बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो ओन्ली सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

जवायचे पिक्चर: बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की, मैंने अपना पानी उसके मुँह में डाल दिया, तो वो सारा का सारा पानी पी गई और उसका पानी मैं पी गया.

नंगी चोदने वाली पिक्चर

फिर वापस आकर बेडरूम में आ गया। मैं बिस्तर पर बैठा और उसके पैर को छुआ। मेरा लण्ड खड़ा होने लगा।फिर मैं धीरे-धीरे उसकी नाईटी उठाते हुए ऊपर की तरफ जाने लगा। मैंने उसकी कोमल और भरी हुई जांघों को छुआ. मनोज बीएफफिर करीब 10 मिनट के बाद दूसरी बार मैंने उसके साथ चुदाई का खेल फिर से शुरु किया, मैंने उसके बूब्स को सहलाया, फिर मैंने उसके निप्पल चूसे और उसके ऊपर चढ़कर अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और पूरा ज़ोर लगाकर अपना लंड उसकी चूत के अंदर किया.

कुछ देर बाद जब मुझसे भी नहीं रहा गया तो मैं भी अपने जीजू को किस करने लगी. गुलाब गिफ्टमुझे होश सा आया तो मैंने देखा कि मेरा हाथ कम्मो के कुर्ते के अन्दर उसकी ब्रा के भीतर उसके नग्न स्तनों को मसल रहा था … गूंथ रहा था …मसल रहा था.

फिर मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसके ऊपर लेट कर उसके बदन से खेलने लगा.बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की: उसने पैड सहित मेरे दूधों को कस के दबा दिया और फिर एक ही झटके में ब्रा को ताकत से खींच दिया, जिससे ब्रा की बद्धियां टूट गईं.

मैं पूरे परिवार के साथ घुल मिल गया और कई बार तो ऋषि रात को मेरे साथ ज़िद करके सो जाता था.तो उसने वाशरूम जाने का बहाना बना दिया और बोली कि यहीं बाहर गार्डन में हूँ.

ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೋಸ್ ಹಿಂದಿ - बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की

उसने अपनी सहेली सुमन को कह दिया कि वो मुफ्त में चूत नहीं चुदवायेगी.इतना सुनने के बाद मैं झट से पूजा के ऊपर चढ़ गया और अपने दोनों हाथों से उसकी दोनों चूचियों को पकड़कर मसलते हुए पूजा से बोला- अरे मेरे लंड की रानी, ज़रा अपने नाजुक हाथों से मेरे लंड को अपनी चुत के छेद से लगा दो, प्लीज़.

हालांकि उन्होंने मुझसे भी साथ चलने को कहा था, पर मुझे छुट्टी नहीं मिल रही थी. बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की मैंने उसे उसी मेज़ पर उसे लिटा दिया और उसके पूरे बदन को नीचे से ऊपर तक चाटने लगा.

फिर वो गांड हिलाते हुए बाथरूम में चली गई और अपना मुँह धो कर वापस आ गयी.

बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की?

या हिना भाभी को बाज़ार से कुछ मंगवाना होता, तो वो मुझे अपने बोल देती थीं. तभी जगत अंकल बोले- वन्द्या को भी यहीं बुला ले, यह मस्त तो हो रही है. तो वो बोलने लगी- तुम तो आज ऐसे चोद रहे थे, जैसे तुम मुझे पहली बार चोद रहे हो.

चाचा ने चूत में उंगली करने की गति को बढ़ा दिया और चाची ने भी अपने चूतड़ों की उछाल को तेज कर दिया. इसके बाद अंकित ने राज अंकल के और मुन्ना अंकल के कान में कुछ धीरे से बोला. हम दोनों के चर्मोत्कर्ष को प्राप्त कर लेने के बाद भी हम उस आलिंगन के पलों से बाहर नही आना चाहते थे.

मैं एक दिन अपने ब्वॉयफ्रेंड को कॉलेज में देखा कि वो एक लड़की से हंस कर बात कर रहा था. मैंने उनसे कमरे के बारे में बातचीत की और बताया के मुझे कमरा 3-4 साल के लिए चाहिए. अब वो दोनों भाई अपनी बहन के सामने एकदम नंगे खड़े थे और दोनों का लंड एकदम जैसे उफान मारता हुआ खड़ा था.

हम दोनों के लिंग और योनि पूरी तरह से चिपचिपे हो गए थे, जिससे माइक के तेज़ धक्कों से छप छप छप की आवाज निकलने लगी थी. दो पल रुकने के बाद वो बोली- अब धीरे से धक्के मारने शुरू कर!मैंने वैसे ही किया और मुझे मज़ा आना लगा.

थोड़े दिनों बाद वो दिल्ली में सैटल हो गयी, पर आज भी उसकी याद आती है.

नहीं पास हो पायी तो सोचूंगी कुछ और!दिन में घर पर अकेली ही रहती हूँ.

अंदर गयी और काफी पीते हुए अपने जीवन के पहले अनुभव के लिए साथी की तलाश करने लगी. मैंने देखा कि उसने अपनी चुचियों को एक काले रंग की छोटी सी ब्रा से ढका हुआ था. केवल जब मैं उन्हें दूध नहीं पिलाती, तब वो मेरे लिए मेरे साथ पीते है.

कुछ पल बाद उसने कहा- प्लीज़ अब मुझसे और नहीं रहा जा रहा … जल्दी से अपने मोटे लंड से मेरी चूत फाड़ दो और इसकी प्यास बुझा दो. मेरी सहेली की ये बात सुनकर मुझे बहुत अजीब लगा कि वो अपने जीजू से सेक्स करती थी. अब वो चुदाई का खूब मजा ले रही थी और अपनी गांड उछाल उछाल के मेरा साथ दे रही थी.

उसकी रोकने की हालत थी ही नहीं … मैं बस चूत के ऊपर का दाना सहलाता रहा और वो झड़ गई.

15 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकालना चाहा लेकिन उसने मुझे अपनी तरफ दोबारा खींच लिया. मैंने कपड़े पहने और आराम से रसोई में आ गई और उससे बोली- कहां है चाय?मुझे गुस्से में ना देख कर उसकी भी सांस में सांस आई. वो मुझे बेड के किनारे पर बिठा कर मेरे लंड को हिलाने लगीं और उसका टोपा खोलकर चूसने लगीं जिससे मेरा मस्ती के कारण बुरा हाल हो गया.

जाने-पहचाने छेद में हलक तक पहुंचाते हुए मैंने कुछ धक्कों में ही नताशा की सांस फुला दी और वो छूटने के लिए तड़पने लगी. मैं यह सुनकर उससे बोली- तो बात तो वही हुई न कि तू वहां पर कॉल गर्ल जैसा काम ही तो कर रही है. उनकी तरफ से जब कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो मैं धीरे धीरे आंटी के सारे शरीर को चूमते हुए चाटने लगा.

मुझे अपनी आंखों पर विश्वास नहीं हो रहा था इसलिये मैंने एक बार अपनी आंखें मलकर फिर से उसे देखा.

इधर सतीश पीछे से मेरे बाल पकड़कर कस के गांड में लंड डालते हुए बोला- तू साली रंडी है … बुकिंग में आई है. स्पष्ट था कि यह मेरी बीवी के लिए एक बहुत ही सुखदायी और रोमांचकारी लम्हा था.

बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की हम दोनों ने एक पेड़ की छांव देखी और उसके नीचे बैठ कर बातें करने लगे. अंग्रेज से चुद कर वो अंग्रेजी में ही बोली- आई फील लाइक ए न्यू वूमेन.

बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की मुझे नहीं पता था कि ये माइक की कोई तकनीक थी, या मेरे अनुभव से जैसा लगा कि माइक झड़ने के क्रम में अपनी उत्तेजना पर नियंत्रण खो बैठा. आओ ना जीजू!मैंने देर ना करते हुए नीरू की जंघाओं को चौड़ा कर उसकी चूत के छेद पर अपने लंड को सेट किया तो नीरू बोली- अभी लंड नहीं डालना है.

मेरी पत्नी उस टाइम बाहर हॉल में बैठी हुई थी, मैंने उसको वहीं बैठे रहने का इशारा किया और मैं अंदर चला गया.

बीएफ हिंदी हिंदी में बीएफ

मैं सतीश से बोली- प्लीज बाहर से किसी को भेज दो … वो आए और मुझे चोद दे … मुझे जम के चुदवा दो … जल्दी से भेजो किसी को … वो मेरी आग बुझा दे. मेरी जगी हुई चिंगारी शांत हो गयी थी, मैं बहुत असमंजस में थी, मुझे समझ नहीं आ रहा था कि क्या कहूं. इसलिए मैंने अपने दोनों हाथों से उसके हाथों पकड़ कर उसकी जांघों पर से हटा दिया और वो अब फिर से नहींई.

मैं टॉवल उतार कर अभी सलवार डाले मैं नाड़ा बांध ही रही थी कि उसने दरवाज़ा खोल दिया. मैंने अपनी शिफ्ट खत्म की और मैंने उसे काल किया कि तुम्हारी टिफिन बॉक्स लौटानी है. मुझे इससे कोई दिक्कत नहीं थी बल्कि मुझे लगा कि शायद मेरी किस्मत चमकने वाली है.

दीपक यह सुनकर हैरान रह गया।सुशीला यह सुनकर चिल्लाने लगी, वह बोली- क्या कर रहे हो? मैं कोई रंडी थोड़े हूं।मैं बोला- अबे साली, रंडी नहीं है तो क्या है? आज के लिए तू हम लोगों की रंडी ही है। आज देख हम तेरी चूत और गांड का क्या हाल करते हैं.

आपको इस सेक्स स्टोरी में कितना मजा आ रहा है, ये आप मुझे मेल करके बताएं![emailprotected]कहानी जारी है. थोड़ा दुःख तो हुआ लेकिन मुझे स्कोर अच्छा करना था, तो मैंने अपना सारा ध्यान पढ़ाई पे ही लगा दिया. मैं बोली- पक्का अंकल? प्रॉमिस करिए!तब अंकल अपने सर पर हाथ रखकर बोले- गॉड प्रॉमिस है, सिर्फ 15 मिनट दे दो मुझे.

चूमते चूमते हम दोनों अपने लंड उसकी चूचियों पे रगड़ रहे थे और इसी तरह हम दोनों अपने लंड उसके मुँह के पास ले आए. तब राज अंकल बोले- बाजार शाम को ही पूरा खुलता है … और रात में दस बजे तक वहां मार्केट ओपन रहता है. अब मानसी भी गर्म होने लगी थी।थोड़ी देर बाद सुशीला जोर की सिसकारियां छोड़ने लगी। मैं समझ गया कि मेरी रंडी ताव में है, मैंने मानसी को इशारा किया तो वो वहां से हट गयी।सुशीला- हट गयी क्यों साली? चूस!मैं खुश हो गया कि अब सुशीला पूरी रंडी बन चुकी थी, अपनी बेटी से अपनी चूत चुसवाने को भी तैयार थी.

वो बोले- इस लाइन में कब से हो?मैं बोली- अभी बिल्कुल नई हूं … एकदम फ्रेश हूं. यह कहते हुए सतीश ने मेरी टी-शर्ट के ऊपर से ही मेरे दोनों दूध पकड़ लिए और जोर से दबा दिया.

कुछ बात जमा, मैं तो तुझे देख कर और चोदकर तेरा दीवाना हो गया हूं, तेरे बिना रह पाना अब मुश्किल है. मेरा मन तो किया कि इसको अपने ऊपर ही लिटा लूं और कस के पकड़ लूं, पर मैं ऐसा नहीं कर सकती थी. पूजा की चुदासी चुत को देखकर मेरी वासना सीमा लांघ रही थी, मैं पूजा से बोला- रूको मेरी छिनाल रानी, अभी मैं तेरी चूत को मेरे लंड से चोद चोदकर भोसड़ा बनाता हूँ.

क्या सोचने लगे अंकल जी?” वो मुझे चिकोटी काट कर बोलीकम्मो मैं सोच रहा था कि अब आगे हमारा रिश्ता और मजबूत कैसे होगा?” मैंने चुदाई की बात स्पष्ट न कह कर यूं दूसरे ढंग से कहीं.

तकरीबन नौ इंच का गोरा गुलाबी रंग का लंड देख कर मेरी बीवी की चूत का वो हाल हो रहा था, जैसे किसी मरुस्थल के प्यासे का हाल कुएं के पास हो जाता है. इसके साथ साथ ही मुझे एक बुरी खबर भी मिली, प्रिया और उसके भाई कुशल की तो छुट्टियां चल ही रही थीं, अगले दिन से नेहा की भी छुट्टियां होने वाली थीं … इसलिये वो सब अगले दिन ही कुछ दिनों के लिये गांव जाने वाले हैं और उसके लिये ही वो सब बाजार से कपड़े वगैरह खरीदने बाजार जा रहे थे. तो वो एकदम खुश हो कर मेरे से लिपट गयी और बोली- वाह, आज तो मज़े आ गए … मैं भी व्हिस्की ही पसन्द करती हूँ.

रानी मज़ा आ गया तुम्हारी चूचियों का रस पी कर!इसके बाद मैंने पूजा को उठा कर अपने गोद में बिठा लिया. फिर पूरी रात है हमारे पास … बहुत मज़ा करेंगे।वो जल्दी ही मान गई क्योंकि वो चुदाई की चाहत में वशीभूत हो चुकी थी.

और ये क्या … इस बार तो सीधा लन्ड चूत को चीरता हुआ सीधे अंदर जा घुसा और बच्चेदानी से जा टकराया. मैंने भी बोल दिया कि हां हम 8 बजे मिलेंगे और खाना भी बाहर खा लेंगे. तभी नीरू ने मेरा टी शर्ट और बनियान भी उतार कर मुझको बिल्कुल नंगा कर दिया और मेरा लंड अपने मुंह में लेकर चूसने लगी और एक मिनट बाद ही मेरा लंड अपने मुंह से निकाल कर पायल से बोली- इसको चूसने में कितना मजा है! इतना मजा किसी चीज में नहीं!और फिर नीरू ने 4-5 मिनट मेरे लंड को चूसा, फिर लंड मुंह से निकाला कुछ दूरी पर बैठी पायल को मेरे पास बुला लिया.

चुदाई सेक्सी बीएफ हिंदी में

मैं उसके साथ चल पड़ी और कॉलेज से बाहर आते ही उसने एक ऑटो पकड़ा और अपने घर पर ले आई.

मेरे दोस्त ने भी उसे चोदने की मंशा जाहिर की, तो नूर ने मना नहीं किया. आज तक हमने कभी भी इतनी सेक्सी खूबसूरत और इतनी मस्त फिगर की लड़की नहीं देखी है. मैंने हामी भरते हुए उसे एक लिप किस की और फिर उसने दरवाज़ा खोला और बाय बाय बोला.

उसकी सिसकारियाँ जोर जोर से निकल रही थी तो मैंने उसकी ब्रा को उसके मुंह में ठूंस दिया था जिससे उसकी आवाज़ बाहर ना जाये और प्रशान्त वाली ग़लती मुझसे ना हो जाये।मैंने उसे लिटा के, घोड़ी बना के, डबल बैड पर झुका कर, खड़ा करके, अपने लंड पर बिठा के मतलब हर तरह से कई बार चुदाई की क्योंकि मैं भी पूरे जोश में था और ठंड भी बहुत पड़ रही थी. हम दोनों के चर्मोत्कर्ष को प्राप्त कर लेने के बाद भी हम उस आलिंगन के पलों से बाहर नही आना चाहते थे. एक्स एक्स एक्स सेक्सी भोजपुरी मेंयह सुनकर मेरा भी मुंह उतर गया क्योंकि मैं भी चाहता था कि पापा कुछ दिन और यहाँ रुकें.

फिर भाभी पूछने लगीं कि अगर कोई और लड़की तुमसे ये सब करने को कहे तो क्या करोगे?मैंने कहा- पहले तो उसे जानने समझने की कोशिश करूँगा. भाभी अब भी मेरी नजरों को ही ताड़ रही थीं, तब भी वे न तो अपने पल्लू को ठीक कर रही थीं और न ही मुझे कुछ कह रही थीं.

थोड़ी देर बाद वो बोली- अब और नहीं रहा जाता मुझसे … चोद कर तू मुझे औरत बना दे।मैंने भी देर नहीं की और उससे कहा- यार कोई क्रीम या तेल ले आ! चिकनाई लगा कर करेंगे तो आसानी से अंदर चला जाएगा. उसके साथ एक अच्छी बात ये भी थी कि हम दोनों लोग घर में ही बिना किसी डर के आराम से सेक्स कर लेते थे. मेरा लन्ड मीता की चूत के दरवाजे को सिर्फ स्पर्श कर रहा था कि मीता ने अपने होंठों को दबाकर जोर से अपने कूल्हे उछाले और इसी के साथ लन्ड फिर से जाकर चूत की छल्लों की बाहरी दीवार पर फिट हो गयाअर्र मीता … यह क्या कर रही हो? लन्ड अंदर घुस जाएगा … मत करो!”तुम शांत रहो बस!” गुस्से में मीता ने कहा और फिर से एक बार जोर से अपने कूल्हे उछाले.

मैं पूजा से बोला- क्यों रानी क्या चोदते चोदते थक गयी हो?पूजा मेरे होंठों पर चुम्मा देते हुए बोली- हां, मेरे सैयां. मैं महसूस करने लगी थी कि वीर्य की पहली पिचकारी में माइक का जिस्म सहम गया. नीरू तुरंत बोली- जीजी … है ना मेरी सहेली पायल … वह मुझसे स्कूल जाते वक्त सेक्सी बातें करती रहती है.

तो मैंने भी बात को दूसरी तरफ मोड़ते हुए उससे पूछ लिया कि आप कौन सी कक्षा में हो?तो उसने बताया कि 12वीं में हूँ.

इधर मेरे पजामे में मेरा लंड तन गया था और उसकी जांघों में घुसने के लिए जिद कर रहा था. फिर हम लोग मॉल से निकल कर बाहर आये तो मुझे याद आया कि अभी कम्मो को गोलगप्पे खिलवाना तो रह ही गया.

मेरा मन हुआ कि चूम लूं इसे! अबकी बार मैंने पूछा नहीं और लंड पर तीन चार चुम्मे दिए. बस कॉलेज के बाद दो तीन घंटे ही काम होगा और पैसे भी खूब मिलेंगे।अमीषा बोली- कल क्यों, मैं तुम्हें अभी जवाब दे देती हूँ। मुझे पैसे की कोई चिंता नहीं … मगर हाँ अगर नये नये लंड मिलेंगे तो मैं तैयार हूँ।जवाब सुनकर सुमन बोली- ठीक है … आज से या अभी से?अमीषा बोली- लंड लेना चूत के लिए बहुत शुभ काम है और शुभ काम के लिए आज और अभी से ही!उसने कहा- ठीक है।यह कहानी जारी रहेगी. सतीश तू तो बोल रहा था कि तेरा बहुत स्टेमिना है मादरचोद … और मुझे पूरा संतुष्ट करोगे … तो अब क्या हुआ?परन्तु मेरे कहने का कोई असर नहीं पड़ा.

मैंने कल रिसीव किया, सामने से बहुत मधुर आवाज़ आई, ये किसी लड़की की आवाज थी. तभी प्रिया ने मेरी तरफ देखा … प्रिया के देखते ही डर के मारे अपने आप ही मेरी नजरें नीची हो गईं और मैं अपनी बगल झांकने लगा. थोड़ी देर रुकने के बाद वो हल्के हल्के से सुपाड़े को ही मेरी योनि में अन्दर बाहर करने लगा.

बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की मैं तो पूरी गर्म होने ही वाली थी लेकिन उसने बीच में ही सारा मज़ा खराब कर दिया. वो बोले जा रही थी- ये क्या कर रहा है प्रकाश … साले मेरे हाथ खोल दे सहन नहीं होता … मेरी चुत से पानी आ रहा है.

बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ सेक्सी बीएफ

लेकिन इस बार की कंपनी मीटिंग में यह तय हुआ था कि अब से क्लाइंट से मीटिंग में हमारे डिपार्टमेंट का कोई आदमी भी रहेगा. मैं इसी की फिराक में था, पर डर रहा था कि उठ गई तो मेरी तो लग जायेगी. इसलिए उन्होंने अब खुद ही अपने‌ हाथों व पैरों की सहायता से अपनी‌ पेंटी को‌ उतारकर अलग कर दिया‌ और‌ जल्दी से मेरी बगल‌ में हाथ डालकर मुझे‌ अपने‌ ऊपर खींच लिया.

मैं उसकी चूत का सारा पानी चाट गया।फिर मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए. अब तक आपने पढ़ा था कि मैं एक मॉल में थी, मेरी चूत और गांड में उस मॉल के दो वर्कर लड़कों के लंड घुसे हुए थे. डॉक्टर ओपन सेक्समैं तो कभी नहीं चाहूँगा ऐसा। वैसा मेरा इरादा न तुम्हें तकलीफ पंहुचाने का है और न ही कोई तुम्हारी इंसल्ट करने का। मुझे साइकोलॉजी में गहरी दिलचस्पी भी है और पकड़ भी.

जाते वक्त उसने बोला- मैं आपकी सदा आभारी रहूंगी … जो मुझे आपने खुशी दी है.

मैंने भी उसके हाथों को छोड़ दिया और अपने दोनों‌ हाथों से उसकी जांघों को खोलने‌ की कोशिश करने लगा. देखते ही मेरा लंड फनफना उठा और मैं धीरे-धीरे मम्मी को देखते हुए लंड सहलाने लगा.

एक दिन मैंने उसे प्रपोज किया, तो उसने मना कर दिया और मुझे डराया कि अगर मैंने दोबारा ऐसी गलती की तो वो मेरे घर में शिकायत कर देगी. अब वो मस्ती में बोलने लगी- ऊऊहह … उम्म … उह्ह्ह् … और तेज रेनिश … आह्ह्ह्ह्ह … और तेज … आज मेरी बुर का भोसड़ा बना दो … मैं हमेशा तुझसे ही चुदवाऊँगी … प्लीज़ और तेज़ ऊऊह्ह … आआह …घमासान चुदाई चलने लगी थी. पर गेम खेलने वाली लड़कियों की इमेज अक्सर लोगों के मन में वैसी ही बन जाती है.

थोड़ी देर में ही मैं उनके सामने सिर्फ़ अपनी जॉकी में था; उन्होंने मेरी अंडरवियर के ऊपर से ही मेरे लंड को पकड़ के सहलाना शुरू कर दिया.

मैं- चाचा का लंड कभी चूसा है आपने?चाची- नहीं … लेकिन दीदी को (बड़ी चाची) जेठ जी का लंड चूसते देखा है. और जाते जाते ध्यान आया कि वो कपड़े बदल रही हैं तो मैं दरवाजे पे ही रुक गया. वो जोर से चिल्ला दी लेकिन मेरी किस्मत अच्छी थी, उसका बेडरूम पूरी तरह से साऊंड प्रूफ था.

सेक्सी हॉट एक्सफिर औंधी हो गयी।कंधे की हड्डी, पक्खे, रीढ़ की हड्डी साफ तौर पर नुमाया थी। नितम्ब जो बाहर निकले हुए होने चाहिये और पहले कभी थे भी. अभी भी ऐसा लग रहा है जैसे गांड में लंड घुसा हुआ हो। साली कल तक सूज भी जायेगी और हगने में भी तकलीफ होगी।”ढीली भी तो ऐसे ही होगी.

बीएफ हिंदी चुदाई हिंदी

मैंने अपने होंठ उसकी चूत पे रख दिए, वो मेरा सर अपनी चूत पे दबाने लगी. लेकिन वो बहुत जोर दे रही थीं, तब मैंने उनसे बोल ही दिया कि आप गुस्सा तो नहीं होंगी ना?भाभी ने प्रॉमिस किया, तो मैंने उनका हाथ पकड़ कर घुटने पे बैठे कर उनको आई लव यू बोल दिया. हमने अपनी अपनी तरह का एक एक पैग और लगाया और फिर वो बोली कि चलो छत पर चलते हैं.

शीतल दर्द से कराहते हुए- आ… ह… आह… अरे मादरचोदों, तुम्हारे बाप का लंड इतना मोटा नहीं है… आह… आ…ए… इसलिए मुझे तुम्हारा ये गधों जैसा लंड अपनी चूत में लेने में दर्द हो रहा है… आ… ह… पर तुम अपना काम जारी रखो… थोड़ी देर में ये चूत और गांड तुम्हारे लंड के मोटाई के हिसाब से खुल जायेगा और फिर दर्द नहीं होगा… सिर्फ मजा आएगा… आह…विक्रम ने अब माँ की चुदाई करनी शुरू की. फिर मैं लंड हिलाता हुआ छोटी चाची की गांड की तरफ आया और बोला- चाची अपनी गांड को फैलाओ. मैं तब नीचे से उसकी नंगे चूतड़ों पर हाथ फेरते हुए उसके कान पर धीरे से बोला- डार्लिंग, अब तुम्हारी चूत को मज़ा दिलवाना तुम्हारे हाथों में है.

मयूरी- माँ… बात को समझो… वो दोनों भी आपको चोदना चाहते हैं… घर की बात घर में रहेगी बस… पापा तो दिन भर बाहर रहते हैं… किसी को कुछ पता नहीं चलेगा कभी… और अगर पापा को पता चल भी गया किसी तरह से तो वो क्या कर सकते हैं… किसी को बाहर बता तो सकते नहीं… वैसे उनको कभी पता ही नहीं चलेगा… कुछ नहीं होगा माँ!शीतल- नहीं मयूरी… तेरे पापा को अगर पता चल गया तो गज़ब हो जायेगा. ख़ुशी ने लंड के पानी को अपनी चूचियों पे गिराया और मुझे अपनी चूची चुसवाने लगी. कॉफी पीते हुए मैं उसके बिल्कुल पास बैठ गया और उससे चिपक कर बातें करने लगा.

अभी वो मेरा साथ तो नहीं दे रही थीं, पर मेरा विरोध भी नाममात्र का कर रही थीं. वो बोली- मेरा घर पास में ही है, आप होटल में जाओ, मैं दवाई लेकर आती हूँ.

उफफ्फ … ले चूस … महेश्श्श … चूस … चूस ले … चूस लेऐऐ … आज इनकी सारी दवाई …” सुलेखा भाभी ने एक बार फिर से अब एक कामुक सिसकारी भरते हुए कहा और जोरों से मेरे सिर को अपनी चूचियों पर दबाने‌ लगीं.

जबकि दूध चुसवाते समय मुझे लगा था कि ये खुल कर मजा लेने को तैयार हो गई है. राजस्थानी सेक्सी वीडियो चोदते हुएकुछ दिन बाद दूध वाला मुझे गुस्से से बोला- आकाश भैया आपका 6000 रूपए का दूध का बिल हो गया है. वीडियो में बीएफ हिंदी मेंमैंने कहा- ठीक है!नीरू के मुंह से ऐसी बात सुन सविता शर्मा गई और बोली- धत्त … क्या बात करती है. मैंने थोड़ा झुक कर पूजा के होंठ अपने होंठों में लेकर उसका मुँह बंद कर दिया.

मैंने उसे अपनी बांहों में ले लिया और उसका नंगा शरीर सहलाते हुए उसके कपड़े निकाल कर नंगी कर दिया.

अगर बाहर वालों के सामने मुझे भैया को पापा बोलना पड़ेगा तो मैं बोलूंगी. वो समझ गया कि उसकी बहन की चूत की खुजली मिटाने वाला लंड उसे मिल गया. जब उसने कहा कि दर्द कम हुआ है, तब मैंने एक और झटका लगाया और मेरा पूरा लंड उसकी चुत में समा गया.

मम्मी मुझे देखकर एकदम से चौंक गयी और किसी तरह अपने स्तनों और चूत को हाथ से ढकने लगी मगर उनकी चूत में फंसा हुआ बैंगन थोड़ा बाहर निकला हुआ था. कोई परेशानी हो तो बताइए?रेवती की मां बोलीं- नहीं सरस, कुछ पूजा का सामान रह गया है, वहीं लाना है यहीं पास से. तभी रिया भाभी ने तेल लाकर अपने हाथों से मेरे लंड पर और मेरे लिए एकता भाभी नई नकोर गांड पे लगा दिया.

व्हिडिओ ब्ल्यू फिल्म बीएफ

मैं तब नीचे से उसकी नंगे चूतड़ों पर हाथ फेरते हुए उसके कान पर धीरे से बोला- डार्लिंग, अब तुम्हारी चूत को मज़ा दिलवाना तुम्हारे हाथों में है. कुछ मिनट बाद मैं भी झड़ने वाला था, तो मैंने बस इतना पूछा- कहां??भाभी- अन्दर…बस मैं जोर से धक्का देता गया और अचानक मेरे लंड ने अन्दर उल्टी कर दी. बस अगले दस मिनट में मैं भी मज़े से सिप करते हुए उन तीनों के साथ वोडका पी रहा था.

पर कुछ देर रुक जाने की वजह से मैं अब ख़ुद पर नियंत्रण पा चुका था और लगातार चोदे जा रहा था.

इधर सतीश पीछे से मेरे बाल पकड़कर कस के गांड में लंड डालते हुए बोला- तू साली रंडी है … बुकिंग में आई है.

मैं आगे बोला- बतलाओ मेरे लिए क्या सेवा है?तो नीरू ने सविता का हाथ पकड़ते हुए कहा- जीजू, सविता भी जवान हो चुकी है, यह आप से चुदाई कराना चाहती है. यह कहते हुए रिया भाभी ने आगे आकर मेरा खड़ा लंड अपने मुँह में ले लिया. सेक्सी नंगी सीन हिंदी मेंबारह बजे के करीब जब मेरी नींद खुली और जब तक मैं तैयार होकर अपने कमरे से बाहर आया तो दोपहर के खाने का समय हो गया था.

मैं उसकी चूत सहलाने लगा तो उसे मजा आने लगा और उसने मुझे अपनी बाहों में भर लिया और मुझे नोचने लगी. अगली बार एक और कहानी लेकर आऊंगा आपके समक्ष, तब तक के लिए लंड-चूत का प्रणाम![emailprotected]. शायद सुलेखा भाभी को मालूम नहीं था कि ऐसा करने से मैं उनकी प्यास को और भी भड़का दूँगा.

दीपक की बात सुनकर मानसी उसके लंड पे जाकर झुक गई और उसे मुँह में लेकर चूसना शुरु कर दिया। मैंने भी अपना लंड धीरे से सुशीला के मुंह में पेल दिया. वो लोग मुझे आकर मुझे अपनी गर्लफ्रेंड बनाने के लिए बोले और मैं भी मान गयी.

मगर तभी …ठीक है … ठीक है … पता है मुझे!” सुलेखा भाभी ने अब गुस्से से प्रिया की तरफ देखते हुए कहा, जिससे प्रिया सहम सी गयी और मेरी तरफ देखने लगी.

मेरी चुत में पानी भी आ रहा था और मेरा बेटा बियर में सनी हुई मेरी चुत के पानी का मिश्रण को चूस चूस कर पी रहा था. उसने कहा- आज रात को 11 बजे आ जाना ताकि गली मोहल्ले के लोग भी न देख लें।मैं उस दिन जॉब से आने के बाद बाल वगैरह साफ़ कर के 10 बजे तैयार होकर बैठ गया। उसके बाद वो एक घंटा मैंने बड़ा मुश्किल से निकाला। ठीक 11 बजने से दो मिनट पहले ही मैं अपने घर से निकल गया और मैं सीधा उसके घर उसके दरवाजे पर पहुँच गया. हमारा होम टाउन कानपुर पड़ता है, तो माँ पापा और ताऊ जी सब जाने की तैयारी में लग गए.

सनी लियोन की बीएफ पिक्चर दिखाएं मुझे अचानक ही याद आया कि मैंने जो अपना माल उसकी पेंटी में निकाला था, वो मैंने धोया नहीं था. मैं धीरे धीरे भाभी के गले पर किस करने के साथ साथ अपने हाथ को उनके ब्लाउज में डालकर उनके बूब्स को भी छेड़ने लगा.

अगले दिन मौका पाकर मैंने रेखा से कहा- मैं तुमसे अकेले में मिलना चाहता हूँ।वह भी जल्दी ही मान गई. मेरी सासू माँ के कड़े दूध मेरी छाती से टकराए, तो मैंने उन्हें कसके बांहों में भर लिया और उनके गालों पे किस करने लगा. फिर तीनों में बातचीत शुरू हुई:रजत- माँ…शीतल- हाँ बेटे?रजत- क्या अब तुम रोज़ हमसे ऐसे ही चुदवाओगी?शीतल- हाँ मेरे लाल…रजत ख़ुशी से- कितना मजा आएगा… अब हम रोज़ तुम्हें अलग अलग जगह पर चोदेगे… इस घर का हर कोना हम माँ-बेटों की चुदाई का गवाह बनेगा.

बंगाली लोकल बीएफ

फिर वो रेड कलर की नाईट ड्रेस में मेरे सामने आई और उसके हाथ में 2 बीयर की बोतलें भी थीं. मुझे इसी पल का इन्तजार था, मैं तुरन्त बस में गया और उसकी साथ वाली सीट पर बैठ गया. अब मैंने उसकी ब्रा को निकाल कर एक तरफ फेंक दिया क्योंकि मैं यह चाहता था कि वह पूरे समय बिना कपड़ों के ही रहे.

अब जो सब्जेक्ट छेड़ दिया है… उसके बाद नींद कहां आयेगी। अब तो खुद ही दिल कर रहा है और बातें करने का।”उन लड़कों में से किसी ने शादी करने में दिलचस्पी न दिखाई?”तीनों दूसरे धर्म से थे. करीब 6 बजे शिवानी जग गयी और उठते ही उसने मुझे नीचे से ऊपर तक घूरा जैसे कि मैं उसके लिए कोई अनजान औरत हूँ.

शाम को करीब सात बजे मैं उनके घर गया, डोर बेल बजाई तो मैडम ने दरवाजा खोला.

जब मैं और उत्तेजित हो गयी तो अंकल को और थोड़ा सा लंड घुसाने को बोला. ’ और मैंने माइक के हाथों को कस के पकड़ लिया, साथ ही मैंने उसकी जाँघों पर अपनी टांगों से दबाव बढ़ाना शुरू कर दिया. लेकिन हम दोनों लोग को डर भी लग रहा था कि घर में सब लोग सो रहे हैं और कोई ने देख लिया तो हम दोनों को बहुत डांट पड़ेगी.

वो मुझसे बोला- चल आज कॉम्पिटिशन रखते हैं कि कौन ज्यादा देर तक अपने माल को चोद पाता है. बाद में उसने एक गहरी सांस के साथ मेरी तरफ देखकर एक हल्की सी मुस्कान बिखेर दी, जो मेरे सुखद एहसास के लिए काफी थी. उस वीडियो में एक मर्द, एक औरत और एक आधा मर्द और औरत संभोग कर रहे थे.

मेरा भी अब मन कर रहा है, किसी और से चुदवाने का … लेकिन मुझे डर है कि कहीं किसी ने मुझे पहचान लिया तो क्या होगा?रीना बोली- इसकी टेंशन ना ले तू … तुझे कोई भी नहीं पहचानेगा.

बीएफ सेक्सी मूवी भाई-बहन की: आज की रात मेरी चूत को फाड़ कर उसको भोसड़ा बना दो, मेरी गांड में अपना लंड पेल कर उसको भी फाड़ दो. उसने अपना नाम साधना बताया। मैंने नोटिस किया कि उसका कद 5’6″ तो होगा.

थोड़ी देर बाद रेवती बोली- बुरा मान गए क्या सरस?मैंने कहा- नहीं, बुरा मानने वाली कोई बात नहीं थी. आप सभी आंटियों भाभियों एवं लड़कियों तथा हमारे प्रिय दोस्तों से निवेदन है कि आप सभी अपने सुझाव मुझे ईमेल करके भेजें ताकि मुझे और कहानी लिखने की प्रेरणा मिल सके. विक्रम की बात सुन लेने के बाद ख़ुशी से अपने दोनों भाइयों का लंड अपने एक-एक हाथ में भरते हुए मयूरी बोली- हाँ मेरे भाइयो… मुझे पता था… तुम दोनों मेरी जवानी की प्यास को ऐसे तड़पने के लिए नहीं छोड़ोगे… मुझे पता था कि तुम मेरी राखी का कर्ज जरूर उतारोगे.

अबकी बार जैसे ही रेवती ने अपनी गांड को उठाकर नीचे पटका, मैंने अपना आधा से ज्यादा लंड रेवती की चूत में उतार दिया.

फिर तो आपको कंपनी मिल जाएगी ना?पूर्वी मुस्कुराती हुई- हम्म!उसके बाद उन्होंने अपने मोबाइल से किसी शॉप पर फोन लगाया और खुद के लिए एक स्ट्रॉंग बियर और मेरे लिए एक एनर्जी ड्रिंक का ऑर्डर किया. उनका बेटा शायना भाभी के साथ रहने लगा, तरुण भैय्या ने शायना भाभी को छोड़कर उस रंडी लड़की के साथ शादी कर ली. यह नकली योनि उनके लिए बड़ा कारगर सिद्ध हो सकती है जो हस्तमैथुन कर कर के थक गए हैं या ऊब गए हैं.