी के पास खीर का कटोरा लेकर गई थी.

साथ ही मैं सभी पाठको को धन्यवाद भी देता हूँ कि हर सेक्स कहानी के बाद आपके हजारों मेल मुझे मिलते हैं. मेरा नाम सिड कपूर है, मैं दिल्ली में अपने माता-पिता और भाई के साथ रहता हूँ.

मैंने उसकी बात से सहमति जताई कि हां अन्तर्वासना पर सेक्स का मजा लेना बहुत ही आनन्ददायक है.

इस तरह दोस्तो, रीमा की सील पैक चूत की चुदाई उसके तय किए दिन के एक दिन पहले ही हो गयी, वो भी सिनेमा हॉल में!मैंने ये जो भी लिखा है, हर एक शब्द सत्य घटना है. अगले ही पल मामी ने अंगड़ाई के बहाने से अपना पल्लू गिरा दिया जिससे उनके नुकीले चूचे उभर कर दिखने लगे थे. किरण को जोर जोर से थप्पड़ मारते हुए रेशमा ने उसका मुँह अपनी चूत पर दबाया और उसका मुँह अपनी चूत पर रगड़ने लगी.

मैं भी उसकी चूचियों की रगड़ का मजा लेते हुए ड्राइविंग का मज़ा लेने लगा. एक दो बार तो लंड फिसल गया, पर तीसरी बार में लंड का गुलाबी सुपारा उसकी बुर में घुस गया. ब्रांच पहुंच कर अपने जरूरी काम करके मैंने उसके मैसेज पढ़े, तो उसमें लिखा था कि राज तुम कल रात मेरे साथ बहुत कुछ कर सकते थे, लेकिन तुमने अपनी दोस्ती निभाई है.

चूंकि दूसरा कपल तो अपनी चुदाई में मशगूल था तो उनको कोई फर्क नहीं पड़ रहा था कि हम लोग क्या कर रहे हैं.

बीएफ भोजपुरी बीएफ वीडियो: उसी में से एक लड़के ने बोला- मैं आपको अपने जन्म दिन में बुलाऊंगा, तो आप आओगी न!मैंने कहा- पूरी क्लास को बुलाओगे क्या?वो बोला- नहीं हम तीनों और बस आप. मेरा वीर्य इतना सारा निकला था कि उसकी नाक से निकल आया, पर मैंने देखा ही नहीं, बस लगा रहा.

तुझे मालूम है कि फ़ज़लू जब तक चूत को हाथ नहीं लगाता, जब तक माल खुद से चुदने को राजी न हो. मैंने सबकी बातें सुनी, पर ना तो मैंने उन्हें कुछ बोला और ना ही सोनी को कुछ बताया. वो बोली- नहीं यार मेरा तो मीनोपॉज आ गया था … साला वो मेरा बॉस, उसने मुझे किसी डॉक्टर से मेरा इलाज करवाया.

थोड़ी देर में खाने का भी टाइम हो जाएगा तो कहीं अच्छी जगह खाना खाने चलें?वीकेंड का दिन था तो मैंने भी कहा- हां ठीक है, चलो चलते हैं.

जैसे मैं लड़खड़ा कर चल रही थी, उससे मेरे बूब्स उछल उछल कर मेरे टॉप से बाहर आ रहे थे और मेरी गोल मटोल गांड मेरी स्कर्ट से दिख रही थी. आह आज नहीं छोडूंगी तुम्हें … आज तो पूरी रात चूत चुदाऊंगी तुमसे … चोदो मादरचोदो, फाड़ दो मेरी चूत!मेरे मुँह से गालियां सुनकर उन्हें भी जोश आ गया और एक बोला- साली रंडी, बहुत आग है तेरी चूत में … भैन की लवड़ी … आज पूरी रात ऐसा चोदेंगे कि हमारे लौड़े कभी भूल ही नहीं पाएगी मादरचोद रंडी … आज तो तेरी मां चोद देंगे हरामिन … साली तुझे ऐसा चोदेंगे कि तेरी चूत फट जाएगी. अभी मैं अपने मुँह में जीभ का अहसास कर ही रहा था था कि भाभी का हाथ मेरे लौड़े पर आ गया था.