हैदराबाद की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ डाउनलोडिंग

तस्वीर का शीर्षक ,

ট্রিপল এক্স ডট কম: हैदराबाद की सेक्सी बीएफ, अशोक ने भी देर न करते हुए मेरी मां को बाथरूम में ही कुतिया बनाया और मां की चिकनी गांड में लंड डालकर एक जोरदार झटका मार दिया.

बीएफ सेक्सी देहाती माल

माँ बेटे की सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने माता पिता से मिलने के लिए गांव गया. खेत में चुदाईशायद मैं अपनी पूरी जिंदगी भर भी लगा रहता तो मैं कभी, ऐसा माल सैट नहीं कर पाता.

उसके बाद हम दोनों साथ में नहाए और बाथरूम में भी एक जल्दी वाला राउंड खेला. बीएफ देसी पिक्चरऐसी ही बातें करते करते चाय तैयार हो गई और हम दोनों चाय लेकर बेडरूम में आ गयी.

फिर मैंने उसे सीधे लिटा कर चोदा और अपना रस उसकी चूत में टपका कर उसी के साथ नंगा ही सो गया.हैदराबाद की सेक्सी बीएफ: मेरे मुँह को फिर एक दूसरी तरह के माउथ गैग से बांधा जिसमें बॉल की जगह लंड लगा हुआ था.

वैसे तो मेरा घर कोलकाता में है लेकिन हम लोग काफी साल से मुम्बई में ही रह रहे हैं.वो मेरी परवरिश को लेकर इतनी ज्यादा फिक्रमंद थी कि उन्हें कभी किसी और के बारे में सोचने का समय ही नहीं मिला.

काली चूत दिखाओ - हैदराबाद की सेक्सी बीएफ

मैं भी आंखें बंद करके जोर जोर से सिसकारते हुए उसके मुंह को चोदने लगा.मैंने कॉन्डम का पैकेट उठाया और उसमें एक कॉन्डम को फाड़ कर निकाला और अपने लंड पर चढ़ा लिया.

मीना ने कहा- हितेश जी, आप तो बहुत अच्छी तरह से मम्मी की चुदाई कर रहे थे, ये सब मैंने देखा है. हैदराबाद की सेक्सी बीएफ आकाश ने पास जाकर एक बार फिर से उसके बालों को पकड़ कर उसके मुंह को खोला और फिर से उसके मुंह में लंड घुसा कर चुसवाने लगा.

वो बीच बीच में पलक झपकाने भर की देर में ही मेरे लंड की ओर देख जाती थी.

हैदराबाद की सेक्सी बीएफ?

फिर वह अपना चेहरा मेरे चेहरे के करीब लाकर कहने लगा- सुरभि जी, आप बला की खूबसूरत हो. दोस्तो, उस रात मैं केवल यही सोचता रहा कि काश दिव्या की चूत मुझे चोदने के लिए मिल जाती. दोनों औरतें सुंदर के आगे आ गईं और उसके घुटनों के बल नीचे बैठ कर लंड चूसने लगीं.

मां उस समय थोड़ा समझ नहीं पाईं कि शहर में मालिश को किस नाम से जाना जाता है. मेरी बहन ने मेरे होंठों को कस कर चूमते हुए कहा- आई लव यू भैया!मैं भी उसे ‘आई लव यू टू’ बोलते हुए उसके होंठों को कस कर काटने लगा और उसकी चड्डी के अंदर हाथ डाल कर उसकी बुर को मसलने लगा. उसकी तरफ देखे बिना ही मैंने एक ही तेज झटके में उस्ताद जी को चूत के अन्दर ठेल दिया.

सुनीता भाभी की चुत में मेरा लंड एक कॉर्क के ढक्कन की तरह कस गया था. मैंने उसको बताया कि पहली बार जब डालने से सील टूटती है तो खून निकलता ही है. अबकी बार वो गुस्से में आ गयी और बोली- नहीं है मेरा कोई बॉयफ्रेंड। कुछ टाइम पहले था लेकिन अब कोई नहीं है.

अजय और जोर से और जोर मेरी जान!अजय ने चुदाई की स्पीड एकदम से तेज कर दी. उसके धक्के ने मुझे भी चरम पर पहुंचा दिया था, सो हम दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया.

इस दौरान मेरा भी एक बॉयफ्रेंड बन गया था, लेकिन मैंने ये सब अपनी दोनों सहेलियों से छुपा कर रखा था.

पीठ के पीछे ब्रा की स्ट्रीप थी जो मुझे मेरी उंगली में फँसाने मे आनंद आ गया.

फिर मेरे पूछने पर वो शादीशुदा लड़की बोली- मेरा बेटा एक साल का ही हुआ है और वो अभी मेरे पति के पास है. ये सुनते ही अशोक अन्दर आ गया और उसने मां के हाथ को पकड़कर अपने लंड पर रख दिया. फाइनली मोहित अंकल का लंड झड़ गया लेकिन इस बार उन्होंने मेरी गांड में नहीं बल्कि मेरे मुँह पर अपनी मलाई मार दी.

मेरी हामी पर वो बोले- मेरे पास ये किसी मॉडल का पोर्टफोलियो है, आप देख लीजिये एक बार, उसके बाद फिर हम शुरू करते हैं. आज मेरे इस आलीशान बंगले पर एक खूबसूरत औरत आने वाली हैं, जिनकी उम्र 34 साल है. अंजलि अपनी भाभी से सारी बातें शेयर करती थी और भाभी के घर पर होने से कोई टेंशन वाली बात नहीं थी.

प्रिया के मुंह से सीत्कारें फूट पड़ीं- आह्ह … आशू … ईईई … मम्मी … आह्हहस्स … ऊईई … आह्ह … ओह्ह … मर जाऊंगी मैं आशू … स्टॉप इट … आह्ह … ओ माय गॉड … फक मी आशू … आह्ह फक मी बेबी … मैं और नहीं रुक सकती.

फिर मैंने लता आंटी को कुतिया बनाया और उनकी चुत में पीछे से लंड डालकर उनको चोदने लगा. एक बार मैं क्लास खत्म होने के बाद लगभग 4 बजे गोरखपुर से गांव के लिए निकला. रिया दी मेरी तरफ इशारा करके फरजाना से बोलीं- फ़रज़ाना तू भी स्टार्ट कर … इस रंडी की गांड लाल कर दे.

आगे की इंडियन चुदाई की कहानी जानने के लिए कहानी का चौथा और अंतिम भाग अवश्य पढ़ें। दोस्तो, कहानी के बारे में सुझाव और कहानी की कमियां बताने के लिए मुझे मेल करना न भूलें।[emailprotected]इंडियन चुदाई की कहानी का अगला भाग:एक्स-गर्लफ्रेंड के साथ दोबारा सेक्स सम्बन्ध- 4. शमशेर ने मेरी बेटी को खींच कर अपनी जांघों पर बैठा लिया और वो मेरी बेटी की ब्रा के ऊपर से ही उसके बड़े बड़े मम्मों को चूसने और काटने लगा. इसलिये वो जैसे ही अपने रूम में घुसा, मैं उसकी खिड़की के नीचे से झांक कर अन्दर की तरफ देखने लगी।उसने मेरी पेन्टी को अपनी बिस्तर के नीचे छुपा दिया था।मैं चुपचाप पेशाब करके आयी.

मेरी चूत को काफी देर देर तक चाटने के बाद उसने मुझे इससे आगे बढ़ने पर मजबूर कर दिया था.

मैंने कहा- तो फिर इस बार क्यों ले आए उसे? आपने तो उसके साथ मन भर खेल लिया था!सुभाष बोला- अरे तो ये पांचों अचानक आने वाले थे. भाबी ने अपनी चूत को मेरे लंड पर सैट किया और घचाक से लंड पर बैठती चली गईं.

हैदराबाद की सेक्सी बीएफ चम्पा- क्या जंवाई बाबू … ऐसे गोरे गालों को इतनी जल्दी थोड़े ही न छोड़ा जाता है … जरा कस कर मसल कर रंग लगाओ. करीब दो साल पहले की बात है कि मेरे चाचा और चाची हमारे घर से करीब एक किलोमीटर दूर रहते थे.

हैदराबाद की सेक्सी बीएफ मेरी न्यू सेक्स कहानी हिंदी पढ़ा कर मजा आया आपको?[emailprotected]न्यू सेक्स कहानी हिंदी में अगला भाग:कोरोना बाबा का प्रसाद- 3. मैं पूरी नंगी होकर लेटी हुई थी और दोबारा चुदने के लिए भी तैयार हो चुकी थी.

मैं भाग कर उनके पास गया और बोला- ये क्या था?वो बोलीं- तुम कहां करोगे? जगह है?मैंने कहा- आप अपना नंबर दो … मैं थोड़ी देर में आपको कॉल करता हूं.

माय खलीफा

फिर वो बोला- अच्छा चलिये, ये फालतू की बात छोड़िये, मैं ये बोल रहा था कि भविष्य में अगर अच्छा कमाने का मन हो तो मेरे होटल में आ जाना, तेरे लायक यहां पर बढ़िया कस्टमर आते हैं. मैंने मौका देखा और एक कागज पर मोबाइल नंबर लिखकर उसे दे दिया और इशारे में बताया कि कॉल करना. फिर मैंने अपना एक हाथ उनके कातिलाना मम्मों पर रख दिया और धीमे से सहला दिया.

सच में पहली बार चुदाई में बहुत मजा आ रहा था।कुछ देर चुदाई के बाद वो झड़ गयी. पहले बंदे ने अपने लंड को रानी के मुँह में दे दिया और मेरी बहन की फिर से चुदाई होने लगी. अब शेखर ने मां जी की टांगों को फैलाया और उनकी चूत बेड के किनारे पर थी.

करीब 5-7 मिनट लिप किस के बाद रवि बोला- भाभी मुझे बहुत थकान महसूस हो रही है … मैं अपने रूम में जा रहा हूँ.

डॉक्टर के अनुसार इस तरह से मैं ठीक हो सकती थी, लेकिन दवाओं का खर्चा कुछ ज्यादा ही होगा. व्हिस्की के नशे में मुझे पता तो सब चल रहा था कि क्या हो रहा है, लेकिन मैं विरोध नहीं कर पा रही थी. मैंने उसे अपनी बांहों में लेकर एक बार चूमा और पलंग पर ले जाते हुए लिटा दिया.

भाभी पूरी नंगी हो गई थीं … लेकिन मैंने अभी तक उनकी चुत को देखा नहीं था क्योंकि कार अंधेरे में खड़ी थी और अन्दर की लाइट बंद की हुई थी. जैसे ही उसने अपना लंड अंडरवियर के बाहर किया, मैं तो देख कर चौंक गया. वो झड़ गयी, मगर अभी भी मेरा नहीं हुआ था और मैं उसकी चूत में लंड पेल रहा था.

उसको स्ट्रेच करते समय कई बार मेरे शरीर से उसके बूब्स और गांड टच हुए लेकिन उसने कुछ भी नहीं बोला था. पर ऐन टाईम पर मेरे दोनों दोस्त पहुंच गए और मुझे मजबूरी में अमिता को रात भर उनके साथ बांटना पड़ा.

इसलिए मैं बाथरूम में चला गया और अपनी पैंट उतार कर अपने लंड को एडजस्ट करने लगा. लेकिन वो जोश नहीं आता था जो मैं कहती कि ‘राहुल और जोर से चोदो मुझे, मजा आ रहा है।’ क्योंकि शर्म का पर्दा दोनों ही तरफ था।लेकिन यहां सब पर्दा बेपर्दा हो चुका था।मेरे देवर रोहित के चोदने से मेरा सारा जिस्म पसीने से नहा चुका था. रवीन्द्रनाथ मेरी मां और नानी को एक साथ बिस्तर में लिटा कर रोज दोपहर में चोदते थे.

उसने अपने लंड को चूत पर लगा कर थोड़ा सा दबाया, तो उसका लंड फिसल गया.

प्रोजेक्ट के लिए फाइनल हुआ कि सब दोस्त मिल कर मेरे रूम पर ही क्लास के बाद प्रोजेक्ट बनाएंगे. इसके बाद मैंने उसे खड़ा किया और उसके लिप्स पर किस करने लगा और उसकी चूचियों को दबाने लगा. ऐसा लग रहा था जैसे कि किसी ने मेरे शरीर की सारी एनर्जी निकाल ली हो.

जब उसने कहा- मैडम आप पैरों में वैक्सिंग नहीं करती है, लाईए मैं आपके लिए कर देता हूं. अनीता- आनंद जी क्या बात है, आज तो कुछ ज्यादा ही रोमांटिक हो रहे हो!मुझे उनसे ऐसे सवाल की उम्मीद नहीं थी कि वो ऐसा बोलेंगी.

नए वीडियो में एक अंग्रेज आदमी सोफे पर बैठा था और अपने बगल में बैठी लड़की को किस कर रहा था. भाभी बोलीं- राजा देखो तुम्हारी रानी कैसे बह रही है, अब देर मत करो जान जल्दी से अपनी रानी का बाजा बजा दो. दोस्तो, अब इस स्वीट Xxx गर्ल स्टोरी को पढ़ कर मुझे मेल कीजिएगा कि ये सेक्स कहानी आपको कैसी लगी.

रानी का गाना

मैं बोला- हां साली रंडी … जब चुदवाना था ही तो नखरे क्यों दिखा रही थीं?धकापेल चुदाई होने लगी.

मैंने दीदी को वहीं सोफे पर लिटा लिया और उसको किस करते हुए उसे ऊपर से नंगी कर दिया. मैंने अपनी आवाज़ को दबाया और किसी तरह से लंड के दर्द को जज्ब करने लगी. मुकेश मेरे दोनों स्तनों से खेलने लगा और निप्पलों को एक एक करके चूसने लगा.

इसलिए मैं बाथरूम में चला गया और अपनी पैंट उतार कर अपने लंड को एडजस्ट करने लगा. एक रोज जब मैं उनको दोपहर का खाना परोसने गयी तो मैंने पहले से ही अपने ब्लाउज का एक बटन खोल लिया. நடிகைகள் செக்ஸ் வீடியோக்கள்तब उसने लाइट जलाई और मैं बाथरूम गया।वापस आया तो वो थोड़ा सा सर निकाले मेरी तरफ देख रही थी।मेरी उसकी नजरें मिली तो मैंने स्माइल दी.

मैंने कहा- सेक्स करने में कैसा शरमाना भाभी?वो बोलीं- तुम मेरे लिए एक गैर मर्द हो. मेरी आँखों से आसुओं की धार निकल पड़ी। मैं किसी तरह उससे छूटना चाहती थी मगर उसने बहुत जोर से मुझे जकड़ लिया था।उसने जोर से मेरा मुँह दबा रखा था इसलिए मैं कुछ बोल भी नहीं पा रही थी।मैं जोर जोर से अपने पैर पटकने लगी। अपने दोनों हाथों से उसकी कमर को धक्का देने लगी.

अब मैं दूसरा पैर ज़मीन पर और हाथ सोफे के ऊपर रख कर झुक गई। वो मेरे पीछे ही खड़ा था. वरना वो इन जवान लड़कों के सामने ऐसे बेशर्म होकर उनका लंड नहीं चूस रही होती. पूरे रूम में पुच पुच की आवाजें होने लगी थी और वो मेरे मुंह को चोद रहा था.

रोज रोज ऑफिस में चुदाई नहीं हो सकती थी इसलिए कई बार हमें होटल भी जाना पड़ा. मुझे तड़पा तड़पा कर उसने फिर अपने लिंग को अंदर डाल दिया और धक्के लगाने लगा. मैंने फ़ोन उठाया ही था कि तभी मेरे फ़ोन पर नजमी का मैसेज आया कि ‘क्या कर रहे हो.

मैं सामने झुक कर खाना डालने लगी तो देखा कि उनकी नजर मेरी चूचियों की घाटी में झांक रही थी.

मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी इस Xxx इरोटिका फंतासी कहानी में मजा आ रहा होगा. हम खेतों के किनारे से होते हुए जंगल के बगल से चल रहे थे, तभी चाची ने मुझे गाड़ी रोकने के लिए कहा.

फिर उजमा ने उसके लंड को अपनी जीभ से चाटा, तो अफ्रीकन ने मेरी बीवी के मुँह में अपना मूसल लंड घुसा दिया. इस शादी में जाने के लिए मेरी बहन रानी ने गहरे गले की चोली पहनी हुई थी, जो पीछे से पूरी बैकलेस थी. और मैं भी यही चाहती थी कि कोई मर्द हो जिस पर मैं दिल से भरोसा कर सकूं.

दोस्तो, उस रात मैं केवल यही सोचता रहा कि काश दिव्या की चूत मुझे चोदने के लिए मिल जाती. इस तरह से और आगे चलते हुए हम खेत के बीचोंबीच पहुंच गए। ये सरसों का खेत बहुत बड़ा था। चारों तरफ से सांय सांय की और पक्षियों की चहचहाने की आवाज़ें आ रही थीं।वो रुक कर बोली- हां, ये ठीक है, यहां से किसी को कुछ दिखाई और सुनाई नहीं देगा. उधर उसने मेरे लिए एक स्वेटर खरीदा और मेरे सीने से स्वेटर लगा आकर नाप चैक करने लगी.

हैदराबाद की सेक्सी बीएफ मैंने पूछा- कुछ काम था क्या, अगर मुझे बता सकती हो तो बता दो, मैं मां के आने के बाद उनको कह दूंगा. मैंने कहा- सेक्स करने में कैसा शरमाना भाभी?वो बोलीं- तुम मेरे लिए एक गैर मर्द हो.

कामसूत्र सेक्सी बीपी

फिर अगले दिन मैं फिर से उसी समय छत पर गया इस उम्मीद में कि शायद आज भी अनु छत पर आयेगी. मैं उसे अपने ऊपर से धक्का देकर हटाने लगी, पर उसने मेरी एक न सुनी … और जोर जोर से झटके मारने लगा. वैसे भी मैं घर में भाभी से सही से बात नहीं कर सकता था … क्योंकि सब होते हैं.

कमरे में आकर मौसी ने उस पर एक कंडोम को पूरी तरह चढ़ा दिया और आधा अपनी चूत में डाल लिया. मैंने सनी के लंड को चूस कर अल्पना की चुत के रस का मजा लिया और लेट कर सनी को अपने ऊपर ले लिया. मोटी औरत के बीएफमैंने बोला- ये क्या?उसने बोला- वो ये कि पहले आप ये सब देखोगे … फिर मेरे को करने को कहोगे.

मैंने फिर कार के अन्दर की लाइट को ऑन किया, तो भाभी अपनी चूत और मम्मों को छुपाने लगीं.

तभी तुमने लन्ड घुसा दिया तो सिसकारी की वजह से आस्सस करके आवाज आई और तुम्हें विकास सुनाई दिया. देवर भाभी रोमांस सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मुझे सेक्स के लिए अपने देवर की तरफ झुकना पड़ा जब पति की चुदाई से मुझे मजा नहीं मिलता था.

मैं ऐसे पकड़े हुए था कि उसको लग रहा था कि मैं उसके स्तनों को ब्रा के अंदर फंसाने की कोशिश कर रहा हूं. जब मैं और लता आंटी चुदाई करके बाथरूम से बाहर आए तो सामने मीना खड़ी थी. उस बड़े शानदार रूम से दूसरा रूम भी जुड़ा हुआ है, जहां आज चुदाई का दंगल होने वाला था.

मैं भी सनी से चुद चुकी थी और मुझे भी सोना की अनुपस्थिति में सनी के लंड के लिए खुजली होने लगी थी.

मैं बोला- ओके रानी तुम तैयार रहो … आज तीनों छेदों का रास्ता साफ कर दूँगा. उन्होंने निकाह के दो साल तक बच्चा पाने के लिए मेरे साथ खूब सेक्स किया, पर वो सफल नहीं हुए, तो उन्होंने मुझको चोदना कम कर दिया. मेरे वीर्य और उसके चुतरस में सना लंड वो अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

सेक्सी हाटअपनी बात करूं तो मैं भी पटाखा माल हूं और शादी के बाद तो मेरी जवानी और ज्यादा निखर गयी है. भाभी की न्यू सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने शादी में मोटी गांड वाली भाभी को पटा कर उसे कार में नंगी करके लंड चुसवा कर गर्म करके चोदा.

पंजाबी सेक्सी फिल्म ब्लू

जब उससे रहा न गया तो बोली- जल्दी करो ना ऋषि … मुझसे अब रुका नहीं जा रहा है. लेकिन घर की इज्जत को ध्यान में रखकर मैंने बात आगे बढ़ाना उचित नहीं समझा।मनीष मेरे पीछे काफी पड़ा लेकिन मैं अपने आपको बचाती रही।हाँ … जब जिस्म में आग बहुत ज्यादा लग जाती और कोई रास्ता नहीं बचता तो अपनी उंगली से अपनी चूत की क्षुधा शांत कर लेती।कभी किसी लड़के का जानबूझकर मेरे से टकराकर मेरी चूचियों पर हाथ फेर देता. उसके मखमली होंठ कभी मेरे माथे को चूमते और कभी मेरे गालों को प्यार से किस कर रहे थे.

शुरू से ही इसे मेरी वासना कहें या इच्छा कि मुझे स्टूडेंट लाइफ से ही बड़ी उम्र की औरतें काफी आकर्षक लगती रही हैं. जब मैं जवान हो रहा था तभी से मैं सेक्स के बारे में सब कुछ जान गया था. फिर स्नेहा ने उस लड़के को हटाया, तो रिया दी बोलीं- समीर, अपनी बहन के पास जाओ.

तू बता तेरा किसी से टांका फिट हुआ या अभी भी सिंगल ही है?तो उसने भी मना कर दिया. ठंड ज्यादा होने के कारण मेरी बहन और मम्मी एक रजाई में थे और मैं और दिव्या एक रजाई में थे. दो मिनट तक उंगली से चोदने के बाद मैंने अपने लंड को उसके मुंह में दे दिया और खड़ा करने को बोला.

लेकिन यहां तो कुछ किए फ्री में इतने मस्त माल की चुत चोदने को मिल रही थी. मैंने उससे जानना चाहा कि तुम्हें किस तरह से इंजॉय करना है?पहले तो वह शरमाई, फिर मुझे किस करने लगी.

उन्होंने बोला- ओके इसी गली में सीधे आ जाओ … तीन नंबर वाला मकान है … आ जाओ.

उस रात हमारे बीच जो हुआ, मैं उसको भुलाने की कोशिश कर रही थी … लेकिन उस रात को भुलाना मुश्किल था. मारवाड़ी नंगा वीडियोमैंने मतलब पूछा तो उन्होने कहा- अभी बगल वाले कमरे में चलते हैं और थोडा़ एन्जाय कर लेते हैं, फिर डील साईन कर लेंगे और 50000 एडवास दे देंगे. बीएफ पिक्चर चलते हुएमैंने उनके सिर को अपनी चूत में दबा लिया और जोर जोर से अपनी चूत को उनके मुंह पर रगड़ने लगी. दो मिनट तक उंगली से चोदने के बाद मैंने अपने लंड को उसके मुंह में दे दिया और खड़ा करने को बोला.

मैंने उसकी गांड से लंड निकाला और कंडोम पहन कर उसकी टांगें फैला दीं.

एक दिन ऐसे ही जब मैं राहुल की कॉल पर अपनी बीवी की चुदाई कर रहा था तो वो इतनी गर्म हो गयी कि वो नीचे से खुद ही धक्के लगाने लगी. पूरन, विश्वजीत, मनोहर और दो वर्जिन लड़के रोहन और सनी, ये पाँचों अब मेरी चूत में अपना-अपना लंड डालने को तैयार थे। पाँचों मेरी चूत चुदाई कैसे और किन पोजीशन में करते है- मेरे ग्रुप सेक्स स्टोरी का मज़ा लें।मेरी कहानी के पिछले भागदुनिया ने रंडी बना दिया- 5में आपने पढ़ा कि मैं रोहन और सनी को समझा रही थी कि चूत में लंड डालने पर चुदाई होती है. मैं अपने आप को समझा नहीं पा रही थी कि मैं आखिर ये किस राह पर आ गयी हूं.

मुझे ये भी पता चल गया था कि जितने लड़के मेरे आगे पीछे घूमते हैं, मुझे हमेशा प्रपोज करते हैं, ये कहते हैं कि मुझसे शादी करना चाहते हैं. बीच-बीच में कभी मेरे गालों को चूमता तो कभी मेरी पलकों को तो कभी मेरे होंठों को चूम लेता. वो भी खुश हो जायेंगे इसकी चूत पाकर।मैंने भी बोल दिया- हां, जिसे बुलाना है बुला लो, मगर मुझे जल्दी चोदो अब।इतना सुन कर विजय ने मुझे गोद में उठाया और सीढ़ियों से नीचे आकर बगल से होता हुआ मुझे घर के पीछे बाड़े में ले गया.

सेकसी फोटो कम

लड़कियों के नाम क्रमशः पूजा, कविता और पल्लवी थे (प्राईवेसी के लिए नाम बदले गये हैं). जिगर जारा के दूध दबा रहा था और बोल रहा था- आह क्या मस्त हैं तेरे मम्मे … मेरी मॉम के भी ऐेसे ही हैं. वो देख कर हंस पड़ी और बोली- कॉन्डम भी नहीं लग रहा है आपसे, चुदाई कैसे करोगे?फिर मैंने जल्दी से कॉन्डम पहना और उसकी चूत पर लंड लगा दिया.

मेम को रोकते हुए मैंने कहा- मेम अगर आप मेरे लिये भी बना रही तो प्लीज नहीं बनाना.

शमशेर उसे किस कर रहा और उसके नंगे हो चुके मम्मों को बारी बारी से चूसे जा रहा था.

जो सबसे ज्यादा उम्र का था उसने मुझसे कहा- बहुत अच्छी साड़ी पहनी हो! बाथरूम जाओ और सब कपड़े उतार कर वहां अलमारी में डाल देना. मैं सब कुछ हैरान सा होकर सुन रहा था मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि ये सब मेरी आंखों के सामने हो रहा है. ब्लू पिक्चर दिखाइए वीडियो में सेक्सीकि तभी उन्होंने मेरी पैन्टी उतार दी।मैंने शर्म के मारे अपनी आँखें बन्द कर ली।मेरे पतिदेव मेरे ऊपर चढ़ गये और मेरे दोनों चूचियों को बारी-बारी से चूसने लगे।कुछ देर बाद मुझे कुछ बहुत ही गर्म चीज चूत के मुहाने पर महसूस हुयी।शायद उनका लंड था।शायद क्या … उनका लंड ही था जिसको मेरे पतिदेव मेरी चूत पर रगड़ रहे थे.

आंटी ने हाँ कह दी और मैंने उनको लिटा कर तेल लगाकर मालिश करना चालू कर दी. फिर समय ना लगाते हुए मैंने उसे बिस्तर पर चित लिटा दिया और उसकी टांगें फैला दीं. अनचाही अनसुनी ख्वाहिशें जगीं, पर जब आजमाने का मौका आया, तब उसकी असलियत मेरे सामने आयी.

दिव्या हमारे घर 15-20 दिन तक रुकी और मैंने मौका पाकर उसकी चूत खूब चोदी. मेरी उम्र 23 साल है। वैसे तो मैं झालावाड़ (राजस्थान) से हूं मगर अभी मैं उदयपुर से बीएएमएस कर रही हूं और पढ़ने में काफी अच्छी हूं।यहां मैं कॉलेज के हॉस्टल में रहती हूं.

मैंने बातों ही बातों में उससे पूछा- आपका पति इतने दिनों तक बाहर रहते हैं … तो आप उनके बिना कैसे रह लेती हो?इस बात पर वो रो दी.

मेरी बेटी जाह्नवी कॉलेज जाती थी और प्राइवेट ट्यूशन भी दिया करती थी. मैं उपर से उठा और बगल में लेट गया।उसने जल्दी से अपनी पाजामी पहनी और बिना ब्रा डाले टॉप डाल लिया और बिना लाइट जलाए बाथरूम चली गई. मैंने सोच लिया था कि इससे पहले कि और कोई रिश्तेदार घर आ जाएं … मुझे विशाल के लंड से चुद ही लेना चाहिए.

सविता भाभी के साथ सेक्स मुझे अंदाजा हुआ कि वो उसका भाई रहा होगा क्योंकि उसके गले में तीन सोने के चेन और हर उंगली में सोने की अंगूठियां थीं. मेरी पानी पानी हो रही चूत में फिर उन्होंने झटके से उंगली अंदर डाल दी.

उसने मुस्कराकर मुझे देखा और अंदर आने को कहा। मैं अंदर गई और उसने मुझे बैठने को कहा तो मैं सोफे पर जाकर बैठ गई।वो फिर किचन में गया और दो ग्लास जूस ले आया। हमने साथ में जूस का ग्लास खत्म किया। हम दोनों फिर बात करने लगे। मैं तो विश्वास ही नहीं कर पा रही थी कि पूरन इतना पैसे वाला निकलेगा इसलिए मैंने पूछ ही लिया. इसी तरह मां मुंबई में एक हफ्ते रहीं और जब जिसको समय मिलता, वो बारी बारी से मां के दोनों छेदों में अपना लंड डाल कर उन्हें चोद देता. मेरी सेक्स लाइफ स्टोरी में पढ़ें कि कॉलेज के दिनों में मुझे चूत की तलब लगी.

वीणा राजस्थानी गीत

उस पूरे दिन मैं क्लास से बाहर नहीं निकली, बस उसकी उंगली का मीठा अहसास अपनी चुत में करती रही. अंकल आंटी के द्वारा मेरी क्रेजी डिल्डो सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी? प्लीज़ मेल जरूर करें. जब मुझे अजय पूरा भरोसा हो गया तो मैंने अजय को मिलने के लिए दिल्ली बुला लिया.

मेरे बेल बजाने से पहले ही उसने दरवाजा खोला और मुझे अन्दर बुला लिया. फिर रवि भी अपने चूतड़ों को फैला कर माया दीदी की चुत पर झटके मारने लगा था.

भाभी एकदम से आउच कर उठीं मगर तब तक तो मेरा हाथ उनके गुब्बारे दबा कर दूर हट चुका था.

अंजलि फिर से गर्म हो गयी और मेरा लंड पकड़कर अपनी चूत के दाने पर फेरने लगी और मुझसे चोदने के लिए कहने लगी। मैंने अंजलि को उठाया और उसे सोफे पर ले गया।सोफे पर बैठकर मैंने अंजलि की टांगों को दोनों तरफ किया. ‘आह चोद दे मां के लौड़े … साले कितने दिन से तेरे ऊपर मेरी नजर थी … चूतिया अब जाके फंसा है … चोद भैन के लंड … साले चोद मादरचोद. अब तक मैंने अपनी गांड भी नहीं मरवाई थी तो ये लगने लगा था कि मैं भी नशा करके अपनी गांड में जेठ जी और पति का लंड ले लूं.

तो मेरी कहानी के पिछले भागसहेली को दूसरी सहेली की चूत चुदाई दिखायीमें आपने पढ़ा था कि अल्पना और हम दोनों ने सोना और सनी की चुदाई देखी थी, जिससे अल्पना का मन सनी के लंड से चुदने का होने लगा था. वो शांत हुई … तो मैंने फिर से पेला और इस बार पूरा लौड़ा उसकी गांड की जड़ तक ठोक दिया. मैंने लंड को उसकी गांड के छेद पर सेट करके धीरे धीरे लंड को धकेलना शुरू किया.

मेरी ननद मुझे छेड़ते हुए बोली- भाभी, आज तो बहुत से लड़कों का आप पानी निकाल देंगी.

हैदराबाद की सेक्सी बीएफ: कुछ ही पलों बाद मेरी बीवी ने अपना मुँह खोल कर लंड को अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. दस मिनट की धमाकेदार चुदायी के बाद मैंने उसको अपनी गोद में उठा लिया और दीवार के पास खड़ा कर दिया.

जैसे तुम दोनों ने मिल कर मेरे साथ एक गेम खेला था अब मैं तुम्हारे साथ एक गेम खेलना चाहती हूं. फिर जीजा जी ने जैसे ही अपना मूसल लंड चुत पर रखा तो स्नेहा ने कमर हिला दी और निशाना चूक गया. तो दोस्तो, मैंने मौसी की लड़की की चूची पर हाथ रखा हुआ था और मैं उसकी चूची को लगभग 10 से 15 मिनट तक दबाता रहा.

सो उसके लेटते ही मैं उसके ऊपर उछलने लगी। कुछ ही देर में मेरा शरीर अकड़ने लगा और मैं फिर से एक बार झड़ गई।वो भी ज्यादा देर नहीं टिका और फिर से मेरी चूत में उसने गाढ़े वीर्य की बाढ़ ला दी। हम दोनों जम़ीन पर कुछ देर तक लेटे रहे। फिर मैं उठी और देखा तो आठ बजने ही वाले थे।हम दोनों जल्दी से बाथरूम में गए और एक-दूसरे को साफ किया। फिर मैंने उसके सामने ही कपड़े पहने.

कुछ समय बाद मैंने मां से कहा- चल मेरी छिनाल रंडी … अब आगे बताओ कि अशोक ने क्या किया. अंकल की बेटी ने रात को मुझे उसकी चुदाई के लिए कैसे उकसाया?नमस्कार दोस्तो, आप जिन्दगी में किसी के साथ कितना भी सेक्स कर लें. मैंने नीचे से ब्रा नहीं पहनी थी इसलिए मेरी चूची उसके सामने नंगी हो गयी.