हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,एक्स ब्लू

तस्वीर का शीर्षक ,

स्री पुरुष आकर्षण: हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ, मैं जब किचन में गया, तो उसने मुझसे पूछा- कल रात क्या हो गया था? कल तो आपने मेरी तो जान ही निकाल दी थी.

सेक्सी वीडियो खुलम खुला दिखाइए

मैंने जल्दी से अपने अंडरवियर को नीचे किया और उसकी चूत पर लंड लगाकर उस पर पूरी तरह से लेटते हुए उसके होंठों को चूसने लगा. பிஎஃப் செக்ஸ்படம் பிஎஃப்मैंने अपने लंड को अपनी बेटी की चूत से बाहर निकालकर पूरा वीर्य उसकी कमर पर डाल दिया और हम दोनों एक दूसरे चिपक गए.

मैं तो कब से चाह रही हूं कि तुम मुझे इतनी बेदर्दी से चोदो कि मैं कहीं मुँह दिखाने के लायक भी ना बचूं. इंडियन देसी एक्स एक्स एक्सउसने अपने बारे में बताया था कि वो चंडीगढ़ के पास से है, तो उसने मुझे मिलने के लिए चंडीगढ़ ही बुलाया था.

मैंने बिन्दू से कहा- तुम भी कोई बॉयफ्रेंड बना लो?बिन्दू कुछ देर सोचती रही और बोली- आप बनोगे मेरे बॉयफ्रेंड?मैं तो यही चाहता था, मैंने बिन्दू की तरफ देखा और उससे कहा- चलो मैं सोचकर बताता हूँ.हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ: लगभग 15 मिनट के बाद वो छत पर आई और थोड़ा नखरा दिखाते हुए बोली- छत पर क्यों बुलाये हो सर हमको? कुछ खास काम है क्या आपको?मैंने उसको अपने पास आने के लिए इशारा किया और खुद मैं छत पर दीवार के सहारे बैठ गया.

हालांकि आपको जानकर आश्चर्य होगा कि मैं आज भी लंड चूत चुदाई जैसी बातों से अनजान हूँ.फिर भाभी ने अपने दोनों पैर फैला कर अपने पैर मेरे पैरों में फंसा लिए, कैंची सी डाल दी, जिससे मेरा लंड भाभी की चूत की गहराइयों में फंस सा गया.

સની લીયોની ત્રિપલ એક્સ વીડિયો - हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ

मेरी हाइट 5 फुट 8 इंच है, मैं शरीर से स्वस्थ हूँ और मेरी बॉडी एथेलीट टाइप है.फिर सोचने लगा कि किस डॉक्टर को दिखाया जाये?तो सारा बोली- जिस लेडी डॉक्टर ने हमें देख कर दवा दी थी, वह काफी समझदार है, उसे दिखा दो.

मैंने उसके कूल्हे को दबाते हुए कहा- इस बार तुम मुझे प्यार करो, मैं कुछ नहीं करूँगा. हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ मुझे मेरी आँखों पर भरोसा नहीं हुआ, मैंने दोबारा से अपनी आँखें मली और फिर से देखा कि कहीं मैं स्वप्न तो नहीं देख रही हूँ.

बदले में मैंने भी सबकी नजरों से बचते हुए अपने लंड पर हाथ फेरकर और होंठ को गोल करके नम्रता को जवाब दिया.

हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ?

उसका अदा खान जैसा प्यारा उत्तेजक चेहरा मुझे उसके मुंह में अपना लन्ड ठूसने के लिए प्रेरित कर रहा था। एक बार फिर से हम एक दूसरे के होंठों के रस को अपने अपने मुंह में खींचने लगे. निखिल साइन्स में ग्रॅजुयेशन का स्टूडेंट था और रीमा फिज़िक्स में मास्टर्स कर रही थी. फिर उसकी कुर्ती को पेट की तरफ उठाते हुए मैंने उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया.

मैंने ये भी कहा कि मैं तो एक पल के लिए आपकी बात मान भी जाऊं लेकिन मेरी बीवी इस तरह से तैयार नहीं हो सकती है. नम्रता एक उत्तेजक आवाज के साथ बोली- मेरे जानू, कैसी लगी महक?पति- मत पूछो मेरी जान, तुमने अब तक इस मादक महक को छुपाकर रखा था. एक बार हुआ ऐसा कि मैंने जो साइज की ब्रा और पैंटी मंगाई थी, वो गलत साइज की वजह से मेरी वाइफ को फिट नहीं हुई.

मीरा ने भी कहा कि वो भी यही चाहती है, लेकिन रोज रोज नींद की गोली वो निखिल और रीमा को नहीं दे सकती. शायद उसके लिए मेरा लण्ड बड़ा और मोटा होने के कारण उसके मुंह से चीख निकलने वाली थी कि मैंने अपने होंठों से उस के होंठ दबा दिए. वो बोली- अर्पित मैंने अपना सब कुछ तुम्हें दे दिया है, अब मुझे छोड़ना मत!मैंने बोला- नहीं अदिति, मैं तुमसे शादी करना चाहता हूँ, बोलो तो कल ही अपनी माँ पापा को तुम्हारे घर भेज दूँ.

लंड जब चूत में उतर जाता तो चाची इधर उधर हिलते डुलते हुए लंड का पूरा मजा चूत में फील कर रही थी. नाश्ता करके जीजू ऑफिस के लिए तैयार होने के लिए अपने रूम में चले गए और दीदी किचन में कुछ काम करने लगी.

आप लोगों के साथ ये बात शेयर करके मैंने अपने मन को हल्का करने की कोशिश की है.

वो अब थोड़ा कम ऊपर नीचे हो रही थी क्योंकि वो झड़ गयी थीं … लेकिन मैं चालू था.

मैं तो पछता रहा हूं कि अब तक तेरी गदराई हुई जवानी पर मेरी नजर गयी क्यों नहीं. जैसे ही मैंने जार उतारना चाहा, तो वैसे ही मेरा लंड उनकी गांड के उभारों के बीच में फंस गया. प्रियंका मेरे से एक साल बड़ी है … जबकि वनिता मेरे से एक साल छोटी है.

मैंने अब तक कभी भी सेक्स नहीं किया था लेकिन हस्तमैथुन जरूर कर लेता था. मेरी भाभी के साथ सेक्स की कहानी के पहले भागहोली पर देसी भाभी की रंगीन चुदाई-1अब तक आपने पढ़ा था धर्मेन्द्र भैया की पत्नी भावना भाभी ने कल रात मेरे लंड को चूसा था, जिससे मुझे आज भाभी की पूरी चुदाई की सम्भावना दिखने लगी थी. फिर थोडा़ सा नाटक करते हुए मैं बोला- यार मैं अभी निप्पल्स नहीं दिखा सकता हूं.

चाची गर्मागर्म सिसकारियां भरने लगीं ‘उहह आहह इसस्स्सस्स …’पूरा कमरा उनकी मादक आवाजों से भर गया था.

मेरे कंठ से आवाज निकलने लगी- गूंगुन्गूउऊऊ …ये आवाज ठीक वैसे ही आ रही थी, जैसे अंग्रेजी ब्लू फ़िल्म में बाल पकड़ कर लड़की का मुँह चोदा जाता है. उसने लंड चाट कर अपने मुँह में भर लिया, इससे मेरी आंखें बंद हो गईं और मैं उसकी चूत चाटने लगा. फिर पापा ने मम्मी की टांगों के बीच में उंगली डाल दी और आगे पीछे करने लगे.

जमाना ख़राब है, कहीं कोई ने कुछ कर दिया तो आप क्या कीजिएगा?वह कुछ देर चुप रही और बोली- तुम ठीक बोलते हो, लेकिन घर पर फोन तो कर ही देते हैं. पहली बार लंड मुह में लेने से उसे अजीब फील हुआ और उसने अपने पापा का लंड बाहर निकाल दिया. तो मैंने भार्गव से पूछा- भार्गव, कार की चाबी तुम्हारे पास है न?उसने कहा- हां … क्यों क्या हुआ?मैंने कहा- अरे यार मैं अपना पर्स कार में ही भूल आई हूँ … और मेरा मोबाइल भी उसी में है.

मैंने मानसी के फोन पर मैसेज छोड़ दिया कि मैं रात 11 बजे के बाद उसके रूम में आऊंगा और वो दरवाजा खुला ही रखे.

कामुक भाव उसके चेहरे पर साफ नजर आ रहे थे। उसने हाथ पीछे किया और गाऊन का चेन खोल कर ब्रा का हुक खोल दिया। ब्रा निकाल कर मुझे देने लगी. बाप बेटी दोनों एकदम सामान्य लग रहे थे जैसे कुछ हुआ ही ना हो!आज रविवार था तो सब घर पर ही रहने वाले थे.

हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ कुछ ही देर के इस मदमस्त युद्ध में हीना अब मदहोशी के शिखर पर पहुंच चुकी थी. दीपिका कहने लगी- वैसे तो मेरी चूत दुःख रही है परंतु आपका साथ मुझे अच्छा लगा.

हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ मैंने उसके जाते ही अन्तर्वासना की भाई बहन वाली सेक्स स्टोरी पढ़ी तो मुझे अपनी चूत में आग लग गई और मुझे उसके साथ सेक्स करने का मूड बनने लगा. कहते हुए उसने मेरे गाल को खूब जोर जोर से खींचा। मैं भी मौके का फायदा उठाते हुए तुरन्त ही उसकी जांघों के बीच में आ गया और अपनी उंगली उसकी चूत की फांकों के बीच चलाने लगा और उसकी पुतिया से खेलने लगा।पुतिया से खेलते-खेलते मैं शुभ्रा की तरफ देख रहा था, अब शुभ्रा सिसकार रही थी, अपने होंठों को चबाये जा रही थी, चूची को दबाने लगी थी, जांघें उसकी फैल चुकी थीं.

आज मैं अपने बेटे की बीवी बन गई थी और उसे उसकी बीवी जैसा ही सुख देने को लालायित थी.

एक्स एक्स हॉट मूवीस

जीजा जी की जीभ मेरी चूत की खुदाई करने में लगी हुई थी और कुछ ही देर के बाद मेरी चूत से कामरस का फव्वारा फूट पड़ा. उसने साड़ी ब्लाउज पहन रखा था और उसके ऊपर काले रंग की चादर ओढ़ रखी थी. मेरे पति के दोस्त ने मुझे नंगी करके मेरे बूब्स पर चुम्बन की बौछार कर दी.

मेरा कमरा बेड के चरमराने और लण्ड की चूतड़ों पर थाप की आवाजों से गूंजने लगा. फिर वो मुड़ी और एक बार फिर झुकी, इस बार उसकी मन में आकर्षण पैदा करनी वाली गोल-गोल उभारदार गांड सामने आ गई, जिसके बीच में झांटों से छिपी हुई चूत सामने थी. वो मेरे कंधों तक पहुँच रहे थे, वो मेरे कंधों और गले की भी मालिश कर रहा था.

भैया ने कहा- चल अब एक गेम खेलते हैं … मैं तुझे 10 बातें बताता हूँ, जो तुझे नहीं पता हैं … और तू मुझे बताना कि कौन सी सही है और कौन सी गलत है.

अब मेरे हाथ से भी पाना छूट चुका था और मेरे दोनों हाथ उसके पीठ पर आ चुके थे मेरे दोनों बूब्स अब उसके सीने में गड़े जा रहे थे. उसने फिर से अपने जिस्म के पूरे दम से मेरी चूत की चुदाई शुरू कर दी और फिर पूरे दस मिनट तक उसने मुझे चोदा। मैं एक बार फिर से झड़ गई इस दौरान।अब पवन का जिस्म अकड़ने लगा और तभी पवन के लंड ने गर्मागर्म मलाई की पिचकारी मेरी चूत में मार दी। पवन ने अपना ढेर सारा गर्म वीर्य मेरी प्यासी चूत में भर दिया।इस चुदाई से मुझे जो सुख मिला वो अवर्णनीय है. नीतू … देखो कैसे अच्छे से पकड़ा है तुम्हारी फुद्दी ने मेरे लंड को, आहहहह … बहुत टाइट है तुम्हारी चुत.

अंकल ने अपने हाथों से मेरा मुँह ढक लिया- श … नीतू … सारे मोहल्ले को पता चल जाएगा … थोड़ी देर सहन करो, फिर देखो कैसा मजा आता है. मैंने चाची को बेड पर ले जा कर धक्का दे दिया और उनकी चूत पर हाथ फिराते हुए उनके होंठों को चूसने लगा. फिर जिम खत्म होने के बाद जब वो बाहर निकल रही थीं, तब मैं उनके पास गया और उनको सॉरी बोला.

आंखें बन्द करके मैं मूत निकलने का इंतजार करने लगा और जैसे-जैसे लंड ने पेशाब की धार छोड़नी शुरू की वैसे-वैसे मुझे बड़ी राहत मिलने लगी. दोस्त मुझसे बोला- मेरे घर की चाबी तुम अपने पास रख लो और 3 दिन बाद उसके माता पिता को स्टेशन से लेकर घर पर छोड़ देना.

जब मैं पहुंचा तो रंजना पहले से ही अरहर के पौधों के बीच में खड़ी हुई मेरा इंतजार कर रही थी. ऊपरी गर्दन की त्वचा से धीरे-धीरे अपनी जीभ नीचे … और नीचे उतारता चला गया. उसके बाद जब मैं घर जाने के लिए बस में बैठा तो हेडफोन लगाया और मैंने अनिता को मैसेज किया- हाय!जैसा कि हमारी जान-पहचान हो चुकी थी तो उसका भी रिप्लाई आया- हाय!फिर मैंने उससे पूछा- डीसाईड कर लिया?तो उसका रिप्लाई आया- बहुत जल्दी में हो?मैंने कहा- कहीं मौका हाथ से ना निकल जाए!तो उसने कहा- कल मिल कर बताऊंगी.

मेरे पैर राज की कमर से उतर बिस्तर पर इस तरह गिर पड़े जैसे पेड़ से कोई शाखा टूट गयी हो.

खाने के बाद मैं तो अपना मोबाइल लेकर बैठ गया और वो अकेले खाना खाने बैठ गई. मैंने कहा- हैल्लो भाभी, आज इस तरफ कैसे आना हुआ?भाभी- अरे, आप कैसे हो?भाभी ने स्माइल देते हुए पूछा।मैंने कहा- आप आज इस तरफ कैसे?भाभी- बस, मैं तो शॉपिंग करने के लिए आई थी. नम्रता- अरे वाह इसका मतलब जल्दी ही तुम्हारे लंड और मेरी चूत के बीच जंग छिड़ने वाली है.

कोई नी अंकल जी!”सोनम बेटा, तुम्हारी आंटी आज दिन में अपने मायके जा रही हैं अपनी मम्मी से मिलने, वो दो साल बाद जा रहीं हैं तो वो पंद्रह बीस दिन रुक कर ही आयेंगी और मैं एकदम अकेला रहूंगा. फिर हीना कमर ऊपर ले जाकर चूत को लंड के आखिरी छोर तक वापस लाती और फिर उसी तेजी से पूरा लंड दुबारा गटक जाती.

रीना- जैसे पहला प्यार पहला प्यार होता है उसी तरह पहली अदला-बदली का साथी पहला ही होता है. रितेश को थोड़ा अजीब लगा, लेकिन फिर भी उसने अपने साथ कुछ नींद की गोलियां रख लीं. उन्होंने मुझे देखा तो अपने पीछेपीछे आने का इशारा किया लेकिन मैंने इन्कार में सिर हिला दिया.

देहाती ब्लू पिक्चर एचडी

उसने भी अपने हाथ को पीछे किया और मेरे सुपाड़े को नाखून से खरोंचती और फिर अपने कूल्हे के बीच में लंड को फंसाने की कोशिश करती या फिर कूल्हे के ही ऊपर हल्की थपकी देती.

चरमसीमा तक पहुंचते ही मेरे दोनों पैर अकड़ने लगे … और मैंने उसको ज़ोर से अपनी ओर खींच लिया. फिर वो बोली- हाँ बहुत मज़ा आ रहा है … हाईईई म्म्म्मम!कुछ देर के बाद मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी। अब वो पूरी मस्ती में थी और मस्ती में सिसकार कर रही थी- अआह्ह्ह आाआइईई और करो, बहुत मजा आ रहा है।अब वो इतनी मस्ती में थी कि पूरा पूरा शब्द भी नहीं बोल पा रही थी।हम दोनों के चूतड़ बिस्तर से ऊपर उठ गए, केवल पैर बेड पर हमें रोके हुए थे. कुछ देर बाद बाद जब दर्द कम हुआ तो अनिल भैया ने मुझे घूमने को कहा … ताकि वे देख सकें कि हुआ क्या था.

मेरे सिवाए उनके साथ बातें करने के लिए कोई नहीं था क्योंकि पिताजी उन्हें ज्यादा समय नहीं दे पाते थे. मैं 20 साल का हूँ और मैं आप सभी को आज अपने पहले सेक्स अनुभव के बारे में बताना चाहता हूँ।कहानी शुरू करने से पहले मैं आप सभी को अपनी भाभी के बारे में बताना चाहता हूँ. एक्सएक्सएक्स वीडियो हिंदीमैंने उन्हें जल्दी से पलट कर उन्हें बेड पर लेटा दिया और फिर से लंड को उनकी चूत पर सैट करके ज़ोर का धक्का दे दिया.

मुझे लगा शायद मौसी पेशाब करने गयी होंगी और मैं उनके आने का इंतजार करने लगा. उसे शायद बहुत जोर से जलन हो रही थी लेकिन वह कसमसा कर रह गई लेकिन कुछ नहीं कहा.

मेरी चूची पर से चॉकलेट को चूसने के बाद वो मेरी पेंटी को निकालने लगे. डॉक्टर जूली की दिल्ली में जान-पहचान थी और उसने मेरे सारे टेस्ट जल्दी ही करवा दिये. एक दिन वो मशीन में बैठ कर शोल्डर की एक्सरसाइज कर रही थीं और मैं लगातार उनको घूर रहा था.

इधर शुभ्रा के मुंह से निकला- मादरचोद!कहते हुए एक बार फिर उसने अपने दांतों को भींचना शुरू किया और एक बार मैंने फिर से उसके निप्पल को मुंह में लेकर चूसना चालू किया. बड़ा पेग मार कर मैं बोला- मेरी चुदाई में रोयेगी तो नहीं? मुझे पिटाई करने, सख्त बूब्स को दांत से काटने में तुझे पीड़ा होगी. मैंने गुस्से में आकर कहा- सर, आपने मुझे समझ क्या रखा है? मैं कोई बाजारू औरत नहीं हूं.

मैंने उसको अपनी बांहों में लेकर कहा- क्यों तू मुझे प्यार नहीं करता क्या?उसका बदन मेरे इस तरह से उसको अपनी बांहों में लेने से एकदम से झनझना सा गया और मेरे मम्मों की गर्माहट से उसका लंड मुझे खड़ा सा होता महसूस हुआ है.

इस तरह साफ सुथरी नीट एंड क्लीन होकर मैं अंकल जी से मिलने निकलने ही लगी थी कि मन में एक बार खुद को आईने में देखने का मन हुआ तो ड्रेसिंग टेबल के आगे जा खड़ी हुई और खुद को हर तरफ से निहारा. उसने झुककर मेरा स्वागत किया, झुकने के कारण उसके दोनों खरबूजे लटके हुए थे.

हम दोनों मां बेटे अब पति पत्नी बन कर एक दूसरे के जिस्म का रसपान कर रहे थे. मैं अपने मामा के बेटे के सामने एकदम नंगी थी और वो भी मेरे सामने एकदम नंगा था. मैंने वाशरूम में ही एक ज़ोरदार हस्तमैथुन करके अपने लिंग को खूब ठन्डे पानी से अच्छी तरह से धोया और फिर तौलिये के साथ अच्छे से सुखा कर, कपड़े बदल कर मैं कमरे में आया तो सामने मेज पर एक भाप उड़ाती कॉफ़ी का मग रखा था और टेबल से दूसरी ओर दोनों हाथों में कॉफ़ी का मग लिए, सोफे के ऊपर पाँव मोड़ कर शिफ़ौन की साड़ी में बैठी वसुन्धरा गहरी नज़रों से मेरी ओर देख रही थी.

थोड़ी देर बाद वो एक बाल्टी और पौंछा लेकर आई और पौंछा लगाने लगी लेकिन तब मैंने देखा कि अब उनके एक नहीं, दोनों बूब्स बाहर हैं और एकदम पूरी तरह से. श्लोक तो मेरा भाई था लेकिन सच कहो तो तुम्हारे साथ मुझे ऐसा आनंद आया था जैसे कि तुम मेरे आशिक हो और मैं तुम्हारी प्रेमिका।इतना कहकर रीना ने अपने होंठ मेरे होंठों पर दबा दिए।कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. इस पर सितम यह था कि उसकी चूत से निकलती हुई गर्म भाप, जो मेरी जांघों के आस पास टकरा रही थी, वो भी मुझे बहुत दुखी किए हुए थी.

हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ हम सबसे ऊपर रहते थे। चौथे फ्लोर अभी कोई नहीं आया था जैसा कि मैंने बताया कि यह बिल्डिंग अभी नई थी। तीसरे माले पर दो फैमिली रहती थीं।हम लिफ्ट में घुसे. बेबी रानी ने पहले ही झपट के एक तौलिया बिस्तर पर बिछा दिया था जिससे बिस्तर गीला न हो पाए.

ਬਲੂ ਫਿਲਮਾਂ ਐਚ ਡੀ

देहाती सेक्स की इस कहानी में पढ़ें कि मुझे गाँव की लड़की ने सेक्स चैट के बाद अपने घर के पास बुलाया. मेरी चूची पर से चॉकलेट को चूसने के बाद वो मेरी पेंटी को निकालने लगे. कुछ देर बाद फुद्दी से चिकना पानी निकला, तो मैंने धीरे धीरे करके पूरा लंड उसकी चूत में घुसेड़ दिया और उसे दनादन चोदने लगा.

मैं अमित की बांहों से उतरी और अलमारी से अमित के लिए कपड़े और अपने लिए अपने सहेली का नाइट सूट लाई. थोड़ी देर बाद मैं उसे बाथरूम ले गया औऱ अच्छे से उसकी बुर गर्म पानी से साफ की ताकि उसकी बुर की अच्छी सिकाई हो सके. ब्लू पिक्चर चाहिए वीडियोरानी ने लंड को मुस्कुराते हुए सहलाना शुरू कर दिया- यार राजे, यह तेरा सण्ड मुसण्ड तो बड़ा ही शैतान है.

मौका मिलते ही चुसवाता भी बहुत था जिसके कारण मेरे बूब्स का आकार नॉर्मल से थोड़ा बड़ा हो गया था.

वो मुझसे कहती थी- जानू जब रात को तुम्हारी याद आती है, तो मैं तकिये से चिपट कर सोती हूँ. मेरी पड़ोस में बहुत सारी सहेलियां हैं और वो लोग भी मुझे पसंद करती हैं.

वह मेरे होंठों के रस को ऐसे चूसने लगा जैसे एक भंवरा शहद को चूसता है. भाभी ने अन्दर ले जाकर मुझे पूरा नंगा कर दिया और शावर चला कर हम दोनों नहाने लगे. इससे मैं ये समझ गयी आज पहली बार नहीं हो रहा, ये सब शायद बहुत पहले से चल रहा है।इधर पिताजी ने अपनी बेटी सुमीना के 36 के चूचे मुंह में ले लिये और उन्हें चूसते चूसते चुदाई की स्पीड तेज कर दी और पूरा लण्ड सुमीना की चूत में उतार दिया.

तुझे वो दर्द सहन करना पड़ेगा, वो भी सिर्फ आज ही बस … कल से तो तुझे बिल्कुल भी दर्द नहीं होगा, सिर्फ मजा ही मजा आएगा.

अन्तर्वासना से जुड़े किसी भी व्यक्ति पर भरोसा करना मतलब अपने ही पैरों पर कुल्हाड़ी मारना है. ”लेकिन अब आगे का क्या सोचा है?”क्या फायदा सोचने का! जो सोचा था, वो तो हुआ ही नहीं. रितेश भी मौके की नज़ाकत देख कर तेज़ी से धक्के लगाने लगा और करीब 10-15 मिनट की चुदाई के बाद दोनों झड़ गए.

রোমান্টিক সেক্স ভিডিওमंजू जब घर से फरार हुई थी तो उस घटना का मैंने गोपनीय रूप से पता लगाया था. मेरे होंठ चूसने से और मम्मे दबाने से मेरी जांघों के बीच आग भड़कने लगी थी.

ब्लू सेक्स करते हुए दिखाओ

पेट में चूहे दौड़ रहे हैं … कुछ मंगवा यार रूम सर्विस से … तब तक मैं बाथरूम होकर आती हूँ. मैंने वसुन्धरा की आँखों में झांकते हुए उसको अपने अंक में दोबारा कस लिया और उस होठों का एक नाज़ुक सी छुवन वाला चुम्बन लिया. मैरी की चुदाई मैंने चालू रखी क्योंकि मेरा लंड अभी नहीं झड़ने वाला था.

वसुन्धरा! आज तुम बहुत ऊपर उठ गयी, मैं तो किंचित शूद्र प्राणी मात्र हूँ लेकिन तेरी ज़ुस्तजू ने एक ज़र्रे को आफ़ताब बना दिया, एक अदना को आला कर दिया. और जल्द ही दिल्ली चलो ताकि पूरी जांच हो जाए इस मामले में देर करना ठीक नहीं होगा. इस बार लंड बिना किसी आनाकानी के अन्दर चला गया। मेरा उत्साह और बढ़ गया और मैं लंड को बहन की चूत के अन्दर और धकेलने लगा.

उसने एक बार किसी के आने की बात कही तो मैंने उसे सब बता दिया कि आज कोचिंग के दरवाजे बंद हो गए हैं और अन्दर सिर्फ हम दो ही हैं. खैर, इस सामूहिक स्खलन के बाद हम तीनों के तीनों थोड़ी देर तक एक-दूसरे के साथ चिपक कर लेटे रहे।पहली बार तो जूली के साथ सब कुछ जल्दी जल्दी में हुआ था मगर दूसरी बार में जूली भी अपने पूरे रंग में आ गई थी. मैं तो कब से इसी संकेत के इंतजार में था कि कब मौका मिले और आज जब ये मौका मिला है तो मैं चूकता कैसे?अब मैंने अपनी मुट्ठी में मौसी के चुचे को पूरा भर लिया.

जैसे ही मैंने धक्का दिया तो मेरा लंड सट से चूत के अन्दर सरक गया और चूत से फ़च की आवाज़ आई. जब लड़की लंड की राइडिंग करती है, तो को लंड उसकी चुत के अन्दर तक जाता है, जिसका अहसास का मज़ा ही अलग आता है.

फिर मैंने उसकी चूत पर लंड रखा और उसकी चूत में लंड को अंदर धकेल दिया.

मैंने उसकी सलवार नीचे करके उसकी पैन्टी को भी नीचे कर दिया और पहली बार उसकी चुत के दर्शन हुए. हिंदी सेक्सी सेक्स सेक्सकुछ ही देर में उसका लंड मेरी चुत में था और वो ढंग से मेरी चुदाई करने लगा. एक्स एक्स एक्स हिंदी ब्लू पिक्चररिया बिल्कुल कुतिया बनी हुई थी।रमेश- तुम अब वापिस उठ सकती हो।रिया उठकर रमेश के पास बैठ गयी।फिर रमेश ने उससे पूछा- कैसा लगा रंडी बेटी ?रिया- डैड आप बुरा तो नहीं मानोगे ना, या मुझे गलत तो नहीं समझोगे? मुझे गलत मत समझना। जो तुमने अभी किया उसमें मुझे बहुत मज़ा आया। आज तक मैंने ऐसे केवल ब्लू फिल्मों में देखा था. मैं- उससे मिलने का मन तो करता होगा ना?दीपाली- हां, वो तो बहुत करता है.

ये कामशक्ति वर्धक गोली थी, जिसे सिर्फ 50 एमजी खाकर मैं दिन-रात चुदाई कर सकता हूँ.

मेरी रोमांटिक कहानी के दूसरे भाग में अब तक आपने पढ़ा कि मैंने अपने प्यार का इजहार अदिति से कर दिया था, जिसको उसने बड़े ही प्यार से स्वीकार कर लिया था. दो खाटों की वजह से पूरा लंड उसकी चुत में डालना मुश्किल हो रहा था … इसलिए बस लंड का अगला हिस्सा ही अन्दर जा पाया था. जिंदगी का असली मज़ा लेने के लिए दीपिका और मैंने अभी बच्चा न करने का प्लान बना रखा था इसलिए दीपिका आईपिल खा लेती थी.

लंड का सारा माल निचोड़कर पीने के बाद भी चाची ने मेरा लंड चूसना नहीं छोड़ा, इसका नतीजा ये हुआ कि मेरा जवान लंड फिर से उनके मुँह की गर्मी पाकर खड़ा हो गया. वो सब मैंने एक कागज पर लिख लिए। फिर उसे धन्यवाद किया और फोन काट दिया।फिर मैंने उस वेबसाइट पर जाकर काफी वीडियो डाउनलोड किये जिनमें अलग अलग पोज़ से चुदाई चल रही थी। और कुछ लेस्बियन वीडियो डाउनलोड किये जो चाची को पसंद आएंगे, और कुछ देसी वीडियो भी।दूसरे दिन मैंने घर में कोई नहीं देख कर चाची को सारे वीडियो दिखाये जो चाची को बहुत ज्यादा पसंद आये. मेरे तीनों छेद उन दोनों ने कैसे ठोक कर मुझे मजा दिया?हैलो फ्रेंड्स! आप लोगों ने मेरी पिछली कार सेक्स पोर्न स्टोरी के दो भागसहेली के ब्वॉयफ्रेंड से चलती कार में चुदाईको इतना प्यार दिया इसके लिए धन्यवाद.

वीडियो सेक्स बीएफ

जब मैंने चाची को पहली बार चोदा था तो उसके बाद से मैं भी काफी बोल्ड हो गया था. भाभी ने काले रंग की साड़ी पहनी हुई थी। दोस्तो, आप सबको पता ही होगा कि काले रंग की साड़ी में गोरा बदन कितना हॉट लगता है।फिर भाभी अंदर आई तो भाभी ने मुझे देखते ही गले लगा लिया. उसे लेकर मैं तेजी से ऊपर वाले कमरे में गया, उनसे कहा- देखो मैं आपके लिए कुछ लाया हूँ।फिर लौकी उन्हें दिखाई.

तो हुआ यूं कि मेरी मामी की भाभी यानि मामा की सलहज (मामा के साले के पत्नी) की हार्ट अटैक से मौत हो गयी थी, तो मैं उनके मायके गया था.

मैं अपनी मस्ती में उनकी चूचियों को पी रहा था और मेरी प्यासी चाची तो जैसे मेरे गर्म लंड से चुदने के लिए मरी ही जा रही थी.

फिर उसने अचानक से एक हाथ मेरी पैंटी में डाल दिया और चूत को सहलाने लगा. परिवार का मुखिया विदेश में मर्चेन्ट नेवी में सर्विस करता था, अच्छा खासा पैसे कमाता था और इन्हें भेजता था, लेकिन उसके पास परिवार को देने के लिए वक्त नहीं था. दोस्त की बीवीमम्मी परसों मेरे एग्ज़ाम खत्म हो जाएंगे, अगर आप कहो तो हम दोनों कहीं घूमने चलें, इससे आपका भी मूड फ्रेश हो जाएगा.

उसके बाद हम थका थका महसूस कर रहे थे तो बाथरूम में जाकर गर्म पानी से नहाये. अब आगे:नम्रता आगे बोली- उनकी नजरें नाईटी को भेदते हुए मेरे अर्धनग्न जिस्म को घूरे जा रही थीं और वे अपने हाथ हिलाये जा रहे थे. पांच सात मिनट बाद बोली- आप का तो हुआ ही नहीं?मैं बोला- अब तेरा मुंह किस काम आएगा? आज से पहले किसी का पानी पिया है?मंजू बोली- मुझे इसका स्वाद अच्छा नहीं लगता.

तेरा पूरा जीवन तेरे सामने पड़ा है अभी और मैं तुझे अपने पैसे उधार दे रहा हूं जब तेरी जॉब लग जाये तो बाद में वापिस कर देना, सिम्पल है न!”और मैं घर पर क्या जवाब दूंगी कि मेरे पास पढ़ाई के पैसे कहां से आ रहे हैं?” मैंने सवाल किया. इंडियन गर्ल की चुदाई तो मैं बहुत बार कर चुका था इसलिए ये एक्सपीरियंस हमेशा के लिए मेरे मन में बस गया.

उसने मुझे बताया कि वो रेड कलर की पोलो में है, जो कि मेरे थोड़ी दूरी पर पार्क थी.

खुद बाहर निकल आया। सड़क पर गाड़ी पार्क करके कैमिस्ट शॉप पर गया। मैंने एक पैक आई-पिल का लिया। इसके अलावा 2-4 डिब्बे अलग-अलग फ्लेवर के कंडोम लिये और वापिस आ गया।मैंने वो सामान उसे दिया और ड्राइवर सीट पर बैठने लगा।वो बोली- ये क्या है?मैंने बोला- बिना कंडोम के तुम्हें 2 दिनों से चोद रहा हूँ. कन्फर्म करने के लिए मैंने अपना हाथ थोड़ा अपनी तरफ खींच लिया, जिससे मेरा हाथ ठीक मौसी के चुचे पर आ गया. अमन- नहीं यार विपुल, आज कॉलेज में वैसे भी बहुत लेट हो गया, मैं घर जा रहा हूँ.

बीपी वीडियो दिखाओ पर ये आह इतनी ज्यादा तेज नहीं थी, जितनी पहले उसकी चूत चुदाई के वक्त में आई थी. मैं दारू का पैग लेकर उसके बेडरूम में गया, तब भी वो बाथरूम में ही थी.

उसके दूध जैसे चूचे और उनकी गुलाबी निपल्स को मैंने दांतों से चबाया, तो हरजोत ने मादक सिसकारियां लेनी शुरू कर दीं. इस बार मैं बहुत ज़ोर ज़ोर से उसकी चूत को धक्के मारकर चोदने लगा और वो बहुत उछल उछलकर मज़े लेकर मुझसे चुदवा रही थी और बोल रही थी- हाँ आज फाड़ दो मेरी चूत को! यह आपके लंड के लिए बहुत तरसी है! आज आप इसकी प्यास बुझा दो! आह्ह्ह ऊईईईई … हाँ थोड़ा और ज़ोर से चोदो!मेरी बेटी मुझे जोर जोर से चुदाई करने को कहने लगी. इस बीच हरकेश बाथरूम गया हुआ था और वहां से वापस आकर वह भी सुमन की चूत चाटने लगा.

ब्ल्यू फिल्म सेक्सी पिक्चर

इसके बाद उसने मेरी जिप खोली और मेरा लौड़ा अपने हाथों में लेकर हिलाने लगी और फिर उसे अपने मुंह में लेकर चूसने लगी. यूं लगा कि वसुन्धरा इससे खुश नहीं हुई और वसुन्धरा ने इसका विरोध अपनी कमर, अपनी योनि को मुझसे अच्छी तरह सटा कर जताया. इस बीच गुप्ताइन बोली- डॉली का तो अच्छा हो गया, गोलू की भी नौकरी लग जाती तो चिन्ता खत्म हो जाती.

डॉक्टर- क्या सेक्स करने के बाद तुम बैठकर पढ़ती हो, तो क्या तुम्हारा ध्यान भटकता है? दोबारा सेक्स की तरफ जाता है?मैं- जी डॉक्टर, मैं सेक्स करने के बाद तो खूब दिल लगा कर पढ़ती हूँ और मेरा ध्यान इधर उधर नहीं भटकता है. अब मैं उनके बेड पर लेटी थी, जिस पर कुछ दिन पहले अंकल और आंटी को चुदाई करते हुए देखा था.

पहले हल्का और फिर थोड़ा मजबूती से।मैंने उसे नहीं रोका क्योंकि उसके दबाने से मुझे अच्छा लग रहा था। मेरे 38 साइज़ के मम्मों को उसने पूरा ऊपर से नीचे और अगल बगल से हर तरफ से पकड़ कर सहलाया, दोनों मम्मों को अच्छे से दबा दबा कर उसने मज़े लिए.

वो अब नितिन से विनती करने लगी- अब अपना लंड निकाल लो, अन्दर जलन मच रही है. अगली सुबह मैं साढ़े चार पर ही उठ गई और फ्रेश होकर नहा भी ली और सलवार कुरता दुपट्टा डाल के मैं तैयार हो गई, ब्रा और पैंटी पहनने का मन ही नहीं हुआ. आखिरी झटका बड़ा तेज लग गया था, जिससे उसकी चीख निकल पड़ी और दर्द से रो दी.

उसने नजर भर कर मुझे पूरा से नीचे से ऊपर तक देखा, फिर घुटनों पर बैठ कर मुझे एक रिंग दिया और कहा- आई लव यू. एक रानी में अपनी रेशमी सी दाहिनी टांग मेरे ऊपर रखी हुई थी जबकि दूसरी रानी ने अपनी साटिन जैसी मक्खनी टांग मेरे बदन पर फ़ैलायी हुई थी. अब मैं उसकी चूत पर चाकलेट रगड़ कर मजे से चूस-चूस कर खाने लगा। जहां मुझे चूत चटाई में अपार आनंद प्राप्त हो रहा था, वहीं उसे बहुत दर्द हो रहा था.

मैं ऐसे ही वसुन्धरा को उठाये-उठाये बैडरूम में ले आया और बैडरूम में बैड के करीब कालीन पर आहिस्ता से उसे अपने पैरों पर खड़े कर दिया.

हिंदी सेक्सी वीडियो वीडियो बीएफ: जब भी मैं उसके आधे से ज्यादा स्तन को अपने मुँह में भर कर गांड उठाता था … तो वो मजे से और भी ज्यादा सिहर उठती थी. मैं दोबारा दो तीन मिनट में दीदी की चुत के अंदर झड़ गया पर फिर भी उन्होंने कुछ नहीं कहा.

और इतना कहते कहते उसका गाउन ऊपर उठाया, पैन्टी नीचे खिसकाई और पेल दिया. वसुन्धरा ने धीरे से मेरा हाथ अपने दोनों हाथों में लिया और बोली- मैंने अपने सारे अधिकार, सारे इख़्तियार, खुद मैं … मेरी जिंदगी और मेरी जिंदगी से बावस्ता सारे फ़ैसले और उन फैसलों के सारे नतीज़े … मैंने बहुत साल पहले आप के नाम कर दिये थे, बस! आपको बताया ही नहीं था. गुप्ताइन ने मेरी ओर करवट ली और अपना हाथ मेरे लोअर में डालकर लण्ड सहलाने लगी.

वह मेरे होंठों को चूसने लगी और फिर मेरा लंड दोबारा से तनाव में आने लगा.

फिर मैं सीधी खड़ी हो गयी और मेरे पति राजेश ने मुझे पीछे से अपनी बांहों में लेकर मेरी गर्दन और गालों को चूमते हुए कहा कि तुम इस नाईटी में बहुत सेक्सी लग रही हो. कल रात और आज सुबह की जो बातें हुई थीं, वो मेरे दिमाग से उतर नहीं रही हैं. थोड़ी देर बाद भार्गव ने मेरे दोनों पैर ऊपर किए और अपना लंड मेरी चूत में धीरे से सरका दिया.