बहन भाई की बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो गांव की वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

कंडोम सेक्सी फोटो: बहन भाई की बीएफ वीडियो, ऐसा कहकर मैंने भाभी को 2-3 सीढ़ी ऊपर को धकेला, तो भाभी सीढ़ी से फिसल कर गिरने को हुईं, पर मैंने उन्हें संभाल लिया.

सेक्सी नंबर मोबाइल नंबर

मैं सोच रहा था कि ये रोएगी और बोलेगी अब मैं तुम्हारे साथ नहीं आऊंगी, पर इसको तो मजा आ रहा है. चोदने वाली सेक्सी भाभीमैं उसकी एक चूची को मुँह में लेकर चूसने लगा और जब मुझे लगा कि वो भी अब थोड़ा सहन करने लगी है, तो मैंने फिर से एक तेज धक्का दे मारा और अपना आधा लंड उसकी फुद्दी में पेल दिया.

प्यासी पड़ोसन सेक्स इन हिंदी कहानी में पढ़ें कि कैसे सेक्सी भाभी ने मुझे बड़े प्यार से बंगाली खाना खिलाया. वेरी वेरी सेक्सी सेक्सी वीडियोमैं- उससे मिलने का मन तो करता होगा ना?दीपाली- हां, वो तो बहुत करता है.

मैंने भाभी से कहा- भाभी सच में जैसी सपनों में आपकी चुत को याद करता था, ये बिल्कुल वैसी ही है.बहन भाई की बीएफ वीडियो: भैया घर में अकेले थे तो मैं वापस अपने घर आने लगी तो भैया मुझसे बोले कि तुम अकेले में मुझसे बात नहीं करोगी क्या?उनकी यह बात सुनकर मैं भैया के घर रुक गयी और हम दोनों बात करने लगे.

मैं उसके एक निप्पल को मुँह में ले के चूसने लगा और दूसरे को उंगली और अंगूठे से मींजने लगा.अब मैं जोर-जोर से उसकी योनि को मसलने लगा।अब वह अपनी योनि को ऊपर उठाने लगी। जोश में आकर मैं कभी उसके दूध को मसल देता था तो कभी उसकी योनि में उंगली कर देता.

md सेक्सी - बहन भाई की बीएफ वीडियो

जब मुझे लगा कि मेरा माल निकल जाएगा, मैंने हल्के से नम्रता के गाल पर एक चपत लगायी.अब संजना सीधे से आकर मेरे मुँह के ऊपर अपनी चूत रख दी और आप मेरा सर अपनी चूत में दबाने लगी.

रिया- मगर गांड में तो आपने खीर भर रखी है डैडी।रमेश- लण्ड अपनी जगह बना लेगा साली रंडी। तू कुतिया बन जा।रिया फिर चौपाया हो गयी और रमेश के सामने अपनी भूरी छेद वाली गाँड परोस दी।रमेश ने उसके भारी भरकम चूतड़ों पर पहले थूका और तीन चार करारे थप्पड़ मारे। रिया थप्पड़ से उठे दर्द से ज्यादा आनंद महसूस कर रही थी। उसने खुद ही अपने चूतड़ पर तमाचे मारे- सटाक … सटाक … और मारो. बहन भाई की बीएफ वीडियो मुझे नीचे लेटाते हुए मेरी छाती पर अपने हाथ फिराये तो मेरे अंदर की कामाग्नि और भड़क गई.

मैंने पहले भी लिखा है कि वो सिर्फ पेटीकोट और ब्लाउज ही पहनकर मेरे साथ सोने आ गई थी और जब वो अपनी साड़ी उतार कर सिर्फ ब्लाउज पेटीकोट में मेरे बाजू में लेटने लगी थी.

बहन भाई की बीएफ वीडियो?

मेरा खाना पीना कैसे होगा, इसको लेकर अम्मी के लिए ये काफी चिंता का विषय बन गया था. डॉक्टर हैरानी से देखती रह गयी बोली- उफ़ इतना बड़ा इतना मोटा तो कभी नहीं देखा. मैंने कहा- हैल्लो भाभी, आज इस तरफ कैसे आना हुआ?भाभी- अरे, आप कैसे हो?भाभी ने स्माइल देते हुए पूछा।मैंने कहा- आप आज इस तरफ कैसे?भाभी- बस, मैं तो शॉपिंग करने के लिए आई थी.

फिर नाईटी को ऊपर कर कर मेरी जांघों को चूमने लगे और नाईटी के अन्दर हाथ डालकर मेरी बुर में उंगली डाल कर साथ ही दूसरी उंगली से मेरी गांड कुरेदने में लग गए. उसके बाद वो उठा, तो मैंने उसका सर अपनी गोद में रख कर उसको कॉफ़ी पिलाई. मैंने दीपिका के घुटनों को थोड़ा और मोड़ा और लण्ड को जोर से मारा तो लण्ड अंदर बच्चेदानी को जा लगा और दीपिका जोर से मजे में चिल्लाई- हाय … माँ, मार दिया जालिम ने.

उम्मीद है कि हमारी यह सत्य घटना आप लोगों को पसंद आई होगी।[emailprotected]. ये कामशक्ति वर्धक गोली थी, जिसे सिर्फ 50 एमजी खाकर मैं दिन-रात चुदाई कर सकता हूँ. अगर आपने अभी इस आग पर पानी नहीं डाला तो मैं जलती और तड़पती ही रह जाऊंगी.

जिंदगी का असली मज़ा लेने के लिए दीपिका और मैंने अभी बच्चा न करने का प्लान बना रखा था इसलिए दीपिका आईपिल खा लेती थी. ”मत जाओ … कहने को तो दो … महज़ दो लफ्ज़ ही थे लेकिन इन के मायने बहुत वसीह थे.

मैं अपनी बहन सोनल के दोनों मम्मों को अपनी हथेलियों में भर कर मसलने लगा.

आआआहह … उसकी उंगली मेरी चूत के दाने से टच होते ही थोड़ी ही देर मैं में चरमसीमा पर पहुंच गयी.

मैं- सरिता आज तक चुदाई से कोई भी नहीं मरा है … सभी लोग चुदाई करते हैं. अगले दिन उस सैट को मैंने यूज किया, लेकिन शाम होते होते पता नहीं क्यों ब्रा की स्ट्रिप टूट गयी, इससे मुझे बहुत गुस्सा आया. जब तक नम्रता की बात खत्म होती, तब तक उसकी चूत साफ होकर ऐसे खिल उठी, जैसे कि कमल की एक-एक पंखुड़ी हो.

करीब आधा घंटे में वो वापिस आ गयी, बोली- अच्छी तरह हिला कर देखा, गहरी नींद में थी. मैंने कई मिनट तक उसके दोनों मम्मों को बारी बारी से चूसा और काटा, जिससे उसके दोनों चुचे सुर्ख लाल हो गए थी और कहीं कहीं लव बाईट भी बन गए थे. अंकल जी ने मेरे लिए इतना कुछ किया था अतः मुझे उन पर बहुत प्यार आ रहा था तो अब मैं उन्हें अपना भरपूर प्यार देना चाहती थी.

कुछ देर के बाद रमेश जोर जोर से सिसकारने लगा- आह्ह आहाहहा … आआहह … लगता है मुठ आने वाला है.

” ऐसा बोलकर अंकल मेरी टांगों के बीच बैठ गए और मेरी चुत की पंखुड़ियों पर एक किस किया. जब 11 बजे टीवी बन्द हुआ, तो मम्मी आईं और सब की खाट तैयार करने लगीं. कान किसी भी स्त्री के बहुत ही ज्यादा संवेदनशील अंग होते हैं और ये एक बहुत ही आदिम नुस्खा है किसी भी लड़की को काम-विह्ल करने का.

मगर बात काफी पुरानी हो गई थी इसलिए मैंने उन बीती बातों के बारे में ज्यादा सोचना ठीक नहीं समझा. उसने मेरी टी-शर्ट को उतरवा दिया और फिर मेरी लोअर मैंने खुद ही निकाल दी. क्या उसका भी पहली बार है?मीता- हांमैं- उसने कभी किस करते हुए तुम्हारी चूची दबाई है और तुमने उसका लंड पकड़ा है?मैंने जानबूझ कर एक कदम आगे जाकर लंड चूची जैसे शब्द बोले.

उसने मेरे अंडरवियर को नीचे किया और खुद ही मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी.

उसने भी अपने हाथ को पीछे किया और मेरे सुपाड़े को नाखून से खरोंचती और फिर अपने कूल्हे के बीच में लंड को फंसाने की कोशिश करती या फिर कूल्हे के ही ऊपर हल्की थपकी देती. इसी बीच राजेश ने जोर देकर मुझे अपने ऊपर से उतार दिया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी.

बहन भाई की बीएफ वीडियो पिछले भाग में अब तक आपने पढ़ा कि मेरे साथ एक स्कूल में पढ़ाने वाली हॉट एंड सेक्सी टीचर मुझ जैसी ही ठरकी और चुदक्कड़ निकली जोकि मेरी तरह ही सेक्स करने में बिंदास थी. उन्होंने देर ना करते हुए मुझे धक्का मारकर लेटा दिया और वो अपने पैर चौड़े करके मेरे ऊपर बैठने लगी.

बहन भाई की बीएफ वीडियो मेरा भी निकलने वाला था, नीचे से झटके मारते हुए मैं उसकी चूत में ही झड़ गया. उसके होंठों को मैंने लिपलॉक कर के पूरी तेजी से उसकी चुदाई शुरू कर दी.

मैं मेडिकल स्टोर में गया और जाकर एक पैकेट कंडोम ले लिया और एक डायरी मिल्क चाकलेट भी ले लिया.

सेक्सी मोठा व्हिडिओ

तत्काल वसुन्धरा की आँखें नशीली होने लगी और एक सिहरन की लहर वसुन्धरा के पूरे शरीर में से गुज़र गयी. ’ की आवाजें निकल रही थीं- आआह थॉमस फक मी बेबी … हां आह आह्ह चोदो … मुझे चोदो मुझे … आह थॉमस फक मी. फिर अपने घुटनों पर ऊपर हुई और पीछे होते हुए मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर सैट किया, धीरे से नीचे बैठते हुए ‘अअअ भईया अअअअअ आई …’ उसने धीरे धीरे पूरा लंड अन्दर ले लिया.

”अंकल ने मेरी पीठ की मालिश करनी शुरू कर दी, अपना हाथ मेरी गर्दन से कमर तक घुमा रहे थे और वही प्रक्रिया अपने होंठों से भी दोहरा रहे थे. मुझे उसकी चूत के दर्शन नहीं हुए क्योंकि उस लड़की का सिर मेरी तरफ था और टांगें दूसरी ओर. फिर मैंने जल्दी से अपने सारे कपड़े उतार कर फेंक दिए और उसके ऊपर चढ़ गया.

पिघल रही सीमा के इस वार से मैं भी बच न सका और मेरा भी लौड़ा छूटने के बहुत नज़दीक पहुँच गया.

हाँ उन दो दिनों में कुछ गुस्से में और कुछ विनीता की याद में मैंने अपनी पत्नी को खूब रगड़ रगड़ कर चोदा और उसने भी खूब मज़े ले ले कर चिल्ला चिल्ला कर चुदाई करवाई. सुबह निहारिका का फोन आया और उसने कहा- सुना तुमने, इससे तुमको पता चला गया होगा. मैंने उसकी बात को अनसुना करते हुए फिर से एक चपत लगा दी, जिससे वो छटपटाते हुए मुझे छूटने में लगी थी, लेकिन मैंने उसे मजबूती से पकड़ रखा था.

इतना बोल कर वो मुझ पर झपट पड़े और मेरी नाइटी देखते ही अलग करके मुझे नीचे बिठा दिया. फिर वो समय आ ही गया और मैं और नम्रता एक-दूसरे का हाथ पकड़े बैठे हुए थे. अभी तक आपने पढ़ा कि लखनऊ के होटल के कमरे में पहली बार चुदने वाली डॉली उसके बाद मेरे घर पर और फिर अपने घर पर चुदाई का आनन्द ले चुकी थी.

वसुन्धरा के शरीर में रह रह कर सिहरन की लहरें उठ रही थी और उसने अपना निचला होंठ अपने दांतों में कस कर भींच रखा था. एक बात जरूर समझ में आई कि मीता सेक्स की बात पर कहीं से शर्मा नहीं रही थी.

मैंने हल्के से वसुन्धरा को अपने साथ लगाया और उसके बाएं कान में अपनी गर्म सांस छोड़ते हुए उसके कान की लौ को अपनी जीभ से हल्के से छुआ, जिसके जबाव में वसुन्धरा ने मेरे दाएं कंधे पर जोर से काट लिया. मेरी जब शादी हुई, उससे पहले भी मैं अपने एक ब्वॉयफ्रेंड से चुद चुकी हूँ. उधर राधिका चुत उंगली घुमाते सोच रही थी कि आज मेरा पति कैसे मजे से मेरे ही सामने मेरी बहन के मम्मे दबा रहा है.

आपको मेरी और दीपाली की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे ज़रूर बताएं, मैं आपके मेल्स का इंतज़ार करूँगा.

मैंने नम्रता को एक बार फिर पलंग पर बैठाया और उसके चूत के साथ खेलने लगा. कुछ देर बाद मैं नीचे गया तो देखा कि उसकी बड़ी बहन नेहा भी वहाँ आ गई थी. वे कभी मेरी घुमटी को अपने दांतों के बीच लेकर काटते, उसके बाद अपनी उंगलियों के बीच मेरी घुमटी को फंसाकर उस पर अंगूठे के नाखून से खरोंच करने लगते.

इस इशारे को समझते ही मैंने उसके गुलाबी रंग के पंखुड़ियों वाली गांड में लंड से घिसाई करना शुरू कर दिया. जब लगा कि मंजिल ज्यादा दूर नहीं है तो मैंने गुप्ताइन से कहा- आपके सिर के पास एक पैकेट रखा है, पकड़ा दीजिये.

मेरी पलकें अपने आप एक-दूसरे से अलग होने लगीं। मूतने के बाद लंड को अन्दर करके बाहर की तरफ निकलने लगा तो बाथरूम के दरवाजे पर शुभ्रा खड़ी थी. महायाराना के आगाज़ में आगे क्या होता है, रणविजय और रीना की चुदाई की मोड़ पर जाकर रोचक होती है, इसके लिए कहानी के अगले भाग का इंतजार करें. उनकी जीभ को मुंह से चूसते हुए मैं इतनी जोर से उनकी लार को खींच रहा था कि चाची की सांसें उखड़ने लगीं.

सेक्सी चुदाई दिखाओ चुदाई चुदाई

वो बार-बार अपने चूचों को दबाती हुई मेरे लंड की चुदाई का आनंद लूट रही थी.

नम्रता- अच्छा, अब मैं भी तुम्हारे लंड को सूंघकर देखती हूं कि मुझे मदहोश कर पाता है कि नहीं. मैंने एक कपड़े से अपनी चूचियों को साफ़ किया और उसके बाद वो मेरी चूत को बहुत अच्छे से चाटने लगे. इस वक्त मैं नितिन को पूरा भूल गयी थी, अब मैं सिर्फ कामवासना में तड़प रही एक नारी थी, जिसे शर्मा सर जैसा मर्द भोग रहा था.

मैंने भाभी की गांड पर अच्छे से थूक लगा दिया और अपने लंड को चांदनी भाभी की गांड के छेद पर सेट कर दिया. करीब चार बजे मैं उठा और सोचा कि एक बार और दीदी की चूत का चोदन कर दूँ तो मैं उन्हें ढूँढने लगा. अंग्रेजी के सेक्सी वीडियोमैंने बिना एक सेकंड की देरी करते हुए संजना के होंठों को चूम लिया … पर तब तक भी उसने मेरा लंड अपने हाथों से नहीं छोड़ा था और वह मेरा लंड हिला रही थी.

मेरी चूचियों को पीने के बाद वो मेरी चूची को बहुत जोर से दबा रहे थे. अंकल करीब आधे घंटे तक मुझे उसी पोजीशन में चोदते रहे, चुत में वीर्य की सात आठ पिचकारी मारने के बाद ही वो शांत हुए और दस पंद्रह मिनट वो वैसे ही मेरे बदन पर पड़े रहे.

कुछ देर बाद मैंने फिर से छत पर जा के देखा कि मेरी पैंटी उधर नहीं थी. ऐसा होने के बाद मैं क्या ‘मैं’ रह पाऊँगा? लेकिन कुछ फैसला तो लेना ही था और फिर मैंने फैसला ले ही लिया. क्या हुआ बॉस? परेशान दिख रहे हैं आप?” मैंने कहा।दीपिका! मेरे सिर में बहुत दर्द है.

मेरी दूसरी चूची को जोर से चूसने के कारण भी मुझे मीठा दर्द सा होने लगा था. तब मैंने देखा कि मेरी सफ़ेद शर्ट गीली होने से मेरी पूरी ब्रा और दूध दिख रहे थे. एक लंबा बैंगन मैंने छुपा कर रखा था, उसे भी अपनी फुद्दी में लेकर बहुत चुदाई करी.

जब आगे के हिस्से को उसने अच्छी तरह चाट लिया, तो मेरी टांगों के बीच से होते हुए पीछे आ गयी.

दोस्तो नमस्कार, मैं आप लोगों की प्यारी हॉट मधु … एक बार फिर अपनी आत्मकथा में तहेदिल से आप सभी का स्वागत करती हूं. नीता और पिंकी दोनों साथ में आ गईं और नितिन से अपने मन की बात बोल दी.

मैं दीपिका के ऊपर छा गया और अपनी दोनों कोहनियों को उसके दाएं बाएं रखकर उसे अपनी बाजुओं में जकड़ा और उसके होंठों पर अपने होंठ रखकर एक झटके में पूरा लण्ड उसकी टाइट चूत में उतार दिया. ”इस तरह से भाभी को 20 मिनट तक चोदने के बाद उनकी ताकत जवाब दे गई- बस अपना लंड निकाल दे बाहर, मेरा निकल रहा है. मैंने पूर्ण सावधानी बरतते हुए लहंगा वसुन्धरा के कटिप्रदेश तक पंहुचाया.

ऊऊऊऊं … मम्मय्मम … की आवाजें निकाल रही थी।दस-बारह जोरदार चपत लगाने के बाद मैंने लिफ्ट चालू कर दी और उसे लिफ्ट की दीवार में चिपका कर उसकी पीठ पर किस करने लगा. मेरे अकड़ते हुए जिस्म पर उसका पूरा ध्यान था, मेरे मुँह से ओह-ओह की आवाज सुनकर वो मेरे लंड से उतरी और 69 की पोजिशन पर आ गयी. उसने पूछा कि मैंने पहले भी किसी लेडी को डेट किया है?मैंने ना में सिर हिलाया और कहा- लड़कियां तो बहुत चोद चुका हूँ, पर आप जैसी लेडी आज तक नहीं मिली.

बहन भाई की बीएफ वीडियो फिर मैंने उसके कान में धीरे से कहा- शलाका, तुम जरा करवट बदल कर लेट जाओ. मैंने चूत में आठ दस चांटे प्यार से मारे और अपना दाना जल्दी जल्दी रगड़ने लगी.

चोदा चोदी वीडियो दिखाओ सेक्सी

मैंने जल्दी से अपने अंडरवियर को नीचे किया और उसकी चूत पर लंड लगाकर उस पर पूरी तरह से लेटते हुए उसके होंठों को चूसने लगा. उसकी आँखों में चमक थी।कुछ भी हो मैं उससे प्यार बहुत करता था; मैंने हाथ आगे ले जाकर उसके हाथों को पकड़ा और चूम लिया।तब तक वेटर आ गया आर्डर लेकर। हमने एक दूसरे से बात करते हुए डिनर किया। वो बार-बार डांस फ्लोर की तरफ देख रही थी जहाँ कपल्स डांस कर रहे थे। मैं उठा और रोमांटिक अंदाज में उसका हाथ पकड़ के डांस फ्लोर पर ले गया।हमने थोड़ा डांस किया। वो बहुत खुश थी। फिर हम वहाँ से निकल गए. कुछ देर बाद मैं नीचे गया तो देखा कि उसकी बड़ी बहन नेहा भी वहाँ आ गई थी.

तभी जीजू ने फिर दीदी को आवाज़ दी … और मैं बिना कुछ सोचे जीजू के पास चली गई. यह कहते हुए उसने मेरा लौड़ा फिर से अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी. सेक्सी फोटोस फोटोसदोस्तो, यह थी मेरी और अदिति की प्रेमकहानी … इसके बाद हमारे बीच कई बार सेक्स हुआ, उसकी कहानी फिर कभी लिखूंगा.

फिर एक दिन मैंने उनकी चूचियों पर ज्यादा ध्यान न देकर सीधा उनकी चूत की ओर मुंह कर लिया.

दोस्तो, अब तक आपने पढ़ा कि कैसे मैंने शिखा की दीदी की गैरमौजूदगी में उसकी चूत की चुदाई की. हमारी धुआंधार चुदाई होने के बाद हम अब तीनों थक चुके थे और कुछ भी करने की हालत में नहीं थे.

लेकिन मुझे मजा नहीं आ रहा था, इसलिए मैंने कुप्पी को झटके से बाहर निकाला, तो पेशाब छलकते हुए बाहर आ निकली और थोड़ी बहुत पेशाब, जो उसकी बुर के अन्दर थी, वो भी बाहर आ गयी. हाँ जब तक हम दोनों कुछ समझते और संभलते तब तक लंड का पूरा माल शुभ्रा के मुंह के अन्दर, उसके पूरे चेहरे पर, उसकी चूचियों पर हर जगह मेरा सफेद लसलसेदार तरल पदार्थ (वीर्य) लग चुका था।संभलने के बाद पहला शब्द ‘मादरचोद’ कहते हुए वो उठी और तेजी से बाथरूम की तरफ भागी और वाश बेसिन पर खड़े होकर उल्टी करने की कोशिश करने लगी. हेतल तो जानती थी कि मेरे और मानसी के बीच चुदाई का खेल काफी दिन से चल रहा है लेकिन रितेश जीजू को अभी इस बारे में कुछ भी नहीं पता था.

इस तरह मैं उसकी एक चूची को चूस रहा था, दूसरी को ब्रा के ऊपर से ही दबा रहा था.

मौसी के बाथरूम में जाते ही मैं उसके पास चला गया और पीछे से उसकी चुचियों को पकड़ कर दबा दिया. मैं बोला- हम दोनों कौन से लवर हैं … सिर्फ़ एक दूसरे की ज़रूरत पूरी करते हैं. इसी बीच उसने मेरे कपड़े उतार दिए और खुद भी कपड़े उतार मेरे ऊपर चढ़ गया.

सेक्सी बढ़िया सेक्सी फोटोलेकिन कुछ ऐसा हुआ कि मुझे भाभी की चूत मिल गयी और भाभी को मेरा लंड मिल गया. सतीश ने मुस्कान के सामने ही नीचे कारपेट पर प्रियंका को घोड़ी बनाया और उसकी चूत में अपना लौड़ा डाल दिया.

सेक्सी कराओ

फिर तीन चार बार उसने ऐसा ही किया, मुझे घूंट पिलाता और तीन-चार मिनट मेरे होंठों को जोरदार चूसता. मैंने भी उसे अपनी बांहों में जकड़ लिया और उसके धक्के का अहसास करने लगा. थोड़ी देर मेरी गांड मारने के बाद तुषार ने लंड बाहर निकाला … और उसने मुझे कमर से पकड़कर आगे की ओर घुमा दिया.

मैं बोला- तो क्या हुआ, कहानी में तो हीरो-हीरोइन गीला भी चाटते हैं।शुभ्रा- नहीं, मुझे अच्छा नहीं लग रहा है, प्लीज मान जाओ. वो कभी मेरे ऊपर आकर मुझे किस कर रहा था, तो मैं कभी उसके ऊपर जाकर उसको किस कर रही थी. मैंने उसके कूल्हे को दबाते हुए कहा- इस बार तुम मुझे प्यार करो, मैं कुछ नहीं करूँगा.

हमें फोन पर अनिल की सास ने कहा- आप इधर से निकलेंगे तो मंजू को भी लेते जाना. मुझे अभी 3-4 मिनट ही हुए होंगे मौसी की चूत चाटते हुए, इतने में मौसी ने मेरा सर पकड़ कर मुझे अपनी चूत से दूर कर दिया और थोड़ा गुस्सा दिखाते हुए बोलीं. पर यह सब सुनने के बाद शीना इतनी गुस्से में आ गई कि सीधे खड़ी होकर मेरा गला पकड़ कर बोलने लगी- साले कमीने … मैं तब से अपनी चूत और गांड की बारी का इंतजार कर रही हूँ … मेरी बारी कब आएगी.

अब वो अपनी खाट के एकदम किनारे पे आ गई थी और ऐसे ही मैं भी उसकी तरफ अपनी खाट के किनारे पे आ गया था. मैं पास में हो गया और माँ की चुत पर हाथ रख कर कहा कि माँ रात को इसमें से बहुत पसीना आ रहा था, तो मैंने इसे चाट चाट कर साफ़ किया था.

मगर जवानी की दहलीज पार होने के बाद मस्तराम की कहानियां मेरी दिनचर्या का हिस्सा हो गयी थीं.

और उसने अपने पैर मेरी कमर में लपेट दिए साथ ही अपनी भुजाओं में मुझे कस लिया. 12 साल की सेक्सी पिक्चर वीडियोमैंने उसके कमीज को ऊपर उठा दिया और उसकी ब्रा के अंदर दबे चूचों को दबाने लगा. सेक्सी वीडियो कॉमेडियनजब वो मेरी चूत चाटने के लिए लंड बाहर निकालता, तो मैं भी उसका लंड चूस लेती थी. भैया भी बहुत बड़े चुदक्कड़ थे, पर फिर भी भाभी बहुत ही चंचल और कुछ नया करने की शौकीन थीं.

” कहते हुए वह फिर हंसने लगी।थैंक यू ! वैसे आप भी 25-26 की ही लगती हैं। आपने तो अपनी फिगर बहुत अच्छे से मेन्टेन किया हुआ है। ऐसा लगता है जैसे कॉलेज गर्ल हों.

मैंने नीचे ही नीचे शलाका की तरफ देखा तो उसके चेहरे पर शर्म के भाव थे. मैंने धीरे से लंड को अपने ही हाथ से गांड के छेद पर रखा और वो धीरे धीरे करके मेरी खुली हुई गांड में सरक गया. मैंने एक बार फिर ढेर सारा थूक उसकी गांड के मुँह में गिरा दिया और अपनी जीभ चला दी.

संगीता चाची ने मेरे पूरे लंड को अपनी चूत में जज्ब करके चूत को चुदने के लिए राजी कर लिया था. अब मैंने अपना छह इंच बड़ा लंड दीपाली की चुत के मुँह पर रखा और अन्दर डालने की कोशिश की, पर सिर्फ मेरे लंड का सुपारा ही उसकी चुत में घुस पाया. इसके बाद दूसरे माल ने मेरे पास आकर मेरे हाथ अपने मम्मों पर रखवाया और मैं उसके मम्मे मसलने लगा.

केवल मारवाड़ी सेक्सी वीडियो

मैंने उसकी टांगों के बीच एक पुराना तौलिया बिछा दिया, ताकि मेरा बिस्तर खराब न होने पाए. तब मैं नारी-शरीर के उस गोपनीय और विशेष अंग की झलक पा रहा होऊंगा जिसको कोई भारतीय नारी चाँद-सूरज तक के आगे भी वस्त्रविहीन नहीं करती. मैंने चूत के मुंह पर दो-तीन बार लंड को रगड़ा और फिर लंड उसकी चूत में डाल दिया।वो भी पूरी खिलाड़ी थी.

मैंने अपना लंड मुस्कान के मुंह के पास किया तो मुस्कान ने अपने एक हाथ से मेरा लंड अपने मुंह में ले लिया और पीछे उसकी चूत में मोनू ने लंड डाला हुआ था.

भैया भी बहुत बड़े चुदक्कड़ थे, पर फिर भी भाभी बहुत ही चंचल और कुछ नया करने की शौकीन थीं.

मेरे मम्मों को चूसते चूसते वंश ने अचानक मेरी पेंटी के अन्दर हाथ डाल दिया और मेरी सफाचट वैक्स की हुई चूत सहलाने लगा. उनका एक हाथ मेरे छाती पर था और वह मेरे स्तन मसल रहे थे, दूसरा हाथ मेरी चुत पर रख कर मेरी चुत के दाने को छेड़ रहे थे. हिंदी सेक्सी एक्स एक्स हिंदीथोड़ी देर चूची मसलने के बाद मैं अपना हाथ उसके पेट से होते हुए उसके लोवर के अन्दर ले गया और उसकी चुत को सहलाने लगा.

पर क्या ये मुझे खुशी का दीवाना समझती है?या जिगोलो?और इसे ये पता कैसे चला होगा?इन सवालों को मैंने जेहन में ही किसी कोने पर दबा दिया और मैं नीचे स्टॉल पर भोजन करने चला गया. रमेश उसके बालों को संवारते हुए उसकी ओर प्यार से देख रहा था। रिया ने उसकी ओर देखा और कहा- मेरी गांड तो बहुत मीठी है डैड. आपको कुछ बुरा लगा हो तो माफी!आगे क्या हुआ कुकोल्ड सेक्स स्टोरीज इन हिन्दी के अगले भाग में!तब तक के लिए धन्यवाद.

तसल्ली रख कुत्ते … सब्र का फल मीठा होता है … अभी दिखाती हूँ तुझे जन्नत के जलवे. ”अंशु भी बिस्तर पे चढ़ गयी।मालिनी, ध्यान से सुन, आज सुहागरात है और आज तू न नहीं करेगी। सुबह मैंने कामिनी को अपनी चूत चुसवाई थी और मेरे प्रेमी ने उसकी गांड मारी थी। और अब हम दूसरा प्रोग्राम करेंगे। तू मेरी गांड का स्वाद लेगी और अपने दूसरे दामाद से चुदवाएगी.

राजेश मेरी चूतड़ों को दबाते गए और फिर फैला कर अपनी जीभ मेरी गांड में चलाते हुए चूत तक ले गए.

शायद उसकी कमनीय काया को लेकर आपके लंड ने भी समझ लिया होगा कि वो सांवली सुन्दरी कितनी गर्म माल होगी. मैंने उसे सहलाते सहलाते ही एक झटका और मारा तो लंड थोड़ा सा अन्दर और घुस गया. सुहागरात को मैंने दर्द होने का थोड़ा ड्रामा करके पति को बेवकूफ बना दिया था.

हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी एचडी साली- भाई आप कहां रह गए थे? मुनीर भाई से मुलाकात हुई? वो आपको ढूंढ रहे थे. मेरे कुछ बोलने से पहले अंकल लंड मेरे होंठों पर घिसने लगे और फिर जबरन मेरा मुँह खोल कर लंड को अन्दर घुसा दिया.

जुगाड़ शब्द सुनकर चाची ने मेरी पीठ पर धौल जमाई और बोलीं- अच्छा बच्चू, गर्लफ्रेंड को जुगाड़ कहता है … किस चीज की जुगाड़ होती है वो?मैं बस शरमा कर रह गया. अब उन्होंने जोर लगा कर अपने घुटने मोड़े, जिससे मेरा शरीर हवा में हुआ … और मेरी गांड उनके बिल्कुल सामने हो गई. मेरा और उसका कमरा साथ-साथ हैं और मैंने उसके कमरे में देखने के लिए बीच में एक मोरी भी कर ली.

लड़की की सेक्सी वीडियो नंगी

पांच मिनट तक किसिंग करने के बाद मनीषा ने उठने का इशारा किया और बोली- मनोज आ जायेगा, हमें उठ जाना चाहिए. अब आगे की न्यूड लेडी हॉट सेक्स स्टोरी:थॉमस की जीभ मेरे मुँह में आ गई थी और मेरी थॉमस के मुँह में थी. मैं निढाल सा उसके बगल में लेट गया और साली जी मेरे सिर को प्यार से सहलाती रहीं, सहलातीं रही.

क्योंकि ये मुझे समझ ही गया था कि मीता की चूत बहुत गर्म हो रही है और ऐसी गर्म चूत को वो मरियल सा लड़का सम्भाल नहीं सकता … जल्दी ही ढेर हो जाएगा. अन्दर के कमरे का दरवाजा बन्द था लेकिन एसी चालू था तो मुझे पक्का यकीन हो गया कि अन्दर जरूर कोई है।चुपचाप से मैंने उस खिड़की के काँच से देखा तो अन्दर की लाईट जल रही थी.

मैंने अपने भी फटाफट कपड़े जिस्म से अलग किए और नंगा उसके सामने आ गया.

जिस दिन लंबा चोदना होता था … उस दिन उसे कहीं सुनसान जगह में चोद लेता. उसका दर्द गायब हो गया। इतनी लंबी चुदाई के बाद बेड पर जाते ही हम सो गए. उस दिन मुझे लगा था कि शायद ये दोनों ही मुझे इसी होटल के किसी कमरे में ले जाकर चोदने का प्लान बना रहे हैं.

मतलब कब हम दोनों के कपड़े उतर गए और किसने किसका क्या उतारा, ये भी याद नहीं. कभी कभी पास बैठकर एक दूसरे के गले में हाथ डालकर बातें करते हुए बैठते हैं. हम दोनों का ही चंडीगढ़ कोई जान पहचान का नहीं था, तो मिलने के लिए वो मुझे यहां बुला लेती थी.

मैं उससे थोड़ी गुस्से में बोली कि अब तुम यहां से बाहर जाओ, नहीं तो मैं मधु को बुलाती हूँ.

बहन भाई की बीएफ वीडियो: मैंने उसकी टांगों के बीच में पहुंचकर लंड को हाथ में लेकर बहन की चूत के मुहाने में टिका दिया और हल्का सा धक्का लगाया. फिर एडल्ट जोक्स और गरम फोटोज के बाद चुदाई वाली क्लिप्स भी आने लगी थीं.

मेरे कपड़ों को सही जगह रखा और हम एक बार फिर बहुत लंबे चुम्बन में डूब गए. पहले भाग में मैंने आपको बताया था कि कैसे मेरे साले श्लोक और मैंने महायाराना की प्लानिंग की और याराना के सभी जोड़ों को मालदीव में इकट्ठा कर लिया. पर जो गाड़ी समय पर आनी थी, वो धीरे-धीरे डिले होने लगी, आखिरकार वो समय भी आ गया, जब नम्रता भी अपनी फैमिली के साथ स्टेशन पहुंच चुकी थी.

वंश कार चला रहा था, मैं उसके साइड में बैठी, उसकी जांघों में हाथ फेर रही थी.

वो बोल पड़ी- भईया, प्लीज अपनी बहन की चूत में डालो और प्लीज आज जल्दी मत झड़ना. तो मैंने उसे बताया कि जब से मैं यहाँ आया था, तब से!वो मेरी तरफ देखकर फिर से हंसने लगी. एक बार इशारा कर, तेरे लिये वो खुद तेरे सामने नंगी होने के लिये तैयार हैं।मैं उसे देखता ही रह गया लेकिन कुछ बोला नहीं। फिर कुछ देर तक वो अपनी नजर मुझ पर गड़ाये रही.