सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी

छवि स्रोत,हिंदी नेपाली सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्यूटीफुल सेक्स वीडियो: सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी, … कि आप यहां क्या कर रही थीं?उसकी इस बात को सुनकर मैं एकदम से चुप रह गयी.

बिहार के बीएफ सेक्सी फिल्म

कसम से मुझे अपने लंड पर उसकी गर्म गांड की तपिश अलग ही महसूस हो रही थी. एक्स एक्स एक्स ब्लू बीएफ एचडीमैं अपने हाथों को विराम तो दे रहा था लेकिन उसके मुंह से लंड को बाहर नहीं निकाल रहा था.

मेरी इस मस्ती भरी हॉट सेक्स कहानी के पहले भागसहेली की शादी में मेरी चुत चुद गई-1में आपने अब तक पढ़ा कि मैं अपनी सहेली की शादी में गई थी. दुल्हन वाली बीएफचाहे इसकी फोटू लो या फिर जिस्म की गर्मी!उन दोनों ने मॉम और पुष्पा आंटी के साथ बहुत सी फ़ोटो ली, सेक्सी पोज में किस करते हुए, बूब्स दबाते हुए सारी सेक्स पोजिशन में!फिर मॉम वहाँ से आने लगी.

माया पल्ला हटा कर अपने चूचे उठाते हुए बोली- आखिर इनमें ऐसा क्या है?ऐसा वो मुस्कुराते हुए बोली.सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी: भाभी बोलीं- बस इतना ही … आगे और क्या?मैंने कहा- फिर हम दोनों 69 करते हुए एक दूसरे के मुँह में डिस्चार्ज हो जाते हैं.

मैं सलमा के बूब्स से फिर से खेलने लगा और उसकी चूत में उंगली डालने लगा.मैंने जो पैर में चोट लगने का नाटक किया था, तो उसने मुझसे कहा- चलो मैं तुम्हें छोड़ देती हूं, जहां जाना है वहां ले चलती हूँ.

सेक्सी सुहागरात बीएफ हिंदी - सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी

15 मिनट चूसने के बाद उसने अपना लंड मेरे मुंह के सामने खड़ा कर दिया और चूसने को बोला.उसी समय दूल्हे की मम्मी ने बोला- कोई दुल्हन के साथ नहीं चलेगा क्या?उनकी बात का मतलब था लड़की की बहनें साथ जाती हैं, लेकिन उसकी तो कोई बहन ही नहीं थी.

मैं उसकी चूचियों को दबा रहा था और साथ में ही उसके होंठों को भी चूस रहा था. सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी यह मेरी पहली कहानी है और बिल्कुल सच्ची कहानी है इसमें जरा भी झूठ नहीं है.

जब कोई लड़की आपका लंड मुँह में लेती है ना … तो सच में ऐसा लगता है, जैसे आप किसी जन्नत में हो.

सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी?

मैं बाथरूम के बगल वाले रूम में पोर्न चालू करके बाथरूम के छेद से उनको नहाते हुए देखने लगता था. ये सुनकर वो उदास होते हुए बोलीं- नहीं मोहित … मैं शादी से पहले उनसे नहीं मिली थी. मेरी मां एक काम करने वाली ढूँढ रही थीं, क्योंकि हमारी पुरानी कामवाली काम छोड़ कर चली गयी थी.

मैंने उससे 69 में आकर चुत चाटने की कही, तो वो मेरे कहे अनुसार बिस्तर पर आ गई. वो बोली- पैसे किस लिए चाहिए?मैं उससे बिंदास बोल दिया- आज ड्रिंक करने का मूड है, इसलिए. उसका कहना था कि वो अपनी बीवी की चुदाई अपनी आंखों के सामने होते हुए देखना चाहता है.

अपने बाएं हाथ की चुटकी से करोना की बायीं चूची के निप्पल को हल्के-हल्के मसलने लगा. मैंने आंटी का पेटीकोट धीरे धीरे ऊपर खिसका कर कमर तक कर दिया तो आंटी की गांड का छेद और चूत दिखने लगी. 2-3 मिनट में ही मेरा लंड अपने भाई की बीवी की चूत में घुसने के लिए तैयार हो गया था.

उस वक्त मैं राजस्थान में कंप्यूटर सिखाता था और मैं एक कम्प्यूटर सेंटर में जॉब कर रहा था. पूरे कमरे में उसकी सिसकारियां गूँज रही थीं- ओह ओहाअ हाह आआहह हा … यूं ही करते रहोऊऊ … आज से मैं बस तुम्हारी रांड हूँ … तुमने मुझे आज अपना बना लिया है … आह आज से पहले इतना मज़ा कभी भी नहीं आया … अज्ज्जुउउ आई लव यू बेबी … फक मीईई हार्डर.

वो बोली- जय आज तक मुझे सेक्स में इतना मज़ा कभी नहीं आया, जो तुम्हारे साथ आ रहा है.

ये सुनकर वो उदास होते हुए बोलीं- नहीं मोहित … मैं शादी से पहले उनसे नहीं मिली थी.

अपनी चूत को खोल कर दिखाते हुए मामी ने कहा- लड़के इसी चूत के छेद में अपने लंड को अंदर डालते हैं. लेकिन क्या दिया … यह बताने से पहले मैं चाहता हूं कि अन्तर्वासना के पाठक या पाठिकाओं की इस बारे में क्या राय है. उसने कहा- तुमने मुझे अपनी दो इच्छाएं तो बताईं, लेकिन स्पेशल इच्छा तो बताई ही नहीं … बोलो ना आर्यन तुम्हें कैसे मजा करना है?मैंने शर्माते हुए कहा- मुझे तुम्हारी चूत का रस पीना है, लेकिन मैं तुम्हारी चूत को चॉकलेट या आईक्रीम लगा कर ही चाटना चाहता हूँ.

चाय मेरी ओर बढ़ाते हुए चाची ने कहा- तुम्हारी भैंस अब इतना ही दूध देती है. जब मैं नीचे आ गया, तो भाभी बोलने लगी- क्यों क्या हुआ … आज कैसे चुपचाप खाली खाली जा रहे हो … पार्टी ने टाइम नहीं दिया क्या?ये कहकर भाभी फिर मुस्कुरा दी. मैंने उसको मनाने की कोशिश की लेकिन वो न … न की रट लगाये हुए थी, जबकि मेरे मन में उसके लिए सेक्स का शैतान जाग चुका था.

मैं घर जाने लगी तभी वो बोला- कल सुबह कैसे जाओगी?मैंने कहा- बस से जाऊँगी.

ये सेक्स कहानी कैसी लगी, जरूर बताएं मैं पहली बार कहानी में लिख रहा, कुछ गलतियां होना लाजिमी हैं. मैं पहले कभी ऐसे मिलने नहीं गया था लेकिन अब हम दोनों क्लोज हो गए थे. मैं अपने बारे में बता दूं कि मैं एक बहुत ही मस्त और सेक्सी शरीर की मालकिन हूं.

मैं आधी सीढ़ियों पर था तो मैंने दीवार के साइड में रुक कर के उसे जाने का रास्ता दे दिया,मुझे देखकर वह मुस्कुराते हुए सीढ़ियों पर चल रही थी और मेरे लौड़े पर अपनी कमर को रगड़ती हुई निकल गई. मैं- अरे नसरीन तूने जो पैसे उधार लिए थे, वो अब दे दे … कब तक देगी?नसरीन- दीदी आप जानती हो, मैं अभी नहीं कर पाऊंगी … आपने मेरी इतनी हेल्प की है … मैं आपकी कर्जदार हूँ. और ऐसे ही मजाक मजाक में हम दोनों में बहुत अंदर की बातें भी होने लगी.

मेरी भाभी को बच्चा होने वाला है तो मुझे जाना पड़ेगा।कुछ देर बाद मीनू अपने वही बड़े गले वाली टीशर्ट पहन कर आ गयी और मेरे पास बैठ गयी.

वो मस्त होकर बोला- आह … खूब प्यार से चूस मेरी रंडी साली … बड़ी मस्त माल है तू. तभी मैंने मीनू को जगाया और पूछा- वो गोली किस चीज की थी?तो उसने कहा- वो तो सर दर्द और बैचेनी के लिए थी.

सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी अगले दिन ऑफिस के टॉयलेट में भी मैंने दो बार अपनी बहन के नाम की मुठ मारी. मैंने मोबाईल निकाल कर उनको दिया और कहा- देख लीजिए कैसी खातिरदारी की है मेरे भाईयों ने मेरी.

सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी मेरा दोस्त जिसका नाम पार्थिव है, वो एक होटल में मैनेजर है तथा मेरे मकान से करीब आधे किलोमीटर की दूरी पर ही किराये के मकान में रहता है. तभी मेरी नज़र एक टेबल पर गयी, जहां 6-7 लड़कियां बैठी हुई थीं और वे सब शायद किसी का बर्थडे सेलीब्रेट कर रही थीं.

आह … हाह … क्या मज़ा आ रहा था।थोड़ी देर में मेरे लंड ने अपना सारा माल ज़ाहरा के हाथ में ही छोड़ दिया.

सेक्सी पिक्चर भेजो सेक्सी वीडियो

मैं जब उसकी कोमल जांघों पर अपनी उंगलियों से सहला रहा था तो ऐसा लग रहा था जैसे उसके बदन से सेक्स की गर्मी निकल रही हो. मैं उसको अपनी बांहों में लेकर करीब पांच मिनट तक चूमता रहा, चाटता रहा. उसने लेटते ही अपनी स्कर्ट उतार दी और शर्ट के बदन खोल कर अपनी सफाचट चुत और मदमस्त चूचियां मेरे सामने खोल दीं.

उसके साथ मैंने किस तरह से मस्ती की और उसकी गांड चुदाई करने का मेरा अनुभव कैसा रहा वो मैं आपको अपनी अगली कहानियों में बताऊंगा. चल अपनी चूत फैला अब!उसने अपने लंड पर कंडोम लगाया और मां की टांगों को फैला दिया. होंठों से होंठ लड़ रहे थे और हमारी एक दूसरे की बांहें आपस में एक दूसरे को जकड़ रही थीं.

लेकिन एक डर सा था जो मुझे रोक रहा था कि कहीं ऐसा न हो भाभी नाराज हो जाएँ और मुझे निराश होना पड़े।काफी देर तक मैं भाभी को उठाये रहा.

उसने मेरे बारे में सब पूछा कि ‘कहाँ से हो और क्या कर रही हो?’मैंने सब बता दिया. चल अपनी चूत फैला अब!उसने अपने लंड पर कंडोम लगाया और मां की टांगों को फैला दिया. इसके लिए चिन्ना ने अगली बार करोना की चूची की एक घुंडी को टॉप के कपड़े के ऊपर से ही अपने खुरदुरे होठों में पकड़ लिया और दूसरी चूची की घुंडी को अपने एक हाथ ही चुटकी में पकड़ लिया.

उसकी चूत में मेरा लंड जैसे फंस सा गया था। धीरे-धीरे ही होंठों को चूसने और सहलाने पर उसका दर्द कम होता गया तो उसने भी मुझे अपनी बांहों में भर लिया. मैंने फिर से गर्म करने के लिए उसके होंठों और मम्मों पर किस करना स्टार्ट किया, जिससे वो मुझे अपने ऊपर खींचने लगी. दर्द के मारे करोना के आँखों से आंसू बह रहे थे और चिन्ना के मोटे काले टट्टे करोना की नाजुक गांड को जोर जोर से थपकाने लगे थे.

मैं पीठ के बल लेटा था, वो मेरे ऊपर उलटी होकर आ गई और पैर अलग कर कर मेरे मुँह पर अपनी बुर रख दी. अगले 30 सेकेंड में ही मेरा पूरा का पूरा लावा उसके मुँह में निकल गया.

यह मेरी खुद की कल्पना से लिखी कहानी है कि कैसे मैंने एक तरफा प्यार को पाया।मेरा नाम अंकित है और मैं एक लड़की से स्कूल के समय से काफी प्यार करता था. फिर मैं उसके चौतीस बी के बड़े गोलाकार चूचों को दबाने लगा और उनका रसपान करने लगा. नसरीन- दीदी मैं जल्दी नहीं कर पाउंगी, इसके बदले आप जो बोलोगी, मैं करूंगी … मुझे कुछ टाईम दो न.

यह मेरी पहली कहानी है और बिल्कुल सच्ची कहानी है इसमें जरा भी झूठ नहीं है.

मैं ये भी सोच रहा था कि दीदी अब तक अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुद चुकी हैं या नहीं. हालांकि हम लोग अब भी मिलते हैं, लेकिन मन में ना जाने किस बात का गिल्ट है कि वो पुरानी बात खत्म हो गई. कुछ ही दिनों के बाद उन दोनों का रिश्ता पक्का हो गया और वो दोनों प्रेम विवाह के बंधन में बंध गये.

बोली- आंह … ऐसा मज़ा तो आज तक मुझे किसी ने नहीं दिया … और चाटो साहेब … मेरी चुत में बड़ी आग लग रही है. गुड मॉर्निंग कहकर चिन्ना ने उसका अभिवादन किया और उसे नाश्ते के लिए आमंत्रित किया.

मैं तो शादी के बाद ही चुदाई करने वाला था, लेकिन ऑफिस के दोस्तों के बहकावे में आकर मैंने चुदाई करने का फैसला किया था. मगर करोना ने अपने आप एक एक करके दोनों पैर उठाए और स्लेक्स और पेंटी को अलविदा कह कर मादरजात नंगी हो गई. मुझे एकदम से उसके मस्त मुलायम मम्मों का स्पर्श मिला, तो मैं अन्दर तक गनगना गया.

इंग्लिश फिल्म सेक्सी एचडी वीडियो

आधे घंटे बाद मैंने नितिन को देखा, वह हाइटेड, गोरा, सेक्सी ट्रिम बियर्ड, एकदम फिट कपड़े पहने हुए था.

बैडरूम में अँधेरा था, अंदर जाने से पहले रीना ने थोड़ा जोर से आवाज़ लगायी- दादा … क्या आप अंदर हैं?कोई जवाब नहीं!रीना हिम्मत करके अंदर गयी. ये सोच कर ही मेरा दिमाग खराब हो गया। रात में मैंने उसकी बहन की फाड़ी थी अब वो मेरी फाड़ने आ रही थी।मैंने रूम से निकलने में ही भलाई समझी। मैं फटाफट रूम से बाहर निकल लिया। उसने मुझे गेट से निकलते हुये देख लिया तो ऊपर से आवाज लगाई. मेरी खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा, जब नसरीन ने अपनी बांहों से मेरी पीठ को जकड़ लिया.

बोतल में जो बची हुई दारू थी वो बोतल मैंने उठा ली और बाहर सड़क पर आकर घूमने लगा. इससे भी उसका मन नहीं भरा तो उन्होंने मेरे कूल्हों को उठाकर अपनी गोदी में रख लिया. सेक्सी बीएफ सनी लियोन की वीडियोमेरी गर्दन पर चुम्मियाँ लेने के साथ पीठ पर अपनी चूचियाँ रगड़ने लगी।मैंने बगल में देखा कि सभी साथी किसी न किसी के मुँह में मुँह डाल कर एक दूसरे की जीभ चूस रहे थे। चार लड़कियां भी आपस में एक दूसरे की चूचियाँ मसल रहीं थी।आधे घण्टे तक यही सब चलता रहा.

मैंने मौका देखकर पूरी ताकत से एक और झटका मारा, तो मेरा लंड नताशा की चूत को चीरता हुआ उसकी जड़ तक समा गया. चिन्ना जैसा औरतखोर चाहे कितना भी नरमी से पेश आ रहा था पर उसने पिछले दो दिनों में देख लिया था कि इस सांड के लण्ड को हर रात चूत का पानी चखने की आदत है.

उसका कहना था कि वो अपनी बीवी की चुदाई अपनी आंखों के सामने होते हुए देखना चाहता है. भाभी भी शायद मूड में थीं तो वो भी बिंदास अपनी चूचियों को दिखा कर मजा ले रही थीं. अगली बार रवि का हाथ जैसे ही जाँघों पर आया तो उसके हाथ मेरी नग्न जाँघों पर पडे़.

धीरे धीरे धक्के लगाते हुए मैंने ट्रिक से उसकी चूत में पूरा लंड उतार दिया और उसको दस मिनट तक चोदा. चिन्ना ने करोना की गांड के नीचे एक बड़ा सा तकिया लगाया जिससे उसकी नाजुक सी कुंवारी चूत का गुलाबी लसलसा मुँह कुछ और खुल गया. चोपड़ा ने मुझे किस किया और कहा- माल कहां है?मैं- जी अन्दर रूम में है.

मैंने उसके हाथों पर चॉकलेट को लगाया और मसाज करने के बाद उसको चाट चाट कर साफ कर दिया.

हम शादी से लौटे तो मुझे लगा कि मेरे पापा और मेरी बहन का व्यवहार आपस में बदल गया है. मैंने कहा- ये क्या हाल बना रखा है भाभी?भाभी बोली- पापा ने एक बार फिर से मेरी गांड मार ली.

जैसे ही वो भैया कहती तो मेरे लंड में और ज्यादा जोश भर जाता और मैं और तेजी के साथ उसके होंठों को चूसने लगता. मैं अपने लंड महाराज को उसकी चुत के द्वार तक ले जाने के लिए उसके दोनों पैरों के बीच में बैठ गया और उसके दोनों पैरों को अपनी कमर पर टिका दिया. मैंने अपनी बेटी की खुशी के लिए उसकी ननद का क्या इलाज किया? इस मजेदार सेक्सी स्टोरी का मजा लें.

ये मेरी एकट्रू सेक्स की स्टोरीहै … फ्रेंड्स प्लीज अपनी प्रतिक्रिया मुझे मेल करके जरूर दें. वो मेरी दूर की बहन लगती है तो उसका मेरे परिवार में आना जाना रहता था. उसने फिर जो कहा, उसे सुन कर मुझे बड़ा सुकून मिला और समझो मजा ही आ गया.

सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी जो उन्होंने ही मुझे बाद में बिस्तर में कबड्डी खेलते समय मेरे पूछने पर बताया था. वो सीधी बेड पर लेटी थी, मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर सैट किया और धीरे से एक धक्का मारा, जिससे मेरे लंड का टोपा सीधे उसकी गीली चूत में फिट हो गया.

औरत मर्द का सेक्सी वीडियो

सबसे बड़ी वाली का नाम रेणु, बीच वाली का कविता और सबसे छोटी वाली लड़की का नाम नेहा था. कुछ ही सेकेण्ड्स के बाद मेरे लंड ने संयम खो दिया और मेरे लंड से वीर्य निकल कर उसकी गांड पर पिचकारी मारने लगा. अभी तक करोना की कुंवारी चूत चड्डी में छुप कर चोदू चिन्ना की हरकतों की वजह से आंसू बहा रही थी.

रात को मैं नवीन जी घर डिनर बनाने गई, उस वक्त तक नवीन जी आए नहीं थे. यह सुन कर करोना ने हाथों से ढका अपना चेहरा पीछे घुमा लिया और जोर- जोर से सिर हिलाते हुए बोली- नहीं- 2 … मुझे नहीं देखना आपको नँगा. भोजपुरी में देहाती बीएफअचानक वार से चिन्ना गनगना उठा, उसके लण्ड ने एक झटका खाया जिसे करोना ने भी महसूस किया.

कभी उनको किस करता और उनके चूचों को सहलाता जा रहा था।काफी वक़्त हो गया था तो मैंने मैम से कहा- मैं अभी चलता हूँ.

मैंने पूछा- कैसा लग रहा है!तो उसने बोला कुछ नहीं और मेरे होंठों को अपने होंठों के बीच जोर से जकड़ लिया और चूसने लगी. आज चुदाई में बहुत मज़ा आ रहा था, मेरे लंड से पानी निकल ही नहीं रहा था.

करीब दस मिनट मुँह में लंड लेने के बाद वो बोली- अब और ना तड़पाओ … जल्दी से मेरी आग बुझा दो. हम दोनों खेलने के साथ बात कर रहे थे, तो उन्होंने अपने बारे में बताया था कि वो दिल्ली पेपर देने आई थीं और उनके पति हलवाई की शॉप चलाते हैं. [emailprotected]डर्टी सेक्स कहानी का अगला भाग:बड़ी बहन के साथ डर्टी सेक्स-2.

तब निधि ने मेरे लन्ड को पकड़ कर अपनी बुर की छेद पर रखा और मुझसे धक्का लगाने का इशारा किया।मैंने एक धक्का लगाया तो मुझे लगा कि मेरा लन्ड जैसे किसी चीज को चीरते हुए गरम भट्टी में चला गया है।निधि ने अपनी आँखें बंद कर ली थी, दर्द उसके चेहरे लर साफ दिखाई दे रहा था.

मैंने एक दिन पहले ही अपनी सब पैकिंग आदि कर ली और अगले दिन का जो भी काम था, वो सब भी निबटा लिया. फिर हम दोनों वापस आ गए।तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी काल्पनिक चुदाई कहानी? मुझे मेल करना न भूलें।[emailprotected]. अंधेरा होने के कारण कुछ ज्यादा दिखाई नहीं पड़ रहा था लेकिन मां की चूचियां लटकती हुई दिख गयी थीं.

हिंदी फिल्म दिखाओ बीएफरात को मैं नवीन जी घर डिनर बनाने गई, उस वक्त तक नवीन जी आए नहीं थे. जब वो बियर लेकर आई, तो मैंने उसे कहा- ये यहां रखो और अपनी आंखें बंद करो … तुम्हारे लिए एक गिफ्ट है.

बिहार के सेक्सी देहाती

मैंने आंगन में जाकर उसको फिर से दबोच लिया और उसको दीवार के साथ में सटा लिया. तभी मीनू ने लंड को छोड़ कर बैड पर लेट गयी और कहा- भाई, बस अब आखरी रास्ता यही बचा है कि. तुम मुझसे शादी करके खुश तो हो ना?नसरीन ने नज़रें झुकाए हुए अपने सर को हां में हिला दिया.

मैंने लंड को धीरे धीरे आगे पीछे करना शुरू किया, तो उसे और अच्छा लगा. उसकी चूत को चोदते हुए ऐसा आनंद मिला कि कुछ ही देर के बाद मैं झड़ने के करीब पहुंच गया. फिर हम लोग लेट गए क्योंकि हम दोनों थोड़ा थक गए थे इसलिए थोड़ा आराम करने लगे.

मैंने टी टी से गुजारिश भरे अंदाज से कहा- साहब, जो रिकार्डींग करी है, मुझे भी दे दीजिए. ये आवाज तेज हो पाती, उससे पहले ही मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और हम दोनों मजा लेने लगे. जब आंटी को इस बात का अहसास हुआ कि मेरी तोप गोला दागने से पहले ही फुस्स हो गयी है तो वो उठ कर बैठ गयीं.

अपनी मां की मोटी चूचियों और उनके नंगे बदन के बारे में सोच कर लंड को रगड़ता था और फिर वीर्य छोड़ कर सुकून मिलता था. मैंने निशा को गले लगाया और उसी तरह उससे बातें करने लगा- मैं तुमसे मोहब्बत करता हूँ … तुमसे कभी अलग नहीं होना चाहता.

ये बोल कर मैंने अपनी मां के मुंह में अपना लंड दे दिया और मेरी मां मेरे लंड को मस्ती में जोर जोर से चूसने लगी.

उसे भी मज़ा आने लगा था … वो भी कमर उठा कर मेरा साथ देने लगी। मैंने फिर मैंने अपने झटके तेज़ कर दिए। उसको मज़ा आने लगा और वो ‘आहहह … उम्म्म्म … आअह’ की आवाज़ें निकालने लगी।मुझे भी उसकी टाइट चूत में डालने में बहुत आनंद आ रहा था. भाभी देवर की चुदाई सेक्सी बीएफउसकी सेक्सी और कामुक सिसकारियां रूम के माहौल को और भी रोमांटिक बना रही थीं. हिंदी बीएफ रोमांटिकमैंने घर पहुंच कर बेल बजाई और दीदी कॉल पर बात करते हुए ही गेट खोलने के लिए आ गयी. जब मम्मी ने ऐसा बोला, तो मैं समझ गया कि कुछ गड़बड़ है ‘दया’ … कुछ गड़बड़ है.

बुआ ने अनिल को मेरे बारे में बताया और कहा- यह मेरी भतीजी पल्लवी है, और यहाँ पढ़ने के लिए आई है.

लेकिन एक दिन मेरी एक सहेली ने मुझे पढ़ने को एक किताब दी, जिसमें सेक्स का मजा दिया हुआ था. आपका नाम क्या है?मैंने उसके सवाल का कुछ जवाब नहीं दिया तो सुमित ने कहा- क्या हुआ मैडम? सिर्फ नाम ही तो पूछा है यार … उसमें क्या दिक्कत है?तो मैंने फिर मैंने गुस्से में कहा- मेरा नाम पल्लवी है कोई प्रॉब्लम?सुमित ने कहा- अरे यार पल्लवी … क्या हुआ … इतना क्यूँ गुस्सा हो, क्या बात है कोई टेंशन?मैंने कहा- यार, आधा घंटा हो गया बस का इंतज़ार करते … लेकिन बस नहीं आई. मैं पीठ के बल लेटा था, वो मेरे ऊपर उलटी होकर आ गई और पैर अलग कर कर मेरे मुँह पर अपनी बुर रख दी.

बहुत मनाने के बाद चाची ने मेरे लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगी. मैं बस बार बार उसको ही देखे जा रहा था और वो भी मुझे नोटिस कर रही थी. तो सेजल ने सोचा अगर उसके पति से कुछ नहीं हो रहा है तो क्यों ना वह उसके ससुर के साथ ही संबंध बना ले! हो सकता है कि उनको एक लड़का हो जाए।बलविंदर साहब पीछे अपने कपड़े बदल रहे थे वहां पर सेजल आयी और उन्हें पीछे पकड़ लिया। बलविंदर साहब ने कुछ भी नहीं बोला अब सेजल ने बलविंदर साहब को बेड पर गिरा दिया और उनके ऊपर बैठकर उनके छाती को चूमने लगी.

ইন্ডিয়ান সেক্স ফটো

मेरी तो किस्मत जैसे मुझ पर मेहरबान थी … जो मैं उससे बोलना चाहता था, वो उसने ही कह दिया. उसने वैसे ही मुझे बेड पर लेटा दिया और मेरी साड़ी ऊपर की और मेरे ऊपर चढ़ गया. कल्पना मुझे छोटे बच्चे की तरह अपनी चूचियों में दबा रही थी … और अपनी उंगलियां मेरे बालों में घुमा रही थी.

मेरी चालू मां जो कि अभी अंकल का लंड लेकर आई थी, उसको यह उंगली भी काफी अच्छी लग रही थी.

तू किताबों में अश्लील फोटो देखता है और मैं तेरे सामने आज एक खुली किताब बन कर आयी हूं.

मैंने उठ कर किचन से जाकर घी लिया और वापस आकर उंगली से उसकी गांड और अपने लंड को चिकना कर दिया. मैं बोला- रीना, आज सुबह से ही बहुत गर्मी है, अभी तो पूरा दिन है, तुम चाहो तो नहा लो।रीना- नहीं दादा, ठीक है, ज्यादा गर्मी नहीं लग रही मुझे!मैं- अरे देखो तुम्हारी कुर्ती पसीने से भीग रही है!रीना- ठीक है दादा, जाती हूं।रीना सकपका गयी कि मैंने उसकी अंडरआर्म्स के पसीने को नोटिस किया, इसीलिए वो जल्दी से बाथरूम में चली गयी. चूत की चुदाई बीएफ पिक्चरइस तरह दस मिनट तक सीमा ने अपने चूतड़ों से मेरी पूरी बॉडी की मसाज की.

मैंने उसकी तरफ देखा तो बोली- भैया आपकी ये छोटी सी चूची को मैं कैसे दबाऊं?मैंने बोला- चूसो न मजा आएगा. फिर भाभी ने चादर के अन्दर ही अपने कपड़े पहने और उतर कर टॉयलेट चली गईं. ऊंह… ऊंह की आवाज के साथ वो अपनी चूत में सहलाते हुए अपना चूचा दबा रही थी.

फिर मैंने दोबारा से बात शुरू करते हुए कहा- तुम्हारे पिताजी को गुजरे हुए काफी वक्त हो चुका है. फिर मैंने अपने हाथ बहू कमर पर ही रखे और उसकी कमर को पूरी रास्ते सहलाता रहा जिससे मेरा लंड महाराज भी जाग गये थे.

मैंने उसे आश्वासन दिया कि धीरे से करूंगा और अगर ज्यादा दर्द हुआ, तो लंड निकाल लूंगा.

तो उसने अपने हाथ पीछे ले जा कर उसको पकड़ कर बाहर खींचने की एक-दो हल्की सी कोशिश की।जैसे ही उसने मेरे लंड पर हाथ डाला, मुझे झटका सा लगा और मैंने उसकी गर्दन पर अपने होंठ जोर से दबा दिए।जब उसे एहसास हुआ कि उसने जिसको अभी पकड़ के हटाने की कोशिश की है वो मेरा औजार थ. जब भी कभी इरादा होगा तो तुम से ही मरवाऊंगी। अब चलो जल्दी बाहर निकालो और फिर से मुझे चोदना शुरू करो. मैंने उसकी गांड से निकल रहा अपने लंड का रस अपनी उंगली पर लगाया और उसके मुंह की ओर कर दिया.

इंडियन बीएफ लाइव धीरे धीरे लगभग पहली पीढ़ी में 50 बच्चों ने जन्म लिया, हमने वहीं अपना गाँव बना लिया, 100 बीघा में हमने फलों के बगीचे भी लगाये, बहुत सी गाय भैंसें भी खरीद ली गईं।हमने अपने सभी बच्चों की शादी भी आपस में करवा दी. विशु ने धीरे-धीरे मां के पैरों को किस करना चालू किया और धीमे-धीमे ऊपर की तरफ बढ़ने लगा.

और पुष्पा आंटी दूसरे लड़के का लन्ड पकड़ कर पैंट के ऊपर से ही हिला रही थी और वो लड़का मॉम की जीन्स की चैन खोलकर उसमे हाथ घुसाए था. दूसरा अगर मैं कहूंगा तो तुम चुदवाने से मना नहीं करोगी और तीसरा अगर तुम्हारी चुदवाने की इच्छा होगी तो बेझिझक चली आओगी. अम्मी के मुंह में लंड देने के बाद जल्दी ही मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

कपड़े कलर करने का तरीका

भाभी चुदासे स्वर में बोली- उसके बाद!मैं- मेरा लंड का साइज 8 इंच से थोड़ा ज्यादा बड़ा है … ये काफी मोटा भी है. मां अब उह्ह्ह् अह्ह ह्ह्छ उफ्फ की आवाजें निकाल रही थी और विशु मां के दूध चूस रहा था. मैं उसकी पूरी चूत को जुबान से चाटने लगा, उससे उसके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं.

इसके विपरीत वह धीरे धीरे प्यार से पटा कर करोना की मर्ज़ी से उसकी कुंवारी अनचुदी चूत का उद्धघाटन करने की फ़िराक में था. छोटी छोटी कार मेरे उभारों पर, मेरी नाभि, मेरे पेट, मेरी जाँघों और मेरी योनि पर घुमाते रहे.

मैंने मम्मी को बांहों में भरकर चूमते हुए कहा- रेनू, मेरी जान, मेरे बच्चे की मम्मी, आई लव यू.

जैसे ही मैंने अपना हाथ उसके दूध पर रखा, उसने तुरंत मेरे होंठ अपने मुँह में ले लिए और हम दोनों ऐसे ही बहुत देर तक एक दूसरे के होंठ चूमते रहे. आज भी मेरी बहन को थोड़ा सा दर्द हुआ … मुझे भी हुआ क्योंकि चमड़ी का जख्म अभी भरा नहीं था. मैं जान गया था कि इसका मन भी चुदाई के लिए कर रहा है लेकिन शरमा रही है.

झटके के साथ मीनू की आँख खुली और उसने अपने हाथ को मेरे लंड पर से एकदम हटा लिया और मुझसे नजरें चुराने लगी।सुबह हम मनाली पहुँच गए. इस समय हम इस तरह से चिपके हुए थे कि हवा भी बीच में से नहीं गुजर सकती थी. जैसा कि मैंने पहले लिखा कि मैं कॉलेज के टाइम से अंतर्वासना पढ़ रही हूं तो आप समझ ही गए होंगे कि मुझ में कितनी तीव्र यौन इच्छा और काम वासना भरी पड़ी है.

वो शावर लेकर आई थी और उसके बदन पर सिर्फ़ एक तौलिया ही था, जो उसके मोटे उठे हुए चुचों को मुश्किल से छुपा पा रहा था.

सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी: अब उसने मां की गांड को थोड़ा हवा में रखा और अपना लंड मां की चूत के अंदर बहुत तेजी से ऊपर नीचे करने लगा. वे खुश होते भी क्यों नहीं, आज बहुत दिन बाद घर में हर्ष वा उल्लास का माहौल था क्योंकि नया मेहमान जो आने वाला था.

मैंने ये सुनते ही अपना लंड भाभी की चूत पर सैट कर दिया और हल्का सा धक्का दे दिया. मैंने एक झटके में उसका टॉप उतार दिया, देखा कि सिम्मी ने एक सोने की पतली चैन पहनी है. दीदी मेरी तरफ पीठ करके सोई हुई थी और मैं भी उसी पोजीशन में नन्दिनी दीदी की तरफ मुँह करके सोया हुआ था.

45 मिनट तक घमासान चोदाई चलने के बाद रचना ने फिर से अपना पूरा शरीर टाइट कर लिया और अपनी चूत से गर्म पानी छोड़ने लगी.

कुछ देर बाद मैंने नसरीन की दोनों टांगों को फैला दिया और मोर्चा संभाल कर पोजीशन में बैठ गया. इस समय हम इस तरह से चिपके हुए थे कि हवा भी बीच में से नहीं गुजर सकती थी. उसके मुँह से ये सुनते ही मैंने अपनी बहन को घोड़ी बनाया और अपना लंड उसकी गांड के छेद पर रख कर थोड़ा सा जोर लगाया.