सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो हिंदी में हिंदी आवाज

तस्वीर का शीर्षक ,

बफ सेक्स ओपन: सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली, मैंने चाय देते हुए कहा- मोहिनी जी, आपको सुन्दर लड़किया पसंद हैं?मोहिनी बोली- और रतन जी, आपको जवान लड़के पसंद हैं?हम दोनों हंसने लगे.

डॉगी और लेडीज की सेक्सी मूवी

भाभी के मुँह से ‘आंह और तेज … और तेज … आंह मैं गई …’ की आवाज़ आ रही थी. सेक्सी चाहिए अंग्रेजी सेक्सीभैया भाभी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि एक कमरे के घर में मैं भाई भाभी के साथ ही सोता था.

मेरे पापा का बिजनेस बहुत बड़ा होने के कारण उनके आधे काम को मैं संभालता हूं. बीपी सेक्सी फोटो भेजोहम नजदीक के एक अल्ट्रासाउंड सेंटर पर गए, जहां रविवार की वजह से सिर्फ डॉक्टर ही था, बाकी का स्टाफ छुट्टी पर था.

मैंने भी अपनी सिगरेट को ऐश ट्रे के खांचे में रखी और आगे होकर उसकी गर्दन को देखने का नाटक करने लगा.सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली: धीरे धीरे अपने एक हाथ से उसकी जांघों को सहलाने लगा और दूसरे हाथ को उसके कंधे को सहलाने लगा.

इस हॉट मॉम सेक्स कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मेरी मॉम की चुदाई हुई, कैसे मेरी मॉम ने अपनी गांड मराई और अपनी चूत में भी लंड लिया.मैंने उन्हें बताया कि उस फोटो में मेरे साथ मेरी एक रिलेटिव है … मैं अभी सिंगल ही हूँ.

बहु ससुर की सेक्सी हिंदी - सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली

मैंने बाद में भाभी से इस बारे में पूछा था कि ये सब मां ने कैसे सैट किया था कि उन्होंने आपको चोदने के लिए मुझे फिट कर दिया.भाभी के मुँह से लौड़ा और चुत सुन कर मुझे बहुत अच्छा लगा और मेरा जोश काफी बढ़ गया.

बिलाल- और सुनाओ ऋषि भाई … कैसा चल रहा है … आजकल किधर है?मैं उस समय इंदौर में ही था और मुंबई किसी काम से जाने की प्लानिंग कर रहा था, तो मैंने उसको बता दिया. सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली उसकी चूत बहुत टाइट थी और मेरा अभी सिर्फ आधा लंड ही चुत के अन्दर जा पाया था.

जब मैंने पहली बार सलईका की बुर को वीडियो कॉल पर देखा, तो मेरा लंड तन कर खड़ा हो गया.

सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली?

मैं 22 साल का लौंडा हूं और मेरा लंड 7 इंच है, जो किसी भी चूत को चोदकर पानी पानी कर सकता है. भाभी मुस्कुरा दीं और बोलीं- उस दिन यही सब देख कर कुछ कुछ कर रहे थे न!मैंने सर झुका लिया और मेरे होंठों पर मुस्कान आ गई. उसने दर्द से तड़फते हुए कहा- ये बहुत अन्दर जा रहा है … मुझे दर्द हो रहा है.

तभी एक वेबसाइट पर सेक्स मूवी देखने का मन हुआ और फ्री समय होने के कारण में चुदाई के वीडियो देखने लग गया. दोस्तो, यह थी मेरी सच्ची आपबीती … जिसमें मैंने अपनी एक्स गर्लफ्रेंड की चुदाई की हवस निकाल दी थी और अपना मकसद पूरा कर लिया था. सभी पाठकों से मेरा एक विनम्र निवेदन है कि मस्त माल देख कर जब भी हवस जागे, तो अच्छे सभ्य इंसान की तरह हस्थमैथुन कर लें.

पांच मिनट बाद हम दोनों उठ कर बाथरूम में गए और साफ़ सफाई करके बाहर आ गए. उसकी इस बात से मैं थोड़ा मायूस हो गया और मैंने उसको बताया कि मेरी अम्मी बिना अब्बू के कितनी अकेली हैं. इस बार मैंने अपनी पैंट को उतारकर अलग कर दिया और अपना खड़ा लंड आंटी के सामने कर दिया.

उन्होंने हंस कर कहा- जो दिखाया था, उसमें कुछ फर्क तो नहीं निकला साहब!मैं हंस पड़ा. ऐसा लग रहा था जैसे कि शिवानी कह रही हो कि मैंने मेरी चूत तुम्हारे हवाले कर दी हो.

एक दिन एग्जाम के टाइम में पढ़ाई करते हुए मैं बोर हो गया तो फेसबुक चलाने लगा.

उन्होंने अपने लाल लाल होंठ दांतों से दबा लिए और मादक आवाजें निकालने लगीं- उम्मंह हहह अह्ह जगप्रीत … तुमने मुझे इतना क्यों तरसाया … आह आज मेरी चूत को लाल कर दो … सुजा दो.

अब मैं शिवानी के दोनों आमों को चूसने के लिए टूट पड़ा और शिवानी को वापस नीचे लेटाकर उसके आमों के बाग में घुसपैठ कर दी. जैसा कि आपको पता है कि मुझे साई नाम का एक आदमी पुणे में मिला था, वो 35 साल का था. मैंने कहा- अब इस समय मैं कुर्ता पजामा किधर से लाऊं?वो हंस दी और बोली- मेरे पास है.

जैसे ही उसकी गुलाबी जीभ मेरे लन्ड के सुपारे पर लगी, मेरे पूरे शरीर में एक करंट से दौड़ पड़ा. पहले तो मैंने यूं ही आनाकानी का नाटक किया, पर बाद में मैं हां बोलकर घर से आ गया. तब तक के लिए आप अपना, अपने लौड़े और अपने लौड़े की म्यान यानि अपने लौड़े की प्यास मिटाने वाली चूत का भी ख्याल रखें.

भाभी के पति जब भी कल्पना भाभी को चोदते थे, तो वो झटपट वाली चुदाई करते थे.

कुछ टाइम तक तो सब नार्मल ही चल रहा था, पर फिर मुझे चुदाई की इच्छा होने लगी और मैं रोज बाथरूम में अपना लंड हिलाने लगा. कुछ देर और चुदने के बाद माधवी सोनू के सामने ही भिड़े के लंड पर ही झड़ गयी और उसने अपनी चूत से ढेर सारा पानी निकाल दिया. चूंकि सैलरी ठीक-ठाक थी, तो मैं एक अच्छी सोसाइटी के अपार्टमेंट में रहने आ गया.

मैं- कोई बात नहीं, अब बताइए मैं आपको कहां पर डाल कर दिखा सकता हूँ?मनीषा समझ गई थी कि मामला टॉप पर आ गया है. मेरे हाथ का जोर पड़ने पर चट चट करके खुल गए और सामने भाभी के दूध ब्रा में फंसे दिखने लगे. वह दोनों तरफ अपनी टांगें रख कर उसे देखता हुआ सड़का मारने लगा।लण्ड ने सारा वीर्य उसकी चूचियों पर गिरा दिया।सबने बड़ी जोर से तालियां बजाईं।आठवीं पर्ची रूपेश ने निकाली.

मैं फोन उठा कर कुछ बोलने ही वाला था कि उधर से आवाज आई कि तुम दूसरे टेस्ट में भी पास हो गए.

दीदी मदहोश थीं, वो मुझे बांहों में भरके मुझे अपने ऊपर लेकर बेड पर गिर गईं और चूमने लगीं. कबड्डी खेलने के कारण मेरा शरीर मजबूत था। मैं जल्दी थकती नहीं थी।करीब आधा घंटा मैं उसको चोदती रही.

सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली हम दोनों बहुत घुल-मिल चुके थे इसलिए उसने सीधे मुझसे कह दिया कि मैं तुम्हें आज चोदना चाहता हूँ. भाभी चुदाई का सपना देख ही रही हैं, क्यों न मैं अपना लंड भाभी की चुत में पेल कर मजा ले लूं.

सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली दस मिनट बाद बस एक ढाबे पर रुक गई जहां हमने खाना खाया और फिर से बस में बैठ गए. मैंने आंख दबा कर पूछा- क्यों?वो इठला कर बोली- मैं दो दिन आराम करूंगी.

उसने मुझे उंगली के इशारे से करीब बुलाते हुए कहा- कम ऑन बेबी … फक मी हार्ड.

निरहुआ अमरपाली के सेक्सी वीडियो

नहीं तो झटका लगने से गिर सकती हो।जो ससुर जी चाहते थे, मैंने वही किया, उनकी जांघ पर हाथ रख दिया।हाँ ऐसे ही!”मैं बीच-बीच में उनके अंडे तक हाथ फिरा देती थी।घर पहुँचते-पहुँचते उनका लंड तन चुका था. तब मैंने केशव को फ़ोन लगाया और उसे दो लोगों के नाश्ते के इंतजाम करने को बोला. नोनवेज सेक्सी स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मुझे पड़ोस की भाभी पसंद आ गयी, मैंने उसे पटाया और एक रात उसने मुझे अपने घर बुला लिया.

थोड़ी देर बाद उसने मेरा हाथ ढीला छोड़ा तो मैंने अपना हाथ निकाला और उसके बोबों की तरफ बढ़ाने लगा. जैसा कि मैंने पहले बताया था कि साई को लौड़ा चुसवाना बहुत पसंद है, इसलिए उसने मुझे अपनी टांगों के बीच घुटनों के बल बैठने को बोला. इस सबसे भी भाभी नहीं जागीं, तो मैंने पूरी हिम्मत करके उनके मम्मों को मसलना शुरू कर दिया.

फिर जो मुझे पटा लेता है, उसके साथ मैं अपनी चुत खोल कर चुदाई का मजा भी ले लेती हूँ.

मैं छत पर इयरफोन लगाकर बस प्रकृति का नजारा देख रहा था, तभी किसी ने मेरे कान का इयरफोन हटा दिया. वो पीयूष का लंड चुत में लेते ही तड़फने लगीं और उनकी तेज चीख निकल गई- आंह मर गई … आंह फाड़ दी. ये कॉलेज की सेक्सी गर्ल स्टोरी दो साल पहले उस समय की है, जब मैं बीएससी कर रहा था.

मैं उसको अपनी बांहों में भर कर होंठों को चूमने चूसने लगा, जीभ से जीभ लड़ने लगी. ससुर जी उन बूंदों को चाटते हुए बोले- मेरी जान, चूत चुदाई का असली मजा तो यही है. उसकी दोनों कदली सी जांघों को कसके पकड़ कर मैंने अपने लंड को चूत पर रखा और एक जोरदार धक्का दे मारा.

कुछ पल इसी तरह का शांत माहौल बना रहा और दोनों की नजरें कामुक होने लगी थीं. फिर मैं भाभी की चूत में अपना मुँह लगा कर जीभ से उनकी चूत चाटने लगा.

मेरा लंड फिर से शिवानी की चिकनी चूत की सैर करने के लिए तैयार हो चुका था. भाभी बोल रही थीं- आह जोर और जोर फाड़ दो … मेरी चूत का भोसड़ा बना दो आज आह आह. मैं उस वक्त गुलाब की माला में से गुलाब की पत्तियां निकाल कर खा रहा था.

आंटी ने इठला कर पूछा- क्या देख रहे हो?मैंने कुछ नहीं कहा और उनके मम्मों की गोलाई को ही देखता रहा.

अब मुझे भाभी की चुदाई की सनक सवार हो गयी थी, मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि कैसे भाभी को चोदूं. होटल हॉट सेक्स कहानी के पिछले भागकोमल हसीना को दोबारा चुदाई के लिए तैयार कियामें अब तक आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने कोमल को फिर से अपने कमरे में बुला लिया और उसकी चूत चुसाई का मजा लेने लगा. एकदम से हम दोनों की सिसकारियां निकलने लगी और एक साथ पानी छोड़ दिया।रात भर में रोहित ने मुझे अलग अलग आसन में 4 बार चोदा.

[emailprotected]Xxx बॉय देसी गे सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरे कुंवारे लंड ने चिकने लड़के की सील तोड़ी- 2. इससे माधवी की चुत एकदम से खौल गई- अहो चलिए न, उंगली बहुत चला ली … अब लंड पेल कर चुदाई करो.

मैं- तो फिर क्या हुआ, हम लोग घर पर ही तो हैं … और मैं हूँ ना साथ में. वो बोली- वीर, आज कार सीखने नहीं जाना है क्या!मैं- दीदी आप बोलो तो दिन भर आपको गोद में लेकर कार में बैठा रहूं. फिर जब भाभी अपने कपड़े बदल कर बाहर आईं तो उनकी तरफ से ऐसा कुछ भी नहीं हुआ जिसकी वजह से मैं डर जाता.

जीने की सेक्सी फिल्म

थोड़ी देर में वो जाग गई।रात की चुदाई से मेरे शरीर में दर्द हो रहा था, मैं बिस्तर पर ही लेटी रही।10 बजे मैंने अपनी सास को अस्पताल में दिखाया और रात की बस से आने की तैयारी थी.

उसके बाद जीजा जी भाभी की चूत में लंड डाल कर जबरदस्त तरीक़े से जोरदार वाली चुदाई करने लगे. तो मैंने कहा- हां बेबी, मेरी एक विश है कि तुम मेरे लंड पर शहद लगा कर खाओ. करीबन एक घंटे बाद वो सभी लोग चले गए लेकिन अपनी बेटी को हमारे घर ही छोड़ गए.

अब जिस जिस ने अपने लंड को चुसवाया है, वो अच्छे से जानता है कि जब लंड मुँह में जाता है … तो कितना अच्छा लगता है मानो आप जन्नत में सैर कर रहे हों. भाभी ने तेज आवाज में मेरी खिंचाई की- हम्म … तो आपको मेरा सब कुछ मस्त लगता है … इसका मतलब क्या समझूँ कि आपको क्या क्या मस्त लगता है?मैंने सकपकाते हुए कहा- जब आप चश्मा लगाती हो, तो बहुत खूबसूरत लगती हो. काठवाडी सेक्सी व्हिडिओमम्मी की हल्की सी आह निकली और उन्होंने पापा के लौड़े को अपनी चुत में चबा लिया.

यूं तो कहने को समाज में मेरी एक खूबसूरत बीवी और एक बच्चा भी है पर मैं एक सामान्य जीवन नहीं जीता हूँ. उसने मेरे होंठ चूम लिए और मैंने उसे गले लगा लिया।फिर हमने खाना खाया।सुहागरात की कहानी अब मैं नारी बनकर बताऊंगा:मैं सुहाग-सेज पर घूंघट ओढ़कर पलंग पर बैठ गयी.

मैं उसे हल्का सा दबाते हुए सहलाने लगा तो उन्होंने धीरे से ‘आह … ’ किया. वो बहुत ही उत्तेजित हो गया था तो बीस चुप्पे लगाने में ही उसके लंड ने लावा उगल दिया. फिर हम दोनों होटल से निकले और ऑटो पकड़कर श्रीवास्तव होटल आ पहुंचे … इसी होटल में राजेश जी रुके थे.

मैं उससे बोला- अब तो हम अकेले है ना!उसके चेहरे पर थोड़ी शर्म, थोड़ी सी मस्ती, थोड़ी सी मुस्कुराहट थी. ऐसा लग रहा था मानो जगप्रीत का लौड़ा गर्म छुरी की तरह अम्मी की मक्खन जैसी चूत को काटता हुआ अन्दर बाहर हो रहा था. मैंने उसकी जांघों पर हाथ फेरना चालू कर दिया, वो कुछ नहीं बोल रही थी.

उसे एक हुस्न की परी तो नहीं कह सकते थे … मगर वो उससे कम भी नहीं थी.

मैं कार्लोस की बात से उत्तेजित हो उठा था और मेरी नजर उसी समय कार्लोस के लंड पर चली गई. धीरे से मैंने भी अपना हाथ शमा की चुत पर रख दिया और उसकी चुत की उभरी हुई फांकों को सहलाने लगा.

इन्हें चूम कर भी प्यार करो न!मैंने उसकी नशीली आंखों में झांकते हुए उसकी ब्रा को खोल कर एक तरफ रख दिया. उसने आने में असमर्थता जता दी लेकिन ये बता दिया कि हॉल के बगल की खिड़की को हल्का सा धक्का देने से वो खुल जाएगी और तुम अन्दर चली जाना. फिर कुछ मिनट उसके रसभरे गुलाबी होंठों को चूमने के बाद मैंने पूछा- भाभी आप रो क्यों रही हो? यदि ये सब गलत है, तो हम नहीं करते हैं.

मेरे दिमाग में हलचल मच गई थी कि कितना अच्छा लगेगा, जब कोई उसे मेरे सामने छुएगा, उसको चूमेगा, उसके चूतड़ों को मसलेगा और मेरे ही सामने मेरी वाइफ की चूत चोदेगा और वो रंडियों की तरह उस मर्द का लंड अपनी कसी हुई चूत में लेगी. उसने तुरंत कहा- आज तुम मेरे साथ यहीं रुक जाओ क्योंकि मेरे घर पर भी कोई नहीं है. इस बार वो फिर से चिल्लाई लेकिन इस बार मैंने मुँह से ही उसकी आवाज दबा दी और उसको करीब 10-15 धक्के मार दिए.

सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली तभी उसने मेरे कंधे पर हाथ रखा और कहा- मैं तेरी अम्मी का अकेलापन दूर कर दूंगा, अगर तुम चाहो तो. उसमें से उनकी ब्रा साफ़ साफ़ दिख रही थी और शॉर्ट शर्ट होने के कारण उनका नीचे का गोरा पेट और पीछे की पीठ नज़र आ रही थी.

বিএফ বাংলাদেশের

मैं- मामीजी, आप मुझे पूरा मज़ा दे रही हो … लेकिन मैं क्या करूं? ये मेरा लंड शिवानी के पीछे पड़ा हुआ है. तभी मैंने उसके दोनों कंधों को पकड़ कर एकदम से लंड को बुर के अन्दर पेल दिया. उसने एक हाथ से पैंटी को पकड़ा और दूसरे हाथ से जींस को नीचे खींच कर घुटनों तक कर ली.

पर अभी भी शायद कल्पना भाभी को मेरे द्वारा बताई गई सारी बातों पर उतना भरोसा भी नहीं हो रहा था. वो थोड़ा सा इठलायी और मुस्कुराती हुई चिप्स का पैकेट खोल कर वापिस सोफ़े की तरफ़ बढ़ने लगी. सेक्सी बुधवार पेठ पुणेऐसे एक दूसरे के यौन अंगों से खेलते खेलते हम दोनों ही अपने अपने चरम की तरफ बढ़ रहे थे.

वार्षिक पेपर खत्म होने के बाद आंटी सपना और नरेश को लेकर गर्मियों की छुट्टी में अपने गांव चली गईं.

उस टाइम वो शायद मेरे लिए ऐसा सोच रही थी कि मैं पहले का सब कुछ भुला चुका हूं और आगे बढ़ गया हूं. जीजा जी ने पूछा- मजा आ रहा है?भाभी ने जवाब दिया- हां बहुत … ऐसा तो मेरे पति ने कभी नहीं चोदा … आह फाड़ दो मेरी चूत … आह भोसड़ा बना दो इसका.

उस लड़की ने जल्दी से अपनी पैंट को टांगों से बाहर अलग कर दिया और अपनी चड्डी को भी अपने टांगों से निकाल कर दूर फैंक दिया. अब वह अपने पहले ऑर्गेज्म का मजा ले चुकी थी और थोड़ी थोड़ी आंखें खोलकर मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी. मैंने कहा- तो फिर क्या करतीं?इस पर उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया और ऑफलाइन हो गईं.

उमैय्या थोड़ा दर्द से कराही, थोड़ा आगे भी हुयी, पर मैंने उसकी कमर को ज़ोर से पकड़ लिया.

कुछ देर बाद मैंने उनकी जींस के बटन को खोला और चैन खोलते हुए जींस नीचे सरका दी. मेरी पिछली कहानी थी:टाकीज़ में मिली चुदक्कड़ आंटीमैं आपको सास दामाद Xxx कहानी के किरदारों के बारे में बताता हूं. उसे देखकर मैं हैरान सा हो गया क्योंकि उस वक्त वो एक हाफ निक्कर में बैठी हुई थी और उसकी गोरी जांघें देखकर मेरे लंड में पानी आने लगा था.

रेल्वे सेक्सीकुछ देर बाद उन्होंने अपनी आंखों की मूक भाषा से मुझे आगे बढ़ने का इशारा किया तो मैंने उनके गाउन को पैरों से ऊपर उठाना शुरू कर दिया. उनके होंठ मेरे होंठों से जुड़ चुके थे और अब मैंने भी आंटी का मजा लेना शुरू कर दिया था.

न्यू+सेक्सी+वीडियो

वो आ रही होगी, तो उसे भी लेकर तेरे रूम पर आता हूँ, फिर तीनों चलते हैं. वो बोली- मस्त लौड़ा है तेरा! अभी निचोड़कर इसको शांत करती हूं। पहली बार पति के अलावा किसी गैर मर्द का लौड़ा देखा है, इसे तो मैं कच्चा चबा जाऊंगी।इतना कहते ही मैं उसका मुंह अपने लंड पर लेकर गया और उसके मुंह में दे दिया. मैंने कहा- अरे फिर?दीदी- हां यार … और मैं चूंकि अपने नीचे के बाल बिल्कुल साफ करके रखती हूँ, तो मुझे अपनी चुत पर स्टिक सनसनी देने लगी.

अब वो मस्ती से गांड उठाती हुई चुत में लंड ले रही थी- आह आह मजा गया बॉस … क्या मस्त लंड है तुम्हारा … आह और जोर से चोदो मेरे सरताज … आह. काफ़ी देर तक चुदाई के बाद सेक्स ख़त्म हुआ और हम दोनों झड़ कर एक दूसरे से चिपक कर लेट गए. भाबी कभी मेरी तरफ करके अपनी गांड मटका रही थीं तो सामने होकर अपनी चुचियों को अपने हाथों से दबा रही थीं.

कभी वो मुझे कसके पकड़ कर खुद ही नीचे से धक्के लगाने लगती तो कभी अपनी चूची को पकड़ कर मेरे मुँह में भर देती … तो कभी अपने पैरों को मेरे पैरों में फंसा कर खुद मेरे ऊपर आ जाती. मैं भी थका हुआ होने के कारण सीधा जाकर बाथरूम में घुस गया और अपनी बहन की चूचियों की रगड़न के मस्त अहसास को याद करते हुए लंड हिलाने लगा. अम्मी ने इठलाते हुए कहा- तो अब क्या सोचना … आओ मुझे इतना चोदो कि मैं दुनिया भूल जाऊं.

मैंने कहा- कामिनी, तुम बहुत हॉट हो, मैं तुम्हारी चुत का दीवाना हो गया. अब बता दो आपको कौन सा ब्रांड का कंडोम चाहिए!अब मेरी शर्म साइड में चली गई और बोला– मा##@ ट्रिपल जे एक्सट्रा डॉटेड.

दोस्तो, यूँ तो मैंने कई सारी लड़कियां पटाई थीं … लेकिन किसी के भी साथ मैंने संभोग नहीं किया था.

उसने फिर से लंड चुत में सैट किया और अम्मी ने भी अपनी टांगें पूरी तरह से फैला ली थीं. मोटी गांड वाली सेक्सी चुदाईवो सब मैं आपको अपनी भैया भाभी की चुदाई कहानी के अगले भाग में लिखूंगा. सेक्सी मोटी लुगाई कीवो बोला- मेरा रूम खुला है, तुम अंदर आ जाओ।अब मैं जल्दी से तैयार हो गई; मैंने सिल्क की गुलाबी मखमली नाइटी पहन ली; अंदर मैंने कुछ नहीं पहना।मैं जैसे ही रोहित के रूम में पहुंची वो मेरा ही इन्तजार कर रहा था।उसने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और चूमने लगा वो अंडरवियर में था। उसने मेरे बूब्स दबाने शुरू कर दिया और किस करने लगा. फिर भाभी ने लेट कर टांगें फैला दीं और मुझे अपने ऊपर चढ़ने का इशारा कर दिया.

मेरी गांड मारी बड़े भैया ने … पहले उसने मेरा लंड चूसकर मुझे गे सेक्स सिखाया। एक दिन भैया ने मुझसे गांड मरवायी.

मैं मौका पाकर किचन में चला गया और जाते ही रूपाली आंटी को कसके पीछे से पकड़ लिया. काशिफ मुझसे बोला- ये मोतीलाल साहब हैं … नेता हैं और दूसरे इब्राहिम साब हैं … ये नेता जी के सेकेट्री हैं. आशा है कि मेरी हॉट सिस स्टोरी पढ़ने के बाद सभी लड़कियों, भाभियों और आंटियों चूत में गुदगुदी मच उठेगी और मेरे जैसे नौजवान लड़कों के लोहे जैसे लंड में सुनामी आ जाएगी.

मैंने भाभी के कहे अनुसार उनके होंठों को चूसना शुरू कर दिया और उनकी गांड को मसलने लगा. मेरी अम्मी और सबीना दोनों ही खुद के लिए मस्त माल की उपाधि पाकर मानो गदगद हो उठी थीं. हॉट मॉम Xxx कहानी के पहले भागमेरी अम्मी की जिस्मानी जरूरतमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी अम्मी और जगप्रीत पार्क में एक दूसरे के साथ चूमाचाटी करने लगे थे.

सेक्सी नंगी विडियो

इसी वजह से मैंने ये वाले नंबर की सिम दूसरे फोन में डाल ली है और उसी से बात कर रही हूँ. उसकी चूत का पानी बड़ा ही स्वादिष्ट था और मुझे भी अपने वासना का भूत सा सवार हो गया था. कुछ मिनट बाद मेरे शरीर की रफ्तार तेज हो गई और झटके के साथ लंड ने वीर्य छोड़ दिया.

मैंने लंड बाहर निकाला तो चुत की सील टूटने की वजह से थोड़ा खून बाहर निकल आया.

वो पूरी तरह से चुदाई का मजा ले रही थी, मैं भी उसे ताबड़तोड़ चोद रहा था.

– गांड में लंड डालने के समय कंडोम और के-वाई जैल का उपयोग करना चाहिए।– बवासीर से बचने के लिए: फल और सब्जी खाना, कब्ज से बचना, खूब पानी पीना. इस देसी वर्जिन सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने गांड की कुंवारी लड़की की सीलबंद चूत में लंड घुसाया. इंडियन सेक्सी जानवरउम्मीद है आपको मेरी आपबीती पसंद आई होगी मुझे भाई बहन की सेक्सी कहानी के लिए मेल जरूर करें.

ब्रा के अंदर से उसके दूध मस्त लग रहे थे एकदम छोटे छोटे नीम्बू की तरह … मानो बोल रहे हों कि हमारा रस पी लो!मैंने सलईका से कहा- ब्रा भी निकालो. लेकिन पापा बोले- मगर अब तो 12 बजने वाले हैं … सुलभ शौचालय बंद हो गया होगा. पापा हंसने लगे और बोले- अरे बेटा, लंड किसी से भी चुसवा ले और अपने मन में महसूस कर ले कि सनी लियोनी लंड चूस रही है … तो सेम वही मजा आ जाएगा.

उन सबकी बातों को अनदेखा करके … और एक दो को गाली देते हुए सुबह का नाश्ता कराकर मैं सबसे पीछे वाली सीट पर सिर झुका कर बैठ गया और सो गया. मैं उसे पसंद करता था। उसकी शादी असफल रही और उसकी वासना मैंने समझी और मजा दिया.

मैं उसके नंगे चूचे देख कर बहुत खुश हो गया और उसके दोनों मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा.

हमारी सेटिंग कैसे हुई और बात कहां तक पहुंची?अब उसकी शादी हो चुकी है, और वो दो बच्चों की माँ है और उसका पति रेलवे पुलिस में अफसर है. तभी मेरे लंड ने बिजली की तरह गांड के नीचे से सरक कर चुत की चुम्मी ले ली. फिर मैं भाभी के पेट को चूमने लगा और उनकी नाभि के पास आकर जीभ से खेलने लगा.

सेक्सी फिल्म आनंद अब मैं भाभी के होंठों पर किस करने लगा और किस करते हुए मैं उनकी दोनों चूचियों को दबा रहा था. मैंने भाभी की एक चूची को अपने मुँह में भर लिया और कहा- अब मर्द मिला है तो पेट से भी हो जाओ.

मैंने उसे चोदते समय उसकी चूचियों को खूब मसला, मुँह में लेकर चूसा और काटा. कोई 10-15 मिनट बाद वो अपने हाथों में एक कैरी बैग लिए वो दुकान से बाहर आई और कार में बैठते हुए मुझसे बोली- पता नहीं आपको पसंद भी आएगी या नहीं?ये बोलते हुए उसने वो बैग मुझे पकड़ा दिया. बहुत बार हम एक दूसरे का लंड 69 आसन में एक साथ चूसते थे और एक दूसरे का वीर्य पी जाते थे।पुरुष को भटकने से रोकने के लिए उसके कल्पना के किरदार में अभिनय करना (रोल प्ले) एक अच्छा उपाय है.

हाशमी की सेक्सी वीडियो

डॉक्टर ने उसके बाहर जाते ही रूम अन्दर से बंद कर लिया और मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा दिया. थोड़ी देर बाद मुझे लगा कि मेरा पानी निकलने वाला है तो मैंने आंटी को बोला- मैं छुटने वाला हूं. उनके पास एक स्कूटी थी, जिससे वो महिलाओं को उनके घर जाकर ब्यूटीशियन की सर्विस देती थीं.

भाभी भी गर्म होकर मुझे अपने दोनों दूध बारी बारी से पिलाने लगीं- आह चूस लो दक्ष … मेरी इन चूचियों को पूरा खा लो. उसी समय उसने अपना लंड मेरे मुँह में पेल दिया और मेरे सर को अपने लंड पड़ दबाता चला गया.

जैसा कि आप सभी इस बात से वाकिफ होंगे कि कोरोना काल में देश में लगे लॉकडाउन के चलते हम सभी लोग कई दिनों से घर से नहीं निकले थे.

जब मेरा वीर्य निकलने वाला था, मैंने उससे कहा- बेबी माल आने वाला है … लंड मुंह में ले लो. फिर मनीषा ने मेरे लंड पर कंडोम लगाना शुरू किया और देखते ही देखते पूरा कंडोम मेरे 8. चाय पीते पीते दीदी बोलीं- वो टीचर हम दोनों को पति पत्नी समझ रही थी.

उसे देखने के बाद मेरा मेरी बहन को लेकर नजरिया बदल गया और अब मैं उसे लेकर सिर्फ चोदने के बारे में सोचने लगा. दीदी मेरी इस क्रिया को देखकर थोड़ा अचंभित नजरों से मुझे देख रही थीं. मॉम डैड Xxx स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरे पापा ने मुझे अपना दोस्त समझ कर मेरी मम्मी की चुदाई करके सिखाया कि सेक्स कैसे करते हैं.

मैं बेड पर लिटा कर मैडम के दोनों दूध को बारी बारी से चूम चूस रहा था.

सेक्सी बीएफ मोटी मोटी गांड वाली: लेकिन रेखा करती भी क्या … मैंने भी बिना देरी किए उसकी बुर पर अपना लंड रखा और एक झटके में पूरा मूसल अन्दर कर दिया. दोस्तो, इस मेरी माँ की चुदाई की कहानी का अगले भाग में मेरी अम्मी और बहन की कामुक चुदाई को आगे लिखूंगा.

उसी पल हम दोनों ने एक दूसरे को प्यासी निगाहों से देखा और मैं सावी भाभी के गले से लग गया. मैं- हां, वो तो दिख रहा है मामीजी, लेकिन उसको चोदना भी तो ज़रूरी है नहीं तो मेरा लंड चुप नहीं बैठेगा. उन सबकी बातों को अनदेखा करके … और एक दो को गाली देते हुए सुबह का नाश्ता कराकर मैं सबसे पीछे वाली सीट पर सिर झुका कर बैठ गया और सो गया.

इतनी मुलायम चुत को छूकर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उसकी टांगों को फैला दिया.

मैंने मेघा की गर्दन को चूमते हुए नीचे का रुख किया और उसके गद्देदार दूध के निप्पल को अपने होंठ से धीरे धीरे सहलाने लगा; दूसरे चुचे को हाथ से मसलने लगा. ऐसा बोल कर मोनिका ने मेरे लंड को पकड़ लिया और फिर मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. तभी मैंने उसे वहीं के वहीं फर्श पर नीचे गिरा दिया और शिवानी के ऊपर चढ़कर उसे अपनी बांहों में जकड़ कर लपेट लिया.