बीएफ लाइव वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी एचडी व्हिडिओ एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू पिक्चर डाउनलोड: बीएफ लाइव वीडियो, आकाश सर- डार्लिंग, मैं तुम्हारा इंतजार कर रहा हूं, वो भी केवल अपनी निक्कर में.

मारवाड़ी साड़ी वाली सेक्सी वीडियो

दूसरे दिन रोशन लाल मुझसे बोला- फार्महाउस आ जाना, कल से अलीज़ा की ड्यूटी वहीं करवा दी है. एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सी हिंदी मूवीमैंने जैसे ही अपनी उंगलियां मौसी की चूत पर रखीं, वो तो जैसे सिहर सी गईं.

मगर मैं क्या करता, तुम इतनी गजब की माल हो कि मैं अपने आप को रोक ही नहीं पाया. स्वागत की सेक्सीअभी थोड़ी देर ही हुए थे कि सरला फिर बोल पड़ी- आह मेरा होने वाला है.

मगर मुझसे चुदने के बाद आपको वादा करना होगा कि आप उसके बाद केवल मुझसे ही चुदोगी.बीएफ लाइव वीडियो: मैं तेजी से उंगली चला रहा था और वो मेरी जांघ पर अपने हाथ से दबाते हुए खुद को संभालने की कोशिश कर रही थी.

इससे पहले कि मैं कुछ और समझ पाती उसने मेरी चूत में एक जोर का धक्का लगा दिया.अम्मी कह रही थीं कि तू औलाद नहीं दे सकती, तो मैं फरहान की दूसरी शादी कर दूंगी.

हिंदी में सेक्सी वीडियो मजेदार - बीएफ लाइव वीडियो

मैंने भाभी के मुंह में जीभ डाल दी और वो भी मेरे मुंह में जीभ डाल कर मेरे थूक को अपने मुंह में लेने लगी.यहां तक कि मेरे पिताजी मेरी ही बीवी के साथ भाग जाने की बात करने लगे थे.

फिर मैंने बाथरूम में ही दीदी को कुतिया बना कर चोदा और नहाकर मैं अपने कमरे में आ गया. बीएफ लाइव वीडियो फिर डोरबेल बजी तो कोमल दीदी ने कहा- मैं देखती हूं, शायद मोनिका आ गई है.

मैंने धीरे से उसके कान के पास अपना मुंह ले जाकर कहा- ये अमृत मुझे अब दोबारा कब मिलेगा?वो बोली- जब आपका मन करे ले लेना.

बीएफ लाइव वीडियो?

उसने मुझे अपने से दूर नहीं होने दिया और उस टाइम उसकी आंखों में फिर से आंसू थे. मैंने कहा- प्रोपर्टी किसी और की हो पर मेरे जैसे मेहमान तो इसमें रह ही सकते हैं. क्या बताऊं दोस्तो, यहां मैं उस सलहज का नाम नहीं बता सकता क्योंकि उन्होंने नाम बताने से मना किया है.

मगर राजेश नहीं माना और ज़बरदस्ती अपना लंड उसने मेरे मुँह में ठेल दिया. उनके मुंह से सिसकारियां निकलना शुरू हो गयीं- अम्म … ऊह्ह … आह्स्स… करते वो मेरे मुंह को अपनी चूचियों में दबाने लगी. मैं अपने रूम में मंजू का वेट करने लगा और जैसे ही वो सफाई के लिए रूम में आई, तो मैंने उसे पकड़ लिया और उससे लिपट गया.

तभी दूसरे ने कहा- अरे उनमें से एक तो तुम्हारी रानी प्रीति थी और दूसरी एक लंबी मस्त सेक्सी लौंडिया थी. मैंने उसको रोका तो उसने मेरे हाथ झटक दिये और अगले ही पल मेरी पजामी खींच दी. बुआ ने भी मुझे आगे खींच लिया और खुद कुर्सी से उठ कर मुझे बिठा कर मेरी गोद में बैठ गईं.

रजाई में हमारी गर्म सांसें एक-दूसरे से टकरा रही थीं। हमारे जिस्मों को एक दूसरे के जिस्म की गर्मी मिल रही थी।इस बीच उन्होंने कब अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया मुझे पता ही नहीं चला. उस दिन मैंने फर्स्ट टाइम किसी लड़के लंड को उसकी पैंट में खड़ा हुआ देखा था.

उसने मेरे लंड को फिर से मुंह में ले लिया और चूस चूस कर खड़ा कर दिया.

हम तीनों के अंदर ही एक अलग ही उत्तेजना पैदा हो रही थी एक दूसरे को इस हालत में देखते हुए.

मेरी दो दिन की छुट्टी ही बाकी थी, तो बिना अमिता से मिले और बिना बात किए मुझे शहर वापस आना पड़ा. एक दो बार मेरी नजर अमन से भी टकरायी और हम एक दूसरे को देखकर मुस्कराये. अभी मेरे सामने जीजा जी दीदी को चोद रहे थे और जीजा जी के धक्के मारने की स्पीड भी कम थी.

मगर फिर भी उन सबकी सुंदरता मेकअप से उत्पन्न थी लेकिन पारुल और साधना के शरीर की सुंदरता गजब की थी. कुछ देर चुदवाने के बाद वो भी शांत होकर मौसा जी के सीने पर ढेर हो गईं. तब जीजा जी दीदी के पास लेटे हुए कैमरे में रिकॉर्ड की हुई भाई बहन की चुदाई फिल्म को चैक कर रहे थे.

वो अब भी मेरे जिस्म को चूम रहा था।उसने मुझे उल्टा किया और मेरे बदन को पीछे से चूमने लगा.

एक दिन रीना ने हम दोनों को इशारे करते हुए देख लिया और पूछा- ये सब क्या हो रहा है?मैं हड़बड़ा कर बोला- कुछ नहीं … तुम अपना पढ़ने में ध्यान दो. दो-तीन मिनट किस करने के बाद मैंने दीदी की चुत में लंड सैट किया और दीदी घचाक से लंड पर बैठ गई. रेखा की हरकतों से मुझे भी जोश आ गया और मैंने फुल स्पीड से चुदाई शुरू दी.

दीदी को बेड पर सीधा लेटाया और उनकी चूची को निशाना बनाकर एक चूची को हाथ से दबाने लगा. कुछ देर में जब मुझसे नहीं रुका गया, तो मैंने अपना पजामा और अंडरवियर उतारा और अन्दर बाथरूम में घुस गया. वो सुबह आती और अपनी बुर चुदवा कर फिर साड़ी को हाथ में लेकर ही जाती.

ब्रदर सिस्टर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी सेक्सी ममेरी बहन की चुदाई की.

मैं अपना लंड, सुपारे तक बाहर निकालता और तुरंत 3-4 इंच अन्दर डाल देता. अगर आप कहो तो मैं आपके लिये चाय बना देता हूं?मैंने भाभी पर लाइन मारने की कोशिश की.

बीएफ लाइव वीडियो मैंने फिर से उनसे कहा- मनीषा रानी मेरा लंड अपने मुँह में फिर ले लो. इंडियन आंटी सेक्स स्टोरी मुझे आप लोगों की प्रतिक्रियाओं का बेसब्री से इंतजार रहेगा.

बीएफ लाइव वीडियो मगर फिर बाद में पूरी कहानी पढ़ी तो पता लगा कि लोग बहन को भी चोद देते हैं. पांच मिनट तक बुआ के होंठों का रसपान करने के और चूची मसलने के बाद मैं उनको उठाकर अन्दर बेडरूम में ले गया.

कहने का मतलब कि मेरी वर्जिनिटी दीदी की चूत चुदाई के साथ ही टूट गयी थी.

ब्लू पिक्चर ब्लू पिक्चर दिखाएं

मैं उसके साफ दिल प्यार से बहुत प्रभावित हुई और मैंने उसको अपने सीने से लगा लिया. थोड़ी देर तक पड़े रहने के बाद मैं उठ कर निगार आंटी के बाजू में लेट गया. फिर शाहिद ने मेरी टांग हवा में ऊपर उठा ली और मेरी चूत में साइड से लंड पेल दिया.

मेरी मामी बहुत खूबसूरत है, बिल्कुल एक अप्सरा जैसी। उनकी उम्र मामाजी से थोड़ी कम है। उनके बदन का एक एक हिस्सा मानो आग में ताप पाकर सोने सा निखरा हो। उनके होंठ जैसे प्यास बुझाने वाली शीतल जल की धारा हों। मामी के वक्ष ऐसे जिनकी गहराई से बाहर निकलना संभव ही न हो. मैं भी छत पर चला गया, तो भाभी कुर्सी पर बैठी थीं … और शायद रो रही थीं. पीछे से आकर विक्रांत ने मुझे हग कर लिया और मेरे बूब्स को दबाने लगा.

उनकी हंसी देखकर मैंने अपना लंड उनकी चूत से बाहर निकाला और उनके मुँह में डाल दिया.

अब आंखें उसके जिस्म के दीदार के लिये मचल गयी थीं जिनमें निशा के प्रति वासना ही वासना थी. खाना होने के बाद मैंने पूछा- अब बताइए?उन्होंने कहा कि मैं तुमसे जो बात करूंगी … वादा करो, किसी को नहीं बताओगे … और तुम मेरी मदद करोगे. ताकत मिलेगी।मैं समझ गई कि कि वो इस पेय में ताकत वाली दवा मिलाकर लाया है। मैं उसे पीने लगी। उसका टेस्ट मुझे थोड़ा कड़वा लगा। खैर, मैं पूरी बोतल गटक गई।आगे मेरे साथ क्या होता है, सात लोग मेरी चुदाई कैसे करते हैं.

मैंने पूछा- बुरा मत मानना, लेकिन मैं ये जान सकता हूँ कि मैं ही क्यूँ? तुमको तो तुम्हारी उम्र के बहुत से लड़के मिल जाएँगे और तुमको बहुत सारा प्यार भी करेंगे. अब तुम्हारी बहन ही तुमको चोदना सिखाएगी।इसके बाद दीदी ने मेरे सारे कपड़े निकाल कर मुझे नंगा कर दिया. मुझे इतना मजा आ रहा था कि मेरे मुंह से बहुत कामुक सिसकारियां निकल रही थीं- अह्हह … इशस्स् … आ्हह दीदी … उम्म … दीदी … ओह्ह.

थोड़ी देर बाद रोहित की कॉल आयी लेकिन मैंने रिसीव नहीं की।दो तीन और कॉल आने के बाद कॉल आना बंद हो गयी।उसके कुछ देर बाद रोहित आया और बोला- भाभी बहुत नखरे कर रही हो? आपका प्यार देवर आपको प्यार करना चाहता है। और एक आप हो कि कुछ रिसपॉन्स ही नहीं दे रही हो।मुझे घर के अन्दर डर लगता है।”ठीक है. मैं सोच ही रही थी कि वो बोल पड़ा- क्या हम यहां पर थोड़ी देर बैठ सकते हैं?उसने छत पर एक तरफ बने स्टोर रूम की ओर इशारा करते हुए कहा.

मैंने उसको अपने पास खींचा और उसके होंठों पर किस करते हुए कोमल दीदी के साथ उसे भी टेबल पर लेटा दिया. माँ लण्ड को एडजस्ट करने के लिए संघर्ष कर रही थी क्योंकि रघु के मुकाबले मेरा लण्ड दोगुना था. मैंने लंड का सारा माल निगार आंटी की चुत में ही निकाल दिया और हम दोनों ऐसे ही एक दूसरे के ऊपर पड़े रहे.

उनकी फिगर इतनी ज्यादा फिट है कि वो उम्र से बीस इक्कीस साल की ही दिखती हैं.

मेरी मॉम वंदना और पापा गौरव दोनों ही वर्किंग पर्सन हैं और एक ही फर्म में जॉब करते हैं. पहले तो मुझे गुस्सा आया लेकिन फिर मैंने खुद को समझाया कि आंटी के भाई कहने से मुझे क्या फर्क है. क्यों न उसको बस में ही चोद लूं?बिना देर किये मैंने पूछा- अच्छा, कौन सी गाड़ी से जा रही हो?सीमा- सुबह वाली रोडवेज में।मैं बोला- मेरे पास तुमसे मिलने का प्लान है, तुम सुबह वाली बस में मत जाना, कल शाम के बाद जाना, वो भी स्लीपर में।वो समझ गयी कि मेरा इरादा क्या है और बस में उसके साथ क्या होने वाला है!वो बोली- अरे वाह शैतान … अच्छा दिमाग लगाया.

मैं ये खास कर उन भाभियों के लिए शेयर कर रहा हूँ, जिनको सेक्स में ज्यादा दिलचस्पी हैआज मैं आपको अपनी और मेरी मामी की वो अन्तर्वासना मामी की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हूँ. वो भलभला कर झड़ उठी और उसका गर्म गर्म पानी मेरे लंड को महसूस होने लगा था.

मैं उनका इशारा समझ गई और टेबल पर रखे पर्स से बीस हजार रूपए निकाल कर मुकेश जी को दिखाते हुए कमरे से जाने का पूछा. छुट्टी के समय उसके निकलने से पहले मैंने उसको कहा- घर आते हुए एक मेडिकल स्टोर से कॉन्डम का एक पैकेट ले आना. बस अपनी रफ्तार से दौड़ रही थी और अंदर हम दोनों की प्यार की बारिश हो रही थी.

बलात्कार बीएफ

लेकिन मैंने अपना पूरा लंड मामी के मुँह में डालकर उनके मुँह को तब तक चोदा, जब तक मेरे लंड माल उनके मुँह में फच्च फच्च करके झड़ नहीं गया.

मैं भी कहता- तुम ही गर्लफ्रेंड बन जाओ न!तो वो बोलती कि मैं तो तुम्हारी और तुम्हारी फैमिली मेड हूँ … मुझमें अब क्या मजा बचा है. चूत में लंड लेने से इतना मजा आता है तो फिर मैं भी क्यों न एक बार ऐसा ही मजा लूं. मगर आज भी उसको याद करता हूं तो मन एकदम से जैसे ताजगी से भर जाता है.

मैं बस इस फिराक में था कि कब मुझे उनसे मिलने का मौका मिले और आंटी की चूत चुदाई का मजा ले सकूं. मुझे लवली की शादी के पहले की जिन्दगी के बारे में भी पता लगा कि किस तरह से वो शादी से पहले कॉलेज में ही चूत मरवाने लगी थी. फिल्मी सेक्सी फिल्में सेक्सीरूम में आकर मैंने फिर से कैमरा सेट कर दिया और एक बार फिर से पूजा की चुदाई शुरू कर दी.

दीदी हंसते हुए बोलीं- हां … आज तुम्हारा जोश देख कर मैं समझ गई थी कि तुम्हें चुत से मूत टपकते देख कर कितना मज़ा आया था. मैं भी आवाज करके उसकी चूत चाटने लगा और उसके पैरों को अपनी पीठ पर करके उसे हवा में उठा कर उसकी चूत चूसने लगा.

मैंने उसकी गांड अपने हाथों से पकड़ी हुई थी और अपना मुंह चुदवा रही थी. आंटी मेरे लंड को देख कर बोली- तुम्हारे यहां खतना करवाते हैं!मैं बोला- हां।वो बोली- तो फिर खाल तो पीछे करने का कोई झंझट ही नहीं. पापा बोले- क्या हो गया अब?मां बोली- ये दोनों कहीं भी शुरू हो जाते हैं.

पापा बोले- पहले चुदाई का मजा तो ले लो हमारे साथ में! बाजार में बाद में चले जाना. अंकल पूछने लगे- नीचे वाले फ्लोर पर रहोगे या सेकेंड फ्लोर पर?मैं बोला- सेकेंड फ्लोर पर. आपका राज[emailprotected]भाई बहन की चुदाई कहानी का अगला भाग:जीजा ने भाई से बहन की चूत चुदवाई-5.

उसके बाद बाहर आकर भाभी मेरे लंड को पकड़ कर बोली- ये तो बहुत काम की चीज है रे! मेरे ही घर में इतना दमदार लंड था और मुझे पता ही नहीं चला.

वो फिर भी मना करने लगीं, पर मैं नहीं माना और अपना लंड मामी के मुँह में दे दिया. भाभी कहने लगीं- नहीं … मैंने आज तक गांड नहीं मरवाई है … बहुत दर्द होगा.

मैंने अपने फोन में बांसुरी की धुन लगा दी और आंटी के पैरों की मालिश करने लग गया. लवली कहने लगी- आशीष अब सब जान गये हैं और ये तभी राज़ी होगें जब उनको कोई चूत मिले. चूंकि सर और मैडम की आशिकी के चर्चे मेरे स्कूल में दाखिला लेने से पहले से ही चले आ रहे थे.

मैंने सोच लिया कि इस लंड को अगर मैंने मौसी से छीन न लिया तो मेरा नाम भी कल्पना नहीं है. वो बोली- मुझे भी जो मजा तेरे लंड से चुदने में आता है वो दुनिया के किसी और मर्द के लंड से चुदने में नहीं आ सकता है. होटल वाले को पहले ही बता दिया गया था इसलिए उसने पहले से ही रूम को सजा कर रखा हुआ था.

बीएफ लाइव वीडियो मैं उनके मम्मे मसलता हुआ ज़ोर ज़ोर से दोस्त की सास की चुदाई कर कर रहा था. वरना मैं अपने पति के अलावा किसी और के साथ सोने के बारे में सोच भी नहीं सकती हूं.

सेक्सी फिल्म ब्लू सेक्सी ब्लू

तब तक के लिए आप भी अन्तर्वासना पर गर्म-गर्म हिंदी सेक्सी कहानी का मजा लेते रहें, जैसे मैं लेता रहता हूं. रोशन लाल ने यह सुनते ही अलीज़ा की ब्रा फाड़ दी और बोला- भोसड़ी वाली मादरचोदी … आज तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा. मैंने कहा- ठीक है आंटी … मैं सुबह आ कर सामान ले लूँगा और प्रीति को दे आऊंगा.

मौसी और मेरे होंठ आपस में मिल गये और मैंने जोर जोर से मौसी के होंठों को पीना शुरू कर दिया. फिर उसने बताया कि उसका पति एक नामर्द है … उसका लिंग एक बच्चे की तरह है … दो इंच से भी कम का है … उससे शादी होने के बाद मेरी जिंदगी बर्बाद हो गई है … पर मैं वापस लौट करके मेरे पीहर भी नहीं जा सकती थी. कार्टून सेक्सी सविता भाभीमैंने भी जल्दी से ड्रिंक खत्म की और बताया कि इसी होटल के किसी कमरे में चलें?मेरी सलहज ने हामी भर दी लेकिन मुझसे कहा- कमरे का पेमेंट मैं करूंगी.

अब्बू जब मैं बाथरूम में नहा रही थी, तो मैं उस समय यही सोच रही थी कि काश मेरे अब्बू बाथरूम में आकर अपनी आरज़ू बिटिया को खूब पेल दें.

दरवाजा खोलते हुए वो बोली- बड़ी जल्दी है, तुम्हें तो दूध ले जाने की?मैंने कहा- हां भाभी, दूध पीना तो मेरा पसंदीदा काम है. कुछ देर बाद मैंने लंड चुत से बाहर निकालकर फिर से एकदम से डाला, तो वो चिल्ला पड़ीं.

जब फंक्शन में मैंने आपको देखा था, तो आप मुझे भरोसेमंद और अच्छे लगे थे. रूम में आकर मैंने फिर से कैमरा सेट कर दिया और एक बार फिर से पूजा की चुदाई शुरू कर दी. कुछ देर बाद मैं स्टेज पर अपने दोस्त के साथ बैठा हुआ बातें कर रहा था.

मेरी आंखों के सामने जैसे मेरी मां की चुदाई का वो सीन अभी भी लाइव चल रहा था.

मैंने सोच लिया कि यह गलत जरूर है, लेकिन अब मुझे दीदी की मदद तो करनी ही होगी. इस काल्पनिक सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि जिया की गांड में जब पहली बार लंड गया तो उसको कैसा लगा और उसका अनुभव कैसा रहा गांड मरवाने का. चूत और लंड के मिलन और दोनों के वीर्य के मिश्रण से नीचे का एरिया पूरा गीला हो गया.

लड़का लड़की का सेक्सी वीडियो एचडीमैंने कहा- मगर तुमको मेरे बारे में किसने बताया?शायना बोली- मेरी एक सहेली ने ये सलाह दी थी कि अगर मैं किसी शादीशुदा उम्रदराज मर्द को पटा लूं तो किसी को मालूम भी नहीं चलेगा और चुदाई का मज़ा भी मिलता रहेगा. जब बहू की चूत में मेरे लंड के धक्के लग रहे थे तो उसकी गोल गोल बॉल के जैसी सफेद चूचियां आगे पीछे डोल रही थीं.

हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी

मैं कुछ ज्यादा ही झुक कर बैठी थी तो उसे मेरे मम्मे साफ़ दिखने लगे थे. मैडम की आवाज़ आई- सर, आज सारा कुछ यहीं कर लेंगे … या उसी वाले कमरे में चलेंगे. मैंने कहा- पहले मुझे जरा बाथरूम जाना है, उधर से आकर अभी सामान निकाल देता हूँ.

एक दिन पिंकी नेल पॉलिश लगा रही थी और मैं बाजार से कुछ सामान लेने बाइक पर जाने की तैयारी कर रहा था. मैंने उनके ऊपर सीधे चुदाई की पोजीशन में आकर उनके दोनों पैर पकड़ कर फैला दिए और फिर से उनकी गुलाब चूत के अन्दर जीभ डाल कर चाटना शुरू कर दिया. कुछ देर के बाद लंड ने चुत पर फ़तेह हासिल कर ली और काफी अन्दर घुस गया.

वो बोली- तुझे इसका कुछ इलाज नहीं मिला क्या?मैं बोला- जब इलाज घर में ही है तो मैं कहीं बाहर ढूंढने के लिए क्यों जाऊं?इतने में ही मां किचन में आ गयी. उनको दर्द हो रहा था मगर वो मेरे प्यार के वशीभूत होकर सारा दर्द बर्दाश्त कर ले रही थी. थोड़ी देर बाद मुझे अहसास हुआ, जैसे मौसी मेरे मम्मों को सहला रही हों.

लवली मेरे लंड को चूसने लगी और मैंने वहीं पर उसकी टांग उठा कर उसकी चूत में लंड पेल दिया और उसकी चूत वहीं पर चोदने लगा. मुझे एक बार ट्राई करके देखना चाहिए कि सेक्स में ऐसा क्या मजा आता है.

तो उसने मेड को बताया कि मैं उसके मायके से उसके लिए करवाचौथ की सरगी ले कर आया हूँ.

अब मैंने उसकी पैंटी को भी उसकी जांघों से सरकाते हुए नीचे पैरों में लाकर निकाल दिया. हिंदी में सेक्सी सुहागरात कीउसे देखते ही मैं समझ चुका था कि यह अब मेरे सभी चीजों में निगरानी रखेगी और कोई भी चूक होने पर यह घर वालों को बता देगी. ब्रांड सेक्सीउसके बाद सुमित मेरी पैंटी को अपने दांतों से पकड़ने लगा और खींचने लगा. मैंने उनसे कहा- मेरा लंड बड़ा लग रहा है?बुआ ने भी चुदाई की खुमारी में मेरे लंड को पकड़ कर मसला और कहा- हां तेरा लंड बहुत बड़ा है.

मैंने देखा कि दीदी की चूचियों का साइज अब पहले से काफी बड़ा हो गया था.

इस बार मनोहर ने मुझे उठाया और हम दोनों एक दूसरे की ओर मुंह करके बेड से नीचे जमीन पर खड़े हो गये. कपड़े वाशिंग मशीन में डाल कर हम दोनों कक्ष में आकर ऐसे ही जांघिया पहने हुए लेट गये. इस तरह हम भोपाल से अच्छे बहाने के साथ वापस घर आ गए। घर आने के बाद अब मुझे राहत मिल चुकी थी.

उन दोनों की बातें सुनकर मैं कोई हैरान नहीं था, लेकिन फिर भी मैंने कहा- यार शर्म करो … वो प्रिया जी मेरी सीनियर हैं. उसके मम्मों को देख कर मुझे बाहर से ही लग रहा था कि मानो सनी लियोनी के बूब्स हैं. थोड़ी देर बाद मैंने अपना लंड बुआ की चूत से बाहर निकाला और उनकी चूत को चाट चाट कर साफ कर दिया.

लंड से चूत चुदाई

मैंने कहा- ये तो मेरा सौभाग्य है कि आपने मुझे इस लायक समझा लेकिन मेरी और आपकी उम्र मे बहुत अंतर है और फिर मैं शादीशुदा भी हूँ, बच्चों वाला हूँ. फिर वो मेरे मुंह में जीभ डालकर फिराने लगी। मैं इतना आनन्द से भर गया कि उसके होंठों को ही काट दिया।उसकी चीख निकल गई. मैं उसके साथ अभी किसी तरह की जोर जबरदस्ती नहीं कर सकता था इसलिए मैंने दूसरे राउंड का खयाल छोड़ दिया.

मैंने जोरदार मुठ मारी और लगभग 15 मिनट तक लौड़े को हाथ में लेकर रगड़ने के बाद मेरे वीर्य की धार छूटी.

ललिता के ऊपर झुकते हुए मैंने अपने दोनों हाथ उसकी छाती के पास टिकाये और फिर से ठोकर मारी तो आधा लण्ड ललिता की चूत के अन्दर हो गया.

लैगी में उनकी जांघें देख कर मेरा लंड और भी सख्त हो गया, जो शायद चाची ने देख लिया था. मुझे उसकी इस बात पर थोड़ा गुस्सा आया और मैंने उसको थोड़ा मुँह बना कर देखा।अब वो समझ गया कि मुझे उसकी बात अच्छी नहीं लगी. एक्स एक्स एक्स इंग्लिश में सेक्सीएक टैक्सी आई हुई थी, वे दोनों उसमें बैठ गए और मैंने उन्हें जाते हुए देखा.

मैंने पहले ही आपको बताया था कि भाभी की गांड बहुत बड़ी और सेक्सी थी, इस वजह से उनकी गांड मेरे हाथ में अच्छे से नहीं आ रही थी. मैंने उसे समझाया कि अभी कुछ देर में दर्द भी शांत हो जाएगा और मज़ा भी आएगा. अलीज़ा मुझे देख कर चौंक गई और बोली- अंजलि तू यहां?मैं बोली- क्यों बहुत रौब झाड़ती थी ना … तूने मुझसे लड़ाई की थी … उस वक्त भी मैं तुझसे बोली थी कि तुझे छोडूँगी नहीं … मैंने सब देख लिया कि रोशन लाल तुझे कैसे रगड़ा है.

जिससे मेरी शादी होगी वो कौन सा कुँवारा बैठा होगा? वो भी कहीं मज़े ले रहा होगा, तो मैं क्यूँ नहीं ले सकती? मैं अपनी जवानी को इंतज़ार नहीं करवा सकती. मैंने उसे झटके से नीचे किया क्योंकि मैं भी झड़ने वाला था और माल उसके अन्दर छोड़ना चाह रहा था इसलिए मैं तेजी से उसे चोद रहा था.

मैं तो वहीं पर खड़ा होकर लंड को हिलाने लगा और दो मिनट में ही फिर से लंड में तनाव आना शुरू हो गया.

उसने मम्मों पर केवल कप रखे थे … चैन खुलते ही वो नीचे गिर गए और उसके चूचे आजाद हो गए. वो मेरी गर्लफ्रेंड की सीनियर प्रिया थी, उसने मुझे अपने रूम पर अपनी तड़प मिटाने बुलाया था और भी मैंने भी उस दिन प्रीति से उपजी नफरत के चलते बखूबी से प्रिया को चोद कर अपना किरदार निभाया था. वो कैसे चुदी?दोस्तो, मेरी नयी कहानी मामी की पड़ोसन सहेली की चुदाई की है.

सेक्सी मूवी चीन की उसके बाद फिर रात को डिनर करने के बाद हम 9 बजे वापस अपने पेंटहाऊस में पहुंचे. वो मेरी चूत की गर्मी को अब ज्यादा देर बर्दाश्त नहीं कर पाया और फिर मेरी चूत में ही झड़ने लगा.

पहली बार चूत को चोदने का वो मजा मैं यहां पर शब्दों में नहीं लिख सकता हूं. मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि एक अन्जान भाभी मुझे मिली और उसने मुझे नम्बर भी दे दिया है. उसके बाद प्रिया का तो इंडिया से बाहर इसी होटल की दूसरी ब्रांच में प्रमोशन हो गया, तो वो भी चली गयी.

देसी हिंदी वीडियो सेक्स

मैं ऊपर बढ़ कर पैर फिर जांघ और उसके बाद सीधे ऊपर फेस पर चला गया और होंठ चूसने लगा. धीरे धीरे करके अब मैं रोज़ाना किताब पढ़ने लगा और रोज ही बहन की पैंटी में मुठ मारने लगा. इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी पर कमेंट्स में बताना और मुझे ईमेल भी करना।[emailprotected].

मैं समझ गया कि आधा काम हो गया और बाकी आधा उसके कपड़े उतारने पर हो जाएगा क्योंकि उसने केवल 4 कपड़े पहने हुए थे और सवाल 8 थे. उसके बाद भाभी मेरे गले से लगीं और कहने लगीं- अब मैं हमेशा के लिए आपकी हूँ.

कुछ देर यूं ही चोदने के बाद मैंने दीदी को घोड़ी बना दिया और दीदी की मस्त गांड पर चपत लगाकर पीछे से उनकी गांड में लंड घुसा कर जोरों से कमर पकड़कर धक्के मारने लगा.

एक तरफ तो वह मेरी चूत पर हमला कर रहा था और दूसरी तरफ मेरी चूचियों को बुरी तरह से निचोड़ निचोड़ कर पी रहा था. मैं अपनी सहेली सपना और उसके भाई के सेक्स रिश्तों के बारे में सोचने लगी. बिना किसी लिहाज के और मैं भी तुमसे कुछ ऐसे प्रश्न पूछूंगा, जो हो सकता है, तुम्हें अजीब लगें.

वहाँ काफ़ी रोमांटिक म्यूजिक बज रहा था जिस पर हमने साथ में डांस किया।फिर उसने मुझे ड्रिंक दिया और हम नज़ारे देखने लगे और उस वक्त का मज़ा लेने लगे।कुछ देर बाद उसने अचानक मुझे अपनी बांहों में उठा लिया और टैरेस की दूसरी तरफ़ ले गया. हाँ मेरे लिए नया अनुभव ये था कि मैं पहली बार कोई कुंवारी चूत चोदने वाला था. इतना कहकर मैंने अपना कोट उतारा और टेबल के नीचे जाकर उसकी टांगों को सहलाने चूमने लगा.

फिर एकदम से वो पूछने लगी- ऐसा सच में होता है क्या?मैंने भी सही मौका पाकर बोल दिया- अगर बहन तुम्हारे जैसी सेक्सी फीगर वाली हो तो बिल्कुल हो सकता है.

बीएफ लाइव वीडियो: )कमर तो ऐसी है कि एक बार हाथ लगाओ तो बस हटाने का मन ही न करे, इतनी भरी हुई और गदराई हुई।और अब दिल थाम कर बैठ जायें. मैंने उनके गालों को चूमते हुए उनके कान में फुसफुसाहट भरी आवाज में कहा- मुझे आपकी चुत चोदना है.

उन्होंने गाउन पहना था, तो मैं गाउन के ऊपर से ही उनके चुचों को दबाने लगा. मैंने ये सुनकर एक तेज शॉट लगाया और लंड चूत को चीरता हुआ अन्दर गहराई में चला गया. मैं और लवली दोनों ही पीछे वाले कमरे में चले गये और नंगे होकर एक दूसरे को चूमने चाटने लगे.

मेरी ये बात दीदी के दिल को छू गई और उसी पल दीदी मेरे होंठों को चूमने लगीं.

मैं दावे के साथ कह सकती थी कि अच्छा खासा नौजवान भी उस वक्त मौसा का मुकाबला नहीं कर सकता था. उसको देख कर मुझे शक हो गया कि मेरी बीवी की चुदाई किन्हीं गैर मर्दों से शादी के पहले ही हो चुकी है. यही नहीं मेरी पत्नी भी की चूत भी किसी अन्जान लड़के के नीचे पेली जा रही थी और वो दोनों मां-बेटी खूब मजा ले रही थी.