बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर

छवि स्रोत,हेमा मालिनी की बीएफ सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

દેશી એક્સ એક્સ: बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर, उस बुड्डे की उम्र मेरे दादा जी से भी बड़ी थी, मगर यहाँ मैं सिर्फ एक चूत की मालकिन थी, जिसको वो चूसना चाहता था.

सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो दिखाइए

माफ़ कीजिये दोस्तो, इस वक्त मैं एक शेर सुनाने से अपने आपको नहीं रोक पा रहा हूँ. ब्लू सेक्सी पिक्चर सेक्समैं और डॉली ऊपर कमरे में आ गए, फिर मैं दिन में करीब एक बजे के आस पास उठा, नहाया और देखा कि अन्नू और डॉली अपने काम पर गई हुई थीं.

मुझे लगा कि ये इतना थकने बाद वो सो जाएगा, लेकिन वो तो मेरे ऊपर इतना फिदा था कि एक मिनट के लिए भी मुझे अपने दूर नहीं करना चाहता था. हिंदी में देवर भाभी की सेक्सी बीएफअरे साली तुम तो पूरी जवान हो ही, बस एक बार मेरे लंड से चुद जाओगी तो तेरा कुँवारापन खत्म हो जाएगा और लड़की से औरत बन जाओगी.

मैं बेड पर खड़ा हुआ, अंडरवियर उतार कर लंड बाहर निकाला और लंड को पकड़ के धीरे से ऊपर नीचे करने लगा.बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर: आज चूत के दर्शन की बात छोड़ो, तीन तीन बार चूत की चुदाई भी की और वो भी उसकी रज़ामंदी से.

मम्मों को मसलते हुए पीने में जो मजा आ रहा था… उसका आनन्द ही अलग था.मैंने एक ढीला सा गाउन डाला जो एक झटके में आगे से खुल जाता था और नंगी होने में भी समय नहीं लगता था.

तेलुगू बीएफ वीडियो - बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर

मैंने पूछा- सोनिया क्या आज भी करने देगी?तो वो मेरे से चिपक गई और बोली- भैया अब तो आपकी वाइफ की तरह रहूँगी.इसके बाद मुझे पता ही नहीं चला कि कब उन्होंने मेरी शर्ट के सारे बटनों को खोल दिया.

मैंने आज मौक़ा समझ लिया और जल्दी से जाकर कमरे का दरवाजा बंद कर दिया और कमरे में एक चादर बिछा कर उस पे खुशबू को लिटा कर खुद उसके ऊपर चढ़ गया. बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर इसकी कम से कम 4 बार चुदाई होनी चाहिए और वो एक बार इसकी गांड भी मारे.

उस चैट को पूरा पढ़ कर पता चला उसके बहुत सारे नंगे फोटोज उसने सर को भेजे हुए थे.

बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर?

फिर उन्होंने मुझ अपने तरफ खींचा और मुझ बेइंतहा चूमने लगीं, मेरे होंठ चबाने लगीं, मेरी जीभ को ज़ोर ज़ोर से मुँह में लेके चूसने लगीं. वे दोस्त यार सब जो मेरी गांड मारते थे, व जो मेरे से गांड मरवाते थे… सभी अपनी अपनी जगह चले गए. वो इतनी खूबसूरत थीं कि मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उनका हाथ पकड़ते उनसे बगल के नक्षत्र वन चलने को कहा.

जब मैं अपना पैसा गंवा बैठा तो इस सब पर मैंने गम्भीरता से विचार किया और इस पूरे मामले की तहकीकात करने का तय किया. इसके बाद हम दोनों लोग उधर से दवाईयाँ और कंडोम लेने के बाद मकान मालिक की कार में बैठकर घर चल दिए. दिशा बोल रही थी- इधर मेरे घर की रसोई की तरफ देखो, मैं अभी रसोई में हूँ और चाय बनाने आई हूँ लेकिन तुम नंगे होकर क्या कर रहे हो?तब मैंने तौलिये से अपना लंड छुपाया और उससे कहा- मैं अपने कपड़े चेंज कर रहा हूँ। तुम अपना काम बताओ?तो दिशा ने जवाब दिया- आपको दीदी पूछ रही है कि आप खाना कितनी देर में खाओगे?मैंने कहा- अभी मेरे पेट में चूहे कूद रहे हैं.

मेरी निगाहों को पढ़ कर चाची ने मुझसे अपनी नजर चुरा ली और हंसने लगीं. मैंने एक बार एक पोर्न वीडियो में देखा था कि आदमी अपने लंड को आगे पीछे करके औरत की चुत में लंड डाल कर मजा लेता है. तब आशीष ने मेरी तरफ देखा, मैं आशीष की तरफ देखकर मुस्कुरा दी और वो मेरी आंखों में देखकर चोदने का इशारा किया तो फिर से मैं हंस दी और आंखों को नीचे कर लिया.

जरा खुल कर बताओ न कि तेरी किस में आग लगी है?वो इठला कर बोली- तुमको नहीं मालूम कि मेरी किस जगह आग लगी है?मैंने कहा- मुझे तो मालूम है, पर तुम अपने मुँह से कहो न कि तुम्हारी किसमें आग लगी है. मैंने उसके बेटे को रैकेट दिया तो वो जल्दी से खड़ा हो गया और मेरी गर्लफ्रेंड के साथ खेलने लगा.

आह… उन प्रेम रस में डूबे, कांपते होंठों की लज्जत तो किसी फ़रिश्ते का ईमान भी खराब कर दे.

वैसे उसकी उम्र 21-22 साल की है लेकिन वो 18 से ज्यादा की उम्र की बिल्कुल नहीं लगती देखने में.

तो वो बोली- अब कुछ आज ही कर लोगे क्या?मैंने कहा- सब कुछ कहां किया है, अभी तो बहुत कुछ बाकी है. जैसे ही गाड़ी पोर्च में पहुंची, मैंने आगे बढ़कर फाटक खोला तो उसमें से 56-57 साल का आदमी जिसके सर पर केवल गिनने को ही बाल बचे थे, काले रंग का सूट पहने नीचे उतरा और दूसरी ओर से बाहर आई एक कयामत जो 30-32 साल की अप्सरा, बेहद खूबसूरत 5 फुट 7 इंच लंबी गदराए बदन की मालकिन काले रंग का लॉन्ग गाउन जो उसके गोरे बदन से लेमिनेशन की तरह चिपका हुआ था. मेरे पास समय तो नहीं था, मगर अपनी जान से प्यारी चुदक्कड़ बीवी की बात भी तो नहीं टाल सकता था.

तभी मॉम ने मुझे हिलाया- क्या हुआ सोनू कहाँ खोया है? मैं तुझसे ही बात कर रही हूँ. मैं उसके लंड की चोटों पर चोटे गांड फाड़ू ठोकरें झेलता रहा… झेलता रहा… गांड चौड़ी किए लेटा रहा. पहले तो मुझे बड़ा अजीब सा लगा, एक बार तो मैं छोड़कर खड़ा होने लगा था.

उसके पापा ने मुझे खुश होकर धन्यवाद कहा, तभी उसकी मम्मी ने खुश होकर मुझे खाना खा कर जाने को कहा.

दरअसल अबकी बार भाभी की गांड मैं नहीं मार रहा था, बल्कि वे खुद अपनी गांड मेरे लंड से मरवा रही थीं. बहुत अच्छा काम है आपका, और शब्द भी बहुत छांट कर लाए हैं आप!” नताशा मुस्कुरा कर बोली. आखिर क्या करता?बहरहाल डॉक्टर ने मेरी मैडम को चेकिंग के लिए भीतरी केबिन में मशीनों के बीच लगे बेड पर कपड़े निकाल कर लेटने को कहा तो नीना कूल्हे मटकाते हुए ऐसे चली जैसे चुदने जा रही हो.

अब मुझसे भी सब्र नहीं हुआ और मैंने उसकी जीन्स के साथ ही उसकी पेंटी भी उतार दी. उसी समय वो एक चीख के साथ झड़ गई और जैसे ही मैं खड़ा होकर उसकी चूत में लंड डालने जा रहा था, उसी समय तेज़-तेज़ कोई दरवाज़ा पीटने लगा. जैसे ही मैंने उनकी चुत के ऊपर की ड्रेस काटी, उनकी ब्लैक कलर की पैंटी दिखी.

तो मैंने उसे अपनी सारी जानकारी दी और अंत में उसका नाम भी पूछ लिया तो पता चला कि उसका नाम नेहा है और वो यहाँ अपने ससुराल में रहती है.

कुछ देर बाद मैं बिंदु के पास लड़खड़ाते हुए गई और बोली- या तो चंदर को अभी यहाँ से जाने के लिए बोलो या फिर मैं पापा से कुछ कहूँ. मैंने पूनम से कहा- पूनम, मैं झड़ने वाली हूँ!कि तभी पूनम ने नकली लण्ड मेरी चूत से निकाला और मेरी चूत को चूसने लगी.

बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर इस पर वो बोला- पास आओ जरा मैं इस स्प्रिंग को नीच कर दूं ताकि मुझे अपने किंग की क्वीन नजर आती रहे. एक दिन उसने मुझे अपनी दिल की बातें बताई और बोला कि वो मुझे पसंद करता है लेकिन मैंने उसकी बात को हंस कर टाल दिया.

बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर ”हाँ चलो दिखाओ, अगर सही होगा तो ये चेतना निकाल देगी मक्खन, निकालेगी क्या चाट चाट कर खाएगी. पहले तो उसने नाड़ा खोलने ही नहीं दिया, पर जब थोड़ी देर चुत रगड़ने के बाद जब उसकी चूत गीली होकर पानी छोड़ने लगी तो उसकी पकड़ भी ढीली होने लगी.

तो फिर कैसे साफ़ करूँ?”वो बोली- फिर ऐसे कर कि अपनी जीभ बाहर निकाल और जितनी मेरी चूत में लंड की मलाई निकली है, सब साफ़ कर दे.

तृषा मोदी का सेक्सी वीडियो

मैं आधा घंटा बाद कमरे में गया तो देखा दीदी नई नवेली दुल्हन की तरह बेड पर बैठी हुई थी और उसने अपना चेहरा ढका हुआ था. आशीष बोला- लो माँ, अब गया इसकी चूत में…इतना कहते ही उसने जोर का झटका मारा तो उसका लंड फिसल गया और लंड मेरी चुत के अन्दर नहीं गया. मैं फ्रिज से आइस क्यूब ले आया और वो महक की चूत के छेद में घुसा दिया.

”मेरी नाइटी तो पहले से ही निकली पड़ रही थी, अंश ने पकड़ कर खींच कर बाहर निकाल दी, फिर ब्रा निकाल दी और निप्पल मसलने लगा. मैं अवाक रह गई और अपनी बड़ी सी आंखें फाड़ कर उनके चेहरे को देखने लगी. थोड़ी देर बाद जब वो बाहर निकला तो वो मेरी तरफ देखकर स्माइल करने लगा.

घड़ी पर नजर डाली तो नौ बजने को थे, मैं बोला- प्रियंका, तुम्हारा होस्टल का गेट बंद होने का समय हो गया है, चलो चलते हैं!तो वो बोली- आज की रात मैं तुम्हारे साथ ही रहूँगी, कल शाम को ही होस्टल जाना है.

ये मेरी पहली सेक्स स्टोरी है, तो किसी तरह की भूल को नजरअंदाज करते प्लीज़ माफ़ कर दीजिएगा. मैंने भाभी को बैठने के लिए कहा तो वो गेट के कोने में टेक लगा कर खड़ी हो गई. ”क्या स्पेशल सरप्राइज है…?”अजय राहुल तुम दोनों थोड़ा धीरे करो, दोनों गोद में लेट कर मजे कर लो.

उनके यहाँ काफी महिलाओं का आना जाना था, सभी हाई प्रोफाइल घर की या बड़ी पोस्ट पर या बड़े बड़े बिजनेस मेन की पत्नियां या उन्हीं के घर में से थीं. ” कह कर हँसने लगी फिर छोटी बच्ची की तरह रोने लगी।राजू ने मेरी तरफ देखा, मैंने आँखों से ही उसे लाने का इशारा किया।ठीक है मेमसाब लावत है…” कहकर वह नीचे चला गया।रंजू अब अपने दुप्पटे को हाथों में लेकर खेलने लगी, राखी रोना बंद करके बाथरूम चली गई, चेतना तो एकटक दरवाजे को देखती रही।मैं सब को देखकर हँसने लगी।तभी दरवाजे पे दस्तक हुई।आ जाओ. दिखने में दीदी बहुत ही शरीफ लगती हैं, लेकिन अन्दर से एकदम सेक्स की भूखी रंडी हैं.

इतना कह कर मैं नीचे फर्श पर बैठ गया और रानी के सेट होने का इंतज़ार करने लगा. मैं अब कुछ नहीं बोल सकती थी सिवाए अपनी किस्मत को गालियां देने के…जब मैं वापिस घर आई तो कहा कि मैं इंटरव्यू में पास नहीं हुई.

यूं ही चूचियों को मसलता सहलाता मैं कब सो गया मुझे कोई होश ही नहीं रहा. जैसे ही हम घर पहुँचे, मैंने देखा मेरे घर पर ताला लगा है, मेरी माँ और पापा मेरे किसी रिश्तेदार के घर गए थे और मेरे पास घर की दूसरी चाभी नहीं थी. हम दोनों एक ही घूँट में अपने अपने गिलास खत्म किए… और फ़िर किस करने के लिए एक दूसरे की तरफ़ होंठ आगे किए.

इसके बाद वो मेरी चुत में लंड पेलते हुए बोलने लगा- देखो बिंदु रानी, तुम्हारे थूक और मेरे थूक ने मिल कर हम दोनों के आइटम कितने चिकने कर दिए हैं.

कभी एक मेरी चुत में अपना लंड डालता था और दूसरा उसको धक्का मार कर अपना लंड डाल देता था. पर मेरा एक असूल है कि मैं किसी भी लेडी की गोपनीयता भंग नहीं करता, सारी जानकारी सिर्फ मेरे तक ही रहती है. मैंने हंसते हुए पूछा- क्या हुआ आंटी?आंटी ने भी हंस कर कहा- कुछ नहीं.

भाबी मुझे कुछ भी नहीं बोल रही थीं मुझे लगा कि शायद भाबी मुझे लाज के चलते कुछ भी नहीं कह पा रही हैं लेकिन उनको अपनी चुत की चुदाई का मजा लेना ही है इसलिए वे मेरे साथ सेक्स में डूबी हुई हैं. दूसरे दिन सुबह दस बजे रवि दूसरे खेत में काम पर गया था और मैं आज छिनाल जैसी नई साड़ी और कट ब्लाउज पहन कर मोहन के खेत की ओर निकल पड़ी.

हालाँकि मुझे इस बात का बहुत अच्छी तरह से आभास था, मगर नौकरी की व्यस्तता के चलते अपनी डार्लिंग के लिए किसी बिंदास लंड का बदोबस्त नहीं कर पाया था. मैं भी कितनी बुद्धू हूँ, मैंने अपने बारे में तो बताया ही नहीं कि मैं कैसी हूँ क्योंकि मुझे मालूम है कि अन्तर्वासना पर मेरी जवानी को जब तक आप लोग नहीं जानेंगे, आपका लंड ही खड़ा नहीं होगा और कहानी पढ़ने का मजा भी नहीं आएगा. उस दिन मैं इटावा स्टेशन पर रात में मेरठ जाने वाली ट्रेन का इन्तजार कर रहा था.

पंजाबी सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी में

मैंने मन ही मन तय कर लिया कि अगर अलका की चुदाई मिल गई तो जैसे ही मेरे घर के ठीक पीछे वाला घर, जब कभी भी खाली होगा, तो वो घर सत्येन को अलॉट कर दूंगा.

फिर मैंने उसकी ब्रा पैन्टी भी उतार दी, अब वो पूरी नंगी थी उसकी गांड और बूब्स बहुत गोरे थे और मस्त लग रहे थे. रेखा ने लंड को गहरी गहरी साँसें लेते हुए अच्छे से सूंघा, सुपारी की खाल पीछे करके अपने गालों पर फिराया, फिर जीभ निकाल के सुपारी का स्वाद चखा. पूरे 5 मिनट तक लंड चुसाई करने के बाद अब मुझे भी अकड़न का अहसास होने लगा था.

मैंने लंड के सुपारे को भाभी की चुत के अन्दर धकेला और भाभी के ऊपर पूरा चढ़ गया. ”आंटी बोलीं- जब बाथरूम में झाँक कर मुझे नंगी नहाते हुए देख रहे थे, वो गन्दा काम नहीं कर रहे थे. ससुर बहू की बीपीमैंने कहा- इसके पहले क्या तूने अपनी चुत में उंगली भी नहीं की?उसने कहा- उंगली से क्या होता है.

जब मैं उस आदमी से भी पूरी तरह से चुद गई तो उसका लंड भी पानी छोड़ते हुए बाहर निकल गया. भाबी बोली- जब तेरी शादी होगी तो जब नहीं पहनेगी क्या?मैं बोली- तब की बात और है.

फिर ब्रा को बिना खोले उनके बूब्स से ऊपर खिसका दिया और उनके सेक्सी मम्मे मेरे सामने एकदम बाहर आ गए. उसने कहा- रोड के पास हमारे खेत हैं, वह पर मिलूँगी!फिर मैं बस में से वही रोड पे उतर कर उस से मिलने चला गया, मैं उससे बात करते करते खेतों में पहुँच गया. वो दूध रख के बाहर गई और उसने कमरे का दरवाज़ा बन्द कर दिया और शायद बाहर से कुण्डी भी लगा दी थी.

दिल्ली में मिल ले प्लीज, फिर देखो मैं तुझे क्या क्या पिलाता हूँ! उसने हँसते हुए कहा. तभी उसने मेरा लंड मुँह से बाहर निकाला और बोली- ओह गॉड हाऊ स्वीट, कितना पिंक है…और फिर से मुँह में ले लिया. भाबी भैया से बोलीं- कल मुझे मार्केट जाना है, आपकी बहन को कुछ कपड़े दिला दूँ… नहीं तो ये गर्मी में मर जाएगी.

अब उसने अपनी दो उंगलियों से मेरी फ्रेंची की स्ट्रिप पकड़ी और नीचे करने लगी.

मैंने देखा तो उसने मुझे आँख मारते हुए बोला कि ये भी ले लो, काम आता रहता है. रात को दस बजे बिंदु माँ मेरे कमरे मे आकर बोलीं- अपने कपड़े उतारो और चूसो मेरी चूत को.

तो मैं बोला- फ्रेश होकर आओ।मैं बोला- नाइट गाउन हटा कर बिस्तर पर लेट जाओ, मैं मालिश कर देता हूँ।फिर मैंने उनके शरीर के एक एक अंग की ढंग से मालिश की। चूत की तो गर्म पानी से सेंकाई करके फिर सरसों के तेल से मालिश कर दी थी कि चूत से रसधारा छूटने लगी थी. मैंने उसे उठा कर बिस्तर पर पटक दिया और उसके टॉप को बीच में से फाड़ दिया… तो उसका संगमरमर जैसा तराशा हुआ बदन धीरे धीरे मेरे सामने आता गया. मैं जैसे ही अपना चेहरा उनके फेस के करीब ले गया, वो शांत हो गईं और मुझे देखने लगीं.

पर हाँ इस घोटाले के जाल से आपमें से कुछ को भी फंसने से बचा सका तो मेरी ये मेहनत सफल हो जाएगी. तभी उसने ट्रायल रूम का गेट खोला और मुझे पैन्ट दिखाते हुए कहने लगा कि देखो कैसी लग रही है. जैसे ही मैंने कपड़े डाले, मतलब कि ब्रा और चुत का कवर पहना, उसका लंड मुझे देख कर फुंफकार मारने लगा.

बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर मोहन हंसते हुए बोला- हां छिनाल, आज तुझे चोद के मेरी रखैल बना लूँगा और मेरे बच्चे की माँ भी बना दूँगा. अब बस मैं तो बस में गुज़री मेरी इस रात के बारे में सोचकर मुस्कुराने लगा.

सेक्सी चुदाई गांव की लड़की

मोहन को लगा कि मैं नींद में हूँ, इसलिए गलती से मेरा सर उसके लंड पर आ गया होगा. मैं नीचे आकर आंखें बंद करके लेटा रहा क्योंकि मुझको मालूम था कि आज संडे होने के कारण दोनों फ्री हैं और वे मस्ती से लेटे ही रहेंगे. जिम जो कि घर के ऊपर ही था तो साढ़े छह तक सब रेडी होकर कसरत करने लगे.

वो गाड़ी से उतरा, मेरी तरफ आके गाड़ी का दरवाजा खोला और मेरा हाथ पकड़ कर गाड़ी से बाहर निकाल लिया. भाभी की गांड मानो आप को चोदने के लिए इन्वाइट कर रही हो, ऐसी लगती थी. सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदीउसने मुझे इस तरह से बिठाया था कि उसका पूरा लंड मेरी चुत में घुस गया.

मेरे अन्दर आते ही उसने बेड रूम का डोर बंद किया और मुझसे बोला कि मैं उसे होंठ से होंठ मिला कर चुम्बन करूँ.

मुझे ऐसा लग रहा था जैसे आज ही मेरा जन्म हुआ हो और मैं इस घर की अन्दर की दुनिया को समझने की कोशिश कर रहा हूँ. मैं- अब मेरी बारी?वह- देर हो गई यार, लोग जाग गए हैं अगली बार करा लेना.

दो गहरे सुर्ख लाल रंग की पतली सी लकीरें और केवल 3 इंच के आसपास का चीरा. रास्ते में मैंने पूछा- अच्छा बता तो, कमला मजा आया न तुम्हें?कमला- हां मजा तो बहुत आया… पर वहां डर भी बहुत लग रहा था, कोई आ जाता तो. मैंने कमरे से बाहर आकर इतनी बार माउथवाश से गरारे किए, पर साला अजीब सा स्वाद जा ही नहीं रहा था.

तब मैंने भाभी को ध्यान से देखा, लगभग 26 से 28 साल की उम्र की, गोरी जिसने क्रीम कलर के फ्लावर वाला सूट पहन रखा था.

मैं ज़ल्दी से उठ गया, उनकी नजर मेरी पैन्ट पर पड़ गई और वो फिर से मुस्करा उठीं. और मेरे 36 के बूब्स वो तो कुछ ज्यादा ही मुझे मदहोश कर देने वाली का रूप दे रहे थे. तभी दीदी ने दरवाजा खोला और अपनी सलवार को हाथ में लिए हुए पर्दा हटाया.

बीएफ मराठी इंग्लिशतभी आंटी ने मॉम से कहा कि वो मुझे अपने साथ में मार्केट ला जाना चाहती हैं. वो स्प्रिंग को खींच कर टांगों के नीचे से अपनी चुत और चूतड़ों में फंसानी थी.

चूत को चोदते हुए सेक्सी

वो बोली- ज्यादा तो अनुभव नहीं है, लेकिन हर लड़की में ये कुदरती ही होता है. यह कहते हुए अपना मोबाइल निकला और उसका चुदाई वाला वीडियो चला दिया, पूरा बीस मिनट का वीडियो था. तभी पूजा का फोन आया, तो भाभी ने कहा- पूजा, संभाल अपने अमित के लंड को, साले ने बहुत परेशान कर रखा है.

उनके पास कोई भी किसी किस्म के ग्राहक या ऐसी महिलाएं नहीं होतीं, जो किसी भी अनजान व्यक्ति से खुद को चुदवाने के लिए चुदासी बैठी हों. वो मेटल की थी, जिस पर मुलायम कपड़ा चढ़ा हुआ था और पूरा जोर लगा कर टांगों के बीच से चुत पर रखनी थी. दोस्तो, मेरी इस भाभी की वासना की कहानी में मजा आ रहा है? मुझे ईमेल जरूर कीजिएगा.

आह… उह… डार्लिंग…मैं उसके बूब्स की टोपियों को काट रहा था, कितना मजा आ रहा था। उसने अपने नाखून मेरी पीठ पर गड़ा दिये आह… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आहहह… या… यस…वो सिसकारियां भर रही थी और पुकार रही थी- अब डाल दो… जानू औऱ सब्र नहीं होता। मार ही डालोगे क्या तड़पा तडपाकर…मैं उसे क्या कहता कि मैं कितना तड़प रहा हूँ…उसने मेरा लण्ड पकड़ लिया मेरा 6. मॉम डैड अपने अपने काम पे निकल गए और मैं भी नवीन को लेकर स्टेशन निकल गया. मेरा भाबी के साथ अफेयर तब शुरू हुआ, जब कालेज से आते वक्त दो चॉकलेट लाता, एक मेरे यहां बच्चे के लिए और एक भाबी के बेटे के लिए.

और सबसे बड़े छेद को निशाना बना लिया आर्थर ने, और बिना किसी दया के उसमें अपना भसंड लंड घुसा कर मेरी बेचारी पत्नी के होंठ, दांत, जीभ, हलक ठोकने लगा. उसने चुपके से मुझे मुड़ कर पीछे से आते हुए देखा, मैं उसके ठीक पीछे खड़ा था.

बताइए ना?”यही कि अपनी प्यारी बहन को देखता रहूं और उसे खूब प्यार करूँ.

मैं अपनी सीट पर गया, वहां देखा कि एक बहुत ही सेक्सी सा मर्द, लंबा हट्टा कट्टा गोरा, चौड़ी छाती आह. سیکسی بی ایفफिर उसने एक एक करके मेरे सारे कपड़े उतार दिए और जानवरों की तरह मुझ पर टूट पड़ी. भाभी चुदाईहम सभी हक्के-बक्के रह गए!तभी मुझे याद आया कि अंतिम बार मैंने किचन के टीवी पर अपनी पेन ड्राइव लगा कर नताशा को रिया सन की शानदार पोर्न फिल्म दिखाई थी. मेरे होंठ प्रिया की गर्दन से धीरे धीरे नीचे की ओर सरकने लगे और प्रिया के शरीर में भी शनै: शनै: हलचल तेज़ होने लगी.

”मेरे भाईजान ने मुझे यानि अपनी सगी बहन को कैसे चोदा, ये आपको अगले भाग में लिखूंगी.

मेरे पति मर्चेंट नेवी में काम करते हैं और वो साल में 6 महीने शिप पर रहते हैं… और 6 महीने घर पर रहते हैं. धीरे धीरे मैंने उसकी साड़ी को ऊपर उठाया और उसकी टांगों को थोड़ी देर सहलाने के बाद मैंने उस भाभी की चूत में उंगली करना चालू कर दिया. और फिर मैंने भी अपनी मैक्सी उतार दी जिससे मैं ब्रा और पैन्टी में आ गई.

मैंने अपना सारा पानी उनके मुँह में निकाल दिया और वो मस्ती से चूसने लगीं. उसके बाद मैंने भाभी की कई सहेलियों को भी चोदा और वो सब भी मेरी सेवाओं से संतुष्ट हैं. वो मस्ता के बार बार राजे राजे राजे पुकारने लगी, बोली- अब कितनी देर और इंतज़ार करवाओगे तुम? नीचे सारा जूस निकल गया… आहहह… उम्म्ह… अहह… हय… याह… राजे राजे राजे… कमीने… हाय हाय हाय… किस ज़ालिम से फंसी मैं… ओ… ओ… ओ… ओ… हो.

भोजपुरी गाना सेक्सी वाली

रात को मॉम ने किचन में आकर नवीन के साथ अपनी चुदाई करवा ली थी और वे दोनों झड़ कर किचन के फर्श पर ही पड़े हांफ रहे थे. दीदी सिर्फ अपनी भूरी डिज़ाइनर चड्डी में मुझसे किसी बेल की तरह चिपक गयी थीं. कुछ देर बाद मेरा भी माल निकलने वाला था तो मैंने पायल भाभी से पूछा कि पायल जी.

हम दोनों प्रेमी-प्रेमिका बन कर जाएंगे और वहां मुझे दीदी नहीं जानूं बुलाना और मैं तुझे जानेमन कहूंगी.

क्या वे लफंगे किस्म के शोहदे तो नहीं हैं, जो एक सभ्य महिला के साथ संसर्ग कर सकें.

तभी मैं पायल भाभी की गांड के छेद को चाटने लगा तो पायल बोलीं- पंकज ये क्या कर रहे हो?मैंने कहा- पायल जी, स्पेशल मसाज़ कर रहा हूँ. दोस्तो, आज भी मुझे याद है, जब उसका पानी निकला तो उसके पानी ने मेरे लंड की जड़ तक बौछार मारी थी, बहुत सुखद समय था. बीएफ बीएफ चोदा चोदी वीडियोअगली बार एक और बमपिलाट धक्का मारा तो इस बार मेरा पूरा लंड उसकी चुत में चला गया.

उनकी 32 इंच की चुची, जो डीप नेक के गाऊन से बाहर निकलने को बेताब दिख रही थीं. मेरे मुँह में अब उसका लंड जा ही नहीं रहा था लेकिन वो मेरे सर को पकड़ कर ज़ोर से अपना लंड मेरे मुँह में डाले जा रहा था. तभी मोहन का संयम छूट गया और लंड ने जोर की पिचकारी मेरी मुँह में मार दी.

फिर एक निप्पल को वो मुँह में लेकर ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा और काटने लगा. चलो खेतों के अन्दर चलते हैं… भरी दोपहरी में खेतों के अन्दर कौन झाँकेगा.

सुबह मेरी नींद खुली तो दिन निकल आया था, मैं नंगा नंगी मौसी की बगल में लेटा था.

मेरी पहली चुदाई की कहानीपतिव्रता बीवी की गैर मर्द से चुदाईको काफ़ी लोगों ने पसंद किया और मुझे मेल भी भेजे. सुमन भाभी मदहोशी में मेरे कान में बोलने लगीं- प्लीज़ जल्दी करो, मुझे अब और सहन नहीं हो रहा है. दोस्तो, मेरी सेक्स स्टोरी इन हिंदी कैसी लग रही है? कृपा करके मेल के माध्यम से मुझे अपने विचार बतायें।धन्यवादआपका अपना शरद सक्सेना[emailprotected][emailprotected].

बीएफ वीडियो हिंदी भोजपुरी फ़िर मैंने वहां से एक डिल्डो एक बेल्ट और हैंडकफ लिए और फ़िर हम दोनों वहां से निकले. इतनी ज़ोर से सीत्कारें भरीं कि मैं डर गया कि होटल वाले दूसरे यात्री शिकायत ना कर दें कि इस कमरे में बहुत चोदाई का शोर हो रहा है.

मैं अभी भी सुबह की घटनाओं में ही डूबा हुआ था और मॉम मुझसे सवाल पूछ रही थीं. आपको मेरी कहानी कैसी लग रही है?आपकी प्रतिक्रिया मेरे लिए बहुमूल्य है।धन्यवाद. फिर उसने मुझे अपनी बांहों में समेट कर हग किया और बोली- चल अब बाकी का घर चल कर देख लेना.

हॉट कॉम सेक्सी

मैंने झट से उसे बाँहों में उठाया और बेड पर पटक कर, उसकी टांगें चौड़ी करके एक ही झटके में पूरा लण्ड चूत में ठोक दिया. इस तरह डॉक्टर ने मदमस्त नीना की चूचियों पर हाथ फेरने शुरू कर दिया। बहाना ब्रेस्ट कैंसर चेक करने का था मगर डॉ भगत भी अब मजा लेने लगे थे. मेरे आने से पहले माँ ने चाचा जी को बता दिया था कि मैं आने वाला हूँ.

इसके बाद वो मुझे कुछ पैसे राखी बंधवाने के देकर चला गया और जाते वक्त फिर बोला- अपने इस भाई को कभी ना भूलना, जो अब तुम्हारा कर्जदार हो चुका है. हम दोनों लोग एक होटल में मिले और हम दोनों ने कॉफ़ी पीते हुए बहुत देर तक बातें की.

मैं रिक्शे से दूर थी, वो मुझे नहीं देख सका और रिक्शा लेकर आगे बढ़ गया.

भाभी बनावटी गुस्सा करते हुए- बताना चाहिए न कि निकलने वाला है!मैं- मुझे क्या पता कि कुछ निकलता है? मुझे बहुत मजा आया बस!भाभी- हाँ सही है… तुमको क्या पता! मगर बहुत टेस्टी था आपका रस!मेरा लण्ड लटक गया, मैं बोला- भाभी, ये तो लूज हो गया! आपकी चूत में तो डाल कर देखा ही नहीं?भाभी- चिंता मत करो, अभी फिर खड़ा होगा… तुम मेरी चूत चूसो, मैं तुम्हारा लण्ड चूसती हूँ. करीब दो मिनट तक तो मैं झड़ता ही रहा और वो मेरी पीठ पर प्यार से हाथ फेरती रही. साथ ही कहा- पूजा यार तुम भी मुझे प्यार करो, बस पांच मिनट में तुम्हारा दर्द कम हो जाएगा, तब मैं तुम्हारी चूत में धक्के मारना शुरू करूंगा.

फिर कुछ देर बाद हम अलग हुए। इतना सब करते हुए मेरा पानी पैन्ट में ही निकल चुका था और उसका भी… ऐसा उसने मुझे घर जाने के बाद बताया था।हम कुछ देर और बैठे रहे और करीब दो बजे वो जाने लगी तो मैंने कहा- घर जा के मेसेज करना।उसने घर जाकर मेसेज किया और कहा- मैं बहुत अच्छा फील कर रही हूँ. मैंने गिलास ले लिया, भाभी ने गिलास लिया और हम दोनों ने आँखों में आँखें डाल कर दूसरे को चियर्स बोला और देखते ही देखते गिलास को धीरे धीरे खत्म करना शुरू किया. उन्होंने अपने दोनों हाथों से मेरे गर्दन को मजबूती से पकड़ी हुई थी और मैंने उनकी कमर को।प्रियंका मेरे गाल को अपनी दांतों से पकड़ती हुई तेजी से स्खलित हो गई, उनकी गरमा गर्म चूत के रस का अहसास मेरे लिंग पर हो रहा था.

भाई बहन और माँ बेटा चुदाई की कहानी आप लोगों को पसंद आई? प्लीज़ मेरी मेल आईडी पर जरूर लिखिएगा कि कैसी लगी ताकि मैं अगली सेक्स स्टोरी लिखने की भी सोचूँ.

बीएफ व्हिडिओ ब्लू पिक्चर: मैं दीदी के खरबूजों के आकार के चूचों को हाथों में लेने की कोशिश कर रहा था लेकिन वो मेरे हाथों में समा नहीं रहे थे. उसके बाद अंकल ने पूछा- मजा आ रहा है?मैंने कहा- जो मजा गांड देने में है, वो लेने में कहां है अंकल.

हम दोनों बहुत गर्म हो गए थे और एक दूसरे को पागलों की तरह चूमने और चाटने लग गए।फिर मैंने उसका लोअर खोल दिया और फिर उसकी पैंटी भी खोल दी और उसने मेरे सारे कपड़े खोल दिये. तो दिशा ने कहा- तो आ जाओ… दीदी बुला रही हैं खाने के लिये!मैंने कहा- बस कपड़े बदल कर अभी आ रहा हूँ!और मैं कपड़े बदल कर खाना खाने के लिये सामने वाली भाभी के यहाँ पहुँच गया. उन दिनों मैं छुट्टी पर घर आया हुआ था और अब लौट कर ड्यूटी पर वापस जा रहा था.

जो आज उनके घर का चिराग है, वो मेरा बच्चा है। यह सिर्फ़ हम दोनों को ही पता है।लेकिन उस दिन के बाद मैंने चाची जी के घर जाना बंद कर दिया। उसके बाद मैं दिल्ली आ गया।तो ये थी मेरी आप बीती चोदन कथा!प्राइवेसी के कारण मैं अपना इमेल नहीं दे रहा हूँ.

मैंने धीरे से अपना मुँह एक चूची पर रख दिया और अपने एक हाथ को दूसरी चूची के ऊपर लगा दिया. धीरे से मैंने अपना लंड उसकी मुलायम गांड से छुलाया, वो पहले से तैयार खड़ी थी. मैं बाहर आ गया क्योंकि अगर मैं ज्यादा देर तक वहाँ रुकता तो मेरी पैन्ट गीली हो जाती.