फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी

छवि स्रोत,एक्स एक्स ब्लू फिल्म वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

वीडियो आर्केस्ट्रा: फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी, फिर मुझे पता चला कि वो भाभी जी सुबह जिम और योगा वगैरह के लिए जाती हैं, तभी उसका फिगर इतना मेंटेन और कातिल था.

ब्लू वीडियो सेक्स ब्लू वीडियो

फिर उसने मुझे बताया कि उस दिन जो भी हुआ, उससे मुझे गुस्सा तो बहुत आया कि तुमसे बात ना करूँ, पर पता नहीं क्यों मुझे वो गुस्सा भी आया और जो तुमने किया, वो सब अच्छा भी लगा. इडियन सेकसी विडियोमयूरी- पर ये तब हो पायेगा जब तुम्हारी बीवी इस बात के लिए मानेगी… और हर लड़की तुम्हारी अपनी बहन मयूरी नहीं है… की तुम दोनों का लंड एक साथ लेने को तैयार हो जाएगी.

अपने मुँह में उसका पूरा बूब ले लिया और जलन के मारे उन्हें ज़ोर के काटे जा रहा था. बिहार का एक्स एक्स एक्स वीडियोउसका लहंगा भी घुटनों से कुछ ही नीचे तक था जिससे उनकी गोरी गुदाज मांसल गुलाबी पिंडलियां जो बेहद सेक्सी लुक दे रहीं थीं और पैरों में बंजारिनों जैसे मोटे मोटे चांदी के कड़े.

अंकित की नज़रें अब मुझ पर थीं, वो घूर घूर कर मेरे मम्मों को देख रहा था.फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी: मुझे सेक्स में गालियां देना और सुनना, नंगेपन की हद तक जाना बेहद पसंद है.

मैं कल घर पर अकेली हूँ और हाँ मैं अभी तक किसी से भी चुदी नहीं हूँ, ना ही मैं चाहती हूँ कि तुम्हारी और प्रगति की बात किसी को भी पता चले.जिस वक़्त उसने यह किया, पद्मिनी को अच्छी तरह से पता चल गया कि उसका पिता क्या कर रहा था.

सेक्सी वीडियो झारखंडी - फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी

अब हम वहां से गाड़ी स्टार्ट करके सीधा गोवा के एक रिज़ॉर्ट में पहुँच गए.मैंने आंटी को पकड़ा और उनको लिप्स किस करने लगा और दूसरे हाथ से उनके मम्मे को दबाने लगा.

” मैंने बेटी शब्द का प्रयोग इसलिये किया क्योंकि अभी तक वो मुझे पापा बोलती आयी थी, मुझे लगा कि उसे बेटी बोलने से उसे अच्छा लगेगा और वो ग़ुस्सा नहीं करेगी।ओके पापा… वो कहते हुए मेरे ऊपर झुकी और मेरे होंठों को चूम लिया।फिर एकदम से वो खड़ी हो गयी और कमरे से बाहर निकल गयी।कहानी जारी रहेगी. फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी कुछ वक्त तो वो वैसे ही मेरी बांहों में बनी रहीं और मेरे आगोश में लिपटी हुई थीं.

उतने में राजू का फोन आया, उसने बोला- नीचे आ जाओ, मैं भी आने वाला हूँ.

फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी?

मैंने धीरे धीरे उनकी चूत पे हाथ फेरते हुए अपनी एक उंगली को उनकी चूत में डाल दी, तो वो थोड़ी उचक कर बोलीं- क्या कर रहे हो यार. इतने में कुछ बाल जैसी चीज मेरे जीभ से टकरायी, मैंने निकाल कर देखा तो सफेद सूत सा कुछ था. ये सोच कर ही मेरा लंड भी अंगड़ाई लेने लगा कि आज एक नई चूत का स्वाद मिलने वाला है.

फिर एक प्लान तैयार करके मैंने होटल में एक रूम बुक करवाया और मुस्कान को लेने के लिए हर बार की तरह मेट्रो स्टेशन पहुंच गया. मैं बात करते करते उसके लंड के पास अपनी गरम गरम साँस छोड़ रही थी और वो मेरी गांड मसल रहा था. साथ ही उसकी योनि में से कुछ गरम गरम सा बहने लगा और वो मेरे ऊपर ऐसे ही लेट गई.

इसी लिए मैंने उसके मम्मों को अपनी कुहनी से दबा कर उसकी मंशा जानने की कोशिश की. तो उन्होंने अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए और मेरे होंठों को चूसने लगे. इस पर वे दोनों किसान बोले- अरे तो रंडी की बेटी रंडी ही तो होगी, इसकी मां के भी बड़े किस्से हैं.

शाज़िया का बदन गोरा है तो चाचा ने आराम से दोनों हाथ के अंगूठों से उसकी चूत को खोला और चूत के अंदर का गुलाबी भाग दिखने लगा।चाचा ने आहिस्ता से अपनी जीभ गुलाबी चूत में घुसा दी। शाज़िया ने कस कर चाचा का सर अपनी चूत पर दबा दिया. मेरी बहन प्रीति मेरी तरफ अपनी गांड करके सोई हुई थी और मेरा लंड बैठने का नाम नहीं ले रहा था तो मैंने अपना पजामा थोड़ा नीचे किया और अपना अंडरवियर नीचे करके अपना लिंग हाथ में पकड़ लिया.

तो मैंने उस दिन मरने का सोच लिया था और घर की छत पर कूद कर मरने के लिए चली गई थी.

वो हमारे घर के पास ही रहता था, हमारे परिवारों के बीच आना जाना भी है तो वो मेरे घर अक्सर आ जाया करता था और अक्सर रोमांस करता रहता था, पर धीरे धीरे हमारे बीच प्यार और रोमांस बढ़ता गया.

यह ख़याल आते ही मैं सहम जाती थी और फिर उससे अपनी दूरी बना कर रखना चाहती थी. वो भी शायद 4-5 महीने से चुदी नहीं थी तो वो भी किस करने लगी और मेरे कपड़े निकालने लगी. लंड झिल्ली तक पहुँच चुका था मेरा लंड खाला की हायमन से टकरा रहा था और जब उसने उसे भेदकर आगे बढ़ना चाहा तो खाला चिल्लाने लगी कि दर्द के मारे मर जाऊँगी.

मैं उसकी बॉडी को चूसते हुए नीचे की तरफ आ गया और उसकी चुत पे अपना मुँह रख दिया. दोस्तो! मेरी एक आदत रही है कि मुझे कभी भी कुँवारी लड़की को चोदने में इतना मजा नहीं आता जितना चुदी हुई में आता है. मैं हैरान हो गई, तो उसने मुझे बताया कि वो अपनी गर्लफ्रेंड को भी चोदता है तो कंडोम लगा कर चोदता है.

हम दोनों की काम वासना पूरी तरह से जाग गयी थी और एक दूसरे के ऊपर कंट्रोल नहीं रहा.

उसको इतनी खूबसूरत जवान लड़की मिलेगी, ये उसने सपने में भी नहीं सोचा था. अब तक आपने इस कामुक कहानी में पढ़ा था मैं अपने भांजे पीयूष और मौसी के बेटे लाल जी के साथ एकदम नंगी होकर चुदाई के पहले का मजा ले रही थी. रेखा ने शर्म से आँखें बंद कर रखी थीं परन्तु ज़रा सा भी प्रतिरोध नहीं कर रही थी.

दोस्तो, मैं अपनी अगली कहानी जल्दी ही लिखूंगा कि कैसे मैंने सोनम को उसके घर कैसे चोदा और सोनम की फ्रेंड को सोनम के साथ कैसे चोदा. इसी दौर में ऑडियो कैसेट्स भी मिलते थे जिन्हें कैसेट प्लेयर में चला कर लड़की लड़के की चुदाई की आवाजें और बातचीत सुन लेते थे. शीतल भाभी ने तभी मेरा अंडरवियर नीचे किया और मेरा 6 इंच का लंड अपने मुँह में भर कर चूसने लगीं.

मयूरी- तो तुमने सिर्फ देखा था या और भी कुछ किया था?विक्रम- तू क्या जानना चाहती है?मयूरी- यही की बात आगे बढ़ी?विक्रम- ज्यादा नहीं… मैंने उसकी चूचियां दबायी थी, चूसे भी थे एक बार उसकी पैंटी में हाथ भी डाला था बस!मयूरी- ओह… तब तो बहुत बुरा लगता होगा कि हसरत पूरी नहीं हो पायी?विक्रम- हो जाती, पर छोटे ने सब काम ख़राब कर दिया.

उस परिवार में सलमा, उसकी बड़ी बहन शमीम और छोटा भाई वसीम और उसके अम्मी अब्बू थे. थोड़ी देर तक वो अपना लंड चूत में हिलाता रहा, फिर लंड को निकाल कर अपना मुँह मेरी चूत पर लगा कर उसका सारा रस पीने लगा.

फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी मैंने लंड निकाल लिया तो वो घोड़ी बन गईं और बोलीं- अब जल्दी से लंड डाल कर फिर से चोदो. पर मेरी कसी हुई चूत में उसका पूरा लंड जा रहा था तो मैं थोड़ा दर्द भी महसूस कर रही थी.

फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी मैंने भाभी को गोद में उठाया और बेडरूम में ले जाकर नंगी कर दिया और उनके चूचों पर किस करने लगा. आंटी कमाल की खूबसूरत थीं, दो बच्चों की माँ होने के बाद भी उनकी जवानी मानो किसी नवयुवती तक को मात करती थी.

फिर 6 महीने बाद मैंने उससे अपने प्यार का इज़हार कर दिया, तो उसने कोई जवाब नहीं दिया.

सेक्सी फिल्मों का फोटो

वो किचन में जाने लगी, उसका किचन अंदर था, मैं उसे देखते देखते उसके पीछे चलता चला गया और उसे देख रहा था. चाचा सच बोल रहे थे कि जिसने तेरी गांड में लंड डाल लिया उसका जीवन धन्य हो जाएगा. (हाँ हाँ… हे भगवान्… जोर से जोर से!)मेरा जोश भी बढ़ता जा रहा था, मैं दनादन अपनी बहन की चूत चुदाई करने लगा.

ऐसे मर्द, जिनकी उम्र अधिकतर ज्यादा हो, वैसे वाले मर्द मुझे बहुत भाते हैं. चाचा बोले- फिर से सोच ले वन्द्या, मैं तुझे चोदूंगा और अपने दोस्त के साथ चोदूंगा. उस दिन हम दोनों में चुदाई को लेकर बात, ढके छिपे रूप में साफ़ हो गई थी.

फिर जब वो उस आदमी की गोद में बैठी, तब भी मुझे लगा कि ये भी उम्रदराज आदमी है, कोई दिक्कत नहीं है.

अब सुरेश जी ने एक जोर का धक्का मारा तो उनका लंड मेरी गांड को फाड़ता हुआ सीधा अन्दर चला गया. मैं धीरे धीरे उसकी बुर पे हाथ रख कर मसलने लगा, जिससे वो और ज्यादा उत्तेजित हो गयी और मेरे हाथ को हटा खुद ही अपने हाथ की उंगली डालने लगी. मैं शांत सी हुई तो अंकल ने एकदम से एक ज़ोरदार झटका मार के लंड अन्दर डाल दिया.

मैंने भी देर न करते हुऐ अपने सारे कपड़े निकाल दिए, केवल अंडरवियर नहीं निकाली. मैंने शाम को भाभी से बोला कि मेरा मोबाइल रूम में मिल नहीं रहा है, क्या आप कॉल कर देंगी. अभिलाषा ने मुझसे कहा- वह अपनी ड्यूटी के बाद आपके पास आ जाएगी, आप उसे खुश करने के लिए कुछ पेमेंट कर देना.

उनकी 34″ की चुची, 30″ की कमर और 36″ के चूतड़ों को देख कर ही मज़ा आ गया. मेरे वर्कआउट करने से मेरा जिस्म का आकार बहुत ही आकर्षक बन गया है, जो किसी भी लड़के को मेरे जिस्म का दीवाना बना सकता है.

आशिना ने भी अपना पूरा परिचय दिया कि वो एक तलाक शुदा है, अकेली रहती है. कमलेश सर ने अपने हाथों से दोनों छोटे छोटे कड़क चूचे पकड़ लिए और मसलते हुए बोले- इन्हें चूस लूं वन्द्या. उसने बिना देरी किये हुए मेरी ब्रा खोल दी और मेरे गोरे मम्मे उसके सामने फुदकने लगे थे.

उसकी कातिल जवानी की ये स्थिति थी कि वो जैसे ही बस में चढ़ी, सारे मर्द उसे हवस भरी नज़रों से देखने लगे.

उनके मस्त हिलते दूध दबा दबा कर चूसते हुए मैंने नीचे से अपनी गांड उठा कर उनकी चूत चुदाई करने लगा. मेरी बहन टांगें पटक पटक कर छटपटाने लगी, उसने अपने सर को तेज़ी से एक ओर मोड़ कर अपने मुँह को मेरे लंड से आज़ाद किया. मैंने अपने दोस्त को कोल्ड ड्रिंक पिलाई और सिगरेट दिला के उसे मुस्कान के घर के पास गया.

मगर पता नहीं जब से उसने तुम्हें देखा है, उसका पूरा ही मन बदल गया है. इसी तरह रात के करीब 2:00 बज गए, तीन चार घंटे कैसे बीत गए, पता ही नहीं चला.

हमारे होंठ आपस में भिड़ गए, मेरे निचले होंठ को विकी चूस रहा था, परमानंद अवस्था में मेरी आंखें पूरी तरह से बंद थीं, मैंने मेरी जुबान उसके मुँह में घुसा दी. उसकी बातों से मैं भी अपनी चूत को सहलाते हुए पूछने लगी- फिर?सुनीता- फिर उन्होंने मुझे बिस्तर पर लेटा दिया और मेरी दोनों टांगों को फैला कर अपनी जीभ मेरी चूत में रगड़ते हुए चाटने लगे, तो मैं चुदास से तड़फ उठी मेरे मुँह से भी ‘आहाआ ऊउन्न्ह ऊम्म्ह. कमलेश सर ने अपने हाथों से दोनों छोटे छोटे कड़क चूचे पकड़ लिए और मसलते हुए बोले- इन्हें चूस लूं वन्द्या.

देसी बूबस

मैं अकेला बैठ कर लैपटॉप में बॉलीवुड की हीरोइनों की नंगी चुदाई की फोटो देख रहा था.

राज अब मंजू के बालों को कस कर पकड़ कर जोर जोर से आगे पीछे करने लगा! मुझसे अब ये सब देख बर्दाश्त के बाहर हो गया. फ़िर हम दोनों ने कपड़े पहने और मैंने उसकी बेटी को फ़िर से उसकी सीट पे सुला दिया. मैंने अपनी बैठने की पोजीशन बदलना चाही तो उन्होंने मुझसे कहा कि ऐसे ही बैठी रहो वन्द्या.

एक पल के लिए मंजू बौखला सी गयी और बौखलाती भी क्यों न… वो मेरी सेक्सी बातों में राज के ख्याल में मगन थी और किसी और ने उसके शरीर पर छू लिया तो उसका ध्यान टूटना लाजमी था. वो तो पागलों की तरह मेरे सर को अपने चुत के अन्दर डालने लगी और कहने लगी- आज तक कोई ने भी इस चुत को नहीं चाटा. સેકસી હિન્દી પિક્ચરमैंने फोन उठाया तो बोला- क्या रे, तूने फोन किया था?इतना सुनते ही थोड़ी जान में जान आई मैंने कहा- हां कहां मर गया था बे कमीने.

यहां मैं आपको एक बात बता दूँ कि जब कभी आपको अपनी पत्नी या गर्लफ्रेंड के साथ अकेले रहने का मौका मिले, सारे काम एकदम पूरी तरह नंगे हो कर कीजिए. सुबह, दोपहर और शाम को फूल को सामने रखकर पाँच-पाँच मिनट के लिए बाबा का ध्यान करना है.

इसके बाद जब भी मुझे मौका मिलता मैं आंटी को चूमने चाटने लगा, परंतु चोदने का मौका नहीं मिल पा रहा था. उसने लाल रंग की ब्रा पहन रखी थी, मैंने ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स को दबाया. जब लंड अंदर बाहर… अंदर बाहर… होने लगा तो वह भला आदमी एक पुराने एक्सपर्ट गांडू की तरह चूतड़ उचका उचका कर लंड के धक्कों का मजा ले रहा था.

इसलिए मैं भी पूरे कस कस कर धक्के मारता हूँ तुमको, ताकि तुम्हें कहने का मौका ना मिले कि तुम्हारी तीमारदारी पूरी तरह से नहीं की गई. और किराये का क्या है, वो तो जब तुम आओगे तो तुम्हें खुश करके ही भेजूंगी. मुझे भी थोड़ा दर्द हुआ तो वो अपने होंठ मेरे होंठ पर रख कर किस करने लगा.

अरुण ने उसे नीचे से चूमना शुरू कर दिया था, चूमते चूमते ऊपर की तरफ बढ़ रहा था.

तभी मेरी नजर पर्दे पर गयी क्योंकि मुझको वहां पर किसी के खड़े होने की आहट हुई. उसने बापू से कहा- अरे आप ऊपर उठाइये तो…!बापू ने मुस्कुराते हुए पूछा- क्या ऊपर उठाऊं?पद्मिनी भी मुस्कुरायी और आसमान की तरफ देखते हुए कहा- बापू मैं उसे गाली देना नहीं चाहती.

रूबी बोली- आहा, रस निकल आया!वो झुकी और प्रभु की आँखों में देखते हुए उसके लौड़े की ओर मुँह किया, सेक्सी अंदाज़ में ज़ुबान निकालते उसका प्री-कम चाट लिया. वैसे मुझे उससे चुदवाने में बहुत मजा आ रहा था और हम दोनों लोग की चुदाई धीरे धीरे तेज होने लगी और मेरी सिस्कारियां भी तेज हो गईं. वह ऑटो में मेरी बाजु में बैठी थी और सेक्सी कपड़े पहनी थी, मेरा तो खड़ा हो गया था.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरी अंतरंग डायरी: मेरी सेक्सी बहन की वासना-2. कहानी आपको कैसी लग रही है, अवश्य बतायें- मेरा ईमेल है।[emailprotected]. मेरे शरीर से पसीना बह रहा था, तो मम्मी बोलीं इतना पसीना- पसीना क्यों हो रही हो?मैं बोली- लाइट गुल हो गई थी मम्मी, गर्मी लग रही थी.

फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी अगर जगी हुई होती तो वह ज़रूर पूछती कि इतनी सुबह सर्दी में कहाँ और क्यों जा रहे हो. यह सेक्स स्टोरी 2 साल पुरानी है। मेरी फैमिली दिल्ली में रहती है। मैं अपनी अपनी कब से अपना एग्जाम देकर अपनी फैमिली के पास दिल्ली आया था। उस टाइम मैं जवान हो चुका था। दिल्ली आने के बाद मुझे कुछ अच्छा नहीं लग रहा था क्योंकि माहौल अलग सा हो गया था। मेरा इधर मन नहीं लग रहा था.

हिंदी बीएफ सेक्सी एचडी हिंदी बीएफ

सुधा भाभी- राज, यू आर सो क्यूट … पूरे मर्द हो, मुझे एक बात बताओ, मुझमें क्या कमी है. मेरे लंड का सुपारा किसी कुत्ते की जीभ जैसी पानी की बूँदें छोड़ रहा था. जैसे ही ऑफिस के बाकी लोग काम खत्म करके निकलते, ललिता मैडम सीधा बॉस के कमरे में घुस जाती थीं.

दोस्तो, आज मैं आपके सामने मेरी बीवी का एक सच बताने जा रहा हूँ, जो उसने मुझे शादी के कुछ साल बाद बताया. उनके वो बदन का मदमस्त अहसास मुझे दीवाना बना रहा था। तब मैंने सोच लिया कि बहुत हो गया, अब नेहा आंटी को पटा कर उनके साथ सेक्स करना ही है।अब मुझे अगले दिन का इन्तजार था।आख़िरकार दिन बदला और सब रोज़ की तरह अपने काम पर निकल गए। मेरे मॉम-डैड एक ही ऑफिस में काम करते थे, तो वो अपने ऑफिस चले गए। आंटी के पति भी अपने काम पर चले गए। उनका बेटा भी स्कूल चला गया था।मैं अपने कमरे में लेट कर प्लान बना रहा था. हरियाणा की देसी सेक्सी वीडियोमैंने बिना चुत पर से मुँह हटाए गांड उठा कर पैन्ट उतारने में सहायता कर दी.

जब उसने मुझे अपनी ओर खींचा तो उसका नंगा जिस्म और उसके बड़े गद्दीदार तने हुए स्तन मेरे सीने पर दब गए, मैं एक अजीब सी सिरहन से पागल हो गया, इससे बड़ा सुख मैंने अपने जीवन में कभी नहीं पाया था.

डैड और उनके दोस्त थोड़ी देर बाद ड्रिंक्स और अपनी बातों में बिज़ी हो गये. पीछे से श्लोक ने आकर उसकी चूत में उसका लिंग डाल दिया और जोरदार झटके देने लगा। अब सीमा अपनी चूत में लिंग खाते हुए मेरे लिंग को चूस रही थी, श्लोक के जोरदार झटके मुझे सीमा के मुंह के जरिए अपने लिंग पर महसूस हो रहे थे।थोड़ी देर बाद श्लोक बाथटब पर बैठ गया, सीमा ने उसका लिंग अपने मुंह में ले लिया तथा घोड़ी बनी हुई सीमा की गांड में मैंने अपना लंड पेल कर उसकी गांड की चुदाई की.

तो क्यूँ न मिल कर एक दूसरे की इच्छा पूरी करें! भूल जाओ कि हम माँ-बेटे हैं, बस यह याद रखो कि तुम एक औरत हो और मैं एक मर्द। अगर आज की रात यादगार बनाना चाहते हो तो सिर्फ मेरी दी हुई बिकनी पहनकर मेरे आलिंगन में आ जाओ! और मैं वादा करता हूँ कि तुम्हें खुश रखूंगा। एक बेटे का लंड अपनी माँ को चोदने के लिए उत्तेजित है!आपका बेटामैं तो इंतजार ही कर रही थी इस घड़ी का! रात करीब 11. हालांकि मैं भी उसको अपनी गोद में बिठा सकता था परन्तु मैंने संकोच के चलते ऐसा नहीं कहा. मैंने फिर उसे किसी प्राइवेट स्कूल में भेजना शुरू किया और वो जल्दी ही ओपन स्कूल की दूर से पढ़ाई करने लगी तथा हाई स्कूल की प्राइवेट प्ररीक्षा में बैठ कर पास भी हो गई.

मधु ने दिमाग लगा कर उसके पति से मेरी 2-3 बार बात एक ट्रेक गाइड के रूप में करवा दी थी.

एक दिन की बात है, मैं अपनी शॉप पर जा रहा था तो देखा कि सलमा टेम्पू स्टैंड पर खड़ी थी. वह मेरे हट्टे कट्टे और भरे बदन के सामने एक छोटी बकरी की तरह लग रही थी. और कुछ देर बाद मैं भी जोश में आ गया और मेरे लंड से पानी निकलने वाला था.

नंगा सेक्स बताओअगर जगी हुई होती तो वह ज़रूर पूछती कि इतनी सुबह सर्दी में कहाँ और क्यों जा रहे हो. इससे पहले मेरी कहानीक्लासमेट की माँ को चोदाआप सभी ने पढ़ी, वो आप सबने खूब पसंद की और मुझे ढेर सारे ईमेल आए.

குடுத்து வீடியோ

मैंने कहा- मैं कहां छिपा रहा था भाभी, वो तो आप ही गर्लफ्रेंड की रट लगा रही थीं. अब हम एक ऐसे मैदान में आ गए थे, जहां आजू बाजू में जंगल था, गांव से दूर और जहां इतने जल्दी किसी के आने की संभावना ना के समान ही थी. और फिर मैंने उसे घर के पास सड़क पर छोड़ दिया और मैं वापिस बैंक में चला गया.

तभी निक्की आ गयी और बोली- थोड़ा आराम से, इतनी सांसें तेज कर दीं?तो मैंने कहा- अभी तो हल्का सा चूमा है और यह पानी पानी हो गयी. मैंने दीपक से कहा- मुझसे मेरे भाई ने पूछा था और मैंने उनसे आपकी इतनी तारीफ की कि शायद उनके पास सिवा आपको पसंद करने के कुछ बचा ही नहीं था. मैंने लंड बाहर निकाला तो उसने मुँह में भर लिया और पूरा चूस के एकदम साफ कर दिया.

मैं एक पल के लिए तो डर गयी कि खून निकला है तो कुछ न कुछ तो गलत हुआ है. मामी जी- मेरी क्या चीज कुंवारी बची है, जो कुछ मैं अपने चोदू पति को दे सकती हूं?मैं- मामी जी आपके पास आपकी कुंवारी मख़मली गांड है, मैं आपके साथ सुहागरात में आपकी गांड मारना चाहता हूँ. कुछ देर पहले जो छेद छोटा सा लग रहा था, उसमें मेरा लौड़ा अब आराम से चल रहा था.

अब मेरी जीभ उनकी नाभि और प्यूबिक रीजन में उनकी पेंटी के ऊपर घूम रही थी. उधर वो मजदूर जिसका नाम मनोहर था, वो बोला- क्यों चाचा मैं ऐसे ही सूखा खड़ा रहूं क्या दर्शक बनकर, मैं भी इंसान हूं.

यूं तो आमतौर पर लड़की की पंद्रह वर्ष की उमर के बाद सोलहवां साल लगते ही उसकी चूत भीगने लगती है, उसमें सुरसुरी उठने लगती है और उसे सेक्स की चाह या चुदने की इच्छा सताने लगती है, उनकी चूत का दाना रह रह के करेन्ट मारने लगता है.

बापू ने ख़ुशी से अपने लंड पर लुंगी के नीचे हाथ डालते हुए कहा- हाँ ठीक है मगर धीरे धीरे, हौले हौले स्कर्ट को उठाना और मेरे हाथों को थोड़ा सा छूने भी देना. সেক্স করা ভিডিওमैं भी महेश से बहुत प्रभावित रहती थी और शायद मैं भी मन ही मन उसे पसंद करती थी. एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स ब्लूमैं भी दर्द के मारे उसके स्तनों को मुंह में लेकर जोर-जोर से चूसने लगा और इस तरह से करने में मेरे को भी अब दर्द थोड़ा कम होने लगा और अच्छा लगने लगा. जिप खुलते ही मैंने अपना हाथ अन्दर डाल दिया और उसकी टी-शर्ट को भी ऊपर कर दिया.

मैं उनकी चूत की दोनों पंखुड़ियों के बीच की दरार में अपनी जीभ नीचे से ऊपर करके चुत चाटने लगा.

उसकी मांसल जांघों के बीच, उसकी गीली पैंटी की खुशबू अब उस तक आने लगी. यह सुनकर वे अलमारी से दो गिलास ले आईं और पैग बना कर मुझे भी शराब पिला दी. मैंने उनको कई बार सिर्फ़ तौलिया में भी देखा है उनकी उम्र ज्यादा है लेकिन आज भी उनकी बॉडी फिट है.

उसके बाद मैंने पेटिकोट का नाड़ा खींच कर खोल दिया और उसे नीचे खिसका दिया, इस दौरान मेरे हाथ उसकी जांघों से टकराये तो लगा कि शायद उसकी मां ने उसके पूरे शरीर की वैक्सिंग कर दी थी. अब उन्होंने दोबारा से मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ते हुए हिलाना शुरू किया और मेरा लंड दोबारा से खड़ा हो गया. अब तो हमने एक दूसरे के नंबर भी एक्सचेंज कर लिए थे और रात रात भर कॉल पर बात करने लगे थे.

बीएफ फिल्म सेक्सी वीडियो पंजाबी

मैं उनके किचन में जाकर कॉफी बनाने लगा, तो वो भी आ गईं और कहने लगी कि तुम्हारी होने वाली बीवी बहुत ही खुशनसीब होगी, जो उससे तुम्हारे जैसा पति मिलेगा. मैं उनकी चूत पर हाथ फेरने लगा उन्हें जैसे करंट सा लगा और उन्होंने मुझे कस कर पकड़ लिया और मुझसे लिपट गयी, मैंने उनकी चूत में अपनी एक उंगली की पंखुरियों को अलग करने की कोशिश की पर वह बहुत टाइट थी. खैर कुछ ना कुछ करना ही पड़ेगा, जिससे उसका लंड भी अपनी चूत में घुसवा कर मज़े ले सकूँ.

उसने किसी से फ़ोन करके पूछा- देखो जो नौकरी कुछ दिन पहले निकाली थी, उसमें कोई इस नाम की लड़की की एप्लिकेशन आई थी क्या?कुछ देर बाद उसका फोन आया और बोला- जी हां सर, आई हुई है.

मैंने एक हाथ से उसका मुँह बंद किया और गांड में जोर से लंड को पेल दिया.

वो तड़पने लगी और मेरे लंड पे भी उसकी चूत का खून लग चुका था।खून देख कर वो और डर गयी और रोने लगी. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:सास विहीन घर की बहू की लघु आत्मकथा-2. सेक्स करते दिखाए वीडियोवो बिस्तर पर लेट गयी, मैंने उसकी टांगों को फैलाया तो उसकी चुत मेरे सामने थी, मैंने अपने लंड को चुत के ऊपर रगड़ा, उसकी चुत के पानी से मेरा लंड पूरा गीला हो गया.

तो मैंने कहा- क्यों? इतना अच्छा मौका खो दिया?अशोक बोला- यार, मैंने बहुत ट्राई किया, उसे बहुत मनाया लेकिन वो राजी नहीं हुई।तो मैंने अशोक से बोला- यार तू टेन्शन मत ले, बहुत जल्दी मजा कराऊँगा. मयूरी- पर ये तब हो पायेगा जब तुम्हारी बीवी इस बात के लिए मानेगी… और हर लड़की तुम्हारी अपनी बहन मयूरी नहीं है… की तुम दोनों का लंड एक साथ लेने को तैयार हो जाएगी. वो मेरे से बातें करने लगी और हम दोनों जरा ऐसी वैसी बातें, मतलब खुली बातें करने लगे.

वो बोल रही थी- और चोद और चोद बहनचोद फाड़ दे मेरी चूत!मैं अपने धक्के लगाता रहा और पूरे कमरे में हमारी सिसकारियां गूँज रही थी।करीब 15 मिनट की भयंकर चढ़ाई चुदाई के बाद मेरा होने वाला था मैंने उससे कहा- कहाँ निकालूँ जानेमन, मैं आ रहा हूँ. संबंध भी तुम्हें उसी पुरुष से बनाने होंगे, जो कुछ विशेष मंत्रों का उच्चारण अपने मन में कर सके.

मेरी बीवी की मोटी गांड देखकर मेरा लंड खूब जोश में था और मैं उसकी गांड में थप्पड़ भी मार रहा था.

मैं और कीकु दोनों साइड से आगे बढ़े और उसके एक एक बूब को हाथ में लिया. इसके बाद मैंने मामी जी से कहा- आप अपनी गांड को ढीली रखना, अगर दर्द होने लगे तो बता देना, सिर्फ जरा सा दर्द होगा, जैसा पहली बार चूत चुदवाने में होता है वैसा ही होगा बस. डॉक्टर का लंड पूरा 8 इंच लंबा था, वो लंड दिखाते हुए बोला- इससे अब तुम्हारा इलाज़ होगा.

सेक्सी ब्लू दिखाओ सेक्सी ब्लू उन्हें इस बात से अब कोई फर्क नहीं पड़ता था कि वो दोनों सगे भाई-बहन हैं. मैंने यू ट्यूब पर देखा तो मुझे प्री स्टिच साड़ी पहनने की विडियो मिल गयी.

रूबी बोली- आहा, रस निकल आया!वो झुकी और प्रभु की आँखों में देखते हुए उसके लौड़े की ओर मुँह किया, सेक्सी अंदाज़ में ज़ुबान निकालते उसका प्री-कम चाट लिया. आज मैं आप सबको जो कहानी बताने जा रहा हूँ, वो मेरी सच्ची कहानी है और इसमें मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मेरी पड़ोस की भाभी ने मुझे सेक्स के लिये मनाया और मैंने पहली बार सेक्स किया. भूख भी लग आयी थी, बाहर पंडाल में जाकर देखा तो मेजों पर खाना सजा दिया गया था.

बीएफ हॉट मूवी

इस पर भाभी बोलीं कि जब मेरा दिल होगा तब मैं व्हाट्सैप पर बात करूँगी. तब वो बोली- क्या किया जाता है?मैं बोला- प्यार…तो वो बोली- वो कैसे किया जाता है?मैं बोला- पहले होंठों को होंठों से मिला कर चुम्मा लिया जाता है. अब गांड में दिनेश का लंड जड़ तक पहुंचने लगा, जिससे मैं बिल्कुल पागल हो गई और चिल्लाने लगी- आह.

अब हम कॉलेज पहुंच गए और मुस्कान का काम होने के बाद मुस्कान बोली- चलो अब घर. फिर मुझे ऊपर खींच कर मेरे होंठों पर किस करके खुद अपनी बुर के रस का स्वाद लेने लगीं.

आप तो जानते ही हो मैं एक अच्छे घराने से हूँ और दिखने में भी काफी हॉट सेक्सी और हैंडसम हूँ.

उसके कानो की लौ, गर्दन पे चूसा, तो उससे खड़ा नहीं रहा गया, वो आँख बंद करके पलंग पर लेट गयी. मैं फिर से उसके होंठ चूसने लगा और उसे बिस्तर पर लिटा दिया और फिर उसकी गर्दन पर किस करने लगा. इस काम में कितनी सफलता मिलेगी, वो तो मैं नहीं जानती थी मगर उसको चुदाई में पूरी ट्रेनिंग देती रहती थी.

मैं अब अपने स्कूल में जो ससुराल के पास ही था वहाँ बारिश में खुले दरवाज़ों के अन्दर ज़मीन पर पट्टी बिछाकर चुद रही थी. मैं उठ के बैठ गया तो मेरे सामने सुरेश जी का सोया हुआ काला लंड दिखाई दिया. डॉक्टर ने कहा- कोई बात नहीं आई, एक सप्ताह मुझसे इलाज़ करवाओ, तुम्हारा पति ठीक से चुदाई नहीं कर पाया होगा.

मैंने भी कहा- और नहीं तो क्या, हर रोज कसरत करता हूँ, बहुत जान है मुझमें.

फुल एचडी बीएफ वीडियो हिंदी: वो थोड़ा फोटोग्राफी करने के लिये थोड़ा आगे गयी और फोटो निकालने लगी थी. उसने पढ़ा तो उसने भी स्माइल किया और उस पेपर को अपनी ब्रा में डाल के मसल दिया.

मैंने अपने दोस्त की मदद से उसका गर्भपात करवाया और दो दिन में सब ठीक हो गया. अंकित जी ने मेरे मुँह को चूमते हुए मेरी चीख को बंद किया और अपनी चुदाई की रफ्तार बढ़ा दी. वो जोर जोर से गांड हिलाने लगीं और उनकी चूत का जूस मेरे मुँह में आ गया.

वो मेरे सामने मेरी कमर में पैर लपेटे हुए सिर्फ़ पेंटी में लेटी हुई थीं जो गीली होने लगी थी.

जिस दिन हमने वाघा बॉर्डर पर जाना था, उस दिन मेरी छोटी बहन अमनदीप कौर को बुखार आ गया और उसने अमृतसर जाने से मना कर दिया. मैंने अपनी जीभ उनकी पूरी चूत पे फिरानी शुरू की तो वो उचक उचक के मेरा साथ देने लगीं. कोमल भाभी- रॉबी, हम खुले विचारों वाले हैं और लाईफ का मज़ा लेते रहते हैं.