प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,कल्याण एंड राजधानी चार्ट नाईट

तस्वीर का शीर्षक ,

जय सेक्सी वीडियो: प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ, जिमी ने फोन करकर अपने कमरे में खाना हल्का मंगवाया, उसे दूसरी बार चोदना था.

सुहाग वाली सेक्सी वीडियो

अब वो मेरे कंधे पकड़कर मेरी चुदाई कर रहा था जिससे उसका लंड मेरी बच्चेदानी में चोट मार रहा था. चेहरा साफ करने वाली क्रीम दिखाइएअचानक ऐसा सोचते ही मेरे मन में एक बहुत सुन्दर युक्ति आई कि किस प्रकार आज भैया और हॉट भाभी की सुहागरात देख कर मजा लिया जा सकता है.

गलत गया मां चुदाने!मेरी इस बात को सुनते ही नसरीन आपा ने मुस्कुराकर मेरे गाल पर एक छोटा सा थप्पड़ मारा और बोली- ऐसे गालियां मत दिया करो!उनको मैंने अपनी तरफ पकड़कर खींचा और फिर से किस करना शुरू कर दिया. राम तेरी गंगा मैली हो गई फुल मूवीजब मैंने नंगी बहन की गांड में उंगली लगायी तो …कहानी के पिछले भागमेरी आपा मेरे सामने दूसरे मर्द से चुदीमें आपने पढ़ा कि मेरी आपा को मेरे सामने ही एक गैर मर्द से चुदना पड़ा था.

भाभी अपनी गांड उठाने लगीं तो मैंने बुर के छेद पर लंड को सैट करके एक तेज धक्का दे दिया.प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ: हाशना- उसकी चिंता मत कर यार … उससे भी मैंने बात कर ली है और वो भी तैयार है.

तो अब अगर इसे पैसे देने से बचना है तो बदले मेंमुझे भी चूत चाहिए!ये सुनते ही नसरीन आपा ने शर्म से सर झुका लिया.उसे देखते ही मैंने उसे आंख मार दी … जिसका उसने मुस्कुरा कर मुझे भी जवाब दे दिया था.

चेहरा गोरा - प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ

मैंने बोला- ऐसा क्यों हुआ?उसने बोला- बस साहब वो शराब पीकर घर आकर मुझे पीटता था.मैं बोला- वाओ मेरी सेक्सी बीवी … तू आज अजनबी के लंड का मज़ा ले लो, मेरी तरफ से पूरी छूट है.

कुछ और माल आने ही वाला था कि उसी समय संगीता मैम ने लौड़ा मुँह में लिया और हिलाते हुए मेरा माल मुँह में निकाल कर पी गईं. प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ मैंने हाथ के इशारे से उसे हटने के लिए कहा, तो वो मुझे आंखों के इशारे से कुछ देर दर्द सहन करने की कहने लगा.

उसने मुझे एक बात और भी बताई कि मौसी मौसा को अपनी चुदाई में तीसरा पर्सन भी चाहिए.

प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ?

यही नहीं, सुबह उठकर भी हमने चाय से पहले उसके बाद नाश्ते के बाद और होटल चेकआउट करने से पहले भी बहुत सेक्स किया।मेरी हिंदी भाभी की चुदाई कहानी आपको कैसी लगी?अपने कमेंट पर जरूर बताएं और आप ईमेल करना चाहें तो आप मुझे मेल भी कर सकते हैं. फिर कुछ देर से लौटीं, तो चाय रखते समय उनकी ब्रा की काली पट्टी भी दिख गई. मैंने देखा कि मेरी बहन भी रेडी हो गई थी और आज उसकी कुर्ती का गला कल वाली कुर्ती से कुछ ज्यादा ही खुला हुआ था और उसमें से उसकी आधी चुचियां दिख रही थीं.

राजश्री बोल रही थी- अभी … आह आह आह और चाटो … जोर से चाटो आह मजा आ रहा है आह और जोर से … आंह जितना चाहो चाट लो … तू मुझे कहीं भी बुलाएगा तो मैं तुझसे चुदने आ जाऊंगी अभी … आह आह आह आह मैं झड़ गई … आंह. वहां मेरी मामी थी भरपूर जवान … क्या हुआ वहां?दोस्तो, मैं आपको बताना चाहूंगा कि ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, जो मैं आपको सुनाने जा रहा हूँ. भाभी ‘आह राहुल … ओह राहुल … और तेज और तेज …’ कहने लगींफिर मैं नीचे लेटा और भाभी का मुँह मेरे पैरों की तरफ करवा दिया और उनसे लंड के ऊपर बैठकर चुदाई करने को कहा.

तब लड़की की चूत से लंड बाहर निकालकर, लंड की जड़ को पकड़ ले और लंबी लंबी सांस ले. जिस पते पर हम दोनों को पहुंचना था वह हमारे घर से लगभग आधा घंटा की दूरी पड़ताथा. अब मैं भी उनके झटकों को सहने में सक्षम हो गई थी और उनके झटकों का बराबर जवाब देने में लग गई.

फिर लंड चाटते और मेरे गोटे सहलाती हुई बोली- आंह साब, आपका पानी बड़ा नमकीन है. बस मैं तुम्हारी चुदाई देखना चाहता हूं कि तुम कैसे दूसरे आदमी से चुदवाती हो.

उसी बीच मैंने फिर से कीर्ति का गिलास भर दिया और अपना पैग भी बना लिया.

मैंने अंकित को लंड पर एक लगाने के लिए एक जैल दिया ताकि वो सब्र कर सके और वो तुरन्त ही झड़े नहीं.

मैंने रिंकी से पूछा- कोई दिख नहीं रहा है … सब लोग कहां हैं?मेरा मतलब उसकी फैमिली से था. उसकी बात सुनकर मैं अन्दर तक खुश हो गया पर सामने से से मैंने कहा- हम दोनों भाई बहन हैं, हम ऐसा नहीं कर सकते हैं. पर उसने अगले वार में आधे से ज्यादा लंड मेरी बेचारी बुर में घुसा दिया।हौसला कर पूजा … तुझे थोड़ी देर में बहुत मजा आयेगा।”उतने ही लंड से पूरण आगे पीछे करने लगा.

फिर मैंने मौसी के गाउन नीचे से उठाया और देखा तो मौसी ने वी-शेप वाली चड्डी पहनी हुई थी. उसका लंड कंडोम लगाकर चूसा, मेरी चूत पर डेंटल डेम रखकर मनोज को चूत चूसना सिखाया. मुझे वहां पर कुछ ही टाइम हुआ था कि एक दिन पापा ने मुझसे कहा- तुम्हारी बुआ कि बेटी इधर कुछ दिनों के लिए रहने आ रही है.

पेनफुल सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मेरा काम कंपनी के ग्राहकों को खुश करना था.

हम दोनों एक दूसरे को पसंद करते थे पर चुदाई का मौक़ा उसी के घर में मिला. मैं फिलहाल पुणे में अपनी पढ़ाई पूरी करके सिविल सर्विसेस की पढ़ाई रहा हूं इसलिए मैंने वहीं पर एक रूम किराए पर लिया हुआ है. भाभी- अभी नहीं है का क्या मतलब हुआ … क्या पहले थी?मैं बोला- हां पहले एक थी.

तो मैंने पूछा- किस लिए कॉल की? मेरा नम्बर किधर से मिला?वो बोली- साब आपकी पैंट में आपका कार्ड मिल गया था और इतना भी क्या साहब … क्या हम किसी को याद भी नहीं कर सकते?मैं मन ही मन खुश हो गया कि मछली खुद जाल में फंसी जा रही है. मैं लड़कियो, भाभियो … और लंड वालों से गुजारिश करूंगा कि उस सेक्स कहानीएक गलत कॉल ने चुदाई का मजा दिलवायाको भी एक बार जरूर पढ़ें. तो अभी मेरे लंड का टोपा ही अंदर गया था कि उनके मुंह से जोर की चीख निकली.

अब्बू ने फिर से पूरा लंड एक जोरदार झटके से अम्मी की चूत में जड़ तक उतार दिया.

फिर वो चारों उठकर मेरे पास आ गए और सबने मुझे चारों तरफ से घेर लिया और मेरे जिस्म को छूने की कोशिश करने लगे. अब चुत पर चढ़ाई का वक़्त आ चुका था तो मैंने अंकित को इशारा दे दिया.

प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ हम तीनों ने मिल कर खाना खाया और हर रोज की तरह मॉम अपने घर के काम में लग गईं. मैंने भी अपनी बेटी सायरा को खूब चूसा और उसके खूबसूरत प्यारे से चेहरे पर थप्पड़ मार मार कर उसे लाल कर दिया.

प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ अब मैं भी उनके झटकों को सहने में सक्षम हो गई थी और उनके झटकों का बराबर जवाब देने में लग गई. मैंने उससे पूछा- पहले कभी ये सब किया है?तो उसने कहा- नहीं, आज पहली बार आपने ही मुझे छुआ है.

मेरे बड़े वाले साले की शादी मेरी शादी से एक साल पहले ही हो चुकी थी.

सील तोड़ने वाला सेक्सी फिल्म

अब मुझे पक्का विश्वास हो गया कि मैंने किसी भूतनी के साथ सेक्स किया है. मैंने उसकी चुत की फांकों में लंड का सुपारा फंसा कर चुत को रगड़ा तो उसे जन्नत कर सुख मिलने लगा. मैंने कहा- साली चिल्ला मत … वर्ना आवाज बाहर चली जाएगी और प्रियंका आ जाएगी.

मैंने पूछा- ऐसा कितनी बार उसने किया?वो बोली- बहुत बार … कभी कभी वो मेरी माई को लेकर भी जाते हैं और कभी कभी छुन्नू की दीदी को भी लेकर जाते हैं. पुलिस ने पहले पति को रिहा करने से इंकार करने का नाटक किया, फिर एक लाख की घूस लेकर रिहा करने पर राज़ी हुए. मैंने थोड़ा सा थूक लेकर आपा की गांड में लगाया और अपने लंड पर भी लगा लिया.

आपा दर्द के कारण बहुत जोर जोर से अपने हाथ पटक रही थी क्योंकि अभी तक सिर्फ आपा की चूत में मेरा ही लंड गया था और मेरा लंड जसवंत के लंड के आगे कुछ भी नहीं था.

इधर वो भी मुझे पूरी तरह से नंगा करने में लगी थी और बोल रही थी- मैं कइयों से चुदी हूँ आज से पहले … लेकिन मुझे चोदने से पहले ऐसा मजा किसी ने नहीं दिया है. मेरे लौड़े के उनके भोसड़े में घुसने निकलने से चूतरस भोसड़े से बाहर बहने लगा. बड़े लंड से चुदना एक अलग ही अनुभव है, उसका मज़ा लेने की कोशिश करना, धंधे में काम आता है.

मैंने कहा- क्या है?मौसा बोले- तुझे अपनी मौसी कैसी लगती है?मैंने कहा- अच्छी. फिर उस पोज़िशन में मेरा मजा कम होता जा रहा था तो मैंने उसे खड़े होने को कहा और वो मान गई. पीछे से मैं भाभी की गोरी गांड देखकर मदमस्त हाथी की तरह, पागलों की तरह लंड उचकाने लगा.

फिर मेरी चूत के अन्दर से कुछ तरल सा निकला, तो मैं एकदम से थकी हुई सी महसूस करने लगी. मुझे अंग्रेज़ी बोलना और हाइ सोसायटी कैसा व्यवहार करना है, इसके लिए फिनिशिंग स्कूल में भरती किया.

मेरा आधा लन्ड की गांड में घुस गया।उसकी गांड से खून आने लग गया था और उसकी आँखों से पानी!थोड़ी देर मैं ऐसे ही रुक रहा … फिर उसने धीरे धीरे कमर हिलाना चालू किया तो मैंने एक झटका ओर मार दिया. तब निशा ने कहा- मैंने बाहर से सब सुना है, मैं रजनी को अपने साथ ले जा रही हूँ. देसी आंटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि भाभी की चाची के घर गया तो उनकी भाभी मेरे लंड को पसंद आ गयी.

मुझे देखते ही जसवंत बोला- क्यों बे मादरचोद, आज अकेला आया है? अपनी उस रंडी बहन को साथ नहीं लाया?मैंने उसको बोला- साले तमीज से बोलो.

कुछ समय पश्चात मैंने अपनी लेदर जैकेट की चैन खोल दी क्योंकि मैं आराम से सोना चाहता था. मैं भी मजा ले लेकर उसकी चूत को चाट रहा था, दाना हिला हिला कर चूत चाटता रहा. भाबी को देखता ही रह गया मैं तो!उन्हें देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया था.

मेरी मां एक हाथ से अपनी चूचियों को मसल रही थीं और दूसरे हाथ से चूत में उंगली डाल कर मुठ मार रही थीं. नसरीन आपा ने अपने आप को रोज की तरह पूरी तरह ढका हुआ था; सिर्फ उनकी आँख ही दिखाई दे रही थी.

पहले दिन मेरी और मंजू भाबी की साधारण बात हुई और मैंने उनके पति के बारे में उनसे पूछा. बार बार मुँह में ले लेकर मम्मी ने मुझे अपने मुँह में ही झाड़ लिया और पूरा माल पी गईं. धीरे-धीरे नहीं कर सकते थे क्या?मैंने आपा को सॉरी कहा और कहा- आप जैसीहसीन लड़की की चूत चुदाईपहली बार कर रहा हूं.

नई पिक्चर सेक्सी पिक्चर

फिर मेरी बहन बोली- मेरे भाई, अब तुम मुझे और मत तड़पाओ … मेरी चुत में जल्दी से अपना लंड डाल दो और मेरी चुत चोद दो.

फिर अपनी बहन की तरफ हाथ करके मुझे बताया- ये मेरी बहन सुनीता है, मतलब आपके ससुर की साली. कुछ देर बाद वो बोली- अब मुझसे रहा नहीं जाता साहब … जल्दी से अपना लंड मेरी गर्म चूत में डाल दो साहब!मैंने कहा- अभी रुको मेरी जान … अभी तो तुम्हारी चूत के साथ मुझे और खेलना है. अम्मी गांड हिलाती हुई बोलीं- हां है … क्यों नहीं है असगर के अब्बू … मेरी गांड चूत दूध सब तुम्हारे हैं.

वाह क्या मस्त बुर लग रही थी, वो अपनी चुत को एकदम क्लीन शेव करके आई थी. पूर्णिमा जी का ब्लाउज अभी भी उनके सांवले जिस्म की पीठ में अटका हुआ था. साउथ के सेक्सीजैसे ही उसने मेरे लंड को छुआ, मेरे पूरे शरीर में एक करंट की लहर सी दौड़ गयी.

तो अभी मेरे लंड का टोपा ही अंदर गया था कि उनके मुंह से जोर की चीख निकली. फिर तूने खीरा अपनी गांड में लिया तो है!वो मान गई और कुछ देर बाद बोली- मैं तेल लाती हूँ.

मैं भाभी को जोर जोर से किस करने लगा और उनके मम्मों को दबाने लगा, उनके बाल पकड़ कर होंठों को खाने सा लगा. पर परमसुख पाने से पहले मैंने अपना लंड बाहर निकाल दिया और अपना ध्यान भटकाने के लिए फ़ोन से दूसरी धुन लगाई. लेकिन क्या आप बाइक में मेरे साथ कम्फ़र्टेबल रहेंगी?मेम- हां … मुझे बाइक में डर नहीं लगता, मैं बाइक में कई बार ट्रेवल कर चुकी हूं.

गोरा दूध सा सफेद रंग, नर्म मुलायम स्किन, कमर तक आने वाले काले लंबे बाल. मैं रात का खाना बनाकर उसको देने गयी तो वो लैपटॉप पर शायद पोर्न देखने में बिजी था. सच बोलूं तो मेरी बीवी बार की किसी रंडी से ज्यादा ही हॉट एंड सेक्सी लग रही थी.

वाजिहा बहुत प्यार से हवस से मेरे खड़े लंड को देख कर बोली- अब्बू, मैं आपकी पैदाइश हूँ … ये जानकर मुझे बड़ी ख़ुशी हुई.

उसके पूरे जिस्म पर से पूरे कपड़े उतार दिए और उसको पूरी नंगी कर दिया. [emailprotected]देसी हॉट भाबी सेक्स कहानी का अगला भाग:मोहल्ले की हॉट भाभी को पटा कर चुदाई का मजा- 2.

मैं अपना लंड हिलाते समय उसका नाम भी ले रहा था- ओह प्रिया … ओह प्रिया … आंह प्रिया!मैं दरवाजे में कुंडी लगाना भूल गया था, तभी अचानक किसी ने दरवाजा खोला, वो प्रिया थी. उसने दूसरा मकान देख भी लिया था और जब तक वो पूरा मकान खाली करता, उससे पहले ही कुछ ऐसा हो गया, जो इस सेक्स कहानी के लिए आधार बन गया. वो मेरी तरफ मुड़ी और बोली- अच्छा यहां पर आपकी सीट थी, सॉरी मुझे पता नहीं था.

अभी तक हम दोनों ने एक दूसरे को नहीं देखा था लेकिन फोटो में अमित की बहन को मैंने … और मेरी बहन को अमित ने देख लिया था. आपा ये सुनते ही बोली- हाँ कमीने, तुम बस हमेशा अपने ही जुगाड़ में रहा करो. फिर वो जैसे ही साइड में हटने लगीं, मैंने उनको बालों से पकड़ कर अपने लंड की तरफ ले लिया और उनके मुँह में अपना पूरा लंड घुसा दिया.

प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ इस पर वो दोनों एक साथ बोल पड़े- नहीं आप जो बोलेंगे मालिक … हम दोनों वही करेंगे, पर आप हमारे घर पर मत बताना. मैंने फिर से कहा- पक्का ना?उसने मेरी आंखों में आंखें डालकर बोला- हां ठीक है … हम बाद में जरूर करेंगे.

छोटी बच्ची सेक्सी हिंदी

उसके पास शादी से संबन्धित बहुत सारे काम थे, वो मुझे यही सब बताने लगा. मैंने क्षिति के चेहरे को उठाया और उसे इशारा किया कि वह मेरे लंड पर बैठ जाए. मैं अभी भी उससे नजर नहीं मिला पा रहा था; मैं दूसरी तरफ मुँह करके लेटा ही रहा.

फिर जब उन्होंने अपनी ब्रा को खोला तो उनके उरोजों ने मुझे मदहोश कर दिया. उसकी चूत बाहर आ गई, उसने अंदर पेंटी नहीं पहनी हुई थी।उसकी चूत मैंने हाथ लगाया उसकी इश्स … निकल गई।मेरे हाथ पर पूरा पानी आ गया, उसकी चूत में बहुत ज्यादा पानी निकल रहा था।उस पानी को लेकर स्वाद लिया, बहुत अच्छा स्वाद लगा।फिर मैंने उसे लंड को एक बार चूसने के लिए बोला. मारवाड़ी सेक्स बताइएमैं तेज तेज मुँह में लंड करने लगा था जिस वजह से उसकी सांसें अटकने लगीं.

फिर मैंने उन्हें उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी दोनों टांगों को मोड़ कर चूत में लंड घुसा कर गपागप गपागप चोदने लगा.

मैं जिस एरिया से बिलोंग करता था, वहाँ लड़के अगर लड़कियों से बात करे, हाथ मिलाये मतलब उन दोनों के बीच कोई न कोई चक्कर है. कभी मैं दोनों हथेलियों से उसकी नरमी का अहसास करता तो कभी उनको चूसते हुए परम आनंद का अनुभव करता।प्लीज दीपक, अंदर डालो!” वो चुदने के लिए बेताब हो रही थी.

एक महीने कीगल कसरत करने के बाद मुझे खड़े होकर, नयी 6 इंच लंबी पेन्सिल चूत में एक इंच डालकर चूत को संकुचित करना था. मुझे खुद भी बड़ा मस्त लग रहा था कि लोगमेरी मदमस्त जवानीको आंखों से चोद रहे हैं. तब लड़की की चूत से लंड बाहर निकालकर, लंड की जड़ को पकड़ ले और लंबी लंबी सांस ले.

अपनी चुत पर मेरा स्पर्श पाते ही उसके मुँह से बहुत जोर से कामुक आह निकल उठी- आह … आह … आपने तो मुझे मार ही डाला साहब … ओह ये क्या कर दिया आंह मैं मर गई!थोड़ी देर तक चूत चटवाने के बाद उसने मेरे बालों को पकड़ लिया और जोर से मेरे मुँह को अपनी चूत में चिपका कर गांड उठाने लगी.

कुछ देर बाद मैं दुबारा से भैया और भाभी वाले कमरे में गया, जहां अब बहुत ही ज्यादा गहमागहमी थी. जब तक मैं कमरे का दरवाजा बंद करके आया, मंजू भाबी ने अपने सारे कपड़े उतार दिए और बिस्तर नीचे जमीन पर लगा रखा था. आज 12 बजे तक क्यों पढ़ेगा?मैंने मन में सोचा ताकि देख सकूं कि आपने जो सोच रखा है कि मेरे सोने के बाद आप अपनी मस्त चूत में लंड लोगी और खूब जबरस्त तरीके से अब्बू के लंड के सामने अपनी गांड को पेश करोगी.

मस्तराम डॉट कॉमथोड़ी देर बाद मेम सीधी हो गईं और मेरी गांड फट गई कि कहीं मेम उठ कर मुझे थप्पड़ ना मार दें. कहानी के पहले भागक्लासमेट की चूत लेने के लिए उसकी मदद कीमें अब तक आपने पढ़ा था कि कीर्ति वाशरूम में गई तो मैंने उसके पैग में कामोत्तेजक दवा मिला दी.

भाभी की सेक्सी वीडियो रोमांस

अब मेरा दिल करता है कि एक दिन मैं अपनी रांड अम्मी को भी चोद कर देखूं कि उसकी भोसड़े में कितनी गर्मी है, अम्मी की चूत में कितना दम है. बबीता की कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि अय्यर ऐसा क्यों कर रहा था. उसने उस दिन डेनिम की जीन्स और लाल रंग का फिटिंग वाला टॉप पहन रखा था.

चूमने के साथ ही उसकी पीठ को सहलाने लगा और सहलाने के साथ ही उसकी ब्रा का हुक खोल दिया, ब्रा को अलग कर दिया. इसके बाद मैंने प्रिया भाभी को उनके पति के सामने ही नंगी कर दिया और चुत में लंड पेल कर चोदने लगा. वो बोला- पूजा रानी, यह होता है पहली बार … डर मत।मैं बड़ी मुश्किल से उठी औए गुसलखाने में गई.

मुझसे रहा न गया तो मैंने उसकी ब्रा झटके से खींच दी, ब्रा के हुक टूट गए … उसके मम्मे एकदम से बाहर उछल कर आ गए. और डर भी लगता था कि कहीं लेने के देने ना पड़ जायें।अगले दिन मैं सुबह 8 बजे उठा आँटी उठ गई थी. आपा ने उस दिन भी रोज की तरह बुरका पहना हुआ था और वो झुक कर कोई सामान देख रही थी.

बाहर आया तो याद आया नाना नानी के कमरे का गेट तो मैंने बंद किया हुआ था. हाथों के ठंडेपन से मुझे अहसास हुआ कि उसके दोनों हाथ मेरी टी-शर्ट के अन्दर हैं.

वो बोलीं- मतलब, नंगे तो हो गए हैं और कैसे खुलना है?मैंने कहा- पहले ओरल का मजा ले लेते हैं.

कुसुम बोली- साले तेरी वजह से मुझे सांस भी नहीं आ रही थी, मैं मर सकती थी … और तूने मेरे मुँह में ही सब क्यों निकाल दिया?मैं- सॉरी यार, मुझे खुद नहीं पता क्या हो गया था. सेक्सी कुमारीइससे मामी का मुँह खुल गया और मैंने एक झटके में अपना लंड उनके हलक तक भर दिया. राजस्थान की देसी सेक्सीभैया ने मुझसे पूछा- इतने रूपए क्यूं चाहियें?तो मैंने पंकज की तरफ देखा. साड़ी खींचते वक्त जब वह घूम रही थी तब उसके पूरे शरीर को मैं देख रहा था.

भाभी ने कुछ सामान लाने को बोला कि ये जरूरी है, आप जरूर से लेते आइएगा.

मैंने पहले दरवाजा चैक कर लिया, फिर ससुर जी के बेड के पास जाकर उन्हें देखा, तो वो गहरी नींद में पीठ के बल सो रहे थे. थोड़ी देर में हम दोनों एक साथ झड़ गए; थककर नंगे ही एक दूसरे की बांहों में सो गए. वो लंड लेने की खुशी से मचल रही थी और दर्द से रोती तड़पती चीखती चिल्लाती हुई मजा ले रही थी.

वो बोली- तो चाय पीजिए न!मैं चाय पीने लगा और मैंने सोचा कि जो होगा देखा जाएगा; आज इससे अपने दिल की बात करके ही रहूँगा. चलो किसी की तो बुझे!मैंने कहा- तो मैं कल आ रहा हूं।उसके बाद थोड़ी देर चुप रही, फिर बोली- अमन यह बताओ … प्रिया को तो पानी मिल जाएगा चूत में! लेकिन मुझे क्या मिलेगा? क्या सिर्फ प्रिया ही की ही प्यास बुझाओगे? आखिर मैं भी तो प्यासी रहती हूं. मेरी आपा मुझसे बहुत प्यार करती थी, वो मेरी हर छोटी बड़ी चीज़ का बखूबी ध्यान रखती थी.

सेक्सी एंटी सेक्स

मैं बोला- मेरी प्यारी शबाना आपा, थोड़ा दर्द तो होगा … फिर मजे ही मजे होंगे. फिर जाकर आपा ने रूम दरवाजा खोला और देखा तो अम्मी गेट पर इंतजार कर रही थी. मैं उसे कुल्फी चूसते देख कर ऐसे सोचने लगा, जैसे वो मेरा ही लंड चूस रही हो.

मैं तो बस अपने मन में अक्शा की चूत को याद करते हुए उसकी चड्डी चाट और सूंघ रहा था और अपना लंड हिला रहा था.

मनोज बोला- शादी के बाद यदि सेक्स में कोई समस्या हुई तो आपको फोन करके सलाह लूँगा.

शुरू-शुरू में तो घर गार्गी को मुझसे बहुत शर्म आती थी, पर धीरे धीरे समय के साथ उसने मुझसे मजाक करना शुरू कर दिया और मैं भी उसे मजाक करने लगा. सिस्टर एस फ़क स्टोरी में पढ़ें कि मेरे चचाजान की जवान बेटी हमारे घर आयी तो मैं मुठ मार रहा था. अंजना सिंह के सेक्सी वीडियोकिन्तु मुझे आनन्द आ रहा था तो मैंने ऋतु मेम के सेक्सी मम्मों पर हाथ रख कर उन्हें थाम लिया और गांड में लंड को तीव्र गति से आगे पीछे करना शुरू कर दिया.

मैंने उससे पूछा तो उसने बताया- मेरी शादी को सवा साल हो चुका है … पर मेरे पति कभी मेरी गर्मी शांत नहीं कर पाए हैं. अब मैंने उससे खुल कर बोला- यार तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो … क्या तुम मेरी गर्लफ्रेंड बनोगी. मेरा कोई जवाब न पाकर वो बोलीं- कहीं बाहर आवाज़ नहीं जा रही है … ऐसे गूंगे बने रहोगे या कुछ बोलोगे भी?मैंने कहा- अब तो बस मुझे आपके चूचे मुँह में डाल कर चुप ही हो जाना ठीक लग रहा है.

प्रियंका, स्वाति और मैंने मिलकर आपस में चुदाई की और अपने लॉकडाउन को सबसे अच्छा बनाया. मैंने उसकी बात मान ली और दो दिन बाद उसकी मनपसंद ड्रेस पहन कर योगेश से मिलने जाने लगी.

ये सुन कर पहले तो वो शर्माई, फिर मेरा लंड अपनी चूत में सैट करने लगी.

फिर मैंने किस करते करते उसकी टी- शर्ट के ऊपर से मम्मों को जोर जोर दबाने लगा. जाते वक्त उसने यह कहकर अय्यर की गांड में फिर से उंगली की कि बादाम याद से खा लेना. वकील ने पति को बताया, बीवी को पीटने और उसे दूसरे मर्द का साथ सोने को मजबूर करने की कोशिश के अपराध में पति को कम कम से कम 5 साल की क़ैद होगी.

अंग्रेजों के सेक्सी वीडियो मैं कहा- मेरी सायरा रंडी, कुंवारी बेटी … आज तुझे मैं मर्दों के लंड से चुदने लायक बना दूंगा. मैं एक बार उस कुत्ते के साथ सेक्स करके यह सारा मामला ही खत्म कर दूंगी.

तो आपा ने मुस्कुरा कर कहा- किसने रोका है?मैंने जल्दी से आपा का बुर्का उनके जिस्म से अलग कर दिया. अपनी गांड उठाए हुए सुनीता बोली- लगता है आज बीजारोपण होकर ही रहेगा!मैंने आहिस्ता आहिस्ता धक्के लगाने चालू किए. भाभी की गतिविधियों से लग रहा था कि शायद भाभी पहले से ही लंड से खेलने की आदी थीं.

बंगाली सेक्सी ब्लू बंगाली सेक्सी

बबीता की कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि अय्यर ऐसा क्यों कर रहा था. कुछ देर बाद उसने मुझे अचानक से पूछा- आबिर, तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है या नहीं?मैंने कहा- हां भैया है न!उसने कहा- अरे वाह, तब तो तुमने सेक्स भी किया होगा?उसकी इस बात पर मैं एक बार को तो हैरान रह गया. वो मुझे घूरने लगी और बोली- मैं जीती हूँ, तुमको मेरी बात माननी पड़ेगी.

उसकी चूत हल्के भूरे रंग की सी थी जिसे देखकर मेरा मुंह में पानी आ गया. थोड़ी देर बाद राजेश के झटके तेज हो गए और वो मेरी गांड में ही झड़ गया.

इससे जेठालाल की गांड में आग लग गई और वो कुर्सी पर बंधा बंधा कसमसाने लगा.

मैं जल्दी से छत पर भाग गया और सोचते हुए अपना लंड सहलाने लगा कि आज अब्बू भी खूब अच्छे से गांड मारेंगे. हम दोनों ने अपनी चुदाई को अंजाम तक पहुंचाया और मेरे लंड से वीर्य झड़ कर वाजिहा की खून से लथपथ चिकनी चूत में गिर गया था. मैंने जिंदगी में पहली बार लंड चूसा था और विशाल ने मेरी चूत भी चाटी थी.

फिर जब हम दोनों ने बाहर निकलने की सोची, तो ऐसा लगा कि बाहर कोई चौकीदार खड़ा है. उन्होंने मेरा लंड पकड़ा और बोलीं- इतनी अच्छे से तेरे भैया ने भी मेरी कभी चूत नहीं चाटी. थोड़ी देर बाद मैंने पूछा- क्या शॉपिंग करोगी भाभी जी?भाभी- बस कुछ कपड़े खरीदने थे यार!भाभी के मुँह से अपने लिए यार सुनकर मैं जरा चौंका, फिर मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया.

जब चुदाई के समय पति देखते कि मुझे दर्द नहीं हो रहा, वो मेरे स्तन ज़ोर से मसलने लगते, स्तन, निप्पल दांत से काटते!जब मैं पीड़ा से कराहती, तब उन्हें मज़ा आता.

प्रियंका चोपड़ा का हिंदी बीएफ: जैसे ही उसने मेरे लंड को छुआ, मेरे पूरे शरीर में एक करंट की लहर सी दौड़ गयी. कुछ देर बाद मुझे लगा कि मैं अब झड़ने वाला हूं, तो मैं भी जोर जोर से सिसकारियां ले रहा था- ओह या … ओह या … नूर ले … लंड का पानी ले ले!बस मैं सिसकारियां लेते लेते उसकी चूत के अन्दर ही झड़ गया.

कुछ देर लंड चुसवाने के बाद मेरा माल झड़ने लगा और मैंने उसके मुँह में ही अपना माल गिरा दिया. कुछ देर बाद मैंने उसे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चुत में लंड डाल दिया. लगभग 20 मिनट की चुदाई के बाद अमित लंड झाड़ कर मेरी बीवी के ऊपर से हटा और उठा और बोला- यार अनुज, तेरी बीवी क्या मस्त माल है, इसे चोद कर मज़ा आ गया.

मैं- हम्म … पर भाभीजी जिनको आप में इंटरेस्ट हो, उनका क्या?भाभीजी- मतलब?मैं- कुछ नहीं.

मेरी गांड फट रही थी क्यूंकि मैं पहली बार सेक्स करने जा रहा था और मुझे ज्यादा कुछ पता नहीं था इसलिए मैं चुप था. फिर मैं अपने घुटनों पर बैठ गया और मैंने अपना मुँह मिताली की नाभि पर रख दिया. वो भी रात को लंड गांड से बाहर नहीं निकलने देती, पर चूत को हाथ तक नहीं लगाने देती.