इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ

छवि स्रोत,लोकल इंग्लिश बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

હિન્દી ચૂદાઈ: इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ, फिर मैंने भाभी की चूत की फांकों में अपने लंड का सुपारा ऊपर नीचे किया, तो भाभी ने अपनी चुत को मेरे लंड के लिए खोल दी.

हिंदी में फुल बीएफ वीडियो

मुस्कान अभी मेरा लंड मुँह में लेकर चूस रही थी और मैं उसकी गांड में उंगली को अन्दर बाहर कर रहा था. सेक्सी बीएफ वीडियो चूत की चुदाईअशोक ने अपने दोनों हाथों से मयूरी की कमर पीछे से पकड़ कर एक जोरदार झटका उसकी गांड पर मारा.

मैं सब कुछ देख सकता हूं लेकिन एक औरत की आंखों में आंसू नहीं।फिर मैंने उसके चेहरे को अपने हाथों से पकड़कर उसके होंठों पर फ्रेंच किस करने लगा और वो धीरे-धीरे गर्म होने लगी, मुझे किस करते हुए मेरे पूरे बदन पर किस करने लगी और किस करते हुए धीरे-धीरे नीचे जाकर अचानक से मेरे लन्ड को अपने मुंह में ले लिया और पूरा का पूरा उसने अपने मुंह में ले लिया. आपातकालीन कॉल बीएफपर यकीनन मजा आता होगा क्योंकि हर बार लंड बदली होने पर उसके मुँह से मजेदार सीत्कार निकल रही थी.

मैं भी मजे से आंटी की पूरी चूत पर अपनी जीभ को किसी कुत्ते की तरह फेरने लगा.इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ: फिर मैंने आयेशा को गले लगाकर उसे जन्मदिन के उपहार के लिए धन्यवाद किया।तो दोस्तो, आप सबको मेरी चुदाई कहानी कैसी लगी? आप सब मुझे[emailprotected]पर मेल करके बता सकते हैं। मुझे आप सबके मेल का इंतज़ार रहेगा। और जो लोग मुझसे फेसबुक पर जुड़ना चाहते हैं वो मुझसे https://www.

मैं अभी ठीक से गर्म भी नहीं हुआ था कि वो फिर से अकड़ने लगी और कुछ देर बाद वो जोर जोर से आहें भरते हुए एक बार फिर झड़ गयी.अब मैंने अपना हाथ उनकी मैक्सी के अन्दर से ही मम्मों पर से हाथ हटाकर उनकी चूत को सहलाने लगा.

लड़की की सेक्सी चुदाई बीएफ - इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ

तो सबसे पहले मैं आप सबसे गुजारिश करता हूँ कि अगर कोई गलती दिखे तो मुझे मैसेज करके जरूर बताइयेगा.मैं थोड़ी खुल कर बात करने वाली लड़की हूँ मतलब कि मैं बातूनी लड़की हूँ.

एक दिन बुआ जी ने कहा- अब तो कुछ टाइम बाद मैं चली जाऊंगी, उसके बाद तुम क्या करोगे?मैंने कहा- दीदी, आपकी मुझे बहुत याद आएगी, अगर आप कहेगी तो मैं कभी कभी आपसे मिलने आ जाया करूँगा. इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ माइक भी थका हुआ लग रहा था, इतनी उम्र में बहुत कम ऐसे मर्द होते है, जिनकी ताकत इतनी होती है और संभोग क्रिया में तत्पर हों.

अब मैंने कहा- तैयार हो?वो बोली- किसलिए?तो मैंने कहा- अभी बताता हूँ.

इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ?

जो मेरे बाप ने आपके नाम लिखा है उसे अपने नाम पर ही रहने दो और अगर कोई पूछे तो कह देना कि मनोज ने अपने नाम करवा लिया है. यह देखकर मुझसे भी नहीं रहा गया और दीमा के लंड के बाहर निकलने की प्रतीक्षा कर मैंने भी उसी तरह मुंह-चुदाई प्रारंभ कर दी. मैंने पहले उनकी चूची को चूसा और वे बोल बोल रही थी- मैं तुम्हारे लिए इतने दिनों से इंतजार कर रही थी … तुम्हारे ही सपने देख रही थी कि कब तुम आओगे मेरे पास और उस रात की जो आग लगाई हुई थी उसे तुम शांत करोगे!मैंने भी कहा- हां मेरी रानी, आज आपकी चूत की सारी आग खत्म हो जायेगी.

फिर लंड पर थोड़ा तेल लगाया और एक बाक़ी की बची फुहार से मैंने अपना सारा माल उसकी पैंटी में डाल दिया. मैंने फिर अंकित को जोर से अपनी ओर खींच लिया और बोली- बहुत कमीना है तू. कभी मेरे गाल पकड़ लेते, कभी मेरी गांड पर हाथ मार देते, कभी मेरी जांघों पर हाथ मार देते.

अगर वाटसऐप्प पर कोई भी एडल्ट जोक आये तो तीनों आपस में फॉरवर्ड करने में देर नहीं लगाते थे. तभी अचानक से समाली अंकल बोले- ओहहहह ऊंहहह वन्द्या … मेरा लौड़ा अब झड़ने वाला है. मैंने सुशीला की ओर देख कर मानसी से पूछा- कैसा लग रहा है मेरी रंडी?मानसी- बहुत अच्छा … आहह स स आ … चोदते रहो!यह सुनकर सुशीला हैरानी में पड़ गयी और मैं उसे देख कर थोड़ा मुस्कुरा दिया.

पर चुदाई स्थल किधर होगा, इस पर बात हुई तो उसने बताया कि उसकी रूममेट का ब्वॉयफ्रेंड उसको कार से बाहर लेकर जाता है और खूब चोदता है. मतलब लड़की की चूत भी पसंद है और लड़कों की गांड और लंड भी!बहुत सोचने के बाद आज मैंने कोशिश की कि आज अपनी पहली कहानी आप लोगों के सामने रखूँ.

बस हम दोनों और तू भी साथ में आ जा … वन्द्या की जवानी का मजा लेते हैं, और इसको जमके चोदते हैं.

मुझे उठाने वालों ने धीरे धीरे मेरी गांड को पीछे ले जाकर उसके लंड पर सेट किया.

इस बार उनका लंड जब खड़ा हुआ तो पहले से भी ज्यादा बड़ा और मोटा लग रहा था. मैं- अच्छा जी, जब इतनी आग लगी थी गांड मरवाने की, तो इतने दिन क्यों बर्बाद किए?शौर्य- डर था कि तुम स्ट्रेट हुए तो ताऊजी को मेरे बारे में बता दोगे और तुमने भी कभी कोई पैरवी नहीं की. बस मैं ही इसको अपनी चूत में लूँगी, अनु अभी छोटी है, अगर उसको चाहिए होगा तो कोई दूसरा लंड खोज लेगी.

मेरी ईमेल आइडी है[emailprotected]आपके कमेंट्स का इंतजार रहेगा, धन्यवाद।. ऑफिस पहुंच कर मैंने बॉस को फाइल्स दीं औऱ मैं अपने कामों में लग गया. विक्रम- हाँ बोलो…मयूरी- देखो… तुम दोनो को मैं एक सरप्राइज देने वाली हूँ.

मयूरी थोड़ा मायूस होते हुए- मतलब मेरी चूचियां देखने लायक नहीं हैं क्या?रजत- अरे नहीं… ये तो कमाल की है.

जगह की कमी है न सो कम जगह में कई मंजिला बिल्डिंग में बहुत से परिवार रह सकते हैं. जब वो चलती हैं तो मानो उनके मोटे चूतड़ों के हिलने से कयामत ही बरसती है. मैंने उन्हें पूछा- अच्छा लग रहा है?उन्होंने कहा- आज से पहले इतना अच्छा कभी नहीं लगा! तुम लाजवाब हो मेरे राजा! काश तुम पहले मिले होते तो मैं अब तक इतना नहीं तड़पती!मैंने कहा- कोई बात नहीं, अब हम मिले हैं तो हर ख्वाहिश पूरी करेंगे!फिर मैं धीरे-धीरे उनकी चूत के पास गया.

जैसा मैंने सोचा था मनीषा ने भी अपने रूम की लाइट ऑन कर रखी थी और इस बार मनीषा बिल्कुल की-होल के सामने नंगी लेटी हुई थी. थोड़ी देर बाद मामी जी ने अपनी लेफ्ट जाँघ को उठा कर मेरी कमर पे रख दी और प्यार से मेरे होंठों को चूमने लगीं. इसलिए लिख रहा हूँ।बात उस समय की है, जब मैं चंडीगढ़ में पढ़ता था। शुरू में तो काफी दिक्कत आई, नया शहर था.

समाली अंकल उनसे फिर से बोलने लगे- जगतदेव तू जल्दी से वन्द्या की चूत में अपना लंड डाल बे.

वो लड़की अब मेरे घर पर है, अगर ज़रा सी भी हरकत की तो मैं पुलिस के सबसे बड़े अधिकारी से मिल कर तुम्हें अन्दर करवा दूँगी और फिर जमानत भी नहीं मिलेगी. और पता नहीं उसकी मम्मी को ऑफिस जाना होता था और वो सुबह होते ही अपने बेटे को स्कूल छोड़ने के साथ ही उसे लेकर घर से निकल गईं.

इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ मैं नया ही जवान हुआ था और अभी सेक्स के बारे भी में भी ज्यादा कोई जानकारी भी नहीं थी. ”लंड पर लंड की घर्षण, चेहरे पर चेहरे की घर्षण होने से मैं उत्तेजित हो गया.

इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ और जोर से करो!इसके बाद हम दोनों साथ में झड़ गए और उसके बाद आधा घंटा ऐसे ही पड़े रहे. वहीं पास में कुछ लोग और खड़े थे, फिर भी अंकित पास आकर बोला- वन्द्या मान जा और चुदाई करवा ले! मुझसे अच्छा लन्ड और कहीं नहीं पायेगी.

वो भी मेरे सर में बालों में हाथ रखते हुए मेरे बालों को हाथ की उंगली से सहलाए जा रही थीं.

बिहार की सेक्सी वीडियो कॉम

फिर हम एक साथ बाथरूम में गए और एक दूसरे को अच्छी तरह साफ़ करके साथ नहाए, चाय पी और बातें करने लगे. शीतल मयूरी की इस नायब शरीर का निरीक्षण करने में लग गयी कि ईश्वर ने कितनी फुर्सत से बनाया होगा. अब तक हम दोनों गर्म हो गए थे, तो मैंने देर न करते हुए कपड़े उतारना शुरू कर दिए.

जब हिमानी ने मुझे पानी दिया तो मैंने गिलास पकड़ते हुए उसकी नर्म उंगलियों को दूर तक छू दिया, उसने हल्की स्माइल दी और मेरे सामने चेयर पर बैठ गई. मेरी पुत्र वधू की भतीजी कम्मो मेरे साथ सेक्स करना चाहती थी लेकिन कोई मौक़ा नहीं मिल रहा था तो वो निराश हो चुकी थी. उसकी चूत पर झांटों का ऊबड़ खाबड़ सा जंगल उगा हुआ था; झांटों के बाल कहीं एकदम छोटे छोटे जिनके बीच से खाल भी दिखती थी कहीं झांटें थोड़ी सी बड़ीं बड़ीं थीं.

वो खुद भी गर्म सांसें जोर जोर से लेते हुए मुझे चूम रही थी, मैं उसके चुम्बनों का जवाब देते हुए लगातार चूमे जा रहा था.

मयूरी इतना सुनते ही जोर जोर से उछलने और पैर पटकने लगी और बच्चों की तरह जिद करने लगी- नहीं… नहीं… नहीं… मैं बड़ी नहीं हुई हूँ… आप बस मुझे प्यार नहीं करते. उसे पड़ोस की शादी में जाना था, उसके जाने से पहले मैंने एक बार उसकी फिर से चुदाई कर दी. मेरी बात सुनकर कर उन्होंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और थोड़े ही देर बाद मैं भी झड़ गया.

अब तो भाभी मुझसे अपनी आहें भरते हुए कहने लगी थीं कि प्लीज़ तुम अब देर ना करो. मैं चुद गई आज! और मेरी चूत फट गई थी उसके लौड़े से।मैंने कहा- इसे बाहर निकालो, बहुत दर्द कर रहा है!पर वो माना नहीं और जोर जोर से चोदता रहा. मैंने एकदम से उसकी चुत के होंठ खोल दिए और अपनी जीभ को अन्दर-बाहर करने लगा.

दस मिनट के संभोग के बाद दोनों की सांसें तेज़ हो चली थीं और तारा धक्कों के साथ कराह और सिसकारी भरने लगी थी. जब वो शाम को आई, तो वो मेरा गिटार लेकर बैठ गई, तो मैंने कहा- ऐसे नहीं मैं बताता हूँ!ऐसा कह कर मैं उसके पीछे चला गया और ऐसे ही उसके हाथ को पकड़ लिया.

मैं करीब शाम को आठ बजे चाची के घर पहुंचा, चाची खाना बना रही थीं और चाचा हॉल में पड़े बिस्तर पर लेटे कोई किताब पढ़ रहे थे. वो दे दूँगा लेकिन मेरे से बात कर लिया कर क्योंकि दिल्ली से आने के बाद मेरा टाइम पास नहीं होता. फिर मेरे मन में शरारत सूझी तो मैंने उसकी चुत में उंगली कर दी और उसके चुत के दाने को मसलने लगा.

अभी तारा पूरी शांत होती कि माइक ने भी उसकी योनि में अपना लावा उगलना शुरू कर दिया.

तभी चाचा ने अपना लंड चाची की चूत के छेद पर रखकर अपने दोनों हाथों से चाची की दोनों चुचों को पकड़ कर जोर से लंड ठेला, तो सुपारा चूत के अन्दर घुस गया. इसके बाद मैं तैयार हुआ और चला गया आज मुझे बहुत बुरा लग रहा था कि पहली बार किसी से लव यू कहा और वो भी किसी और की प्रेमिका निकली. अब मेरे हाथ आगे की ओर होते हुए उनके स्तनों को मसल रहे थे, उनके निप्पल को पकड़कर खींच रहे थे.

मैंने उसके लंड को चाट कर साफ़ किया और उसने मेरी चूत को चाट कर साफ़ कर दिया. बमुश्किल से बीस सेकंड हुए होंगे कि भाभी भी तड़पने लगी थींभाभी- अक्षय प्लीज़ अब और मत तड़पाओ.

तो फिर मैं राहुल भैया को बुलाने गयी उनके घर और कहा- आज घर पे कोई नहीं है, आ जाओ मिलने।वो मेरे साथ ही आ गए, मैंने घर के बाहर और पीछे के दरवाजे बंद किये और वो और मैं दोनों मेरे कमरे में एकदूसरे के साथ थे, उन्होंने मुझे गोद में उठा कर चूमना चालू कर दिया और बोले- कब से तुम्हे पाने के लिए मर रहा हूँ निशा! आज मिली हो तुम!और मुझे बेड पर पटक दिया. मुझे कुछ याद नहीं, पर शायद ये हुआ भी हो क्योंकि ये व्यक्ति मुझे देखा देखा सा लग रहा था. मैंने उसके मुँह को होंठों से जकड़ लिया और उसके बाद फिर एक शॉट मार कर आधा लंड उसकी चुत में उतार दिया.

इंजेक्शन सेक्सी

दो दिन बाद हम दोनों साथ में बाइक से कॉलेज जा रहे थे, तो मैंने चैक करने के लिए जानबूझकर जोर से ब्रेक मारा.

हम रूम में आए, रीना के लवर ने बोला- बॉस प्लीज़ अन्दर जाइए, आज की नाइट के लिए बेस्ट ऑफ लक. लण्ड उसके मुंह में फंस गया था, जिसे वह जोर जोर से चाटने और चूसने लगी. भाभी मेरे नीचे पड़ी हांफ रही थीं और मैं बड़े बड़े धक्कों से उनकी चूत को नहला रहा था.

देर नहीं करनी है कि स्किन जल जाये।”अब मैं कौन सा एक्सपर्ट हूँ?”नहीं हो तो हो जाओ. इसलिए मैं भी तुमको पूरा नंगा देखूंगी… फिर मुझे बराबर लगेगा… तुम समझ रहे हो न?रजत घबरा भी रहा था और शर्मा भी रहा था. नागालैंड के बीएफ पिक्चरफिर मैंने उनके कुरते को जल्दी से उतार दिया और उनके मम्मों को ब्रा के ऊपर से मसलने लगा.

चाचा जी ने खड़े खड़े ही मेरी चुत में अपना लंड डाल दिया और मैं ऊपर नीचे होकर उनका साथ देने लगी. उसके लौड़े ने पानी फेंक दिया था और मैं गुस्से में बेड पर लेटी तड़प रही थी.

शाम को मैंने मामी से मज़ाक में ही बोला- मामी आज आपने कुछ देख लिया था क्या?तो मामी बोलीं- हां मैंने तो बहुत कुछ देखा है. मैंने स्पीड बढ़ा दी और उनकी चूत में ही झड़ गया, फिर हम दोनों थोड़ी देर ऐसे ही एक दूसरे से लिपटे हुए पड़े रहे. ऑटो में हम साथ साथ ही बैठते थे और अपने पैरों के ऊपर बैग रख लेते थे.

भाभी की चुत का पूरा पानी मेरे मुँह में आ गया और वे मेरे शऱीर पर निढाल होकर गिर गईं. मैंने सत्यम सीरिज की दूसरी कहानीबन गई मैं सत्यम की दुल्हनलिखी जिसे अन्तर्वासना ने बहुत प्रतीक्षा के बाद 20 नवम्बर को प्रकाशित किया. हम अंजाने में कितना ढेर सा सुख पीछे छोड़ आते हैं।”वह एक गहरी साँस छोड़ती पीछे अधलेटी हो गयी और चेहरा छत की ओर हो गया। इससे उसका निचला हिस्सा और ऊपर हो गया और उसकी गुदा का छेद मेरी पंहुच में हो गया।क्रमशःमेरी बहन की चूत चुदाई कहानी के बारे में अपने विचारों से मुझे जरूर अवगत करायें। मेरी मेल आईडी हैं.

शीतल अपने पति से यह छुपा रही थी कि वो अपने बेटों से कुछ अलग ही सम्बन्ध स्थापित करने वाली है.

मुझे पता है औरतों को ऐसा पसंद नहीं है कि कोई उन्हें इतना घूरे, पर अब हम और कर भी क्या सकते थे. वो अन्दर आके सोफे पे बैठी और मैंने उन्हें रेट लिस्ट और मसाज के टाइप और उनके बारे में बताया.

मेरे पति भी मेरे सेक्स के सामने ज्यादा देर तक नहीं टिक पाते और उनका जल्दी निकल जाता है, मैं प्यासी रह जाती हूँ. प्रिय पाठको, आपकी पुन्नी फिर से आपके समक्ष एक नई कहानी ले कर हाज़िर हुई है. माइक भी थका हुआ लग रहा था, इतनी उम्र में बहुत कम ऐसे मर्द होते है, जिनकी ताकत इतनी होती है और संभोग क्रिया में तत्पर हों.

मैंने लंड को तुनकी दी तो भाभी ने पूरा लंड मुँह में ले लिया और मस्त लंड चूसने लगीं. इस धमाकेदार चुदाई में वो भी कसकस के नीचे से अपनी गदरायी गांड को उठा उठाकर चुदवा रही थीं. उसके धक्कों में इतनी ताकत थी कि तारा खुद को रोक न पाई और उसका पूरा बदन थरथराने लगा.

इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ मुझे कभी कभी चुदाई करने में डर लगता है क्योंकि अगर यह बात किसी को पता चल गयी, जो लोग मेरे घर के हैं, तो उनका क्या होगा. मैंने कहा- नहीं … मैडम मैं नहीं रुकने वाला, मेरे घर वाले मेरा इंतजार कर रहे होंगे.

भाभी की सेक्सी वीडियो कॉम

पिछले साल मेरी जीएफ से मेरा ब्रेकअप हुआ, मैं उससे बहुत प्यार करता था और शादी करना चाहता था, लेकिन कुछ संयोग ऐसे हुए कि वो मुझे छोड़ कर चली गई और मैं गम के अंधेरे में डूबता चला गया. ओयय … बहुत दर्द हो रहा है, मम्मीईईई …!,ओय्यय … महेश्श्स … बहुत दर्द हो रहा है. अभी जो कहानी लिख रहा हूँ यह मेरे और मेरे दोस्त के साथ हुई एक सच्ची घटना है।बात आज से 3 साल पहले की है मेरे पास मेरे दोस्त जय (काल्पनिक नाम) का फोन आया- भाई विराट, तेरी भाभी गर्भवती है और मुझे चुदाई किये बहुत दिन हो गए.

तभी पापा ने पीछे से अपने हाथ से अपनी बेटी की गांड को धीरे-धीरे सहलाना चालू कर दिया. रशीद ने पीछे से दांतों से उस ड्रेस की नॉट को निकाला और वो ड्रेस निकल गई. मम्मो बीएफलेकिन मुझे कोई नहीं दिखाई दिया, तो किसी तरह मैंने स्नान किया और तैयार हो गई.

मैं जैसे ही अंकित की आवाज सुनी, मुझे लगा जैसे कोई अपना हो, मैं बहुत धीरे से बोली- यहाँ जगह नहीं है, कहाँ लेटोगे? जहाँ रोज लेटते हो, वहीं जाओ, यहाँ जगह नहीं है.

अन्तर्वासना के सभी पाठकों को जॉर्डन का प्यार भरा नमस्कार।मेरी कहानी के पिछले भागअनजानी दुनिया में अपने-3में आपने पढ़ा कि मैं दिव्या की मां कामिनी की कामवासना को संतुष्ट कर चुका था और हम दोनों साथ साथ लेटे बातें कर रहे थे. जैसे ही चाचा ने अपनी एक उंगली को चाची की चूत में घुसाया कि चाची का पूरा बदन सनसना उठा और वो अपने बदन को ऐंठते हुए चूतड़ उछालते हुएऔर बड़बड़ाने लगीं- ओह.

लेकिन मामी बोलीं- तुम्हारा फोन अन्दर क्या कर रहा था?मैं बोला- शायद ग़लती से वहीं रह गया होगा. मैंने अपना पजामा और टी-शर्ट उतार दी और उसका टॉप और जींस भी उतार दी. वह अपने चूतड़ उठा उठा कर मेरे लंड पर पटक रही थी और पूरा मजा ले रही थी चूत चुदाई का!उसकी चोदन क्रिया देख कर मेरे मुंह से सिसकारी फूट पड़ी, कसम से इतना मजा मुझे चुदाई में कभी नहीं आया था जितना मजा मुझे नेहा मुझे ड़े रही थी.

फिर वो बोली- हाँ होता है कभी कभी … बिना खेले ही खिलाड़ी आउट हो जाता है.

”वो सब दबाना चूसना सहलाना सही है पर मेरे राजा तू मेरा इस तरह निकाल नहीं सकता. फिर 3-4 क्लास के बाद हमारी छुट्टी हो गई और हम एक्स्ट्रा समय में पढ़ने के लिए दूसरे कमरे में आ गए. उम्म ले मेरे लंड का वीर्य चुत में ले…” यह कहकर मेरे पति ने अपना लंड चुत में जड़ तक घुसा दिया और वीर्य की गरम तेज धार मेरी चुत में ही छोड़ दी.

भोजपुरी बीएफ भोजपुरी वीडियोलेकिन फिर भी मेरी चूत को थोड़ा बहुत शांत तो कर देती थी मेरी उंगलियाँ!और अब यह मेरा रोज का काम हो गया था. मैं अभी भी नीचे ही बैठा हुआ था और एना अधखुली आँखों से मेरी तरफ मुस्कुराते हुए देख रही थी.

हिंदी सेक्सी पिक्चर आवाज के साथ

अंधेरे में अपने मैंने लंड को थोड़ा आगे किया तो दीदी की गांड का स्पर्श हुआ. मयूरी ने अपने पापा को अपनी बाँहों में जोर से दबा लिया और पापा ने उसकी चूचियों की कोमलता को एकदम नजदीक से महसूस किया. उन झांटों की बीच आंटी की भरी हुई मस्त फूली हुई उनकी चुत के होंठ बहुत मस्त लग रहे थे.

दोनों एक साथ करते हैं, और लड़की पसंद आयी तो बहुत पैसे देते हैं। बता वन्द्या, सच बोल दे … तेरा ही फायदा है, यहाँ से बीस किलोमीटर दूर मानिकपुर शहर है, वहां ले चलकर शापिंग वो लोग करवा देंगे, तेरी ऐश हो जायेगी। सच सच बता दे वन्द्या, बात कर लूं?मैं बोली- तू बहुत कमीना है! मैं इस तरह की लड़की नहीं हूं, समझे और न मैं करती हूं न करूंगी!मुझे जोर से सू-सू आ रही थी, मैं बोली- छोड़ मुझे … बहुत सू सू आ रही है. मैं वो दर्द दुबारा महसूस करना चाहती हूँ पंकज प्लीज़ एक बार में ही पूरा डालना. तारा ने मुझसे कहा कि हम सब इतनी दूर से आये हैं … पैसा खर्च किया और अब तुम नाटक करने लगी हो.

उसने मुझे आवाज़ लगा कर रोक लिया और एक फ़ोन करने के लिए मेरा मोबाइल माँगते हुए बोली- थोड़ी देर में दे जाऊँगी. वैसे भी वो स्नेहा के साथ ओरल शुरू करते ही झड़ जाता था, ऐसा स्नेहा ने मुझे बताया था. सुशीला बोली- मैं तुम्हारे हाथ जोड़ती हूँ। उस पर रहम करो … वो अभी छोटी है.

उसने झट से मुझे सहारा देते हुए उठाया और पूछा- अरे क्या हुआ?मैंने कमजोरी का दिखावा करते हुए कहा- पता नहीं. जब उसने मुझे गोद में उठाया हुआ था तो उसके हाथ मेरे मम्मों पर लगे हुए थे.

मैं भी पूजा की बातों को मानकर अपना लंड थोड़ा ऊपर खींच कर अब जोर से धक्कों के साथ चोदने लगा.

तब अंकित ने मेरी टांगों को चौड़ा किया और चूत में अपने हाथ से थपकी दी और उंगली से फैला कर अपने लंड को जैसे ही रखा, तो इतना मोटा लंड बिल्कुल फिट नहीं हो रहा था. हिंदी बीएफ वीडियो चलती हुईऔर इतना सुनते ही हम दोनों की हंसी छूट पड़ी।फिर मैंने प्रीति को कहा- ओह तो अब तुम बड़ी हो गयी हो।इसके बाद मैंने प्रीति से कहा- मेरी प्यारी ननद जी, मैं तुमको एक बार फिर से दोबारा बिना कपड़ों के अपनी चूत में उंगली करते हुए देखना चाहती हूँ।प्रीति बोली- मैं भी भाभी… आपको इसी हालत में देखना चाहूंगी. जीबी रोड का बीएफ वीडियोउसके गोल गोल चुचे इतने मस्त थे कि मैंने देर न करते हुए उसके एक चुचे को पकड़ कर चूसने लगा. इसके बाद हम दोनों जुदा हो गए और आज तक हमारी दुबारा कोई मुलाक़ात नहीं हुई है.

क्या हुआ पापा?” मैं आश्चर्य से बोली।मैंने तुम्हें बोला था ना … मम्मी के सब काम तुम्हें करने है… तो चलो मैं तुम्हें मम्मी की जगह भी दे देता हूँ.

मम्मी ने कहा- बेटा 11:00-11:30 बजे तक जरूर घर आ जाना क्योंकि नयना आंटी के घर पर कीर्तन है और मैं 12:00 बजे कीर्तन में जाऊंगी. पास में ही एक अधूरा बना मकान सा था, मैंने पूजा का हाथ पकड़ा और उसे खींचते हुए उस मकान में ले गया. वो मेरी रजा समझ गया और अब वो मेरी चूची को अपनी हाथों में लेकर दबाने लगा.

मुझे भी लंड गले में लेने में मज़ा आ रहा था, उन्होंने मेरा मुँह तब तक चोदा, जब तक की उनका सारा वीर्य मेरे गले में निकल नहीं गया. मैंने पूछा क्या इरादा है जानेमन?? आज तो पप्पू पे बड़ा प्यार आ रहा है तुम्हें. मुझे रात को दूध पीने की आदत है।साक्षी हंसी और फिर दूध ले आई। मैं दूध पी कर बैठ गया, साक्षी बाथरूम चली गई।जब वो वापिस आई तो उन्होंने सिर्फ पिंक कलर का तौलिया लिपटाया हुआ था। उनके गोरे रंग पर पिंक रंग बहुत ही सेक्सी लग रहा था।साक्षी- तुम भी नहा लो।मैंने जल्दी से शावर लिया.

सेक्सी सेक्सी भाभी की

बीस मिनट तक एक ही अवस्था में संभोग के बाद मुनीर चीखने लगी और फिर उसने पूरी ताकत से माइक को पकड़ लिया. अंकल का गर्म हाथ घुंडियों को रगड़ने से मेरे मुँह से मादक आवाजें निकल रही थीं- उफ … उफ … उई … इस्स … उह … उम … ओह … और चूसो अंकल!थोड़ी देर की चुसाई के बाद मेरी पूरे देह में चुनचुनी उठने लगी … मानो चींटियां रेंग रहीं हों. कोई तुम्हारे सामने आँख उठा कर भी नहीं देख सकेगा, जब कोई जानेगा कि तुम किसके साथ रीलेशन रखती हो, तो वैसे ही चुप हो जाएगा.

उसके बताये टाइम पर चाची आई और हमें चुदाई करते देखकर बोली- वाह जी, यहां पर तो ये काम किया जा रहा है.

उसने मेरा सिर पकड़ा और सीधे उसकी चूत पर रख कर दबा दिया और मैं मजे से उसकी चूत चाटने लगा.

मैंने उसकी टांग थोड़ा ऊपर उठाकर अपने कंधे पर ली और लंड को उसकी चूत की फांकों पर रगड़ने लगा. मैंने अपने ऊपर से रज़ाई हटाई और दोनों तकियों के साथ सेक्स शुरू कर दिया. बीएफ इंग्लिश वीडियो सेक्सी वीडियोजीजा जी (दीपक) का लंड मैं अपनी चूत में ले चुकी हूँ, वो आपकी चूत को बहुत खुश रखेंगे.

मैं इतनी तरसी हुई हूँ कि सिर्फ इसी सब से आर्गेज्म तक पंहुच सकती हूँ।” काफी देर बाद उसने मेरे ऊपर से हटते हुए कहा।मुझे यकीन है. फिर ऐसे हमारी बातें होने लगी‚ धीरे-धीरे सेक्सी बातें भी होने लगी।एक दिन उसने मुझे अपने घर बुलाया. उसकी चूची को चूसते हुए मैंने अपने हाथ को हरकत दी और उसके चिकने बदन को ऊपर से नीचे तक सहलाने लगा.

वो बहुत पतली नहीं थी और मोटी भी नहीं थी, देखने में ज्यादा से ज्यादा 35 की लगती थी. फिर एक दिन शाम को जब मैं कॉलेज से घर आई तो मेरे घर में ताला लगा हुआ था, बगल वाली आंटी ने चाबी देते हुए बताया कि मेरे मम्मी पापा और भाई तीनों नानी के घर गए हैं मेरी मामी को देखने! उनकी तबियत ठीक नहीं थी.

फिर धीरे से वो मेरे पेट को चूमते हुए मेरी झांटों तक पहुंचा और उसने अपने दांतों से खींचते हुए मेरे शॉर्ट्स को उतार दिया.

मैं यहाँ मेरी कामवासना कहां बुझाऊं, उसके बारे मैं सोच सोच कर कई बार मुठ मार लेता हूं. तभी अंकित ने मेरे दोनों दूध अपने हाथों से अपने पकड़ लिए और जमकर दबाने लगा. अपने तकिये का एक कोना ब्लेड से काटकर उसमें से रुई निकालकर ब्रा में भर लिया.

हिंदी सेक्सी बीएफ बीएफ वीडियो मेरा ऐसे करते ही कम्मो को गुदगुदी हुई और उसकी हंसी छूट गयी; बिल्कुल बच्चों जैसी निश्छल, उल्लासपूर्ण खिलखिलाहट उसके मुंह से फूट पड़ी और उसके मोतियों से चमकते दांत ट्यूबलाइट की तेज रोशनी में दमक उठे. अभी तक आपने इस कहानी में पढ़ा कि बहू ने अपनी विधवा सास की कामुकता को समझा और उसकी मदद करने की कोशिश की.

फिर बारी बारी सब लोग उनको वेलकम करने आएँगे, फिर पार्टी शुरू होगी, तो वो तुम्हें लेकर ऊपर आएँगे. तभी वो अपनी दो उंगलियां मेरी पीछे तरफ मेरी जांघों को थोड़ा फैला कर जहाँ सुराख था, उसमें डालने लगा तो मुझे गुदगुदी सी हुई. लेकिन आज ज्योति कुछ अलग ही तरह से मेरे होंटों को चूम रही थी क्योंकि हर बार तो वह सामान्य ही चूमती थी लेकिन आज उसका मूड बड़ा अलग था.

बीपी सेक्सी वीडियो नेपाल

हम दोनों सड़क के किनारे से थोड़ा अन्दर गए और वहां एक साफ़ जगह देख कर जमीन पर बैठ गए और किस करने लगे. वो भी शायद यही चाहती थी इसलिए उसने मुझे नहीं रोका और वो उत्तेजित होती जा रही थी. मैंने हिम्मत की और भाभी की साड़ी ऊपर करके देखा तो भाभी ने अन्दर कुछ नहीं पहना था और उनकी चूत एकदम क्लीन शेव थी.

अचानक उनकी चुत के मांसल होंठों ने उनका साथ छोड़ दिया और उनकी गर्म चुत की दीवारों ने मेरे लंड पर दबाव बनाना शुरू कर दिया. एक दिन मैं क्लास में अपने मोबाइल पर गे सेक्स स्टोरी पढ़ रहा था, उस वक्त यही टीचर मुझे पढ़ा रहे थे.

मेरी छाती में उभार आ चुके थे, शुरू शुरू मैं इन उभारों पर ध्यान नहीं देती थी, पर कुछ दिनों बाद मुझे लगने लगा कि अंकल मेरे उभारों को कुछ ज्यादा ही दबाने लगे.

सीमा और रीना ने बहुत पूछने की कोशिश की कि बाबा किस संकट के बारे में बात कर रहे थे किंतु हमने उनको कुछ नहीं बताया।यहां सब हमने अपनी अपनी बीवियों के साथ हनीमून की तरह समय बिताया किंतु एक दूसरे की बीवी पर कोई बुरी नजर नहीं डाली अर्थात यह एक साधारण टूर था।अपनी अपनी बीवियों के साथ जिसमें चुदाई और उत्तेजना का समावेश था।हां श्लोक और मैं, हम दोनों एक दूसरे की बीवियों को देख कर आंखें तो सेक ही लेते थे. मेरी सांसें बहुत गरम होकर तेज़ी से चल रही थीं और सर अन्दर डालने के वजह से उनकी चुत की महक मुझे और कामोत्तेज़ित कर रही थी. दोस्तो, मेरा नाम पायल है। अन्तर्वासना पर भेजी गई एवं प्रकाशित होने वाली यह मेरी दूसरी स्टोरी है और मैं उम्मीद करती हूँ कि यह आप सभी को बहुत पसंद आएगी।मेरी पहली कहानी थीजोधपुर की भाभी संग पहला लेस्बीयन सैक्सजिसे तमाम पाठकों ने पसंद किया था.

मयूरी- पर, माँ को पूरी बात नहीं पता?अशोक- कौन सी बात नहीं पता शीतल को?मयूरी मुस्कुराते हुए- माँ को ये नहीं पता की मैंने अपने भाइयों से पहले से चुदवाया हुआ है. मैं एक ही झटके में पूरा उसकी गांड में डालना चाहता था, पर अभी भी उसकी गांड थोड़ी टाइट थी इसलिए इस झटके में मेरा आधा लंड ही अन्दर गया होगा कि वो चीख पड़ी. इतने में राज अंकल उठ गए और जो 70 साल के बुड्ढे अंकल थे, उनको बोले- आप आ जाओ.

मुझे कभी कभी चुदाई करने में डर लगता है क्योंकि अगर यह बात किसी को पता चल गयी, जो लोग मेरे घर के हैं, तो उनका क्या होगा.

इंग्लिश बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ: लेकिन मैं मन ही मन शर्मिंदा या गिल्टी कांशस भी फील कर रहा था कि वो बेचारी मेरे बारे में न जाने क्या क्या धारणा बना रही होगी. ’हमारे बदन से धक्कों की आवाजों से फट फट की जैसी तेज रफ़्तार से आने लगी थीं.

फिर 2 हफ़्तों के लंबे इंतज़ार के बाद 12वीं का लड़का आकाश मुझे प्रपोज़ करने आया, वो मुझे काफी दिनों से देखता रहता था पर कुछ नहीं बोलता था. मेरा लंड फिर से ताव में आ गया और मैंने उसके चोटी पकड़ लिया और उसके मुँह को चोदने लगा. एक रात खाना खाने के बाद मुझे अलमारी से दवा लाने को बोले और एक गिलास में पानी के साथ मिलाकर पीने लगे.

रजत- हाँ… शायद!मयूरी- अब?रजत- अब तो बाकी का काम बाद में करना पड़ेगा.

मैंने लिफ्ट में लगे बाजू वाले आईने में देखा कि वो लगातार मुझे ही देख रही थीं. हालांकि वो चुदी हुई थी, तब भी मुझे लगा कि इसके बताए अनुसार इसके पुराने ठोकू का लंड जल्दी झड़ने के साथ साथ शायद मुझसे छोटा भी हो, तो ये मेरे लंड से चिल्ला न दे. मैं अभी ठीक से गर्म भी नहीं हुआ था कि वो फिर से अकड़ने लगी और कुछ देर बाद वो जोर जोर से आहें भरते हुए एक बार फिर झड़ गयी.