इंसान और कुत्ता का बीएफ

छवि स्रोत,मधु हीरोइन का बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगा नृत्य: इंसान और कुत्ता का बीएफ, तो दोस्तो ये थी मेरी रियल सेक्स कहानी, इसमें एक रत्ती भर भी झूठ नहीं है … हां थोड़ा मिर्च मसाला भरा है.

प्योर देसी बीएफ

नेहा के जिस्म को चूमते हुए मैंने देखा कि वो आँखें बन्द कर सिसकारियां ले रही थी जिन्हें देख मैं भी उतेजित हो रहा था. इंग्लिश बीएफ वीडियो में दिखाएंमेरे हर शॉट पर चाची आगे से अपना सिर उठाती और कमर को नीचे की तरफ झुकाने लगती.

गगन अपनी मां को चोदते हुए अलग हुआ और उसने नगर की एक मस्त लड़की को उठा कर प्रिया को दिखाया. हिंदी बीएफ पिक्चर पंजाबीभाभी के मुँह से इतनी खुली और गंदी बातें सुन कर मैं एकदम से शॉक्ड रह गया और सोचने लगा कि यह वही भाभी है, जो साली देखने में कितनी भोली और मासूम दिखती थी.

चाची ने एकदम मुझे पीछे धकाते हुए अपने फोल्डिंग बेड पर जाने का इशारा किया.इंसान और कुत्ता का बीएफ: भाभी की लगातार सीत्कार निकल रही थी- आह आह … मारो धक्के … बहुत मजा आ रहा है.

इस समय नीतू शून्य की तरह स्थिर थी तो रूपाली ने पहल करने की सोची।रूपाली नीतू के बदन को हल्के हाथों से सहला और दबा रही थी।फिर रूपाली ने धीरे से नीतू की गर्दन को चाट लिया; पहले एक बार, फिर दूसरी बार, फिर तीसरी.मैं पहले दिन शाम को सारा स्टाफ जाने के बाद ऑफिस की अलमारी से 3 छोटे-बड़े साइज की यूनिफॉर्म ऑफिस की अलमारी से निकालकर अपने रूम में ले आया था.

सनी का बीएफ वीडियो - इंसान और कुत्ता का बीएफ

फिर रात को जब सब सोने जा रहे थे तो अवनि ने मुझे एक पर्ची पकड़ा दी, जिसमें उसका नंबर और 20 मिनट बाद कॉल करने के लिए लिखा था.मैं जानता हूँ कि तुम भी रूपाली की तरह परिवार की इज्जत की वजह से कुछ कह नहीं सकती.

आप मेरी मेल आईडी पर मेल और कमेंट्स जरूर करें और बताएं कि यह फ्रेंड मॉम सेक्स कहानी आपको कैसे लगी?[emailprotected]फ्रेंड मॉम सेक्स कहानी जारी रहेगी. इंसान और कुत्ता का बीएफ फिल्म खत्म हुई, हमने रेस्टोरेंट में खाया पिया और मैंने उसको चौराहे पर ड्राप करने को कहा.

उन्होंने अपना हाथ नीचे ले जाकर मेरे लंड पर हाथ रखकर उसकी चमड़ी को पीछे की, तो मुझे बहुत शर्म आने लगी.

इंसान और कुत्ता का बीएफ?

कॉलेज गर्ल Xxx कहानी में पढ़ें कि एक लड़की अपनी अन्तर्वासना को ठंडी करने के लिए क्या क्या कर रही है. मैंने उसकी मैक्सी ऊपर करके उसे नंगी कर दिया और 69 में लिटा कर उसकी चूत को अपने कब्जे में ले लिया. एक दिन तो वो अपनी क़ातिलाना नजरों से आंख मारती हुई बोली- यार, कभी मेरी भी वैक्सिंग कर दो न … हमने कौन सा तुम्हारा कुछ बिगाड़ा है.

मैंने एक रफ जींस ओर गहरे गले वाला टॉप पहना था जिसमें से मेरी क्लीवेज साफ़ दिख रही थी. तो वह वैसलीन लेकर आए और उन्होंने मेरी गांड में उंगली की मदद से ढेर सारी वैसलीन मल दी. तभी उसने अपनी ब्रा निकाल दी और मेरे सिर को अपने मम्मों के क्लीवेज के घुसेड़ दिया.

कुछ दिनों के बाद मेरे हस्बैंड ने मुझसे कहा- मैं मां को साथ ले जाकर अपनी बहन के यहां हो आता हूं. बस यही देखते और सोचते सोचते पूरा महीना बीत गया लेकिन मेरे दिमाग से वो निकल नहीं पा रही थी. वो बोली- क्यों?मैंने कहा- आप हो ही इतनी खूबसूरत कि कोई कैसे छोड़ सकता है!वो कुछ नशीले अंदाज में बोली- आपको क्या अच्छा लगा मेरे में?मैंने उसकी तरफ देखते हुए कहा कि आप तो हद से ज्यादा खूबसूरत हो.

आपका प्रकाश[emailprotected]X गर्लफ्रेंड सेक्स स्टोरी का अगला भाग:दो गर्लफ्रेंडज़ के साथ उनकी सहेली भी चुदी- 2. अगर आप लोग भी गांड मारने के शौकीन हैं तो ग्लिसरीन लगाकर गांड मारें … आपकी बीवी या जीएफ को दर्द कम होगा.

बस इतना बोलकर वो अपने दोनों हाथ के अंगूठे से मेरी बांह को मसलने लगे और बोले- अरुणिमा … तुम कितनी बड़ी हो गयी हो.

सारा बेड चरमराने लगा था और मेरी जांघों की थाप चाची के चूतड़ों पर बहुत तेज आवाज कर रही थी.

आंटी गांड उठाते हुए बोलीं- मैं तो तुझे बच्चा समझ रही थी, पर तू तो सच में बड़ा मादरचोद निकला … आह साले चोद अपनी आंटी को चोद हरामजादे … अन्दर तक पेल. फिर कुछ दिन में उसके देवर जी अपनी बीवी को लेकर चले गए … वो आर्मी में थे. धारा ने लंड की चमड़ी को खोलते बंद करते हुए मुठ मारने के जैसे दो चार बार हिलाया।फिर सुपारे को चमड़ी से पूरी तरह बाहर निकाल कर अपनी जीभ से पूरे सुपारे को चाटना शुरू किया.

अपनी जीभ को मेरे मुँह में डाल कर जीभ से मेरे मुँह की चुदाई करने लगे. मैं बोलना चाहती थी- मुझे चोदो!मेरी बेटी के यार के लंड से मेरी चुदाई आपको कैसी लगी?आप मुझे मेल करना न भूलें. मैंने लाइट में चाची के गोरे नंगे बदन को देखा तो मेरा लौड़ा फिर से तिलमिलाने लगा.

इससे पहले कई चूतें मेरे लौड़े को मिली थीं मगर भाभी को चोदने के लिए मेरा एक जुनून और सपना था, जिस वजह से मैं कुछ ख़ास सावधानी बरत रहा था.

मैं दारू पीता तो था, मगर अंकल के सामने मुझे कुछ लिहाज याद आने लगा तो मैंने मना कर दिया. मैं उस लड़की को देखे जा रहा था तथा अब वो लड़की भी मुझे कभी कभार देख लेती थी. उसमें एक लड़का, एक लड़की की चूत में लंड डालकर जोर जोर से धक्के दे रहा था और वो लड़की जोर जोर से चिल्ला रही थी.

तू यहाँ क्या कर रही है?मैंने बोला- अरे, मेरे फोन की बैटरी डाउन हो गयी तो चार्जिंग पे लगाने आई थी।भाभी ने बोला- मेरी ब्लाउज़ की डोरी बांध दियो. ऐसे किसी को पता चल गया तो लोग क्या सोचेंगे हमारे बारे में?तभी मैंने उससे पूछा- और कहीं ऐसी जगह हो जहां कोई जानता ही नहीं हो तो?नेहा ने मेरी तरफ आश्चर्य से देखते हुए पूछा- मतलब?मैं- मतलब यह कि यदि हम अपनी जान-पहचान में न करके कहीं बाहरी आदमी से करें तो न हमें किसी तरह की शर्म होगी न कोई जान-पहचान का डर. उनके जाने के बाद मैंने दरवाजा बंद करके नंगी ही बाथरूम में जाकर खुद को साफ किया.

अब मैंने अपने भाई के साथ गांड मरवाने का मन बनाया है और आजकल मैं अपनी गांड में मोमबत्ती डाल कर इसे लंड के लायक कर रही हूँ.

मैं- नहीं, मैं यहां कैसे सो सकता हूं!मगर उनका लड़का जिद करने लगा- नहीं भैया, आज आप यहीं पर सो जाइए. नामदेव ये देखकर आगे आ गया और उसने अपनी होने वाली बहू चमेली के मुँह में लंड डाल दिया.

इंसान और कुत्ता का बीएफ इससे हम दोनों की पहली मुलाक़ात में जो हिचकिचाहट थी, वो एकदम से खत्म हो गई. मैंने और समीर ने उसकी पैंटी कई बार देखी है … और पैंटी भी कौन सी, थोंग पैंटी.

इंसान और कुत्ता का बीएफ क्योंकि उस समय कोरोना कर्फ्यू चल रहा था तो दुकानें चोरी छिपे खुल रही थीं. उन्होंने मुझे पास की दीवार पर टिकाया और मेरे दोनों हाथों को अपने एक हाथ से पकड़ कर ऊपर कर दिया.

मैं बोली- कितनी को चोदेगा साले?सनी बोला- आप भी तो कितनों से चुदती हो … और सबको मेरा जीजू बना देती हो.

रिंकू सेक्सी वीडियो

हॉट लड़की की होटल चुदाई कहानी में पढ़ें कि अन्तर्वासना पाठिका ने मुझसे मिलने की इच्छा जताई। उसकी शादी टूट चुकी थी। मैं उससे मिला। मैंने उसको कैसे खुश किया?नमस्कार दोस्तो!मैं हूं आपका अपना साथी सन्दीप सिंह! मेरी उम्र 26 साल है। मैं दिल्ली में जॉब करता हूं। वैसे मैं उत्तर प्रदेश के शहर कानपुर का रहने वाला हूं।दिल्ली में मैं अपने एक दोस्त के साथ रहता हूं। अपनी शारीरिक बनावट की बात करूं तो मेरी हाईट 5. क्यों न भरतीं, उनकी मस्त चुदाई जो हो रही थी … वो भी अपने सगे बेटे के मजबूत लंड से. वह हमेशा बहुत ही चुस्त सूट पहनती थी, जिससे उसके जिस्म का हर कटाव उभर कर आता था.

जब मुझे लगा कि लंड तैयार है, तब मैंने ऋतु को लेटने को कहा और उसकी दोनों टांगों को पकड़ कर अपने कंधों पर रख लिया. अभी तो मेरी चूत और गांड बाकी हैं!मेरे प्यारे पाठको, कैसी लग रही है मेरी फीमेल डोमिनेटिंग सेक्स स्टोरी?आप अपने विचार मुझे[emailprotected]पर मेल करें. यह फ्रेंड मॉम सेक्स कहानी पुणे में रहने वाले मेरे एक दोस्त की अम्मी की चुदाई की है.

उस पर भी हम किसी के मम्मों में कुछ डाल कर चूस रहा था, तो कोई किसी की चुत में डाल भरके चूस रहा था.

जिससे वो मुझे अपने बदन के हर हिस्से पर दबा कर चाटने का इशारा कर रही थी. उसे लंड चाहिए था और मुझे चूत … तो दोनों वासना के वशीभूत होकर सुधबुध खोए हुए उस पल का इन्तजार कर रहे थे. मैंने उन्हें चूमते हुए उनका साड़ी का पल्लू गिरा दिया और ब्लाउज के ऊपर से उनके मम्मों को सहलाना शुरू कर दिया.

फिर वो प्यार से बोले- बहनचोद, ढंग से चूस न … कभी वीडियो में नहीं देखा कि कैसे चूसते हैं. लंड गांड में घुस गया और उधर से शन्नो की चीखने की आवाज आ गई- ‘ऊईई ईईल्ला मर गई अम्मी रे … फाड़ दी मेरी गांड आह सीईईई आहहह!मेरा आधा लंड गांड के अन्दर चला गया था. शेखर ने धारा के कंधों का अच्छे से मुआयना करने के बाद अपनी उंगलियों को उसके चेहरे की तरफ़ बढ़ा दिया।धीरे से धारा की ठुड्डी से लेकर उसके गालों और उसके पूरे चेहरे पर अपनी उंगलियाँ फिराते-फिराते धारा के होंठों पर अपनी उंगलियां रख दीं.

मैँ भी उसका फायदा उठाकर उसके लन्ड पर अपना पैर रखकर मसलने लगी और उसके गालों, कान और गले को चाटने लगी और यही काम अब अनामिका भी करने लगी।अब मैंने अपना हाथ नीचे किया और पहली बार समीर का खड़ा लन्ड अपने हाथ में लेकर मसलने लगी. मैं अपने आपको रोक नहीं पा रहा था और मैंने जोर जोर से भाभी के निप्पल को अपने होंठों में दबा कर चूसना चालू कर दिया.

मैंने आगे बढ़ कर भाभी को फिर से अपनी बांहों में ले लिया और एक हाथ से उनकी साड़ी खोल दी. इस दौरान मैं गौतम को बहुत बुरा भला सुना रही थी और वो बेचारा चुपचाप सुन रहा था. दरअसल मैंने उसे कामोत्तेजक क्रीम दी थी जिसे चूत के अन्दर लगाने से औरत चुदासी हो जाती है.

उसके लंड की चमड़ी यूँ तो बंद ही थी लेकिन चमड़ी के अंदर से झांक रहे सुपारे पर प्री-कम की बूँदे साफ़ झलक रही थीं.

इसी तरह उस भीड़ को पार करते हुए शहज़ाद का लंड मेरी गांड से बार बार टकराने और रगड़ने के कारण एकदम टनटना गया और मुझे कुछ ज्यादा ही गड़ने लगा. अनिकेत भैया बाथरूम के गेट पर आकर खड़े हो गए और दरवाजे को खटखटाने लगे. और फ़लक अपने हाथों से अपनी चूत और चूचियों को छिपाने की कोशिश कर रही थी.

निखिल ने भी रीमा की चुत सहलाई, जो उसके वीर्य और रीमा की चुतरस से भरी हुई थी व थोड़ा थोड़ा रस बहा रही थी. दो दिन बाद रविवार था तो मैंने कोमल को बोल दिया कि रविवार को मसूरी चलते हैं.

पोर्न भाभी हिन्दी कहानी में पढ़ें कि एक आलीशान अपार्टमेन्ट बिल्डिंग में मुझे जॉब मिला. उसने मुझे गले लगाने के लिए आगे आना चाहा, तो मैं खुद उसके पास जाकर उसके गले से लग गई. यह इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी उस लड़की की है जिसे स्कूल में ही लंड खाने की आदत पड़ गयी थी.

सेक्सी वीडियो सील तोड़ा

लेकिन तीन दिन बाद जब फिर मेरे फ़ोटो पर उसका कमेंट आया और साथ ही ये संदेश कि साहब आप बिजली क्यों गिरा रहे हैं, किसका क़त्ल करने का इरादा है.

मैं उनके चहरे के हाव-भाव देख रही थी और वो मेरी जुल्फों से खेल रहे थे. जैसे मैं उनके पास गई, मैं हैरान रह गई क्योंकि वे नीचे से एकदम नंगे थे. ऊपर से मेरी बीवी को दूसरे मर्द से चुदवाने की मेरी प्रबल इच्छा थी जो आज कल्पना में तो मैंने पूरी कर ही ली थी.

मैं- फिर तुम्हारी गर्दन पर अपनी जीभ से गुदगुदी करूंगा और अपनी गर्म सांसें फेकूंगा. मेरा लौड़ा चाची की जांघों में घुसने लगा और उसी रगड़ाई में मेरा टॉवल खुल कर नीचे गिर गया. जानवर के साथ बीएफ वीडियोफिर मैं नहा कर बाहर निकल आयी और उसके सामने ही अपने कपड़े ठीक करने लगी.

यह गर्म लड़की सेक्स कहानी तब की है, जब मैं हायर सेकेंडरी स्कूल की पढ़ाई कर रहा था. मैंने सुनीता से पूछा- तुम मेरे लंड के रस को कहां लेना चाहती हो?सुनीता ने कहा- लंड का रस बहुत कीमती होता है, इसे मेरी चूत में डाल दो.

उसने सोनम को इशारा करके उसको पहली मंजिल पर बने लेडीज टॉयलेट में भेज दिया और खुद मीटिंग रूम की तरफ चला गया. हमारी छातियां चिपकी हुई थीं और एक दूसरे की छाती से से निकलता हुआ पसीना माहौल को और रंगीन बना रहा था. तो बोली- फिर देर कैसी?मैंने उसकी तरफ हाथ बढ़ाया तो वो मेरी गोद में आ गई.

फिर संगीता ने मयंक के लंड को जोर से हिलाना शुरू कर दिया और हिलाते हिलाते अपने मुँह में भर लिया और लंड को जोर जोर से अन्दर लेकर चूसने लगी. जब शर्मा जी की वाइफ हमसे पूछने आईं कि यदि आप लोग रात रुकें, तो आप लोगों के लिए बिस्तर लगवा दूँ. इसमें आपको क्या अच्छा लगा और क्या बुरा लगा, वो जरूर बताना ताकि मेरी अगली कहानी इससे भी ज्यादा दिलचस्प हो.

फिर मैं बोला- इस उम्र में आप बिना पति के कैसे रह सकती हो … और उसने आपको छोड़ा, साला पागल था.

इसके बाद जल्दी से नहा कर अपने कमरे में आकर सोचने लगी कि क्या पहना जाए. मेरा सिर अपनी गोद से टिका कर मेरे दोनों पैरों को पकड़ा लिया और उनको फैला कर हवा में उठी हुई मेरी नमकीन चूत में मुँह डाल कर चूसने लगा.

चूत की फांकें ऐसी बढ़ और फैल गई थीं … मानो किसी के होंठ आगे की ओर निकल आये हों. मैंने प्रभा की मम्मी से बात की और उनको बताया कि हम दोनों साथ में कॉलेज जाएंगे और एक साथ ही वापस आएंगे. लंड की चमड़ी हटा कर उसने मानस के लौड़े की टोपी ऐसे चूसी कि मानस की भी आह्ह निकल गयी.

पतली सी कमर के ठीक बीच में गहरी सी नाभि और सुराही की तरह घूमती हुई उसके नीचे मोटी सी गांड. काफी देर शहज़ाद का लंड चूसने के बाद शहज़ाद ने मुझे उसी सोफे पर पटक दिया. ये सोच कर उसने तुरंत धारा को जवाब भेजा।उसने सावधानी से इस मैसेज को लिखा जिसमें उसने कहा- मैं आपकी भावनाओं का सम्मान करता हूँ धारा … और शुक्रिया इस बात के लिए कि आपने मुझे बाक़ी मर्दों की श्रेणी में ना रखते हुए मुझसे मिलने की इच्छा जतायी.

इंसान और कुत्ता का बीएफ अब मेरी बारी थी उसकी चूत में लन्ड डाल कर उसके मुख से दर्द भरी आहह और मादकता भरी आहें निकलवाकर उसको मजा देने की. उस वक्त भी मेरी ब्रा का साइज 34 का था और मेरी उभरी हुई गांड लोगों को काफी आकर्षित करती थी।शुरू से ही मेरे उभार काफी टाइट और तने हुए थे।मेरे घर में मेरी माँ और पापा दीदी की शादी को लेकर काफी परेशान रहते थे।मैं बस अपनी पढ़ाई पर ही ध्यान रखती थी।कॉलेज में मेरी कई सहेलियां बनी जिनके कारण ही मुझे सेक्स में रुचि होने लगी.

सेक्सी चुदाई की फिल्में

मैं सच कह रही हूँ, ये कोई पाप नहीं होगा … बल्कि तुम्हारा धर्म होगा. वो 23 साल की खूबसूरत लड़की है … उसके होंठ बहुत सुंदर हैं, चूचियां नार्मल हैं … पर गांड ऐसी मस्त उभरी हुई है कि जिसे देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाए. इस बुर्के का गला ऊपर से काफी बड़ा था, जिससे मेरे स्तनों की गहराई लगभग बाहर से ही साफ़ दिख रही थी.

मुझे ध्यान आया कि रात को मेरे बाथरूम जाने के बाद चाची गई थी और उन्होंने अपना गीला पेटिकोट देख लिया था. सोफे पर बैठते ही वो बोली- लाओ अंकल, वो वीडियो दिखाओ?मैं बोला- थोड़ा सब्र करो यार!फिर मैंने उसे जूस पीने को दिया और साथ में वीडियो खोल कर उसे अपना फ़ोन दिया. एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ ब्लू पिक्चरमगर मैंने देख लिया था कि उसकी मम्मी जाग रही थीं और अपनी टांगों के बीच अपने हाथ से कुछ रगड़ रही थीं.

मैंने कहा- कोई बात नहीं बाबू … आज अपनी चुत और गांड को दो मर्दों से फड़वा लो … लाइट भी नहीं है.

फिर वो कुछ सोच कर बोली- मैंने तुमसे जॉब के लिए कहा था कि मैं दूंगी जॉब. [emailprotected]देसी हॉट गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:जिस्म की भूख- 6.

जी हां … वो सन 1989 की गर्मी के उत्तरावर्ती दिन थे, जब एक प्राइवेट कंपनी के कर्मचारी (मेरे पिताजी) की मेरे माताजी से शादी हुई थी. अवनि की गहरी नाभि में मैंने अपनी एक उंगली घुमाई और जीभ की नोक से नाभि को चाटा तो वो सिहर गयी. वह बारी बारी से हम दोनों के लौड़ों के सुपारों को अपनी जीभ से चाट रही थी और जोर जोर से लंड को हिला रही थी.

मैंने बिना ज्यादा सोचे गौतम के प्यारे लंड को अपने मुँह में ले लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

थोड़ी देर बाद रूचि ने अपनी गुलाबी शेव की हुई चुत मेरे मुँह के सामने परोस दी. पर जब मैंने पहली सर्विस दी … तो उससे दिन मेरी शुरुवात पांच हज़ार से की थी. चाची- तो फिर नीचे हाथ लगा न!मैंने तुरंत चाची की चूत को पैंटी के ऊपर से हाथ की मुट्ठी में भींच लिया.

सेक्सी वाली वीडियो बीएफमैंने सोचा- अगर इसकी माँ अपनी चूत चुदवा रही है, तो क्यों न बेटे को तो कोई गिफ्ट दे ही दिया जाए. उम्मीद करती हूँ कि ये कहानी भी आप लोगों को पसंद आएगी।तो दोस्तो, चलते हैं आज की देसी हॉट गर्ल सेक्स कहानी में!यह कहानी सुनें.

18 नवंबर सेक्सी वीडियो

मैंने हल्का सा अपने सिर को हां में हिलाया, तो वो अपनी गांड मटकाती हुई किचन में चली गई. फिर स्मृति ने भी एक स्ट्राबेरी ली और मेरे लण्ड पर उसका रस टपका कर उसे चूसने लगी और मेरे लंड पर किस करने लगी. बीच बीच में भाभी लंड मुंह से नुकाल कर बोलने लगती- क्या मस्त लौड़ा है तेरा … यार रोज देगा ना मादरचोद … बोल साले … मुझे रोज लंड चाहिए … देगा न विराज!हां ले लेना रांड … तेरे मुँह में ही रखूंगा पूरे दिन … तेरी मां को चोदूं … चूस बहन की लौड़ी.

मैं फ्रेश होकर वैसे ही सिर्फ लोअर पहने भाबी के पास चला गया और सफाई कराने में भाबी की हेल्प करवाने लगा. इस पोजीशन में मेरा लंड चूत और गांड के बीच दस्तक दे रहा था और आशारा की मादक सिसकारियां बढ़ने लगी थीं. आह्ह्ह … शे…शेखर !!” अचानक से अपनी चूचियों को बेदर्दी से मसले जाने पर धारा ने अपना मुँह शेखर के मुँह से छुड़ा कर एक आह्ह भरी और फिर अपनी गर्दन को पीछे की तरफ़ झुका दिया.

’तभी भाभी की चूत का रस बाहर आने लगा और वो अकड़ते हुए बोलने लगीं- आह … मैं कट गई … आह मैं झड़ गई हूँ. वह बोली- सर, देख लिया, अब बदल लूँ?मैं- इंटरव्यू में फेल होना चाहती हो क्या?फ़लक ने नीचे का हाथ हटाकर अपना मुँह छिपा लिया. दूध याद आते ही चाची बोली- मैंने गैस पर तुम्हारे लिए दूध कढ़ने के लिए रखा था, वह लाती हूँ, पहले पी लो.

कभी मैं उनके ब्लाउज में बर्फ डाल देता, तो कभी व्हाट्सप्प पर नॉनवेज जोक्स सैंड कर देता. तब उन्होंने जिस उंगली को चूत में डाला था … उसे मुँह में लेकर चूसने लगीं.

मैं उसकी चुत चूसने लगा, वो वासना से कराहने लगी; साथ साथ उसने अपनी चूचियों को भी दबाना शुरू कर दिया.

अब तो उसको खुद को ऐसे लग रहा था जैसे किसी ने उसके शरीर से सब कुछ खींच कर बाहर निकाल लिया है. हिंदी सेक्सी एचडी बीएफ वीडियोमैं- पता नहीं अंकल, किसी ने मुझे पसंद क्यों नहीं किया, मैं क्या कह सकता हूँ. एचडी में हिंदी बीएफ सेक्सीफिर वो थोड़ा मेरे पास आई और बोली- मैं बहुत प्यासी हूँ … तुम मेरी प्यास बुझा दो. मैं जानता था कि ऐसा बोलने पर उनके मन में भी बात जानने की बेचैनी उठेगी और फिर वो पक्का बताएंगी.

इस बात से जया बेहद खुश थी कि अब उसे अपनी चुत और गांड के लिए दिनकर से कई गुना मजबूत लंड मिल गया है.

वो एक हाथ से तेल की शीशी से गांड के छेद पर तेल टपकाते हुए अपनी दोनों उंगलियों को गांड के अन्दर बाहर करने लगा. जब उसकी मां नहाने गईं … तो उसकी मां की सारी वीडियो हमारे पास आ गयी. ज्योति- यार जोर की भूख लगी है, चल देखते हैं कुछ इंतजाम हुआ या नहीं.

मैं बारी बारी से कभी एक निप्पल को चूसता और दूसरे हाथ से दूसरे स्तन को दबाने लगता. मैं हंसते हुए बोला- चलो ठीक है, नहीं डालूंगा … लेकिन चुत तो चोदने दो. मतलब यह हुआ कि धारा शेखर के गठीले बदन को देख भी सकती थी और उसे महसूस भी कर सकती थी मगर शेखर अब भी बस उसके शरीर की गर्मी ही महसूस कर सकता था लेकिन उसे देख नहीं सकता था.

पंजाबी वीडियो सेक्सी में

फिर लगा कि अब मैं आ सकता हूँ तो मैंने अधमरी हो चुकी आशारा को उठाकर सामने कुतिया बनाया. विवेक, शिवम, लूसी और मैं एक दूसरे को अपनाने के लिए तैयार हो चुके थे. मगर जो कोई भी चूसता था, झड़ने के वक्त पर मुंह से बाहर निकाल देता था मगर रोहन ने ऐसा नहीं किया.

फिर जब वो मेरा साथ देने लगीं, तो मैंने देर ना करते हुए अपना लंड निकाला और उनकी चुत पर रगड़ने लगा.

अगर इस प्रैक्टिकल मैं यह पास हो गई तो आप इसकी नौकरी पक्की समझो और यदि इसने आनाकानी की तो फिर मैं मजबूर हूँगा.

मां- तू पहले नहा ले और अब तू मुझे मां मत बोल, मेरा नाम लिया कर!मैं- क्यों मां ग़ुस्सा हो क्या?मां- गुस्सा नहीं, तुम पहले नहा लो. ममता- ये बात तू कैसे कह सकती है?मैं- चल छोड़ … जल्दी से फ्रेश हो जा, मुझे नहाना है. बीएफ कुत्ता लड़कीफिर मैंने सोचा कि मैं कंपनी के काम से आया हूं और ये साहिल की अम्मी है, तो मुझे ये सब नहीं करना चाहिए.

मुझे इसमें भला क्या एतराज़ होता, बल्कि मुझे तो अंकल के साथ अकेले की सोचकर अन्दर से अच्छा लग रहा था. कुछ देर बाद प्रिया ने चमेली को पास कर दिया और चमेली की चुत पर जोर एक थप्पड़ मार दिया. वैसे मैंने इसलिए किया कि तेरी बहन मेरी सहेली है और उसकी चुत में आग लगी है.

उसने मुझे 10 मिनट तक अलग अलग तरीके से चोदा और अपना माल मेरे अन्दर ही छोड़ दिया. अब मेरी शन्नो रंडी भी अपनी गांड आगे पीछे करने लगी और बोलने लगी- राज चोदो मुझे … और चोदो अपनी शन्नो रंडी को.

जैसे हम नीचे आए, मैंने उनको अपनी बांहों में कसके पकड़ लिया और किस करने लगा.

काफी देर तक फरियाल का जिस्म रगड़ने के बाद मैंने उससे कहा- फरियाल, अब मुझे आगे की मसाज करनी है. नेहा- कौन है वो … मुझे भी तो बता ममता?ममता- नहीं यार … मैं तुम्हें उसका नाम नहीं बता सकती. मैंने कहा- भैया आप निश्चिन्त होकर जाइए … मैं हूँ यहां पर!भैया ने धन्यवाद कहा और उसी समय वो बाहर निकल गए.

बीएफ शुद्ध हिंदी में मेरे मुँह से हल्की सी सिसकारी निकल गयी।समीर मुझे किसी बच्चे की तरह अपनी गोद में बिठाकर पकड़े हुए था लेकिन मेरी चूत से पानी रिसने लगा था. अब तू कारण बता कि तूने ऐसा क्यों किया!प्रिया मुस्कुराई और बोली- तुझे कैसे पता चला कि मैंने ये सब जानबूझ कर किया होगा.

एक दिन मैंने उससे पूछा- तुम्हारे चुचे कितने बड़े हैं … मुझे साइज बताओ न! क्या तुम्हारे बुब्स मेरी उंगलियों में आ सकते हैं या मेरे पूरे हाथ में आएंगे?वो हंस कर बोली- मेरे बुब्स छोटे हैं. उसने अपना हाथ मेरी कमर से ले जाकर मेरे पेट पर रखा हुआ था और उसका सिर मेरे कंधे पर था. इस पर उसने कहा- हम दोनों सिर्फ फ्रेंड हैं और हमारे बीच में ऐसा कुछ भी नहीं है.

बीपी सेक्सी मराठी साडीवाली

मैंने सोचा कि क्या यह लौंडा मेरी जैसी चुदक्कड़ के आगे ज्यादा देर तक टिक पाएगा. अभी तो मेरी चूत और गांड बाकी हैं!मेरे प्यारे पाठको, कैसी लग रही है मेरी फीमेल डोमिनेटिंग सेक्स स्टोरी?आप अपने विचार मुझे[emailprotected]पर मेल करें. लंड चूसते हुए वो ‘उम्म मम्म उम्मम्म …’ करने लगी और अपनी चूत को उसने मेरे मुँह पर एकदम से जमा सा दिया.

धीरे धीरे उन दोनों को मैं अपने हुस्न के जलवे दिखा रही थी और वो दोनों उसमें फंसते भी जा रहे थे. स्नेहा- मतलब!नेहा- अभी तो एक से बढ़कर एक चिकनी सेक्सी चूतें, भोसड़ी … और अभी तो चाची, मामी की झांटों से भरे भोसड़े चुदना बाकी है … मेरी चिकनी चमेली.

हमेशा से यही होता है, औरत को हमेशा एक अच्छा इंसान ही चाहिए होता है.

पिंकी आह उम्मह ऊह हह हाँहह करके लंड लेने लगी।मैंने उसकी चूचियों को मसलना शुरू कर दिया और होंठों को चूसने लगा और झटके मारने लगा।अब पिंकी भी ज्यादा उत्तेजित हो गई थी और हहह आहह हहह करके अपनी गांड चलाने लगी।मैंने पीठ के बल लेट कर पिंकी को इशारा किया तो वो मेरे लंड पर बैठ गई और उछलने लगी।मेरा लंड सट्ट सटृ अंदर बाहर होने लगा. कहानी के पहले भागबीवी की सहेली को पूरी रात चोदामें आपने पढ़ा कि दो सहेलियाँ अपने पतियों के साथ एक रिसोर्ट में है और चारों जन रात को बहुर सारे कपल के साथ ग्रुप सेक्स इवेंट में शामिल होने के लिए आतुर हो रहे हैं. इस क्रिया से मेरा लंड एकदम कड़क हो गया और उसकी टांगों में कुछ ज्यादा ही चुभने लगा.

मैंने मोबाइल में टाइम देखा तो 2:30 बजे हुए थे और मां गहरी नींद में सो रही थीं. साथ ही मैं उन पाठकों से क्षमा भी मांगता हूं, जिनके मैसेज का मैं किसी कारण से रिप्लाई नहीं कर पाया हूं. उसके लंड के घुसते ही मुझे हल्का दर्द हुआ लेकिन मैं उसको सहते हुए अपनी चूत अलग अलग स्टाइल में चुदवाने लगी.

विजय का जोर जोर से गांड में धक्का देने से … और मम्मों को पकड़ कर मींजने के कारण जया को दर्द होने लगा था.

इंसान और कुत्ता का बीएफ: भाभी की चूचियां ऐसे उछल रही थीं मानो क्रिकेट में हर बॉल पर सिक्स लग रहा हो. और वहां मेरा भाई, तेरे जन्मदिन वाले दिन ही तेरी बहन की सील तोड़कर उसकी चूत का भोसड़ा बना चुका है.

मैंने भाभी की नशीली आंखों में अपनी आंखें डालकर देखा और कहा- हां मेरी रानी … आज से आपकी चूत बिना लंड के नहीं रहेगी. मैंने उसकी तरफ देखा और कहा- सच में कह रही हो या यूं ही मुझे चिढ़ा रही हो?वो हंस कर बोली- क्या खुद पर भरोसा नहीं है?मैंने कहा- भरोसा तो है … मगर …वो मेरी बात काटते हुए बोली- आपको खुद पर भरोसा हो न हो … मगर मुझे खुद पर भरोसा है कि मैं हॉट लग रही हूँ. फिर संगीता ने मयंक के लंड को जोर से हिलाना शुरू कर दिया और हिलाते हिलाते अपने मुँह में भर लिया और लंड को जोर जोर से अन्दर लेकर चूसने लगी.

रश्मि कह रही है कि वह अकेली कैसे वहाँ रहेगी, उसे डर लगेगा और जाने से मना कर रही है, रश्मि कह रही है कि यदि आप राजू को मेरे साथ भेज दो तो मैं चली जाती हूँ, वह अपनी बुक्स ले चलेगा और अलग कमरे में सो जाएगा और वहीं पढ़ लेगा.

जैसे जैसे मेरी जीभ उनके लंड पर नाचती गयी वैसे वैसे उनका लंड और ज्यादा फूलकर एक मोटे तंदुरूस्त साढ़े सात इंच लम्बे लौड़े में तब्दील होता चला गया. मगर धारा को बिना देखे उसके मख़मली शरीर का आनंद उठाने का रोमांच ही इस वक्त शेखर के लिए काफ़ी था. कुछ देर बाद मेरा फिर से पानी निकलने लगा और मैं अपनी गांड और चूत को चुदवाते हुए एक बार फिर से झड़ने लगी.