स्कूली लड़कियों का बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ व्हिडीओ हिंदी मे

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स वीडियो भाभी: स्कूली लड़कियों का बीएफ, अंदर आने के बाद आंटी हम दोनों को ऊपर वाले फ्लोर पर रूम दिखाने के लिए ले जाने लगी.

सनी लियोन के बीएफ फिल्म

मेरी उंगली नीचे उसकी चूत में चल रही थी और मेरी जीभ उसके मुंह में घुसी हुई थी. देसी वीडियो बीएफ हिंदी”मैं उसके आंखों में आंखें डाल कर बोल रही थी- कैसी लगी मेरी चूत? यही मेरा तुम्हारे लिए दीवाली गिफ्ट था … हैप्पी दीवाली.

जब मैं झुक कर झाड़ू लगा रही थी तो मेरा ध्यान मेरे हिलते हुए चूचों पर गया. देहाती बीएफ चाहिएमैंने एक हाथ हॉट आंटी की सलवार के अन्दर डाल कर पैंटी के ऊपर से चूत को छुआ, तो पूरी गीली हो चुकी थी.

उसका लंड अन्दर तक पेवस्त हो गया था, जिससे मेरी सील टूट चुकी थी और मैं दर्द से आह भर रही थी.स्कूली लड़कियों का बीएफ: मैंने प्रमिला आंटी की कमर पकड़ कर जोर-जोर से धक्के मारना शुरू किया तो धक्कों के कारण मेरी जांघें प्रमिला आंटी की गदराई हुई गांड से टकरा रही थी.

मैंने एक तरकीब लगाई और उसको बोला- मैं जा रहा हूँ … आप दरवाजा बंद कर लो.ब्रा न होने के कारण उसकी चूचियों के दाने भी ऊपर आकर बता रहे थे कि वो किसी की चुटकी में आकर दबने के लिए तैयार हैं.

बढ़िया दूध - स्कूली लड़कियों का बीएफ

दिन भर घूमने के बाद हम दोनों शाम को वापस घर जा रहे थे, तो मैडम ने कहा- चलो आज मेरे घर चलते हैं.अब दरवाजे के पहुंचते ही मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया और जैसे ही दरवाजा खोला, अन्दर का नजारा देख कर मेरी आंखें खुली की खुली रह गईं.

मैं डर गई तो साहब ने कहा- घबराओ मत … पहली बार चूत में लंड जाने पर थोड़ा सा खून निकल आता है. स्कूली लड़कियों का बीएफ जैसे ही मेरा हाथ उसकी चूत पर गया तो मानो उसको करंट लग गया हो, वह उछल गयी और मुझसे लिपट गई।मैंने देर न करते हुए उसकी पेन्टी भी उतार दी और उसकी चूत को अपने हाथ से रगड़ने लगा, वह मदहोश हुए जा रही थी।फिर मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और आ गया उसके ऊपर!मैंने अपने लण्ड पर कंडोम चढ़ाया, उससे पूछा- डाल दूँ?तो वो कहने लगी- देर मत लगाओ … बस जल्दी से डाल दो.

जबरदस्ती ही सही, पर मुझे लगने लगा कि उसने मुझे अपने वश में कर लिया था.

स्कूली लड़कियों का बीएफ?

मैंने उसकी खुली हुई चूत में जीभ डाल दी और तेजी से जीभ को अंदर बाहर करने लगा. तभी मेरे दोस्त आयुष ने मुझे रोकते हुए कहा- तारीफ़ ही करता रहेगा या फिर कम्प्यूटर भी सही करेगा?मैंने कहा- यार, कम्प्यूटर ही तो सही करने आया हूं. वो कराहते हुए बोली- मैं उठ भी नहीं सकती … तो चलने की तो दूर की बात है.

हालांकि वो मेरे पड़ोस वाले भैया की बीवी होने के कारण मेरी भाभी लगती थी. विभोर के घर के लोग मुझे बहुत पसंद करते है और विभोर की मम्मी, जिनको मैं मामी बोलती हूँ, वो तो मुझसे बहुत खुलकर बात करती हैं. जब भी मामी ने बुलाया, मैं मामी के घर गया और मामी को चोदा पूरे मजे से!तो दोस्तो, इस तरह से मैंने अपनी चुदक्कड़ मामी को चोदा, उनकी चूत की सफाई और चुदाई दोनों ही कर डाली.

फिर एक दिन मैंने नहाने के तुरंत बाद देखा कि मेरी ब्रा पर मेरे भाई का वीर्य लगा हुआ था. तेल लगा होने की वजह से उसका समूचा लंड एकता की चूत में गहराई तक घुस गया और उसके मुंह से महा उत्तेजक चीख निकली- उम्म्ह… अहह… हय… याह…लेकिन साफ पता पड़ रहा था कि उसे जन्नत मिल गई थी. करीब दस मिनट बाद मैंने उसको धीरे से उसके कान में बोला कि तुम ढक्कन उतार दो रानी … अब खेल शुरू करते हैं.

अभी मम्मी और बुआ गई नहीं थीं, वे लोग जाने वाली थीं, इसलिए हम दोनों को उनके चले जाने तक का इन्तजार करना बाकी था. चाची की गांड फट गई, लेकिन तेल की कटोरी से तेल टपका टपका कर मैंने चाची की गांड को खूब मजे से मारा और उनकी गांड में ही झड़ गया.

मुझे अंधेरे में कुछ दिखाई तो नहीं पड़ रहा था लेकिन उसके गोरे बदन के बीच में एक काला एरिया देख कर पता लग रहा था कि उसकी चूत यहीं पर है.

लंड घुसते ही उसकी जोरदार चीख निकल गई … पर मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उसकी चीख दबा दी.

मैंने पूछा- कहां लग गई?वो बोली- वो मेरी ऐसी जगह पर लग गई है कि मैं आपको बता ही नहीं सकती. पर मुझे नहीं पता कि क्यों … मेरे अंदर आज बहुत ज्यादा सेक्स के बारे में विचार आ रहे थे. मेरी जांघें इतनी फैल गयी थीं कि सुरेश के बीच में आने के बाद भी काफी जगह थी.

मौसी ने मुझसे कहा- चल तुझे दिखाती हूँ कि तेरी बीवी की चुदाई कैसे होगी. दो मिनट तक वो दोनों वहीं सोफे पर पड़े रहे और उसके बाद दीदी ने उसको उठने के लिए कहा. नीचे लेगिंग्स जो हमेशा से मेरी कमज़ोरी है क्योंकि हर हसीन कुतिया लेगिंग्स में बम लगती है.

आप मुझे मेरी ईमेल आईडी पर मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी फ्री हिंदी चुदाई कहानिया कैसी लगी.

अब डाल दो प्लीज…मैंने उसकी टांगों फैला कर उसकी बुर की फांकों में लंड घिसा, तो वो और भी ज्यादा मचल गई. कई बार तो मैंने उसके हाथ को अपने तने हुए लंड पर लगाने की कोशिश की लेकिन मैं कामयाब नहीं हो पाया. मैं अब झड़ने लगी थी और चाहती थी कि इसी समय सुरेश जोर जोर के धक्के मारे … पर उसके न मारने की वजह से खुद चूतड़ों को उछाल रही थी.

क्योंकि मैंने सोचा भी नहीं था कि मैं उन तीनों को चोदने वाला हूं … और न ही तब मेरा कोई गलत इरादा था. माँ ने बिना कुछ कहे ही अपना बदन मुझसे खुल कर रगड़वाना चालू कर दिया था. मैंने कहा- भाभी आप तो बिल्कुल हीरोइन लग रही हो इन कपड़ों में।भाभी बोली- हां, मम्मी पापा घर पर नहीं है तो इसलिए पहन लिया मैंने.

एक एक कड़ियां खुद जोड़ने लगी, क्यों मैं सरस्वती और सुरेश पर ज्यादा ध्यान देती थी, क्यों विमला से उनके बारे में सुनना चाहती थी, क्यों एक समय के बाद मुझे सरस्वती से जलन सी होने लगी थी.

लंड अंदर नहीं गया तो साहब ने पास ही पड़ी क्रीम उठाई और अपने लंड पर लगाने लगे. पर मेरी किस्मत इतनी खराब थी या पता नहीं मुझे किस मोड़ पर ले जाना चाहती थी कि क्या बोलूं.

स्कूली लड़कियों का बीएफ मगर मैं जो कहानी आप लोगों को बताने जा रहा हूं वो किसी अन्जान की नहीं बल्कि मेरी ही भाभी की कहानी है. इतना सुनते ही भाभी रोने लगी कि ये सब बातें बाहर किसी को भी नहीं बताना … नहीं तो मेरी बहुत बदनामी होगी.

स्कूली लड़कियों का बीएफ मेरे प्यारे दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्ते, मेरा नाम दीपू वर्मा है। मेरी उम्र 28 वर्ष है और मेरी लंबाई 5 फीट 10 इंच है. तभी अनिल ने अपनी बाइक साइड में खड़ा की और कहा- जब तक मैं तुम्हारी मॉम को चोद ना लूं … तब तक आना मत मेरे भाई … हो सकता है कि जब मैं तुम्हारी मॉम की चुदाई करूं तो तुमको बुरा लगे.

आखिर मैं समझ गया कि वो अब मना नहीं करेगी, तो मैंने समीज उतारनी शुरू की.

लड़की सेक्सी कुत्ता

चूंकि अब पेंटी और ब्रा उतारने में समय की पाबंदी नहीं थी इसलिए वह सब कुछ आहिस्ता कर रही थी. उसने मोनिषा आंटी को बेड पर लिटा दिया और उनके ऊपर जाकर किस करने लगा. वो अपने दोनों हाथों से मामी के स्तनों को दबाने लगे और उनका लंड मामी की जांघों के बीच में घुसने की कोशिश करने लगा.

दो मिनट तक गांड चाटी और फिर उनकी गांड मारने के लिए मैंने आंटी को घोड़ी बना दिया. मेरी बीवी के गुलाबी रंग के निप्पलों को अपने मुंह में लेकर उनको ऐसे पीने लगा जैसे वो कोई नवजात हो. मेरे प्यारे दोस्तो, मेरा नाम बबलू है और मैं दिल्ली में रहता हूं। हमारे घर में मेरे मम्मा-पापा और भैया भाभी रहते हैं। मैं अभी फाइनल ईयर में हूं.

तो मैंने क्या किया?मैं जानू शर्मा आज आपके सामने अपनी एक सच्ची चोदने की कहानी बताने जा रहा हूँ.

मैं कभी कभी उसके लाल होंठ भी चूम लिया करता था और कभी कभी उसकी छातियां भी मसल दिया करता था. चुदाई के अंतिम बिंदु पर आकर मिहिर ने उर्वशी की चूत में चार धक्के इतने दमदार मारे कि उर्वशी चीखते हुए अपना पानी मिहिर के लंड की तरफ फेंकने लगी. मैंने उससे पूछा- कितने वक़्त से जिम आ रही हो … तुम्हारी बॉडी में काफ़ी इम्प्रूवमेंट लग रहा है.

उसकी चुचियों को ब्रा में से ही रगड़ने के कारण वे एकदम लाल हो गयी थीं. मैं बोला- मैं बहुत नसीब वाला हूँ कि आज इतनी खूबसूरत भाभी मेरी बांहों में है. उसके बाद उसने दोबारा से खुद ही मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत के छेद पर रख दिया.

मॉम के लंड चूसने से मेरा लंड मोटा हो गया और एकदम चुत चुदाई की हालत में फनफनाने लगा. मेरी फूफी की बेटी न्यूज रिपोर्टर है और वो मेरे साथ किराये के मकान रहती हैं.

वो चिल्ला पड़ी, परंतु मैंने उसके मुँह को अपने हाथ से दबा दिया … ताकि चीख बाहर ना जाए. जिस तरह के मैसेज और फोटो मैंने देखे, उनसे साफ़ पता चल रहा था कि भाभी का उस फ्रेंड के साथ चक्कर चल रहा था. मैंने फोन से पूछा, तो वो बोली- लास्ट डे है … सबको खुश करके जाना चाहती हूँ.

मेरा हॉस्टल वसई में था था लेकिन मेरी क्लासेस और ऑफिस कुर्ला में था। मुंबई के लड़के लड़कियां बहुत ही एडवांस थे उनके लिए सेक्स जैसी चीजें और बातें करना बहुत ही नॉर्मल थी।मैं दिखने में ठीक-ठाक हूँ, मेरी हाइट 5 फुट 1 इंच और बूब्स दिखने में साधारण हैं। लेकिन मेरी गांड थोड़ी मोटी है जिससे किसी का भी खड़ा हो जाए.

शायद इसका कारण ये था कि मम्मी और बुआ के बाजार चले जाने के बाद रंजन और मैं, हम दोनों लोग ही घर में अकेले रह जाने वाले थे. उसकी गांड ने हरकत करनी शुरू कर दी थी और मैंने भी लंड को आगे पीछे करना चालू कर दिया था. मैं उनके मम्मों को चूसने लगा और चाची के एक दूध के निप्पल को अपने होंठों के बीच दबा कर कुछ मिनट तक चूसता रहा.

फिर मैंने उसके पूरे शरीर को चाटना शुरू कर दिया, जिससे रोनिता फिर से गर्म हो गयी. चूंकि मैं उससे पहले मिला नहीं था, इसलिए आज उसके ऊपर पूरा इम्प्रैशन जमाना चाहता था.

नेहा दीदी की चुदाई से मुझे भी कोई फर्क नहीं पड़ता था … क्योंकि दीदी सोमेश भैया की गर्लफ्रेंड बन गई थी. उसने दीदी को जबरदस्ती नंगी कर दिया और दीदी हंसते हुए उससे खुद को छुड़ाने की कोशिश करने लगीं, लेकिन जैसे ही पठान दीदी के मम्मों पर अपना मुँह रख कर चाटने लगा, वैसे ही दीदी ढीली पड़ गईं और कामुक सिसकारियां लेने लगीं. हुआ यूं कि मैं जिम खत्म करके बाहर निकला, तो मेरे जिम में ही वर्क आउट करने वाली एक लड़की अपनी कार के पास खड़ी होकर फोन पर बात कर रही थी.

सेक्सी कहानी बहन भाई

मुझे जरूरी काम से मार्केट जाना है, जब तक मैं आ न जाऊं, तुम इसके पास ही रहना.

थोड़ी देर तक ऐसे ही करने के बाद फिर वो बोली- मेरे टाँग दर्द कर रही है. इसी वजह से मैंने सुरेश को कहा कि वो बिस्तर पर लेट जाए और वो लेट गया. रूम में सिर्फ मैं और माँ ही थे, तो मैंने अपना लंड अपने लोअर से निकाल लिया और माँ की साड़ी को ऊपर करने लगा.

तभी मोसी ने मुझे फोन किया और अपने घर में अकेले होने का बहाना बनाकर अपने यहां सोने के लिए बुलाया।मैं झट से उनके घर पहुंच गया।हम साथ में खाना खाने के लिए बैठ गए। मोसी ने नाइटी पहन रखी थी. करीब दस मिनट तक मैंने उसकी चूत को चोदा और फिर जब मेरा माल निकलने को हुआ तो मैंने उसकी चूत से अपना लंड बाहर निकाल लिया और उसके मुंह में दे दिया. एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बांग्लाभाभी के मुंह से सिसकारियां निकल रही थीं और वो बार-बार अपनी टांगों को मेरी गर्दन पर लपेट रही थी.

मैंने बात का मर्म समझते हुए कहा- ठीक है … पर आप भी किसी को कुछ नहीं बताना. उसकी चूत से निकलते पानी से मेरे लंड की ठोकर लगतीं, तो एक मधुर आवाज़ आने लगती ‘फ़च्छफ़च फ़चफच.

फिर दूर सामने अचानक से बिजली कड़की और मैडम एकदम से डर कर मुझसे चिपक गई. इसलिए हरामखोर को सॉफ्टवेयर वाली सीडी लाने के लिए बाजार जाना ही पड़ा. उसको हाथ में भींच कर उसका माप लेते हुए बोली- तुम्हारा बेलन तो वाकई कड़क है.

थोड़ी देर बाद वो नार्मल हो गयी और मैंने लंड को आगे पीछे करना शुरू कर दिया. मौके की नजाकत को समझते हुए मैंने चूत की गहराइयों में लंड को उतारने का फ़ैसला कर लिया. मैं अब झड़ने लगी थी और चाहती थी कि इसी समय सुरेश जोर जोर के धक्के मारे … पर उसके न मारने की वजह से खुद चूतड़ों को उछाल रही थी.

जैसे ही कजरी वहां तक पहुंची, मैं वहां से दूर हट गया और देखने लगा कि वो फोटोज को देख कर क्या करती है.

उर्वशी ने मिहिर को देख कर एक प्यारी सी स्माइल दी और उसे अंदर आने के लिए कहा. मैं अपने घर चला गया, लेकिन मैं घर जाने के बाद अपने रूम में यही सोचता रहा कि ये सब क्या था.

उसके बाद मैंने अपने पर्स से मैनफोर्स का चॉकलेट फ्लेवर वाला कंडोम निकाल कर रखा. मैंने भाभी की चूचियों को ब्रा पर से ही रगड़ना और चूसना शुरू कर दिया. एक बार बहाने से मैंने चाची को गर्म कर दिया और …मेरा नाम आर्यन है और मैं बिहार के जमुई जिले के पास में झाझा का रहने वाला हूं.

साफ़ दिख रहा था कि चाची ने अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी, पर पेंटी का मालूम नहीं चल रहा था कि पहनी है या नहीं. आपको लंड का रस इतना अच्छा लगता है, तो आपके लिए संजय के लंड के रस का इंतजाम भी हो जाएगा. दस मिनट तक उसकी चूत को चोदा और फिर जब मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने एकदम से लंड को बाहर खींच लिया.

स्कूली लड़कियों का बीएफ इस बार हमारी चुदाई का राउंड 35 मिनट तक चला और मैंने उसकी चूत को रगड़ दिया. सरस्वती ने मुझसे पूछा- दोबारा कब मिलोगी?मैंने बताया- हां आज रात को मिलूंगी.

बिहार के सेक्सी ब्लू

पापा काम से बाहर गये हुए थे और मां किसी रिश्तेदार के यहां पर गई हुई थी. मैं आंखें बंद कर वैसे ही लेटी रही और थोड़ी ही देर बाद वह स्पर्श और नीचे चला गया, बिल्कुल पैंटी के इलास्टिक के पास. मैंने खुद उसके लंड को पकड़ कर अपने मुँह की तरफ खींचा तो उसने मेरे मुँह में अपना लंड डाल दिया.

मेरी जीभ आशिमा की जीभ से लार खींच कर मेरे मुंह में ला रही थी और मेरी लार को आशिमा की जीभ उसके मुंह में लेकर जा रही थी. मेरा मन कर रहा था कि जाकर उसको आइ लव यू बोल दूं लेकिन मेरी हिम्मत नहीं हुई. सेक्सी चोदी चोदा वीडियो मेंफिर उसने मुझे बिठाया और मेरे दुपट्टे को अलग किया, फिर उसने मेरी पीठ की तरफ से किस किया.

आंखें एकदम नशीली थीं, रंग गोरा और कमर तो माशाअल्लाह गजब थिरक रही थी.

मिहिर ने एक अच्छे मेहमान की तरह आगे बढ़ कर उर्वशी की जीभ को लपक लिया, मानो दोनों ही एक दूसरे के अंदर समा जाना चाहते हों. थोड़ी देर बाद मैं फिर से उनके घर आया और संयोग से ऐसी जगह खड़ा था, जहां से बाथरूम का नजारा साफ दिखाई दे रहा था.

मेरे सामने एक डबल रोटी जैसी फूली हुई चूत थी और कमाल की बात तो यह थी कि आज उस पर एक भी बाल नहीं था. वो बोली- तो फिर उसके बाद कोई दूसरी नहीं मिली?मैंने कहा- नहीं, अभी तक तो नहीं मिली. अपने लंड के टोपे को मेरी चूत में घुसा कर वो मेरे होंठों को पीने लगा तो मुझे आराम मिला.

तो वो कहने लगी- अब फिर कभी कर लेना, अब तो यह तुम्हारी ही है।मैंने उसको अपने हाथों से कपड़े पहनाये और उसको भेज दिया।दोस्तो, यह थी मेरी गर्लफ्रैंड की सील तोड़ चुदाई! उम्मीद है आपको चुत की कहानी पसंद आई होगी.

चुदास से भरते हुए मैं उनकी साड़ी हटा कर अपने एक हाथ से उनके चुचे को प्रेस करने लगा. वो बोली- हां, आज इसकी सारी खुजली मिटा दो यार… आह्ह … चोदो, और जोर से चोदो … अपने चाचा की जवान बेटी की चुदाई करो!मैं तेजी से उसकी बुर को चोदने लगा. फिर मैंने चूमते हुए उनके गाउन को निकाल फेंका औऱ दोनों मम्मों को ब्रा से आज़ाद कर दिया.

मौसी की बीएफ हिंदीउस रात मैंने उसको इतना रगड़ कर चोदा था कि जब हम सुबह उठे, तो मेरा लंड भी दर्द कर रहा था. मेरे बेटे को मुझसे बहुत डर लगता है क्योंकि जब मैं गुस्सा हो जाती हूं तो गंदी गालियां देती हूं.

தமிழ் sxe

कमाल की बात ये थी कि इस बार मेरे इंग्लिश में और भी ज्यादा अच्छे नंबर आए थे. दस्तूर नीचे लेटी हुई ‘आअहहा आअहह फक मी फक मी फक मी…’ बोले जा रही थी. ये सुन कर मुझे बहुत बुरा लगा, इसलिए मैंने उससे कहा- जब हम लोग एक ही शहर में रहते हैं, तो जब मन हो … खाना खाने आ जाया करे.

दोस्तो, आपको मेरी चूत की चुदाई स्टोरी में मजा आया हो तो मुझे मैसेज करना और स्टोरी पर कमेंट करके बताना कि स्टोरी में कहीं कोई गलती न हो गई हो. फिर उसने मुझे समझाया कि तेरी सील टूट गई है … अब तू मजे लेने के लिए खुल गई है. हालांकि मैं इस मामले में थोड़ी भाग्यशाली हूँ और मेरी कुछ महिला मित्र भी कि हमने जिनके साथ भी संभोग किया, उन्होंने हमारे चरम सुख प्राप्ति को बराबर समझा.

इन सब घरेलू औरतों को एक खिलौना मिल गया था मंगल के रूप में!और जॉयश ने सही कहा था कि असली मजा पूरी तरह निर्वस्त्र होकर आ रहा था. उसके होंठों के … और जीभ के स्पर्श से मेरे बदन में सनसनी फैल गई और मेरे हाथ अपने आप ही उसके सर को पकड़ कर अपने गुप्तांगों पर दबाने लगे. वो कराहते हुए बोली- मैं उठ भी नहीं सकती … तो चलने की तो दूर की बात है.

कुछ दिन बाद सुनील की शादी हो गयी, पर हफ्ते में एक दो दिन वह मेरे साथ जरूर बिताता. भाभी एकदम से बोलीं- यह तुम क्या बोल रहे हो, होश में तो हो ना?मैं बोला- आपने ही तो बोला था, जो तू बोलेगा … मैं करूंगी, तो अब क्या हुआ?वो बोलीं- तू और कुछ मांग ले … मैं यह नहीं कर सकती … ये गलत है.

जब वो चलती थीं, तो उनकी मटकती गांड देख कर मेरा आठ इंच का लंड एकदम सिग्नल सा खड़ा हो जाता था.

अगर किसी पड़ोसी को पता लग जाता तो दोनों की ही बदनामी थी क्योंकि मेरे पिता जी भी बहुत सख्त आदमी हैं. बफ हिंदी देसीरंजन ने मेरी चूचियों को चूसने के बाद मेरे नीचे की तरफ सरकना शुरू किया. এক্স এক্স এক্স ফুল ভিডিওमैंने अपना हाथ छुड़वाया और उसे अपनी जीन्स की जिप खोल कर लंड निकाल कर पकड़ा दिया. रूपेश पाल की एक हॉट मूवी फिल्म ‘कामसूत्र 3डी’ में भी शर्लिन ने काम किया था लेकिन वो फिल्म कभी परदे पर नहीं आयी।शर्लिन भले ही फिल्मों में काम करके अपनी पहचान न बना पाई हों, लेकिन ‘प्लेब्वॉय’ मैगजीन के लिए न्यूड फोटोशूट और विवादित ट्वीट्स से काफी शोहरत बटोर चुकी हैं। शर्लिन पहली भारतीय थी जो 2012 में न्यूड पत्रिका प्लेबॉय के कवर पेज पर आयी थी.

उसके परिवार में उसके अम्मी अब्बू और उसकी 21 साल की बहन ज़रीना रहती थी.

मैं भी पहली बार के संभोग से काफी थक गई थी और अगर दूसरी बार किया, तो और अधिक थकान होगी. मेरी यह भाई से चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी इसके बारे में कमेंट करके मुझे बतायें. हम लोग दुकान से वापस निकल कर कार की तरफ आये तो मैडम को एक आइसक्रीम वाला दिख गया.

और फिर इसके कुछ महीनों बाद पढ़ाई के कारण मैंने वो शहर ही छोड़ दिया। फोन पर हमारा सम्पर्क बना रहा लेकिन धीरे धीरे हमारी बातचीत कम होती गयी. मुझे अपने लंड पर भरोसा था कि आज इन दोनों की बुर का भोसड़ा बना कर ही दम लेगा. काम वाली कुछ देर के बाद मेरे घर काम करने आई तो वो काम करके चली गयी.

न्यू सेक्सी एचडी में

लेकिन इसी बीच मेरे पति को शक होने लगा था कि मैं उनके जाने के बाद किसी से बात करती हूँ. मैंने ध्यान से देखा कि लड़की की उम्र 22-23 साल की होगी और लड़के की उम्र यही कोई 28 साल की रही होगी. उन्होंने मेरी निक्कर के नीचे से हाथ डाला और मेरे लंड के पास की मालिश करने लगीं.

मैंने आयल लिया और उसकी गांड में उंगली डाल कर उसकी पूरी गांड तेल से तर कर दी.

‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह … आई … याह …’करते हुए वो चूचे दबवाने का मजा ले रही थी.

फिर मैंने ज्योति की चूत का रस अपने लंड पर लगाया … ज्योति मेरे लंड को देख कर घबरा गयी और बोली कि आह … इतने बड़े लंड से तो मैं मर ही जाऊँगी. फिर एक ही बार में उसे अपने मुँह में भर कर फिर से चूसने लगी कि जैसे वो मेरे लंड को पूरा का पूरा निगल जाएगी. स्कूल गर्ल्स बीएफ हिंदीपायल को मैंने बेड पर गिरा लिया और उसकी टांगों को उठा लिया उसकी चूत में लंड को लगा दिया और उसके ऊपर दबाव बनाने लगा.

मैंने अब भी कुछ नहीं किया, तो चाची ने नीचे से गांड हिलाई और कहा- अब चोद बे … ऐसे ही डाले पड़ा रहेगा क्या?मैं धीरे धीरे से चूत में धक्के देने लगा. उसने धक्के मारते हुए मुझे अपनी तरफ खींचना और सही जगह पर लाने की कोशिश करनी शुरू कर दी. असल में वो ही तुमको फोन करतीं लेकिन पता नहीं क्यों उनके फोन से शायद तुम्हारे फोन पर बातचीत नहीं हो रही होगी। तभी उन्होंने मुझे कहा कि मैं तुम्हें बोल दूँ.

क्या ग़ज़ब चूत थी एकदम गोरी चिकनी और अंदर से गुलाबी! मैंने सीधे उसको चूसना चालू कर दिया, वो और गांड उठा उठा कर मेरे मुँह में अपनी चूत दबाने लगी. वो कह रही थी- उम्म्ह … अहह … हय … ओह … सरर्र… आह्ह … आज तो मेरी चूत को फाड़ ही दो.

यह बात तब की है जब मेरी भाभी सुलु दूसरी बार अपनी ससुराल यानि कि हमारे घर पर आई थी.

स्स्स … उसके हाथ के इस तरह से मेरे लंड की बगल में रखे जाने से मेरे अंदर हवस जागने लगी. उसने मोनिषा आंटी को बेड पर लिटा दिया और उनके ऊपर जाकर किस करने लगा. फिर मामी बोली- वैसे इतनी रात को मुझ बुढ़िया को याद किसलिए कर रहे थे तुम?मैंने कहा- अरे मामी, अमरूद जितना पका हुआ हो उसका मिठास उतना ही ज्यादा होता है.

चुदाई वाली ब्लू फिल्म हिंदी में उसने पलट कर पीछे मेरी तरफ देखा और कहा- पूरी रात पड़ी है … अभी पहले नहा कर फ्रेश हो जाओ. मेरी इस देसी हिंदी सेक्स स्टोरी के अगले भाग में भाभी की चुदाई की कहानी को पूरे विस्तार से लिखूँगा.

उनकी 38 के साइज के चूचियां जब मेरे सीने से आकर सटीं तो पूरे बदन में एक करंट सा दौड़ गया था. भाभी चुत चुदवाते हुए कहने लगीं- तुम्हारे भईया ने खुद मेरी बुर का भर्ता बना दिया था. उसने नेहा को एक कसरत करने वाली बेंच पर दोनों तरफ टांगें करके लिटा दिया और खुद उसके ऊपर चुदाई की पोजीशन में आ गया.

दीप्ति सेक्सी

इस मामी सेक्स स्टोरी हिंदी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी चाची की भाभी यानि मेरी मामी को चोदा. और अब तो हम देवर भाभी जब चाहे सेक्स कर लेते हैं।आपको देवर भाभी की चुदाई की यह कहानी कैसी लगी? आप मुझे बताएं. मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया उसने फ्राक पहना था और शॉर्ट्स का हुक खोल दिया था.

कल्लू मम्मी के पास आ गया था और उसने अपने होंठ माँ के होंठों से जोड़ दिए थे. क्या ये मेरी पाव रोटी को अच्छी तरह बेल पायेगा?मैंने कहा- एक बार अपनी पाव रोटी के दर्शन तो करवाओ.

रूपेश पाल की एक हॉट मूवी फिल्म ‘कामसूत्र 3डी’ में भी शर्लिन ने काम किया था लेकिन वो फिल्म कभी परदे पर नहीं आयी।शर्लिन भले ही फिल्मों में काम करके अपनी पहचान न बना पाई हों, लेकिन ‘प्लेब्वॉय’ मैगजीन के लिए न्यूड फोटोशूट और विवादित ट्वीट्स से काफी शोहरत बटोर चुकी हैं। शर्लिन पहली भारतीय थी जो 2012 में न्यूड पत्रिका प्लेबॉय के कवर पेज पर आयी थी.

मैं बोला- सोच लो भाभी, मैं अपनी दोस्तों के साथ बहुत मस्करी करता हूं. मैं उनके एक चूचे को चचोरने लगा और धक्का मारते हुए मैंने बुआ की चुत को अपने पानी से भर दिया. दोस्तो, आपको मेरी चूत की चुदाई स्टोरी में मजा आया हो तो मुझे मैसेज करना और स्टोरी पर कमेंट करके बताना कि स्टोरी में कहीं कोई गलती न हो गई हो.

वहीं दूसरी तरफ से मेरा ब्लाउज फट कर एक स्तन का हिस्सा उसी के हाथ में रह गया. ठीक वैसे ही आकार का लम्बा और मस्त मोटा मलंग किस्म का मेरा लंड फुंफकार मारने लगा था. और उसने एम टी वी स्पिलटविला के सीजन 6 को होस्ट किया था।शर्लिन चोपड़ा ने सरेआम मीडिया के सामने स्वीकार किया है कि वह बॉलीवुड में कास्टिंग काउच का शिकार बनी थी। उसने माना था कि उसे फ़िल्में लेने के लिए सम्बंधित लोगों के बिस्तर गर्म करने पड़े हैं.

फिर जैसे ही मैंने अपना हाथ उनके निप्पल तक किए, माँ ने कहा- बस अब रहने दे.

स्कूली लड़कियों का बीएफ: मैंने बेडरूम का दरवाजा बंद नहीं किया, यूं ही खुले में उनकी चुदाई का मूड बना लिया था. मेरी शादी से पहले भी मेरे कई ब्वॉयफ्रेंड थे इसलिए मैं रोज किसी ना किसी के साथ सेक्स कर लेती थी.

फिर जब अगला स्टेशन आया तो अंदर से निकल रहे यात्री दरवाजे में आकर फंस गये जिससे कि मेरा बदन ऊषा के जिस्म से बिल्कुल चिपक ही गया. उससे कहा गया कि आज से 3 महीने के लिए शरीफजादियों वाले कपड़े पहनना भूल जा. अगली सुबह उठ कर मेरी पत्नी उर्वशी ने स्लीवलेस ब्लाउज पहन लिया और उस पर काले रंग की साड़ी पहन ली.

उससे अब रुका नहीं जा रहा था, क्योंकि वो पूरी तरह से उत्तेजित हो चुकी थी.

सोनू को पढ़ाने के बारे में सोचते ही मेरा मन उसके सेक्सी बदन के सपने देखने लगा और मैंने तुरंत हां कर दी. ये बात सुनकर मैंने खुशी से भाभी की चूची जोर से दबा दी तो भाभी ने कहा- जाओ अपनी चालू मॉम शालिनी रंडी की चूची दबाना … उसके कुछ ज्यादा ही बड़े हैं. काफी देर चूसने के बाद जब वो थक गयी तो उसने लंड अपने मुंह से बाहर निकाल दिया.