बीएफ हिंदी फुल एचडी में

छवि स्रोत,गांव देहाती सेक्सी मूवी

तस्वीर का शीर्षक ,

भोजपुरी बीट्स: बीएफ हिंदी फुल एचडी में, उसने मुझसे कहा- क्या देख रहे हो?मैं बोला- आप तो बहुत हॉट सेक्सी दिख रही हो!वो मुस्कुरा के किचन में चली गई और पानी लेकर आई.

सेक्सी सेक्सी वीडियो सुहागरात

तो दोस्तो, ये थी मेरी सहेली की मेरे जीजा के साथ पहली चुदाई की कल्पना. हिंदी सेक्सी वीडियो विद ऑडियोइस पर उसने कहा- देखिए मैं आप लोगों को काफी समय से देख रहा हूँ, आप लोग दुकानों में गए और निकल आते हैं, ऐसे में आप बिना पसंद या जानकारी के उपहार पसंद नहीं कर सकते.

मेरे इशारे को समझते हुए वो मेरी बांहों की कैद में आ गयी और अपने दोनों पैरों को फैलाते हुए बैठने लगी. भारतीय सेक्सी लड़कियांदोस्तो, इस मस्त सेक्स कहानी को अगले कई भागों में पूरे विस्तार से लिख कर आपके लंड चुत गर्म करूंगा.

एक दिन संडे को उसने मुझे कॉल किया- तान्या, क्या कर रही हो?मैं- कुछ नहीं … बस असाइनमेंट कम्प्लीट कर रही थी, पर ये लैपटॉप को पता नहीं क्या हो गया … हैंग कर रहा है.बीएफ हिंदी फुल एचडी में: अब शाम को जल्दी आ जाना, मैं कंट्रोल नहीं कर पा रही हूँ बहुत दिन हो गए हैं.

उसने खुद ही अपनी टांगें मेरे सामने फैला दीं और मैंने उसकी फैली हुई टांगों के बीच में उसकी फूली हुई चूत में उंगली करना शुरू कर दिया.हम दोनों एक दूसरे की बांहों में हाथ बाहें डाल कर बाहर थोड़ा घूमे, इधर उधर देखा, मगर वहां कोई नहीं था.

इंडियन इंडिया सेक्सी - बीएफ हिंदी फुल एचडी में

गोरे गोरे गाल, गुलाब की पंखुड़ियों से होंठ, जिनमें से एसा लग रहा था कि अभी शहद टपक जाएगा.अब मुझे और भी मज़ा आने लगा और मैं बस ‘उफ फफ्फ़ एहह अहह फक मी हार्ड …’ बोलने लगी.

मैंने कहा- कैसे?उन्होंने कहा- एक दिल से और एक शरीर से … और वो सभी पति-पत्नी करते हैं. बीएफ हिंदी फुल एचडी में कहानी को शुरू करने से पहले मैं आप लोगों को अपने बारे में बताना चाहता हूं.

लेकिन एक दो दिनों बाद चूत की खुजली फिर से बढ़ने लगी और मुझे लंड की याद आने लगी.

बीएफ हिंदी फुल एचडी में?

आज अन्तर्वासना के माध्यम से मैं आप सभी तक अपनी कहानी भेज रहा हूँ, प्लीज़ पढ़ मेल ज़रूर करना. उफ्फ़ … मैं तो ऐसी हालत में थी कि ना तो वहाँ से हिल सकती थी और ना ही खुल कर मज़ा ले सकती थी. थोड़ी थोड़ी करते हुए उसने मुझे लगभग आधी बोतल विहस्की पिला दी और बाकी की विहस्की खुद पी गया।इतनी विहस्की मेरे लिए बहुत ही ज्यादा थी, मैं अपने आप को अब एक भी सम्हाल नहीं पा रही थी।मगर उसने मुझे अपने से चिपकाए रखा और मुझे अपने ऊपर लेटा के रखा.

पानी का तापमान ऐसा बनाया कि जब उसकी चूत पर गिराऊं तो उसको कुछ राहत मिले. ड्राइवर ने भी मुझे बांहों में लेकर अपनी ओर खींचते हुए कहा- क्या करता जानेमन, तेरी सास जो साथ में थी. मैं और जोर से चिल्ला कर उससे बोली- अच्छा … तो तुम मेरे कपड़े चुराते हो.

सपना मुझे लेस्बियन सेक्स का मजा देकर अपने घर चली गयी थी कि अचानक सपना के घर उनके जीजाजी आ गए। पता नहीं उसे क्या सूझी कि वो अपने जीजा को मेरे घर ले आयी. वो लगभग कांपती आवाज में बोली- आंह … हां भैया … और जोर से … आह … आपकी बहन आ…. इस स्टेशन से कुछ दूरी पे ही मेरा स्टेशन था और मुझे मालूम था कि यहाँ से अभी कुछ देर में दूसरी ट्रेन जाएगी तो मैं उससे चली जाऊंगी.

उसका कसरती बदन, मस्त डोले, चौड़ी छाती, सिक्स पैक ऐब्स, उसके मस्त कट्स देख कर मैं उसको देखती ही रह गयी. वो बोली- ठीक है ऊपर चलो, यहां नहीं!मैंने उसको गोद में उठाया और सीढ़ियां चढ़ कर उसको उसके रूम में ले गया.

मैं इतनी मजबूर हो गई कि मैंने अपने सामने खड़े हुए विवेक को अपनी बांहों में कस कर जकड़ लिया.

उसने पूछा- क्या आज घर में कोई नहीं है?मैंने उसको बताया- हां मम्मी पापा नानी के यहां गए हैं, शाम को आएंगे.

करीब 5 या 7 मिनट के बाद एक आदमी आया और हमको मंज़ूरी का कागज देते हुए बोला- अब आप अपनी शॉप खोल सकते हो, आपका काम हो गया. शायद इसीलिए दीदी ने बिस्तर पर बैठ कर पेंटी के अलावा अपने सारे कपड़े निकाल फेंके. पायल ने मेरे कंधों से हाथ मेरे मजबूत बाजुओं पर लाकर अब पूरे रिदम के साथ मेरे लंड पर कूदना शुरू कर दिया.

मैंने कहा- चलेगा भाभी … इतना ही भरोसा है मेरे ऊपर … तो अगली प्लानिंग मुझे करने दो. मेरे नंगे जिस्म पर ऊपर से गिर रहे पानी से मेरा बदन बहुत चमक रहा था. घर का काम निपटाने के बाद ज्यादा कुछ करने के लिए नहीं होता था इसलिए मन नहीं लगता था.

यहां तक कि मेरे एक्स ब्वॉयफ्रेंड आशू की गर्लफ्रेंड आयशा भी मेरे भाई पर लाइन मारने लगी थी.

फिर मां उस बेड को ठीक करने लगी तो उनको बेड के पास पड़ी हुई मेरी ब्रा और पैंटी दिख गई. मैंने उसको अपनी बलिष्ठ बाँहों में बीच लिया की सिल्क की आह्हः अह्ह्ह निकल गई. मैं समझ गया कि जीजा जी ने अपनी बहन आलिया की गांड में लंड पेल दिया है.

उसने मेरे लंड को मुँह में ले लिया और चूस चूस कर लंड का सारा पानी अपने मुँह से गटक गई. मैंने एक हाथ से उनके एक निप्पल को उमेठने लगी और दूसरे निप्पल को मुँह में भर लिया. मैंने उससे शाम को लेने आने का कह दिया … इस पर वह ख़ुश हो गयी और बोली- ठीक है … पांच बजे आ जाना.

उसने खुद ही मेरा 7 इंच का लंड पकड़ लिया और जोर जोर से आगे पीछे करने लगी.

मैं नाम नहीं लिख रहा हूँ, लेकिन आप मेरे कॉलेज का अंदाज़ा लगा सकते हैं. मैंने काली ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी तो उनमें मेरा गोरा बदन में बहुत चमक रहा था.

बीएफ हिंदी फुल एचडी में मैंने लण्ड का सुपारा मीना की चूत के द्वार पर रखा और मीना से कहा- मीना, मेरा लण्ड तुम्हारी चूत में जाने को बेताब है, अगर इजाजत हो तो डाल दूं?डाल दो फूफू … अब तुम्हारी पनाह में हूँ. इसके बाद हम जीजा-साले ने मिलकर पूरे घर की सफाई कर दी, वाशिंग मशीन में कपड़े डाल कर धो लिए, उन्हें सुखाने का काम पूरा किया.

बीएफ हिंदी फुल एचडी में डॉक्टर बोला- बात तो तेरी सही है … लेकिन एक काम तो कर दे, देख तुझे देख कर मेरा लंड कैसे टाइट हो गया. वहां प्रीत नंगा सो रहा थामैंने भी अपने कपड़े उतारे और उसके ऊपर लेट कर सो गई.

इसलिए उसके लंड को रास्ता मिलते ही उसने अपनी पूरी ताकत लगा दी और मेरी झूठी चीख वाली नौटंकी असल हो गई.

घोड़ा का बीएफ सेक्सी

मैं भी लंड को अन्दर बाहर करने लगा और भाभी की चुदाई जोर जोर से करने लगा. मैं- तो हम दोस्त नहीं है क्या? चल खोल और पेग बना!रोहित- आप भी? ओके ठीक है … नो प्रॉब्लम. मैंने उनसे दोनों चॉकलेट ले लीं और बोला- ठीक है भैया … अब मैं खेलने जा रहा हूं.

मेरी तड़फ मोनिका के लिए बढ़ती जा रही थी, तो लगभग एक महीने बाद मैंने उसके मैसेंजर पर मैसेज छोड़ा. मैं जीजा जी से उन दोनों के द्वारा दिए काम की वजह से थक गए थे और इसका बदला लेने के लिए आज की रात उन दोनों लड़कियों की जबरदस्त चुदाई को लेकर जीजा जी से बात कर रहा था. जब उनको मजा आने लगा, तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ानी शुरू कर दी और फुल स्पीड में भाभी की गांड में धक्के मारने लगा.

पर मजा भी तो इसमें ही आएगा।फिर मेरे दोनों दूध को हाथों से दबाते हुए बोला- चल शुरू हो जा।मैं भी अपनी कमर को गोल गोल घुमाते हुए लंड लेने लगी।फिर मैं अपनी चुदाई को तेज रफ्तार देने लगी- आआह आआ हहह आआ आहहह ओ ओह मम्मी आह ऊऊ ऊऊऊई ईईईईई रे आआह!क्या हुआ जान … मजा आ रहा है मेरी जान को?”हां, बहुत मजा आ रहा है.

ड्राइवर ने गाड़ी स्टार्ट की और गियर डालने के लिए जब उसने हैंडल को आगे पीछे किया तो उसका हाथ सीधा मेरी फुदी पर आकर टकराया. साथ ही मैंने खाला से रात सबके सो जाने के बाद ज़ेबा से मिलने की इच्छा जताई. दीदी ने मुझे उठाया और हम निकल पड़े कार ड्राइविंग सीखने के लिए।मैंने 10 दिन तक दीदी को पूरी ट्रेनिंग दी.

मुझे यह देख कर बहुत खुशी मिलती है कि आप लोग मुझे इतना सपोर्ट करते हैं. जब मैं वापस आया तो रीना बाहर आ चुकी थी और मेरे लैपटॉप में देख रही थी. उनसे बात करते हुए मैंने नोटिस किया कि वो मेरी चूचियों की तरफ देख रहे थे.

सपना ने मेरी तरफ देखा तो मैंने अपनी जेब से उसे दो हजार रूपए देते हुए कहा- ठीक है. तब तक आप मुझे ईमेल जरूर करें … और हां मौका मिले, तो किसी भाभी को चोदे बिना न छोड़ें.

प्रीति:उस दिन के बाद से मेरे कॉलेज की हर लड़की मेरे भाई के बारे में ही पूछती रहती थी. मामी बोलीं- चाहती तो मैं भी हूँ तुम्हें … लेकिन अब कुछ नहीं हो सकता. मैं बोली- और कहां है मेरे कपड़े … बताओ? तुमने मेरे बहुत सारे कपड़े चुराए हैं.

इस समय कमरे में पानी मौजूद नहीं था, इसलिए में पानी पीने के लिए किचन में गया.

लगभग एक हफ्ते तक इस कार्यक्रम के बाद एक दिन शैली आई और पढ़ाई शुरू की. श्वेता दीदी- अरे अर्णव तुम्हारी दीदी को मोटा वाला कीला चुभ गया हैवो इतना बोल कर मुस्कुराने लगी. वो बोली- हाँ जी, आपको किस से बात करनी है?तो मैं बोला- जी नमस्कार, मुझे वन्दना से बात करनी है, मैं उनका जानकार बोल रहा हूँ.

थोड़े धक्कों के बाद राजन ने शोभा को घोड़ी बनाया और पीछे से अपना मूसल उसकी चूत में देकर धक्के शुरू कर दिए. मुझे नहीं पता था कि संदीप के जीवन में इतने करीब से ऐसा नजारा पहले कभी आया था या नहीं.

अंकल पास में रखे एक डिब्बे को लेकर आए और दीदी की कमर के पास रख कर बैठ गए. मैंने कहा- मुझे घर में इजाजत नहीं है कि मैं किसी लड़के की बर्थडे पार्टी में जाऊं. इस पर मैंने और मनु ने कहा- नहीं दीदी, अब जो भी करेंगे, एक साथ करेंगे.

जंगल वाला हिंदी बीएफ

मैं सोच रहा था कि हम सब कल ही उन दोनों के बारे में बात कर रहे थे और आज वो हमारे साथ हैं.

मैं जानता था कि अभी अगर मैंने दया दिखाई, तो ये फिर दोबारा छोड़ने नहीं देगी. फिर मैंने पूछा- क्या ज्यादा प्यास लगी थी?मेरी इस बात का जबाव न देते हुए वो बोली- उस दिन आप मोना के साथ क्या कर रहे थे?अब वो खुद ही ऐसी बात शुरू कर देगी, इसकी मुझे उम्मीद कम थी. और मैं तो जैसे सातवें आसमान पे थी।अब मुझसे भी रहा नहीं गया और मैंने पीछे वाले का लंड पकड़ लिया और सहलाने लगी.

जाड़े के दिन थे, मैंने संगीता से कहा- भैया भाभी मूवी देखने जायें तो मुझे कॉल कर देना और पीछे का दरवाजा खोल देना. सपना- अच्छा … तो देर क्यों कर रहे हो आओ ना देखूँ … कितना दम है तुममें और तुम्हारे लंड में … आओ मसलो मुझे. सेक्सी लड़की हिंदीउसने मुझ से पूछा- क्या आप आ सकते हो?तो मैंने कहा- अभी कुछ दिन पहले ही छुट्टी लेकर हम सोलन गए थे.

कोई बीस मिनट बाद मेरे लंड का पानी निकलने वाला था, पर इतनी जल्दी झड़ता, तो निधि नाराज़ हो जाती. फिर उन्होंने अपने अंडरवियर को निकाल दिया और मेरे बदन के साथ चिपक गये.

तब तक के लिए विदा! मेल करके जरूर बताना कि मेरी कहानी कैसी लगी?[emailprotected]. ज़ेबा के लगातार विरोध करने और ये कहने कि ‘भाई प्लीज़ … ऐसा नहीं करो. मैंने भी अपनी लाइफ में आज पहली बार चुत चोदी थी … और वो भी मेरी सेक्सी चाची की चुत चुदाई कर रहा था.

मैंने आलिया को बेड पर पटक दिया … और आलिया के ऊपर चढ़कर उसके होंठों को चूमने लगा. लंड पर ऐसा महसूस हो रहा था जैसे किसी ने उसको मुट्ठी में जकड़ लिया हो. मोनिका- अच्छा है … मैं डर रही थी कैसे बताऊंगी, तुम मुझे वादा याद दिलाओगे बेबी हमारे होने का … जो मैंने तुमसे किया था.

परमीत की आवाज ट्रेन की साइरन की तरह हमारे कानों में टकराई और हम दोनों एक साथ खुश होकर सीधे घुटने के बल बैठ गए.

मैं तेजी से उसके लंड पर मुंह को चला रही थी और वो भी मेरी चूत को मस्ती में जीभ से चोद रहा था. मैंने मनीषा को लिटा दिया और उसका गाउन कमर तक उठाकर उसकी बुर अपनी मुठ्ठी में दबोच ली.

मैंने अंजान बनकर पूछा- तो … तुमने क्या किया?वो बोली- वो बहुत मिन्नतें कर रहा था तो मैं मान गई. मैंने कहा- क्या हुआ दीदी?वो बोली- कमीने, ये सब तू उस रात को नहीं बोल सकता था. कुछ पल के बाद उसका लंड मेरी गांड में ही सिकुड़ कर इतना छोटा हो गया कि वो खुद ही मेरी गांड से बाहर आ गया.

थोड़ी देर में उसे बहुत मज़ा आने लगा और अब बोल रही थी- आह … और तेज करो … फाड़ डालो … मेरी चुत बहुत परेशान करती है … और तेज आआआह. आपने मेरी शैदाई बन चुकी गीत की कलम से इस सेक्स कहानी के पिछले भाग में पढ़ रहे थे. मैं पापा की बात सुनकर अन्दर से बहुत खुश हो गया क्योंकि हमारे घर में मैं और पापा ही रहते थे.

बीएफ हिंदी फुल एचडी में ट्रेन कभी कभार ज्यादा लेट हो जाती है तो मैंने सोचा क्यों न एक दिन पहले ही दिल्ली पहुंचा जाए. जब सुबह जीजा जी उठे, तो वो देखने लगे कि हम दोनों भाई-बहन चुदाई करने में लगे थे.

बीएफ डीजे वीडियो

मैंने अपने बैग से तेल की शीशी और कॉण्डोम का पैकेट निकाला व बेड पर आ गया. उस दिन मेरी बहन मनोरमा (बदला हुआ नाम) का पति कमल भी घर में रुका हुआ था. थोड़ी देर में मैंने प्रीति को सीधा किया और अपने लंड को प्रीति की चूत पर सेट कर के उसके मुँह को अपने मुँह में दबा लिया और जोर का शॉट मारा.

मैंने भाभी की टांगों को फैला दिया और उनकी टांगों के बीच में उनकी लाल हो चुकी फूली हुई चूत पर अपने लंड को रख दिया और लंड से उसको सहलाने लगा. विशाल पीछे से आते हुए- क्या कर लेगा तू?आशू- तू कौन है बे? प्रीति का नया कस्टमर है क्या?बस इतना कहना था कि भाई ने एक पंच दे मारा आशू के थोबड़े पर. हिंदी में बात करके सेक्सीइतना कहकर मैंने जोर से ठोकर मारी और संगीता की चूत की झिल्ली फाड़कर मेरा लण्ड अन्दर तक चला गया.

अंकल ने मेरी चूत में ही अपना सारा वीर्य छोड़ दिया और निढाल होकर मेरे ऊपर गिर गए.

फिर एक दिन मैंने प्रीत से पूछा- तुम्हारे फार्महाउस पर कौन रहता है? उधर फैमिली वाले जाते है क्या?प्रीत- हां जाते हैं, लेकिन अभी तो सब पंजाब गए है. उसकी आवाजें निकलने लगी थींमैं बोली- चुप रहो यार … मेरा भाई भी है घर पर ज्यादा आवाज़ मत करो.

जीजा का लंड काफी मोटा और सख्त था और मेरी चूत में फंसता हुआ उसको खोल कर चोद रहा था. जीजा साली चुदाई कहानी का पहला भाग:छोटी बहन को अपने पति से चुदवा दिया-1मेरी छोटी के बहन के बड़े बड़े दूधों को दबा कर मैंने उसको इतना गर्म कर दिया था कि उसकी चूत में उठी वासना गर्मी उसके चेहरे और उसके शब्दों के जरिये बाहर आने लगी. कोई आधा घंटे तक वे दोनों लम्बी लम्बी सांसें लेते रहे और एक दूसरे से चिपके रहे.

घर से बाहर मिक्स कंपनी में कोई … ख़ासतौर पर कोई स्त्री अपने अंडर-गारमेंट्स धो कर सूखने के लिए बाहर किसी रस्सी पर नुमाईश नहीं लगाती और बाहर से घर लौटते ही हर कोई सब से पहले अपने साथ ले कर गया अटैची या बैग तो खाली करता है लेकिन कोई घर लौटते ही प्रवास के दौरान पहने हुए अपने अंडर-गारमेंट्स धोने बैठ जाए … ये बात तर्क़ की कसौटी पर ख़री नहीं उतरती.

उनके परिवार में उनका पच्चीस साल का बेटा दीपक और बीस साल की लड़की ज्योति है. मैंने अपने मोबाइल में एक सेक्सी ब्लू फिल्म को चला दिया और उसको टीवी पर चला दिया ताकि माहौल गरमा जाए. वसुंधरा की नर्म-ग़र्म साँसें मेरी नाभि पर से आ-जा रहीं थीं जिसको महसूस करके मेरा काम-ध्वज बड़ी तेज़ी से चैतन्य अवस्था को प्राप्त होता जा रहा था और इस का अंदाज़ा वसुंधरा को भी बराबर हो रहा था.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो 18 साल की लड़कीफिर उसने अपने मुंह को खोल लिया और बड़े ही प्यार से मेरे लंड पर अपने होंठों को रखते हुए मेरे लंड के सुपाड़े को मुंह में अंदर ले लिया. मैंने कहा- आप इतने विश्वास के साथ कैसे कह सकते हो?वो बोले- तुम जैसी लड़की को देख कर भला किसका मन वो करने को नहीं करता होगा!मैंने अन्जान बनते हुए पूछा- क्या करने का मन जीजू?वो बेबाक तरीके से बोले- चुदाई!जीजा के मुंह से चुदाई शब्द सुन कर मैं शरमा गई.

टीना की सेक्सी बीएफ

अब आगे:फिर एक बजने वाले थे, तो उसने मुझे फोन करके कहा- मैं आ रहा हूँ … कोई है तो नहीं?मैं बोली- नहीं, कोई नहीं है … आ जाओ. धीरे धीरे मेरे हाथ अब उसके अनावृत मस्त रसीले बोबों पर चले गए, आहहह … मुलायम-मुलायम, गोल-गोल रसीले कड़क बोबों पर हाथ पड़ते ही हथेलियां उनको मसलने के लिए मचल उठी. इसलिए मैंने अपने कंधों पर लिया हुया स्टॉल अपनी टाँगों के उपर ले लिया.

अब वो अपने होंठों को दीदी के होंठों पर रख कर चूसने लगे थे और इसी के साथ ही अंकल ने दीदी की कमर को फिर से पकड़ कर जोर जोर से लंड के झटके मारने लगे थे. जब से मैंने तेरे लंड को देखा है तब से ही मेरी चूत में गर्मी हो रही थी. मैंने धीरे धीरे लंड को आगे सरकाना शुरू कर दिया और पूरा लंड उसकी चुत में उतार दिया.

जब मुझे लगा कि अब ये ज्यादा होने लगा है तो मैंने अपने साले की बेटी को अपनी बांहों की गिरफ्त से आजाद किया. ताश के पत्ते बांटे गए।पते बाँटने से पहले रमेश सर बोले- जो हारेगा, उसे एक एक कपड़ा उतारना पड़ेगा. पर मेरे को जल्दी थी, तो मैंने उसकी शर्ट को फाड़ दिया और निधि के मम्मे सामने आ गए.

कई मिनट तक मैंने उसके लंड को चूसा और फिर उसने मुझे 69 की पोजीशन में कर लिया. उनके दोस्त ने मेरी दोनों टांगें उठा दी तो मेरी गांड का छेद उनके बिल्कुल सामने आ गया.

हमेशा की तरह उसने मुझे फोन करके बुलाया तो अपने मीटिंग प्वाइंट पर पहुंच गई.

मैंने मन में सोचा कि जवानी में ही अगर किसी लड़की का पति उसको छोड़ दे तो वो शारीरिक रूप से बहुत प्यासी रही होगी. सेक्सी वीडियो एचडी सनी लियोनीवो बोली- हाँ! पर …फिर मैंने मौका देख के पूछा- व्हाटसऐप नंबर क्या है आपका?तो बोली- क्यों?तो मैंने कहा- उसमें चैट करने में अच्छा लगता है. देसी सेक्सी की चुदाईफिर अपने हाथ चूतड़ों की तरफ लाते हुए मेरे पजामे को भी नीचे सरकाने लगा. मैं- पहले आपको ये बताना होगा कि आप ये क्यों कर रही हैं?भाभी- सुनना ही चाहते हो तो सुनो … तुम्हारे भैया, एक गुड इंसान हैं.

मैं अपने रूम में गई और विक्की को कॉल किया- कहां हो?विक्की- बस अभी तुम्हारे घर के सामने ही हूँ.

अगले कुछ ही पल में मेरा भी पानी निकल गया और मैंने सारा माल भाभी की गांड पर बाहर निकाल दिया. मैं भी उनसे ऐसी ही बातें किया करता था- डार्लिंग, मैं तुम्हारी इस चुत की गर्मी को एक बार में ही शांत कर दूंगा. लेकिन वो मुझे एक अच्छा दोस्त समझती थी, इसीलिए मैंने कभी प्रयास नहीं किया.

नातिन की चूत से निकल रही कामरस की बूंदें उसकी उत्तेजना की गवाह थीं. तो मेरा भी मन केले रूपी संदीप के लंड को जड़ तक लेने का हुआ, लेकिन मेरी इस असफल कोशिश ने मुझे तड़पा कर रख दिया. यह एक बढ़िया होटल था कनाट प्लेस के बहुत पास और उसकी बुकिंग मैंने अलग से करवा के रखी थी.

सेक्सी बीएफ सील टूटती हुई

आगे जाने के बाद मैंने पलट कर देखा, तो संदीप मुस्कुराते और शर्माते हुए मुझे ही देख रहा था. देख! ना मत कर वसु … आइंदा जिंदगी में फिर ये मौका नसीब नहीं होने का … !”मेरे स्वर में गहरी गुहार का पुट पाकर वसुंधरा ने दो पल मेरी आँखों में एकटक देखा और फिर वसुंधरा के होंठों के कोरों पर एक गुप्त सी मुस्कान प्रकट हुई. मैंने कहा- आप इतने विश्वास के साथ कैसे कह सकते हो?वो बोले- तुम जैसी लड़की को देख कर भला किसका मन वो करने को नहीं करता होगा!मैंने अन्जान बनते हुए पूछा- क्या करने का मन जीजू?वो बेबाक तरीके से बोले- चुदाई!जीजा के मुंह से चुदाई शब्द सुन कर मैं शरमा गई.

आह्ह … मजा आ रहा है … ऊईई … मां!वो पूरी जीभ को मेरी चूत में घुसा कर उसे जीभ से ही चोदने लगा था.

मालकिन थोड़ी देर तक वैसे ही पड़ी रही और फिर बोली- सुरेश, तेरा आज का दिन तो खाली ही गया, तेरे हाथों से एक भी काम नहीं हुआ.

अक्सर लड़ाई के दौरान वो मेरी गोद में बैठ जाया करती थी और मेरे कान खींचने लगती थी. मैं ये सब सोच ही रहा था कि तभी अंकल ने मॉम की गांड में अपना काला लंड घुसा दिया. सेक्सी बिल्डरकुछ पल तक उसने मेरी चूत को इसी तरह से चाटा तो मेरे मुंह से अपने आप ही कामुक आवाजें निकलने लगीं- आह्ह … बिक्कू आराम से करो.

करीब आधे घंटे बाद नहा-धो कर, पूरी तरह से रिलैक्सड मैं जब वाशरूम से बाहर आया तो देखा कि आतिशदान में और लकड़ियां डाल दी गयी थी और उसमें भड़भड़ा कर आग जल रही थी. प्रियंका देखने में अति सुंदर, लंबा चेहरा, घने बाल वाली कंटीली छमिया है. परिचित इसलिए … क्योंकि जब पहली बार मैंने अपनी चूत में उंगलियां घुसेड़ी थीं, तब भी मैंने उंगलियों पर खून के हल्के थक्के पाए थे, जो बहुत कम थे.

मैं बिस्किट मुँह में लेकर आधी उसे खिलाई, अपने मुँह में पानी भर कर उसे पिलाया. मैं उसके सिर के बालों को सहलाने लगा, तो उसने अपना मुँह मेरे सीने में छुपा लिया.

मेरा बायां हाथ वसुंधरा की पीठ और कन्धों पर गोलाकार रूप में और दायां हाथ वसुंधरा के सर पर लगातार गर्दिश कर रहा था.

मेरे हाथों ने डिल्डो को दीदी की चूत में अचानक ही अन्दर तक घुसेड़ दिया और सीधे जड़ तक पेल कर वहीं रोक दिया. अब उसने मेरी एक टाँग अपने कंधे पर रख ली और मेरी दूसरी टाँग अपनी दोनों टाँगों के बीच लेकर उस पर बैठ गया. मेरी हाइट 5 फीट 7 इंच है और जबकि मेरी दीदी आरती की हाइट 5 फीट 6 इंच है.

आते की सेक्सी उस दिन फिर मैं जल्दी से एग्जाम देकर दीदी के कॉलेज के पास पहुंच गया और गेट के बाहर खड़ा था … क्योंकि कॉलेज के मेन गेट में ताला लगा था. मेरे कॉलेज तक पहुंचते-पहुंचते पता नहीं कितने लोगों ने मुझे खा जाने वाली नजरों से घूरा होगा.

अब उन्होंने मुझे धक्के मार मार कर पेट के बल सीधा लेटा दिया और ऐसे ही लंड मेरी गांड में डाले रखा। वे मेरी गांड मारते हुए मेरी कमर और मेरे कंधों पर किस कर रहे थे. चौथे दिन दोपहर को वो कहीं से आयी और मेरे पास आकर बोली- क्या आपके पास ठंडा पानी है?मैंने उसे देखा और बिना कुछ कहे उसे पानी दे दिया. कभी होटल में, तो कभी दोस्त के फ्लैट पर चोद देता … तो कभी उसके ही घर पर चुदाई का मजा ले लेता.

बीएफ सेक्सी दिखा दे

कुछ देर लंड ऐसे ही चूसने के बाद मैंने उसका लंड अपने मुंह से निकाल दिया और उसे मेरी चुदाई करने को कहा. क्यों नहीं?”उसके उस छोटे से जवाब से मेरे दिल में खुशियों की लहर सी दौड़ गयी। मैंने जल्दी से अपने सारे कपड़े उतार दिए और बिल्कुल नंगा होकर उसके पैरों के ऊपर बिना वजन रखे बैठ गया और उसकी खूबसूरत चूत और चिकनी नाभि को धीरे धीरे अपनी उंगलियों से सहलाने लगा।उसकी आँखें अभी भी बंद थी पर उसने दांतों से होंठों को दबाते हुए जो मुस्कुराहट दी. मैंने पजामे का नाड़ा खुद ही खींच दिया था और नीचे खींच कर उसे बाहर करने का काम संदीप ने किया.

अपना विशालकाय लंड पकड़ के बोले- देखो!उनका लंड देख मेरे तो होश उड़ गए. मालकिन- सुरेश … अरे बेवकूफ … ऐसा कामसुख मेरे घर में होते हुए भी … मैं अकारण ही तड़प रही थी … अब मैं तुम्हें कभी भी नहीं छोड़ूँगी … आह बड़ा मस्त लंड लग रहा है … आआह.

दोस्तो, एक बार फिर से आप सब के सामने एक मजेदार कहानी लेकर हाजिर हूं उम्मीद करता हूं कि आप सब को मेरी ये कहानी पसंद आएगी.

राजन बाहर आंगन में घूमते हुए सिगरेट पी रहा था इसलिए राजन को सब सुनाई दिया. मैंने ज्योति को गोद में उठा लिया और बेडरूम में ले आया, पलक झपकते ही उसको नंगी कर दिया. और फिर वो मुझसे अलग हो गयी और बोली- पापा, अब आप जाओ, नहीं तो मैं काम नहीं कर पाऊँगी और आपका इंतजार लम्बा होता जायेगा।ठीक है, काम खत्म करके कमरे में आ जाना।”सर हिला कर सायरा ने अपनी सहमति दी।मैं अपने कमरे में आकर आँखें मूंद कर सायरा का इंतजार करने लगा।थोड़ी देर बाद मुझे मेरे होंठों पर चुंबन का अहसास हुआ.

फिर लंड चुत के अन्दर डलवाने से पहले भाभी मेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगीं, जिससे मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. मैं अपनी कामवाली की चूत चोद चुका था और अब उसकी गांड मारने को उतावला था. ज़ाहिर सी बात थी वो एक इक्कीस साल की भरपूर जवानी से लबरेज़ लड़की थी और मैं एक तजुर्बा कर मर्द था.

संजू गर्म हो गई थी और उसने अपना जीभ मेरे मुँह में दे दी, जिसे मैं चुभलाने लगा.

बीएफ हिंदी फुल एचडी में: मैंने भाभी से एक दिन पूछा- भाभी, आपके सामने मैं इसकी चुदायी करता हूँ … तो आपका मन चुदने का नहीं करता?भाभी उसके सामने मेरे इस प्रश्न के लिये तैयार नहीं थीं. मनु के घर उसके पापा ने फोन उठाया और दीदी ने उनसे भी कुछ बातें करके मनु का हमारे साथ रात रुकना पक्का कर लिया.

मैंने लिंक के माध्यम से कहानी शेयर करना चाही मगर कुछ दिक्कत हो रही थी. लेखक की पिछली कहानी:कुंवारी नातिन को कराई लौड़े की सवारीरिटायरमेंट के बाद मैं अपने पुश्तैनी घर में रहने लगा. कामोत्तेजना के कारण चूत से निकलता रस उसकी चुत में चमक पैदा कर रहा था.

आपको आपनी चालू बहन के बारे में मैं इस सेक्स कहानी में पूरे विस्तार से लिख कर बताऊंगा.

मेरा मन तो बाँहों में लेने का था पर कण्ट्रोल करके सिर्फ शेक हैंड किया. वो दोनों ही हट्टे कट्टे मर्द थे और मैं बिल्कुल दुबली पतली नाजुक सी लड़की. लंड जैसे ही आधा गया तो भाभी की चूत से खून आने लगा तो वो बोली- सही मायनों में आज मेरी चुदाई हुई है.