सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,सेक्स story

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी सेक्सी चाइनीस: सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ, एक बार जब हनी मायके आई तो मेरी पत्नी की सलाह पर मेरी सास हनी को लेकर डॉक्टर के यहां भी गई और कुछ इलाज भी हुआ.

काम दूधा रस

मैं तो उनकी गर्म सांसों के कारण ही मदहोश हुआ जा रहा था, केवल फुसफुसा कर बोला- अहोभाग्य भाभी जी, अंधा क्या मांगे … दो आंखें. सेक्सी वीडियो पिक्चर वालीपांच मिनट ऐसे ही करने के बाद रोहित बोला- भाभी, थोड़ा आप गांड को ऊपर ही रखिए न!फिर रोहित संजू के दोनों चूतड़ों को अपने हाथों से थामकर नीचे से ऐसे जोरदार झटके लगाने लगा कि संजना का बदन थर्रा गया.

फिर दीपिका ने मेरा लण्ड अपने मुँह में ले लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. इंडिया सेक्सी डॉट कॉमउम्म्ममेघा … तू बहुत हॉट है यार… मुझे भी चूसने दे न!”मैं बेड पे लेट गई.

तभी सीमांशी मेरे ऊपर आ गई और मेरे लन्ड पर बैठ कर अपनी गांड को रगड़ते हुए मेरे गालों पर किस करने लगी.सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ: मैंने फोन बाहर निकाला, तो देखा कि अभी मेरी गर्लफ्रेंड रिया का कॉल आ रहा था.

धीरे धीरे मेरे दोनों बेटे पढ़ लिख कर विदेश में नौकरी करने लगे और शादी करके वहीं सेटल हो गये.वैसे नताशा तुम्हें मजा तो आया न … सच बताना!नताशा- मजा तो आया … लेकिन दर्द अभी भी हो रहा है.

इंडियन लाइव सेक्स - सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ

दीपिका ने अपने होंठों पर जीभ फिराते हुए बहुत ही सेक्सी स्माइल दी और बेड पर पाँव लटका कर बैठ गई.क्रिया बोली- प्लीज़ मेरी चूत चोद दो, पीछे बाद में कर लेना।उसके बाद मैंने अपनी गर्लफ्रेंड की गांड के नीचे एक तकिया लगाया फिर धीरे धीरे उसकी चूत में लंड डालने लगा। काफी समय बाद उसकी दूसरी चुदाई हो रही थी तो उसकी चूत फिर से कस गई थी.

मैंने खुशी से कहा- मैंने तो मजाक किया था और तुम सचमुच आँखे बंद करके बैठ गई।अब खुशी कुछ कहती, इससे पहले ही उसके पास बैठी एक छोटी सुंदरी जो मुझे होटल पहुंचने पर सबसे पहले स्वागत करते हुए मिली थी, उसी चंचल बाला ने कहा- दीदी ने तो आपको आते देखकर आँखें मूंदी हैं।अब खुशी का भेद खुल गया. सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ इसी बात पर मैंने उससे मजाक में कह दिया कि मायरा तू मेरे साथ अफेयर कर ले.

उसके बाद मैंने कई बार पति की गैरमौजूदगी में उनसे अपनी चूत की सर्विस करवाई.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ?

जिया- अगर आपको सेक्स करने का मन कर रहा था, तो आप भाई को बता सकती थीं … लेकिन आप शादीशुदा होकर किसी और के साथ यह सब कर रही हो … ये बिल्कुल गलत है. अपनी गांड पर लंड की चमड़ी का अहसास होते ही उसकी गांड ने झुरझुरी सी ली. वो ज़ोर ज़ोर से घोड़ी की तरह अपनी गांड हिलाते हुए मेरे लंड से चुत रगड़वा रही थी.

अन्दर आकर उसने दरवाजा बंद कर दिया और मेरे साइड में लेट कर बातें करने लगी. उसने कहा- आंटी फिलहाल तो मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है … लेकिन कुछ लड़कियां जरूर मुझे पसंद करती हैं. बस दो पल और फिर तुम्हारे जीवन का नया सुनहरा अध्याय शुरू होने वाला है.

मेरी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स की सेक्स कहानी के पहले भागअनाड़ी का चोदना चूत का सत्यानाश-1में आपने पढ़ा था कि मेरी गर्लफ्रेंड ने मुझे अपने फ्लैट पर बुलाया था. डॉक्टर ने शमा को बचाने के बहुत कोशिश की, लेकिन खुदा को शायद कुछ और ही मंज़ूर था. काफी देर चूत चुदाई देखने के बाद मेरी भी वासना जाग उठी, लेकिन फिर भी मैंने अपने आपको संभाला.

फिर मैं उसके स्तन बारी बारी से चूसने लगा और दबाने मसलने लगा साथ ही उसके निप्पलस चुटकियों में भर करे नींबू की तरह हौले हौले निचोड़ने लगा. गिन्नी के चूतड़ों के नीचे तकिया रखकर मैंने गिन्नी की चूत ऊंची कर दी.

कोमल- क्या कर रहे हो?मैं- देखो … उसने हमें देख लिया है, वो तुम्हारे पति को कॉल करे … उससे पहले तुम उसको भी इस खेल में शामिल कर लो … तब ही हम दोनों बच पाएंगे.

मैंने बेड पर लेटकर पहले टिश्यू पेपर से अपना लंड साफ किया और बस चुदाई के बारे में सोचने लगा.

मैंने एक आज्ञाकारी बच्चे की तरह उनके रूम में जाकर डीवीडी प्लेयर में डीवीडी डालकर मूवी प्ले कर दी. कांख में गुदगुदी होने से साली जी जोर से खिलखिला कर हंस पड़ीं और मुझे परे धकेल दिया. कोई जल्दी नहीं है।मैंने पूछा- और रोहन क्या कर रहा है?रोहित- वो रूम में ही है.

एक बार तू अपना लंड भी दिखा कैसा है?मैंने उसको अपने लंड की फोटो दी तो वो उसको देख कर हंसने लगा और बोला- तू तो नामर्द है, तेरा लंड तो बहुत ही ज्यादा छोटा है. उनकी चुत से कामरस बह रहा था और मैं चूस चूस कर उनके दाने को चचोर रहा था. दोनों एक दूसरे को एक से बढ़कर एक चुम्बन दे रहे थे … नींद तो मानो कब की गायब हो चुकी थी दोनों की।फिर मैंने अपनी गाउन की चैन को अपने पेट तक पूरा खोल दिया.

क्या लाजवाब शरीर था, मक्खन जैसा!मैंने उसके पैरों से उसे चूमना चालू किया और मस्ती में चूर होता हुआ धीरे धीरे उसकी रेशमी टांगों को चाटता हुआ उसकी चूत तक जा पहुंचा.

पर मैं तो यहाँ तीन तारीख तक हूँ तुम्हें परेशान करने के लिए।नेहा ने कहा- थैक्स फॉर बेस्ट कंपलीमेंट सर।तभी खुशी का फोन आया और मेरे हैलो कहते ही कहा- तुम कबसे यहाँ आये हो और अब तक मुझसे मिले भी नहीं? यहाँ बहुत सी चुड़ैले हैं, तुम किसी चुड़ैल के चंगुल में तो नहीं फंस गये ना?मैंने कहा- ऐसी कोई बात नहीं है. रोहित इसके लिए तैयार नहीं था; उसने अपने मुंह से लण्ड को निकालते हुए जोर जोर से खाँसना शुरू कर दिया और रोहन से कहा- क्या कर रहे हो ये … जितना जाएगा उतना ही तो मुँह में ले पाऊँगा!रोहन ने कहा- सॉरी यार, मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ।रोहित ने कहा- ठीक है … हम दोनों ये काफी समय से करते आ रहे हैं … पर तूने आज तक मेरा लण्ड नहीं चूसा … और मैं तेरा लण्ड इसीलिए चूस लेता हूं कि मुझे तेरा लण्ड बहुत सेक्सी लगता है. कुछ देर बाद वो भी आ गए थे और फिर रात को डिनर हम लोगों ने साथ में लिया.

हालांकि सोनम की चूत मेरे लंड से न जाने कितनी बार ही चुद चुकी थी लेकिन मयंक के लंड सोनम की चीख निकाल दी. अगले दिन सुबह सुबह मेमसाब उसके कमरे पर आई और रोकर हाथ जोड़कर अपना राज छिपाने की अर्जी करने लगी. मैं नर्वस था तो बोला- मुझे कल तक के लिए मौका चाहिए।घर वापस आया मैं … एक बार मुठ मार कर पानी निकाल फिर सोचा कि एक तीर से दो दो निशाने … मतलब चोदने जगह भी मिल गयी और दो दो बुर (चूत) भी।अगले दिन कॉलेज जाने से पहले कंडोम ख़रीदा, डिब्बा फेंक कर कंडोम जेब में रख लिया।आज तान्या फिर मेरे से मिलने आयी थी घंटी के बीच में … तो एक कागज पे लिख कर उसे क्वार्टर के पास आने को बोला।मैं पहले गया, वो भी पीछे से आयी.

मैं भी झुक कर अपने चूचों में उसके सर को दबाते हुए उसके माथे पर चुम्बन करती, तो वो अपने हाथों को पीछे लाकर मेरे सर को अपने सर पर झुका लेता था, जिससे मेरी चूचियां और दिल की धड़कनें उसे गर्म करने लगती थीं.

अचानक भाभी की एक गहरी घुटी से चीख निकली और इधर मेरी योनि से पानी टपक गया. सुबह हम सभी समुद्र तट पर नहाने के बाद बियर पीने का मजा लेने लगे थे.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ अंत में वसुंधरा ने एक ठंडी सांस ली और आँखें बंद कर के अपना सर मेरे बाएं कंधे पर टिका दिया. नहीं तो इतनी सुंदर और कम उम्र की लड़की हर किसी के नसीब में नहीं होती।यह राज है और राज ही रहेगा.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ तो उसने बता दिया कि प्रखर की तबीयत खराब है।आमना ने बोला- मुझको प्रखर का नंबर दे दो, मुझको उससे कुछ बात करनी है. मेरा मन कुछ उचटा हुआ सा था तो मैंने सोचा कि मास्टर जी के यहां थोड़ा संगीत सुन कर आ जाऊं.

मेरे से अब बर्दाश्त नहीं हो रहा था,मैंने खड़े होकर उसका लंड निकाल के मुँह में ले लिया और पूरा लेकर चूसने लगी.

इंडियन हॉट सेक्स बीएफ

आप सभी गैस करके मुझे मेल करके जरूर बताना कि इस कहानी के अगले भाग में क्या होने वाला है. वो यूं ही नंगी बेड से उतर कर दूसरे रूम में चली गई और एक पैकेट लेकर आई. जैसे ही मैंने उनके गुलाबी होंठों को किस किया, मुझे स्वर्ग का सा आनन्द मिला.

मेरा लण्ड पूरे उफान पर था और गिन्नी भी हवाई जहाज हो चुकी थी मैं तो धक्कमधक्का कर ही रहा था, गिन्नी भी पूरी रफ्तार से चूतड़ आगे पीछे कर रही थी. मुझे नहीं पता था कि मेरी मम्मी इतनी बड़ी वाली रंडी हो सकती हैं, दो दो लंड ही साथ ले रही थी. इतना वीर्य स्खलन कि मेरी गांड और चूत दोनों बुरी तरह उसके वीर्य से भीग चुके थे.

मैंने अपनी सहेलियों से सुन रखा था कि चूसने से लण्ड टाइट हो जाता है इसलिये मैं लण्ड चूसने लगी.

माई को चोदते चोदते बाबू की नजर फिर मुझसे जा टकरायी, वो इशारे में एक दिखा रहे थे. स्पोर्ट्स ब्रा और शॉर्ट्स में उनका सेक्सी बदन मेरे बदन से टच होता, तो मैं मन्त्रमुग्ध होने लगता. मैं बोली- मैं सब समझ गई … मैं किसी से कुछ नहीं बोलूँगी … तेरी मॉम से भी … तू सच बता क्या तुझे तेरी मॉम बहुत पसन्द है?वो बोला- हां आंटी … पर वो मेरी मॉम हैं.

हम दोनों के मादरजात नंगे जिस्म एक दूसरे से लिपटे हुए थे, मेरा लंड कठोर होकर उसकी जाँघों के बीच घुसा हुआ था और मैं उसकी कांख को सूंघता हुआ वहां के बालों को उंगली से छेड़ता हुआ एक दूध पीने लगा था. आंटी ने लड़की की कमर के नीचे तकिया रख दिया और मुझे बोली- धीरे से अंदर डाल!मैंने अपना लंड अपनी गर्लफ्रेंड की बुर के छेद पर टिकाया और थोड़ा सा झटका दिया तो इतने से ही तान्या चीखने लगी. दोस्तो, मेरी ये स्टोरी आप लोगों को कैसी लगी मुझे इसके बारे में आप जरूर बताना.

किसी का भी लण्ड खड़ा कर सकती थी। अब मेरा अगला निशाना उसकी माँ की चूत ही थी। उसकी माँ की चूत मैंने कैसे ली, मैं ये कहानी के अगले भाग में जल्द ही बताऊंगा।आपको मेरी लिखी कहानियां कैसी लगती हैं आप मुझे मेल करके इसी आईडी पर जवाब दे सकते हैं।और यह देसी चुदाई कहानी कैसी लगी?आपके जवाब और अमूल्य सुझाव के इंतजार में आपका अपना राज शर्मा![emailprotected]. पिछली सेक्स कहानीपड़ोसन लड़की होली खेलने आई और चुत चुदवा गईके लिए आपके कमेंट मिले, उसके लिए आपको धन्यवाद.

उन्होंने उस वक्त लेग्गिंस और स्किन टाइट कुर्ता पहना हुआ था, जिसमें से उनके छत्तीस साइज़ के बड़े बड़े मम्मों की गोलाईयां साफ़ नज़र आ रही थी और चूचों के बीच पतली सी गली भी दिख रही थी, जो सीधा नाभि तक जा रही थी. अपनी गांड पर लंड की चमड़ी का अहसास होते ही उसकी गांड ने झुरझुरी सी ली. तभी रीना उठी और मेरा लण्ड देखते हुए बोली- कितना बड़ा है तुम्हारा और मोटा भी.

आकाश- क्या? तो वो तुम लड़के हो, जिससे जिया प्यार करती थी?जीजा जी- तुम उसे जानते हो?आकाश- हां.

उसने अपनी दोनों टांगें क्रॉस करके मेरा सिर अपनी चूत पर दबा दिया और कुछ देर बाद उसने झटके से अपनी गांड उठायी और ‘आ आ आह. वो अब पूरी तरह से तैयार थी।मैंने अब अपने बाकी कपड़े भी उतार फैंके और उन्हें भी पूरी नंगी करने के लिए पहले उनका ब्लाउज और ब्रा उतारी और फिर उनके पेटिकोट को पूरा उतार दिया। अन्दर से और कुछ पहना नहीं था उन्होंने, जो मेरे हाथों से उनके चूतड़ सहलाने पर मुझे मालूम हुआ।जैसे ही मैंने उनकी चूत को छुआ उनकी आह … निकल गयी। वो मुझ से अभी भी कुछ नहीं बोल रही थी. सोनम का एक हाथ मेरे लंड को सहला रहा था और दूसरी तरफ दूसरा हाथ मेरे दोस्त मयंक के लंड को सहला रहा था.

पर कविता की बात सुनकर मैं एकदम से भौचक्की थी कि खुद अपने बेटे के साथ सेक्स कैसे करूं. मैंने रुकैय्या की चूत के लब फैला कर अपना लण्ड पेल दिया और रुकैय्या की कमर पकड़ कर उसे चोदने लगा.

सुबह जब हम उठे एक दूसरे की आंखों में देखकर बहुत खुश थे क्योंकि अगली रात को और भी बहुत कुछ होने वाला था।जैसे तैसे दिन बीता और अगली रात भी आ गई. मेरे मुँह से बस ‘आहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्ह ईईई …’ निकल रहा था. मैं दबे पांव अन्दर चला गया और पास से अम्मी को मजा लेते हुए देखने लगा.

সবিতা ভাবি কি চুদাই

थोड़ी देर बाद वो खड़ा हो गया और धीरे धीरे वो मेरे चनिया को निकालने लगा … पर अंधेरे में वो निकल नहीं रहा था … तब मैं कार की सीट पर सीधा घूम गयी … और मेरे दोनों मम्मों को नंगा देखकर वो मेरे सीने से लग कर मुझे किस करने लगा और मेरे मम्मों ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा.

जैसे ही भाभी ने फूल को पकड़ने के लिए हाथ आगे किया तो मैंने भाभी का हाथ पकड़ लिया और उनकी उंगली में वो सोने की अंगूठी डाल दी. अब मैं वो जो पुराना घर है न … गिरा टूटा हुआ है … वहां पहुंच गया हूँ. अंत में वसुंधरा ने एक ठंडी सांस ली और आँखें बंद कर के अपना सर मेरे बाएं कंधे पर टिका दिया.

वो भी बोले- हां मेरी रंडी साली … ले मां की लौड़ी लंड ले … साली आज तेरी चुत का भोसड़ा बना कर रहूँगा. मैं- क्या समझ में आ गया?वो- कि तुम्हारा नंबर मेरे फोन में कैसे आया?मैं- कैसे?वो- ये मोबाइल पहले मेरे चचा के पास था … उन्हीं ने तुम्हारा नंबर बिना नाम के सेव किया होगा. मंगल सेक्सीभाई ने गर्म गर्म पेशाब मेरे मुँह में कर दी और मेरे सिर पर भी पेशाब कर दिया.

उसके बाद मैं श्यामली को चूमने लगा और नीचे से हिलते हुए उसकी चूत पर लंड को रगड़ने लगा. वो मेरे बगल में बैठ गई, हम डबलसीट सोफे पर बैठे थे … इसलिए काफी नजदीक बैठे थे.

”नहीं कल नहीं, व्हिस्की का मजा शाम को पीने में है, सात बजे पीना शुरू करो तो दस बजे तक पीते रहो. मेरी तो चाँदी थी, कभी साहब की सेवा से चूत को ठंडा करवा लेती, तो कभी पति के लंड की सवारी कर लेती. ये देखना चाहती थी कि तू ग़ुलाम बनने में खुश हो रहा था या सिर्फ मेरी चूत के लालच में ड्रामा कर रहा था … यू पास्ड विद डिस्टिंक्शन रुस्तम.

फर्स्ट फ्लोर के एक बेडरूम में अम्मी और अब्बू तथा दूसरे में मैं और मुझसे तीन साल बड़ी मेरी बहन रुकैय्या सोते थे. ड्राईवर फिर चिल्लाया- साली का पैंट भी उतार … देख तो पेन्टी पहनी है या नहीं?दोनों खलासी मेरा हाथ पकड़े थे, उनमें से एक ने मेरी जींस का बटन खोल दिया और चैन को खींच दिया. इस वक्त कमरे में फच फच फच की आवाज़ सुनाई दे रही थी और कोमल जोरों से चिल्ला रही थी.

तो शालिनी ने मुझसे पूछा- राजीव के साथ क्या क्या हुआ?मैंने उसे पूरी कहानी सुनाई तो उसने कहानी सुनते ही मेरे बूब्स जो कि अभी तक नंगे थे, उन्हें जोर से मरोड़ती हुई बोली- साली तू तो बहुत बड़ी वाली रंडी है.

उसकी आवाज से हमें होश आया और हमनें रास्ते पर नजर डाली, हम सब शरमा गए और हमने खुद ही मनु को उठाकर ठीक किया. मैंने हंस कर कहा- मैं तेरा पक्का चोदू हूँ … जल्दी से चुत धो पौंछ कर आ जाओ … अभी फिर से चुदाई करूंगा.

आज मैं आपके सामने एक सेक्स कहानी प्रस्तुत कर रहा हूं, जो पूरी तरह से काल्पनिक सोच पर आधारित है. मैं- और तुम्हारी रूममेट?संगीता- तुम्हें सुबह तो बताया था कि वो अपने कॉलेज फ्रेंड्स के साथ पिकनिक पर गई हुई है. स्नेहा भाभी- अच्छा जी … चलो कभी आपसे भी ठीक से बात होगी … बाय … अभी मुझे कुछ काम है, तो जब मैं मैसेज करूं … तभी आप करना ओके!इतना बोल कर भाभी ऑफलाइन हो गईं.

फिर सिसियाते हुए बोले- आह्ह … बहुत दिनों के बाद ऐसा मस्त माल देखा है. अंदर जाने के बाद उन्होंने गेट बंद कर दिया और अपना ब्लाउज खोले बिना मेरा सर पकड़ कर अपनी चूची के ऊपर रख कर मेरे बाल सहलाने लगी।मैं भी उनकी दोनों बड़ी बड़ी चूची को हाथों से मसलने लगा।तभी मैंने आंटी के निप्पल में थोड़े दाँत गड़ाये तो उनकी चीख निकली, बोली- दर्द होता है।और ब्लाउज को खोज दिया, बोली- आराम से पियो जितना पीना है. मैंने उसे हाथ से उठा कर अपनी गोद में उठा कर दीवार से सहारे लगा दिया और उसके होंठों को चूमना शुरू कर दिया.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ फिर जूते और मोज़े उतार के मैंने टांगों को पैंट से आज़ाद किया और रानी के सामने खड़ा हो गया. गिन्नी मदहोश होने लगी थी और मेरा लण्ड लोअर के अन्दर फड़फड़ाने लगा था.

एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो हिंदी में

एक दो पल रुकने के बाद जीजू अपने लंड को मेरी चुत में आगे पीछे करने लगे. बाथरूम में जाकर मैंने साड़ी और पेटीकोट उतार फेंका और ब्रा-पैंटी से भी आजाद होकर तौलिया लपेट कर बाहर आई. इसलिए मैंने तुम्हारी सारी बात मानते हुए वो सब किया, जो तुमने कहा और आज कर रहा हूँ.

मेरी रस की गर्मी और गीलापन ज्यादा देर तक रवि झेल नहीं पाए और जल्द ही वे भी झड़ने लगे- आआआ अह्हह ह्ह्ह ह्ह्हह … मेरा भी निकल रहा है … मेरा भी निकल रहा है. इतना तो मैं समझ गया था कि चुदाई आज भी होगी … मगर अब मैं खुद गांड मरवाने को उत्सुक था. जानवर सेक्स एचडीमैंने भी खुद को संभालने के लिए अपने हाथों का घेरा बनाकर जेठजी के गले में डाल दिया.

मैंने चौंकते हुए तुरंत कहा- ऐसी परेशानी अभिशाप ही है, इसे बुआ वरदान क्यूँ कह रही थीं?तब मनु ने कहा- यार ज्यादा तो मैं भी नहीं जानती, पर वो कह रही थीं कि मासिकधर्म का सही रहना … मां बनने के लिए जरूरी होता है.

मगर इन सब से उनको जीवन यापन हेतु आवश्यक आमदनी नहीं हो रही थी इसलिए उन्होंने टेलर की दुकान पर काम करना शुरू कर दिया. फिर पल्लवी को अविनाश ने कुतिया बनाया और लंड उसकी गांड में पेल दिया.

जैसे ही मैं चरम सीमा पर पहुंची कि मेरे दोनों पैर सिकुड़ गए और मेरे दोनों हाथ मेरे मम्मों को मसलने लगे. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:भाभी और उनकी सहेली की चूत गांड चुदाई-2. उसकी गांड में लंड लगाए हुए ही मैंने उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके ब्लाउज में से पैसे निकाल लिये और उसके उरोजों को हाथों से जोर से दबोचकर बोला- और दम देखना है या अहसास हो गया कि मेरे अंदर कितना दम है?अब मैं उत्तेजित हो चुका था और अपने जलते हुए होंठों को मैंने बसंती की सुराही जैसी गर्दन पर रख दिया.

सच कहूँ … मैं उस वक्त बहुत ही डरी हुई थी … क्योंकि उसका लंड बहुत बड़ा था.

उस रात फिर मैंने जल्दी जल्दी में अपनी बीवी को नंगी किया और उसके चूचे दबा दबा कर उसको गर्म कर दिया. मैं- साली रंडी कबसे बोल रही थी कि चुत फ़ाड़ दे … ले रंडी कुतिया ले … मेरा मूसल ले. मगर नीचे जीन्स की पैंट में उनके लिंग ने भी अंगड़ाई लेकर ये जता दिया कि औरत के कोमल हाथों में क्या जादू होता है.

हिंदी सेक्सी वीडियो गर्ल्समेम रानी ने कहा- अरे नाराज़ क्यों होती है कुतिया … ग्रुप चुदाई करेंगे न … बारी बारी से. फिर मेहंदी वाली जाने लगी तो खुशी ने कहा- अच्छा सुनो अभी तुम क्या करोगी?जवाब मिला- कोई मेहंदी लगवाये तो ठीक है मैम.

मोटे लंड वाली बीएफ

आप लोगों को एक बात बता दूं कि मेरे बच्चे में जीजू के स्पर्म का ही योगदान था. जिससे थोड़ा सा लंड कोमल की गांड में घुस गया और उसके मुँह से आवाज निकल गई. मैंने अपना लोअर और अंडरवियर एक पैर से निकाल लिया और मनीषा भाभी का भी लोअर और पेंटी एक साइड से निकाल कर लटका दी, ताकि जल्दी पहनने में कोई दिक्कत ना हो.

मैंने अपने लण्ड पर थोड़ा थूक लगाया और उनके पीछे पहले की तरह लेट गया। लण्ड को उनकी चूत के मुहाने पर थोड़ी देर घिसा, उन्होंने भी अपनी कमर पीछे को करके लण्ड का स्वागत किया. रमेश- बेटी इस समय क्या मस्त लग रही हो तुम। मन कर रहा है, तुमको हमेशा ऐसे ही देखूं, रुको कैमरा लाता हूं. फिर मैंने मुस्कान की कमीज़ के अंदर हाथ डाल कर उसकी ब्रा के ऊपर से उसके मम्मों को दबा दिया.

क्रिया एकदम दूध सी गोरी हैं उसके सामने अच्छी अच्छी हिरोइन फेल हो जाए।मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चूचियां चूसने लगा जैसे कि उनमें से दूध निकाल रहा हो. जब मैंने अपने दोस्त से बात की तो उसने कहा- अभी सोनम मेरे मामले में नयी है. और मेरी चूत को अपने गर्म वीर्य की धाराओं से भरने लगे।झड़ने के बाद रवि ने मेरी पैंटी उठाई और पैंटी को मेरी चूत के नीचे रखते हुए अपना लण्ड मेरी चूत से बाहर निकालने लगे।वीर्य से भीगे लण्ड के निकलते ही मेरी चूत से रस का एक सैलाब बाहर आया.

लेकिन आज उसके सीने के मुलायम स्पर्श से मेरे दिल में हलचल सी मची हुई थी. मैंने टेबल के नीचे से सबकी नजर बचाते हुए अपने हाथ को स्वीटी आंटी की नंगी कमर पर फेरना शुरू कर दिया.

वो व्यग्रता से बोली- और … फिर क्या करोगे?उसकी भारी होती सांसों से लबरेज आवाज से ऐसा लग रहा था कि उसको भी मज़ा आने लगा है.

मैं मुस्कुराते हुए हल्दी उठाने ही वाला था कि आंचल ने सारी हल्दी मेरे बालों और गालों पर लगाई और भागने लगी. सेक्सी डॉट कॉम इंग्लिशयहां तक कि पीठ और कूल्हों को भी देखने के लिए गर्दन को पूरी तरह मोड़ लिया. आज की जोड़ी बताएंजब हम दोनों एक दूसरे को प्यार करते थे, तब एक दिन सही मौका मिलते ही हम दोनों के बीच सेक्स संबंध बन चुका था. मैं तो जैसे पागल ही हो गया था और जोर जोर से उसके मम्मों को चूस रहा था.

आप सबके प्यार के लिए थैंक्स।कुछ लोगों ने मेरी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स करने की बात भी कही.

उन्होंने कहा- और पगली! देखा नहीं कि उनका लिंग कितना बड़ा और मोटा है?मैंने कहा- हाँ भाभी, कमरे में बिल्कुल अँधेरा था. तो लाइट बंद करके वो दोनों बिस्तर में लेट गए और थोड़ी देर बाद शायद सो भी गए. कोमल जोरों से सीत्कार कर रही थी और कमरे में फच फच फच की आवाज़ सुनाई दे रही थी.

अम्मी नाइटी पहन कर चली गईं और दूध लेकर वापस दरवाजा बंद करके अन्दर आ गईं. मैं बोला- वादा किया।भाभी- मुझे भी संभोग करना है तुम्हारे साथ!मैं बोला- भाभी, अभी मेरी बिल्कुल ताकत नहीं बची है।भाभी बोली- कोई बात नहीं. आलिया- मैं ना बोलूंगी, फिर भी तुम तीनों मुझे किसी तरह से मना लोगे और वैसे भी नताशा को मैं भी जानती हूँ … वो मेरी भी सहेली है.

ब्लू ब्लू दिखाओ ब्लू

पर वो बोलीं- पहले ये बताओ कि क्या दे दूं? जब तक तुम बताओगे नहीं … मैं कुछ नहीं करने दूंगी. अब मैं उसके लंड को मुंह में लेने के लिए नीचे झुकने लगा कि तभी वहां पर जय आ गया. मैं कोशिश करुँगी उनकी बातों को कहानी में शामिल कर सकूं।मैं कहानी हमेशा सत्य घटनाओं पर ही लिखना पसंद करती हूं.

जब पहली बार मैंने चित्रा बहन के मम्मों को अपने हाथ में लेकर सहलाये, तब ऐसा लग रहा था कि पूरी रात बस दीदी के मम्मों को दबाता रहूँ.

एक पल की भी देर न करते हुए उसने रोहित के लंड को मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

मैंने आंटी को अपनी तरफ खींचा और दूसरे हाथ को सीधा उनके मम्मे पर रख दिया. अम्मी ने बीस साल पहले मुझे जिस चूत से निकाला था, आज मैं उसी में घुस गया था. सेक्सी वीडियो फुलउसने कहा- आंटी फिलहाल तो मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है … लेकिन कुछ लड़कियां जरूर मुझे पसंद करती हैं.

मुझे और चोदो ना … मेरा हर एक छेद तुम्हारा है … जैसे चाहे उसकी धज्जियां उड़ा दो और बस मुझे दम लगा कर चोद दो. मैंने उस गुस्से का बदला लेने के लिए शीना के निप्पलों को ऐसे खींचा, जैसे उसके निप्पल कोई तार हों और खींचे कर मरोड़े जा रहे हों. मैंने पहले तो आंटी के चूचे को हल्के से दबाया, तो आंटी के मुँह से वो कामुक आवाज़ निकाल गई, जिसे सुनकर किसी का भी लंड फुंफकार मारने लगता है.

कांख में गुदगुदी होने से साली जी जोर से खिलखिला कर हंस पड़ीं और मुझे परे धकेल दिया. उसने बोला- हैलो आंटी … कैसी है आप?मैंने उससे ठीक है लिखते हुए उसका हाल चाल पूछा और उससे बाय बोल दिया.

रमेश- अच्छा, आ जा साली कुतिया आ। ये काम अभी पूरा नहीं हुआ है। तुम्हारी और तस्वीरें लेनी है मगर बाद में लेंगे इससे भी मज़ेदार तरीके से। अभी प्यास बुझा ले अपनी चूत में लंड लेकर मेरा।रिया कुतिया की हालत में थी.

मेरे होंठों के छूते ही उसके बदन में बिजली सी दौड़ गयी और मैंने उसी क्षण उसकी चूत पर अपने होंठों को गड़ा कर उसकी चूत को चूसना शुरू कर दिया. शाम को जब सुनील और विशाल होटल आये तो उनके कमरे, ऑफिस और किचन की हालत बदली हुई थी. बदले में मैंने अपनी जीभ उनके मुंह में डाल दी।दोस्तो, ऐसा एहसास मुझे अभी तक कभी नहीं आया था। अभी तो और आना बाकी था.

सनी लियोन xxx photo चौथे चरण में मेरे साले श्लोक और उसकी बीवी सीमा ने अपने दोस्त नील और उसकी बीवी रकुल के साथ अधिक सेक्सी देह की प्रतिस्पर्धा का नाटक कर अदला बदली का मजा लिया. मैं बस उसकी तरफ देख कर मुस्कुरा दी।15-20 मिनट बाद मैं नीचे की तरफ उसके लंड की तरफ चली गई और उसके लंड को अपने हाथों में लेकर अपने हाथों से उसकी मुठ मारने लगी। और फिर उसके लंड को मैंने अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगी।वह भी पूरा आनंद लेने लगा।फिर मैं उसके ऊपर आ गई और अपने हाथ से उसका लंड पकड़ कर अपनी चूत पर लगाया और पीछे की तरफ हो गई.

पास में रखे टॉवल से मेरी चूत और अपना लण्ड पौंछकर जीजू मेरे बगल में लेट गये और मेरी चूचियां चूसने लगे. दोनों पलटे तो ड्राईवर ने कहा- अबे अब क्या पूरी मलाई उतार लोगे तुम दोनों, साले तुम लोगों के पैसे भी मुझे ही देने हैं … आगे आ साले … आकर गाड़ी चला. हमारी बातों में कुछ ऐसे ही विषय रहते थे, जिनसे स्पष्ट होता था कि हम दोनों ही एक दूसरे के लिए जल रहे हैं … तड़प रहे हैं.

चूत में उंगली

खाना समाप्त करने के बाद हमने कुछ देर आराम करके फिर हॉल में ही मिलने की बात कही. वो इतनी बेदर्दी से उसकी गांड को चोदने लगा जैसे कि वो उसकी बेटी ना होकर कोई सचमुच की रंडी हो. मेरे घरवालों ने मुझसे बड़ी उम्र के आदमी से शादी करवा कर मेरी जिन्दगी से सारा मजा छीन लिया था.

मैंने कहा- चाची अब मेरा भी करवाओ ना!उन्होंने कहा- करा तो मैं दूंगी, पर एक शर्त पर कराऊंगी. आगे की मौसी की चुदाई कहानी अगले भाग में!आपको मौसी की चुदाई यह कहानी कैसी लगी आप अपने विचार और सुझाव मुझे भेज सकते हैं.

थोड़े देर सोचने के बाद मैंने जल्दी जल्दी अपने सारे कपड़े उतार दिए और अपने बैग में रख लिया.

जिया- अगर भाई को पता चल गया, तो आपके साथ मेरी जिंदगी भी बर्बाद हो जाएगी … फिर भाई आपकी तरह मेरी भी शादी करवा डालेंगे. मैं उसके सामने बैठ गयी मगर आज वो उठ कर मेरे पास नहीं आया और न ही मुझसे कुछ इधर उधर की बात की. बाकी सब तो परसों सवेरे 10-11 बजे के आस-पास दिल्ली से स्कूल की बस से वापिस डगशई के लिए निकलेंगे.

मैं उसकी बात समझ गई … और मैंने उसके बिना बताए उसका लंड अपनी चुत में लेकर उसकी गोदी में बैठ गयी. दीदी- आहह ओह आकाश याह उहह!नताशा- राज धीमे आहह ओह गॉड राज धीमे, प्लीज़ धीमे डाल … बहुत दर्द हो रहा है. वो बोली कि जब मैं ये पहन कर आपके सामने आऊँगी, तो आपको ज्यादा मजा आएगा.

मेरे दोनों तरफ अभी दो हॉट सेक्सी औरतें लेटी थी, जिसमें एक किसी की बीवी थी, तो एक बहन थी.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ: मैंने कोमल को घुमा दिया और उसकी काले रंग की ब्रा की स्ट्रिप खोलकर ब्रा को निकाल दिया और पीछे से ही उसके मम्मों को सहलाते हुए दबाने लगा. उसकी उंगली अन्दर जाते ही मुझे थोड़ा सा दर्द हुआ … और मेरे मुँह से चीख निकल गयी ‘आआहह.

निधि- लेकिन जब से हम दोनों पार्क घूम कर आए थे उसके बाद नित्या रोज किसी से घंटों बात करती थी। एक दिन आपको और नित्या को हजरतगंज में देखा तो उसी रात मैंने उससे पूछ लिया कि वो आपके साथ क्या कर रही थी? नित्या झूठ बोलने लगी कि वो आपसे कभी नहीं मिली।मै–ओह, फिर?निधि- फिर क्या … हमारी लड़ाई हो गई. ग्रेजुएशन के बाद मैंने ऍम बी ए करनी की सोची और मेरा एडमिशन भी अच्छी जगह हो गया था. मैंने इधर उधर देखा और किसी को अपनी तरफ न देखते हुए, मैंने अपना गिलास थोड़ा टेढ़ा करते हुए उनके ऊपर गिरा दिया.

उधर मेरे पति ना जाने कहां किस पोज़ में मेरी दीदी को चोद रहे होंगे … और इधर क्या हो रहा है, ये तो आप लोग के सामने ही है.

पहले तो मैं इस शादी के लिए राजी नहीं थी … लेकिन फिर!इतना कहकर कोमल एकदम से मेरे करीब हुई और मेरी बांहों में आ गई. शीला फटाफट काम निबटा कर अपने क्वार्टर गयी और नहाकर महकती हुई और अपने हिसाब से बढ़िया मेकअप करके आ गयी. इसी के साथ संजना ने मेरा लौड़ा अपने मुँह में ले लिया और मेरे गोटियों को कसके दबा दिया, जिससे मैं संजना के मुँह के अन्दर मूतने लगा.