हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी

छवि स्रोत,जुदाई judaai judaai-part -1

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स करते हुए दिखा दो: हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी, दुकान पर उसके पिता बैठे हुए थे और आकाश का कोई पता नहीं था।मैं अपने घर की तरफ चल दी.

पैरों की मेहंदी फोटो

अंकल ने धीरे अपने हाथों को आगे किया और पहले तो मेरे पेट पर और फिर एकदम से मेरी दोनों हेडलाइट्स पर रख दिए और मेरे दूध मसलने लगे. जिनके हम दासीमैंने कैसे खोला उसे!हैलो मैं राज सोलंकी, एक बार फिर से सुहागसेज पर मेरी बीवी की कुंवारी चुत चोदने की सेक्स कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

फिर मैंने पूजा से पूछा- ये सब तेरे को अच्छा लगता है?मेरी बहन ने कहा- नहीं. marwadi सेक्सलेकिन तभी कार्तिक ने खुद से मेरा हाथ पकड़ा और अपने तनतनाते हुए लंड पर रख दिया.

दोस्तो, मैं राज सोलंकी जयपुर से हूँ और इस साइट पर सेक्स कहानी लिखने का ये मेरा प्रथम प्रयास है.हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी: एक दिन मेरी बहन नहाने गई तो मैं मोबाइल पर अपनी बीवी से बात करने लगा.

इस बार मैंने उसको इतना गर्म कर दिया था कि वो खुद बोल पड़ी- क्या जान ही ले लोगे … अब जल्दी से अपना लंड चुत में डाल दो प्लीज!ये सुनते ही मेरा लंड और टनटना गया मैंने उसी पोजीशन में उसके पैरों के बीच बैठ कर उसकी चुत में एक ही बार में पूरा लंड पेल दिया.जब मुझसे नहीं रहा गया तो मैं पूर्ण उत्तेजित हो उठी और झट से अपने दाहिने हाथ को अपनी दोनों टांगों के बीच ले जाकर जेठजी के लंड को बीच से पकड़ कर अपनी गीली चूत के मुँह पर रख दिया.

कान के बाल काटना चाहिए कि नहीं - हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी

इस सब के दौरान अब रूपाली काफी गर्म हो जाती थी और मैं भी उसकी चुदाई करना चाह रहा था.लिली ने सफेद कलर की ब्रा पहन रखी थी जिसमें वो बहुत कामुक लग रही थी.

वो कहती थी कि राज अब तो कैसे भी करो, लेकिन मुझे चोद दो, मेरे भोसड़े को चूसो. हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी वो बस अपनी नौकरी में दूसरी रंडियों को चोदता फिरता था और रात को दारू पीकर मस्त होकर आता और बीवी को प्यासी रख कर सो जाता था.

मैंने तुरंत घर का मुख्य दरवाजा बंद किया, फिर अपने रूम का दरवाजा बंद कर लिया.

हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी?

नमस्कार दोस्तो, मैं आपका राज शर्मा आपका हिन्दी सैक्स कहानी पर स्वागत करता हूं।मुझे सैक्स कहानी पढ़कर बहुत अच्छा लगता है और मैंने चुदाई के नये नये तरीके सीखे हैं।मेरी पिछली कहानी थी:पड़ोसी आंटी को चोदा बीयर पिलाकरदोस्तो, इस कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने ट्रेन में चुदाई का मजा लिया. भाभी भी अपना हाथ मेरे सर पर रख कर मुझसे चूची चुसवाने का मजा लेने लगीं. मैं उसको पीछे से चोदने लगा।मुझे चोदते हुए दो मिनट ही हुए थे कि प्रिया की चूत से झरना बह निकला.

मैंने उनसे अपना लौड़ा चूसने को बोला तो वो झट से नीचे आ गईं और हाथ में लंड लेते ही सकपका गईं. कुछ देर बाद सरीना को मैंने गोद में उठा कर उसे बाथरूम ले गया और लड़की की गांड की सिकाई कर दी. अब आगे ब्रदर सिस्टर स्वैप पोर्न स्टोरी:मैं लगातार सुरीली की चूत और चुच्चों पर चांटे मार रहा था.

मैंने वो गाना सुनाना शुरू किया- हम तुम एक कमरे में बंद हों और चाभी खो जाए. आसिफा चली गई उसके बाद मेरा और ज़रीना का सेक्स बाद में कंटिन्यू हो गया. मैंने धीरे से उठाया और ले जाकर बेड पर लिटा दिया और उसके पूरे शरीर पर किस करने लगा.

उनको मैंने पूरी नंगी करके ठोका और वो भी दोनों चुदकर मेरी दीवानी हो गयीं. थोड़ी देर बाद मेरा लौड़ा खड़ा हो गया।अब मैंने अपना हाथ प्रिया के बूब्स पर रख दिया; वो कुछ नहीं बोली.

क्या कर रहा है … प्रतीक … आह्ह!दीदी की चूत में उंगली करते हुए मैं बोला- आह्ह … दीदी … बस … आज मत रोको … आह्ह … दीदी … कितनी मस्त चूत है आपकी … आआह … पी जाऊंगा इसे!मैंने आज तक किसी लड़की को नहीं चोदा था। इसलिए मैं ज्यादा देर खुद को रोक नहीं सकता था.

मैं वहीं पर खड़ा हुआ उनकी चुदाई देखता रहा और अपने लंड को सहलाता रहा।जब जब मीनू आह्ह … आह्ह … करके मामा की गांड पर टांगें लपेट रही थी तो मेरे लंड पर मेरे हाथ की पकड़ और ज्यादा तेज हो जाती थी.

पर रोहन को ये नहीं पता था कि उसकी मॉम लंड देखते ही उसे चूसने तक पहुंच जाएगी. मैंने सोचा कि कल वो फिर से मिलेगी और फोन के लिए पूछेगी, तब मैं पहले उसका मूड समझने की कोशिश करूंगा. ना चाहते हुए भी मैं अपनी मुंडी नीचे करके उनकी नाइटी के नीचे झांकता, तो मुझे तो मानो जैसे सारा मैदान अजूबा सा दिख जाता.

मेरी गांड पीछे से उठी हुई है, जिससे लोगों को मेरी गांड देखने में बाद मन लगता है. मैं जीजू को देख कर वापस नीचे जाने लगा तो जीजू ने मुझे आवाज दी और ऊपर बुला लिया. सब बात होने के बाद रिट्ज अंत में मेरे गले लग कर मुझे धन्यवाद बोली और फिर वो मेरे साथ घर आ गयी.

आंटी की सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं एक सेक्सी आंटी की चूत मारना चाहता था.

मैं उसकी बात सुनकर हंस दिया और मैंने भी झौंक में कह दिया- तो फिर मैडम नम्बर फीड कर लीजिएगा, आगे से ये नम्बर गलत नम्बर नहीं रहेगा. मैं धीरे से अपने होंठों को उसके तपते होंठों के पास लाया और उसके कांपते और लरजते होंठों से हल्का सा छुआ. लकी ने अपने लंड पर ढे़र सारी वैसलीन लगा कर अहिस्ता से सारा की गांड में सरकाया.

कोमल के हाथ अब मेरे सर के बालों पर आ गए थे और वो अपने हाथों को मेरे बालों में घुमा रही थी. मैं उसे किसी तरह चोदने के बहाने ढूँढता रहता था लेकिन मैं अभी तक उसे चोद नहीं पाया था. जिसको सत्यम किसी जन्मों के प्यासे की तरफ सुड़क सुड़क कर पिए जा रहा था.

मेरी बीवी मुझसे सॉरी बोलती रही कि मुझसे ग़लती तो हुई है, पर ये सब शादी से पहले हुआ था.

मैंने शर्म से दोनों हाथों से अपनी आंखें बंद कर लीं क्योंकि मेरी गांड का छेद ऊपर आ गया था. मामी मेरे पीछे आईं और कहने लगीं- मुझे अपने बैग में से कपड़े निकालने हैं.

हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी बस अब मैं चाहती हूँ कि कोई नया मर्द मुझे बस बिना किसी रिश्ते और किसी वजह से हचक कर चोदे; जिसके लिए मुझे उसी का ना होना पड़े क्योंकि एक के साथ रहने पर मुझे बोरियत होने लगती है. उस चुदाई में अनिकेत ने करीब दस मिनट तक अन्वेषी की चुदाई की और अनिकेत झड़ गया.

हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी इसके बाद वे नीचे मेरी चूत तक सरकते चले गए और मेरी चूत को अपने मुँह में लेकर चूसने लगे. मुझे कहानी लिखने का कोई अनुभव तो नहीं है, पर मैं अपनी पूरी कोशिश करूंगी कि आप लोगों तक अपनी बात पहुंचा सकूं.

फिर मैं एक गर्म शरीर पर ठंडी ठंडी वनीला आइसक्रीम का मज़ा लेने के लिए तैयार हो गया.

व्हाट्सएप सेक्सी ग्रुप

मैं उसका सिर पकड़कर अपने मम्मों पर दबा रही थी और मस्त होकर उससे अपने दोनों चूचे चुसवा रही थी. मेरे किसी दूसरी लड़की की ब्रा मांगने पर मनीष ने हंस कर कहा- अबे यार समीर … ब्रा तो ब्रा होती है, चाहे वो मेरी बहन कि हो या मम्मी की हो … या तेरी मम्मी की हो. मैंने उसे समझाया कि हमारे जिस्म की जरूरत अगर पूरी नहीं हो रही है, तो उसे मिटाना गलत नहीं है.

मैंने रात होने का इंतजार किया और शाम को अपने तय समय पर उस लड़की को छोड़ कर सभी एक एक करके चली गईं. लेकिन अभी उसका सही समय नहीं मिल रहा था।मैं यही देख रही थी कि मेरा घर कब खाली हो और मैं उसको बुला लूं. वो चुत सहलाती हुई बोली- और कोई कामना?मैंने कहा कि हां मैडम एक राउंड तो पूरा हो गया.

भाई बहन सेक्सी स्टोरी में पढ़ें कि मेरी सेक्सी बहन को देख सब लड़के कमेंट करते थे। एक दिन मैंने बहन को बाथरूम में नंगी नहाते देखा तो मुझसे रहा न गया.

थोड़ी देर बाद मैंने सुनील की बहन सुरीली की गांड मारने की रफ़्तार बढ़ा दी और तेल की वजह से फच-फच की आवाज़ आने लगी. मैंने उस शाम अपनी बेहन का पीछा किया, तो पता चला कि वो मेरे दोस्त मिथुन से मिलने गई थी. मेरी पिछली सेक्स कहानीबारिश की रात और गर्म भाभीके प्रकाशित होने के बाद जब मैं अपनी मेल चैक कर रहा था, तो मुझे मायरा नाम की एक लड़की की मेल आई थी.

हम दोनों इस तरह लिपट कर चोदने में लगे थे जैसे दोनों के जिस्म एक हो गए हों. करीब एक घंटे की इस चुदाई में मैं फिर से आंटी की मखमली गांड में ढेर हो गया. कल भले ही मेरे ओर पूजा के बीच बहुत कुछ हुआ था, पर आज मुझे फिर से डर लगने लगा था.

तो रोमी ने कहा- आज तो हम दो हैं, इसलिए तुम्हारी दोनों तरफ से लेंगे. तुम अकेले ही सफ़र कर रहे हो या तुम्हारे साथ कोई और भी है?मैंने कहा- मैं अकेला ही हूँ.

आज मैं उनकी दुकान बंद होने तक उनके साथ उनकी दुकान पर रहा क्योंकि अंकल के कोमा में जाने की वजह से शायद आंटी बिल्कुल अकेली हो गयी थीं. जब मैं वहां गयी तो देखा कि नवीन कोई और नहीं, वो वही आदमी था जो जुआ के अड्डे पर आता था. इस बार कुसुम की चीख पहले से तेज़ निकल गई थी और उसकी आंखों से आंसू की बूंदें भी छलक आई थीं- ऊऊओह येस … कितना मोटा है तेरा लंड रोहन … आहह मज़ा आ गया … उम्म्म … ओह … यसस्स.

मगर निधि मैं भी तुम्हें बहुत चाहता हूँ और अपने दोस्त की खातिर तुमको भी पूरी तरह से खुश कर सकता हूँ.

मैंने उसे समझाया कि हमारे जिस्म की जरूरत अगर पूरी नहीं हो रही है, तो उसे मिटाना गलत नहीं है. वो अगली कहानी में!कैसी लगी मेरी देसी आंटी सेक्स कहानी? जरूर बताएं।[emailprotected]. इकबाल नीलम बाई से बोला- नीलम बाई, तू इन सबको सब कुछ अच्छे से समझा दो और काम पर लगा दो.

शाम को बीवी को लेने सेंटर गए, वापस आते हुए रास्ते में तेज बारिश हो रही थी सो हम सब पूरी तरह से भीग गए थे. मैंने कहा- तुम मुझे अपना भाई बोलती हो, फिर भी अभय ने मुझ पर शक किया … ये मुझे बहुत बुरा लगा यार!समीक्षा ने कहा- कोई बात नहीं भैया, सब ठीक हो जाएगा.

जैसे ही ज़रीना का काम तमाम हुआ और वो रुकी, तभी नीचे से बहुत तेज़ गति से मैंने धक्के देने शुरू कर दिए. रोमी ने भी धीरे धीरे सरिता की गांड में लंड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. फिर बहुत रिक्वेस्ट करने के बाद वो मानीं और मैंने उनको मेरे मामा की कसम दे दी कि वो इस बारे में किसी को नहीं कहेंगी।उस दिन पर कुछ नहीं हुआ.

शादी करना है लड़कियां दिखाओ

मैं चाहता था कि कोमल मुझसे लिपट जाए … लेकिन शायद नारी सुलभ लाज की वजह से वह ऐसा नहीं कर सकती थी.

फिर वो ये बात सुनकर थोड़ी शर्मिंदा हुई और बोली- ठीक है, मगर ये बात किसी को कहना नहीं कि तूने मुझे ये सब करते हुए देखा है. निशा भाभी- अब देखते ही रहना है … या कुछ करना भी है?उनके इतना बोलते ही मैं फिर से टूट पड़ा और किस करने लगा. पर उसको बहुत तेज़ दर्द हो रहा था और छटपटाहट में उसने मुझे धक्का दे दिया.

मैंने भी मौके का फायदा उठाकर भाभी से बोला- भाभी आपके साथ होली अभी खेल लेता हूं … आपको भी गीला कर देता हूँ, आप बोलिए तो सही. आज एकता का लूडो के खेल में जरा सा भी ध्यान नहीं था, शायद वो आज कुछ और खेलना चाहती थी. मारवाड़ी का सेक्सी वीडियोहम थोड़ा थोड़ा गर्म होने लगे, किस करते करते छाती से होकर पेट पर किस करने लगा.

उसने एक बार रोहन के चेहरे को देखा, तो उसे देख कर लगा कि वो निश्चिंत होकर सो रहा है. मेरी इस हरकत से आकृति आंटी अब एकदम से कामुक हो गईं और उन्होंने मेरे होंठों को काट लिया.

बसंत नीचे बैठ गया और उसने मेरी चुत के दोनों होंठों को खोलकर अपना मुँह लगा दिया. जैसे जैसे ज़रीना मेरे लंड को अपने मुँह में गले तक ले रही थी, वैसे वैसे मैं आसिफा की चूत में जीभ डाल कर और उसके दाने को चूसकर उसको मदहोश कर रहा था. वो भी तेज तेज आखिरी झटके देते हुए मेरे मुँह में ही अपनी टौंटी खोल बैठा.

पूरा लंड चूत की गहराई में उतारने के बाद वो मेरी चूत के चिथड़े उड़ाने वाले धक्के देने लगा. फिर एक दिन मुझे मेरी एक फ्रेंड ने अपने घर बुलाया उसके छोटे भाई का जन्म दिन था. चूंकि मैं सिक्योरिटी गार्ड था तो मुझे हरेक आने जाने वाले की एंट्री करना होती थी कि कौन बिल्डिंग में आता जाता है.

अजय के मरने के एक साल तक मैंने नहीं किसी और मर्द के लिए नहीं सोचा, किसी गैर मर्द का ख्याल भी अपने मन में नहीं लाई.

उसने मन बना लिया था कि वो लकी से सेटिंग करेगी मगर खुद नहीं करेगी, वो कमल को मजबूर करेगी कि वो लकी को लेकर उसके पास आये. उसके बाद वो गांव चला गया तो भाभी ने मोहल्ले के दो जवान लौंडों पर अपनी वासना भरी नजर गड़ा दी.

मैं छत पर से ही उस घर में चला गया और अन्दर का रूम खोलकर अपनी बिल्लो का इंतजार करने लगा. उसने सोचा कि चलो एक दोस्त तो मिला गप्पें मारने के लिए। अब मुझे इतना बोर नहीं होना पड़ेगा. कमल सोचने लगा कि सारा बहुत अच्छी है, मैंने उसको रीना समझ कर चोदा और उसने कुछ नहीं कहा.

कभी घोड़ी बनकर, कभी रिवर्स पोजीशन में …हम दोनों ने देर तक चलने वाले इस राउंड में काफी मजा लिया. ऐसे ही बातें करते-करते उसने मुझे बताया कि मैं भी अपनी छोटी बहन को चोदना चाहता हूँ. बोलो क्या हुआ?वो बोली- मैं अभी ठीक 12 बजे आपको लेने आऊंगी … तैयार रहना!मैं- ठीक मैं इंतजार करूंगा.

हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी जेठजी झड़ कर मेरे ऊपर छा गए और मुझे अपनी बांहों में जकड़ कर ज़ोर ज़ोर से उचक उचक कर मेरी चूत के अन्दर तक धक्के मारने लगे. रूम की लाइट बंद करके मैंने छोटा वाला बल्ब जला दिया जिसके कारण मैं उसके पास जाकर उसे अच्छे से देख सकूं.

सेक्सी कुत्ते के साथ

उनका पानी और मेरा पानी दोनों मिल चुके थे जो मेरे लंड और उनकी चुत को लिसलिसा कर रहा था. इतने में ही उसके मुँह से ‘आआहह …’ की आवाज बहुत ही मादक तरीके से निकली. हमारी जीभ एक दूसरे के मुँह में थीं और आपस में लड़ कर मस्ती कर रही थीं.

आकृति आंटी ने अपनी गांड मेरे मुँह पर रख कर अपनी गांड हिलाते हुए सारी की सारी आइसक्रीम मुझसे चटवा चटवा कर साफ करा ली. हैलो फ्रेंड्स, मैं निखिल इस ब्रदर सिस्टर स्वैप पोर्न कहानी के पहले भागमेरे दोस्त ने अपनी बहन को चोद दियामें आपको अपने एक प्रशंसक की बहन सुरीली की चुत में उंगली डालकर मजा ले रहा था. विवाह पिक्चर चिंटू पांडेजब तक आरिफा और जाकिरा की शादी नहीं हो गयी तब तक वो मुझसे चुदवाती रहीं.

जेठजी ने मेरे दोनों स्तन के निचले हिस्से से अपने दोनों बड़े बड़े खुरदरे हाथों में लेकर एक साथ ऊपर की ओर उभारा और दोनों को एक साथ सटा दिया.

अब मैंने भाभी को डॉगी स्टाइल में करके कुछ मिनट तक चोदा, फिर दीवार से लगा कर भी चुदाई की और इसके बाद भाभी के पैर हवा में करके चुदाई की. तभी मैंने उसकी चुत की गहराई में पूरा लंड पेल दिया और धकाधक चुदाई करने लगा.

वो व्हाइट कलर का सलवार सूट पहने हुए थी जो गहरे गले वाला था और एकदम टाईट था. हॉट आंटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक आंटी आइसक्रीम की दूकान चलाती थी. मुझे कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था, सिर्फ कार्तिक के हाथों का स्पर्श ही मिल रहा था.

ये सिलसिला अगले दिन दोपहर तक चला जिसके बाद शाम को आकृति आंटी वापस आ गईं और मैं अपने घर चला आया.

फिलहाल मुझे यह जगह ठीक लग रही है क्योंकि यहां कोई रहता भी नहीं है और बिल्डिंग भी नई है. आपा मुस्कुरा कर बोली- बहुत बड़ा लंडधारी हो गया है!मैं बहन के मुँह से लंड सुनकर गर्मा गया और बोला- आप एक मौका तो दो … जीजाजी को याद नहीं करोगी. इतनी देर से प्रिया मेरे लंड को चूसने में लगी हुई थी और दूसरी तरफ मुझे उसकी चूत का स्वाद भी मिल रहा था.

पटियाला सेक्सी फिल्मजेठजी ने उस स्तन को ऊपर की ओर मेरे मुँह की तरफ मोड़ा … और मुझसे कहा- अब इसे तुम चूसो. मैं अपने रूम में आ गयी। उस दिन मेरी पहली चुदाई हुई थी।मेरी कुंवारी चूत की चुदाई होने के बाद मैंने अपनी वर्जिनिटी खो दी थी। उसके बाद फिर मैं शादी के दिन भी चुदी। दीदी की सुहागरात के दिन ही मेरी भी सुहागरात हो गयी। अब मैं कुंवारी नहीं रह गयी थी।दीदी की शादी के बाद समीर वहां से चला गया.

रानी सेक्सी वीडियो

मैं उसके ऊपर लेट गया और उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चूत में धक्के लगाने लगा. मुझे कहानी लिखने का कोई अनुभव तो नहीं है, पर मैं अपनी पूरी कोशिश करूंगी कि आप लोगों तक अपनी बात पहुंचा सकूं. फिर रमेश भी मेरी बीवी की चापलूसी करने लगा कि भाभी जी आपकी फिगर तो वाकयी बड़ी मस्त है.

मैं मस्ती से नीचे से झटके मार रहा था और बार बार बिखर रहे चंचल के बालों को सही किए जा रहा था. फिर मेरे एक गुलाबी निप्पल को जीभ से चाट कर उसे अपने मुँह में भर लिया और किसी बच्चे की तरह मेरा दूध चूसने लगा. हम कचहरी पहुंच कर काम निपटाने लगे और करीब दोपहर दो बजे के आसपास हम दोनों घर वापस आ गए.

वो मेरी बहन को प्यार करने लगा और बहन से रिक्वेस्ट करने लगा- जानू मान जाओ ना प्लीज … मैं एक बार तुम्हारी गांड की रस मलाई चखना चाहता हूं प्लीज … मान जाओ ना!मगर मेरी बहन नहीं मानी और अपने कपड़े पहनने लगी. यह बात उसने अपने दोस्त सोनू को भी बताई और सोनू भी उसका साथ देने को तैयार हो गया. उसने अपने लंड का पानी कंडोम में निकाल दिया और मेरे ऊपर ही गिर कर हांफने लगा.

मैं- कोमल, तुम्हें दर्द तो अब भी होगा, लेकिन तुम इसके लिए तैयार रहना. फिर मैंने धीरे से उनके हाथ को अपने हाथ से थोड़ा सा नीचे की ओर सरका दिया.

फिर देखा कि उसने वही पैंटी पहनी थी, जिसके छेद में मैंने लंड घुसा कर उसकी गांड के पास बड़ा छेद कर दिया था.

कोई 5 मिनट के बाद अंजलि को थोड़ी राहत आई और वो चूतड़ उठा कर चुत चुदवाने लगी. अंग्रेजी में सेक्सी पिक्चर दिखाओवो नशीली आवाज में बोला- क्या बात है सरिता … तुम तो बहुत मस्त लग रही हो … एकदम माल लग रही हो. एनिमल गर्ल्स सेक्सक्योंकि अगर कोई इंसान गुस्सा हो और उस गुस्से में भले सारी गलती उसी की हो, लेकिन अगर आप उसको गलत बताओगे, तो फिर वो किसी की नहीं सुनेगा. मैं पहली बार चुदाई कर रही थी मगर अमित को देख कर ऐसा नहीं लग रहा था कि मैं उससे किसी भी तरह से कमजोर हूँ.

भाभी जाने को हुई तो विजय ने उसका हाथ पकड़ लिया और कहा- मैं तो अभी भी प्यासा हूँ … तुम्हारी चूत तो मैंने चोदी ही नहीं.

मतलब मुझे अभी अभी पता चला था कि मेरे कोई चाचा भी थे, पर वो अब इस दुनिया में नहीं रहे थे. मैंने मामी के पेटीकोट के नाड़े को खोलने की कोशिश की तो मामी ने नाड़ा खुद ही ढीला कर दिया. मैंने भी उन्हें सहयोग देने के लिए अपनी पीठ उठा दी ताकि जेठजी मुझे जोर से जकड़ सकें.

उसके साथ कानों में नीले रंग के बड़े बड़े झुमके पहने और जेठजी का दिया हुआ सोने का हार पहन लिया. मेरी और लिली की सील पैक चूत की कहानी आपको कैसी लगी, मेल करके जरूर बताएं. यद्यपि मेरी उम्र 45 साल है, फिर भी मुझे यह सब कुछ ऐसा लग रहा था, जैसे मैं कोई कुंवारी कन्या हूं.

तिरंगा फिल्म दिखाओ

कार्तिक का शेव किया हुआ लंड और उसके नीचे लटकती उसकी बाल्स देखकर मुझे थोड़ी शर्म आ गयी थी. मैंने आंख दबाई तो वो बड़ी अदा से शर्मा गई और उसने धीरे से अपने अंगूठे को मेरे सुपारे पर रख दिया. वो घूम कर मतलब मेरे लंड पर अपनी मोटी गद्देदार गांड सटा कर लंड रगड़वाने लगीं.

मेरी जांघों में दर्द कर रहा था इसीलिए 10-12 मिनट के बाद हमने गांड की चुदाई रोक दी.

इतनी लड़कियां और औरतों के साथ लौंडे लपाड़े और पके पकाए मर्द क्या गांड मराने आते हैं.

उसने मेरे आधे लंड को चुत के अन्दर ले लिया और धीरे धीरे उछल उछल कर उसने पूरा लंड चुत के अन्दर ले लिया. ये सुनकर उसने तुरन्त मना कर दिया और बोली- केवल चूत चोदने मिलेगी, गांड नहीं. डॉग सेक्स वीडियो डॉग सेक्स वीडियोइस पर वह तैयार हो गयी लेकिन उसके पास झांटों को साफ करने का कोई साधन नहीं था.

आपा बोली- मैं इस मजे से अभी दूर हूँ … लॉकडाउन खुलेगा, तब तेरे जीजाजी आएंगे, उसके बाद ही मुझे इस मजे का मालूम पड़ेगा. उससे बात करतें करते सेक्स की बात होने लगी और मैं ये भूल गया कि बहन नहाने गई है. अब उन्होंने मेरे दाहिने स्तन को चुम्बन किया और उसके बड़े कड़क से निप्पल को मुँह में लेकर चूसने लगे.

उसने ऐसा पहली बार किया होगा लेकिन उसकी खुशी को अपने समय में कैद कर लिया. फिर मैंने उन्हें सीधा होने के लिए कहा … क्योंकि मुझे चरम पर पहुंचने का मजा आने वाला था.

रोमी बोला- क्या तुम्हारी गांड अभी तक किसी ने नहीं मारी है?सरिता भाभी बोली- नहीं … मेरी गांड अभी तक किसी ने नहीं मारी.

जेठजी को और उत्तेजित करने के लिए मैं धीरे से जेठजी के कान में फुसफुसायी- मेरे डार्लिंग जेठजी, आज आप अपने छोटे भाई की बीवी को अपनी बीवी बना लो … और कोई कसर न छोड़ना. तो उसने अपनी भोंसड़ी मेरे मुंह पर रख दी।मैंने पहले उसकी चूत की दरार को चूमा और फिर अपनी जीभ की नोक से उसकी चूत की दरार के अंदर डाल कर फेरा. इससे वो गुस्सा हो गईं और बोलीं- निकाला क्यों?मैंने कहा- मेरा होने वाला है, कहीं अन्दर निकाला तो गड़बड़ हो जाएगी.

घर वाला दिखाइए पति के गुज़र जाने के बाद शुरुआत के कुछ साल मेरे और मेरी बेटी के लिए बहुत मुश्किल के थे. मेरी गांड बड़ी होने की वजह से जब मैं कमर मटका कर चलती हूँ … तो पीछे से मैं और भी ज़्यादा सेक्सी दिखती हूँ.

जैसे ही ज़रीना का काम तमाम हुआ और वो रुकी, तभी नीचे से बहुत तेज़ गति से मैंने धक्के देने शुरू कर दिए. [emailprotected]कामुकता सेक्स स्टोरी का अगला भाग:मेरे चोदू यार का लंड घर में सभी के लिए- 3. मैंने घर वालों से बोल दिया कि मुझे इस समय काफी काम है, मैं घर पर ही रहूँगा.

अश्लील फ़िल्म शैली

मेरी पूरी जीभ अब मेरी बहन की गांड में घुस गई और मैं मजे से अपनी बहन की गांड चुत चाटने लगा. मेरा ब्लाउज आगे से और पीछे से दोनों तरफ से काफी खुला सा रहता है, जिसमें मेरे मम्मे अच्छे ख़ासे दिखते हैं और सभी को कामुकता से भर देते हैं. फिर प्रिया ने मुझसे कहा- आप मुझसे कुछ कहना चाहते हो क्या?मैंने कहा- हां, वो क्या है कि प्रिया, कभी हिम्मत नहीं हुई तुमसे ये कहने की लेकिन मैं तुम्हें पसंद करता हूं.

मैंने अपना हाथ पूजा की चूत पर ले गया तो देखा कि उसकी चूत से खून निकल रहा था. मेरे हाथ ने उनकी चुत को टटोला, तो वो एक काले रंग की पैंटी में मेरे सामने पड़ी थीं.

क्या कर रहा है … प्रतीक … आह्ह!दीदी की चूत में उंगली करते हुए मैं बोला- आह्ह … दीदी … बस … आज मत रोको … आह्ह … दीदी … कितनी मस्त चूत है आपकी … आआह … पी जाऊंगा इसे!मैंने आज तक किसी लड़की को नहीं चोदा था। इसलिए मैं ज्यादा देर खुद को रोक नहीं सकता था.

फिर मैंने उससे कहा- मेरा लंड चूसो!उसने मेरी चड्डी उतार दी और चूसना शुरू किया, साली मस्त ऐसे चूस रही थी, मानो कोई कुल्फी चूस रही हो. उसकी आंखों के सामने उसके जवान बेटे रोहन का लम्बा और 3 इंच मोटा लंड फनफना रहा था. इतनी देर में उसके दिमाग में ऑफिस के सारे खूबसूरत चेहरे अपने बिस्तर पर उसका लंड चूसते दिख गए.

मौसी ये देखकर खुश हो गयी और बोली- तू भी जवान हो गया है।ये बोलकर मौसी ने मेरी लोअर मेरे अंडरवियर समेत नीचे कर दी और मेरे लंड को मुंह में भर लिया. जब मुझे सुकून मिला, तब मेरी नजर मेरी मॉम पर पड़ी जो बिल्कुल नंगी मेरे सामने खड़ी थीं. उसने अपने पति से कहा- रमेश, ऐसे क्या देख रहे हो यार, वो रोहित का माल है.

रोहन ने अपनी मॉम के हाथ को पकड़ा और कहा- मॉम मैं आपकी बात को अच्छे से समझ गया हूँ.

हिंदी बीएफ चाहिए फुल एचडी: फिर आकृति आंटी ने उसकी वजह भी मुझे बताई कि उन्होंने रिट्ज को क्यों नहीं जाने दिया. मैंने एक को पकड़ कर दबाया- अरे यार, क्या मस्त चूची है तुम्हारी!वो कुछ नहीं बोली, बस मुस्कुरा दी।मैंने दोनों मम्में बारी बारी से दबा कर देखे। फिर उसका आँचल उसके बदन से हटा दिया और सारी साड़ी खोल दी।अब आशा मेरे सामने सिर्फ पेटीकोट और खुले ब्लाउज़ में बैठी थी.

एक दिन शनिवार को नेहा ने मुझसे कहा कि मुझे इंग्लिश का वर्क कंप्लीट करना है, तो मुझे अपनी इंग्लिश की कॉपी कल मेरे घर पर आकर दे जाना. अब मेरी बहन मादक सिसकारियां लेते हुए बोली- अहा अहा पंकज आह मजा आ रहा है … आह चोदो मुझे … और तेज चोदो आआह अपनी पूजा जानू की चूत फाड़ दो. मैं उसके बदन को हल्के हल्के छूने लगा।फिर मैंने उसकी चूचियों को छेड़ा। उसके बूब्स बहुत ही सॉफ्ट थे। मैं उनको धीरे धीरे से दबाने लगा।वो सो रही थी और मेरी हवस जाग रही थी।फिर मैंने उसकी टीशर्ट को ऊपर उठा दिया और उसके पेट के ऊपर से हाथ ले जाकर उसकी चूचियों को छूने लगा।धीरे से मैंने उसके एक संतरे को अपने हाथ में भर लिया.

मेरा लंड खड़ा होने ही वाला था कि आरिफा बोली- अम्मी … अपनी छोटीबेटी की चूतका भी ख्याल कर लो.

आज उस लड़के के साथ जो हुआ था, उससे मेरे मन को बहुत प्रसन्नता मिली थी. मगर मैं इस बात से थोड़ा परहेज रखती हूँ कि मुझे कोई भी और देखे। आप तो जानते हैं कि सब मर्द खूबसूरत औरतों के कहाँ कहाँ देखते हैं. सब लोग छत पर सोते थे तो एक रात …नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम मोहन है, मैं एक शादीशुदा युवक हूँ.