हिंदी बीएफ टीवी

छवि स्रोत,हिंदी बीएफ सेक्सी ब्लू

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी फोटो नंगा: हिंदी बीएफ टीवी, ये BF GF सेक्स कहानी मेरे जन्मदिन के दिन मेरी गर्लफ्रेंड जूली ने जो उपहार दिया था उसको लेकर है.

ब्लू सेक्सी पिक्चर्स

ये बात तब शुरू हुई थी जब मेरे भाई ने 4 साल पहले मेरे साथ ऐसी हरकत करना शुरू की थी जिसके बाद हम दोनों के बीच में सेक्स संबंध बन गये. किन्नर सेक्स बीएफ वीडियोअनिल ने एक बार फिर सेक्स का राउंड करने की कोशिश की पर घबराहट और जल्दीबाजी में दोनों से ही नहीं हो पाया.

विक्रम लगभग दो मिनट तक मेरी बीवी की पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत चाटते हुए उठा और उसने संजू को बेड पर धकेल दिया. स्टूडेंट क्सक्सक्समुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा था तो मैंने उसको बिस्तर पर लेटाया और उसकी कमर के नीचे तकिया लगाया.

उन्होंने अपने हाथों को पीछे ले जाकर अपने ब्रा का हुक खोल दिया जिससे उनकी ब्रा थोड़ी सी ढीली होकर सरक गयी.हिंदी बीएफ टीवी: पता नहीं‌ क्यों उसको देखकर मुझे एक डर सा लगता था कि अगर मैंने कुछ किया और वो गुस्सा हो गयी तो?ऐसे ही देखते देखते एक महीना बीत गया.

मेरी मां और मामा जी ने किसी तरह मुझे उन दोनों लड़कियों को देखने के लिए राजी कर लिया.साथ ही मैं अपनी मामी की गांड और चूत की कल्पना करता कि मामी एक बार अपनी गांड मुझे चाटने को दे दो … और अपनी चूत का पानी मेरे मुँह में निकाल दो, मुझे पीना है.

सेक्सी पिक्चर पाहिजे सेक्सी पिक्चर - हिंदी बीएफ टीवी

उसने भी एक तेज आह के साथ अपने लंड से अमृत कलश छलका ही दिया, जिसे मैंने बड़े चाव से ग्रहण कर लिया.मेरे लण्ड का सुपारा जब उसकी बच्चेदानी के मुंह पर ठोकर मारता तो आह आह करने लगती.

मेरे निप्पल बाहर आ गए थे, एकदम तने हुए काले निप्पल बाहर निकलकर मुझे मानो मुँह चिढ़ा रहे थे. हिंदी बीएफ टीवी प्रियंका ने एक कटोरे में डाल कर बर्फ लाकर दी, जिसे मैंने थोड़ी देर के लिए अनामिका के होंठ पर रख दी.

असल में बात ये थी कि रमेश अब आरिषा भाभी की चुदाई नहीं करता था और अगर कभी करता भी था, तो आरिषा भाभी उसकी चुदाई से संतुष्ट नहीं हो पाती थीं.

हिंदी बीएफ टीवी?

वो मस्त चुदाई की कहानी मैं आपके मेल मिलने के बाद जरूर लिखना चाहती हूँ. फिर एक गोली अनीता के गिलास में भी डाल कर चम्मच से गोली को घोल दिया. मैं सोच रहा था कि आज पूरी रात बाकी है और हम दोनों अहमदाबाद जाने वाले हैं.

उसने भी मुझे फोटो में देखा हुआ था, इसलिए उसने मेरी तरफ हाथ से इशारा किया. मैं उसके आगे गिड़गिड़ाने लगी और बोली कि पापा और मम्मी को कुछ न बताये. मैं एक छोटे गांव से था और मेरा कॉलेज गांव से कुछ दूर एक बड़े शहर में था.

उसी टाइम न्यासा की चुत ने भी पानी छोड़ दिया और न्यासा मेरा सारा माल गटक गई. अभिषेक ने अपने होंठों से पहले तो मेरे होंठों को चूसा, फिर अपने मुँह से मेरे दोनों होंठों को कस कर दबा दिया. अब मैंने सन्नी से बेड के नीचे साइड में में खड़े होने को बोला और न्यासा को डॉगी स्टाइल में आने को बोल कर अपना लंड पीछे से उसकी चुत में डाल दिया.

धीरे धीरे जब हमारी बातें होने लगेंगी, तो आपके मन की सारी दुविधाएं दूर हो जाएंगी. मेरी बड़ी चाची भले ही देखने में काली है लेकिन गदरीली मांसल जांघों वाली और मोटी गांड की मालकिन है.

मैंने बोला- आरव काम क्यों नहीं किया तुमने!आरव जबाव में कुछ नहीं बोला, बस रोने लग गया.

अब आगे कॉलेज लवर सेक्स कहानी:इस कहानी को लड़की की मधुर आवाज में सुनकर मजा लें.

मैं सिहर गयी और मेरे मुंह से निकला- प्रीत …जैसे ही उसने नाम सुना तो वो रुक गया … उसने मुझे छोड़ दिया. जाने का उसका मन भी नहीं था और मेरा भी नहीं था … मगर मुझे तो ऊपर होटल में जाकर अपनी वाली के साथ भी शिफ्ट लगानी थी. मेरा ध्यान उन पर ही था, तो मैंने हाथ आगे बढ़ा कर उसके दोनों चूचे पकड़ लिए.

लेकिन अब भी वो डर रही थी, जो कि लंड घुसने के बाद ही खत्म हो सकता था. डाक्टर साहब की बात से मुझे मालूम हुआ कि ये महाशय भी पुराने हरामी हैं. मैं- लंड नहीं चाहिए? ये सब ज़िन्दगी के मज़े हैं … मज़े लेने दो और मज़े ले लो.

खैर, मैं झटके पे झटके दे रहा था तो ज़ारा झड़ने लगी और नीचे होने लगी.

पर सुनील को किसी से मिलना है, तो वह उसके साथ ही रहेगा और दो ढाई के बीच में घर पहुंचेंगे. मामी बोलीं- नहीं राजा, मैं गांड में नहीं लूंगी … तुम्हारा लंड बहुत मोटा है मेरी तो गांड ही फट जाएगी. फिर उसे चूमते हुए उसकी पैंटी के पास मुँह लगाया और पैंटी खींचने लगा.

मेरे चुदक्कड़ साथियो, आपको मेरी गर्लफ्रेंड Xxx कहानी कैसी लगी … अपनी राय से मुझे अवगत कराएं. मैं झट से मनोज को बेड पर बिठा कर उसको उकसाने लगी ताकि उसका लंड हरकत में आ जाए. किस करने की एक लिमिट होती है … मगर हम दोनों ने किस करने की वो लिमिट पार कर दी थी, जिससे हमारी सांसें बुरी तरह से फूल गयी थीं.

मेरी एक महिला पाठक ने मुझे मेल करके इस कहानी को लिखने का बहुत जोर दिया था.

मैं अपनी बीवी को अच्छा समझ रहा था और साली कुतिया दूसरे मर्द के साथ रोमांस कर रही थी. कुछ देर बाद मैंने उसे दोबारा से बेड से उठाया और उसे अपनी बांहों में ले कर अपनी छाती से उसके चुचों को दबा दिया और एक बार फिर मैंने अपनी जीभ उसके मुंह में दे दी.

हिंदी बीएफ टीवी मैं अपनी बीवी के साथ जब ससुराल पहुंचा था, तो उस वक्त रात भी काफी हो चुकी थी. अब वो मेरे सर को पकड़ कर अपना पूरा लंड मेरे गले के अन्दर तक ठूंस ठूंस कर चुसाने के बाद वो झड़ने लगा.

हिंदी बीएफ टीवी एक बार मुझे मेरे एक दोस्त की सिस्टर का फोन आया कि उसे गर्भ गिराने वाली दवा चाहिए. मैंने अपना लंड उसकी फुद्दी के मुहाने पर सैट किया … और एक बार उसको देखा.

मैं भी अपने होंठ चबाते उसके लन्ड पर बैठ कर चुद रही थी।उसने मुझे कुतिया बनने को कहा.

ब्लू सेक्सी 2022

लण्ड जब मूसल की तरह कड़क हो गया तो लण्ड पर क्रीम मलकर रेखा मुझ पर सवार हो गई. सुगंधा भाभी अब मुझसे खुलकर बात कर रही थीं, जो मेरे लिए भी अच्छा था. तभी मैंने भाभी के होंठों को चूमते हुए अपना एक हाथ उनके कातिलाना मम्मों पर रख दिया और भाभी के ब्लाउज के ऊपर से ही उनके मम्मों को सहलाने लगा.

लेकिन साला मर्द कुत्ता होता है और घरवालों या बाहर वालों को देख कर तुरंत रंग बदल देता है. मैंने उसके मम्मों को हाथ से दबाया, तो उसने मेरे हाथ को अलग कर दिया और मेरी टी-शर्ट को ऊपर करने लगी. मनीष- तो और कैसा प्यार होता है भाई-बहन के बीच?मैंने कहा- भैया, आप बनो मत, मैं जानती हूं आप मेरे कपड़ों के साथ क्या करते हो.

क्या होता है कि जब महुआ बीनते हैं तो सर ऊपर नहीं करते हैं और मैं कब उनके इतने करीब पहुंच गया कि पता ही नहीं चला.

अब वो मेरी टांगों को खोलकर मेरे बीच में आ गया और अपने लंड को मेरी चूत पर रगड़ने लगा. गड्डों और स्पीड ब्रेकर्स के मजे लेते हुए हम दोनों अपने शरीर रगड़ने लगे. क्योंकि वो रंडी अपने हाथ पर लगे माल को सीट पर रगड़ कर साफ करने लगी थी.

उसने मुझे देखकर आज अपना मुँह नहीं बनाया बल्कि मेरी तरफ देखते हुए कहा- वो कल रात को लिए थैंक्स. मगर उस दिन मकान मालकिन ने‌ मुझे रोक लिया और कहने लगीं- तुम्हारा किसी से झगड़ा हुआ है क्या?मकान मालकिन‌ ने मुझसे पूछा. मेरी बहुत समय पहले की इच्छा पूरी होने जा रही थी, तो मैं किसी भी हाल में इसे मिस नहीं होने देना चाहता था.

अब डॉक्टर साहब ऊंह आंह करते हुए बोले- आपका बड़ा मोटा है … दर्द हो रहा है. वो इस समय घर आया है … मतलब वो जरूर मेरी बीवी को आज रात चोदने वाला है.

इसलिए इस बार शायरा ज्यादा देर तक ये मजा सहन नहीं कर पाई और मेरे लंड पर उछलते उछलते ही वो एक बार फिर से झड़ गयी. मैंने अपने हाथ से पीछे लंड पकड़ना चाहा पर उसने मेरी कमर को पकड़ लिया था. मैं अपनी आंखें बंद करके हम दोनों के इस हसीन रात के चुदाई वाले सफ़र के बारे में सोच रहा था.

मैंने चादर और तकिये पर लगे खून के बारे में बताया तो दादी ने लापरवाही से हाथ हिलाते हुए कहा कि अभी धुल जायेंगे.

पर एक दिन मुझे पता चला कि मेरे बेटे सैम को मेरे और रवि की चुदाई के बारे में पता चल गया है. मैं पास पड़ी कुर्सी पर शीशे के सामने बैठ गयी और अपनी टांगें फैला कर सामने की ओर करके चूत के मुँह को फैला दिया. ऊपर मैं अनीता के मुँह से मुँह मिला कर उसके होंठों का चुंबन लेने लगा.

ऐप इंस्टाल कैसे करेंअब तक आपने मेरी इस सेक्स कहानी में पढ़ा कि मेरी ऑफिस में मेरे सतह काम करने वाली एक लड़की शिवानी ने मुझे एक पैकेट दिया. मैं हल्की हल्की मादक सिसकारियां लेने लगी थी उम्म्ह… अहह… हय… याह… हौले हौले मुझे मजा आने लगा और मैं अह अह की आवाजें निकालने लगी.

शायरा झेंप गयी थी इसलिए उसने हकलाते हुए कहा और दूसरी तरफ देखने लगी. ” उस लड़की ने अब फिर से मुझे घूरते हुए कहा और पता नहीं क्या क्या बड़बड़ाने लगी. पहले धीरे धीरे गांड में डालना, थोड़ी देर रूकना … गांड लंड को एडजस्ट कर ले, फिर धीरे धीरे झटके देना और फिर मेरे से पूछ कर अपने गांड फाड़ू झटके वाह जी वाह.

सेक्सी वीडियो हिंदी देसी सेक्सी

उसकी गांड को थाम कर पीछे से उसकी चूत में लंड को पेल दिया और उसकी चोटी के नीचे उसकी पीठ पर चुम्बन देना शुरू कर दिया मैंने.

mp3भाभी- अरे मेरी रानी … तू तो बड़ी लण्डखोर हो गई है?लण्डखोर तो भाभी आप मुझसे भी बड़ी हैं. वो बोली- झूठ! एक भी नहीं है तो काम कैसे चलाता है तू अपना?मैं बोला- मुठ मार लेता हूं. इस पर भाभी हंसने लगीं और बोलने लगीं- अरे आने दो उसे … उसे भी देख लूंगी कि कितना दम है उसके लौड़े में! मैं डरती नहीं!जब वो सन्नी के साथ चुदने के लिए मान गईं तो मैंने भाभी को एक ग्रुप चुदाई के लिए मना लिया.

जल्दी से अपने इस मूसल लन्ड को मेरी चूत में डालो। फाड़ दो आज मेरी चूत को चोद चोदकर।मैं भी उसकी बात सुन कर जोश में आ गया औरर उसको दीवार के पास घोड़ी बना दिया. वो बोली- आ जाओ यार … अब मुझे चोदो इसी पोजिशन में!बस फिर क्या था … पंकज ने भी उसकी एक टांग अपने हाथों से पकड़ कर उसकी चूत के रस में सने हुए मूसल लंड को घुसा कर सुमन की चुदाई करनी शुरू कर दी. सेक्स विदेसोचा कि ये भी इसी कॉलेज में पढ़ती होगी, इसलिए अब तो‌ उसे रोज देखा करूंगा और हो सकता है आगे जाकर कभी उससे दोस्ती भी हो जाए.

तब वो कुंवारी थी लेकिन अब तो उसकी शादी होकर वो अपने ससुराल जा चुकी है. बॉयफ्रेंड सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी दीदी के घर में किरायेदार लडके को अपना बॉयफ्रेंड बना लिया.

वो बोली- मैंने आज तक गांड चुदाई नहीं करवाई है मगर तेरी इच्छा है तो कर लेना. मुझे रहा न गया और मैं एक बार फिर बोली- डॉक्टर, इस चूत का भी इलाज कर दीजिए. मेरी दीदी की शादी दूसरे शहर में हुई है जहाँ जाने में तीन से चार घंटे लगते हैं.

मैंने गांड में घी लगाकर खूब चाटा और फिर अपने लंड को लगाकर फिर से अन्दर घुसा दिया. कुछ देर बाद अपनी जीभ से अपने होंठों को पौंछते हुए डॉक्टर मुझसे बोला- मिस नंदिनी … आज का कोर्स खत्म हो गया है, जाओ अपने कपड़े पहन लो. यह सुन कर आशा ने मेरा लन्ड झट से अपने मुंह में ले लिया और जोर जोर से चुप्पे मारने लगी.

यह सुन कर दीपा को भी जोश चढ़ गया, वो मनोज के ऊपर चढ़ गयी और अपने हाथ से उसका लंड अपनी चूत पर सेट किया, बोली- आज तो तुम मजे दो, कल चुदवायेंगे.

उसने मुझे बताया- शादी को एक साल हो चुका है पर मेरे पति ने कभी मेरी चुत नहीं चाटी. ये सब मैसेज मैंने साजिश के तहत रिया के फोन से ही किये थे ताकि उसको किसी और के होने का शक न हो.

अब आशा को भी मजा आने लगा तो वो भी अपनी गांड उठा उठा कर मेरा लन्ड अंदर लेने लगी. मेरे लण्ड से निकले वीर्य ने सीमा की चूत ही नहीं बल्कि बच्चेदानी में भी जगह बना ली. ”कौन सी?”फेरों के बाद और विदाई से पहले शैली की सुहागरात की रिहर्सल हो। उपिन्दर, राजेश और अंजू के साथ। 2-3 घण्टे तो होते हैं, मज़ा आ जाएगा.

लेकिन जब इस से ज्यादा कुछ हुआ ही नहीं था तो मैं बयां भी नहीं कर सकती. मामा जी- कैसी हो प्रिया, मम्मी कैसी है?दीदी- मैं ठीक हूं मामा जी, मम्मी की तबीयत ठीक नहीं है. दूसरी तरफ राहुल ने अपनी पैंट की जेब से एक कंडोम का पैकेट निकालकर उधर डेस्क पर रख दिया.

हिंदी बीएफ टीवी हमारी ड्रेस को देख कर सुनील भैया भी तारीफ करने लगे कि हम दोनों बहुत ही हॉट लग रही हैं. इसलिए तुरंत उसकी गोद से उठ खड़ी हुई और उसको बोली- विजय तुम्हारे सवाल के लिए मुझे थोड़ा वक्त चाहिए.

बहन की चुदाई की कहानियां

उसको लेकर बाकी बातें बाद में करते हैं अभी वो घटना सुना रहा हूँ, जो आपको कामुक बना देगी. उसके मुँह से बड़े लंड की सुनकर मेरी गांड कुलबुलाई- यार, मुझे भी मिलवाओ उससे. हम‌ दोनों किस करने में इतने अधिक खो‌ गए थे कि हम दोनों में, एक दूसरे के होंठों को चूसने चाटने की जैसे एक होड़ सी लग गयी थी कि कौन किसके होंठों को ज्यादा प्यार करेगा.

तो मैंने उन्हें कहा- कोई बात नहीं साली, तुम दोनों गांड मरवा लेना, उससे सील भी बरकरार रह जायेगी और मज़ा भी मिल जाएगा. अब अनिल ने अपनी एक उंगली गांड की दरार में सरकानी शुरू की और इधर अपनी जीभ को और अन्दर किया. कुंवारी लड़की की चुदाई वीडियो बीएफएक दिन मेरी मम्मी ने मुझे ऊपर से मेरी चाची से कुछ सामान लाने को कहा, तो ऊपर सामान लेने गया.

मेरा हाथ अब उनकी कमर और पेट के बजाये उनकी टांगों पर था और उनके घुटनों के ऊपर की त्वचा को सहला रहा था.

मैं 15-20 धक्के जोर जोर से लगाते हुए उनकी चूत में ही झड़ गया और उनके ऊपर लेट गया. मेरा लन्ड उसकी बच्चेदानी से जा टकराया अचानक हुए इस हमले से आशा की चीख निकल गयी.

भाभी न तो मुझे रोकना चाहती थीं और न ही मुझे चोदने के लिए आगे बढ़ने दे रही थीं. मैंने उसे पेनकिलर खिला दी और कुछ देर बाद हम दोनों फिर से चुदाई में लग गए. गोरा गोरा रंग … चिकने गाल … बिल्ली जैसी आंखें … बड़ी ही कातिल जवानी थी.

सर ने मुझे अपनी बांहों में समेटे हुए टेबल पर लेटा दिया और मेरी कुर्ती को ऊपर से निकालना शुरू कर दिया.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:कॉलेज टीचर के साथ फर्स्ट टाइम सेक्स का मजा- 2. फिर मेरी पैंट की जेब में हाथ डाल कर मेरा लंड पकड़ कर फुसफुसा कर बोला- बहुत सख्त है. एक पल रुकने के बाद मैंने उसकी टी-शर्ट को उठा कर उसके मम्मों को नंगा कर दिया.

सेक्सी ब्लू पिक्चर हिंदी में चाहिएमैंने कहा- मैडम दिन में घर के कामों में व्यस्त था, इसलिए रिप्लाई नहीं दे पाया. वह भी समझ गया था कि मैं जाग गई हूँ, उसने मुझसे कहा- माँ, मैं आपकी गांड मारना चाहता हूं.

चूत मारने वाली वीडियो सेक्सी

अंजू और अंशिका ने वादा किया- अब हम कहीं टूर पे सभी एक साथ 2-3 दिन के लिए चलेंगे और वहां अपनी सील तुड़वा कर मज़ा लेंगी।देखते हैं कि वो वक्त कब आता है।तब तक आप मेरी इस कहानी का मज़ा लीजिये। लड़कियाँ अपनी चूत और लड़के अपने लौड़े हिला कर कहानियों का आनन्द लेते रहिये. मैं उनके ऊपर घुटने मोड़ कर बैठ गया और थूक लगा कर लंड का सुपारा डॉक्टर साहब की गांड पर टिका दिया. रूकने की अपेक्षा भीगते हुए घर पहुंचना बेहतर समझकर मैंने बाइक की रफ्तार बढ़ाई तो रेखा ने अपने दोनों हाथों से मेरी कमर को घेर लिया.

मैंने उसे पेनकिलर खिला दी और कुछ देर बाद हम दोनों फिर से चुदाई में लग गए. पूरे दो घंटे मेरे साथ अपनी प्यास मिटाने के बाद वो जाने के लिए कहने लगी. लेकिन मैंने बहुत ही प्यार से कहा- तुम अच्छी लग रही हो मुझे!और सब सांस में कह डाला कि क्यों मैंने रुकने का फैसला किया।चाय उबल के गिर गई और उसने मुझे ऐसे देखा की बस जैसे सन्न रह गई हो.

मेरी साली की उम्र भले ही 55 की है लेकिन वो देखने में 40 की लगती है. उसके जाने के बाद रूम सर्विस वाली आई और बोली- मैडम, यह 10000 मिले हैं. उसके बदन गर्मी को मैं अब अपने लंड पर महसूस कर रहा था जोकि मदहोश सी होकर बेसब्रों की तरह मेरे होंठों को चूसे जा रही थी.

फिर थोड़ी देर बाद मेरे बदन में अकड़न सी हुई और पूरे वेग के साथ मेरे लंड से वीर्य छूट पड़ा. अभी तक कहाँ थे, अंकल? पहले क्यों नहीं आये? उंगली, खीरा, गाजर, मूली क्या क्या नहीं डाला मैंने इसमें … लेकिन कोई भला नहीं हुआ, इसे तो लण्ड चाहिए था.

मुझे आये हुए आधा घंटा हो चुका था।फिर रोहित कहने लगा- बताओ नीलम क्या खाओगी पिज़्ज़ा, बर्गर, मोमोज, डोसा जो भी खाना हो बता दो.

दोस्तो, मेरी और शायरा की प्रेम कहानी को एक सेक्स कहानी के रूप में लिख कर मुझे बेहद रोमांच हो रहा है. बीएफ फुल एचडी काअब मैंने अपनी गांड का ऐसा धक्का दिया और बार बार ढीली कसती ढीली कसती की, फिर एकदम से ऐसी सिकोड़ी जैसे लंड को मेरी गांड चूस रही हो. भोजपुरी बीएफ सेक्सी वीडियोफिर मैंने एकदम से उसकी पैंटी के अंदर हाथ डाला और उसकी चूत में उंगली डाल दी. अब आगे:महेश ने अपने लंड को अपनी बेटी की चूत से निकलते हुए पानी से गीला किया और उसे पकड़ कर अपनी बेटी की चूत के छेद पर रख दिया।आह्ह्ह्ह पिता जी! डालिये ना!” ज्योति ने अपने पिता के लंड को अपनी चूत के छेद पर महसूस करके सिसकते हुए कहा।क्या डालूं बेटी?” महेश ने अपनी बेटी की तड़प को भांप कर उसके साथ मजे लेना शुरू कर दिया.

भाभी कहने लगी- आआह्ह … ओईह्हह … हम्मम्म म्मम्मम … चूसो राहुल … मेरी चूत को … साली मुझे बहुत तड़फाती है.

पर मैंने सोचा अगर मैंने ऐसा किया, तो मॉम मुझे डांटेंगी और आइंदा मुझे कभी पार्टी में नहीं लेकर आएंगी. जब उसने चूत से लंड को बाहर निकाला तो मेरी चूत में से खून और वीर्य का द्रव बनकर निकल रहा था. ऐसा कहते हुए वो संजू के पैर दबाने लगा और पैर में दो तीन किस भी ले ली.

वो मुझसे एक दिन बोली कि यार ऐसा कितने दिन चलेगा … अब मुझे तुम पूरे के पूरे चाहिए. कोई दस मिनट और उसकी गांड चोदने के बाद मेरा भी पानी छूटने को हुआ, तो नीरू को पता चल गया. पर अभी कुछ महीनों से कुछ भी ठीक नहीं चल रहा।मैंने आगे पूछा- ऐसा क्या हुआ भाभी?सीमा बोली- आजकल कुछ उखड़े से रहते हैं, दुकान से आने के बाद भी जल्दी सो जाते हैं। न ही कुछ बात करते हैं और न ही …मैं समझ गया कि सीमा भाभी आगे क्या कहना चाहती थी पर मैंने भी पूछ ही लिया- न ही क्या भाभी?सीमा बोली- अब इतने भी नादान न बनो! कुछ बातें बताने की नहीं होती समझने की भी होती हैं.

सेक्सी नंगी से नंगी

दीपा ने आज सिगरेट पीने की कसर निकाल ली क्योंकि पता नहीं सुनील के सामने मौका मिलेगा या नहीं. अपनी बायीं हथेली में थोड़ी सी शहद लेकर मैंने दायें हाथ के अंगूठे से रेखा की गांड के चुन्नटों पर शहद लगा दी और धीरे धीरे मसाज करने लगा. एक दिन दोपहर का खाना खाकर मैं लेटा ही था कि मीरा का फोन आ गया- जल्दी आओ, बहुत तड़प रही है.

मुझे मनीष के लंड से चुदते हुए अब बहुत मजा आ रहा था और मैं उसके लंड से चुदते हुए मदहोश होती जा रही थी.

मैंने कमल को उठाते हुए पूछा कि आज तेरा चेहरा कुछ अलग लग रहा है … शायद तुम किसी प्रकार का नशा करके आए हो!कमल बोला- फूफाजी, सचमच आप सही कह रहे हैं.

मैं तो यहां पर यही उम्मीद लेकर आया था कि पैसा कमाऊंगा मगर यहां तो लौड़ा भी नहीं मिला. मेरी सास अन्दर ने काली ब्रा पहनी हुई थी, जिसमें वो और भी मस्त माल लग रही थीं. हिंदी फिल्म दिखाओ ब्लूमेरी एक महिला पाठक ने मुझे मेल करके इस कहानी को लिखने का बहुत जोर दिया था.

और साथ ही मैंने योगेश की चड्डी नीचे की तरफ खींच कर उतार दी।अब मैं और योगेश पूरी तरह मादरजात नंगे थे।मैंने देखा कि आज योगेश का लंड नाग जैसा फुफकार रहा था।योगेश अब मेरी कमर को चूम रहा था।जब उसने अपनी जुबान मेरी नाभि में डाली तब मेरे मुंह से ‘आहह हहह अहह … उईई ईश्स … मर गई …’ इस तरह के सीत्कार फूटने लगे।योगेश ने अब मेरी कमर से नीचे मेरी जांघों के सबसे ऊपरी भाग को अच्छे से चूस चूस के काटना शुरू किया. उधर अनु लगी थी तो अविना ने अनीता को हटा दिया और मेरे सीने पर लेट गई. मैंने पूछा- इतना जल्दी … मैं आपको न जानता हूं … ना मैंने आपको देखा है.

इसलिए कुछ गलतियाँ हों तो माफ करियेगा।मैंने स्नातक की पढ़ाई पिछले वर्ष ही पूरी की है. यदि पायल ने उसे ये सब न बताया होता तो शायद वो मुझसे अकेले मिलती या सीधे मेरे कमरे पर आने का सोचती.

मीरा के जाने के बाद मैंने अपने लण्ड पर हाथ फेरा और उसे तैयार करने लगा.

अब जब भाबी फिर से मुझे सीने से लगा रही थीं, तो मैं समझ गया कि इनकी भट्टी सुलग रही है और ये मुझसे चुदना चाहती हैं. फिर सचिन क्यूँ नहीं कर सकता मेरे साथ सेक्स?हम इतने अच्छे दोस्त हैं, इतने सारे काम एक साथ किए हैं, तो इसमें क्या बुराई है?मैं उस वक़्त ख्यालों में खोयी हुई थी और वास्तविक दुनिया के नियमों को दरकिनार करते हुए अपनी काल्पनिक दुनिया में खोयी हुई बस सेक्स के बारे में सोच रही थी. मैंने रकुल की चुदाई के मिशन के लिए और नील मेरी बीवी सीमा की चुदाई के लिए.

16 साल की लड़की का बीएफ सर का लंड इतना ज्यादा खड़ा हो गया था कि उन्होंने जरा भी देर न करते हुए अपना पूरे कपड़े उतार कर फेंक दिए. पहली बार के प्रयास में उसका लंड मेरी गांड के अन्दर जा ही नहीं पाया.

मगर घर आकर मैंने जैसे ही दरवाजा खटखटाया, दरवाजा खोलने वाला कोई और नहीं … बल्कि ये तो वो‌ ही लड़की थी. तो मैंने क्या किया?नमस्कार दोस्तो,आपकी मुस्कान आपके लिए अपनी जिस्म की आग की कहानी का अगला भाग लेकर फिर से पेश है।अब तक आपने मेरी कहानी पढ़ा कि मेरे पति का बॉस मेरे पति की अनुपस्थिति में मेरे घर रहने आ गया था. उसके लंड से पिचकारी मारती धार निकली, जिसे मैंने मुँह खोलकर सीधे अन्दर ले लिया और लंड के रस को स्वाद के साथ चखने लगी.

पंजाबी सेक्सी देहाती वीडियो

पंकज की ओर देखते हुए मैंने उसे पीठ के बल लेटने को बोला। सुमन ने अपनी गाँड और ऊपर उचका ली और पंकज नीचे लेट गया।मैंने उसके लंड को थोड़ा सहलाया और सुमन को प्यार से देखते हुए उसे अपनी चूत को लंड के ऊपर लाने को कहा।सुमन भी वासना के आवेग में जल रही थी. अब जब भी मुझे सर से पढ़ने का टाइम मिलता, मैं सर से चुदवाने के लिए रेडी रहती हूँ. वो समझ गया कि पिंकी तुक्का मार रही है क्योंकि उसके साथ शबनम तो थी ही नहीं.

थोड़ी देर में मेरे शैतान ने जहर उगलना चालू कर दिया और वो बड़े मजे से सारा जहर पी गयी. कुछ समय बातों का सिलसिला चला हेंग आउट्स पर वॉइस कॉल हुई दोनों में … और वो दिन भी आ गया जब मैं अपने किसी काम से देहली गया था.

मैंने अनजान बनते हुए उससे पूछा- मतलब?तब वह बोला- वो रिचा तुमको लाइन मार रही थी.

अब तक इस सेक्स कहानी के पहले भागचुदाई को बेचैन मेरे स्टूडेंट की बहनमें आपने पढ़ा था कि कैसे मेरे स्टूडेंट आरव ने अपनी बहन का राज मुझे बताया. मैं- वैसे अहमदाबाद में आप कहां रहती हो?सुगंधा भाभी स्माइल करके बोलीं- क्यों शादी की बात करने आने वाले हो?मैं- उसकी बात क्या करना … आप चाहो तो हम दोनों अभी ही शादी कर लेते हैं. फिर मैंने उसकी कुर्ती ऊपर उठा दी और उसकी ब्रा के ऊपरे से ही उसकी चूचियों को दबाने लगा.

मैंने सुना था कि लोग वीडियो बना कर ब्लैकमेल करने लगते है।मैंने ससुर जी को देखा … पर वह इतने बुड्ढे हो गए थे मुझे चोद ही नहीं सकते थे।फिर भगवान ने मुझ पर दया की और मेरा भाई पैदा हुआ।इस बहाने मुझे गांव जा कर चुदने का मौका मिल गया. मैं चुदास की आग से तड़फ रही थी, एक लाचार चुदैल सी उनकी ओर देखने लगी. करीब रात के 9 बजे मुझे पायल का फोन आया कि मैं अपनी फ्रेंड के साथ उसके घर के बाहर खड़ी हूँ.

अब बारी थी विक्रम की सिसकारी निकलने की, वो लंड चुसवाते हुए संजू के बालों को सहला रहा था.

हिंदी बीएफ टीवी: एकाएक संजू कांपती हुई आवाज में बोल उठी- अह … विक्रम अअ … मेरा निकलने वाला है, प्लीज मुँह हटा लो. वो बोला कि तू होटल रेडिसन में क्या कर रहा है?पहले तो अनिल घबरा गया.

मैं घर की पिछली साइड से नीचे उतरा और भैसों के कमरे के पास सीढ़ी लगाई और मौनी के घर की छत के पास चढ़ गया. पहली सरिता 35 साल की है, दूसरी कामिनी जो 32 साल की है, तीसरी पूर्णिमा जो 30 साल की है और चौथी रितिका है जो 28 साल की है. फिर मैंने अपना लंड हाथ से पकड़ कर उसकी गांड की दरार में ऊपर नीचे करते हुए रगड़ना चालू कर दिया.

वह भी मुझे अपनी सारी बातें बताता था।अब वह पहले से भी ज्यादा खुल कर बात करने लगा था।जब मैं दीदी के यहाँ जाती तो वह मुझे किस करता.

मैंने कंडोम उतार कर डस्टबिन में फेंक दिया और वॉशरूम में जाकर लंड धोकर अपने कपड़े पहनने लगा. रिचा भी खुलकर पूरी मस्ती में अपनी गांड मेरे लंड से रगड़ रही थी और मैं भी अपना लंड उसके चूतड़ों की दरार पर रगड़ रहा था. मैं- लंड नहीं चाहिए? ये सब ज़िन्दगी के मज़े हैं … मज़े लेने दो और मज़े ले लो.