मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी

छवि स्रोत,निरहुआ का पत्नी कौन है

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन सेक्स .com: मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी, मैंने अपनी हंसी रोकी और संजीदा होकर उससे पूछा- अरे फिर?मैं रानी के साथ हुई धक्कामुक्की का मजा लेने के मूड में था, इसलिए पूरी कहानी बताने के लिए उसको उकसाने लगा.

लड़की कैसे पटाते हैं

इसी शौक के चलते हम दोनों जुगाड़ करते रहते हैं कि हमें कुछ और नया करने के लिए मिले. ఇంగ్లీష్ సెక్స్ ఫిలింइसी दौरान कई ऐसे मौके मिले, जब मैंने किसी न किसी बहाने से उनके दूध टच किए या अपना लंड उनकी पीछे या उनकी बॉडी से टच किया … जिसका उन्होंने भी भरपूर मजा लिया.

वो बोली- खाना कैसा बना है?मैंने बोला- इतना स्वादिष्ट बनाया है कि शेफ के हाथ चूमने का मन कर गया. दूध सुखाने की अंग्रेजी दवा टेबलेट नामतभी मैंने उनको उठा कर बिठाया और उनकी पूरी मैक्सी निकाल कर अलग कर दी.

लेकिन मेरे चुम्मा लेते ही उसने मुझे भी चूम लिया और बोली- बड़ी देर बाद सिग्नल मिला.मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी: बहुत देर तक दीदी के मम्मों को दबाने के बाद भी जब दीदी नहीं उठी, तो मेरी हिम्मत और भी बढ़ गयी.

मैंने महसूस किया कि लौंडिया मस्त होने लगी है, तो मैंने फिर से एक ज़ोरदार झटका मारा.उसकी चूत में मजा सा आने लगा और वो सिसकारियां लेने लगी- आह्ह … अहह् … उफ्फ … राजा … मजा आ रहा है.

सबसे मोटी औरत का सेक्स - मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी

हम खुल कर ज्यादा कुछ कर नहीं सकते थे क्योंकि उसका भाई इतना भी छोटा नहीं था कि उसको कुछ पता ही न चले.मेरी चुत अब तक दो बार झड़ चुकी थी और मुझे लग रहा था कि कब शुभम मुझे चोदना छोड़े.

किसी स्टेशन के पास स्पीड स्लो हो जाती थी, तो हम लोग भी अपनी स्पीड स्लो कर देते, पर चुदाई दमदार होती रही. मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी मैं भी अपनी नाक की नोक से उसकी चुत के दाने को घिसता हुआ चुत के अन्दर तक जीभ डाल कर चुत की दीवारों को अपनी खुरदरी जीभ से रगड़ रहा था.

साथ ही उसकी चूत से भी काफी पानी निकल रहा था इसलिए पहली बार में लंड फिसल गया.

मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी?

अजय बोला- नहीं, तुझे तो मैं ऐसा चोदूँगा कि तू हफ्ते भर तक चल भी नहीं पाएगी. पार्किंग में मेरे साथ काम करने वाले लड़के मुझे कुछ न कुछ कहते रहते थे. आगे दूसरी बार में अंजलि की चुदाई की कहानी फिर से बताऊंगा … जिसमें उसकी गांड का छेद भी खुलेगा.

मेरी चालू बीवी रानी ने एक मादक अंगड़ाई लेते हुए ब्रून की तरफ देखा और बोली- इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है डियर ब्रून. मैंने करीब पहुंच कर अंदर झांका तो मैं वो नजारा देख कर हैरान रह गयी. मैं उन्हें अपनी गोद में उठा कर उनके कमरे में ले गया और बेड पर सीधा सुला दिया.

फिर पति बोले- मज़ा आया या नहीं?मैंने कहा- आपने सच कहा था; पापाजी का लंड वाकई बहुत मोटा है और मज़ा देता है. मां बहुत तेजी से चीखी ज़रूर … लेकिन सोनू रुका नहीं और वह मेरी मां की चूत के अंदर अपना लंड अंदर बाहर करता रहा. उसकी चूत गीली हो चुकी थी और मैं उसको अपने मोटी उंगली से ऊपर से नीचे तक सहलाने लगामेरी उंगली के स्पर्श से वो मदहोश होकर अपनी चूत को मेरी उंगली की ओर धकेल रही थी.

फिर मम्मी बोलीं- अच्छा अब छोड़ और मुझे काम करने दे, मैंने तेरे लिए तेरा पसन्दीदा चिकन बनाया है. तभी एकदम से दीदी मेरी तरफ पलटी, मैं डर गया … मुझे ऐसा लगा कि वो जाग गयी है.

भैया जॉब करते थे और लगभग रोज ही लौटने के बाद नहाते थे और खाना ख़ाकर पता नहीं कौन सी खुशबू लगा कर कुछ देर के लिए मेरे पास लेटने आ जाते थे.

उसके नर्म नर्म चुचे जो 34 सी साइज़ के थे, उनको दबाने में मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था.

थोड़ी देर बिकनी लाइन को सहलाया और साड़ी पुंज को पकड़ कर पेटीकोट के सुरक्षा चक्र से बाहर निकाल दिया. अजय ने पूछा- क्या करूं फिर? पेट पर ही डाल दूं?लेकिन अजय अंकल ने माँ को बोला- तुम ऐसा करो, 69 की पोजीशन में आओ. ऊपर वाले कोच की दोनों गोलियों को मैंने मुंह में ले लिया और चाटने-चूसने लगी.

फिर कुछ देर किस करने के बाद उमेश ने मुझे पलट दिया और मेरी कमर पकड़ कर मेरी गांड को अपने लंड पर कसके सटा दिया. पूरे कमरे में उनकी सिसकारियां उम्म्ह… अहह… हय… याह… और मेरी चाटने की आवाजें गूंज रही थीं. साथ में मेरी बहन की चुत की हवस इतनी अधिक बढ़ गई कि दूधवाला भी मेरी बहन को चोदने लगा.

बात करते करते मैं उनको किस करने लगा, उनके चूची को दबाने लगा, उनकी चूत को मसलने लगा, करीबन 30 मिनट तक मैं मामी के जिस्म का मजा लेता रहा.

तभी हमारी और ब्रून आ गया उसने हम लोगों से आज के प्रोग्राम के लिए पूछा. मैंने उससे उसकी नंगी फोटो मांगी तो उसने नंगी पिक्स देने से मना कर दिया. मिनट भर उसके मुंह में धक्के लगाने के बाद मैंने अपना पूरा माल उसके मुंह में ही निकाल दिया.

उसने कहा- अरे यार ऐसा कुछ नहीं था … मुझे क्या मालूम था कि तुम मुझसे किस वजह से नम्बर मांग रहे थे. उसने माहौल ही ऐसा पैदा कर दिया था कि उसकी चूत को फाड़ देने का मन कर रहा था. घप्प घप्प लण्ड जाता मामी की चूत में जाता तो मामी बोल रही थी- अह्ह्ह्ह साहिल … मेरे प्यारे भांजे … कितना मस्त तुम पेलते हो, पूरा मज़ा देते हो.

फिर मेरा मन लंड चूसने का करने लगा तो मैंने उस मरियल से लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगी.

एक दिन हम दोनों के बीच कुछ ऐसा हुआ कि … मेरी गर्म चोदन स्टोरी का मजा लें. मैंने इस बात पर ध्यान नहीं दिया कि मेरे फोन में ही भाभी का नहाते हुए वीडियो भी रखा हुआ है.

मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी जो लोग इस शहर में रहे हैं, उनको पता होगा कि बहुत सारी कम्पनियां सिल्क बोर्ड के पार हैं और उधर ट्रेफिक का भी काफ़ी दबाव रहता है. मैंने अपने बालों को खुला छोड़ रखा था।अमरीश का कॉल आया- सुकृति, क्या तुम तैयार हो गयी? 7 बजने को हैं.

मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी मैं जैसे ही वहां पहुँची, अमरीश बोला- वाव … सच में काफी हॉट लग रही हो।मैं मुस्कुराती हुई उसकी बाइक पर बैठ गयी और उसे थैंक्स बोली।फिर हम मूवी हॉल आ गए. मेरे बदन में झटके लगने लगे और लंड से वीर्य निकल कर भाभी की चूत में गिरने लगा.

जब तक मैं तुम्हें पूरी तरह जांच नहीं लूंगा तो तुम्हारा इलाज कैसे कर पाऊंगा.

बीएफ सेक्सी हिंदी अंग्रेजी

सुबह का वो उसके मम्मों का स्पर्श मेरा दिमाग़ तो भूल गया था, पर लंड नहीं भूल पा रहा था. मगर ये बातें कई बार ऐसी भी होती हैं कि इनको किसी के सामने कहने की हिम्मत भी नहीं होती. मूतने और फ्रेश हो कर आने के बाद मैंने देखा कि सोनल काजल के ऊपर 69 की पोजीशन में थी.

‘हां क्यों नहीं बड़े शौक से …’ये बोलते हुए छोटी भी पूर्ण नग्न मेरे बगल में आकर लेट गयी. इससे पहले भी मैं चाची को देखा करता था लेकिन अब उन पर ज्यादा ही ध्यान देने लगा था. भाभी ने लंड हिलाते हुए कहा- अब क्या मुहूर्त निकाल कर चुदाई शुरू करोगे?मैंने भाभी की बात का कोई जबाव नहीं दिया.

झटके दे देकर मैंने उसकी गांड में सारा वीर्य अपने लंड से खाली कर दिया.

वो लंड चुसाई के मजे ले रहा था और मैं चोकोलेट की तरह उसे चूसे जा रही थी. मैंने उसको एक तेज नशे वाली बियर का नाम बताते हुए कहा- मुझे पता है … इसी लिए तो बोला. मैंने भाभी की चूत को हथेली से रगड़ दिया और उसकी टांगों को चौड़ी कर दिया.

मैंने ज्यादा देर न करते हुए उसकी चूत पर अपना लंड सैट किया और एक जोर का धक्का दे दिया. कभी कभी तो घरवालों के सामने ही नजर बचाकर उसके चूतड़ों को दबा देता था. दरवाजा तो मैंने बंद किया नहीं था तो जैसे ही वो मेरे कमरे के पास आये और उनकी नज़र मेरे कमरे में गयी; उनकी तो आँखें जैसे पूरी फ़ैल गयी.

पापाजी मेरे बगल में बैठ गए, बोले- बहू सच बताओ कि क्या बात है?मैंने कहा- पापाजी, अभिजीत का किसी के साथ अफेयर चल रहा है. और मेरा तीन बार हो गया।दोस्तो, आपको मेरी कहानी अच्छी लगी या नहीं … प्लीज़ मुझे मेल करें.

रानी ने एक चुस्त लेगिंग्स और टॉप पहन लिया, जिसमें से उसकी चुत और गांड ऐसे लग रही थे, जैसे कि वो नंगी हो. जब मैंने उसका हाथ अपने लंड पर महसूस किया, तो मैं समझ गया कि खेल अब शुरू हो सकता है. वो बोली- कोई बात नहीं, इट्स ओके (हो जाता है)हमने एक दूसरे को देखा और फिर से एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे.

तुम अपनी संतान की इच्छा लेकर ऐसा कर रही हो, सेक्स इन्ज्वॉय करने की नीयत से नहीं.

मैंने उनकी वाइफ से बोला- मेम आप कपड़े चेंज करके वहीं मुझे बुला लीजिएगा … जहां आपको मसाज करवानी है. मेरे कॉलेज के दोस्तों ने पहले ही मेरी गैरमौजूदगी में भी मेरी हाजिरी लगवाने का भरोसा दिला दिया था. मेरी मादक सिसकारियां सुनकर अंकल ने अपनी स्पीड और बढ़ा दी और वह ज़ोरों से मेरी बुर की ठुकाई करने लगे.

भारत जैसे विकासशील देशों के साथ ही कुछ विकसित देशों जैसे चीन, सिंगापुर या फिर पाकिस्तान और इंडोनेशिया सहित कई अन्य एशियाई देशों में पुरूषों के साथ यौन अपराधों की बात स्वीकार नहीं की जाती है. वसंत ऋतु में मौसम भी कुछ ऐसा हो जाता है कि हर तरफ प्रकृति में सुंदरता और मादकता छा जाती है.

पीछे एक हाथ लाकर उसने मेरे सिर को अपनी चूत की तरफ दबाना शुरू कर दिया. तुम अपनी संतान की इच्छा लेकर ऐसा कर रही हो, सेक्स इन्ज्वॉय करने की नीयत से नहीं. मैं उस दिन काली साड़ी और बैकलेस ब्लाउज पहने हुई थी।फेयरवेल पार्टी चल रही थी, सब अपने पार्टनर के साथ डांस कर रहे थे.

हिंदी एचडी फिल्म बीएफ

मैंने अपना मुँह खोल दिया, तो उसने अपना मुँह मेरे मुँह में डाल कर चॉकलेट ले ली और फिर मैंने उसके मुँह में से निकाल कर उससे बोला कि अब तुम ले लो.

ये बैग मुझे अपनी गोद में रखना इसलिए जरूरी हो गया था, क्योंकि मेरे खड़े लंड को इस तरह के किसी दबाव की ज़रूरत थी वरना लंड कहां चड्डी की बंदिश में क़ैद रहने वाला था. चूंकि हम पहली बार मिले थे और वो मुझसे ऐसे चिपक कर गले मिल रही थी जैसे किसी पेड़ से कोई प्यासी लता चिपट गयी हो. शायद उसको अपनी फटी हुई चुत से लगने लगा था कि ब्रून का लंड मोटा और लम्बा है और उससे चुदने का मजा ज्यादा आएगा.

उसकी चूत की सील तोड़ने वाली चुदाई की कहानी के बारे में आप जानना चाहते हैं तो मुझे कमेंट्स में बतायें. फिर हम लोग एक दिन पहले यानि कि शनिवार को ही कृष्णा मौसी के यहां पहुंच गये. भोजपुरी केलाकुछ पल का विराम देने के बाद मैंने उसकी चूत में धक्के लगाने शुरू कर दिये.

अगली सेक्स कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि उसने मुझे जिगोलो बना कर किस तरह से पहली ग्राहक के सामने पेश किया. मैं अपने ताऊजी के पास रहने गया तो उनकी बेटी मतलब अपनी चचेरी बहन से मिला.

ये बात उस समय की है, जब मैं नया नया ही रश्मि वाली कॉलोनी में रहने आया था. उसकी चुत चाटते हुए मुझे बहुत अजीब लग रहा था, पर मैं खुद को रोक नहीं पा रहा था. मेरी लंबाई छह फुट की है और मेरा औजार साढ़े आठ इंच लम्बा और साढ़े तीन इंच मोटा है.

अब मेरा भी होने वाला था, मैं पिछले 25-30 मिनट से बुआ की चूत को चोद रहा था. हम लोगों ने टेस्ट ट्यूब बेबी के लिए भी ट्राय किया … पर सब असफल रहा. लंड को चूसते हुए रानी बोली- मेरे राजा बाबू, अब मुझे अपने मूसल लंड से चोद कर अपने बच्चे की मां बना दे.

मैंने उससे कहा- तो ले मादरचोदी … अब आज तेरी चुत को भोसड़ा बना कर ही रहूँगा.

वो सिसकारने लगी- आह्ह … और जोर से! बहुत दिनों के बाद किसी ने मेरी चूचियों को अपने हाथों में लिया है. वो भी अम्मी की नजर बचा कर मुझे किस कर देतीं और अपने काम में लग जातीं.

मैंने मालती की छोटी बहन को कैसे चोदा, वो मैं अगली सेक्स कहानी में लिखूंगा. कुछ देर में मेरे लंड का लावा निकलने वाला था तो मैंने बोला- आह छूटने वाला है. तभी एकदम से एक लड़का लंड दिखाते हुए बोला- जरा देखना, मेरे इसको क्या हो गया?मैंने उसकी तरफ देखा, तो उसने अपना लंड दिखा दिया और बोला- यार जरा करीब से देख ना … इसमें कुछ हो गया है क्या?मैं करीब आ गया.

मैंने कहा- बाबा, मेरी शादी को दो साल होने को आये हैं लेकिन आज तक मुझे मां बनने का सौभाग्य प्राप्त नहीं हुआ है. बात करते करते मैं उनको किस करने लगा, उनके चूची को दबाने लगा, उनकी चूत को मसलने लगा, करीबन 30 मिनट तक मैं मामी के जिस्म का मजा लेता रहा. मेरी तरफ से पहल पाकर अंकल ने अपना हाथ मेरी पैंटी से निकाला और मेरी जीन्स नीचे करने लगे.

मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी जब मैं वहां उनसे मिलने गया तो पाया कि उसकी देवरानी काफी छोटे कद की औरत थी. मेरी सेक्स कहानी लगभग 6 साल पुरानी है, जब मैंने बाहरवीं पास करके कॉलेज में दाखिला लिया था.

आगरा की बीएफ मूवी

तकरीबन 10 मिनट के बाद अजय अंकल ने उनको छोड़ा और मां अब बुरी तरीके से हाँफ रही थी. यद्यपि अपने देश में ऐसे पतियों की संख्या बहुत कम हुआ करती थी परन्तु आज के सूचना संचारण के फलस्वरूप विचार प्रसारण संसाधनों की वृद्धि से इनकी संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है. चाची तड़पने लगी, वो बोली- बस… अब जान निकालेगा क्या?मैंने कहा- नहीं चाची, आप तो मेरी जान हो.

चार-पांच मिनट तक भाभी की चूत में धक्के लगाने के बाद ही मेरे लंड से मेरा नियंत्रण छूट गया. उसके बाद हम दोनों ने करीब 3 बार चुदाई का मज़ा लिया और बहुत ज्यादा फॉरप्ले का आनंद लिया. बाल बनाने वाली मशीनमेरे डांटने पर उस लड़के ने अपनी नजर नीचे कर ली और फिर अपने काम में लग गया.

वो बोल रही थीं- आह और तेज चोदो मुझे … और तेज चोद बेटा … पूरा लंड पेल्ल्ल …मॉम लगभग 17-18 मिनट बाद झड़ गईं.

अगली सुबह जब मैं आने लगा, तो उसने मुझे कहा कि टच में रहना … मुझे तुम्हारी जरूरत बार बार पड़ेगी. वो लेटने लगी तो मैंने उसकी साड़ी उतार दी और पैंटी के ऊपर से उसकी चुत मसलने लगा.

क्योंकि गांव में उन दोनों बहनों की चुदाई में मेरे साथ वाले लौंडे का लंड भी मेरे जितना ही था. मुझे थोड़ी शर्म भी आ रही थी उनके सामने ऐसे खड़े होने में तो मैं पीठ घुमा के खड़ी हो गयी फिर पापाजी मेरे पास आये और मेरी कमर में हाथ डाल कर मेरी पीठ पर किस करने लगे. उन्होंने इसका मतलब हाँ समझ लिया और अपना चैन खोल कर अपना लण्ड बाहर निकाल लिया।उनका लण्ड देख कर मेरे मुँह से निकल गया- इतना बड़ा!उनका लण्ड बहुत बड़ा था.

फिर रोहित ने लुंगी लपेटी और बाथरूम होकर आया और वो भी शांति के साथ लेट गया.

उसकी टाइट वर्जिन चूत की पहली चुदाई का मजा मैंने कैसे लिया?मेरा नाम वीरेंद्र है और मैं हरियाणा से हूं. मैं जितना आसान समझ रहा था, ये उतना सरल नहीं था कि किसी लड़की को चुदाई करने के लिए किसी सेफ जगह पर ले जा सकूँ. मैं हमेशा पढ़ाई में ही लगा रहता था तो मुझे लड़की पटाने का कोई अनुभव नहीं था.

मायजिओ खोलोये एक छोटा सा सामान ढोने वाला तिपहिया वाहन था, जो विपरीत दिशा में जा रहा था. मुझे बहुत शर्म आ रही थी कि मैं चाची की पैंटी ढूंढने में उनकी मदद कर रहा था.

बीएफ सेक्सी फुल एचडी बीएफ सेक्सी

इससे पहले मुझे कभी भी भाभी के बारे में उस तरह के ख्याल नहीं आये थे. वो बोली- स्वाति भाभी तो आपके साथ खुश होंगी न?मैंने कहा- हां, अपनी बीवी को तो मैं खुश रखता हूं. मॉम ने अपनी चूचियों की थोड़ा सहलाया और अपने निप्पल पकड़ कर चुचों को आगे खींचते हुए अपनी आंखें बंद करके मजा लिया.

ममता जी एक छोटे गाँव की रहने वाली थी और काफी पुराने विचारों वाली महिला हैं. फिर मैंने एक जोर का धक्का मारा और आधा लंड कविता की चूत में जा घुसा. मैंने जैसे ही बुक का पेज पलटा मेरे होश उड़ गए। उसमें एक मर्द एक औरत का गांड में अपना लंड घुसाए हुए था।मैं शर्मा गया.

चूंकि मैं जमींदार घर का लड़का हूँ, इसलिए मेरे रहन सहन का स्तर भी बहुत अच्छा है. मैंने सोचा कि ये दो कचौरी क्यों लेकर आई है? मेरे साथ और भी लड़के काम करते थे इसलिए शायद उनके लिए भी लाई होगी. अब मैं अपनी कमर आगे पीछे चलाने लगी और पापाजी मेरे बूब्स बहुत जोर जोर मसल रहे थे.

उसने बताया- मेरा 2 बार छूट गया 25 मिनट में!और वो बोला- आप लोगों से विडियो काल करके बहुत मज़ा आया, बहुत ही एन्जॉय किया मैंने! आप लोगो से मैं हमेशा बात करता रहूंगा।उसके बाद मेरी बीवी अपनी चूत से खीरे को निकाल कर चाटने लगी, कभी मुँह में डालती कभी चूत में डालती, कभी मुझे चाटती. अब मेरा हाथ उसके हाथ को, जो कि मेरी लोअर में मेरे लंड पर था, उसको दबा रहा था.

तब मैंने पति से पूछा- आपने कैमरे लगा दिये?पति बोले- सब लग चुके हैं.

मेरी मौसी की बेटियाँ अपने भाई के सामने गैर मर्द से अपनी चूत चुदवाने को तैयार थीं. 16 साल की फोटोमैंने भी उसकी टांगों को फैला कर चुत पर उसकी गीली चड्डी को सूँघना चालू कर दिया. दिव्या भारती की नंगी फोटोउसने तो जैसे लंड चूसने में पीएचडी कर रखी यार … आह क्या मस्त लंड चूस रही थी. जो घटना मैं आप लोगों के साथ शेयर करने जा रहा हूं यह मेरे साथ असल जिन्दगी में हुई है.

आज इस साइट पर यह मेरी पहली सेक्स कहानी है, अगर मुझसे लिखने में कोई गलती हो जाए, तो प्लीज़ नजरअंदाज कर देना.

तो पापा जी की नज़र मेरे नाईट सूट पर थी जो मेरी गांड में फंसा हुआ था. हैराजश्री की बात थी कि राजश्री भी उसके लंड को जड़ तक अंदर लेने की कोशिश कर रही थी. कई बार अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ते समय लोग लम्बी लम्बी छोड़ देते हैं कि किसी का लंड 8 इंच है तो किसी का 9 इंच है.

कुछ देर बाद मैं रसोई से चाय और कुछ नाश्ता लेकर आई और उमेश के सामने झुक कर मेज पर रखने लगी. अब मेरा होने वाला था … मैंने एकदम से स्पीड बढ़ा दी और चिल्लाते हुए मेरे लंड ने अपना पानी मेरी बहन की चूत की गहराई में छोड़ दिया. पहले मेरी जान सोनल ने अपने नाजुक होंठों को मेरे टोपे पर लगाए … आह … मैं तो जैसे जन्नत में पहुंच गया था.

बीएफ सेक्सी वीडियो पेज

पर दूसरी चुदाई में मैंने लंड खूब चूसा था … और अब तो मुझे लंड एक कुल्फी लगने लगा था. वहां जाते ही नीलोफर ने बहुत ही शानदार तरीके से मेरा स्वागत किया और कॉफ़ी बनाकर दी. दरअसल उनके घर के आसपास भी कोई ऐसा घर नहीं था कि किसी को कुछ दिखायी दे जाये क्योंकि पीछे वाली दीवार काफी ऊंची बनी हुई थी.

मैं उनके लिप्स पर काटता तो कभी उनके गालों पर!इतने में शोभा भी सिसकारियाँ लेने लगी.

दूसरे दिन भी दोपहर में कोई नहीं था, तो बाहर का गेट बंद करके हम दोनों मामी और भांजे चुदाई में लग गए.

दो दिनों बाद ही मैं उस क्लब की इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर अपनी पिक्स देखने गया, मगर मुझे वो नहीं मिलीं. माहौल खराब हो गया था और सब मेहमान मम्मी के बारे में बुरा बुरा बोलने लगे. नया सेक्सी पिक्चरअंदर जाकर मैंने पहले से पहनी हुई लोअर निकाल कर बैग में रख ली और नीचे से मैंने पहले से ही अपना स्विमिंग कॉस्ट्यूम पहन रखा था.

मैंने पूछा- क्या हुआ, भाई से मन भर गया है क्या आपका?भाभी ने मेरी बात का कोई जवाब नहीं दिया और ऐसे ही मुझे सहलाती रही. काजल बेचारी आंख बंद करके और हाथों से चादर को पूरी खींचते हुए बिन पानी की मछली के जैसे तड़पने लगी थी. मैंने सोचा कि अब मामी आंखें खोलेगी लेकिन नहीं!उनके माथे पर बल आ गये थे दर्द के कारण!फिर मैंने एक साथ जोर लगाकर पूरा लंड डाल दिया तो मेरी मामी आआ आआआ हह करके चिल्लायी.

इस तरह से मैंने उन दोनों कोच को अपनी नंगी चूचियों और चूत के दर्शन करवा दिये. वो बोली- करो ना अब … रुक क्यों गया है?मैंने कहा- क्या करूं?वो बोली- मेरी चूत को फाड़ कर रख दे.

मगर बार बार नजर बचा रही थी और ऐसे बर्ताव कर रही थी जैसे वो मेरे बदन की ओर ध्यान नहीं दे रही है.

फिर मैं बाहर गयी और पापा जी को बता दिया कि पति पार्टी में नहीं चलेंगे. पापाजी बोले- बहू आज तो तुम एकदम क़यामत लग रही हो!मैंने कहा- पापाजी, सब आपके लिए है. वैसे सच कहूँ, पापा जब तुम्हें चोद रहे थे तो मुझे देखकर बड़ा मज़ा आ रहा था.

सेक्सी मूवी की वीडियो मैं जब भी किसी का मम्मा चूसता हूँ तो एक ही इतनी शिद्दत से चूसता हूँ कि पूछो मत. आएशा- आप एक कंप्लीट प्लेयर हो और आपकी फुर्ती देख कर मैं वाकयी हैरान हो गई हूँ.

चूत बाद में चाटना! अभी मुझे लण्ड चाहिये!मैंने शोभा की चूत में पीछे से लण्ड डाला और शोभा फिर से चीखने लगी। मैं जोर के झटके मारने लगा. फिर मैंने नाइटसूट पहना तो वो मुझे कपड़े बदलते हुए बड़ी ध्यान से देख रही थी. मैं जोर से भाभी के होंठों का रस पी रहा था और मेरे लंड के धक्के अब तेज होने लगे थे.

बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर वीडियो

फिर उसने मेरी पतलून उतारी और मेरे लंड को चड्डी से निकाल कर चूसने लगी. पापा जी की नज़र मेरी फटी हुई लेग्गिंग पर थी जहाँ से उन्हें मेरी चूत के पूरे दर्शन हो रहे थे. हम लोग पहले सब साथ में ही रहते थे लेकिन उसके बाद चाचा चाची दूसरे मकान में चले गये.

भाभी बोली- अच्छा, मतलब तुम ये कह रहे हो कि मैं अपनी फिजिक मेंटेन करके रखती हूँ!मैंने हां कहते हुए उनका हाथ पकड़ा और दबाते हुए कहा- जी हां … आप सही पकड़े हो. आज मैं आपको मेरी एक सच्ची आपबीती बताना चाहता हूँ कि कैसे मैंने मेरी गर्लफ्रेंड को रंडी की तरह चोदा था.

फिर पापा अपने रूम में चले गए और मैं अपने रूम में … जहाँ मेरे पति पहले से मेरा इन्तजार कर रहे थे.

इधर अस्पताल से पिंकी को दवा आदि दिला कर मैंने उसे अपनी बाइक पर बिठाया और उसको उसके घर की तरफ ले गया. मेरी बहन की चूत पर आकाश ने लंड को रख दिया और अपने लंड को अंदर पेल दिया. मैंने उसे उठाया और एक बार फिर किस करने लगा और फिर एक बार उसकी चूत में लंड डालकर चुदाई करने लगा.

मैंने एक कमरा किराये पर लिया तो वहां घर में एक आंटी बहुत सेक्सी थी. उसकी शादी यह सोचकर कराई गई कि शादी के बाद सुधर जायेगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं. फिर मैं भी मूड में आ गया और उससे बोला- मुझे भूख नहीं है, तुम जा सकती हो.

यद्यपि अपने देश में ऐसे पतियों की संख्या बहुत कम हुआ करती थी परन्तु आज के सूचना संचारण के फलस्वरूप विचार प्रसारण संसाधनों की वृद्धि से इनकी संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है.

मूवी बीएफ सेक्सी हिंदी: तू एक बार इस पर ट्राइ क्यों नहीं करती?मैं बोली- वो सब तो ठीक है … लेकिन मैं ये करूं कैसे?वो बोली- अरे, ये कोई बड़ी बात है … मैं तुझे सब समझा दूँगी. सहेली के यहां से सब सैट करके मैं वहां से सीधे ब्यूटी पार्लर गयी और तैयार हुई.

एक तकिया हनी के चूतड़ों के नीचे रखकर मैंने उसकी चूत पर जीभ फेरना शुरू किया तो वो बोली- आह्ह जीजू… अब और न तड़पाओ. मेरी नज़र बार बार उनके चूचों की तरफ जा रही थी और शायद उन्होंने मुझे उसके बूब्स को घूरते हुए देख भी लिया था. मैं तो परेशान हो गयी भागते भागते! अब तुम आ गए तो थोड़ा आराम मिलेगा मुझे।मैंने बुआ को और कस के गले लगा लिया.

मैंने उससे पूछा- निकल जाऊं?उसने कहा- कंडोम हटा कर मेरे मुँह में निकलो.

फिर मैंने अपना मुँह उसकी गर्दन पर लगाया, जिससे वो सकपका गयी और धीरे धीरे ‘म म म. मेरा पूरा मुँह भर गया और मैंने भी उनके वीर्य की एक भी बूंद बाहर नहीं जाने दी और मैं गट गट करके उनका पूरा वीर्य पी गयी।आह … उनका गर्म वीर्य बहुत ही स्वादिष्ट था। मैंने उनका लन्ड पूरा चाट के साफ किया और वो मेरे बगल में लेट गए।अभी हमारे पास दो दिन का वक़्त था और इन दो दिन में हमने पांच छह बार चोदा चोदी की. कुछ ही देर में मेरे दोनों हाथ की हथेलियां उसकी चूचियों पर जम गईं और वो मेरे मुँह के पास झुकते हुए मुझे अपने दूध चुसवाने लगी.