बीएफ चोदा चोदी 2020

छवि स्रोत,छोटा चश्मा

तस्वीर का शीर्षक ,

फोटो लडकी फेसबुक: बीएफ चोदा चोदी 2020, वहां काफी देर घूमने और कुछ झूले झूलने के बाद हम दोनों वहां से निकल आए.

सेक्सी वीडियो मराठी ओपन

वो वीर्य निकलने के बाद भी रुका नहीं और मुंह को लंड पर चलाता ही रहा. विडमेट ४जीसीधी बात यह है कि उसका छोटा सा लण्ड था, जब तक मेरी चुदास जगे, तब तक वो डिस्चार्ज हो जाता था.

वासना की आग में आज एक बड़े घर की अमीर औरत पूरी नंगी होकर किसी टॉयलेट में एक चपरासी का लौड़ा चूस रही थी. सुपरहिट सेक्सलंड का सुपारा चुत की फांकों में जैसे ही फंसा, मैंने एक जोर का धक्का लगा दिया.

उसके 42 इंच के चूतड़ों को देख कर ऐसा लगता है, जैसे 2 तरबूज काट कर गांड के छेद के दोनों तरफ चिपका दिए गए हों.बीएफ चोदा चोदी 2020: मेरा संदेश पाकर वो चहक उठी और उसने तुरंत रिप्लाई किया- बहुत जल्दी रेस्पॉन्स कर दिए साहब.

आपको इंडियन देसी सेक्स गर्ल सेक्स कहानी कैसी लगी, बताने के लिए मुझे मेरी मेल आईडी पर मेल करें.सोनम भी तिरछी आंखों से उसके लौड़े की झलकियां कई बार ले चुकी थी और उसकी गीली चुत अन्दर ही अन्दर उसको बोल रही थी कि रंडी अब ये नाटक बंद कर और ले ले ये लौड़ा मेरे अन्दर.

सेक्सी वीडियो फिल्म पिक्चर - बीएफ चोदा चोदी 2020

ये किसी बहुत बड़ी बिल्डिंग का ठेका था जिसको वो छोड़ नहीं सकते थे।फिर वो बोले- मेरी जगह समीर को ले जाओ, वहां वो तुम्हारे साथ कुछ मदद ही कर देगा.ऐसे किसी को पता चल गया तो लोग क्या सोचेंगे हमारे बारे में?तभी मैंने उससे पूछा- और कहीं ऐसी जगह हो जहां कोई जानता ही नहीं हो तो?नेहा ने मेरी तरफ आश्चर्य से देखते हुए पूछा- मतलब?मैं- मतलब यह कि यदि हम अपनी जान-पहचान में न करके कहीं बाहरी आदमी से करें तो न हमें किसी तरह की शर्म होगी न कोई जान-पहचान का डर.

वो बोलीं- मेरे राजा, बाथरूम में जाने की क्या जरूरत है, अपने लंड का रस तुम मेरे मुँह में ही गिरा दो ना!मैंने आंखें बंद कर लीं और भाभी को लंड चूसने दिया. बीएफ चोदा चोदी 2020 फिर वो बोली- इसे तो मैं बहुत दिन से पाना चाह रही थी … राजा, आज इसे मेरे अन्दर डाल दो.

फिर भी उसने ऋतु से कहा- दीदी, आपसे मेरी जैसे बात होती है, वैसे ही मेरी बात रुचि से भी होती है.

बीएफ चोदा चोदी 2020?

फिर रिज़वाना बोली- अब तक तो मेरे मुँह ने ही इसका स्वाद लिया था, आज मेरी चुत भी पहली बार लंड का स्वाद लेगी. भाबी का गोरा बदन, बड़े बड़े गोल चूचे और चिकनी चुत देख कर मेरा लंड भी टाइट हो गया. ‘पूरा पैसा खाते में कैसे जाएगा?’मैं समझ गया कि भाभी दोअर्थी बात कर रही थीं.

समय निकलता जा रहा था लेकिन समझ में नहीं आ रहा था कि शुरू कैसे करूं क्योंकि वो भाभी मेरे तरफ देखती भी नहीं थी. अब मैं चारों के बीच चिपकी हुई थी, कोई मेरे होंठ चूस रहा था तो कोई मेरे बूब्स को दबा रहा था. दरअसल चाची नहीं चाहती थी कि मैं अत्यधिक खुशी जाहिर कर दूँ और मम्मी को शक हो जाये.

कुछ और देर बीत गई और करीब साढ़े बारह बजे शहज़ाद ने मुझसे चलने के लिए बोला. नीरू उसका हाथ झटक देती हुई बोलती है- आपसे कुछ होता तो है नहीं, अपना काम कर के मुझे आधे में तड़पता छोड़ देते हो. उनकी मोटी मोटी गांड को देख ऐसा मन किया कि साली को अभी जाकर नंगी कर दूँ और अपना 7 इंच का लंड उनकी चूत में पेल दूँ.

नेहा- ओके … मैं गार्डन में कुछ देर घूमती रही, उसके बाद में सोने जाने लगी. थोड़ा सा तेल मैंने उसकी चूत में डाल दिया और अपने लंड पर बहुत सारा मल लिया.

तभी अन्दर से अंजू भाभी इशारे से बोलीं- अभी रुको, मैं 5 मिनट में आती हूँ.

उसे थोड़ा आराम देने के लिए मैं रुक गया और उससे पूछने लगा- क्या हुआ?सुनीता ने थोड़ी दर्द भरी आवाज में कहा- सरस, तुम्हारा लंड बहुत बड़ा और मोटा है और बहुत दिनों से मेरी चूत छुट्टी मना रही है.

अब शेखर की उंगलियां धीरे-धीरे सरकते हुए ठीक धारा की चूत के ऊपर पहुँच चुकी थीं. कुछ देर में उन्होंने मेरी तरफ ध्यान देना बंद कर दिया और सिर्फ मेरा मुँह चोदने लगे. उसके होंठों के निशान अपने गाल पर देखकर मैं भी मुस्कुरा दिया और थोड़ा गुस्सा भी हुआ.

कहीं शहजाद उसको बहला फुसला कर उसके साथ कुछ उल्टा सीधा न कर दे, जिससे मेरी बेटी की जिंदगी और हमारे घर की इज्जत मिट्टी में मिल जाए. अचानक संगीता की चूत का फव्वारा फूट गया और उसने मेरे लंड पर ढेर सारा गर्म माल निकाल दिया. शन्नो बिल्कुल रंडी बन चुकी थी और उसी भाषा में बोल रही थी- आह चोद साले चोद अपने दोस्त की अम्मी की चूत गांड को जमकर चोद!एक औरत लंड की इतनी दीवानी है, ये देखकर मेरा जोश और बढ़ गया और मैंने तेज़ तेज़ झटके लगाने शुरू कर दिए.

फिर मैंने विचार किया कि क्यों ना भीग कर दूध वाले के पास ही चली जाऊं.

निखिल तेल की बोतल लेकर आया तो मीरा ने उससे पूछा- पहले कभी गांड मारी है?निखिल ने कहा- नहीं आपकी गांड पहली बार मारूंगा. इसका नतीजा कुछ देर बाद ये निकला कि वो लड़का मेरे बाथरूम में नंगा हो कर घुस आया. जैसे ही चाची मुझे जगह देने के लिए ऊपर खिसकी तो वह सोए हुए मोंटू से टकरा गई और मोंटू रोने लगा.

मैं लंड मुँह में डालने में लगा रहा तो उसने थोड़ी देर बाद लंड चूसना स्टार्ट कर दिया. मेरी चुत खुद खौल रही थी कि रोहित का नया लंड भी मेरी चुत में घुस कर मेरी चुत की खुजली मिटा दे. अब मेरे सामने मेरी मेहनत का फल था नीतू की चूत!लेकिन नीतू की चूत इस समय बालों के गुच्छे से ढकी हुई थी।अब आगे Xxx सेक्सी कहानी:मैंने नीतू से पूछा- तुम अपनी चूत की सफाई नहीं करती क्या?इस पर नीतू ने कहा- करूं तो किस के लिए करूं? उस आदमी के लिए जो रोज़ रात को शराब पीकर आता है और किसी मुर्दे की बेड पर गिरते ही सो जाता है.

उसने अपने हाथों से मेरा सिर अपनी चूत पर दबा लिया और अपनी चूत को ऊपर नीचे कर के मेरे मुंह पर रगड़ने लगी.

मैंने उसे बधाई दी- तुम्हारीसील टूट गई… बधाई हो!वो हंस दी और मेरे सीने से लग गई. मगर इससे पहले कि शेखर उन विशाल चूचियों को अपनी हथेलियों में क़ैद करे, धारा उसके सीने से लिपट गयी।मानो वो शेखर से अपनी चूचियों को छुपाना चाह रही हो.

बीएफ चोदा चोदी 2020 शीना ने सफेद रंग की सलवार कमीज पहनी हुई थी जो होली के रंगों से भरी हुई थी. गहरी सांसों से उसका सीना ऊपर-नीचे हो रहा था जो मुझे मेरे सीने पर महसूस हो रहा था.

बीएफ चोदा चोदी 2020 उसने अपना पर्स और शॉपिंग के बैग वहीं एक कोने में रख दिए और खुद ही टॉयलेट ढूंढने का फैसला किया. [emailprotected]रोमांटिक भाभी की वासना की कहानी का अगला भाग:अफसर की बीवी ने चपरासी से चुत गांड चुदवाई- 2.

मानस ने आव देखा ना ताव … सोनम की चुत के मटर जैसे दाने अपने दाँतों से हल्के से चबा दिया.

भाई-बहन की बीएफ वीडियो हिंदी में

धारा की सिसकारी और दर्द भरी आह्ह सुनकर शेखर को भी अहसास हुआ कि शायद जोश-जोश में उसने कुछ ज़्यादा ही ज़ोर से धारा की चूचियाँ मसल दी थीं. उफ्फ क्या कहूं, भाबी मेरे लंड को ऐसे चूस रही थीं … मानो कच्चा ही खा जाएंगी. थोड़ी देर बाद मैंने आंटी के बूब्स अपने मुंह से चूसना शुरू कर दिए और आंटी की चुत में उंगली करना शुरू कर दिया.

ज्योति- सीईईई छोड़ दे रंडी … और कैसी शर्त?स्नेहा- आज तुझे अभी अपनी चूत खोल कर दिखाना पड़ेगी?ज्योति हंसती हुई बोली- चल चल, बड़ी आई चूत देखने वाली. कब से सपने सजाये हैं अपनी बीवी के नंगे जिस्म को किसी गैर की बांहों में देखने के लिए। उसकी चूत में किसी और का लन्ड देखने के लिये।मैंने मुस्करा कर हामी भरी और रोहन से कहा- तुम्हारे सपने आज पूरे हो जायेंगे. मैंने उससे पूछा कि तुम मुझे बुलाने में देर क्यों कर रही थी?उसने हंस कर कहा- मैं सेफ दिन के इंतजार में थी.

यहाँ एक गड़बड़ ये हो गयी थी कि साड़ी और साये की डोरी के ऊपर से हथेली डालने की वजह से साये की गाँठ और भी कस गयी थी.

निखिल- मेरी जान अब मैं आ गया हूं, तुम किसी भी बात की चिंता मत करना. आज मैंने जीवन का एक अनूठा सबक सीख लिया था कि गांड कैसी भी फटी हुई क्यों न हो, फिर भी हवस अपना काम कर जाती है. मेरे कमर में हाथ डालने से चाची का सिर और छाती थोड़ी सी ऊंची हो गई थी, चाची मेरी गर्दन और छाती पर किस करती.

मैंने कहा- हंसने का मतलब बात पक्की समझूँ?वो बोली- किस बात की बात पक्की समझना है. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे किसी ने मेरी चूत की लॉटरी निकाल कर देने से मना कर दिया. मैंने पूछा- इतनी सी उम्र में तुझे चुदने का शौक कैसे लग गया!उसने हंस कर बताया कि उसके मामा उसे कैसे बुर चुदाई का स्वाद दे चुके हैं.

क्या आगे भी मुझे आपका स्वाद चखने को मिलेगा?उस पर मैं बोली- हां क्यों नहीं, जब मन करे तब आप मुझे मेरे घर में ही मुझे चोद लीजिएगा. खाना बनाने के बाद उन्होंने व्हिस्की की बोटल निकाली और दो पैग बनाए और एक गिलास मेरी तरफ सरका दिया.

बिना टेस्ट दिए तुम्हें कैसे पास किया जा सकता है?हैरान होकर मैंने पूछा- कैसा टेस्ट?उसने जवाब नहीं दिया और आगे बढ़ा. मगर ये मौका अपनी बेटी के यार के लंड को अपनी गांड में लेने का था तो मैंने अपनी गांड मराने का मन बना लिया. ये किसी भी लड़की या भाभी आंटी को चरम सुख प्रदान करने के लिए काफी है.

उसी रात को खाने की टेबल पर हमारी मुलाकात हुई, जहां मैं उनसे नजरें नहीं मिला पा रहा था.

इससे भाभी की रोने और चीखने आवाज़ इतनी तेज आने लगी कि मेरे तो कान भी फटने वाले हो गए थे. इशारे में ही मैंने सुनीता से सेक्स के लिए पूछा तो उसने मना कर दिया और कहा- मैं तुम्हें फिर कभी बुला लूंगी. इस तरह अब रात के 9 बजे से कुछ ऊपर समय हो गया था; मुझे बहुत तेज़ ठंड भी लगने लगी थी.

मैंने भाभी से पूछा- आपने हमारे बारे में कुछ सोचा?भाभी ने नजरें झुका लीं और कुछ नहीं बोलीं. मुझे आज सेक्स करने का बड़ा मन हो रहा था और मेरा ठोकू आज शहर से बाहर है.

मैं धीरे से अपना हाथ नीचे ले गया और जैसे ही चाची अपने छेद को मेरे टोपे के पास लाई, मैंने मेरे फूले हुए टोपे को चाची की चूत में फँसा दिया. झड़ते ही वह तो एक कुर्सी पर ऐसे बैठ गया जैसे कि उसकी सारी जान निकल गई हो. काफी देर तक उनकी चूत चोदने के बाद मैं झड़ने को आया, तब तक भाभी 2 बार झड़ चुकी थीं.

ગુજરાતીમાં સેક્સ વીડિયો

मुझे शुरू में दर्द तो बहुत हुआ, मैं बहुत ज्यादा चिल्लाई भी … मगर बाद में मजा भी बहुत आने लगा था.

भाभी ने मेरे लंड को पकड़ा और टांगें खोल कर अपनी चूत में लंड सैट करके मुझे दबाने लगीं और धक्का देने के लिए बोलीं. वो ना ना करती हुई मेरे लन्ड को अपने हाथ से टटोलते हुए उसे पकड़ कर हिलाने लगी और अपनी चूत पर रगड़ने लगी. भाभी कराहते हुए बोलीं- आह धीरे दबाओ राजा … मैं कहीं भागी नहीं जा रही.

फिर प्रिया ने जया की चुत में अपनी 4 उंगलियां एक साथ डाल दीं और अंगूठा बाहर से ही उसकी क्लिट पर रगड़ने लगी. इसी दौरान चंचल और ऋतु भी आकर चुद लेती थीं और किचन में लेस्बियन का भी मजा ले रही थीं. पंजाबी सेक्सी वीडियो पंजाबी सेक्सीफिर मैंने सोचा कि चुदना ही है, तो अपने जेठ से चुद कर थोड़े पैसे क्यों लूं? किसी अमीर आदमी के नीचे आकर ज़्यादा पैसे लूंगी.

हॉट मॉम सेक्स कहानी में पढ़ें कि जवान बेटी ने पहले अपने मम्मी पापा, पड़ोसी के साथ फिर मम्मी की चुदाई वीडियो देखी. ” के बाद उन्होंने बताया कि मनोज तेरे जीजा को शादी से पहले से डाइबिटीज़ है और उनकी किडनी भी खराब हो चुकी है.

मेरी छोटी सी गर्म प्यासी चूत पर जैसे ही जेठ जी ने अपना मोटा सुपारा रखा, मेरी चूत फैलती चली गयी. उसने राज को उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और खुद को राज की जगह पर कुर्सी पर पैर फैला कर बैठ गया. कोई दो मिनट बाद मैंने भाभी का मम्मा अपने हाथ से पकड़ा और दबा दबा आकर दूध चूसने लगा.

फिर हल्की मदहोशी में मैं उससे चिपक कर सोती जिसका वो भी मज़ा लेता रहा।शादी में मेरी एक पुरानी दोस्त भी आ गयी. वैसे तो वो घर पर काफी बार अकेली रहती थी लेकिन मेरा उसके घर तब ही जाना होता था, जब घर पर सब होते थे. मैंने अपने एक हाथ से निशा की चूत को सहलाना शुरू कर दिया; कभी मैं उसकी चुत के दाने को खींचता, तो कभी चुत में फिंगरिंग करने लगता.

चाची- हाय तौबा कितने बड़े मादरचोद हो, मैं कम पड़ रही … जो मेरे साथ साथ मेरी मां को भी चोदोगे कमीने … आह मेरे राजा और जम कर चोदो अपनी रंडी को.

मैंने उन्हें गले से चूमते हुए उनके चुचे पीने लगा और उनके निप्पल को दांत से दबाते हुए जीभ को चारों ओर घुमाने लगा. मैंने पहले थोड़ी ना नुकुर की, फिर अंत में हां कह दी और पूछा कि मुझे एड्रेस भेज दो, मैं वहां आता हूँ.

साड़ी निकालने के बाद शेखर ने धारा की कमर से बंधे साये को भी अलग करने में अपना ध्यान लगा दिया. आंटी ने अन्दर से आवाज लगाई- कौन है?मैंने कहा- मैं हूं राज!वो जल्दी में मैक्सी पहन कर आई और बोली- अरे सर आप इतनी जल्दी आ गए!मैंने बोला- मैं केवल मशीन की जानकारी लेने आया हूं … मेरा कोई ड्यूटी टाइम नहीं होता है. और मैंने अपने आपको ठीक किया, अपने बाल वगैरह ठीक किए और जाकर दरवाजा खोला.

आंटी ने कहा- भूख लगी है तो अपनी मम्मी के पास जा … मेरे पास क्यों आए हो?मैंने कहा- आंटी, वो अंकल तो अपनी भूख मिटाने आपके पास आते हैं. अजय ने सभी से उन दोनों का परिचय कराते हुए कहा- ये मेरी बेटी प्रियंका है, कल ये पूरी जवान हो जाएगी, तब इसकी चुत में किसी का लंड जाएगा … और ये मेरी वाइफ सुम्मी है. मैं मोना भाभी जैसी भरी हुई माल को तो गलती से भी नहीं खोना चाहता था, इसलिए कोई भी जल्दी नहीं कर रहा था.

बीएफ चोदा चोदी 2020 मैंने मजाक में कहा- अच्छा अगर जहर दूंगी तो वो भी पी लोगे?वो बोले- हां … मगर आपको चोदने के बाद!और यह कहकर वो चारों जोर जोर से हंसने लगे. उसके व्यक्तित्व में एक गजब का आकर्षण था, जो मुझे अपनी ओर खींच रहा था.

कुत्ते का बीएफ सेक्सी

कॉलेज में रीमा निखिल से सीनियर थी, इसलिए कॉलेज में उन दोनों में ज़्यादा बातें नहीं हो पाती थीं. पता ही नहीं चला कब मेरा एक हाथ नीचे चला गया और अपना लंड मैंने उनकी गीली चूत में घुसा कर फिर से झटके लगाने शुरू कर दिए. एक दिन जब मामा मेरे होंठ चूसते हुए मेरी चूचियां मसल रहे थे, तब मां ने देख लिया था.

उनके लंड सामान्य आकार के ही थे लगभग 6 इंच के करीब … लेकिन सबसे लंबा लंड साहिल का था जो करीब साढ़े छह से सात इंच तक का रहा होगा. कुछ देर बाद ऋतु झड़ चुकी थी, उसकी चुत से बहते रस को रुचि पीने की कोशिश कर रही थी. तुर्की की मुद्रा क्या हैअब हम दोनों के बीच की शर्म जा चुकी थी और एक दोस्त की अम्मी को मैं उसी के घर में रंडी बनाकर चोद रहा था.

मैंने सोचा कि शायद बेटे की वजह से इन्होने अंधेरा किया है, तो मैं बिस्तर की तरफ आने लगा.

तेरे चक्कर में पता नहीं आंटी की भोसड़ी को कितनी बार गपागप अंकल का लंड खाना पड़ा होगा … तब तू उनके भोसड़े निकली होगी. इसलिए अब मैं उनके शरीर के एक एक अंगों को चूमने लगा और अंततः मैंने उनके कानों के पास किस किया.

अब चंचल ने ऋतु से पूछा- दीदी, क्या आप प्रकाश से चुदना चाहती हो?ऋतु ने नाटक करते हुए कहा- नहीं, मैंने ऐसा कब कहा?चंचल ने कहा- अरे बोलो न दी, आपको चुदना है क्या?ऋतु- मुझे प्रकाश से नहीं चुदना है लेकिन आज मन तो है चुदने का!इस पर चंचल ने कहा- तो दी, प्रकाश से ही चुद लो न … वैसे भी पहचान का भी है और आपका पुराना बॉयफ्रेंड तो था ही. आधा घंटे के बाद मम्मी वाले रूम की लाईट बंद हुई तो मैं भाभी के रूम के बाहर रुक गया. थोड़ी देर के बाद अनामिका समीर के मुंह से उतरी और मैं भी उसके लन्ड से उतर गई.

कुछ पल बाद मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाल दी और फांकों को खींच खींच कर चूसने लगा.

उसने भी लिखा- अच्छा समझ गई कि साहेब को मैं हंसने वाली हॉट लगती हूँ. मैं और मम्मी 5-6 घंटे का ट्रेन का लंबा सफर करके जब मामा शहर पहुंचे, तो स्टेशन पर मामा खुद हमें लेने आए थे. बैठते ही चाची ने अपनी टाँगें चौड़ी कर के चूत की ओर देखा तो चूत में से सफेद वीर्य बाहर बह रहा था.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो प्लेयरचाची मेरे गालों को चूमते हुए बोली- कैसा लगा बर्थडे गिफ्ट?मैं- बहुत अच्छा, हर रोज मिलेगा या बस?चाची- चाची की चूत अब तुम्हारी हुई, जब मर्जी मार लेना. अब मेरी चूत में जलन होने लगी लेकिन मैंने राज को रोका नहीं क्यूंकि मैं नहीं चाहती थी कि उसका पहली बार का सेक्स हाथ से पानी निकालकर पूरा हो!तो मैं ऐसे ही पड़ी रही और राज मेरी चूत में जोर जोर से झटके देने लगा.

সানি লিওনের ওপেন ভিডিও

धारा शेखर की मनोदशा समझ चुकी थी, उसने शेखर का हाथ अपने दोनों हाथों से थाम लिया और धीरे से उसकी हथेलियों को थाम कर अपने कंधों पर रख दिया. मौसी मुझसे फोन सेक्स चैट करने लगीं और बोलीं- ऐसे ही बात करता जा … मुझे बड़ा मजा आ रहा है. मैंने बहुत सारी ब्लूफिल्म्स देखी थीं जिसमें मैंने पोर्न ऐक्ट्रेस को एक साथ आगे पीछे लंड से चुदते हुए देखा था.

मानो उन्हें चाटने, काटने, नोंचने और उन पर चांटे मारने का निमंत्रण दे रहे हों।नेहा के मादक जिस्म को देख उससे मिलने को मन और बेचैन हो गया।अब रोहन मेरे साथ सुरक्षित महसूस करने लगा था. एक दिन मेरी एक बहुत पुरानी सहेली का फ़ोन मुंबई से आया तो उसने ये बताने के लिए फ़ोन किया था कि अगले हफ्ते उसकी बेटी की शादी थी और हम दोनों को बुलाया था. वो बोली- यार, रहा नहीं जा रहा है इसलिए बार बार कॉल कर रही हूँ … बुरा मत मानना.

आह हरामी साले धीरे चोद न … आह …’भाभी के दांत मेरे होंठों में गड़ गए. भाभी की गर्म सांसों की आग मुझे मेरे चेहरे पर पड़ रही थी जो मुझे और भी पागल बना रही थी. एक मन कर रहा था कि उसके मुंह में ही वीर्य गिरा दूँ लेकिन मैं नेहा को परपुरुष का चरमसुख देना चाहता था.

वो खुद ही मेरे ऊपर इतना मरती है मुझे उसको फुसलाने की जरूरत ही नहीं है।रेशम बस उसकी बातें मूक बनकर सुनता चला जा रहा था।आपसे निवेदन है कि आप मेरी इस नयी कॉलेज गर्ल की चूत की गर्मी की कहानी पर अपनी प्रतिक्रियाएं भेजते रहें. बीवी अपने पति के दफ्तर में गयी तो वहां उसने चपरासी को बाथरूम में मुठ मारते देखा.

चूंकि कोरोना के चलते कोई फ्लाइट आ नहीं रही है, तो वो आ नहीं पा रहे हैं.

दूसरे दिन से नगर वाले एक एक करके अजय के घर में आने लगे और सब लोग प्रियंका की चुत चोदकर उसमें अपने लंड का पानी डालने लगे. ब्रेस्ट में दर्द का इलाजउसने अपने पेट को थोड़ा सा उठा कर चुत में हाथ फिरवाने की इच्छा जाहिर की मगर मैंने उसकी चुत को टच भी नहीं किया. जंगली बिल्लीमैं थोड़ी देर बाद उनके पास आया तो देखा, वो मुझे नजरअंदाज करके रसोई में काम करती रहीं. उसके होंठों का चुम्बन मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे पिंक स्ट्राबेरी जैसी दिखने वाली चीज पर किसी ने गर्म अंगारा रख दिया.

मुझे भी संगीता के काटने से हल्का दर्द हो रहा था लेकिन चुदाई की मस्ती में ये दर्द भी मजेदार लग रहा था.

वो अंगड़ाई लेकर बोली- अब बोलो क्या करना है?मैंने लंड सहलाते हुए कहा- पहले मसाज करा लो … उसके बाद कबड्डी खेलते हैं. बाथरूम सेक्स का मजा लिया मैंने अपने पति के दोस्त को अपने घर बुला कर! उससे चुदने के बाद मुझसे रहा नहीं गया, मैंने पति के घर में रहते ही उससे फिर से चुदने का प्लान बना लिया।यह कहानी सुनें. लेकिन उस दिन जब पीटीएम में स्कूल गया और सितारा से मुलाकात हुई तो दिल दिमाग में कुछ चलने लगा.

मुझे कब से सेक्स की इच्छा हो रही है, लेकिन मुझे किसी ऐसे से सेक्स करना था, जो मुझे प्यार भी करे और मुझे पूरी तरह से संतुष्ट भी कर दे. ये देखते हुए प्रिया ने अपनी चुत पर हाथ लगा कर फिर से चिल्लाना शुरू कर दिया. लंड इस तरह अकड़ गया था कि मेरा बस चलता तो मैं फोटो में घुस कर मौसी की दोनों चूचियों को मसल कर मज़े ले लेता.

सेक्सी बीएफ वीडियो भोजपुरी देहाती

फिर भी उसने धारा को कुरेदने के लिए सवाल किया- अरे हाँ … ये तो मैंने सोचा ही नहीं. अगले दिन मैं उनकी दुकान पर गया तो अम्मा अपने पोते को ना पढ़ने के कारण डांट रही थीं. अंकल- थोड़ा और सहन कर भोसड़ी के … अभी इतनी जल्दी आह उह मत कर … तेरे इस सफेद मखमली बदन को थोड़ा कष्ट तो सहना पड़ेगा.

ये देखते हुए प्रिया ने अपनी चुत पर हाथ लगा कर फिर से चिल्लाना शुरू कर दिया.

अब मुझे लगा कि भाभी अब मुझसे अपनी कुछ पर्सनल बातें करने लगी हैं … तो कुछ चांस बन सकता है.

कुछ मिनट बाद मैंने उठ कर मां के कमरे की खिड़की की झिरी में आंख लगा दी और अन्दर का मस्त नजारा देखने लगा. मैं भाभी के ब्लाउज के हुक खोलने लगा और उनकी ब्रा के ऊपर से ही उनके मम्मों को चूमने लगा. फुल सेक्सी वीडियो एचडी मेंभाभी ने भी ये नोटिस कर लिया और पूछने लगीं- क्या देख रहे हो?मैं शर्मा गया और बोला- कुछ नहीं.

मैंने उन्हें सीधे पीठ के बल लिटाया और उनके ऊपर पूरा लेट कर उनको होंठों को चूमते हुए पूछा- अगर मैं आपकी हर इच्छा पूरी कर दूं, तो क्या आप मुझसे शादी करोगी?उन्होंने मुझे पीछे किया और बोलीं- सब ये ही बोलते हैं, पर सच ये है कि रंडियां सिर्फ बिस्तर पर अच्छी लगती हैं, घर पर नहीं. मैं कभी उसके चूतड़ों को दबाता, कभी उसके बड़े बड़े मम्मों को मसलता, जो ठीक से मेरी हथेलियों में आ भी नहीं रहे थे. मैं और खूब कस कस कर चूत चोदने लगा और भाभी की मलाई की गर्मी से मैं भी झड़ने की कगार पर आ गया.

ये सब गलती से हो गया।शीना- वो वो … मेरा फोन रह गया था प्लीज वो दे दो. मेरी मम्मी ने मुझे बैठाया और बोली- राज, तुम्हारे नाना नानी अर्थात रश्मि के मम्मी पापा तीन चार दिन के लिए किसी जरूरी काम से आज बाहर गए हैं.

मैं उसे अपनी दोनों बांहों में भींचे हुए गांड उठा उठा कर दनादन लंड चुत में पेल रहा था.

वो हमारा दूर का रिश्तेदार था, तो मैंने उसके लिए कभी कुछ गलत नहीं सोचा था. उसी समय मेरा लंड रो पड़ा और लंड की मलाई मां के हलक को गीला करने लगी. मेरे और मयंक के लंड से ढेर सारा गर्म माल निकला, जो संगीता की जीभ और मुँह पर जा लगा.

झूमर बनाना बताओ दूसरा बोला- हां … पहले पीछे से करेंगे क्योंकि दो साल से आपकी ठुमकती गांड को ही देख देखकर ही हम लंड हिलाते आए हैं. दोस्तो, आपको मेरी ट्रिपल सेक्स हिंदी कहानी कैसी लगी, कमेंट करके ज़रूर बताईए.

कभी वो उसको अपने भारी चूचों की झलक दिखाती, तो कभी अपनी गांड से निखिल के लंड को स्पर्श कराते हुए पास से निकलती. तभी ऋतु ने कहा- अच्छा … तो प्रकाश भी तेरी ठीक से चुदाई करता है! उस साले ने तो कभी मुझे छुआ ही नहीं. नगर वालों के लंड से चुदने के बाद अब प्रियंका के बाप अजय का नम्बर आया.

सेक्सी बीएफ फिल्म सेक्सी बीएफ

मैंने पूछा- क्या बात हुई?चाची कहने लगी- बस मेरा हो चुका है और मेरे घुटने दुखने लगे हैं. वो बोली- हां देखती हूँ कि जब तब आप ऑनलाइन दिखते हो, फोटो भी शेयर करते हो मगर कम चलाते हो … वाह जनाब, क्या चुटकुला सुनाया है. आशारा ने लंड चूस कर अंतिम बूंद भी निचोड़ी और चेहरे पर बिखरे वीर्य को उंगलियों में लगाकर चाटने लगी.

मगर इससे पहले कि शेखर उन विशाल चूचियों को अपनी हथेलियों में क़ैद करे, धारा उसके सीने से लिपट गयी।मानो वो शेखर से अपनी चूचियों को छुपाना चाह रही हो. अन्तर्वासना के प्रिय पाठको, मैं विराज एक बार फिर से आपकी चूतों को चमचम … और लौड़ों को बांस बनाने के लिए हाजिर हूँ.

आंटी बोलीं- लकी से कोई काम था?मैंने कहा- नहीं … बस यूं ही मिलने आया था.

जैसा कि आप लोगों ने सेक्स कहानी के पिछले भागदो लंड से गांड मरवा कर चूत में माल लियामें पढ़ा था कि मेरे पति के दो दोस्तों राजेश और प्रशांत ने मेरी हॉल में ही चुदाई की और फिर बेडरूम जाकर पूरी मेरी जवानी निचोड़ कर रख दी. तुम हैंडसम हो … स्मार्ट हो … और किसी लड़की को क्या चाहिए!मैंने पूछा- आपको मैं कैसा लगता हूँ?भाभी बोलीं- बहुत अच्छे लगते हो. करीब दस मिनट किस करने के बाद भाभी के स्तनों से अपने आप दूध बहने लगा और मैं भाभी का एक निप्पल अपने होंठों में लेकर दूध पीने लगा.

मैंने भी झुक कर उसे सलाम किया और उसको अपनी चूचियों की मस्त झलक दिखा दी. Xxx भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे पड़ोस में नयी भाभी आयी तो मैं उनका दीवाना हो गया. मैं आपको देविका जी ही कहूंगा।फिर मैंने पूछा- क्या प्रॉब्लम आ रही है देविका जी आपको एप्लीकेशन यूज करने में?मैंने हाथ सेनीटाइज करते हुए उससे पूछा.

हम दोनों एक दूसरे की आंखों में देखते रहे और हम आपस में कुछ नहीं बोले.

बीएफ चोदा चोदी 2020: दोस्तो, मैं अमित शर्मा एक बार फिर से आपको अपनी ताई और भाभी की चुत चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ. उसके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं, जिससे मेरा जोश और बढ़ गया और मैंने अपने दांत रीतू की जांघों में गड़ा दिए.

भाभी लंड लेने को बेताब थीं, वो बोलीं- अब डाल भी दे विराज … तेरे हाथ जोड़ती हूँ बहन के लौड़े डाल दे पूरा लंड अन्दर … फाड़ दे यार्र!मैंने कहा- भाभी, सूखा लौड़ा कैसे अन्दर जाएगा गीला तो कर दो. साथ ही वो बार बार मेरा नाम ले रही थीं- आह भानु भानु … आह आह चोद दे अपनी मां को … आह बना दे मेरी चूत का भोसड़ा … आह और तेज और तेज चोद … आह आह!मां इस तरह की आवाजें कर रही थीं, तो मेरा भेजा सनक गया था. मैंने उससे कहा- आज से दसवें दिन आपको एक इंजेक्शन लगवाना है लेकिन वो इंजेक्शन या तो आपके घर पर लगेगा या आपको मेरे घर चलना पड़ेगा.

मॉम ने डैड का लोहे की रॉड की तरह सख्त गीला लंड पकड़ कर अपनी चूत से लगाया और धच से लंड पर बैठ गईं.

फिर मैंने अपनी बियर खत्म की और शीना को बेड से उठाया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूमने लगा. मुझे उसकी चुत चाटने में मजा नहीं आ रहा था तो मैंने उसकी चूत को थोड़ा ही चाटा और उसे उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया. दो दिन बाद रविवार था तो मैंने कोमल को बोल दिया कि रविवार को मसूरी चलते हैं.