देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ

छवि स्रोत,गाजियाबाद बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

हॉट सेक्सी बीएफ देसी: देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ, मैंने पूनम के निप्पल को फिर से हल्के से चूमते हुए खींचा, तो बुआ के बदन में जैसे कंपन सी हुई.

बीएफ मराठी एचडी

मैंने जैसे ही उसके लंड को अपने हाथ में लिया तो वो तो पहले से ही कड़क था लेकिन मेरे हाथ लगने से वो एकदम कड़क रॉड हो गया. सेक्सी सेक्सी वीडियो बीएफ सेक्सी वीडियोफिर नगमा को दीवार के सहारे से खड़ा कर दिया और मैं उसकी गांड को खोल कर चाटने लगा.

उस समय उनकी नजरों में मुझे वासना के डोरे दिखने लगते थे, मगर वो कुछ कहती नहीं थीं. वीडियो डॉट कॉम बीएफमैंने उन्हें कसके पकड़ा और चुत की फांकों में लंड सैट करके एक जोर का शॉट दे मारा.

अफ़रोज़ मेरे इन शब्दों का बुरा ना मानकर ख़ुश होता हुआ बोला- सच आपा?उसने फ़ौरन से मेरी चुत में अपना लंड धकाधक पेलना शुरू कर दिया कि कहीं मैं अपना इरादा ना बदल दूं.देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ: वो भी मेरी बातों का जवाब बात से और गांड हिलाने का जवाब अपने तेज धक्कों से देने लगा.

उसके बाद उन्होंने मेरे होंठों को चूमा था और मैंने कोई एतराज नहीं जताया था.इस बार मामी का हाथ मुझे अपने कंधे पर कुछ हरकत करता हुआ सा महसूस हुआ पर मैं कुछ बोला नहीं.

मालिश करने वाली सेक्सी बीएफ - देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ

अब पंजाबी भाभी भी कामुक सिसकारियां निकाल रही थीं- धीरे कर … आह धीरे … साले अब तो मेरा पति भी नहीं है … मैं तो अब तुझसे ही चुदूँगी … आराम से चोद … अब तो मैं तेरी ही हो गई हूँ.मैंने भी उसे अपने ब्वॉयफ्रेंड के बारे में सब बताना शुरू किया और रोने भी लगी.

उसे सब पता होता है और वो चुदाई में खुलकर साथ देती है।अब कामिनी की सिसकारियां तेज़ हो गई और उसने अपने शरीर को रोक दिया. देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ उंगली से चुत की प्यास और बढ़ गयी थी … इसलिए उंगली निकाल कर तकिए को चुत के ऊपर दबाया और औंधे मुँह लेटकर धक्के लगाने लगी.

मैंने नशीली आवाज में अंकल से सवाल किया- आह इस्स … आप यह क्या कर रहे हो?अंकल मेरी आंखों में आंखें डालकर बोले- एक छोटे बच्चे की तरह तुम्हारा दूध पी रहा हूं.

देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ?

गोविन्द का लंड मोटा तो राजेश जैसा ही है, किन्तु लंड टेढ़ा होने से चूत में लंड थोड़ा कम जाता है. लेकिन मैंने उस पर जरा सा भी रहम न करते हुए एक जोर का झटका दे दिया और मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुस गया. ‘आह क्या मोटा लंड पाया है … कहां था भोसड़ी के इतने दिन तक मादरचोद … आह चोद दे … आह आह.

मॉम ने नखरे से कहा- सुनो जी, मंगलसूत्र क्यों निकाल रहे हो?रोहन अंकल- अब से मैं तुझको अपना मंगलसूत्र पहनाऊंगा, समझी … और आज से तू मेरी रंडी है, तू वही पहनेगी जो मैं तुझे दूँगा. पंजाबी भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी पड़ोस की भाभी ने मुझे मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई करते देखा. जिससे मुझे पता लग गया था कि इसकी चुत में आग सुलगने लगी है और मेरी दवा ने असर शुरू कर दिया है.

उसने अपना फ़ोन उठाया और मुझे उसमें पिक्स दिखाने लगी जिसमें उसने मुझे प्रज्ञा की और अपनी एक फोटो दिखाई. बातों ही बातों में उसने मुझे बोल दिया- मुझे पता चल गया कि आप लोगों के बीच क्या चल रहा है. उसी समय भाभी खड़ी हो गईं और उस लौंडे के फौलादी लंड के नीचे बैठ गईं.

इसमें एक अद्भुत पेय था जो राजवैद्य ने इस ख़ास मौके के लिए बना कर दिया था. अपने लण्ड का सुपारा चित्रा की चूत के मुखद्वार पर रखकर उसकी टाँगें फैला दीं.

मैं सोचने लगा कि ये क्या पंगा ले लिया … ये तो साली मरखनी है, साली हाथ कैसे रखने देगी.

मैंने कहा- तेरी बहन तेरे ब्वॉयफ्रेंड का भी लंड लेती है … वो मुझे पता है, लेकिन मैं उसके साथ अभी तक इसलिए था क्योंकि मुझे तेरी गांड मारनी थी रंडी!अब मैंने नगमा को खड़ा किया और उसकी सलवार को फाड़ दिया.

‘ऊऊ ओहह्ह … ऊऊ ऊह्ह मर गई … आह्हह कमीने … भोसड़ी वाले जान निकाल दी तूने …’मैंने भी कहा- साली कुतिया तेरी चूत तो आज भी बहुत टाईट है … किसी कमसिन लड़की की तरह है. सामने वीडियो चल रहा था, पर मैं उनके कान के साथ खेल रहा था, उनके कानों को उंगलियों से छेड़ रहा था. मैंने बात आगे बढ़ाते हुए उससे उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम रीना बताया.

इसलिए मैं आज आप लोगों को एक सेक्सी और जवान लड़की के बारे में बताने जा रहा हूं. काफी बार उन कहानियों को पढ़ कर मैंने लंड हिला कर रस टपकाया था और अब भी ये मेरा पसंदीदा शगल है. उसका लंड जो अभी थोड़ी देर पहले मूतने से बैठा था … अब अपनी ही बहन की चूत देख कर एक बार फिर से खड़ा हो गया.

बस मैंने मम्मी की चूत पर अपने लंड के सुपारे को जैसे ही टिकाया, उनके मुँह से कामवासना भरी आवाज निकल पड़ी- आआह आआ … अहूऊओई … ऊफ़्फ़्फ़ … अब साले … अब धक्का मार भी भड़वे!मैंने एक बार में ही अपना पूरा लौड़ा उनकी कसी हुई चूत में घुसा दिया.

अब वो दोनों और मैं एक साथ शहज़ाद से चुदवा लेती थीं, मतलब फ़ोरसम चुदाई हो जाती थी. मैंने हिना के करीब जाकर उसके होंठों पर किस किया और बाहर आ कर बैठ गया. चुदाई का वो प्रेलिमिनरी राउंड ख़त्म होने के बाद हम दोनों कितनी ही देर तक बीते लम्हों का रसास्वादन करते रहे और अपने बेतरतीब धड़कते दिलों को काबू करने का यत्न करते रहे.

सर ने चाची के पेटीकोट का नाड़ा खोला और बोले- शबनम, ब्लाउज़ भी उतार दे. पर मैंने उसे चूमना जारी रखा और फिर उनका निचला होंठ चूसना शुरू किया तो उन्होंने बे बेसब्री से मेरे होंठों को चूसना काटना शुरू कर दिया. मुझे समझ नहीं आया कि इतनी जल्दी कोई कैसे एक्सेप्ट कर सकता है, वो भी बिना जान पहचान के.

मैंने एक लम्बी सांस खींची और अपने हाथों के सहारे अपनी कमर के ऊपर के हिस्से को उठा लिया.

फिर अमित ने कंडोम निकाल कर डस्टबिन में फेंक दिया और हम दोनों नंगे ही लिपट कर लेट गए. तभी नीतू ने अपना चूतरस छोड़ना चालू कर दिया।उसका चूतरस मेरे लंड के सहारे होते हुए मेरे आंडों से टपकने लगा।नीतू झड़ती रही और मैं उसी तरह उसकी चूत चोदता रहा।कुछ समय तक नीतू बिना रुके निरंतर झड़ती रही.

देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ जैसे सुहागरात में दूध देते हैं, वैसे ही वो एक गिलास में दूध भरकर मेरे लिए ले आई. मॉम फोन पर बोलीं- अपने यार से चुदवाने आई हूँ, आप तो अब मुझे चोद ही नहीं सकते ना.

देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ अम्मी के वापस आ जाने के बाद मैंने अम्मी से कहा कि अफ़रोज़ सैट हो गया है. मैंने उसे कमर से इस तरह उल्टा उठाया कि उसकी टांगें ऊपर हो गईं और सर नीचे हो गया.

मैंने नाश्ते के दौरान ही उससे पूछा- अच्छा यह बता तेरी किसी लड़की से दोस्ती है?अफ़रोज़- हां आपा … अपनी फूफी की बेटी नफ़ीसा से.

हिंदी ब्लू फिल्म फोटो

फिर मैंने उसके शॉर्ट्स में से नीचे की ओर से हाथ दे दिया और उसकी पैंटी पर उंगली से उसकी चूत को छेड़ने लगा. उनके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं- अहहा … आहह उहह … उम्म्म राज!मैंने भाभी की ब्रा उतार दी और उनके मम्मों को चूसना शुरू कर दिया. मैंने कमरे की लाइट बन्द करके बस बाहर आंगन का एक बल्ब जलाए रखा जिससे अन्दर तक हल्की रोशनी आती रहे.

शादी में जाने का मेरा एकमात्र उद्देश्य बहू के साथ सेक्स का मजा लेने का था. उसकी मम्मी ने पूछ लिया- क्या हुआ तेरी आवाज में दर्द क्यों है?उसने अपनी मम्मी से कहा- अरे यूं ही जरा फिसल गई थी. मैंने गौर किया कि मेरे और कुच्ची के अलावा और भी लड़के थे जो उन दोनों पर नजर गड़ाए हुए थे.

[emailprotected]मैं इसका अगला हिस्सा लिखने को उत्सुक हूँ, बस अपने पाठक जैसे भाभी जी, आंटी जी, अंकल जी और मस्त कुंवारी चुत वालियों के आग्रह का इंतज़ार है.

वो मेरे सामने ऊपर से बिल्कुल नंगी हो गई थीं, उनके मस्त भरे हुए मम्मे देख कर मुझे उत्तेजना होने लगी थी और मेरा लंड तुनकी मारने लगा था. पहली चुदाई का मजा कहानी के पिछले भागचुदक्कड़ चालू भाभी का पर्दाफाशमें आपने पढ़ा कि मेरी भाभी ने मुझे अपने दोस्त के साथ सेक्स करने के लिए मना लिया था. दूसरे दिन मैं सुबह घर से ये कह कर जल्दी निकल गया कि मुझे जरा काम है, मैं उधर से ही ऑफिस निकल जाऊंगा.

वो बोली- साले तूने कितनी बार किंजल की चुदाई की है, बता?मैंने बोला- मैंने गिना ही नहीं कि वो मेरे लंड से कितनी बार चुद चुकी होगी. यह बोल कर मैंने शीना की बुर को चूमा और अपने लन्ड मुंड को उसकी बुर के मुंह पर लगाया. पहली चुदाई का मजा कहानी के पिछले भागचुदक्कड़ चालू भाभी का पर्दाफाशमें आपने पढ़ा कि मेरी भाभी ने मुझे अपने दोस्त के साथ सेक्स करने के लिए मना लिया था.

उन्होंने अपने दोनों हाथ मेरी शर्ट के अंदर डाल दिये और डालकर मेरे बूब्स को मसलने लगे. उधर साहिल एकदम नंगा था और उस अलमारी के पीछे छुपकर अपने लौड़े को हिलाते हुए अपनी अम्मी की चुदाई देख रहा था.

उसने निखिल के गले में हाथ डाला और उसे अपनी ओर आने का इशारा कर दिया. वो ब्रा पैंटी नहीं पहनी थी, उसके जिस्म की खुश्बू मुझे मदहोश कर रही थी. तब चाची बोलीं- तेरा राजू भी तो पूरा जवान है … साली, इतना अच्छा माल घर में है और मोमबत्ती से काम चलाती है.

कुछ ही देर कि मस्ती भरी चुदाई के बाद मैं भी अपनी आखिरी दौर में आ गया था और झड़ने के करीब था.

शादी में जाने का मेरा एकमात्र उद्देश्य बहू के साथ सेक्स का मजा लेने का था. अफ़रोज़- आपा प्लीज़ सिर्फ़ एक बार और मजा दो ना!ये कह कर अफ़रोज़ ने अपने लंड को चुत पर अन्दर को दबा दिया. पापा जी, ये सब बाद में कर लेना … अभी तो आप आ जाओ जल्दी से!” बहूरानी भयंकर कामुक स्वर में बोली.

इस कहानी पिछले भागमौसी की जेठानी की गांड मारीमें अब तक आपने पढ़ाअब आगे फ्री सेक्स कहानी:सुबह ऐसा लगा जैसे कोई मेरा और नीतू का नाम पुकार रहा हो. उसके बाद मैं दीदी की चुत में उंगली करने के साथ उनकी रसीली चूत में अपनी जीभ भी घुसाने लगा.

मैं बोली- चल अब बहुत हो गया, ला अब मैं तेरी मुठ मार दूं!अफ़रोज़- आपा, एक दरख्वास्त करूं?मैंने पूछा- क्या … लेकिन तेरी दरख्वास्त ऐसी होनी चाहिए कि मुझे बुरा ना लगे. वो भी गांड को बराबर से आगे पीछे करने लगी और हम दोनों चुदाई का पूरा मज़ा लेने लगे थे।अब मैंने उसे उठाकर बिस्तर पर झुका दिया और पीछे से गांड में पेलने लगा. फिर हुर्रेम अपनी जीभ को मेरे टोपे के चारों तरफ घुमाने लगी थी और लंड को चूस भी रही थी.

बड़ी दूध वाली सेक्सी

अगली बार जब पापा के साथ आंटी की चुत गांड चुदाई होगी, तो मैं आपको पूरी सेक्स कहानी का मजा दूंगा.

मैंने भी अपनी स्पीड को बढ़ा दिया और हम साथ में निढाल होकर बेड पर गिर पड़े. वहां से मैंने खिड़की से चुपके से झांका तो देखा दरवाजे के की-होल से भाभी अन्दर हमारी चुदाई देख रही थीं. मैंने कहा- साली रंडी, कहीं तूने उसके लंड को तो अपने मुँह में नहीं ले लिया?वो बोली- नहीं यार … वो तो सिर्फ मेरी बहन हिना को चोदता है और उसी की गांड मारता है.

आशा है आप सभी स्वस्थ होंगे और अपनी सेक्स लाइफ का भरपूर आनन्द उठा रहे होंगे. थोड़ी देर के लिए आता था और बिना किसी से मिले कागजों पर साइन करके निकल जाता था. सेक्सी व्हिडिओ देहाती बीएफफिर अपने लंड में ढेर सारा थूक लगाया और उसकी एक टांग उठा कर अपना लंड एक ही झटके में उसकी चुत में डाल दिया.

अब उसके विरोध में बस नहीं नहीं आ रहा था लेकिन वो मुझे रोक नहीं पा रही थी।मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और चूसने लगा. मेरी खातिर तुम इतना भी नहीं कर सकतीं?मेरी दीदी रमेश को मना कर रही थीं, पर रमेश ने दीदी को मना ही लिया.

मैंने दोनों हाथ पसार दिए और उसकी तरफ देखते हुए उसे फ़्लाइंग किस करने लगा. कभी अपने हाथ से मेरे लंड की मुठ मारती तो कभी अचानक से फिर मेरे लंड को अपने मुंह में ले के चूसने लग जाती. शीना भी लन्ड मुंह से बाहर निकाल कर एक लंबी सिसकारी भरती और बदले में मेरे लन्ड पर अपने दांत गड़ा देती.

डैड- हां चुद ले यार … अगर तूने सच में अपने यार से चुदवाया तो मैं तुम दोनों का गुलाम बन जाऊंगा. वो गांड उठाती हुई कहने लगी- आंह चाट जाओ मेरी चुत को पूरा … आह और जोर से चाटो चूसो … आह इसका सारा रस चूस लो … इसने मुझे बहुत परेशान कर रखा है. लंड गांड में घुसा, तो चाची कराहते हुए बोलीं- आहहह आह आह ओह … कितना मोटा लंड है मजाहह आ गया आहह ओह.

उसकी आंखों से आंसू ऐसे बह रहे थे जैसे वास्तव में उसे कोई बहुत बड़ा सदमा लगा हो.

जब पूरा लंड अन्दर हो गया तो मैं बोली- आहहह मामा जी आपने तो मेरी जान निकाल दी आह!उन्होंने चुदाई शुरू कर दी और मैं सिसयाने लगी- आहह ओह इस्स आह प्लीज़ धीरे आह ओहह इस्स मजाहह आ रहा है. अब मेरे लिए टास्क ये था कि तीसरी बार भाभी को बिना चोदे ऑर्गेज्म करवाना था.

ममता- क्या जब?अभय- जाने दो ना यार, कुछ बातें परदे में रहें … तो ही अच्छा है. हॉट ऑफिस Xxx कहानी मेरी कंपनी में काम करने वाली एक सेक्सी भाभी की है. दोस्तो, आपको सेक्सी लड़की की चुदाई कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करके बताएं.

आज भाभी को देखकर मेरी भी नीयत खराब होने लगी थी, पर मैंने अपने आप पर काबू रखा. थोड़ी देर बाद पूजा उठी और अन्दर से एक बड़े से कटोरे में तरल चॉकलेट जैसा पदार्थ ले आई. दस साल पहले पहाड़पुर और सितमगढ़ के राजघरानों के काफी अच्छे संबंध थे.

देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ मेरी हसरत कैसे पूरी हुई?मेरा नाम परम है और मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूं।मेरी उम्र 20 साल है और मेरा कद 5 फुट 11 इंच है और मेरा वजन 72 किलोग्राम है।दोस्तो, मैं अपने जीवन में बहुत सी औरतों और लड़कियों को चोद चुका हूं. फिर वो धीरे से मेरे कान के पास आकर बोले- मैं तुम्हें बहुत पसंद करता हूं.

ब्लू फिल्म चुदाई का

तीनों राजकुमारियां मुझसे चुद कर मेरी रानियां बन गई थीं … हम चारों शयनकक्ष में आकर एक साथ पलंग पर नग्न पड़े थे. दवाई लेने के बाद करीब एक घंटे बाद वापिस चलने लगे, तो मेरे लंड में फिर से तनाव आ गया था. वो पलंग की तरफ मुँह करके बोले- शबनम, लगता है तेरे भतीजे सोहेल ने अपनी चुदाई की पूरी फिल्म देख ली है.

इस देसी सेक्स कहानी के पिछले भागबहन ने भाई को मुठ मारते देखाhttps://www. वो चिल्लाते हुए रोने लगी तो मैंने तुरंत अपने होंठ उसके होंठों से सटा दिये और दबाये रहा ताकि उसकी आवाज बाहर न जाये. वीडियो वीडियो बीएफ एचडीपर मैंने उनकी बात अनसुनी कर दी और नीचे की ओर खिसक कर उनके पैरों के बीच में आ गया और उनके पांव दायें बाएं फैला दिए और बहू की चूत के गीले होंठ चाटने लगा.

मेरा माल अब छूटने ही वाला था, तो मैंने कहा- मेरा माल छूटने वाला है.

मैं बोली- ठीक है भाई … तू चोद।अब मैं दोबारा नीचे आ गयी और भाई मेरे ऊपर. मैंने लंड पर बहुत सारा तेल लगाया और उसकी बुर में उंगली से अन्दर तक तेल लगा दिया.

मैंने उसकी बांह पकड़ कर उसे अपने ऊपर कोहनी के बल लिटा लिया, जिससे उसका पूरा वज़न उसके घुटनों और कोहनी पर आ गया. वर्तमान में कोरोना के वजह से किसी अजनबी की मदद कोई भी नहीं करने को राजी था. फिर बहूरानी ने अपने पांव मेरी कमर के ऊपर से हटा लिए और अपनी कमर उठा कर चोदने का संकेत किया.

मैंने जाकर देखा तो ये वही डॉक्टर था, जो कल शाम को मुझे चोदने की नजर से देख रहा था.

अब आगे ग्रुप में ओपन सेक्स की कहानी:उस मर्द लौंडे के अपने ऊपर से हटते ही मेरा ध्यान मेरे साथ वाली उस पड़ोस वाली भाभी पर गया तो मैंने देखा उनमें से एक लौंडा नीचे लेटा था और भाभी उसके लंड के ऊपर बैठी थीं. vipपर!!इस सेक्स स्टोरी को कॉमिक्स में देखने के लिएयहां क्लिक करें।. वो अपनी बहन की चूची चूसने लगा और उतने में ही अपना लंड आगे पीछे करने लगा.

मस्तराम बीएफक्या बला की खूबसूरत लौंडिया थी वो … उभरी हुई चूचियां, पीछे उठी हुई गांड, हॉट माल … एकदम मखमली मुलायम आइटम लग रही थी. ममता भी अब पूरी तरह खुल गई- भैया आपसे एक बात पूछूं … आप मास्टरबेट रोज करते हो?अभय- नहीं कभी कभी जब …उसके मुँह से अचानक निकल गया.

चोदा चोदी वाला सेक्सी वीडियो बीएफ

तभी मौसी ने मुझे सीधा करके अपनी तरफ कर लिया दिया और खुद नंगी मेरे ऊपर आकर लेट गईं, मेरे सीने पर वो खुद को चढ़ाकर सो गईं. ये सुनकर उसने मुझे अपने नीचे लिटाया और लंड पर कंडोम चढ़ाकर धीरे धीरे मेरी चूत में लंड डालने लगा. काफी देर तक ऐसे करते रहने पर उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और मैंने उसकी चुत का सारा रस चाट लिया.

हां बेटा, तू सही कह रही है; आज की रात सोने के लिए नहीं है …इन फैक्ट इट इज नेवर एनफ!” मैंने उसे पुनः अपने से लगा कर कहा. मैं मिहिका से बोला- तुमने तो गेट पर ताला लगा दिया … क्या सुबह तक यहीं रखोगी!मिहिका बोली- ना … घर की पिछली तरफ से दीवार कूदकर चले जाना, तनै पता है ना … गाम मे जो दूधिया दूध बेचते हैं वो सब 3-4 बजे दूध निकालने उठ ज्या हैं. मैंने पोर्न मूवीज में बहुत सी पोर्न स्टार्स की ऐसे चूत देखी हैं, हॉस्टल में कुछ लड़कों की चुदाई भी हमने देखी है.

मेरे शौहर नौकरी के लिए सऊदी चले गये तो मेरी चूत ने मुझे परेशान करना शुरू कर दिया. किस करते करते मेरे हाथ उसकी मदमस्त जवानी की निशानी यानि उसकी चूचियों पर चले गए और मैंने उसकी एक चूची पकड़ कर जोर से दबा दी. दीदी बोलीं- चल मैं आज तुझे चुदाई का मज़ा दूंगी, लेकिन किसी को बताना मत … और ये जो तूने अभी था वो समझ ले कि देखा ही नहीं था.

शायद वो मुझे पसंद करने लगी थीं, वो मजाक मस्ती के समय कभी कभी मेरा कभी हाथ पकड़ लेतीं और कभी कभी मैं भी अपना हाथ उनकी जांघ पर रखने लगता था. ममता- उस दिन की तरह हाथ से कर लो ना भैया … आप तो एक्सपर्ट हो हाथ से करने में.

दीदी अब गर्म हो रही थी, मेरा आधा शरीर उनके ऊपर था और आधा नीचे पलंग पर था.

राजेश ने बिंदु से बोला- यार बिंदु क्या तुम गोविंद से चुदवा सकती हो?बिंदु बोली- राजेश मुझे कोई आपत्ति नहीं है … तुम को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. बीएफ फुल मुव्हीजदीदी अब गर्म हो रही थी, मेरा आधा शरीर उनके ऊपर था और आधा नीचे पलंग पर था. खलीफा के बीएफकुछ ही पलों में मैंने उसका ब्लाउज उतार दिया और उसके संतरे चूसने लगा. करीब आधा घंटे के बाद मां फिर से झड़ गईं और मैं अभी भी अपनी मां को चोदे जा रहा था.

अब तक मैं भी उनके कमरे के बिस्तर पर नंगा लेटा हुआ अपने लंड को सहला रहा था.

मगर मेरी जान, पहले मेरी चूत की आग की कहानी कैसी लगी, एक मेल तो लिख दो. तभी निखिल की नज़र उस समय मीरा पर पड़ गई, जब वो रीमा की चुत चूस रहा था. पापा बोले- तू अपनी जुगाड़ खुद कर … या शादी तक इंतजार कर!मैंने कहा- पापा अब मुझसे कंट्रोल नहीं होता.

वो बोलती रही- रही बात इस समय के सेक्स की, तो तुमको याद होगा कि मैं और तुम आने वाले समय में पति-पत्नी होंगे. वो बोले- जान … गंदी गंदी बातें कर। बोल कि मुकेश मेरी चूत की चुदाई करो … मेरी चूत फाड़ दो, मेरी चूत रगड़ कर चोद दो. अब मैं उसे पूरी ताकत से पिल पड़ा और उसकी चुत में धक्के मारते हुए चोदने लगा.

एसएस बीएफ वीडियो

थोड़ी देर में मैं मिहिका को तेजी से चोदने लगा और बीच में रूककर लंड थोड़ा बाहर निकाल कर एक झटके में पूरा चूत में पेल देता. मेरा नीचे से घुसा हाथ, उसके चूतड़ों के बीच से होकर आगे को आ गया और कृति की चूत को सहलाने लगा. वो बोली- हां वही तो पूछ रही हूँ यार कि फोटो में … और सामने से मुझमें तुमको क्या चीज हॉट लगी!मैंने कहा- क्या मैं खुलकर कह दूँ … तुमको बुरा तो नहीं लगेगा?वो शरारती नजरों से हंस कर बोली- मैं इस वक्त आपके सामने अकेली केबिन में बैठी हूँ … और क्यों बैठी हूँ, ये मालूम होते हुए भी आपकी फट रही है?मैंने ‘फट रही है …’ शब्द सुने तो खुपड़िया हिल गई.

अब मेरी बारी आ गई थी लेकिन भाभी ने मुझे काटने से और सेक्स करने से मना कर दिया.

इसी बीच सुम्मी का पुराना ड्राइवर हरीश, जो कुछ महीनों से अपने गांव में था, वो काम पर वापस लौट आया.

मेरे लंड को शन्नो गपागप गपागप लॉलीपॉप समझकर चूसने लगी और मैं उसकी पीठ को सहलाने लगा. थोड़ी देर दूध चूसने के बाद हम दोनों ने वापस हगिंग और किसिंग की और एक दूसरे को मसलने लगे. बीएफ फिल्म सेक्सी में वीडियोमैं- भाभी जी आपकी सर्विसिंग तो 3 बार हो गई, लेकिन जो गोली खिला के आपने इसका जो हाल किया है, उसका क्या … पिछले दो घंटे से लंड खड़ा है, अब तो ये दर्द भी कर रहा है.

जब कुछ सालों बाद रुबिका की शादी उसके अब्बू की मर्जी से किसी दूसरे शहर में किसी और से हो गयी तो वो अपनी ससुराल चली गई. शीना जोर जोर से सिसकारियां भरने लगी और अपनी गांड को बेड पर पटकने लगी और आह … आह … ओह … ओह … हम्म … ह्म्म… याह याह करने लगी. भाभी तीनों से चुदवाने के बाद मेरे पास आकर लेट गईं और फिर से सो गईं.

मैंने मां को समझाया- मां, यहां शहर में आपसे भी बड़ी उम्र ही औरतें ऐसे ही कपड़े पहनती हैं. बुआ ने अपने मुँह से लंड बाहर निकालते हुए मुझे घूर कर देखा और कहा- जब ये नहीं जा रहा तो इसको अन्दर ठूंसने की क्या जरूरत है? जितना चूस सकती थी, तुम्हारे बिना कहे चूसा है ना मैंने!मैं- कोशिश करने में तो कोई दिक्कत नहीं.

उनकी बातों से मेरी नींद खुल गयी थी लेकिन जैसे ही मैंने बंगालन भाभी की आवाज सुनी तो मेरे लंड में सनसनी होने लगी और मैं सोने का नाटक करता हुआ यूं ही लंड खोले लेटा रह कर सोने का नाटक करता रहा.

उसने मेरा हाथ हटाते हुए कहा- यह आप क्या कर रहे हो?मैंने कहा- प्यार कर रहा हूं. उसका मस्त और गठीला शरीर मुझे पागल किए जा रहा था और मैं मस्त होकर कभी उसके होंठों को तो कभी चूची को, तो कभी पेट को पागलों की भांति चूम रहा था. वो मेरा पूरा वीर्य पी गई और अपने मुँह में लेकर कुछ वीर्य उसने मुझे भी पिला दिया.

सविता भाभी सेक्सी बीएफ डॉक्टर को दिखाने जाने से पहले मैंने अपनी चूत पर अच्छी सी परफ्यूम का स्प्रे मारा और एक स्टायलिश ब्रा पैंटी पहन ली. मां की मखमली जांघें देख मेरा ईमान डगमगा गया और मां के बारे में गंदे ख्याल पैदा होने लगे.

मिहिका ने मेरे लंड को ऊपर मेरे पेट से दबा दिया और वो मेरे आंडों को चूसने लगी. मैंने कहा- तुम्हें खाने में मजा आया?वो हंस दी और उसने अपना सर हां में हिला दिया. उसकी जांघ पर हाथ रखे रखे ही मैंने पहले की बात आगे बढ़ाई- तुझे पता है कि लड़की को कैसे पटाया जाता है?अफ़रोज़- अरे आपा, अभी तो मैं छोटा हूँ.

फुल सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी में

मां कुछ नहीं बोलीं, बस उन्होंने पूरा लंड चुत के अन्दर लेने के लिए अपनी गांड को थोड़ा पीछे सरका दिया. फिर उसी पोजीशन में वो खुद आगे पीछे होने लगी और हर धक्के को आइने में देख कर चुदाई का मजा लेने लगी. उर्वशी आगे बोली- मैं अपने आपको शान्त करने के लिए एक क्रीम भी लायी हूँ, जिसे पुसी पर लगाने से वो और टाइट हो जाती है.

मैंने बोला- यार मैं आज तेरी चुदाई करूंगा, तो मामाजी के यहां सबको बता पता चल जाएगी. दोनों ने एक दूसरे के शरीर पर मेरे वीर्य के एक एक कतरे को चाट चाट कर साफ़ कर दिया।जिस तरह रसोई में रखा गर्म खाना वक्त के साथ ठण्डा हो गया था उसी तरह वासना से जल रहे तीन जिस्म भी ठण्डे हो गये थे.

भाभी के चेहरे पर एक अलग सी चमक हो गई थी; वह मेरी चुदाई से संतुष्ट नजर आ रही थी.

फिर मैंने भी देर न करते हुए उसके मुँह में अपने लंड का पानी छोड़ दिया. करीब पांच मिनट में ही भाभी अकड़ उठीं और उन्होंने मेरे मुँह पर ही अपनी चुत का रस झाड़ दिया. हम दोनों उनके घर पर तो मिल नहीं सकते थे … क्योंकि मेरा दोस्त घर में था.

वहां मैं अपनी बहन को मिलने गया तो देखा कि वो अपने बॉयफ्रेंड से चुद रही है. मेरा रंग गोरा, सुंदर चेहरा, पके आम से स्तन, केले के तने सी जांघें, बेदाग और काफी सेक्सी बदन है. गिलास और केतली टेबल पर रखकर सर ने कमरे का दरवाजा बोल्ट कर दिया, मुझे थोड़ा सा अजीब तो लगा लेकिन कुछ खास नहीं.

मैं कभी उसको होंठों पर रगड़ती, कभी मुँह में डालती और कभी गालों पर रगड़ती।वो बोला- आह्ह … खा जा … आह्ह … रानी अपनी चूत नहीं दिखाओगी हमें? चूत दिखा दो बस … कपड़े मत उतार, आज जल्दबाजी में तेरे यौवन का स्वाद नही लूंगा.

देहाती बीएफ बीएफ देहाती बीएफ: मैंने अपना मुँह उसकी चूचियों पर लगा दिया और उन्हें चूसना मसलना चालू कर दिया. हुर्रेम ने मेरे होंठों पर किस किया तो मैं भी उसका पूरा साथ देने लगा.

कॉलेज में ज्यादातर फस्ट ईयर के स्टूडेंट जा रहे थे पर सीनियर स्टूडेंट भी थे. नीतू अपने हाथों से मेरी पीठ को सहलाने लगी।कुछ देर बाद नीतू ने अपने नाख़ून मेरी पीठ पर गड़ाते हुए कहा- हाँ ऐसे ही चोदो अपनी नई बीवी को … अब रुकना नहीं. मैंने कहा- शन्नो चूस ले मेरा लौड़ा … फिर तो तुझे साहिल का लंड भी चूसना है.

दादाजी- सुन री रंडी … ज़रा अपनी जवानी के रंडी वाले किस्से तो बता राजेश को.

अब वो दोनों और मैं एक साथ शहज़ाद से चुदवा लेती थीं, मतलब फ़ोरसम चुदाई हो जाती थी. लंड के हमलों से शन्नो की चूत ने पानी छोड़ दिया और उसकी गीली चूत में लंड फच्च फच्च फच्च करके अन्दर बाहर होने लगा. थोड़ी देर बाद हरीश सुम्मी को लेकर बेड पर आ गया और सुम्मी की हल्के बाल वाली चिकनी चूत पर अपना मुंह लगा दिया.