बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स

छवि स्रोत,सेक्सी फिल्म वीडियो youtube

तस्वीर का शीर्षक ,

एचडी बीएफ गर्ल: बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स, एक बार तो मुझे अच्छा नहीं लगा लेकिन फिर जब उसने मुझे चूमना शुरू किया तो मैं मन ही मन उसके मजे लेने लगी.

ब्राउज़र खोलो सेक्सी

मैंने एक बार वहीं बाथरूम में चाची की चुदाई की और इस बार उनकी चूत में ही अपना पानी छोड़ दिया. सेक्सी चुदाई रोमांटिक वीडियोतीन-चार शॉट जोर से खींच कर भाभी की चूत में घुसाए और मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी उसकी चूत में गिरने लगी.

उसने आगे कहा- गीत जब तुम पास आती हो, तो मन में उमंग भर जाती है, एक खुशनुमा अहसास मेरा आलिंगन कर लेती है. इंडियन सेक्सी वीडियो चुदाई कादो मिनट के चूतफाड़ धक्कों के बाद मेरे लंड ने मेरी नातिन की टाइट चूत में थूकना शुरू कर दिया.

फिर चाची ने अचानक से रोना शुरू कर दिया और कहने लगीं कि सुबह वाली बात यानि कि मेरा पड़ोसी के साथ चक्कर है, तुम किसी से नहीं कहना … नहीं तो मेरी जिन्दगी खराब हो जाएगी.बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स: मैम फिर दीदी की तरफ देखते हुए बोली- क्या बात है प्रिया आज बहुत उदास लग रही हो?श्वेता दीदी- कुछ नहीं मैम, इसकी थोड़ा तबीयत खराब है.

उस युवा दुकानदार ने मुस्कुरा कर कहा- फ्रेंड या बॉयफ्रेंड?इस पर हमने थोड़ा सख्त लहजे का प्रयोग करते हुए कहा- सिर्फ फ्रेंड है और आप अपना काम कीजिए.जैसे ही मैंने लंड पकड़ा, मेरे जवाब में संदीप ने चूमना छोड़ कर मुझे अपने से पीठ के बल सटा लिया.

नई सेक्सी वीडियो फुल एचडी - बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स

मन कर रहा था कि बस पूरा का पूरा लंड जड़ तक उसके मुंह में घुसेड़ दूं और सारा माल उसको पिला दूं.आदी घर में अन्दर आया, थोड़ी देर इधर उधर हुआ और 11 बजे मैंने उसे कमरे में भेज दिया.

मगर अभी तक न तो मेरी ही हिम्मत हो रही थी पहले करने की और न ही भाभी की तरफ से ही कोई इशारा मिल रहा था. बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स पिंकी के लिए इतने दिनों की उत्ते =जना, नए बदन की लज़्ज़त, प्यार और सेक्स का मिश्रण इन सबके परिणाम स्वरूप मैं बहुत देर नहीं टिक पाया और पांच मिनट में ही स्खलित हो गया.

उन्होंने जल्दी करने को बोला, तो मैंने गद्दा मोड़ कर औंधा लेटा दिया और उनकी गांड को ऊपर की तरफ उठा कर उनकी कमर पर और गांड पर किस करने लगा.

बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स?

उन्होंने रूम में ले जाकर मुझे पलंग के पास खड़ा कर दिया और अपने कपड़े उतारने लगे. सपना ने मेरी तरफ देखा तो मैंने अपनी जेब से उसे दो हजार रूपए देते हुए कहा- ठीक है. जब चाची मार्केट में शाम को सब्जी लेने चली गईं, उसी समय मौका देखकर मैंने बाथरूम के दरवाजे पर एक छोटा सा छेद बना दिया.

फिर करीब बीस मिनट के बाद हम दोनों साथ में ही झड़ गए और चाची की चूत का पूरा पानी मैंने पी लिया। हम दोनों ने बहुत मजा लिया, बहुत आनंद लिया. मुझसे जितना खुलकर बात कर लोगी, तुम्हारा रिश्ता उतनी आसानी से हो जायेगा. क्या मस्त उसके चूचे थे … एकदम गोरे गोरे गुलाबी निप्पल!मैंने तुरंत अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

मैंने ज्योति से कहा- बेटा तुम मानो या न मानो राकेश ने तुम्हें चोदा तो है. मैंने उसकी कमर पर हाथ फेरते हुए उसे कस कर बाँहों में ले लिया जैसे मैं उसे अपने अन्दर समा लेना चाहता हूँ. उसने मुझे एक बड़ी समस्या से निकाला था। वैसे भी गलती उसकी नहीं मेरी थी। उसने तो मेरी हेल्प की थी। फिर मैं मान गयी। उसने भरोसा दिलाया कि वो सारे फोटो डिलीट कर चुका है.

पहले जीजू से मेरी बात ज्यादा नहीं होती थी, मगर धीरे-धीरे अब मैं जीजू के साथ घुल-मिल रही थी. सपना ने मेरे सर को अपने हाथों से इतना दबा रखा था कि मुझको सांस तक नहीं आ रही थी.

उधर आकाश ने भी दीदी को नग्न करके बेड पर लेटा दिया और उन्होंने ड्रावर से दो कंडोम निकाल कर एक नीरज को दे दिया और दूसरा अपने लंड पर लगा लिया.

सपना- क्या तुम दो दिन के लिए मेरे घर आ सकते हो? मुझको तुम्हारी हेल्प चाहिए.

सेक्स कहानी के बारे में आप अपने कमेंट्स अब[emailprotected]या फिर hangsout पर करें, धन्यवाद. मेरी पिछली कहानी थीमॉडलिंग की लालच में मेरी बहन चुद गईमुझे मेरे किसी दोस्त ने ई-मेल से एक कहानी भेजी है. दीदी- लेकिन अगर मम्मी पापा को पता चल गया तो?श्वेता दीदी- वो तुम हम पर छोड़ दो.

मैंने विक्की से पूछा- अब क्या करूं?विक्की बोला- वो क्या कर रहा है?मैं बोली- कुछ नहीं … चुपचाप खड़ा है. तभी दीदी ने मुझे किस करने का इशारा कर दिया और मैं आलिया के होंठों को चूमने लगा. मैं भी उसको और गर्म कर रहा था ताकि वो खुद ही अपने मुंह से कहे कि मेरी चूत को अब उसके नानू का लंड चाहिए.

मैंने कहा- मैं जानती हूं चाची कि आप चाचा के लंड से चुदाई के बाद भी प्यासी रह जाती हो.

मैं भी आ गया और न्यू मुंबई एरिया में 1 रूम सेट किराये पे लेकर रहने लगा. मैंने बोला- अरे ये तो सिर्फ इमेजीनेशन था, मैं तो तुम्हें तुम्हारे भाई से सचमुच में चुदवाऊंगा. जब मैं हिम्मत करके उठने लगी तो मुझे अपने पूरे बदन में दर्द महसूस हो रहा था.

तो टीवी पर मैच चल रहा था, भाभी नाश्ता लेकर मेरे पास बैठी ही थीं कि तभी उनका बेटा रोने लगा. जब दरवाजा नहीं खुला तो रेखा पीछे के आंगन वाले दरवाजे की ओर बढ़ी, रास्ते में ड्राइंग रूम की खिड़की पड़ती थी जो इत्तेफाक से खुली हुई थी. मेरा विचार बना ही था कि मेरा लंड उनके बदन के स्पर्श से एकदम खड़ा हो चुका था और मेरी अंडरवियर आगे की तरफ बहुत ही फूल गई थी.

यह बात 7 साल पहले की है जब मैं अपनी स्कूल की पढ़ाई खत्म करने वाला ही था.

फिर हमने कुछ देर तक बैठ कर बातें की और फिर उसके साथ मैंने कुछ बातें शेयर कीं. जोर से चोद साले … और जोर से … लगता है मादरचोद में दम ही नहीं है … दी … भाभी इस गांडू के पीछे से आकर जोर लगाओ न.

बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स चूंकि पापा लेटेस्ट कलेक्शन लेकर आते थे इसलिए कई बार लड़कियों के फैशन को देख कर मुझे हैरानी भी होती थी. मैं उनके साथ उनके घर पँहुच गया।मैं अंदर गया तो देखा कि एक और लड़की अंदर थी.

बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स मैंने उनसे इस बारे में खुल कर बात की, तो चाची ने अपनी सारी कहानी मुझसे कह दी. उसने जैसे ही करवट बदली मैंने अपने होंठ उसके होंठ से सटा दिए और उसे चूसने लगा। चूसते चूसते मैं उसके बूब्स भी दबा रहा था वो भी मेरा साथ दे रही थी।फिर वो अलग होकर मेरे कपड़े उतारने लगी, मैंने भी उसके कपड़े उतार दिए.

फिर दीदी चली गई … मैं फिर दीदी के कमरे में गया और दीदी का लिखा उस पत्र को पढ़ने लगा.

सुपर हिंदी सेक्सी वीडियो

उसी के साथ में मैं अपने लंड को भाभी की गांड से बाहर से ही रगड़ रहा था. मैं पूरी तरह चुदने के लिए तैयार थी। तभी वो एक झटके में मुझसे अलग हो गया. दीदी ने हमें भी समझाते हुए कहा- जिंदगी में सब कुछ करना, पर किसी को भी जिंदगी में ऐसे शामिल मत करना कि उसके बिना जीवन ही नष्ट हो जाए.

और पूछा- आपके हस्बैंड को कोई ऐतराज नहीं है इससे?तो वो बोली- नहीं।मैं अगले दिन स्नान करके कामसूत्र का डिओ लगा कर एकदम फिट होकर निकल गया. उसी के रस को उंगलियों में भिगो कर मैं उसकी योनि के चारों तरफ फैला रहा था. वो मुझसे बड़े गुस्से में बोली- जब से देख रही हूँ, तुम कुछ बोल ही नहीं रहे हो.

उसका लंड भी बहुत गीला हो चुका था और आराम से मेरी गांड में जा रहा था.

अब तो उसका हौंसला बढ़ गया था और उसने मेरी फुदी पर अपनी उंगली को रगड़ना शुरू कर दिया. साकेत भैया ने दीदी को कपड़े पहनने में मदद की और वो गेट खोल कर बाहर निकल गए. मैंने अपना मुंह तुरंत उसकी चूत के ऊपर रख दिया और उसकी प्यारी सी चूत को चाटने लगा.

चित्रा- हां यार … इसका बहुत बड़ा मूसल है … पता नहीं आलिया का क्या हो रहा होगा. उसके बाद में जब भी मौका मिल जाता था, हम दोनों खूब सेक्स का मजा ले लेते, पर अब भईया का ट्रांसफर दूसरे शहर में हो गया है. कुछ दूर चलने के बाद रास्ते में एक गुपचुप का ठेला दिखा, तो साकेत भैया बोले कि चलो गुपचुप खाते हैं.

मैं आलिया के मम्मों को जोर से दबाने लगा और उसकी चूचियों के कड़क हो चुके दोनों निप्पलों को अपने दोनों हाथों की उंगलियों के बीच दबा कर मींजने लगा. कभी कभी तो कोई नहीं होता था प्रीति के घर में … तो मैं जाकर सोफे पर बैठ जाता था और टीवी चालू कर के कुछ ना कुछ देखता रहता था.

मैंने बिना पल भर की देर किये उसकी जांघिया को खींच कर उसकी जांघों से निकाल दिया. तभी मैंने एक जोर का झटका मार दिया, जिससे मेरा आधा लंड दीदी की गांड में घुस गया. चाची के साथ मैं लेस्बियन सेक्स करते हुए उनको चोदने का मन बना चुकी थी.

ह! नईं … नहीं … रा … ज़! प्लीज़ नहीं … न … न करो … नई … ईं … ईं … ईं … ईं … तुम्हें मेरी कसम … सी … ई … ई … ई … !”मैंने अपने होशोहवास को एकाग्र रखते हुए वसुंधरा की जांघ पर कोई दो इंच और ऊपर, ज़रा सा अंदर की ओर अपने दांत जमाये और वसुंधरा की जांघ के मांस को नाईटी के कपड़े समेत अपने होंठों में लेकर प्यार से चुमलाया.

वो बोला- बंध्या, मैंने 5-6 लड़कियों की चूत मारी है लेकिन तेरे जैसी सुर्ख लाल चूत मैंने आज तक नहीं देखी. आह्हह … लंड जब उसके गर्म मुंह में पूरा गया तो मुझे इतना आनंद मिला कि मेरी आंखें बंद हो गयीं. बीस मिनट तक उसके जिस्म के साथ खेलने के बाद वो पूरी तरह से गर्म हो गयी थी.

उनके अनुसार चाचा जी ने उनको चोदना छोड़ दिया था और वो अपनी शारीरिक प्यास न बुझ पाने के कारण परेशान थीं. मैंने देर न करते हुए झट से उसे बेड पर लेटा दिया और उसके होंठों का रस लेने लगा.

आह्ह… आपकी सेवा करना तो मेरा पहला काम है।अब मॉम शर्मा अंकल को किस करने लगी. शायद डोली को खिड़की से दिख जाने से ये पता चल गया था और वो हमारी चुदाई को खुली खिड़की से देखती रही. उसकी पैंटी अब मुझे अच्छी नहीं लग रही थी तो मैंने उसको भी उतार कर फेंक दिया.

सुहागरात की कहानी

उनको भी अपनी चूत पर एक जवान लड़की की चूत के घर्षण में बहुत मजा आ रहा था.

मुझे नहीं पता कि वो शायद जानबूझकर ही कार झाड़ियों में मार रही थी या फिर उसको सही से गाड़ी के बारे में पता ही नहीं चला था. एक दूसरे की आंखों में आंखें डाल कर सफर का मजा और ऊपर से अंगों की रगड़न का हम मजे ले रहे थे. वो मुझे व्हाट्सप्प पर रोज गुडमॉर्निंग या साधारण जानकारी या शिक्षा से सम्बन्धित मैसेज करती थीं.

मैं सिर्फ उनकी बातें सुन रहा था, पर कुछ बोल नहीं रहा था क्योंकि मैं सब समझ गया था कि दीदी को कहां दर्द है. अब शायद उस जवान कुंवारी चूत की कामवासना भी कामरस के रूप में अपनी बेचैनी को बयां कर रही थी. सेक्सी चाहिए चलने वाला सेक्सीमैंने कहा- क्या उस लौंडे ने तुमको चार बार झाड़ दिया?वो चहकते हुए बोली- हां, पता है वो आज कोई सेक्स की गोली खा कर आया था इसलिए उसका झड़ ही नहीं रहा था.

मैंने कहा- आह्ह … मेरी कुतिया, मुझे भी तेरी चूत चोद कर बहुत मजा आ रहा है. विशाल के शब्दों में:मैंने चोर नजरों से दीदी को देखा। क्या मस्त लग रही थी वो। उन्होंने ऊपर मेरी शर्ट पहन रखी थी। जिसमें उनकी ब्लैक कलर की ब्रा की झलकी साफ नजर आ रही थी।नीचे मेरी शर्ट उनकी आधी जांघों को ही ढक पा रही थी। उनकी गोरी चिकनी टांगें बिल्कुल नग्न थीं। ठंड से ठिठुर कर वो पैर मोड़ कर सोई थी।दीदी ने कहा- विशाल, क्या कर रहा है, आ यहीं सो लेंगे, एक ही रात की तो बात है.

नीचे वाले होंठों का यानि कि चूत का मर्दन मैं अपने होंठों से कर रहा था. उसके बाद मैंने खुद उससे बातें करनी कम कर दीं … क्योंकि उसको एक अच्छा पति मिल गया था. जब उन्होंने मेरी जीभ को अपने दांतों के बीच में दबा कर हल्के हल्के दबाना शुरु किया तो मेरी तो सिसकारी निकल गई.

मॉम कह रही थी- आह्ह… शर्मा जी, अगर आप नहीं होते तो मेरा न जाने क्या होता. उसके बाद उन्होंने अपना एक हाथ मेरी चड्डी के अंदर डाल दिया और मेरी गर्म फुद्दी को सहलाने लगे. मैं जाकर चुपचाप सोफे पर बैठ गया और अपना मोबाइल निकाल कर उसमें गेम खेलने लगा.

भाभी मेरी छाती को चूमने और चूसने लगीं और धीरे धीरे मेरे लंड पर जाकर उससे चूमने और चूसने लगीं.

जीजा साली चुदाई कहानी का पहला भाग:छोटी बहन को अपने पति से चुदवा दिया-1मेरी छोटी के बहन के बड़े बड़े दूधों को दबा कर मैंने उसको इतना गर्म कर दिया था कि उसकी चूत में उठी वासना गर्मी उसके चेहरे और उसके शब्दों के जरिये बाहर आने लगी. एकदम मोटा कड़क लम्बा कुंवारा लंड पूरा सात इंच से बड़ा एक हथियार जो मेरी छोटी सी गुलाबी चुत में घुस कर हंगामा मचा देता.

नीचे बैठ कर वो बोला- मैं देखना चाहता हूं कि आशीष ने जो माल पटाया है वो कितना करारा है. फिर उसने सहेली के ब्वॉयफ्रेंड के जरिए उसके दोस्त को पटाकर अपनी कामवासना को शांत किया. घर वालों के दस बजे निकलते ही, मैंने अंशी को फोन करके बोला कि तुम मेरे घर आ जाओ, घर में कोई नहीं है.

उसका हाथ फुदी के उपर लगते ही मैं और वो ड्राइवर दोनों ही शॉर्ट हो गये. एक बार अपने बॉस से और दो बार बॉस के दोस्त से!अब मेरी फुद्दी तो ठीक थी पर गांड में बहुत दर्द था. असलियत यही है कि मैंने अभी तक किसी लडके या मर्द के साथ सेक्स नहीं किया है पर मैं कल्पना कर रही हूं कि सपना के जीजाजी मेरे से पहली बार मिल रहे हैं और मेरा मन भी सेक्स करने का है.

बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स चूत पर लंड लगवाने के बाद उसने लंड को थाम लिया और मैंने एक बार फिर से जोर का धक्का मारा और लंड उसकी चूत में घुस गया. चेक करने के बाद मैंने उसके कंप्यूटर में नई विंडो और एंटी वायरस डालने का सोचा.

खेसारी की

वो बड़बड़ा रही थीं- आहह … उहहह डाल दे ना अब …मैंने भी नियमित गति से डिल्डो चूत में उतारना शुरू कर दिया. मामी ने उसे मेरे बारे में बताया और मुझे भी अपनी बहन के बारे में थोड़ा बहुत बताया. तो मैं बोली- अच्छा अच्छा ठीक है, जल्दी से रोना बंद करो और प्रॉमिस करो कि अब ऐसा नहीं करोगे.

मैंने अपना लोअर उतारा, फिर अपना अंडरवीयर उतारा और चढ़ गया अपने साले की बेटी की बुआ पर … यानि अपनी बीवी पर और अपना लण्ड उसकी चूत में पेल दिया. देखा दिखाई के दौरान ही रेखा ने कहा- चाचा जी बड़े हैं, फाइनल डिसीजन इनको ही करना है. हिंदी सेक्सी पिक्चर दाईमेरी ग़र्म-ग़र्म साँसें जैसे ही कपड़ों की चिलमन के पार वसुंधरा की योनि तक पहुंची … वसुंधरा पर तो कयामत बरपा हो गयी.

उसकी तरफ से कोई हरकत नहीं हुई, तो मैं उसके चूतड़ चूमने लगा, मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा.

मैंने कामिनी के दोनों पैर अच्छे से फैला कर लंड को बुर के मुहाने पर सैट कर दिया. ”तो क्या मैं तुमको और जोर से चोदूँ?”जी हां सर … चोदिए ना!”बहुत टाईट है तेरी फुद्दी!”तुम्हारा लंड भी तो बहुत मोटा है.

मगर रेशमा ने एकदम से मेरी पकड़ से छूटते हुए मेरे लंड को बाहर निकाल दिया और मेरी तरफ गुस्से से देखा. उसका तना हुया सख्त लंड मेरी गीली फुदी के होंठों का स्पर्श पाते ही हिचकोले मारने लगा और मेरी फुदी के अंदर जाने को बेताब होने लगा. इसके बाद मैंने उनकी पैंटी उतारी, तो देखा कि उनकी चूत तो पानी छोड़ रही थी.

हमारे पड़ोस के अंकल भी हमारे घर बार-बार किसी न किसी बहाने से आ जाते हैं.

वो बोले- ठीक है जाओ … लेकिन चॉकलेट खा लेना और एक अपनी दीदी को दे देना. मैं कुछ जल्दी ही होटल वापिस आ गया क्योंकि सिल्क कार ड्राइव कर के आ रही थी. कुछ ही झटकों के बाद उन दोनों के गले से कामुक आवाजें कमरे में गूँजने लगीं.

हिंदी सेक्सी वीडियो चोरी चोरीफिर जोर जोर से मेरी गांड पर तमाचे लगाते हुए मेरी गांड में लंड को घुसाने लगा. फिर थोड़ी देर बाद मैं अपने कमरे में वापस आ गई और सोचने लगी कि शायद आदी गे है.

सेक्सी नई फोटो

जब मामी लौटकर आईं, तो मैंने आखें बंद कर लीं और सोने का नाटक करने लगा. मैंने भी देर करना उचित नहीं समझा और दीदी की चुत पर लंड सैट कर दिया. मजबूरन अकेले सफर करना पड़ रहा है।मैं बोला- कोई बात नहीं! अकेले नहीं आज हम दोनों सफर करेंगे!बोल कर मैंने बरमूडा से अपना लन्ड निकाल कर पूर्णिमा के हाथ में दे दिया और बोला- हिला और चूस!इतना बोल कर मैंने उसकी कुर्ती को उतार दिया.

यूं ही चैट करते हुए मैंने 6000 रूपये सैलरी बता कर उसे पक्का कर दिया, अपने पास जॉब पर आने के लिए राजी कर लिया. उन आंटी ने मुझे कहा- तुझे विभा खोज रही है।मैंने पूछा- क्या बात है?वो बोली- तेरे लिए नया जुगाड़ लगाया है।मैं भी खुश हो गया. मम्मी- आआह शिल्पा … क्या कर रही हो?आंटी बोलीं- आज तुम मुझे अपने दूध पिला दो.

रेखा वहां से गुजरी तो उसकी नजर ड्राइंग रूम में पड़ी जहां उसने देखा कि शैली स्कर्ट उठाकर दादू की गोद में बैठी है और दादू का लण्ड अपनी बुर में लेकर उचक रही है. मैं कुछ बोल पाता, इससे पहले ही मामी ने मेरी बनियान पकड़ कर मुझे खींचा और लिप किस कर लिया. तो माज़रा क्या था … वसुंधरा के पहने हुए अंडर-गारमेंट्स थे कहाँ?मैंने इधर-उधर देखा तो परे कोने में पड़ी वॉशिंग-मशीन दिखी.

अपनी पिछली कहानीटीचर से गांड मरवाकर नम्बर लिएमें मैंने आपको बताया था कि कैसे मेरे टीचर ने मेरी गांड मार ली थी. इसके बाद मालकिन पलंग पर आराम से पेट के बल होकर लेट गई और उन्होंने अपने दोनों हाथों से अपना पेटीकोट ऊपर करके खींच लिया.

प्रीति का दर्द जब थोड़ा कम हुआ तो प्रीति हल्के हल्के अपनी गांड को हिलाने लगी.

इस बार मैंने कोई बहाना नहीं किया और कपड़े लेकर बाथरूम की ओर जाने लगी. मुंबई सेक्सी मूव्हीमैंने कहा- क्या हुआ जीजू? आपको कुछ काम था क्या?वो बोले- नहीं, मैं तो अपने रूम में बोर हो रहा था इसलिए सोचा कि अपनी साली से जाकर बात कर लूं ताकि थोड़ा मन बहल जाये. सेक्सी फोटो एंडमन तो कर रहा था कि अभी पलट कर उनकी गांड को भी इत्मिनान से निहारूं मगर मैं जल्दी नहीं करना चाह रहा था. मेरे लंड की लम्बाई 6 इंच है जो किसी भी लड़की या भाभी को संतुष्ट करने के लिए काफी है.

ऊपर से सारी सहेलियां रोज चुत लंड के नए नए किस्से सुना कर जोश में ला देती हैं.

जब वो किसी के साथ असली सेक्स करेगी तो कैसे सब होगा।लेस्बियन सेक्स करने के बाद जब हमने आपस में बात की तो उसने मुझे अपनी भावनाएं बतायी. इतने में मैंने बोला- कब आऊं तो खाना खाने?वो बोली- वहीं आ जाओ!मैं बोला- कहाँ आना है?तो उसने बिना कुछ सोचे पता बता दिया. चित्रा- और तुम मेरी बैंड बजाते हो उसका क्या!इस बात पर हम तीनों हंसने लगे.

शादीशुदा है।विभा मैम उन्ही नाज़िमा के साथ लेस्बियन सेक्स भी करती थी कभी कभी।मैम बोली- आज हम अलग तरह से चुदाई का आनंद लेंगे. ट्रेन कभी कभार ज्यादा लेट हो जाती है तो मैंने सोचा क्यों न एक दिन पहले ही दिल्ली पहुंचा जाए. आलिया- तुम पागल हो गए हो क्या!मैं- नहीं, मुझे तुम बहुत पसंद हो, मैं तुम्हें अपनी गलफ्रेंड बनाना चाहता हूँ.

सेक्सी पिक्चर देखनी है हिंदी में

मुझे लंड पेलते हुए ही समझ आ गया था कि स्नेहा भाभी की चूत अब भी बहुत टाइट है. चाची लंड सहलाते हुए बोलीं- इतना बड़ा तो तुम्हारे चाचा का भी नहीं है. जो मैं आपको अगली कहानी में बताऊंगा।आपको ये चालू लड़की की मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी? अपने विचार जरूर दें.

मेरे कमरे में आकर उसने मुझसे कहा- मेरे कॉलेज में मुझे एक प्रेजेंटेशन बनाने के लिए बोला गया है और मुझे बनाना नहीं आता … तो क्या आप मेरी हेल्प कर दोगे?मैंने उससे बोला- हां कर दूंगा.

मैं अपने दोनों हाथों से आलिया की गांड को सहला रहा था, हम इतने मशगूल हो गए थे कि हम यह भूल गए थे कि इस कमरे में हमारे अलावा भी दो और लोग हैं.

मुझे बहुत अच्छा लग रहा था, क्योंकि ऐसा मेरे साथ पहली बार हो रहा था. इसलिए तू मेरी चिंता छोड़ … और यहां से जल्दी चल, वहां इसी बेसब्री से तेरा इंतजार भी हो रहा होगा. सेक्सी वीडियो घचाघच चुदाईमैंने एक जोर से थप्पड़ उसके गाल में मारा … ये चांटा इतनी तेज पड़ा था कि कोई और औरत होती, तो वो रोना शुरू कर देती … पर निधि हंसी और आंख मारते हुए उसने फिर से लंड को मुँह में ले लिया.

मगर अभी के लिए थोड़ी देर तो इसे अपने हाथ में पकड़ ले यार। कब से मेरा लंड तुझ से प्यार करने को तरस रहा है।मैंने उसका लंड अपने हाथ में पकड़ा और धीरे धीरे उसे हिलाने लगी. पेंटी तो मेरी भी गीली हो चुकी थी, पर अभी तो मैं बस परमीत की चूत को छूना चूमना चाटना चाह रही थी. उसने कहा- तो फिर ये आग लगाई ही क्यों आपने?मैंने कहा- बस वो तो ऐसे ही हो गया.

फिर हम दोनों ने साथ में बैठकर खाना खाया।इस बीच मैंने भी उनको अपने हाथ से खाना खिलाया और उन्होंने मेरे हाथ से खाना खाया. ये जानकर मन में थोड़ा दुख हुआ, पर उससे ज्यादा खुशी इस बात की हुई कि मुझे एक अनुभवी चोदने वाला मिला है.

अब अगले दिन शुक्रवार था, पर रोहित बालकनी में आया नहीं … ना ही उसके जाने की आवाज़ आयी।मुझे कुछ गड़बड़ सी लगी आज तो कॉलेज स्कूल छुट्टी भी नहीं थी.

मैंने कहा- मेरा माल आने वाला है, कहां करूं?वो बोली- अन्दर ही डाल … मुझको ये सुख भोगना है … बीज अन्दर ही डाल. कुछ देर बाद चाची झड़ गईं, तो मैंने अपना लंड निकाल कर उनके मुँह में दे दिया और वो लंड चूसने लगीं. क्योंकि एक तो वो मुझसे उम्र में काफी बड़ी थीं … और दूसरा मेरे ही कॉलेज में जॉब भी करती थीं.

हार्ड सेक्स सेक्सी मैंने भाभी की चूचियों को अपने हाथों में भर लिया और तेजी से उसकी चूत को फाड़ने लगा. फिर श्वेता दीदी ने अपने ब्रा के अन्दर से एक कागज निकाला और दीदी को देने लगी.

फिर हम दोनों एक दूसरे को चूमने लगे और वो मेरा शर्ट को खोल कर मेरे सीने को अपने होंठों से चूसने लगी. मेरी जीभ चुभलाते हुए भी उसके हाथ निरंतर मेरी कमर और कूल्हों को सहला रहे थे और दबाने मसलने का भी पूरा प्रयास किया जा रहा था. नींद खुलने के बाद मैंने देखा कि उसने मुझे पूरा जकड़ लिया है। और मुझे यह भी अहसास हुआ कि उसकी इस हरकत से नीचे मेरा लंड सलामी दी रहा है.

सेक्सी+वीडियो+एचडी

मैं उनके लन्ड देख कर एक बार तो डर सी गयी उनके बहुत बड़े बड़े लन्ड थे. चूंकि वो मुझसे उम्र में छोटा है … इसलिए उसने मुझे बड़े सम्मान से नमस्ते भी की. उसने मेरे जांघिया को उतार दिया और मेरे लंड को अपने हाथ में भर लिया.

फिर उसने बड़ी अदा से मेरे लंड को अंडरवियर से भी आजाद कर दिया और फिर उसने मेरे लंड को गप से मुँह के अन्दर लेकर ओरल चुदाई शुरू कर दी. इसके बाद उन्होंने चित लेटते हुए चुत खोली और अपनी टांगें उठाते हुए कहा- अब अपना लंड मेरी चूत में डालो.

मैंने पूछा- कहां ले जा रही हो?तो वो बोलीं कि जिस तरह की चुदाई तुम्हें चाहिए, वैसी चुदाई में काफी आवाजें होती हैं.

अपनी ननद आलिया की चुत को दीदी ने टिश्यू पेपर से साफ किया और उसको चूम लिया. राजन ने उससे बहुत अपनेपन से पूछा- तुम दोनों के बीच क्या अनबन है?ममता बोली- कुछ नहीं, मेरा नसीब ही ऐसा है. ड्राइवर एक 35-40 साल का फिट बॉडी वाला मर्द था और देखने में भी हैंडसम था.

पानी पीकर जैसे ही रेखा पलटी, मैंने वहीं रसोई में दबोच लिया और और उसकी एक टांग उठाकर रसोई स्लैब पर रख दी और अपने लण्ड का सुपारा उसकी चूत पर रखकर ठोक दिया. इसको चोदने में जो मजा है वो किसी और में कहाँ!और मेरे होंठों को चूमने लगा. मैंने लण्ड को चलाना शुरू किया तो देखा मेरा लण्ड खून से सना हुआ था लेकिन ताज्जुब था कि ज्योति न चीखी न चिल्लाई.

मैंने उसको बेड की तरफ धक्का दे दिया और उसके लंड को एकदम से अपने मुंह में ले लिया और गपागप चूसने लगी.

बीएफ पिक्चर वीडियो सेक्स: रोहित- ओके, रीना भाभी!मैं- वैसे मेरे हस्बैंड भी कंप्यूटर इंजीनियर हैं, काफी कम्पनी में जॉब कर चुके हैं. तब मैंने उसे प्रीत से मिलाया कि ये मेरा फ्रेंड है और मुझसे मिलने आया है.

पर मीना शर्माती हुई बोली- फूफा जी, आप ये क्या कर रहे हो? मुझे शर्म आ रही है. मैं आंटी को नीचे से बड़ी ध्यान से देखने लगा और मेरी नजर उनकी गांड पर रुक गयी. संजू के भैया झट से तौलिया खोजने लगे और प्रियंका बगल में पड़े चादर से बदन ढकने का प्रयास करने लगी.

उसने मुझे मेरा कमरा दिखाया और बोला- सर अगर आप नहाना चाहते हो तो नहा लो.

कुछ पल बाद मैंने कामिनी को खड़ा कर दिया और उसके पूरे शरीर को सहलाने लगा. फिर अचानक से दीदी ने उनका हाथ वहां से वापस खींचा और वो बोली- श्वेता अब चलो. मैं- तो क्या किया उसने आपके साथ?भाभी- ये बात मेरी शादी से पहले की है.