भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,गर्ल्स साइकिल

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ चुदाई बताइए: भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो, तभी आंटी ने मामी से कहा- भेज देना इसे … याद रखना नहीं तो मां चोद दूंगी तेरी.

एडल्ट वीडियो

फिर एक दिन ज़ायना खासी गर्म हो गई थी … तो मैंने उसे चोदने का प्लान बना लिया और वो भी मुझसे चुदने को बेचैन हो गई थी. सनी लियोन सेक्सी शॉटसलमान ने एक झटका मारा तो न जाने कैसे उसका लंड चुत से निकल कर बाहर फिसल गया और अम्मी की तेज चीख निकल गई.

उसके बाद जो सीन मेरे सामने था, मैं खुद को गाली देने लगा कि साले गांडू अब तक इस कांटा माल पर हाथ क्यों नहीं मारा. दिल्ली ब्लू फिल्मऐसे ही एक बार रात को 12:30 बजे के लगभग मैं आदीबा की चुदाई करने के लिए उसके रूम पर जा रहा था.

लेकिन मैं पहली बार चुदाई उससे करना चाहती थी, जो मुझे प्यार करता हो … और शादी के बाद ही करना चाहती थी मतलब मैं पहला सेक्स अपने पति के साथ ही करना चाहती थी.भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो: पिछले भागभाभी ने अपनी ननद से सेटिंग करवा दीमें आपने अब तक पढ़ा था कि मैं नन्दा के साथ बिस्तर पर था और उसकी पैंटी उतार कर उसे नंगी कर दिया था.

अपने पुरूष मित्रों को बता दूं कि अगर आपको स्वप्नदोष होने से बचना है तो रात को ठंडे पानी से पैर धोकर सो जायें.लेकिन उस आदमी ने बोला कि वो उस लड़की को नहीं छोड़ सकता है।जिसके बाद उनको बहुत समझाया गया लेकिन उसको कुछ सुनना ही नहीं था।मैं दो दिन तक बिना कुछ खाए बस रोती रही.

शेरावाली मैया की आरती - भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो

लेकिन मैंने यह नहीं कहा कि मैं अपना शरीर दिखाऊंगी।उनकी बातें सुनने के बाद मैं उन्हें अपना शरीर दिखाने के लिए मजबूर नहीं कर सकता था और मेरा ऐसा करना भी काफी अजीब होता।मैं- ठीक है मम्मी मैं आपसे सहमत हूँ.मैंने एक ड्रम बाहर रखा हुआ था, जिसमें नल आने पर भाभी को सिर्फ नल खोलना होता था.

आज दोनों जगह का खाना मैं अपने घर में ही बनाऊंगी, तो तुम खाना खाने के लिए 9 बजे हमारे घर आ जाना. भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो मैंने शबाना के कान में कहा- बाजू के कमरे में अम्मी हैं न!शबाना को भी जैसे कुछ याद आया; वो बोली- वे रोज नींद की दवाई लेती हैं, मैंने उन्हें दूध से नींद की गोली दे दी थी मगर तब भी हम दोनों को ऊपर मेरे कमरे में चलना चाहिए.

भाई शायद यही सोच रहा था कि अगर खेत में सोनम या उसकी मां मिल गयी तो दोनों में किसी एक की मोटी गांड चोदने को तो मिल ही जायेगी.

भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो?

इसलिए मैं किनारे बैठ कर सबको देख रही थी।अभी कुछ समय बीता ही था तभी साहिल वहां आया और अपनी मम्मी से बोला- मैं बाहर जा रहा हूँ. कुछ देर चूचों को पीने के बाद मैंने उसको बेड पर लिटाया और उसकी चूत को चाटने लगा. फिर मैंने पूछा- आपको मोमबत्ती से मजा आता है क्या?दीदी- अरे भाई, जब लंड ना हो तो उंगली भी डालनी पड़ती है।इस तरह से उस रात दीदी और मेरे बीच में सेक्स संबंध बन गये.

रेशमी झांटों से ढकी हुई अलीमा की चूत को देखकर बलविंदर और भी ज्यादा पागल हो गया. लेकिन भाभी की साड़ी गांड की दरार में फंसी हुई थी।अब तक मैंने पूजा भाभी की मस्त गांड को अच्छी तरह से मसल दिया था। अब मैं पूजा भाभी की मस्त कमर को चूमते हुए भाभी की मखमली जवानी से भरी हुई पीठ को चूमने लगा. उसने मोना का सहयोग देखा, तो उसे बिस्तर पर सीधा लिटा दिया और उसके पूरे बदन पर किस करने लगा.

और उसका … या यूं कहिए कि इतने मस्त शरीर वाले लड़के का नंगा शरीर मैं पहली बार देख रही थी।अब मैं उसकी छाती को चूमने और चाटने लगी और उस पर भी मैंने अपने दांत के निशान दिये. भईया के यार दोस्त, सगे सम्बन्धी धीरे-धीरे घर में इकट्ठा होना चालू हो गये थे।घुडचढ़ी की तैयारी हो रही थी. मगर मेरा राजा जिसको मैं मन ही मन में चाहने लगी थी और जिससे पूरे समपर्ण से चुदने का इरादा बना लिया था, वो खाना खाने चला गया.

लेकिन मेरी बदकिस्मती से भाभी के पेटीकोट का नाड़ा नहीं खुल पाया।पूजा भाभी को वापस मौका मिलते ही भाभी फिर से मेरे हाथों को पेटीकोट का नाड़ा खोलने से रोकने लगी और मैं भी भाभी का नाड़ा खोलने के लिए पूरी कोशिश करने लगा।आपको मेरी देसी न्यूड भाभी चूत कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. मगर धीरे धीरे उनके साथ मेरी वासना की आग बढ़ती गई और मुझे अपने पति से चुदने में मजा कम आने लगा था.

चूत को मैंने हाथ से मसल दिया और उसकी चूत के बालों में उंगली फिराने लगा.

एक के बाद एक आठ दस पिचकारियों ने शबाना की चुत की इतनी ज्यादा सिंचाई कर दी थी कि वीर्य ने बाहर निकलना शुरू कर दिया था.

पूरा लंड अंदर सेट होने के बाद उसने अपनी टांगों को मेरी कमर पर लपेट लिया. उनके चूचे एकदम टाईट और सफेद थे और निप्पल तो जैसे दो काले टीके लगा दिये हों. मैं बोल पड़ा- क्या कर रहे हो?उन्होंने कहा- अब कुछ मत बोलो और जो हो रहा है उसे होने दो.

शाम को मैंने बुआ से बोला- बुआ मुझे आपसे एक बात करनी है … आप नाराज़ मत होना. वो रहेगा तो सेक्स कैसे हो सकेगा … और मैं नंगी कैसे रहूँगी?मैं- तुम उसके सामने भी छोटे कपड़े पहन कर घूम लेना, मुझे कोई दिक्कत नहीं है. वह बलविंदर अंकल को अपने ऊपर से धकेलना तो चाह रही थी … लेकिन असमर्थ थी.

मैं भाभी के पास गया और बोला- भाभी जी, मैं आपका छोटा देवर अनुराग और ये हिमानी, आपकी पड़ोसन.

मैंने चुत की फांकों में लंड के सुपारे को घिसा और एक ऐसा धक्का मारा कि एक बार में मेरा पूरा लंड आंटी की चूत में घुसता चला गया. उसके बाद मैंने हेमा चाची को आगे कर दिया और बाथटब के पानी के भीतर ही हेमा चाची की चूत में अपना लंड पेल दिया. मैं भाभी की चूचियों को अब भी देख रहा था और ये बात भाभी भी नोटिस कर रही थीं.

इसके बाद अपने हाथों से मेरी गांड का छेद खोल कर अपना टोपा रख कर मेरे ऊपर चढ़ गया. भाभी बोलीं- सिर्फ तुम ही मजा लोगे क्या … मुझे कुछ मजा नहीं दोगे?मैंने कहा- हां हां मेरी प्यारी भाभी … क्यों नहीं आ जाओ. काफी देर तक भाई की साली को चोदा मैंने और फिर उसके बाद मैं उसकी चूत में ही झड़ गया.

मगर एक बात ये भी है कि साक्षी की चूत तुम्हारी चूत से ज्यादा टाइट है.

हम दोनों इस अद्भुत पल का नजारा लेते हुए एक दूसरे को वासना से देखे जा रहे थे. हम दोनों के बीच बहुत मस्ती मजाक होता रहता था। वो मुझसे हमेशा ही खुश रहती थी.

भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो वो पूछने लगी- अच्छा ये बताओ, जो तुम उस दिन वो बाथरूम में कर रहे थे वो क्या तुम रोज करते हो?मैंने नाटक करते हुए कहा- मतलब मैं समझा नहीं. हेमा चाची की चूत के ऊपरी हिस्से पर हल्के हल्के बाल थे जिन्हें चाची ने तिरछी डिजायन देकर सैट कर रखा था, जो बहुत ही आकर्षित लग रहे थे.

भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो मैंने पूछा- सबसे ज्यादा किस चीज में मजा आया?उसकी बात सुनने लायक थी. बलविंदर इस समय ये भूल गया था कि वो बाथरूम में अलीमा की बुर के बाल बनाने के लिए आया था.

उसने हल्की सी आह्ह … की और फिर मुझे अपने ऊपर खींचकर मेरी कमर से टांगें लपेट लीं.

सी बीएफ पिक्चर हिंदी

कोई पांच मिनट बाद सलमान ने मेरी अम्मी के कपड़े उतारे और उनको ब्रा पैंटी में कर दिया. मैं भी किसी और से चोदने के नाम को लेकर उतावली हो जाती थी और उनसे अपनी चूत खूब जमकर चुदवाती थी. हेमा आंटी की सेक्स कहानी में आपको कितना मजा आया आप मुझे मेल करना न भूलें.

मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था कि मेरे साथ ये सब हो रहा है और मुझे एक अलग ही रोमांच मिल रहा था. मेरा चेहरा अपने हाथों में लेकर मेरे होंठों से होंठ लगा कर किस करने लगे. 6 – 7 झटके मारने के बाद उसने फिर से अपने लन्ड पर तेल गिराया जो बहते हुए मेरी गांड के छेद में गया.

और उसके बाद उसके निप्पल्स को भी चूसा।अब बारी थी साहिल को अपना कमाल दिखाने की!साहिल ने भी पूनम को ऊपर से चूसना और चाटना शुरू किया और मैडम का ब्लाउज खोल दिया.

ये बात उसको भी समझ में आ चुकी थी क्योंकि मेरी बॉडी अब पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी. ससुर बहू की सेक्सी कहानी में पढ़ें कि पति चुदाई में मजा कम हो जाने से मैंने खुद अपने ससुर जी को ललचाया और उन्हें मुझे चोदने के लिए गर्म कर दिया. जैसे ही मैं नहाकर बाहर निकला तो मॉम ने मेरी आंखों पर पट्टी बांध दी.

ये कह कर चंपा ने हंस कर ठाकुर को देखा और अपनी कमर मटकाते हुए अन्दर चली गई. कभी वो अपनी मोटी गांड दिखाकर फोटो क्लिक करवाती, तो कभी अपने होंठों का पोज़ बनाकर सेक्सी लगती. अब मैंने उनको डॉगी के पोज में खड़ा किया और उनके चूतड़ों के बीच से चुत में लंड पेलने लगा.

लेकिन मैं बिल्कुल भी दुखी नहीं थी और उसके बड़े-बड़े निप्पल मेरी पीठ पर टच हो रहे थे उसका मजा ले रहा था।फिर वाशी बोली- बिना काम किए जा रहा है?और उसने मुझे अपनी ओर घुमाया और अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए. फिर मैंने उस चड्डी को अपने पजामे की जेब में छिपा लिया और मुँह हाथ धोकर कमरे में हेमा चाची के पास चला गया.

मेरा लन्ड पूरा टाइट हो गया था।मैंने उसको सीधा लेटने को बोला तो वो अपनी टाँगें फैलाकर लेट गई।मैं उठा और अपना लन्ड उसकी चूत के द्वार पर सेट किया और बहुत आराम से धीरे धीरे पूरा उसकी चूत में उतार दिया।पूरा लन्ड उसकी चूत में डालने के बाद मैं उसकी चूत की गर्मी महसूस करने लगा।वो भी मज़े से आंखें बंद करके लन्ड की गर्मी को महसूस करने लगी और आनंद में आ गयी. उसको लेटे हुए देखा तो मैंने अपने सारे कपड़े उतार कर रजाई उठा ली और उससे चिपक कर लेट गया. इधर भानू को दोबारा ऐसा मौका नहीं मिल रहा था कि वो शालू को फिर से पकड़ कर चोद दे.

मैंने उसको इशारे से बुलाया तो उसने इग्नोर कर दिया।अब मैंने मायूस सा चेहरा बना लिया और चुपचाप खड़ा हो गया.

वह बिना दरवाजे का कमरा था जिसको वो लोग टूटे फूटे सामान को रखने के लिए इस्तेमाल करते थे. फिर मैंने उसकी पैंटी उतारनी चाही तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और एक हाथ से अपना चेहरा ढक लिया. जिसको सुन कर दीदी ने पूछा- ये आवाज़ कैसी है? और तुम इतना हाम्फ क्यों रही हो?तो मैंने बात बनाते हुए बोला- कुछ काम हो रहा है, आवाज़ उसकी है.

किसी तरह मुझे उसकी चूत मारनी थी इसलिए मैंने कुछ प्रतिक्रिया नहीं दी और चुपचाप हाथ हटा लिया. मेरा मन कर रहा था कि उसकी गांड को इतना चोदूं कि आज ही इसकी गांड रंडी जितनी बड़ी गांड हो जाए.

जाने से पहले सोहेल मुझसे मिला और उसने मुझसे कहा- तुम ही मेरे परिवार का ध्यान रखने वाले हो. वो भी अपनी गांड को मेरी नाभि से नीचे लंड के पास रगड़ते हुए मेरे होंठों को चूसने लगी. इस बार थोड़ी देर किस करने के बाद बलविंदर बोला- पहले तुम्हारी बुर के बाल बना देता हूं.

काजल हीरोइन बीएफ

उसने मुझे कुछ ही सेकंड में पूरी नंगी कर दिया और मुझे सोफे पर लिटा कर मेरा दूध पीने लगा.

मेरे लिए कंपनी की तरफ से एक बिल्डिंग में एक रूम दिया गया था, उसमें मैं अकेला ही रहता था. मैंने भाभी को नीचे लेटा लिया और धक्के मरना चालू रखा क्योंकि मेरा नहीं निकला था. वह मेरी ही कॉलोनी में रहती थी लेकिन मैंने कभी उस पर ध्यान नहीं दिया था.

मैंने जोश में आकर बुआ के सिर को पकड़ लिया और उनके मुँह को जोर जोर से चोदने लगा. थोड़ी देर में मैंने उसका टॉप उतार दिया और उसकी पिंक ब्रा में कसे हुए उसके मम्मों को देखने लगा. बंजारा गाना डाउनलोडअलीमा ना नुकुर करते हुए कुछ देर बाद राजी हो गई और बलविंदर उसके चूचों को बड़े प्यार से चूसने में लगा गया था.

स्वीटी- अअह ऊऊउ … अंशुल अब दर्द कम हो रहा … अब तो तुम पूरा अन्दर तक डालो अअह … जितना अन्दर डाल सकते हो, डालो अंशुल. तभी हेमा चाची चिल्ला दीं और चाची की चूत से सफेद सा पानी पिचकारी की धार की तरह छूट पड़ा.

मैंने भी सोचा अब लौंडिया फुल गर्म हो चुकी है तो उसका काम उठा ही देना चाहिए. और उसके बाद अपने लन्ड से पूनम की और लन्ड के रस से पूनम के गले को तर कर दिया।इसके बाद साहिल चला गया और मैं भी अपने घर चली आयी।अब उस दिन के बाद से मैंने अपने इंस्टीटयूट की 5 महिला टीचर को साहिल से चुदते देखा. उसका लंड मेरी चूत में उतर गया और मेरे मुंह से एक तेज आह्ह … निकल गयी.

मैंने पूछा- कितनी बार चुद चुकी हो?वो बोली- दो साल से रोज ही चुद रही हूं. तभी चाची ने अचानक से मेरा हाथ पकड़ा और बोली- बस करो!फिर वो बोल कर नीचे जाने लगी और जाते हुए उसने पीछे पलट के मुझे देखा और नीचे अपने रूम में चली गयी।मैं समझ गया कि अब मौका मिलते ही चाची मुझसे जल्दी ही चुदवा लेगी।थोड़ी देर छत पर टहलने के बाद मैं भी अपने रूम में चला गया. बलविंदर ने उसके दूध को एक बार जोर से चूसते हुए छोड़ा और उसकी आंखों में आंखें डालकर पूछा- नीचे क्या हो रहा है बेबी?अलीमा- मुझे ऐसा लग रहा है कि नीचे इसके अन्दर कोई कीड़ा रेंग रहा है.

मैंने एक ड्रम बाहर रखा हुआ था, जिसमें नल आने पर भाभी को सिर्फ नल खोलना होता था.

इसके बाद मैंने गांड में लंड तो बहुत लिए; पर मैं आज आपको अपनी एक ग्रुप सेक्स कहानी सुनाना चाहता हूँ. उनकी चूत एकदम ग़ुलाबी और फूली हुई ऐसी थी जैसे उभरी हुई नान खटाई में दरार हो.

मेरा शरीर न केवल दिखने में एकदम दुबला पतला है बल्कि ये अन्दर से भी एकदम लड़कियों जैसा ही है. अब वो मेरी बीवी की खुली टांगों के बीच में आकर सैट हो गया और दोनों हाथों से मोना के दोनों मम्मों को दबाने लगा. उसने सीधे ही रानी को लेटाया और चूत में लंड डालकर रानी को पेलने लगा.

फिर उसने कन्डोम पहना और दोनों पैरों को पूरा खोलकर चूत के दरवाजे पर लंड रखकर एक जोर का धक्का मारा, जिससे ऐसा लगा कि पहले ही धक्के में उसका पूरा लंड मोना की चूत के अन्दर चला गया. शबाना ने कहा- जब तुम्हारे लंड के सुपारे की चमड़ी आगे पीछे होकर मेरी चुत की फांकों से रगड़ती थी तब मुझे जन्नती मजा मिल रहा था. फिर क्या था हेमा चाची ये देखकर इतना डर गई कि वो चीख पड़ीं और पीछे मुड़कर मुझसे बहुत कसके चिपक गईं.

भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो तुम उसे कैसे बुलाते हो?वो बोला- मैं जब घर पहुंचने वाला होता हूँ तो उसे फोन कर देता हूँ और वो मुझसे मिलने आ जाता है. अब मैं बनियान और हाफ पैंट मैं था।मामी ने भी अपने कपडे बदल कर नाईटी पहन ली।मैंने मामी को दीवार से लगा दिया और उसके होंठों को चूसने लगा।साथ ही मैंने अपना हाथ मामी की पैंटी में घुसा दिया और मामी की चूत को सहलाने लगा।मामी ने मुझे अपने जिस्म से अलग किया बोली- राज, अभी नहीं! अभी खाना तैयार करना है.

पशुओं की बीएफ सेक्सी

मैं अपने हस्बैंड का लंड चूस रही थी और वह मेरी चूत को चूस और चाट रहे थे. मैं अक्सर आदीबा को कहीं भी ले जाकर होटल या अपने दोस्तों के रूम पर चोदता था. उनके दो मकान हैं जिसमें एक में ये लोग खुद रहते थे और दूसरे को किराये पर दे रखा था.

तभी सलमान ने फिर से लंड को धक्का मारा और इस बार उसका पूरा लंड मेरी अम्मी की चुत में जड़ तक घुस गया. मैंने उसे जोड़ कर ठीक किया और घर की बिजली को चालू करके देखा, तो लाइट आ गई थी. रानी की सेक्सी फिल्मलेकिन उसके बाद लड़के फटाफट अपने कपड़े पहन कर निकल जाते हैं और लड़की उस समय अपने प्रेमी को मिस करती है.

अब राणा के कारण मुझे पता नहीं तुम्हारी चुदाई करने को मिलेगी या नहीं!अम्मी ने मेरी तरफ देखने के लिए सर घुमाया, तो मैं अपने कमरे में दाखिल हो गया और मैंने कमरे के दरवाजे उड़का लिए.

पिछले भागभाभी ने अपनी ननद से सेटिंग करवा दीमें आपने अब तक पढ़ा था कि मैं नन्दा के साथ बिस्तर पर था और उसकी पैंटी उतार कर उसे नंगी कर दिया था. अभी मोना चिल्ला पाती, तब तक उस औरत ने मोना के मुँह पर अपना हाथ रख दिया, इससे उसकी चीख गले में ही दब गई.

कुछ देर चुत चटाई का मजा लेने के बाद आंटी जल्दी से उठीं और उन्होंने मेरा अंडरवियर उतार फेंका. मैं अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए अपना सब कुछ लुटा देने के लिए भी रेडी रहती हूँ. वहां क्या हुआ?नमस्कार दोस्तो, कैसे हैं आप लोग? मैं अपनी देसी गर्ल की चूत चुदाई की स्टोरी का चौथा भाग आपके लिए लाया हूं.

मेरी बीवी ने अपने चूत का पूरा माल मेरे मुँह में निकाल दिया, जिसे मैंने जीभ डाल कर चाट लिया.

अब मुझे और ज्यादा मजा आने लगा था तो मैं अपनी गांड को उठा उठा कर चुदवा रहा था. मुझे दर्द हो रहा था लेकिन तब वो धीरे धीरे ही धक्के मार रहा था और मेरे ऊपर लेट कर मेरी चूचियों से खेलने लगा. मेरी छाती से चिपकी हेमा चाची की कसी और मोटी चूचियों के स्पर्श ने मुझे सब कुछ भुलाने पर मजबूर कर दिया था और फिर मेरा लंड कितना भी तना हो, मैंने भी उस पर ध्यान देना छोड़ दिया.

सेक्सदेसीकुछ देर बाद उसने रानी को कपड़े पहनाये और फिर पास के रेस्टोरंट में ले गया. इस सेक्स कहानी के पिछले भागजमींदार ने नौकरानी की चूत मारीमें अब तक आपने पढ़ा था कि ठाकुर ने अपनी ससुराल में आकर अपनी सास की चुदाई कर दी थी और उसके बाद ससुराल की मस्त नौकरानी मंजू की चुत चोद दी थी.

सेक्सी बीएफ वीआईपी

फिर मैं उसको मनाता रहा और उसको चुदाई के लिए मनाने में मुझे 15 दिन लग गये. सुमन ने मेरे लिए गिफ्ट्स और कपड़े खरीदे, मैंने भी उसके लिए ब्रा पेंटी के सैट और कुछ ज्वेलरी खरीदी. बाद में मुझे पता चला कि मैंने अपनी पत्नी के साथ जो रूबी को याद करके जो चुदाई की मस्ती में बना दिए थे, वो निशान रूबी ने देख लिए थे.

वो बोलीं- तुमने मुझे तो पूरी नंगी कर दिया … पर तुम नहीं हुए?मैं बोला- वो काम तो तुम्हारा है. उम्मीद है आप को पसंद आयेगी।शुरू से ही मेरी रूचि लड़कों में ज्यादा रही है. कुछ देर के बाद जब उसको राहत महसूस हुई तो मैंने दूसरा झटका दिया अब मेरा लंड पूरा अंदर चला गया।उसकी आंखों से आंसू आ गए।मैं थोड़ा रुका और फिर लंड अंदर बाहर करने लगा.

उसकी गर्दन पर किस किये फिर उसकी कान की लौ को चूसा और गालों को सहलाते हुए उसे अपने से जकड़े रखा. मैं बोला- तो ऐसे कब तक चुदोगी? इससे अच्छा है कि तुम हाई क्लास रंडी बन जाओ. जिसके बाद साहिल ने रागिनी को दूसरी तरफ पैरों को फैला कर लेटा दिया और हल्का सा झुक कर उसकी कुंवारी चूत चाटने लगा.

पहले तो मैंने लंड का टोपा अपनी जीभ से गीला किया और हल्का हल्का उसका लन्ड का टोपा अंदर बाहर करने लगी।अब तक कभी मैंने इतना बड़ा लन्ड वास्तव में देखा नहीं था तो लेने की बात तो दूर है।मेरी आदत नहीं थी इतना बड़ा लन्ड लेने की क्योंकि मेरे आदमी का लन्ड 4 इंच का था बस!और कभी मैंने उनका लन्ड अपने मुँह में नहीं लिया था. मैं- क्या गाजर मूली डालती थीं?बुआ- बहनचोद बातें ही करता रहेगा या अब मुझे चोदेगा भी?फिर उन्होंने भी मेरे सारे कपड़े उतार दिए.

मैं उसके ऊपर लेट गया और मैं पागलों की तरह उसके पूरे शरीर को चूमने लगा, उसकी चूचियों को दबाते हुए पीने लगा.

इससे इतनी जोर से भाभी की चूत में धक्का लगा कि उसकी आह्ह … निकल गयी. खिड़की का ग्रिलउनकी वीडियो क्लिप्स में ज्यादातर बाथरूम में नहाते समय नंगी वीडियो हुआ करती थीं. छेड़खानी की सजा क्या हैलंड चुत में लेते ही मेरी अम्मी की दर्द के मारे चीख निकल गई और वो सलमान की छाती को अपने हाथ से पीछे धकलेने लगीं. लेकिन मेरी सास अभी भी उखड़ी हुई थी क्योंकि मेरी चूत में फुल स्पीड में लन्ड घुस रहा था जिसकी फट फट की आवाज़ फ़ोन के पार जा रही थी.

मैंने भाभी के पेट को पकड़ा और ऊपर की तरफ उठ कर जोर से धक्का मारा तो लंड भाभी की चूत की गहराई तक उतार दिया।भाभी के मुंह से भी आह निकल गई।अब भाभी बिल्कुल अगले वाली सीट पर गिर गई उन्होंने हाथों से सीट पकड़ कर खुद को घोड़ी जैसे कर लिया.

मैं जल्दी से उसकी बात काटते हुए बोली- नहीं यार खुशबू … मैं सब कर लूंगी. मैं जब कपड़े आदि बदल कर पानी लेने भाभी के घर गया, तो उन्हें आवाज देकर अन्दर गया. क्या मस्त अहसास था वो … एकदम गुलाब की पंखुड़ियों जैसे होंठ मानो उनसे गुलकंद निकल रहा हो.

उसके चंडीगढ़ में फंस जाने के बाद ही इस सेक्स कहानी की शुरुआत हुई थी. इस हॉट पड़ोसन की चुदाई स्टोरी के सभी पात्रों के नाम और स्थान काल्पनिक हैं. मैडम पूरे मज़े के साथ लन्ड रस पी गई।उन्होंने चाट कर वीर्य की आखरी बूंद तक साफ कर दी.

सेक्सी वीडियो बीएफ कुत्ता

भाभी की ब्रा पैंटी देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं उनकी पैंटी लंड से लपेड़ कर लंड हिलाने लगा. अब मैं बनियान और हाफ पैंट मैं था।मामी ने भी अपने कपडे बदल कर नाईटी पहन ली।मैंने मामी को दीवार से लगा दिया और उसके होंठों को चूसने लगा।साथ ही मैंने अपना हाथ मामी की पैंटी में घुसा दिया और मामी की चूत को सहलाने लगा।मामी ने मुझे अपने जिस्म से अलग किया बोली- राज, अभी नहीं! अभी खाना तैयार करना है. वो जोर से सिसकार रही थी- ओह्हह … आह्ह … आउच … ह्म्म्म … आह … काटो … जोर से काटो … आह … ऐसे ही!उसकी चूचियों पर मेरे दांतों के निशान पड़ गये थे.

‘आआह विजय … आह कितना मजा आ रहा आआह … और करो विजय आआह तुम कितना मस्त चुदाई करते हो आआआह … मम्मीईई.

वो चुपचाप आंखें बंद करके लेटी थी।अब मेरी हिम्मत बढ़ने लगी और मैंने नीचे से मैक्सी उठा दी और पैंटी के ऊपर से सहलाने लगा।मामी गर्म होने लगी.

थोड़ी देर लंड चुसवाने के बाद मैंने लंड बाहर निकाला तो लंड बिल्कुल कड़क हो चुका था. उसने शर्म वाला इमोजी भेजा और बोली- हट्ट … बेशर्म।फिर मैंने मेरे हाथ का मेरे लंड को मसलते का वीडियो भेज दिया. वीडियो फुल फॉर्ममेरे शरीर में कंपकंपी और भयानक सिहरन पैदा हुई लेकिन मुझमें हिम्मत नहीं हुई कि मैं पलट कर उसको कुछ कहूं.

फ्रेश होने के बाद मैंने 30 साइज़ की नेट ब्रा पैंटी पहनी, जिसने मेरे 32 के दूध और ज्यादा टाइट दिखने लगे. मुझसे तो चला भी नहीं जा रहा था हील्स में!फिर रूपाली जो केवल पैंटी और फुटवियर में थी, वो मेरे पास आयी और मुझे चलाने लगी. वहाँ से दो दिनों के टूअर की व्यवस्था की गई थी जिसमें सभी कर्मचारियों को जाना था, लेकिन केवल जोड़े में।मतलब मेरे और वाशी के मम्मी पापा को दो दिनों के लिए जाना था.

और रही बात दर्द की … तो तुम्हारे लिए मैं इतना दर्द झेलने को तैयार हूँ. चाची ने कहा- हम दोनों अब अकेले में एक दोस्त की तरह हैं। अगर तुम मुझे अपना दोस्त मानते हो तो बता सकते हो.

मैंने लंड का सुपारा चुत की खुली फांकों पर रख कर कहा- रेडी?वो जब तक कुछ कहती, तब तक मेरी मिसाइल दागी जा चुकी थी.

मुखिया जी ने कोमल करके उसे आवाज दी तो मैं समझ गया कि इसका नाम कोमल है. उसने मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया और अब मेरा लंड फिर से तैयार हो गया. आपको पता ही है कि पूरे देश में 22 मार्च को लॉकडाउन का आदेश आ गया था.

सेक्स पिक्चर सेक्सी उसकी चूचियां दर्द करने लगीं क्योंकि लड़के ने भी उसकी चूची बहुत मसली थीं. ऐसा कुछ भी नहीं है, बस शुरू में अच्छा लगता है उसके बाद यह एक दलदल बन जाती है.

फिर मैंने बिना बताए जोर से एक झटका दिया, तो सील फाड़ते हुए लंड अन्दर पहुंच गया. मेरी सांसें तेजी से चलने लगीं और मैंने उसकी जांघ को कस कर पकड़ लिया. फिर मैंने खाना खाया और दिनभर टीवी के सामने बैठकर टाइम पास करता रहा.

कुत्ते की बीएफ सेक्सी

एक बार आंटी हर्ष के लंड को मुंह में लेती और अर्पित के लंड की मुठ मारती. मैं तुझे हमेशा खुश रखूंगा … तुझे निराश होने का एक भी मौका नहीं दूँगा. मेरी बहन की चुदाई की कहानी के पिछले भागमेरी लंडखोर रंडी बहन की गैंग बैंग चुदाई-1में मैंने आप लोगों को बताया था कि मेरी बहन कैसे सौरभ, अभय और उसके दोस्त से चुद जाती है.

ये देखकर मैं समझ गया था कि आज हेमा चाची को चरम सुख की अनुभूति हुई है. लंड को चूत के दरवाजे पर में सेट करके अंदर घुसा दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा।अब मामी जोर जोर से चिल्लाने लगी- फ़ाड़ दे मेरी! पूरा लंड घुसा दे मेरे अंदर! आहह आहह आहह और तेज़ तेज़!मैंने अपने लौड़े की रफ्तार बढ़ा दी।अब दोनों खूब गर्म हो गए अब जोरदार चुदाई का खेल शुरू हो गया.

मैंने कंप्यूटर बंद किया और कुर्सी पर बैठे बैठे ही उनको अपनी गोद में खींच लिया.

जब पूरा लंड अन्दर चला गया तो विजय ने एक दो बार उसे आगे पीछे किया और जब लंड आराम से अन्दर बाहर होने लगा. मैंने कहा- खा जाओ, रोका किसने है!अमन ने मेरी चूचियों को मसला और कहा- सच में कच्चा ही खा जाने का दिल कर रहा है. मुखिया की बीवी बहुत खूबसूरत थी, मैं उसके मस्त शरीर को देखकर पागल हो गया.

उसका जवान मर्दाना शरीर देख कर मेरी आँखें किसी प्यासी रंडी की तरह चमक उठीं. मैंने कहा- तब भी मशीन वाली को अंदाज तो होगा ही कि औजार सही है या नहीं. ये बात मैं कई दिनों से बोलना चाहता था लेकिन मौका नहीं मिला।मैं उसे अपने ऊपर से हटाने की नाकामयाब कोशिश करने लगी लेकिन मज़ा तो मुझे भी आ रहा था क्यूंकि मुझे जो चाहिए था मुझे आज मिलने वाला था।मगर मैं नाटक करने लगी और बोली- मैं वर्जिन हूं.

तुम चुदाई देखते रहना और फिर जब लगे कि कोई रूम से निकलने वाला है मैं उसे एक बार टोकूँगा.

भारतीय सेक्सी बीएफ वीडियो: उसने समझ लिया और अपनी चुत को एकदम से उठा दिया, उसी पल मैं उसकी चुत पर मुँह रखा और चुत चाटने लगा. आज दोनों जगह का खाना मैं अपने घर में ही बनाऊंगी, तो तुम खाना खाने के लिए 9 बजे हमारे घर आ जाना.

वो एकदम से जरा सिहर उठी और उसी वक्त मैं चुत को जोर जोर से चूसने लगा. अगर आपने पहले दो भाग नहीं पढ़े हैं तो आप इस कहानी को शुरू से पढ़ें और देसी लड़की की चूत कहानी का मजा लें. ये देखकर मैं हैरान हो गया और उसे हटाने के लिए जल्दी से यहां-वहां रिमोट ढूंढने लगा.

अजमेर से भीलवाड़ा का सफर ज्यादा दूर का नहीं है तो थोड़ी देर में ट्रेन भीलवाड़ा पहुंचने वाली थी … पर हमारा खेल बिना कुछ बोले चलता चला जा रहा था.

मैंने उससे बोला- सर, मे आई कम इन?इस पर वो बोला- आ जाओ!और तभी उसने अपना चेहरा उठा कर देखा कि कौन है. और रही बात दर्द की … तो तुम्हारे लिए मैं इतना दर्द झेलने को तैयार हूँ. मैंने भी अपने दोनों हाथ उनकी पीठ पर रख दिये थे और आह-आह की आवाज़ें कर रहा था.