एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ

छवि स्रोत,रेशमा भाभी की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

जलपरी की सेक्सी वीडियो: एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ, कितना सुकून मिल रहा था मुझे!उसे भी खूब मजा आ रहा था क्यूंकि वो भी हर धक्के के साथ गांड को पीछे धकेल कर साथ दे रही थी मेरा.

सेक्सी ब्लू पिक्चर ओपन सेक्स

वो पहली क्लास में पढ़ता था। मैंने उनको अपनी फीस बताई और यह भी बता दिया कि मैं किस समय उसके बेटे को ट्यूशन पढ़ाने के लिए आया करूंगा. सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सीथोड़ी देर बाद मुझे इस दर्द में भी मज़ा आने लगा और मैं मज़े से अपने पापा से चुदने लगी। मेरी चुदाई की चाहत इतनी ज्यादा थी कि मैं पापा से ‘और जोर से … और जोर से …’ कहने लगी और वो मुझे जोरदार धक्के लगाने लगे लेकिन मैं उनके धक्कों से और तगड़ा झटका चाहती थी.

उससे पूछा- रीना, तुम कुछ ठंडा या गर्म लेना चाहोगी क्या?वह बोली- मैं तो ठंडा ही पीना पसंद करती हूँ. देसी गर्ल सेक्सी वीडियो ओपनमैं उसके पास गया तो वो मुझसे चिपक गयी और बोलने लगी- ये तुमने क्या कर दिया.

डॉली ने पूछा- क्यों मज़ा आया या नहीं?वो बोलीं- मेरी लाइफ की अभी तक की सबसे अच्छी चुदाई हुई है … क्यों न मैं आज रात यहीं आप दोनों के साथ सो जाऊं … क्योंकि कल तो सभी चले जाएंगे, तो प्लीज मुझे इसके साथ रहने का मौका दे दो.एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ: मैंने अपनी सहेली नीलू से भी बात कर ली थी, तो 3 जून को मैं बहुत तैयार होकर मैं और नीलू अपने गांव के बस स्टैंड से बस में चढ़कर सतना पहुंच गए.

फिर मिसेज पाटिल बोलीं कि सच में जो मिसेज रॉय ने कहा था, तुम उससे भी अच्छी चुदाई करते हो.मैंने कहा- मरवाओगी क्या … कोई गाड़ी आ गई तो लेने के देने पड़ जाएंगे.

मीणा सेक्सी सॉन्ग - एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ

आखिरकार बहुत इन्तजार के बाद उन्होंने मुझसे एक दिन कहा कि तुम्हारे लिए एक कॉल है.जब वो आंगन में झुककर झाड़ू लगाती थी तो मैं उसकी गांड देखकर बेकाबू हो उठता था.

एक और समस्या यह थी कि इस तरह हम औरतें पेशाब करती नहीं हैं, सो कुतिया की तरह झुक कर करना बहुत मुश्किल था. एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ मैंने एक भी बूंद खराब नहीं जाने दी और पूरा माल चाट कर चूत को एकदम साफ कर दिया.

अब मुझे गांव के किसी बुजुर्ग या पहलवान किस्म के आदमी के लंड की तलाश थी.

एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ?

लंड दो इंच ही अंदर गया होगा कि उम्म्ह… अहह… हय… याह… भाभी दर्द से कराहने लगी. आखिर मैं जिस लंड को देखने और छूने के लिए पिछले कई सालों से कोशिश कर रहा था, उस लंड को किसी और के हाथों क्यों बेपर्दा करूं, ये तो मेरा हक है. फिर सुदीप ने मेरी चूत को अपने होंठों से चूमते हुए कहा- आह साली क्या मस्त चिकनी चूत चोदने को मिली है, आज तो मैं इसे फाड़ ही डालूँगा.

सोनू छटपटाने लगी और कहने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… छोड़ दो … छोड़ दो …मैंने सोनू से कहा- जो कुछ होना था वो हो गया है, झिल्ली फट चुकी है, अब आगे इससे ज्यादा दर्द नहीं होगा. मेरी और उसकी बात धीरे धीरे बढ़ती गयी और मजाक गया कब प्यार में बदल गया पता ही नहीं चला. मैं बार-बार उसके घर के पिछले आंगन की तरफ देखता रहता था, लेकिन वहां भी दिखाई नहीं दी.

पायल अपनी जुबान से मेरी बगलों के बालों को चाटते हुए गुदगुदी करने लगी. वो पहली चुदाई से लेके पूरी रात और सुबह तक नंगी ही रही और मैं भी यूं ही नंगा बना रहा. मैं उनके एक दूध को मुँह में डाल कर चुसक रहा था और एक हाथ उनकी चूत पर फेर रहा था.

मैं खुशी से झूम उठा, मैंने रूम बुक किया और मूवी को बीच में से ही छोड़ कर हम ओयो में चले गए. इस बार सपने में भाभी को पकड़ कर ऐसे पकड़ा, किस किया और फिर उनको सपने में चाटने लगा, बोलने लगा- भाभी आप ऐसी हो, वैसी हो.

भाभी कहने लगी- देवर जी थोड़ा धीरे करना, ऐसा न हो कि मेरी चूत ही फट जाए, पहली बार इतना मोटा लंड लेना तो दूर की बात है देखा भी आज ही है, पता नहीं चूत इसे ले पाएगी या नहीं?मैंने भाभी की चूत को थोड़ा हाथों से और चौड़ा किया और भाभी के पांव को फैलाया, और चूत में एक झटका दिया जिससे आधे से भी ज्यादा लंड अंदर बैठ गया.

मैं बोला- भाभी एक बात और पूछनी है … आप मुझसे ही क्यों?भाभी बोलीं- शादी के दिन तेरा ही पहला लंड टच हुआ था.

मैंने जल्दी-जल्दी सलवार ऊपर करके नाड़ा बांधा और कुर्ते को नीचे किया. दस मिनट में वो 2 बार छूटी, कमरे में मेरे झटकों की आवाज़ बहुत बुलंद थी. इंदु पूरे जोश में भर गयी, आहहह हहह करने लगी, सिसकारियां लेने लगी- सीईईई आयी ईईइ जीजा जी, अब अंदर डाल दो अपना लंड आहहह … अब नहीं होता बर्दाश्त!मैं बोला- मेरे लंड को और चूसो!वो जल्दी से मेरे लंड को जोर जोर से चूसने लगी, कभी कभी आंड को भी चूस लेती.

मैं झट से पैर घुटनों के बल करके और हाथों को बिस्तर में टिका कर कुतिया की तरह बन गई. मेरी पिछली कहानी थीऔरतों की गांड मारने की ललकमेरे जीवन में कुछ अजीब घटनाएँ घटीं, जिनके बारे में मैंने कभी सुना या देखा नहीं था. जब भी आता, मीणा के लिए कुछ खाने पीने को लाता और कुछ बिंदी सुर्खी चूड़ी भी ले आता.

फिर भाभी ने भाई के लंड को मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया और भाई उसकी चूत में उंगली करने लगा.

गांड के चक्कर में मेरी झुमरी तलैया, मेरी मुन्नी, मेरी भोसड़ी प्यासी ही रह जाती है। मादर चोद भड़वे … पहले इस सुलगती भट्टी में अपना लौड़ा डाल कर इसे शांत कर दे फिर चाहे गांड मार या गांड चाट। चल पहले मैं मूत कर आती हूँ. वो मेरे मम्मों को चूमता, कभी सख़्त हो चुके निप्पल को जीभ से चाटता, कभी एक हाथ से पकड़ के उन्हें चूसता. चूत के अन्दर लंड के अलावा सिर्फ मर्द की जीभ जाते ही लड़की का पागलपन झलक जाता है.

कुछ तो उनकी चूत के पानी छोड़ने से और कुछ मेरे वीर्य ने उनके बेड को भिगो दिया. लता भाभी थी तो बहुत सुन्दर परन्तु घर पर ढीली सी साड़ी, सर्दी के कारण सिर पर स्कार्फ, पैरों में जुराबें और गर्म स्वेटर पहनती थी, जिसमें उनका हुस्न छिपा हुआ रहता था. अभी तक कहानी के पिछले भाग में कल्पना ने बताया कि मेरी सास मुझे एक कॉल ब्वॉय से मिलने को समझा रही थीं और मैंने उन्हें ‘सोच कर बताती हूँ.

उठने से पहले मैंने अपने रूमाल से उसकी चुत को साफ़ कियाफिर हम दोनों अपने कपड़े पहन कर पार्क के मुख्य एरिया में चले गए.

यह सुनकर मैं बेकाबू हो गया, मैंने दूध का गिलास पिया और माँ को अपनी बांहों में भर लिया. मैं- ओऊऊऊ क्या हुआ मेरी जानू… अभी तो बोल रही थी ज़ोर से … और अभी चिल्ला रही हो … मेरी रानी मामी.

एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ भाभी बाथरूम से बाहर आई, उन्होंने भी अपने टॉप और स्कर्ट की जगह एक गाउन पहना और मुझसे कहने लगी- तुम ऊपर अपने कमरे में चलो, मैं कुछ देर में तुम्हारे लिए खाने पीने के लिए कुछ लाती हूँ. आपको बता दूं कि उसके मम्मे की साइज काफी मस्त है, ये 36 डी नाप के हैं.

एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ बुद्धू राम!” मैडम की हंसी से भरी आवाज़ मेरे कानों में पड़ी- मैडम बाली रानी जी नहीं सिर्फ बाली रानी … लगता है कि जब लंड झड़ा तो तेरी अकल भी झड़ गई … बाहें ऊपर कर … शर्ट उतारनी है. मैंने उसको उठाने की कोशिश की, पर उसने बोला कि अभी उसका लंड खड़ा नहीं हो सकता.

जब गेट से अपार्टमेंट आते हुए अकेली थी, तो शायद चेहरे पे एक राहत सी थी और शायद एक मुस्कुराहट भी.

गर्ल्स पिक्स

तभी अचानक सोनिया वहां आ गई और उसने बुआ से पूछा- क्या बात है, आप रो क्यों रही हो?तो बुआ ने उसे पूरी बात बता दी. फिर मेरे पति ने मुझे उठाकर मेरी ब्रा को खोल दिया और मेरी चूची नंगी हो गई. जब मेरी शादी हुई थी तो उस वक्त मेरे पति का शरीर काफी दुबला-पतला था.

सीमा ने मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया और नीचे से मैं उसकी चूत को चाटने लगा. ननकू ने दो-एक बार चिन्टू को कहा भी कि मौसी के घर में पड़े रहने से बेहतर है वो कोई कामधंधा करे, दो पैसे कमा कर अपने माँ बाप का सहारा बने. उसने मेरी तरफ घूम कर मेरे होंठों को अपने होंठों में ले लिया और चूसने लगी.

फिर विनय जीजू के लन्ड से सफेद रस निकलकर दीदी के मुंह पर गिरा और विनय जीजू अलग हट गये.

मैं भी बेशरम होकर बोला- तुझे तो मैं जिस दिन यहाँ आया था उसी दिन से चोदने की फिराक में था पर रिश्तों का लिहाज कर रहा था. उस बीच वो लेडी मेरे पास आकर मुझसे बोली- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है या नहीं?मैंने कहा- कोई नहीं है. हाथ में महंगा समार्टफोन तो था, मगर गूगल, वॉट्सएप्प और यूट्यूब से आगे कोई बढ़ा ही नहीं.

‘कल ऐसे मेरे नीचे तेरी बहन लेटी होगी नंगी, वो सब करवाएगी, मेरा लौड़ा चूसेगी, मुझसे चुदेगी, गांड मरवायेगी. पर उससे ये दर्द सहन नहीं हुआ और उनके मुँह से चीख निकल गयी- आई … ईई ईई मर … गई … मम्मी … अब दर्द बर्दाश्त नहीं हो रहा है. शाम को प्रीति को फ़ोन किया तो उसने कहा कि संबंधी के घर है, इसलिए वो यहां खुल कर ज्यादा बात नहीं कर सकती और उसने मुझे सुखबीर का थोड़ा ख्याल रखने बोला.

जब मैंने मोनिका से पूछा कि वो तुम्हारे साथ बेड पर कैसा है?तब उसने बताया- साला झड़ने में बहुत टाइम लेता है. उसने कहा कि इतना लेट रिप्लाई क्यों किया?मैंने उसे सब बताया कि मैंने उसका मेल देखा ही नहीं था.

जाने से पहले वंश ने वोदका की बोतल से लम्बे लम्बे दो तीन घूंट नीट ही लगा लिए और मेरी तरफ बोतल बढ़ा दी. अगले 2 दिन मैंने मम्मी जी से कोई बात नहीं की … मम्मी जी से नजरें मिलाने में भी अजीब लग रहा था. उसने अपनी जोरू मीना से थोड़ा रौब से पूछा- ये चिन्टू का यहाँ रोज रोज आने का क्या काम? क्या चक्कर है ये?अपने पति की बात सुन मीना के हृदय की धड़कन बढ़ गई- ये आप क्या कह रहे हैं? वो आपका रिश्तेदार है तो कभी कभार आपके घर आ जाता है.

उन सबके लंड इतने लंबे और मोटे थे कि मुझे एक अजीब सा रोमांच होने लगा.

फिर एक दिन उसका मैसेज आया कि आज उसके घर कोई नहीं है, सभी घर वाले एक रिश्तेदार की बेटी की शादी में जा रहे हैं और उसने बीमारी का बहाना करके शादी में जाने से मना कर दिया. उन्होंने बिना किसी डर के मेरी पैन्ट पूरी उतार दी, मेरा लौड़ा कुछ देर हाथ से हिलाया और फिर चूसने लग गयी. जब हम घूम रहे थे, तब उसका फ़ोन आया था, और उसको लग रहा है कि वो उसे धोखा दे रही है.

मैंने हां कहा और हम दोनों एक चादर में आ गए और ऊपर से एक और चादर डाल ली. वैसे आसपास के गांवों में हमारा परिवार काफी इज्जतदार और फेमस हैं, इसलिए काफी लोग मुझसे संपर्क बनाने की कोशिश करते हैं.

मैंने उसे को पूछा कि क्या हुआ?पर वो शर्माए और मुझे कुछ बताये ना!मेरे बहुत पूछने पर वो शर्मा कर बोली- मम्मी, वो कुछ करते नहीं हैं. मगर दिल की बात कहूँ तो मैं कब से यही चाहता था मगर डर लगता था कहीं तुम लंड को दांतों से न काट लो!मामा उसकी चूचियों का स्वाद लेकर पीने लगे. तो हमारी बात काफी सेक्सुअल भी होने लगी थी लेकिन मर्यादा के अंदर ही.

मोती डिजाइन

मैं- अब ऐसी प्यारी चूत और गांड मिले, तो ये रात दिन खड़ा ही रहेगा मामी जी.

मैंने उसको धक्का दिया और उसके ऊपर चढ़ कर उसकी छाती में किस करने लगी और अपनी चूत को उसके लंड पर रगड़ने लगी. दोस्तो, सच कहूँ तो मैंने डिसाइड किया कि इनके साथ रोमांटिक और वाइल्ड का मिक्सअप करूँगा ताकि इन्हें अपनापन भी लगे और मज़े भी आएं और ये मुझे भूल न पाएं. नमस्कार दोस्तो, कैसे हो आप सब? आप सब ने अन्तर्वासना पर बहुत ही गर्म कहानियाँ पढ़ी होंगी.

वो नीचे से अपने लंड को मेरी चूत में डाल कर मुझे चोद रहे थे और इधर मैं उनके लंड की सवारी करने के साटी साथ अपनी चूचियों को सर के मुँह से चुसवा रही थी. अगली सुबह मणि ने कोमल की चूत में लंड पेल दिया और उसे चोदने के बाद संजय को उठाया. इंग्लिश फिल्म बताओ सेक्सीवो मेरे बूब्स को इतना जोर से दबा रहा था कि मैं ना चाहते हुए भी चीख पड़ती थी.

मैंने ही वासना से उत्तेजित होकर उसके कूल्हों पर जोर से थप्पड़ मार दिया था. खैर … 15 मिनट की धकापेल चुदाई के बाद वो झड़ गई और मेरे सीने पर गिर गई.

दरवाजे पास खड़ी होकर ही मैंने अपनी सलवार को नीचे किया और अपनी पैंटी को देखा. ममता बोली- सही कहती है मामी …सुधा बीच में ही ममता को टोकते हुए बोली- अरे, आगे की बात तो सुन. मेरी जीभ तेरे पूरे बदन को फील करना चाहती है।इस प्रकार हमारी काल पर बात हुई और होली की छुटियों में मेरा और रितिका ऋषिकेश में सेक्स करने का प्लान बना.

जब वो मेरे सुपारे को अपने होंठों से लगाए हुए थी, तभी मैंने उसकी जांघ पर चिकोटी काटी, जिससे उसका मुँह एक चीख के कारण खुल गया. जब मेरी नजर उन पर पड़ी तो मैंने देखा कि उन्होंने केवल एक अंडरवियर पहना हुआ था. मैं कई सालों से अन्तर्वासना पर कहानी पढ़कर अपने लंड की प्यास बुझाता हूँ.

इधर मेरा नसीब जाग गया और मुझे भाभी के साथ सुहागरात मनाने का मौका मिल गया.

सामान के साथ बैठते हुए उन्हें थोड़ी दिक्कत हो रही थी अतः उन्होंने सभी थैलों को अपनी गोद में रखा और बैठते हुए मेरा कन्धा पकड़ लिया. मैंने फिर से तीन-चार बार बेल बजाई मगर दरवाजा कोई खोल ही नहीं रहा था.

मेरा एक दोस्त मुझे अपने घर लेकर गया क्योंकि दस दिनों की छुट्टी थी तो इस बार उसके घर गया अपने घर नहीं गया. मैंने अपने खाने का अरेंजमेंट एक होटल से कर लिया था वहां से डेली टिफिन आ जाता था. मगर कुछ ही पल के बाद मुझे बगल वाले कमरे के दरवाजे के खुलने की आवाज सुनाई दे गई.

यह मेरी पहली चुदाई थी इसलिए ज़्यादा देर मैं टिक न पाया और मेरा सारा रस उनकी चूत में गिर गया. मेरी हाइट पांच फीट ग्यारह इंच है और मेरे लंड का साइज़ 6″ और 4″ मोटा है. वो भी फिर से जाग गई … और लगभग 10 मिनट की गरम लड़ाई में हम दोनों एक साथ झड़ गए.

एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ उसे घर के बाहर ही छोड़ कर मैं जाने ही वाला था कि उसने मुझे रोकते हुए कहा कि अन्दर नहीं आओगे?मैंने बोला- नहीं … आज देर हो गई है. लण्ड चूत के अंदर तक समाकर चूत की दीवारों में घर्षण पैदा कर रहा था तो चूत लण्ड को अपने में जकड़ लेने की कोशिश कर रही थी.

सनी लियोन की सेक्स सेक्स वीडियो

लिफ्ट में पहुँचते उसने मेरे कूल्हों पर मस्ती से हाथ फेरना शुरू कर दिया था. तभी हमारे गांव में एक महामारी फैल गयी और मेरे पिताजी इस महामारी में चल बसे. अब मैं ज्यादा शक्ति के साथ उसकी चूत में जीभ को अंदर और बाहर करने लगा था.

हम दोनों अलग हो गए तो उसमें से एक बोला- अरे करो करो, हमको तो देखने में ही बहुत मज़ा आ रहा है. इतना सुनते ही मैंने कंप्यूटर पर ‘तुम मिले …’ फ़िल्म के रोमांटिक गाने लगा दिए. जबरदस्ती सेक्सी न्यूजी …” मैंने आँखें बंद करके कहा।तुम्हें पता है न कि ये लेटर वाली पर्ची किसने दी है तुम्हें?” उन्होंने मेरी कमीज़ के अंदर हाथ डाला और मेरे चिकने पेट पर हाथ फेरने लगे.

वासना का उबाल उतरने पर जब दोनों को होश आया तो दोनों के मन में रत्ती भर भी पछतावा नहीं था.

मैंने बस किस करके, बोबे दबा कर अपने दिल को तसल्ली दे ली उस टाइम और घर पर आकर आराम करने लगा. नीचे उसकी बिकनी में उसकी गोरी टांगें देखकर मेरे मुंह से लार टपकने लगी.

दोस्तो, अभी के लिए इतना ही अलविदा आपसे बहुत जल्दी मुलाकात होगी अगर आप आगे क्या हुआ मैं कैसे जिगोलो बना जानना चाहते हैं, तो मुझे ज्यादा से ज्यादा मेल करके बताइए कि आपको मेरी स्टोरी कैसी लगी. जब मैंने मणि से पूछा कि तुमने कोमल को कैसे तैयार किया?मणि बोला- लड़की को जब लंड का चस्का लगता जाता है, तो वो किसी का भी लंड लेने को तैयार हो जाती है. वो कपल दिल्ली में रहते थे, शुरूआत में तो हमने एक दूसरे के बारे में पूछा, एक दूसरे की पसंद नापसंद पूछी.

मूवी देखने के टाइम उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरे कंधे पे सर रख के बैठ गईं.

मैंने कहा कि देख तुम्हें गांड मराने में इतना मजा आया कि तुम्हारा वीर्य बाहर निकल आया. मैंने अपने दोनों हाथों से उसके पजामे को नीचे सरकाने की कोशिश की मगर वह अभी पजामा उतारने के लिए तैयार नहीं थी. उसने कोई धक्का भी नहीं मारा और ना ही अपने लंड को अंदर बाहर करने की कोई कोशिश की.

सेक्सी लेडी बॉयवंश बोला- मम्मी मैं आपके पूरे जिस्म को चाटूंगा … आई लव यू मम्मी … आपके जैसा जिस्म किसी का भी नहीं होगा. वह मेरे चेहरे की तरफ देखने लगे और बोले- अरे बस इतनी सी बात, ले छू ले.

चोदी चोदा पिक्चर चोदी चोदा पिक्चर

थोड़ी ही देर में मैं और चौंक गया जब दीपक ने मुझसे यह कहा- क्यों, तू इतना क्यों पूछ रहा है? तुझे भी मेरी भाभी को चोदना है क्या?यह सुनते ही मैं और दंग रह गया और दीपक ठहाके मार मार के हंसने लगा. इतना जल्दी क्या इतना आसान था रवि मामा के इस दानवी लंड को पाना?क्या मैं बेवजह ही चिंता में था?आखिर मुझे इतने साल क्यों लगे इसे पाने में?और क्या इससे पहले भी यदि मैंने कोशिश की होती, तो मुझे इस जवान मर्द के लॉलीपॉप का स्वाद चखने का मौका मिल सकता था, जो अभी मेरी मुट्ठी में है?यही सारी बातें मेरे दिमाग में घूम रही थीं. मैंने एक दो मीटिंग में बहुत अच्छा काम किया था इसलिए मैनेजर सर को मेरे ऊपर काफी भरोसा हो गया था.

उससे बात करते करते मेरी उत्तेजना बहुत हद तक कम हो चुकी थी तो मैं तैयार हो गयी. मैंने पूछा- कौन?उधर से आवाज आई- शिखा …मैंने उठ कर फटाक से दरवाजा खोल दिया और वह अंदर आ गई. सारा आपा ने अपनी टांगें मेरे चूतड़ों से और बाहें मेरे कंधे पर लपेट दी थीं और अपने नितम्बों को ऊपर की ओर उठा दिया था.

थोड़ी देर बाद रूपा आई और टेबल पर पड़ी प्लेट को उठा कर किचन में ले गयी. एक दिन जब छुट्टी वाले दिन भाभी के घर पर उनसे मिलने के लिये गया तो पता लगा कि वह उस घर को छोड़कर चले गये हैं. हैलो दोस्तो, मैं आपका रवि खन्ना, उम्मीद है आपने मेरी पहले की कहानियां पढ़ी होंगी और अच्छी भी लगी होंगी.

मैंने अपने लंड को भाभी के मुंह में डाल दिया जिसे भाभी ने पूरा मुंह खोलकर अंदर लिया और कुछ देर तक चूसती रही. उसको जब ये ख्याल नहीं रहा कि लंड उसकी चुत में ही रखा है, तब वो कुछ बेख्याल सी हुई.

मैं बोली- अंकल, आप का काम हो गया हो तो मैं जाऊं?अंकल मुझे रोकते हुए बोले- अरे नीतू रुको, तुम्हें यह सब अच्छा नहीं लग रहा क्या?अब उनको कैसे बताती कि मेरे पूरे बदन की हर तार झनकार कर रही थी.

बाहर से तो उसकी चूत सांवली थी मगर अंदर से वह जैसे गाजर की तरह लाल थी. सेक्सी वीडियो आजा वीडियो मेंवह गंध आते ही एक अलग ही संवेदना मेरे दिमाग से मेरी चुत में चली जाती. सेक्सी वीडियो चुदाई वाली सेक्स वीडियोमैंने अपने एक हाथ से उसका लंड बाहर निकालने की कोशिश की मगर जैसे ही मेरा हाथ मेरी बुर के पास लगा तो हाथ की उंगलियाँ गीली हो गई. जैसे ही मेरे हाथ बालों को टकराए तभी बाहर से दरवाजा खुलने की आवाज आई और मैंने अपने हाथ को झटके से बाहर कर दिया.

हम दोनों के ऊपर के कपड़े उतर चुके थे, गुलाबी रंग की ब्रा पहनी हुई थी मैंने, बैडमैन ने उसे भी अपने दांतों से पकड़ कर उतार दिया और मेरे चूचों को चूसने लगा.

अगर कहा जाए तो सांवली लड़कियों की बात ही कुछ और होती है, ये बड़ी हॉट होती हैं. मैं भी उसकी गाली सुन कर उत्तेजित हो रहा था और ‘चोदो मुझे … और चोदो!’ ऐसा कह कर उसे और तेज़ी से चोदने के लिए उकसा रहा था. जब मेरी नजर उसकी लुंगी पर पड़ी तो उसका लिंग मुझे अलग से दिखाई देने लग गया था.

यह नखरा देखकर प्रशांत हंसने लगा और बोला- ना मैडम, मेरी लैंड लेडी … गुस्सा नहीं होते. मेरी सेक्स कहानी के पहले भागनई भाभी की सुहागरात मेरे साथ-1अब तक आपने पढ़ा था कि किसी कारणवश भैया की शादी के बाद उनकी सुहागरात नहीं हो पाई थी और भाभी अपने मायके चली गई थीं. फिर मैंने बहन को अपनी गोद में उठा लिया, अपनी बांहों में उठाकर मैं उसको बाथरूम में ले गया और उसको कमोड पर बैठाया.

माँ और बेटा सेक्स

मैं ठोकर देने लगा और वो भी अपनी चूतड़ हिला हिला कर रिस्पॉन्स देने लगी. बाकी तेरी मर्जी बेटा, अगर तुझे यहां नहीं रहना, तो तू अपने मायके जा सकती है और हितेश से तलाक ले सकती है. मैंने पलट कर देखा तो अजय का लंड दीदी की चूत के अंदर-बाहर हो रहा था.

भाभी संग होली के रंग के साथ चुदाई का मजा भी मिलने का सोच कर मैं बहुत उत्तेजित हो गया था.

फिर वो हाथ जोड़ कर बोली- आमिर प्लीज़ पेल दो ना … क्या मुझे मारने का इरादा?सारा मेरे लिंग को अपनी चूत के प्रवेश पर बार बार रगड़ रही थी और शायद जैसे ही वो सही सीध में आया, मैंने धीरे धीरे नीचे होना शुरू किया … पर या तो चिकनाई ज्यादा थी … या सारा का छेद सही नहीं बैठ पा रहा था … जिस वजह से मेरा लंड फ़िसल गया.

यहहह यसस!काफी देर की चुदाई के बाद मैंने झटके से भाभीजी को अपने लंड के नीचे कर लिया और भाभी की दोनों टांगें उठा कर उनको धकापेल चोदने लगा. मैंने अपनी एक टांग उठाई और उसकी मोटी जांघों से बीच में उसके लंड वाले एरिया पर रख दी जिससे मेरा घुटना उसके लंड से टच होने लगा. लैंड बॉसी वाली सेक्सी”वैसे भी दिन के समय सभी या तो आराम के लिए सोये होते हैं या डयूटी पर होते हैं.

डॉली बोली- हमारे इस घोड़े की खुराक और चुदाई दोनों ही ज्यादा है, इसीलिए इसे साथ में रखा है. मेरा बंगलोर के लिए दिल्ली से रिज़र्वेशन था, तो पापा मुझे दिल्ली स्टेशन तक छोड़ कर ट्रेन में बैठा कर वापस घर आ चले गए थे. तब मैंने अपनी पॉजीशन बदली और उसको घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी चूत मारने लगा.

जैसे ही मैंने उसकी चूत पे मुँह लगाया, वो मना करने लगी कि कोई देख लेगा. कोमल मेरी बात समझ चुकी थी इसलिए उसने भी ख़ुशी से मेरे गाल पर एक किस कर दिया!उस रात मेरे घर पर किस तरह खतरा उठा कर हम दोनों ने अपने दिल के अरमान पूरे किये वो सब मैं कहानी के अगले हिस्से में बताऊंगा.

मैंने कहा- मुझे भी गांड मरवानी है, मगर मेरा लंड भी बहुत अकड़ रहा है तो पहले इसका कुछ करो.

फिर उसने जीभ बाहर निकाली और बोला- साली बहुत चुदक्कड़ है तू … इतनी सेक्सी तो कुतिया भी नहीं होती, तुझे तो हर वक्त लंड चाहिए होगा … आह क्या मस्त तेरी चुत है. चार दिन के बाद मैंने दुकान खुली देखी, तो दूध वहीं लेने चली गयी क्योंकि बगल से लेती, तो शायद सुखबीर बुरा मान जाता. मूवी देखने के टाइम उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरे कंधे पे सर रख के बैठ गईं.

जानवरों की सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो उसने तब मुझसे उपाय पूछा तो मैंने उससे कहा कि सबसे पहले तो किसी का रूप ही सब कर सकता है और तुम तो इतनी सुंदर हो कि किसी का भी मन मोह लो, पर पति तुम्हारा एक सा रूप देख ऊब गया होगा. उसने बंद आँखों से ही आआह्ह्ह … उम्महहह … करते हुए लंड बाहर निकाला और उसे हिलाने लगी.

मेरा जवाब सुनकर मैनेजर सर बोले- तुम्हारी उम्र में तो मैंने बहुत सारी गर्लफ्रेंड्स बनाई थीं. फिर एक दिन उसका मैसेज आया कि आज उसके घर कोई नहीं है, सभी घर वाले एक रिश्तेदार की बेटी की शादी में जा रहे हैं और उसने बीमारी का बहाना करके शादी में जाने से मना कर दिया. मेरे दिमाग ने काम करना बंद कर दिया, समझ में ही नहीं आ रहा था कि क्या करूँ … इसलिए मैंने मम्मी जी को कहा- मम्मी जी, मुझे थोड़ा और टाइम दे दीजिए सोचने के लिए … कल मैं आपको अपना फाइनल डिसिजन बताती हूँ.

हिंदी साड़ी वाली सेक्सी पिक्चर

तब मेरे एक दोस्त ने बताया कि मैं खाली टाइम पर ट्यूशन पढ़ाया करूं जिससे मेरा टाइम पास भी हो जाएगा और कुछ पैसे भी आ जाएंगे।उसके दूसरे दिन मेरे दोस्त ने बताया कि उसके एक जान-पहचान वाले को होम ट्यूटर की जरूरत है और मुझे वहां जाने के लिए बोला और वहाँ का पता दे दिया. उसकी गांड बहुत टाइट थी और मुझे उसकी गांड में लंड डालने के बाद मुझे मज़ा आ गया. फिर दीदी मेरे पास आई और मेरे कपड़े उतारने लगी, मेरा दिल धड़क रहा था। मेरी चूत को हाथ लगाकर सहलाया तो मेरी आंखें बन्द होने लगीं।दीदी- रचना तेरी चूत तो बिल्कुल बह रही है!मैं शान्त रही। दीदी ने मेरी चूत में धीरे से उंगली घुसाने का प्रयास किया तो मैं सिसियाकर सिकुड़ गई। तभी अजय ने मुझे खींच लिया।अजय- कुसुम जान … तू बोले तो आज तेरी बहन की चूत का उद्घाटन कर दूं? कसम से बड़ी मस्त लग रही है तेरी बहन.

कुछ देर उसे मैंने अपनी सुंदरता का रसपान लेने दिया और फिर कड़े शब्दों में कहा- देखते ही रहोगे या कुछ करोगे भी?वो किसी दास की भाँति घबराते हुए बोला- सारिका जी, आप कमाल लग रही हो, मानो देसी गठरी में विदेशी सामान. कुछ देर तक हम दोनों वहीं सोफे पर लेट कर एक दूसरे के बदन को छूते रहे और चूमते रहे.

हम आगे बढ़ते, उसके पहले ही मेरी निगाह आस पास गयी, तो देखा सामने 4-5 मजदूर जैसे लोग खड़े थे.

इस सेक्स स्टोरी के दूसरे भागदीदी को चोद कर बीवी बनाया-2में अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी प्रमिला दीदी मुझे ज्यादा चुदाई नहीं करने देती थी. पहली बार मैंने उन्हें बांहों में जकड़ा और पकड़ा या यूं कहिये कि किसी भी मर्द को पहली बार मैंने बांहों में लिया. थोड़ी देर चुप रहने के बाद उसने मुझसे पूछा- क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेन्ड है?मैं- ना.

कुछ देर उसके होंठों को चूसने के बाद मैंने उसके बूब्स को फिर से दबाया और अचानक से उसके पजामे को खींच कर नीचे कर दिया. दो चार ज़ोरदार झटकों के साथ मैंने भाभी के मुंह में अपने लंड को धकेला, और मेरे लंड से गर्म-गर्म लावा उनके मुंह में गिरने लगा. मैंने कहा कि देख तुम्हें गांड मराने में इतना मजा आया कि तुम्हारा वीर्य बाहर निकल आया.

उसके बाद भाभी ने मुझे शिकायत करने की धमकी दी और मैं भी अपनी मर्दानगी साबित नहीं कर पाया था.

एक्स एक्स अंग्रेजों की बीएफ: संजय ने तीसरा सवाल किया- मणि और मेरा लंड मुँह से नाप कर साइज बताओगी?अभी कोमल कुछ कहती कि मणि ने कोमल के मुँह के सामने अपना लंड खोल दिया. भाभी बिल्कुल नंगी मेरे सामने चुत किये लेटी हुई थी और मैं भाभी की झांटों में क्रीम लगा कर झाग बना रहा था.

मामी भी अपनी सहेलियों के साथ मजे ले रही थीं और मैं अकेला बोर हो रहा था. इतना खुमार था कि मेरी आंखें मजे के कारण बन्द हो रही थीं, मगर दिल करता था कि मैं यूं ही इसी हालत में ही सो जाऊं. मैं जिस जगह पर काम करता था वहाँ पर मेरी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए बहुत ही कम पैसा मिलता था इसलिए मैंने अपने दोस्त से दोबारा संपर्क किया और उसको अपनी परेशानी के बारे में बताया.

मैं झट से मैडम के मुँह की तरफ अपना लंड करके हो गया और खुद अपने मुँह को मैडम की रसीली चूत पर लगा दिया.

कुछ देर तक हम दोनों पड़े रहे वहीं बेड पर और एक-दूसरे को किस करते रहे. मेरे इस सवाल पर वह थोड़ी सी मुस्कराई और बोली- क्या आप मुझे वहाँ तक ड्रॉप कर सकते हैं?मैंने कहा- मैं भी तो उसी तरफ ही जा रहा हूँ।यह सुनकर वह मेरी बाइक की तरफ बढ़ी और मेरी बाइक के पीछे बैठ गई. प्लीज़ लड़कियो, अब अपनी उंगली को चूत से निकाल कर मुझे मेल भी कर दो यार … हां लड़को, आपसे भी कह रहा हूँ.