तृषा मधु के सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,इंडियन सेक्सी बीपी पिक्चर व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ फिल्म सेक्सी दिखाइए: तृषा मधु के सेक्सी बीएफ, जैसे ही मैं वॉशरूम से आया, वैसे ही कल्पना उठ कर जाने को हुईं, पर उनके पैर लड़खड़ाने लगे … उन्हें चलने में तकलीफ हो रही थी.

ब्राउज़र ओपन सेक्सी फोटो

मैं उसके मुँह में काफी अन्दर तक लंड पेलने लगा और वो भी मुझे मेरी गोटियों को सहलाते हुए लंड चुसाई का मजा देने लगी. बफ सेक्सी हिंदी बफ सेक्सी हिंदीफिर मैंने खुद ही अपनी पैंट अपनी टांगों से अलग कर दी और उसके सामने अपने तने हुए लौड़े के साथ खड़ा हो गया.

मैंने एक ही झटके में फिर बॉटमअप कर के पैग अन्दर किया और गिलास खाली कर दिया. ट्रिपल एक्स गावरान सेक्सी व्हिडिओवह भी गांव की देहाती भाषा में बोला, तो मामा बोले- अच्छा अच्छा भूसा डाल दे, यह मेरी बेटी है, मेरी लड़की है, गुस्सा होकर इधर आ गई थी.

सोनू अपनी रात वाली कहानी बताते हुए कहने लगी- जब उनका काम खत्म हो जाता था तो मैं बेड पर भाई के साथ आ कर लेट जाती थी और भाई से चिपकने की कोशिश करती थी.तृषा मधु के सेक्सी बीएफ: मेरी ननद ने मेरे पति को देखते हुए कहा- भाभी, लगता है कि आज भैया ये भूल गए हैं कि उनकी सुहागरात है.

यह सुन कर मैं उसकी गोद में जाकर बैठ गयी और बैडमैन को किस करने लगी, वो भी मेरे कुर्ते में हाथ डाल कर मेरी पीठ सहला रहा था.मैंने अचरज से पूछा- मुझे कब बताया था तुमने?साजिदा मुस्कुराते हुए बोली- तुम मेरे मन की बात पढ़ लेते हो, यही तो मुझे पसंद है.

सेक्सी फिल्में छोटी लड़कियों की - तृषा मधु के सेक्सी बीएफ

अन्तर्वासना पर लंड चुत की देसी चुदाई की कहानी का मजा लेने के साथ मुझे मेल भी करते रहो.मेरी सहेली सोनम मेरी मम्मी से बोली- चाची बंध्या यहीं रहेगी मेरे साथ.

मैं आशीष से बोली- मार ही डालोगे क्या? मुझे और मत तड़पाओ … कुछ कर दे. तृषा मधु के सेक्सी बीएफ उधर उसका यार मेरी चूत का बुरा हाल कर रहा था, अपनी ज़ुबान को मेरी चूत खोल कर जितनी अंदर कर सकता था, करके अपनी ज़ुबान को घुमा रहा था.

मैंने उनकी नाइटी के ऊपर से उनकी योनि को टटोलना शुरू किया और मैंने देखा कि उनकी योनि पानी छोड़ रही थी.

तृषा मधु के सेक्सी बीएफ?

मैंने पलट कर देखा तो अजय का लंड दीदी की चूत के अंदर-बाहर हो रहा था. एक दिन उन्होंने मुझे सुबह कॉल किया कि आज बच्चे दादी के घर जा रहे हैं अपने डॅडी के साथ और रात में लौटेंगे. फिर बोला- बंध्या तुम अब कोई चिंता नहीं करो, मैं तुमसे वादा करता हूं कभी उस तरह से नहीं होगा.

उन्होंने अपने ज़िप को खोल कर अपना लंड बाहर निकाल कर मेरे हाथ में रख दिया. मैं उन्हें सहारा देकर वाशरूम तक लेकर गया और वॉशरूम का दरवाजा खोल कर उन्हें इशारे से अन्दर जाने को बोला. यह मेरी पहली चुदाई थी इसलिए ज़्यादा देर मैं टिक न पाया और मेरा सारा रस उनकी चूत में गिर गया.

अब मेरे घर में मैं और माँ ही बचे थे पिताजी की मौत के कारण खेत का काम मेरे सिर पर आ गया. मैं- पास आऊंगा तो जो भी करूँगा करने दोगी?वो- आओ तो सही … फिर देखूंगी. वहां बहुत अच्छा पार्क था और रात में भी कुछ कपल लोग वहां पर घूम रहे थे.

मैं उसके माँ-पापा से मिला और सीमा को अपनी दीदी के घर ले जाने के लिए कहा. मैं बस उसको देख रही थी और वो कंबल के अन्दर मेरी जांघों पर हाथ फेर रहा था.

मैं अपने लिंग को आगे की ओर धकेलने लगा और अचानक से मेरे लिंग ने मामी की साड़ी पर ही बहुत सारा लावा उगल दिया.

मैं डिनर करने अपने रूम में जाने लगी, तो मैनेजर सर ने मुझे रोक लिया और बोले कि तुम कुछ देर मेरे साथ बात करो न प्लीज.

अगर देसी शब्दों में कहें तो मैं अपनी सुहागरात की कहानी को आप सब के साथ शेयर करने जा रही हूँ. उस वक़्त वो शादी नहीं करना चाहती थी, लेकिन घरवालों के दवाब में शादी करना पड़ी. मेरे शरीर और स्वभाव में इस बदलाव को देख कर मेरे माँ और पापा थोड़ी चिन्ता करने लगे थे मेरी.

आशीष अब बिल्कुल हांफने लगा, मैं करीब दो-तीन मिनट तक उसका लंड चूसती रही. अपनी बीवी की यह घिनौनी हरकत देख ननकू से रहा नहीं गया और उसने लाठी उठा ली और अपनी नंगी बीवी मीना को खूब पीटा. पायल बोली- जीजू, मैं आपकी इज्जत करती हूँ और आपको पसंद भी, इसीलिए मैं कुछ नहीं बोली, लेकिन ये नहीं चलेगा, मैं सिर्फ आपके लिए हूँ.

मेरी भाभी जैसी चुड़क्कड़ भाभियों के साथ आजकल मैं बहुत चैटिंग करता हूँ.

अभी शायद रात के एक या दो बज रहे होंगे और अब वह थोड़ा सा मुझसे अलग हो कर लेट गई. आपने मेरी स्टोरीदेसी भाभी ने सोते देवर का लंड चूसाको पढ़ कर जो मेल किए, उसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद. मुझे तो जैसे लोटरी ही लग गई, मैंने सीधा ही कह दिया- मुझे भी रूम ज़रूरत है, तो मैं ही तुम्हारा पार्टनर बन जाता हूँ.

मैंने उसकी चूत पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और अपनी उंगली जैसे ही मैंने उसकी चूत में डाली तो वह उचक गई. मैं आपकी गांड और चूत को अच्छे से मालिश करके बढ़िया चमका कर रखूँगा। आप की चूत को कभी भी प्यासी नहीं रहने दूंगा। आप कहोगे तो मैं पानी की जगह सिर्फ और सिर्फ आपकी चूत का मूत ही पी लूंगा. सुबह में हम बंगलोर पहुंचने वाले थे, तो हम दोनों एक दिन रिटायरिंग रूम में बिताने का सोचा.

मैंने अपना दाहिना हाथ धीरे से बाहर निकाला और उसकी सलवार की तरफ हाथ बढ़ाने लगा.

मामी ने अपने दांतों से होंठों को दबा दिया, आंखें बन्द कर दीं और मेरी पीठ पर नाखून रगड़ने लगीं. तब मुझे इस उम्र में सेक्स की बारहखड़ी भी नहीं आती थी, ना कुछ पता था.

तृषा मधु के सेक्सी बीएफ मैंने सोनू से पूछा- अब तबीयत कैसी है?वह इठलाकर बोली- मेरी तबीयत को क्या हुआ था? बिल्कुल ठीक है. मैंने बहुत देर तक भाभी के चूतड़ों को पकड़कर अपने लंड की तरफ खींचे रखा और भाभी का पूरा पानी मेरे लंड के ऊपर से होता हुआ मेरी जांघों को भिगो रहा था.

तृषा मधु के सेक्सी बीएफ यहां तेरे और मेरे बीच में जो भी होगा वो न तो कभी किसी को बताएगी न मैं. मैंने उसकी कमर पकड़ के जोर से लंड अंदर पेल दिया और जोर जोर से चोदने लगा.

खैर, अल्ला अल्ला खैर सल्ला … आखिरकार मैं उस नाईटी को उतारने में सफल हो गया तो मेरी निगाह उस अलौकिक, इंद्रलोक की अप्सराओं को चुनौती देने वाले शरीर पर अटक गयी.

सेक्सी भाभी की चूत चूत

धीरे धीरे हम दोनों में सीनियर जूनियर का फर्क खत्म हो गया और हम अच्छे दोस्त बन गए. और थी भी वही बात … वो बोली- मेरा होने वाला है।अचानक मेरे घर के मेन गेट की घंटी बजने लगी और बाहर से आवाज आई- दूध ले लीजिए।सन्जू पूरा गुस्साई कि अभी ही इसे आना था और बोली- दूध लेने छोड़िये ना अभी मुझे कीजिए ना!मैं बोला- नहीं, वो चिल्लाते रहेगा. वो भी दिखने में सेक्सी है, लेकिन उसकी जो बेटी है, उसका नाम है माला.

मैं जैसे ही उसके घर पहुंचा, तो वो दरवाजे पर मेरा ही इंतजार कर रही थी. मामी जी के मुँह से एक हल्की चीख निकल गई- ह्ह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… सीईई ईईईई अहह. मैं- अच्छा जी, मेरे लंड की फोटो बहुत सी लड़कियों के पास है, उसमें से एक तुम भी हो.

मेरे मामा जी को विदेश में किसी प्रोग्राम में जाना था इसलिए उनको यहाँ पर महीने भर के लिए छोड़ कर गए हैं.

उसकी चुत को हाथों से चौड़ा करके मैंने लंड को उसकी चुत की फांकों के अन्दर रख दिया. वो बहुत कोशिश कर रही थी कि उसकी आहें ना निकलें क्यूंकि आस पास के फ्लैट में हमारे ऑफिस के लोग रहते थे. अपनी माँ को नंगी देख के, उपिंदर से चुदवाते देख के भी बस यही मन में था कि मेरे यार को मज़ा आये.

वो हंसने लगा और बोला- नहीं भाई, अब तो मेरी बीवी दूसरी बार पेट से है. करीब 20-25 जबरदस्त शॉट लगाने के बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया और उससे लिपट कर कुछ देर शान्त हो गया. उसके बाद जाने मुझे क्या हुआ कि मैं भी उसे बार बार देखने लगी … और वह तो मेरी तरफ बस देखे ही जा रहा था.

मुझे लगा उनका होने वाला है, तो मैं भी नीचे से अपने पैर मोड़ कर जोर लगाने लगा. तभी एक लड़के का फोन बजा, तो फोन उठा कर बोला- हम तो उस मंदिर वाली रोड से 10 किलोमीटर आगे हैं, यहां एक लड़की पकड़ ली थी, बस उसे ही चोद रहे थे.

मैंने धीरे से अपने होंठों से उसके नीचे वाले होंठ को अपने दोनों होंठों के बीच लिया और उसे चूसने लगा. मैंने जोर से गर्म गर्म सांसें उसके बूब्स पर मारीं, इससे हवस बढ़ती है और यही हुआ. मेरे हाथ उनकी ब्रा पर पहुंच चुके थे और भाभी अजीब सी आह्ह … ऊह्ह की गर्म आवाजें निकालने लगी थी.

मामा जी ने मुझे बताया कि हमारे बगल में एक परिवार रहता था, अब वह जालंधर चले गए हैं, उनकी बेटी की शादी है.

वो मेरे लंड को चूसने के बाद मेरे लंड पर सवार हो गई और मुझसे अपने मन की बात कहने लगी. लन्ड झड़ने से जीजू का जोश शान्त पड़ गया और जीजू अलग हट गये, मैं न जाने क्यों चिल्लाते हुये कमर पटकने लगी. मैं तो उनके इस तरह अपने बदन को चाटने से मचल उठी, मुझे इतनी गुदगुदी हो रही थी कि मैं बार बार कसमसा रही थी, ज़ोर ज़ोर से हंस रही थी और प्रोफेसर साहब को रोक भी रही थी.

अब वो भी मेरी बातें सुन सुन कर अपने चाचा से चुदने के बारे में सोचने लगी. उसके बाद उन्होंने मेरे दोनों पैर फैलाकर मूसल लिंग को मेरी चूत के ऊपर फिराना शुरू कर दिया.

मैंने अपनी चादर भी उसके ऊपर डाल दी और फिर धीरे से उसकी चादर में घुस गया. इसका कारण यह था की मैं दिमागी तौर से पूरी सेक्सी बन चुकी थी गंदी किताबें और नंगी फोटो देख देख कर. फिर मैं भी घर से कॉलज के नाम पर निकला और साक्षी के घर पर पहुँच गया.

लेडी सेक्सी चुदाई

वो मुझे देखते हुए बोली- तुमको कैसे पता?तो मैंने उसकी चुत के पानी वाली पूरी बात बता दी.

उस दिन तो जीजा जी शाम को अपनी ड्यूटी पर चले गए और मैंने भी अपना घर का काम ख़त्म करके टीवी ऑन कर लिया. अगले दिन शाम में हम नहीं मिले लेकिन हमारी चैट पे बात हुई और उसने बताया कि उसका पति पिछली रात को फ़ोन न उठाने के लिए डाँट रहा था. मैंने अपनी एक उंगली उसकी चूत की दरार में फिरायी तो मेरी बेटी के बदन में जैसे सिरहन सी हुयी.

कुछ पल ठहर कर मैंने एक बार लंड बाहर खींचकर फिर से चुत में घुसवा लिया. मेरा नाम जोर्डन (बदला हुआ नाम) है, मेरी उम्र 27 साल है। इस समय में सीकर (राजस्थान) में रहता हूं। मेरी बॉडी एवरेज बॉडी है दिखने में ठीक ठाक हूँ और लण्ड का साइज 7. विधवा औरतों की सेक्सी वीडियोस्ट्रेट लड़के के जिस्म की तरफ हम आकर्षित तो बहुत जल्दी हो जाते हैं.

मैंने फिर उनको किस करना चालू कर दिया और अपने दोनों हाथ से उनके दोनों मम्मों को दबाने लगा. और ये ले … तेरी पर्ची … इसमें से लिख लेना तब तक … मैं तुम्हारी क्लास में कहलवा देता हूँ … तुझे कोई नहीं रोकेगा अब नकल करने से!” कहकर उन्होंने मेरे गाल थपथपा दिए.

उसने अपने होंठ मेरे होंठों के नजदीक लाकर अपनी जीभ अपने होंठों के बाहर निकाली. जिसे मैंने उसका इशारा समझते हुए उसे अपनी ओर खींच लिया और लिप पर किस करने लगा. मेरी मांसपेशियां दबाकर बदन की मज़बूती जांचनी चाही- राजे, बड़ा सख्त और कड़ा बदन है तेरा … मज़ा आएगा तेरी तगड़ी बाज़ुओं में जब भिंचूंगी.

अब कोमल पूरी भीग चुकी थी और उसकी टी-शर्ट उसके बदन से एकदम चिपक गयी थी जिससे उसके बोबे और निप्पल साफ़ झलक रहे थे. मैंने सोनू से पूछा- फिर तुम्हारा दिल किया था करवाने को?सोनू ने बताया- कल तक तो आपसे मिलकर मैंने यह सोचा था कि मैं यह काम नहीं करूंगी, परंतु रात को जब मैंने मम्मी पापा को देखा तो मेरा फिर दिल किया और मैंने उंगली से करके अपनी प्यास बुझाई और मन में सोचा कि कल अगर आप कुछ करेंगे तो मैं मना नहीं करूंगी. अब तू ही बता ममता कि कमोड भी भला क्या चुदाई की जगह होती है?ममता बोली- हाउ स्वीट! मामा जी तो बहुत ही रसीले हैं.

सोनम बोली- मेरी दीदी की शादी यहां इस घर से नहीं हो रही है, चाचा और दादा जहां रहते हैं, वहां अहरी से होगी.

फिर मैंने सोचा कि आज मैं भी अपने बेटे राजन के साथ फ्लैट पर ही सो जाती हूँ. मैंने पूछा- उसके साथ सेक्स करते टाइम मेरी याद नहीं आई?तो बोली- एक बार उसने मुझको अपनी जांघों पर बिठा कर चोदा तुम्हारी तरह, तब बहुत दर्द हो रहा था.

जब उससे बर्दाश्त नहीं हुआ तो उसने कह ही दिया- आह्ह … दीपक, अब और नहीं रुका जा रहा. कुछ देर बाद मैंने आंखें खोलीं, तो देखा वो मेरे लंड को किस करते करते उसको अपने सारे चेहरे पे फेर रही थी. पहले तो उसने अपना हाथ मेरे लंड पर से वापस हटा लिया मगर कुछ पल के बाद खुद ही अपने हाथ को मेरे लंड पर ले जाकर रख दिया.

दूसरे हाथ से मैंने उसके कुर्ते के ऊपर से बोबे बाहर निकाल दिए और दबाने लगा. मेरी बीवी के मुताबिक चुदाई के लिए पूरी तरह से तैयार प्रशांत के लौड़े की मोटाई तब उतनी ही रही होगी, जितना मोटा नीना की हथेली के ऊपर वाले हिस्से में हाथ यानि कलाई. मैंने अपनी कच्छी ठीक करके शर्ट के बटन बंद किए और नीचे बैठ कर उनकी आँखों में देखने लगी.

तृषा मधु के सेक्सी बीएफ तब दीदी ने आकर मुझे कन्धे से दबाकर जकड़ लिया और जीजू को इशारा किया, इधर अजय ने मेरी टांगों को दोनों ओर फैला कर थाम लिया, अब मैं आंखें भींचकर दर्द झेलने को तैयार थी। जीजू ने लन्ड को चूत पर टिकाया और जोरदार धक्का लगाया. अपनी गंदी वीडियो बनाकर उसको मैंने पापा को दिखाने के लिए उनके मोबाइल से डिलीट नहीं की और सुबह पापा जब अपने आफिस गए तो मैंने वो वीडियो सहित मोबाइल उनको दे दिया।फिर मैं भी कॉलेज चली गयी और पापा के बारे में सोचने लगी कि वो वीडियो देखकर क्या करेंगे, मुझसे कुछ कहेंगे कि मम्मी को कुछ बोल मत देंगे करके मैं दिनभर ऐसा सोचने लगी.

सलवार सूट का सेक्सी

उसका लिंग मेरी योनि के ऊपर था, जो मुझे पैंट के ऊपर से चुभने सा लगा था. मैं मन ही मन सोचते हुए खुद से बोला कि अरे वही तो, सुबह चुदाई के दौरान पानी खत्म हो गया था, शायद इसको सब पता तो नहीं चल गया. मैंने उसकी चूत में फिर से उंगली डालने की कोशिश की तो उसने मुझे रोक दिया.

आर्यन ने मुझे बताया कि उसको रईस लड़के बहुत पसंद आते हैं जो उसको कार की सवारी करवा सकें, उसको शॉपिंग करवा सकें. दोस्तो, मेरी कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मैं जॉब तलाश करने के लिए दिल्ली में पी. एकदम हॉट सेक्सी वीडियोहथेली को साफ करके मैडम ने बाकि सब जगह पर पड़े हुए मक्खन को उंगलियों से समेटा और उसको भी मुंह में लेकर चाट लिया.

मेरी इस हरकत से अजय को जोश आना शुरू हुआ और फिर अजय जी ने मेरी टांगों को अपने कन्धे पर चढ़ा लिया जिससे मेरी चूत पूरी खुलकर ऊपर उठ गई.

एक दिन हेमा भाभी ने मुझसे पूछा- राज भैया! आपको स्कूटर चलाना आता है?मैंने कहा- जी हां आता है. इन आँसुओं की वजह से वो इतनी गीली हो चुकी थी कि लंड कैसे अंदर फिसल गया कुछ पता ही नहीं लगा.

वो सिख रेजिमेंट रामगढ़ जिले में सिपाही था और अब रिटायर्ड होकर यहीं अपनी दुकान से जीवन यापन कर रहा था. उनका दूध जैसा गोरा शरीर, हिरनी जैसी आंखें, पतली कमर, हंसमुख चेहरा और सबसे बेहतर उनके वो उरोज, जो मुझे पागल कर देते हैं. उसको विजय का इस तरह की सेक्सी नजरों का पता नहीं था, पर विजय के दिलो दिमाग़ पे माला की चुत का पागलपन इस कदर चढ़ा हुआ था कि अब उससे सहा नहीं जा रहा था.

स्स्स् … आह्ह् … स्स्स … और वह अपनी गांड उठाकर मेरे मुंह में लंड को धकेलने लगा था.

तभी अचानक पीछे से आवाज आई- हैलो!मैंने सर घुमाया तो फिर से बोल गूँजे- हैलो!मैंने पीछे मुड़कर देखा, तो वही लड़का था. उस वक़्त वो शादी नहीं करना चाहती थी, लेकिन घरवालों के दवाब में शादी करना पड़ी. मैंने पूछा- मैं ही क्यों? आप तो किसी से कुछ भी करवा सकती थीं?वो हँसने और बोली- जिस दिन से तुम कम्पनी में आए थे, मैं उसी दिन से तुम्हें नोटिस कर रही थी.

सेक्सी नेपाली देहातीउन्होंने अपने ज़िप को खोल कर अपना लंड बाहर निकाल कर मेरे हाथ में रख दिया. फिर मेरे ऊपर बैठ कर मेरे लंड को अपनी चूत पर सेट करके एकदम से बैठ गयी और चूत में पूरा लंड घुस गया और जोर जोर से कूदने लगी.

अमेरिकन सेक्सी चोदा चोदी

फिर मैंने माँ की गांड के छेद में अपने लंड को ज़ोर से दबाकर घुसाया, तो मेरे लंड का सुपाड़ा वैसलीन की चिकनाई से अन्दर तक घुस गया. अब मिसेज पाटिल अपनी चुत को ऊपर नीचे मटकाती हुई लंड चूसने का लुफ्त लेने लगीं. इसके बाद भाभी मेरे लंड से खेलने लगी और लंड चूस कर उसे फिर से खड़ा करने लगी.

और भी एक बात थी, भाभी ऐसे कभी मुझसे सच में चुदाई के लिए उत्सुक दिखाई नहीं देती थी, वह तभी ऐसा करती थी, जब उनकी तबीयत ख़राब हो जाती थी. उनके व्यवहार से ज़रा भी यह नहीं लग रहा था कि उन्हें मुझमें कोई रूचि है. उसने कुछ देर के बाद मेरे सिर के बालों में हाथ फिराना शुरू कर दिया और मेरे बालों को सहलाते हुए मेरा सिर अपनी चूचियों पर दबाने लगी- आह्ह … राहुल, मैं बहुत दिनों से प्यासी हूँ.

तू पलंग पर बैठी होगी औऱ तेरा पति तेरा पास आएगा और तेरा घूंघट उठाएगा, तेरा गाल चूमेगा. लगभग एक घंटे बाद मैंने उसको अपने गले लगाया और उसको गोद में उठा कर फिर से बेडरूम में ले गया. दोस्तो, मेरी कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मैं जॉब तलाश करने के लिए दिल्ली में पी.

इसी भयानक लंड ने मुझे चोदकर आनन्दित किया था। मुझे अजय के लन्ड पर प्यार आया और मैं अजय के सीने से लग कर लन्ड पर प्यार से हाथ फेरने लगी।तभी मेरी नजर जीजू पर पडी. भैया ने भी रंग हाथ में लेकर पानी मिला कर तैयार किया और भाभी के चेहरे पर मल दिया.

उसने खुश होते हुए बोला कि मेरा सब कुछ तो तुम्हारा ही है, जब तुम चाहो मुझे चोद सकते हो.

मैंने दो तीन गहरी सांसें लेकर स्वयं को संतुलित किया और गौर से मैडम को देखा. देसी हिंदी सेक्सी बीपीहाल यह हुआ कि अगर कभी पति-पत्नी में झगड़ा हो गया, भाभी रूठ गई, या उदास हुई, तो मंसूर भाई मुझे बुलवाते थे ताकि मैं भाभी को हँसा सकूँ. राजस्थान की आदिवासी सेक्सीवैसे दीदी के सामने भी मुझे जीजू से बात करने में कोई ज्यादा परेशानी नहीं होती थी मगर जब दीदी नहीं होती थीं तो ज्यादा खुल कर बात हो जाती थी. उसका 8 इंच के करीब की लम्बाई वाला लंड मेरी गांड में अपना रास्ता बनाने लगा तो मुझे जलन होने लगी.

जब मैंने खुद को आइने में देखा तो मेरी लाल रंग की ब्रा और पैंटी साफ दिखाई दे रही थी.

मैंने फिर से उसके चूचों को दबाना शुरू कर दिया और उनको जोर से मसलने लगा. तभी मैंने मेरी जांघों के बीच में हलचल महसूस की और पाया कि आंटी का हाथ मेरे लंड के ऊपर आ गया था और वो धीरे धीरे मेरे लंड को सहलाने लगी थीं. वे मेरी ब्रा निकाल कर मेरी चूची को चूसने लगे और मैं सिस्कारियां लेने लगी.

मगर काम करते हुए जब मैंने उस के पलंग के गद्दे के नीचे देखा तो वहाँ पर कुछ किताबें पड़ी दीखी. बारात से आने के बाद सभी लोग बहुत थक चुके थे और थोड़ा सा नाचने के बाद सभी लोग सोने लगे. वो अपने पैरों को फ़ैलाने लगी, जिससे उसकी सफाचट चुत उभर कर मेरे सामने आ गयी.

ब्लू फिल्म वीडियो सेक्सी वाला

मेरी बड़ी दुल्हन झड़ती गयी और फिर मैंने अपना सारा माल सारा की चूत में छोड़ा और उनकी बाँहों में आँखें बंद कर लेट गया. हम दोनों जैसे बिछड़े प्रेमी की तरह एक दूसरे में समाने की कोशिश कर रहे थे. कुछ देर तक हम दोनों वहीं सोफे पर लेट कर एक दूसरे के बदन को छूते रहे और चूमते रहे.

दोबारा भी प्रीति ने संभोग की इच्छा जताई और सुखबीर को उत्तेजित करने का प्रयास किया, पर वो यहीं असफल हो गयी.

मेरे को उठती देख कर अचानक से भाभी चली गयी, मैं भाभी को आवाज़ लगाती रही पर वो नहीं रुकी।मुझे जो प्लानिंग बैडमैन ने बताई थी वो मैंने अम्मी को बता दी, अम्मी सुन कर बहुत खुश हुई.

मैंने फिर से थोड़ा सैट करके एक जोरदार धक्का मारा, तो भाभी के मुँह से उनकी घुटी हुई आवाज निकली. माँ भी मेरा सहयोग करने लगी थी और अब तो वो अपने हाथों से अपनी गांड को चीरकर अपनी गांड को फैलाकर चटवा रही थी. सेक्सी भाभी की वीडियो हिंदीमेरी गे सेक्स कहानी के पहले भागएक लड़के को देखा तो ऐसा लगा-1में आपने पढ़ा कि मैं एक सोशल मीडिया साइट पर एक जाट लड़के से बातें करने के बाद उसके जिस्म को भोगने के लिए रात में घर से निकल गया.

फिर उसने मुझे दोबारा नीचे छाती के बल पटक दिया और मैंने गांड हल्की सी ऊपर उठा ली ताकि उसका लंड पूरा अंदर जा सके. मैंने उससे पूछा- क्या पहले भी ऐसे ही संभोग करते थे?मैंने प्रीति की दुखती रग तो समझ ली थी, पर वो मुझसे इसका समाधान पाना चाहती थी. मीरा मैडम ने मुझसे पूछा- ऋषभ क्या लोगे चाय या कॉफी?मैंने कहा- ना चाय ना कॉफी.

… मेरी गांड में … अह्ह्ह फाड़ डालो … ऊऊहह … आआहह … अन्दर … और अन्दर आज्ज्जाआ … आअहह … मेरी गांड. जब वो मेरे भाई को झुक कर पढ़ाती थी, तो कई बार मैंने उसके मोटे मोटे बूब्स हिलते हुए देखे थे.

तुम इसे भी जीजू बोल सकती हो।तभी दीदी चाय लेकर आ गई और मुझे देखकर हड़बड़ा गई.

जैसा कि आपको मैंने पिछली कहानी में बताया था कि वो वीडियो कॉल में मेरे लंड की साइज देख कर खुश हो गई थी और वो मेरा लंड लेने के लिए तड़प रही थी. गार्ड के कहने पर टीम मेंबर अंदर आया और बोला- मैडम अगला सीन रेडी है. अभी शायद रात के एक या दो बज रहे होंगे और अब वह थोड़ा सा मुझसे अलग हो कर लेट गई.

सेक्सी भेज दे वीडियो तो मैंने भी हिम्मत जुटाकर बोल दिया- वह कैसे?यार मेरे मंझले भैया की शादी होने वाली है, जिसमें मैं छुट्टी लेकर घर जाने वाला हूं. मुझे महसूस हुआ कि मेरे लिंग को सारा ने अपनी योनि रस ने भिगो दिया था, जिसकी वजह से लिंग आसानी से अन्दर और बाहर हो पा रहा था.

अंकल ने मुझे पकड़ कर बेड पर बिठाया, मेरा तो गला सूखा पड़ गया था, मैंने अंकल को बताया तो वो फ्रिज के पास गए और फ्रिज से स्लाइस की बोतल निकालकर मुझे दी. फिर बैडमैन ने पास में रखी इत्र की शीशी से इत्र निकल के एक बूँद मेरे चूत में डाल कर अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया. उसने क्लिट तो रगड़ रगड़ कर लाल कर दिया और चूत की आग को जितना भी भड़का सकता था भड़का दी.

17 साल के सेक्सी वीडियो

उसके जाने के बाद मैं पायल को और उसके बदन को बहुत ही ज्यादा मिस कर रहा था. उसके होंठ मेरे लंड की जड़ पर जा सटे, उसके गले तक मेरा लौड़ा पहुंच गया था. मैंने उससे कहा कि मेरी ब्रा उतार दे, पर उसने मुझसे विनती की कि मैं इसे उतारने की नहीं कहूँ, बल्कि इसी तरह इन कपड़ों में ही संभोग करने दूँ.

मीरा- देखो ऋषभ इंटरव्यू के टाइम पर सब ऐसे ही बोलते हैं क्योंकि उनको हायरिंग करनी होती है. फिर वो बोली- फिर से ये क्यों कर रहे हो, अब अपना लंड डाल दो मेरी चुत में.

मैंने उनकी गर्दन को चूम लिया और अब मैं लंबी सांसों से उनके जिस्म की मदहोश करने वाली महक को अपने अन्दर भरने लगा.

मैंने नीचे मुंह ले जाकर उसकी कच्छी को गीली जगह से सूंघा तो उसकी खुशबू मुझे मदहोश करने लगी. इसके बाद उन्होंने मेरे सामने वाले सोफे पर बैठते हुए वार्तालाप को शुरू किया. फिर जो लड़का कैमरे से शूट कर रहा था, वो बोला- भाई इसको उल्टा कर दे, फिर जींस खोल … वीडियो में गांड पहले दिखानी है.

पहले मैंने सोचा कि उसे भी सलाह दे दूँ कि किसी दूसरे मर्द से ये सुख प्राप्त करने का प्रयास कर ले. काम करते-करते कब 5:00 बज गए, पता ही नहीं चला और 5:00 बजे हमारी छुट्टी हो गई. मैं रूम पर जाते ही छत पर चढ़ा, वो भी स्कूल से आते ही छत पर आई और मुझको वहां पाकर नीचे चली गई.

ये सारी चीजें प्रीति में थीं, केवल उन्हें निखारे जाने की आवश्यकता थी.

तृषा मधु के सेक्सी बीएफ: अब मैंने कहा- वैसे तुम्हारे पति को कभी पता नहीं चलेगा और मैं ऐसी बातें किसी को बताता भी नहीं हूँ. हाँ … आआआ … ले … मुँह खोल …”मैंने अपना मुँह पूरा खोल कर उनके लिंग के सामने कर दिया.

फिर दस मिनट गांड चाटने के बाद मैंने उससे कहा- अब तुम घोड़ी बन जाओ, यह मूली चूत में ले लो. दोस्तो, अभी के लिए इतना ही अलविदा आपसे बहुत जल्दी मुलाकात होगी अगर आप आगे क्या हुआ मैं कैसे जिगोलो बना जानना चाहते हैं, तो मुझे ज्यादा से ज्यादा मेल करके बताइए कि आपको मेरी स्टोरी कैसी लगी. मैंने अपना लंड बाहर निकालकर उसके मुँह में दे दिया, पहले तो धीरे धीरे चूम सी रही थी, लेकिन बाद में उसे मेरे लंड का स्वाद अच्छा लगने लगा, तो वो मजे से लंड को चाट रही थी.

कुछ दिन पहले हमारे शहर में सीएनजी वालों ने रेट की माँगों को लेकर हड़ताल कर दी थी.

भाभी कामुकता से बोल रही थी- आह आह आह … चोद दो यार … अब रुका नहीं जा रहा है … मैं मर जाऊँगी. वो बोलीं- जो करना है कर लो … मेरे उनको तो ड्रिंक से फुर्सत ही नहीं है. चाची ने मुझे देखा और पूछने लगीं- क्या बात है … आज सुबह सुबह यहाँ कैसे?मैंने भी जवाब दिया- वो चाची … बस जॉगिंग पर जा रहा था कि पैर में दर्द सा होने लगा.