बीएफ सेक्स एंटी

छवि स्रोत,हिंदी वाला बर्फ

तस्वीर का शीर्षक ,

पब्जी इंडिया: बीएफ सेक्स एंटी, लंड चूत के अन्दर डाल के मैंने संजना से कहा- जान, अब तुम मेरे लंड पर मूतो.

कुंवारी लड़की का सेक्सी

बॉटम गे Xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे मैं अपने गांड के पड़ोसी के साथ शहर आ गया, उनका खाना बनाने लगा. बीपी सेक्सी पिक्चर वीडियो मेंबाहर के कमरे में आकर मैंने देखा कि नितिन सुधा को सोफे पर घोड़ी बनाकर बुरी तरह से चोद रहा था मैं दूर होकर सब कुछ देखता रहा.

कुछ ही देर में चौधरी जी झड़ने लगे और मेरी गांड का छेद चौधरी जी के वीर्य से भर गया. देवर भाभी के सेक्सी फोटोसमय बीतता गया और मैंने इस जहर के घूंट को पी लिया कि चाची मेरा पैसा खा गई.

फिर मैंने अपने आपको संभाला और उनके द्वारा मेरे लंड को चूसने का आनन्द लेने लगा.बीएफ सेक्स एंटी: मैंने उसकी चूत की दोनों फांकों को अपने हाथों से फैलाया और अपनी जीभ को चूत के अन्दर बाहर करके उसे चोदने लगा.

उसके ऐसा करते ही मेरा लंड जो कि अब तक अपने पूरे साइज़ में आ चुका था, एकदम से उसकी ठोड़ी से जा टकराया.सुलेमान रोज की तरह आज भी होटल से छुट्टी के बाद मुझे अपने बाइक से घर तक ड्रॉप करने आया.

देसी सेक्सी पिक्चर हिंदी - बीएफ सेक्स एंटी

मेरी बीवी ने कहा- ठीक है, आज रात मैं रसिका को अपने साथ सुला लूंगी, तुम मुझे पकड़ने के बहाने उसको पकड़ लेना.मैंने उससे कहा- जब अन्दर डालो, तो उस पल को शूट करके तुरन्त बाद में आए मेरे चेहरे के एक्सप्रेशन को शूट करना.

मेरा एक हाथ ज्योति का बायाँ मम्मा सहला रहा था, उसका दूसरा मम्मा रोहित का हाथ सहला रहा था. बीएफ सेक्स एंटी ये मेरे लिए चिंता वाली बात थी भी नहीं क्योंकि उसके लिए पहले ही मेरी एक गोटी तैयार बैठी थी.

साफ़ लग रहा था कि ब्रेकअप के बाद से लौड़े से चुदाई न होने के कारण उसकी चूत बहुत चुदासी हो गयी थी.

बीएफ सेक्स एंटी?

कुछ देर बाद उन्होंने मेरी चूत के नीचे से हाथ डाला और मुझे उठाकर बिस्तर पर लेटा दिया. उसने कच्छी साइड कर दी और अपनी उंगली अंदर डाल दी।मैं जोर जोर से आहें भरने लगी. विकास के लंड से निकले पानी की गर्मी को नेहा की बुर भी बर्दाश्त नहीं कर पाई और वह भी उसके साथ झड़ गई.

हम दोनों ही कविता को देखकर मुस्कुराए और नितिन आगे बढ़ कर कविता के पास बैठ गया. मैंने अरुणिमा को घूरा, तो उसने कहा- ये लोग विश्वेश्वर जी के ख़ास लोग हैं, उन्होंने भेजा है. मैंने हल्के से जब उसकी चूत की नाजुक होंठों से अपने रसभरे होंठ मिलाए, तब मुझे अहसास हुआ कि उसके होंठों का पानी किसी अमृत से कम नहीं है.

अभी चुदाई चल ही रही थी कि एक नौकर आया और अरुणिमा से बोला- मैडम, आपको बाहर बुला रहे हैं. पहलवान टाइप के हट्टे-कट्टे और थोड़ी बड़ी उम्र के मर्द उसे ज्यादा पसंद आते हैं. और मैं करूं भी क्यों ना … जब माल खुद मुझे रोज चुदाई के लिए मिलने की बात कह रही थी.

मैंने उसको उठाया और हम दोनों बाथरूम मैं जाकर नहाए, फिर बेड पर आ गए. यह कहने के बाद मैंने उसका कुर्ता ऊपर उठाया और उसके रसभरे मम्मों को जोर जोर से मसलने लगा.

उसके निप्पल को कभी दांतों से हल्का सा कुरेद देता और कभी जीभ से सहलाता.

हॉट मामी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी सेक्सी मामी के बूब्ज़ दबा दिए थे तो हंगामा हो गया था.

हम दोनों कपल स्वैपिंग भी कर चुके हैं और वो मुझे साफ़ बता देती है कि उसे फलां मर्द पसंद आ गया है और उसे उससे चुदवाने का मन है. हालांकि उससे अभी उतना अच्छे से नहीं बन रहा था लेकिन मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. उस समय हैरी का भी नहाने का मन था, तब वो भी मेरे पीछे मेरे पति के सामने ही बाथरूम में आ गया.

मैं कितना भी दर्द के मारे चिल्लाऊं, तब भी तुम मेरी चुदाई करना मत रोकना. मुझे उसके सामने आकर्षक दिखना था तो मैंने एक नीचे शॉर्ट्स पहन रखा था जिससे मेरे पैर साफ साफ बिल्कुल सफ़ेद दिख रहे थे. वो पिंकी भाभी की गांड की छेद पर तेल को लगाने लगीं और वाइब्रेटर को चालू करके उस पर रगड़ने लगीं, फिर धीरे से उसे अन्दर डाल दिया.

देर न करते हुए मैंने एक स्तन को हाथों में भर लिया और दूसरे को हाथ से सहलाया.

तभी ज्योति बोली- आप लोगों को बस यही काम है … अरे आओ बैठो रवि, बातें करते हैं!मैंने बैड पर बैठते ही ज्योति की गाल पर एक सिंपल प्यारी सी किस देते हुए कहा- डार्लिंग, क्यों घबराती हो? आज तो आपकी ये गोल्डन नाईट है. मैंने देखा कि रिया और आयेशा 69 की पोजीशन में आकर फिर से एक दूसरे की चूत चाटने लगी हैं तो इधर मैंने नेहा को अपने ऊपर करके उसे किस करना शुरू कर दिया. उस समय सुबह के 9 बजे थे तो शायद वो नहाकर आई थी जिस वजह से उसके बाल गीले थे और खुले थे.

दोस्तो, आप सभी ने मेरी अब तक की सभी कहानी पसंद की हैं और उम्मीद है आगे भी करोगे. हालांकि रूम में बिस्तर अलग-अलग थे लेकिन इन दोनों के बीच अपनापन और एक दूसरे के प्रति लगाव इतना ज्यादा हो गया था कि रूम बंद होने के बाद दोनों एक ही बिस्तर पर ही सोने लगे थे. उसने अपनी चूत और लंड के ऊपर तेल लगा लिया और झटके से पूरा लंड अन्दर चूत में ले गई.

मॉम- बेटा ये क्या है?मैं- कुछ नहीं मॉम वो बस ग़लती से हो गया … सॉरी.

शायद मेरी मम्मी भी जान चुकी थीं कि मैं महेश सर और उनके बारे में कुछ तो जान गया हूं. मुझे पता था कि ये चिल्लाएगी जरूर … इसलिए मैंने चुत फक़ से पहले उसकी दोनों चूचियाँ पकड़ीं और मुँह पर मुँह के करीब लगा कर लंड का जोरदार धक्का लगा दिया.

बीएफ सेक्स एंटी इस बार प्रिया खुद अपनी टांगें चौड़ी कर दीं और मेरा लंड उसकी चूत में अन्दर तक उतर गया. अब अम्मी की गांड में लंड सटासट चलने लगा था तो अम्मी भी मजे लेकर अपनी गांड मरवा रही थीं ‘आआह … ओओह …’बाबा ने लगभग 10 मिनट तक अम्मी की गांड मारी.

बीएफ सेक्स एंटी मॉम पलट कर सीधी लेट गईं, मगर मैंने फिर से मॉम के पैरों के ऊपर अपना एक पैर रख लिया और उनके मम्मों पर हाथ रखे रहा. मैं नंगा ही बाहर आ गया और उनके पीछे जाकर उनकी गर्दन पर हाथ रख कर सहलाने लगा.

उसके चेहरे से लग ही नहीं रहा था कि वो कैसे लंड लेने की शौकीन हो गई है.

मसाज सेंटर

मेरा लंड उपयोग में न आने के कारण सिकुड़कर छोटा हो गया है, खड़ा ही नहीं होता है. शाम को फहीमा मेरे आते ही मेरे गले से लिपट गयी और मुझसे न जाने का आग्रह करने लगी. उस दिन को याद करता हूँ तो आज भी मैं वो नमकीन और कसैला स्वाद अपनी जीभ पर महसूस करता हूँ.

तुझे कोई दिक्कत तो नहीं है न?मैंने कहा- नहीं मम्मी, मुझे कोई दिक्कत नहीं है. भाभी की उभरी हुई चूचियां और अनकी फूली हुई गांड क्या मस्त लग रही थी. वो सिसकारियां लेने लगी- आह अहह!मैंने सोनल की पैंट के बटन को खोलकर उसकी पैंट उतार दी और जैसे ही पैंट अलग की, मैंने अगले ही पल उसकी चड्डी को भी उतार दिया.

दोस्तो, कैसे लगी मेरी और सेकंड वाइफ सेक्स की कहानी? मुझे अपनी राय बताएं.

फिर हमने लल्ला को मंगवाया था, अब हमारी चुदाई में और भी मजे आने लगे. वो जोर जोर से सांस ले रही थी, साथ ही पलंग हिलता भी महसूस हो रहा था. मामी ने मुझे देखा और मुस्कुरा कर कहा- अरे विराज … तुम तो बहुत लंबे और हैंडसम हो गए हो.

फिर विकास ने एक बार और जोर से बुर की चुसाई करके अपनी बहन को एक बार फिर से झाड़ दिया. संजना ने आंख बंद करके अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया और सहलाने लगी. जब तक उसकी बीवी नहीं आ गई, तब तक उसने रोजाना मेरी कई कई बार चुदाई की.

मैं उसके घर में रह रही थी तो उसे सम्भालना मेरी जिम्मेदारी बन गई थी इसलिए मैंने उसे सहारा दिया था. मैंने पूछा- क्या दर्द हो रहा है?उन्होंने उत्तेजना के आवेश में आकर कहा- अगर दर्द की परवाह करूंगी, तो चुदाई का मजा नहीं ले पाऊंगी.

पहले ये बताओ कि अब सब ठीक है या एकाध जगह हैं?वो बोली- मुझे तो समझ नहीं आता है. वहां मैंने मौसी को खाट पर दरी बिछा कर लेटा दिया और उनकी साड़ी ऊपर करके उनकी गांड चाटने लगा. मैं आज उससे बात की और बात करते करते मैंने पूछा- और सुना तेरा नया बॉयफ्रेंड कैसा है?वो रोने लगी और बोली- अब मेरा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है.

उनके लंड से भी पानी निकल रहा था जिससे उनकी चड्डी सामने से गीली हो गई थी.

मोटी गांड वाली आंटी की चुदाई की मैंने! वो मेरी एक्स गर्लफ्रेंड की मम्मी थी. पापा ने उस जगह पर हाथ फेरते हुए अपनी जीभ को दोनों चूची के बीच की नाली में लगा दिया. और इस बीच मैंने उससे सारे कांटेक्ट खत्म कर दिए थे क्यूंकि मुझे लगता था कि अब इसकी चूत नहीं मिलेगी!करीब 2 साल बाद जब मैं एक बार वेकेशन के लिए घर आया तो मैंने ऐसे ही दिव्या को ‘हेलो’ का मैसेज कर दिया.

नेहा बुरी तरह थक चुकी थी तो वो बस लाश की तरह पड़ी थी और मोहित बस उसे ठोकने में लगा हुआ था. दोस्तो, मैं आपका दोस्त अर्जुन एक बार फिर से हाज़िर हूँ एक और नयी कहानी लेकर!पिछली कहानीपहाड़न गर्लफ्रेंड की कुँवारी चूत चोद दीमें मैंने आपको बताया था कि कैसे मैंने मेरी पहाड़ी एक्स गर्लफ्रेंड दिव्या की कुँवारी चूत चोदी!यह देसी गर्लफ्रेंड फक़ स्टोरी दिव्या के साथ मेरी दूसरी चुदाई की है.

मैंने बिना कुछ किए हुए भाभी को देखा क्योंकि मुझे लगा कि कही उनकी सास ने कुछ करते हुए देख लिया तो रायता फ़ैल जाएगा. फिर रूककर मेरे होंठ चूमते, फिर स्तन दबाते और निप्पल चूसते और फिर से मेरी गांड मारने लगते. आसिफा की अम्मी की दोनों टांगें हवा में हो गई थीं और उनकी अपनी चूत की रगड़ाई में मजा आने लगा था.

हिंदी में ब्लू पिक्चर चोदा चोदी

वो वापिस वीडियो देखने लगा और मैं, हम दोनों के लिए कुछ नाश्ता बनाने लगा.

मैंने हाथ ऊपर ले जाकर उसकी चड्डी को किनारे किया और उसकी चूत में उंगली करने लगा. अब मैं सोचने लगा कि ये अपनी चूत में उंगली करे भी क्यों नहीं, उसकी शादी को अभी कुछ ही महीने हुए थे और उसके बाद उसका पति नौकरी पर गुजरात चला गया था. भैया मुझे देखकर गर्म तो हो जाता था परन्तु उसकी आगे बढ़कर कुछ करने की हिम्मत नहीं होती थी.

तो विजय ने कहा कि यहीं नहा लेना वो कपड़े दे देगा।पिंकी ने शरारत से मुसकुराते हुए कहा- हाँ ठीक ही तो है, तुम दोनों साथ नहा लो, एक दूसरे को रगड़ भी लेना।तीनों ने बीयर पी. वहां पहुंचने के बाद मैंने देखा कि किशोर शराब के नशे में चूर था क्योंकि उसे शराब पीने की आदत थी. नंगी चुदाई का वीडियो दिखाओउसने भी मेरा लंड चड्डी से बाहर निकाल लिया और आहिस्ते आहिस्ते सहलाने लगी.

मैं धीरे धीरे चाची की चूचियां चूसते चूसते उनकी चूत पर अपना हाथ ले गया और पैंटी के ऊपर से ही चूत को रगड़ने लगा. वो अपने दोनों हाथों से अपने सीने को छुपाने की कोशिश करने लगी और अपने पैरों को सिकोड़ कर अपनी चड्डी छिपाने लगी.

कुछ ही तेज धक्कों के बाद चंदन मेरी चूत में स्खलित हो गया और हम दोनों बेड पर बेजान की तरह गिर गए. फिर 3 अप्रैल की रात मुझे मेरा मौका मिल गया, जब मैं अपना हथौड़ा गर्म लोहे पर मार सकता था. झड़ जाने से बाबा का लंड मुरझा गया था तो अम्मी फिर से बाबा का लंड हिलाने लगीं.

मैं क्या आज की रात तुम्हें संगीता के नाम से बुला सकता हूँ?मैं बोली- आप मुझे आज रात संगीता के नाम से ही बुलाएं, इसमें इस खेल में मजा आएगा. तभी अचानक से एक तेज चीख हम दोनों के कानों में पड़ी, तो देखा आयेशा ने आधे से ज्यादा डिल्डो रिया की चूत में डाल दिया था और वो चीख रिया की थी. मैंने कहा- अरे नीचे क्या देख रही हो भाभी … आपको देखना है क्या?वो असमंजस में मेरी तरफ देख कर बोली- हां दिखाओ कहां है?मैंने कहा- देख लेना, मगर किसी को बताना नहीं.

कुछ देर बाद मैंने सोनल की चूचियों में अपना मुँह डाला और उसके दूध चूसने लगा.

करीब 5 मिनट बाद पिंकी भाभी जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी थीं और बोलने लगी थीं- आंह … मैं तो बस आ रही हूँ और तेज चोदो … आह आह ओह माई गॉड प्लीज आज फाड़ दो इसे आज. और अन्तर्वासना मंच का भी धन्यवाद करता हूँ जो मुझे आप जैसे दोस्तों के सामने आपनी कहानियाँ रखने का मौका देते हैं और आपसे मिलवाते हैं।दोस्तो, मेरा फेसबुक पेज कुछ निजी कारणों की वजह से बंद चल रहा है, आप मुझसे मेरी ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हो।मेरी यह कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित ऑनलाइन सेक्स एंटरटेनमेंट स्टोरी है.

जैसे जैसे मैं उसकी चूत की फांकें तेजी से सहलाता, उसकी सांस और गहरी हो जाती. सोमवार शाम को चाची आईं, तो मैंने बोला- चाची, रिचार्ज का पैसा दे रही हो या इंतजार करवाओगी?चाची बोलीं- इतनी जल्दी तू पैसा लेने आ भी गया?मैंने कहा- वो बापू को काम था तो आना पड़ा. मैंने साफ साफ कह दिया- मजा दर्द में ही आता है और इस चुदाई में दर्द मजा दोनों बराबर मिलेगा.

ये मेरे लिए चिंता वाली बात थी भी नहीं क्योंकि उसके लिए पहले ही मेरी एक गोटी तैयार बैठी थी. इस कारण से उनके घर में मुझे और मेरी पत्नी शिवानी को जाना पड़ गया था. जब रात 8 बजे तो शॉप बंद करने लगा तब आनन्द अंकल आए और उन्होंने मुझसे कंडोम मांगा.

बीएफ सेक्स एंटी मुझे चूत चाटना भी बहुत अच्छा लगता है इसलिए मैं उसकी चूत पर जीभ चलाने लगा. अकेले में एक बार आंटी ने सेक्स को लेकर मुझसे बात की, तो मैंने भी उन्हें बताया कि मैंने अभी तक किसी के साथ सेक्स नहीं किया है.

कैटरीना का सेक्स फोटो

तभी उसने देखा कि अम्मी की सहेली ने वो झड़ा हुआ माल देखा और कुछ सोचने लगी. एक वक्त पे मेरी चोली में करीब आठ नौ हाथ थे।हाथ निकले तो चोली भी साथ ही निकल गई. उस समय सुबह के 9 बजे थे तो शायद वो नहाकर आई थी जिस वजह से उसके बाल गीले थे और खुले थे.

मैं बाइक लेकर आगे निकल गया और बाइक को एक सुनसान जगह पर खड़ा करके पैदल वापस आया. फिर दस मिनट बाद उस पार्लर से सच में एक मिस वर्ल्ड जैसी लड़की आती हुई दिखाई दी. एक्स वीडियो क्लिपमुझे लगा कि वो अपने चूत में उंगली भी कर रही हैतभी मेरी गर्मी बढ़ गई और मेरे लंड ने माल निकाल दिया.

दोस्तो, यह एक बिलकुल सच्ची कहानी है, बस प्राइवेसी के लिए लड़की का नाम और जगह का नाम बदला है.

तभी आंटी ने अपना हाथ मेरे लंड पर रख दिया और बोलीं- इसको मेरी सेवा करने दो. कुछ देर बाद भैया का हाथ मेरी टी-शर्ट के ऊपर से ही मेरे मम्मों पर आ गया.

मैं- अलफिया तुमने पहले भी सेक्स किया है ना!अलफिया- हां, एक बार … मुझे मेरे मामू के लड़के ने चोदा था. वो सकुचाती हुई अपनी जगह से थोड़ा सा ऊपर उठी और मेरे करीब लग कर बैठ गयी. कमसिन जवान लौंडा और जवानी अपने ऊपर लदी भरपूर 5 फुट 4 इंच की औरत को कमर से पकड़ कर खिलौने की तरह अपने लंड पर उछाल रहा था.

रात को मेरी मॉम लैगीज और टी-शर्ट पहनती हैं, जिससे मॉम का मदभरा जिस्म एकदम हॉट लगने लगता है.

जिसमें से कुछ वो निगल गयी, कुछ उसके होंठों के किनारों से नीचे टपक के उसके मम्मों पे टपक रहा था. अमित ने बेचारे की सी सूरत बनाकर कहा- यार देखो, हम गांड मरवाने से मना नहीं कर रहे, बस ये बहुत मोटा डिल्डो है, इससे गांड नहीं मरवाई जा सकती … समझो यार!नेहा ने कहा- यार फेहमिना, क्यूं इन बेचारों की गांड फाड़ रही हो. मैं- आज के बाद तू ये कभी बोल नहीं पाएगी क्योंकि अब तुझे हमेशा रोज़ में चोदूंगा.

हिदी सकसीइस जबरदस्त चुदाई के बाद कुछ देर तो मेरी हिम्मत नहीं हुई कि पलट कर उससे दूर हो जाता. फिर कुछ और चीजें घटित हुईं, जिनकी वजह से चाची के प्रति मेरी सोच बदलती गयी और वासना बढ़ती गयी.

गाउन दिखाइए

तब एक बोला- उस लौंडिया की फोटो है?अम्मी ने फोन से दीदी की फोटो दिखाई. मैंने आंखें साफ की और खुद पर नजर मारी तो देखा कि मेरे पूरे बदन पर सफेद चिपचिपा वीर्य छपा हुआ है और वो मेरे बेड पर चित लेटा था. मेरी मोटी गांड वाली आंटी की चुदाई स्टोरी आपको कैसी लगी, मुझे मेल कर बताएं.

मेरा मोटा लंड एकदम कड़क हो गया था वो मॉम की गीली चुत की फांकों में चला गया. एक दिन रात में मैंने गलती से एक पोर्न वीडियो उसको व्हाट्सएप पर फॉरवर्ड कर दिया. मुझे अमन ने बताया कि वो लोग हर साल होली पर ग्रुप सेक्स करते हैं और सब लड़कियां नंगी होकर मस्ती में चुदती हैं.

रविवार का दिन तय हुआ और उसके अफसर लगभग दो बजे दोपहर में पहुंचने वाले थे. थोड़ी देर बाद हम दोनों नहा कर बाथरूम से निकल आए और अपने बिस्तर में एक दूसरे की बांहों में लेट गए. मैं अपने सीने को उसके मम्मों पर घुमाते हुए उनको सीने से ही दबाने लगा.

जैसे ही मैंने उसके निप्पल को काटा मानो उसके बदन में बिजली गिर गई हो, वो ऐसे सिहर उठी थी. उनके ऐसा करने से अमित मुझ पर टूट पढ़ा और मुझे गोद में उठाकर अलग कमरे में ले गया.

प्रिया- आपको जो भी करना होगा, आप कर सकते हैं मगर मैं आपको अपने होंठों पर कुछ नहीं करने दूंगी.

[emailprotected]Xxx लेडी सेक्स कहानी का अगला भाग:विधवा मकान मालकिन के साथ होटल में हनीमून- 2. 𝙭𝙭𝙭 𝙫𝙞𝙙𝙚𝙤पहला बच्चा होने के बाद मेरी पत्नी का ध्यान सेक्स से बिल्कुल खत्म हो गया था. ट्रिपल सेक्सी एचडी वीडियोमैंने कुछ पल उसे देखा, पर मुझसे रहा नहीं गया और बाजू से उसके पेट को कस कर जकड़ गर्दन पर किस कर दिया. मेरे अनुभवी लंड ने अलफिया की चूत की ओपनिंग कर दी और उस दिन मैंने उसे दो बार चोद कर फ्री कर दिया.

वो नौकरी करती थी इसलिए मिलने के लिए हमने रविवार का दिन निश्चित किया.

कभी विकास नेहा के मुँह में पूरा अन्दर तक अपनी पूरी जीभ डाल देता, तो कभी नेहा विकास के मुँह में अन्दर तक दे देती. मैंने चाची को सहारा देकर ऊपर चढ़ाया तो चाची का मुलायम जिस्म छूने का मौक़ा भी मिल गया. मैं उनकी दोनों चूचियों को बारी बारी से जोर जोर से चूस रहा था और काट रहा था.

मेरे लंड की पिचकारियां उनके हलक में जा गिरीं औरआंटी मेरा सारा माल पी गईं. मैंने नेहा से कहा- बहनचोद तू भूल गयी, उन मादरचोदों ने हमारे साथ क्या किया था? मैं अभी तक मेरी चूत में मोम डालने वाला कांड भूली नहीं हूँ. ऐसे में मैं मन ही मन यह योजना बनाने लगी कि कैसे इन दोनों के नीचे लेट इनके लौड़े लिए जायें।दीपक और धीरज को ये लगे कि ये मेरा फायदा उठा रहे हैं और सब उन्होंने किया.

चुदाई हिंदी ऑडियो

मेरा पूरा जिस्म पसीने से भीग गया था और मेरी सांस तेज रफ्तार में चल रही थी; दोनों दूध सांस के साथ ऊपर नीचे हो रहे थे. मेरे मुँह से चुदाई की बात सुन कर चाची ने भी वासना से कहा- पहले अन्दर चलो, खाना खा लो, फिर आज तुम मुझे अपनी बीवी समझ कर चोद ही दो. खाना खाने के बाद मैंने फिर से कविता को नंगी किया और हम दोनों ने दो बार चुदाई की.

जैसे ही मैं उंगली अन्दर डालता, वो उचक कर बोल उठती- ऊई ईईई मम्मीई ईईई.

वो मजाक में कहने लगी- तुम्हारे पास रिमोट नहीं है क्या … कहां गया?मैंने कहा- काम नहीं कर रहा है.

कोई 15 से 20 मिनट की चूमाचाटी के बाद बाबा ने मेरी अम्मी के कपड़े उतार दिए. मैंने उसके कमरे की तरफ देखा तो दरवाजा खुला हुआ था और प्रिया अन्दर कमरे में ही थी. नई लुगाई की चुदाईधीरे धीरे मैं उसकी चूत को पूरी मस्ती से सहलाने लगा, उसने भी अपनी टांगें फैला दीं और चूत की आग भभकने लगीकरीब एक घंटा मस्ती करने के बाद उसने जाने का कहा.

करीब 5 मिनट उसके गालों पर किस करने के बाद मैं उसके गले को किस करने लगा, फिर माथे पर और धीरे धीरे मैं उसके मम्मों पर वापिस आ गया. ऐसे में मैंने सोचा कि ममता भाभी को पटाने की कोशिश की जाए, मेरी उनसे बात नहीं होती थी. मैंने अपनी एक उंगली उनके मुँह में डाल दी और धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा.

मेरा हाथ अब उनकी पैंटी में चला गया था और उनकी चूत को सहलाने लगा था. अब धीरे-धीरे चुदाई का दर्द आनन्द में बदलता जा रहा था जो नेहा के चेहरे और आंखों पर स्पष्ट दिख रहा था.

मैंने एक रोमांटिक गाना लगा दिया और प्रिया की कमर में हाथ फंसा दिया.

मोहन ने तेल से मेरे बदन की अच्छी मालिश की, मुझे गर्म पानी से नहलाया. जैसे ही उनकी चूत पर मैं अपना लंड रगड़ता, वो अपनी गांड को उठा देतीं. उनके लंड से भी पानी निकल रहा था जिससे उनकी चड्डी सामने से गीली हो गई थी.

मोटी औरत की चूत की चुदाई गुरबचन जी से बचने के लिए मैंने अरुणिमा को निर्देश दे दिया कि अब वो अकेले बाहर ना जाए. अभी मेरी तमन्ना पूरी नहीं हुई थी मुझे उसकी गांड की भी चुदाई करनी थी क्योंकि उसकी गांड का गुलाबी छेद मेरे मन को भा गया था.

इतना कहते-कहते विकास उसके पास झुक गया और उसके दोनों हाथों को पकड़कर नीचे बैठ गया. थोड़ी देर चूसने के बाद वह खुद अलग हुईं और बोलने लगीं- विक्की अब चोद भी दो. धीरे धीरे ऐसे ही चाटते हुए मैं उसकी चूत तक पहुँच गया जहाँ उसकी काली पैंटी जो उसके कामरस से भीगी हुई थी और उसकी बुर और मेरी जीभ के बीच दीवार बनी हुई थी.

दाढ़ का दर्द

अब हम दो जवान खूबसूरत लड़कियां नंगी होकर एक दूसरी के जिस्म से चिपकी हुई थी. एक दिन मैंने मैसेंजर से एक आईडी को देखा और उसे हैलो लिख कर भेज दिया. कुछ देर बाद उसने जोर जोर से धक्के देने शुरू किए तो मैं समझ गई कि अब इसकी तोप दगने वाली है.

मैं शरीर से फिट हूँ और मेरे शरीर पर कोई अतिरिक्त चर्बी नहीं है जो कि मेरे प्रति लड़कियों व भाभियों को आकर्षित करने में महत्वपूर्ण भूमिका रखती है. पूरा रूम सिर्फ आह आह आ आह हआह आह आह … उह उह उह आउच यस फ्क फ्क्फच फच फच की आवाजों से ही गूंजता रहा.

मैंने उनसे कहा- आज तू मेरी रंडी है और इस बाथरूम में आज तेरी चूत नहीं,गांड मारूंगा.

इसी प्रकार लगभग बीस दिन गुजर गए और उसके बाद कोरोना महामारी की वजह से 24 मार्च से पूरे देश में लॉकडाउन लगा दिया गया. हालांकि इस तरह से चुत चूसने में थोड़ी परेशानी हो रही थी पर इसके बावजूद मैं उसकी चूत को चाटे जा रहा था. मैं समझ गयी कि वो झड़ने वाला है, तो मैंने भी झांटों की परवाह किए बिना जोर जोर से उसका लंड चूसना शुरू कर दिया.

तो मैं यहाँ मेरी और ज्योति के साथ हुई सारी बातचीत वैसे ही बताऊंगा जैसे हमारी बात हुई थी।दिए समय पर मेरे फोन की घन्टी बजी, मैंने फ़ोन उठाया तो आगे से बहुत ही मदहोश करने वाली सेक्सी आवाज़ में ज्योति बोली- हैलो!मैं- हाय डार्लिंग, कैसी हो?ज्योति- अच्छी हूँ आप सुनाइये कैसे हो?मैं- मैं भी अच्छा हूँ और आपकी सेक्सी आवाज़ सुन कर मदहोश हो गया. मेरी नाभि के पास उसका लंड था, जो कि उस वक्त उनकी चड्डी के अन्दर ही था और पूरी तरह से टाइट हो गया था. फिर सुनील नीचे लेट गए, विक्रम ने अपना लंड डालकर मेरी चीख का मजा लिया.

पहले दिन पिंकी अपने बच्चे को लेकर आई और अपने बच्चे को एक तरफ लिटा दिया.

बीएफ सेक्स एंटी: अगले भाग में आपको बताऊंगी कि हम चारों ने उन चारों लड़कों की गांड किस तरह से मारी. फिर मोहन ने मुझे घोड़ी बनाकर पलंग के किनारे खड़ा किया, खुद जमीन पर खड़े होकर मेरी गांड का बैंड बजाने लगे.

पर टिकट की कुछ समस्या आ गई थी जिस वजह से हम दोनों को अभी वापस जाने में एक दो दिन और लगने वाले थे. हम दोनों का चुदाई से शरीर टूट चुका था और हमारा उठने का मन नहीं कर रहा था. इतने में मंजू बोली- बुआ, मेरे पति ने तुम्हें शादी में देखा था, तभी से वह कहते हैं कि तुम्हारी बुआ मस्त माल हैं.

मैंने फ़ोन अपने कब्जे में ले लिया और दोबारा गेम जहां था, वहीं से शुरू कर दिया.

वो नशे में चूर हकलाती हुई बोली- ऐसे क्या देख रहे हो?मैं बोला- तुम्हारी चूचियों को देख रहा हूँ, इनका साइज पिछली बार से बढ़ गया है. फिर एक दिन हिम्मत करके साड़ी को हाथ से सरका के ऊपर करना चाहा पर कुछ हलचल हो गई तो उनकी नींद टूट सी गयी. मैंने मॉम की कमर पकड़ कर अपना लंड पीछे से मॉम चुत में एक झटके में डाल दिया.